विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जानें कौन हैं श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास

राम मंदिर आंदोलन के अहम किरदार रहे अयोध्या के श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास को राम मंदिर निर्माण के लिए बनाए गए 'श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाया गया है। जानें, उनके बारे में:

19 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

बदायूं

बुधवार, 19 फरवरी 2020

दौड़, गोला फैंक और कबड्डी में युवाओं ने दिखाया दम

बदायूं। युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल की ओर से राष्ट्रीय इंटर कॉलेज गुलड़िया में ब्लॉक स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें छात्र-छात्राओं ने बढ़ चढ़कर प्रतिभाग किया। पुरुष वर्ग की 100 मीटर दौड़ में प्रभाकर ने प्रथम, इंतजार ने द्वितीय और शाहिद अली ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। महिला वर्ग में सलोनी ने प्रथम, शिवानी-द्वितीय, राधिका तीसरे स्थान पर रहीं। 400 मीटर में प्रभाकर- प्रथम, शाहिद -द्वितीय, आशीष तीसरे स्थान पर रहे। 800 मीटर में सुनील- प्रथम, कृष्णकांत- द्वितीय, श्यामलाल- तृतीय रहे। 1500 मीटर में सुनील ने पहला, अतुल ने दूसरा और आलोक ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। 400 मीटर दौड़ में सलोनी-प्रथम, रोहनी-द्वितीय और नेहा तृतीय स्थान पर रहीं। गोला फेंक में रेनू-प्रथम, रोहनी-द्वितीय और शिवानी तीसरे स्थान पर रहीं। जबकि कबड्डी में बीबीपुर की टीम विजेता और कथरा टीम उपविजेता रही। संवाद ... और पढ़ें

यूपी बोर्डः परीक्षा आज से, जिले के 88 परीक्षा केंद्रों में 59087 परीक्षार्थी होंगे शामिल

बदायूं। यूपी बोर्ड की मंगलवार से शुरू हो रही परीक्षाओं के लिए तैयारियां पूरी हो गई हैं। नकलविहीन परीक्षा संपन्न कराने को खासे इंतजाम किए गए हैं। संवेदनशील केंद्रों पर अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक लगाए गए हैं। कक्ष निरीक्षकों ने भी देर शाम तक केंद्रों पर उपस्थिति दर्ज करा दी है। जिले में बोर्ड परीक्षा के लिए 88 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इन पर 59087 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे।
यूपी बोर्ड की परीक्षा को शांतिपूर्ण और नकलविहीन परीक्षा कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन के साथ-साथ शिक्षा विभाग के अधिकारी लगे हुए हैं। ताकि परीक्षा के दौरान ऐसी कोई भी गतिविधि न हो, जिससे परीक्षा में कोई व्यवधान पड़े। मंगलवार से शुरू हो रही बोर्ड परीक्षा दो पालियों में संपन्न होंगी। पहली पाली में हाईस्कूल और दूसरी पाली में इंटरमीडिएट के छात्र-छात्राएं परीक्षा देंगे। इसमें हाईस्कूल के 33558 और इंटरमीडिएट 25529 परीक्षार्थी पंजीकृत हैं। प्रदेश सरकार ने बोर्ड परीक्षा को नकलविहीन कराने के उद्देश्य से इस बार सभी परीक्षा केंद्रों को ऑनलाइन किया है। ताकि परीक्षा के दौरान अधिकारी कंट्रोल रूम में बैठे-बैठे पूरे जिले के सभी सेंटरों पर निगरानी रख सकें, हालांकि इंटरनेट की गति ऑनलाइन मॉनीटरिंग में बाधा बनती नजर आ रही है।
बने कंट्रोल रूम, इन नंबर पर कर सकते हैं शिकायत
बोर्ड परीक्षा के दौरान जानकारी का आदान प्रदान करने के उद्देश्य से जिला स्तर पर दो कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। इसमें डीआईओएस कार्यालय के कंट्रोल रूम का नंबर 05832-220156 और राजकीय इंटर कॉलेज में बने कंट्रोल रूम का नंबर 05832-267500 है। इन पर शिकायतें भी दर्ज कराई जा सकती हैं।
चार जोन और 10 सेक्टर में बांटा जिला
बोर्ड परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्रों पर निगरानी रखने के उद्देश्य से जिले को चार जोन और 10 सेक्टर में बांटा गया है। जोन की जिम्मेदारी एडीएम वित्त एवं राजस्व नरेंद्र बहादुर सिंह, एडीएम प्रशासन ऋतु पुनिया, एसपी सिटी जितेंद्र श्रीवास्तव और एसपी देहात डॉ. सुरेंद्र प्रताप सिंह को दी गई है जबकि सेक्टरों के लिए पांच तहसीलों के एसडीएम को जिम्मेदारी दी गई है।
36 परीक्षा केंद्र हैं संवेदनशील
जिले में हो रही बोर्ड परीक्षा के दौरान कोई गड़बड़ी न हो इसको लेकर जिला प्रशासन सख्त है। ऐसे में उन्होंने जिले में बने 88 परीक्षा केंद्रों की जांच कराई। इसमें 36 परीक्षा केंद्र संवदेनशील मिले। यहां पर जिला प्रशासन ने 36 स्टेटिक मजिस्ट्रेटों की तैनाती अलग से की है। इनकी जिम्मेदारी में डीएसओ, डीडी एग्री कल्चर, जिला गन्ना अधिकारी, वाणिज्यकर अधिकारी आदि शामिल है।
आधा घंटे पहले पहुंचें कक्ष निरीक्षक
डीआईओएस ने सभी केंद्र व्यवस्थापकों को निर्देश दिए हैं कि वह आधा घंटे पहले सभी कक्ष निरीक्षकों को उत्तर पुस्तिकाएं दे दें। जिससे कि बच्चों के आने के बाद उत्तर पुस्तिकाएं 15 मिनट पहले दे सकें। इससे बच्चे आसानी से उत्तर पुस्तिकाओं पर अपना विवरण भर सकें। इससे बच्चे को परीक्षा देने के लिए पूरा समय मिलेगा।
छह बनाए गए हैं सचल दल
बोर्ड परीक्षाओं की निगरानी के लिए विभाग ने छह सचल दल बनाए हैं। एक सचल दल में चार सदस्यों को रखा गया है, जो लगातार बोर्ड परीक्षा के दौरान सक्रिय रहेंगे। वहीं इस बार परीक्षा में 2800 कक्ष निरीक्षकों की तैनात की गई है।
परीक्षा को लेकर सभी तैयारी कर ली गई हैं। सभी लोगों को अपने-अपने पद के अनुसार दायित्व का निर्वाहन करने के निर्देश दिए हैं। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।
- राममूरत, डीआईओएस
... और पढ़ें

बिल्सी में वैवाहिक समारोह में पूड़ी बेलने आई महिला की कुएं में गिरकर मौत

बिल्सी (बदायूं)। थाना क्षेत्र के ग्राम सतेती में रविवार रात एक महिला की कुएं में गिरकर मौत हो गई। महिला एक वैवाहिक समारोह में पूड़ी बेलने आई थी। बताया जाता है कि देर रात शौच के लिए गांव के बाहर गई तो पैर फिसलने से कुएं में जा गिरी। उसके परिवार वालों ने हत्या की आशंका जताई है।
नगर के मोहल्ला नंबर आठ निवासी सोमवती (45) पत्नी खेमकरन शादी समारोह में पूड़ी बेलने का काम करती थी। रविवार रात सोमवती क्षेत्र के ग्राम सतेती में भूरे सिंह की बेटी की शादी में पूड़ी बेलने गई थी। बताते हैं कि देर रात सोमवती समारोह से शौच के लिए गांव से बाहर गई। उसी वक्त गांव के नजदीक स्थित कुएं के पास पहुंचते ही अचानक उसका पैर फिसल गया और महिला उसी में गिर गई। ये देखकर दर्जनों लोग भाग खड़े हुए। तुरंत रस्सी का इंतजाम किया गया और महिला को बाहर निकाला गया। तब तक महिला गंभीर रूप से घायल हो चुकी थी। फिर उसे घायल अवस्था में नगर के स्वास्थ्य केंद्र पर लाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना पर पहुंचे परिवार वालों ने सोमवती की हत्या की आशंका जताई। जिससे उन्होंने पुलिस को सूचना दे दी। वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर सोमवार को उसका पोस्टमार्टम कराया। उसके शरीर पर चोटों के निशान मिले हैं। पुलिस ने शव को परिवार वालों के हवाले कर दिया है। इसके साथ ही मामले की जांच शुरू कर दी गई है।
... और पढ़ें

उघैती में ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने से तीन की मौत, चार घायल... नाबालिग चला रहा था ट्रैक्टर

बदायूं। उघैती थाना क्षेत्र में बुधवार सुबह एक बड़ा हादसा हो गया, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी लोग एक ट्रैक्टर-ट्राली पर सवार होकर लकड़ी काटने जा रहे थे, तभी रास्ते में खितौरा के नजदीक अचानक ट्रैक्टर-ट्राली पलट गई। ट्रैक्टर एक किशोर चला रहा था, जो हादसे के बाद मौके से भाग गया।
सहसवान कोतवाली क्षेत्र के ग्राम बहबलपुर निवासी जब्बार पुत्र शाबिर लकड़ी काटने का काम करता है। बुधवार सुबह करीब पांच बजे जब्बार उसी गांव के नफीस (35) पुत्र अनीस, नासिर (46) पुत्र भुल्लन, अफजल (40) पुत्र मोहब्बो अली, जाविद पुत्र भुल्लन, तसब्बर पुत्र मुमत्याज और हनीफ पुत्र मुसर्रफ अली को लेकर लकड़ी काटने उघैती थाना क्षेत्र के ग्राम दम्मीनगर जा रहे थे। सभी लोग होतीपुर निवासी रामफल के ट्रैक्टर पर सवार थे। ट्रैक्टर रामफल का नाबालिग बेटा चला रहा था। ग्रामीणों के मुताबिक सभी लोग ट्रैक्टर-ट्राली में खितौरा गांव के पास पहुंचे होंगे। वहां सड़क पर रेता और बजरफुट पड़ा था, जिस पर चढ़ने से अनियंत्रित होकर ट्रैक्टर-ट्राली पलट गई। इस हादसे में नफीस और अफजल की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि नासिर ने जिला अस्पताल ले जाते समय दम तोड़ दिया। बाकी लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने घायलों जिला अस्पताल भेज दिया। इसके बाद तीनों लोगों का पोस्टमार्टम कराया गया। पुलिस ने ट्रैक्टर-ट्राली अपने कब्जे में ले ली है। देर शाम तक इस मामले में रिपोर्ट दर्ज नहीं हो सकी।
नाबालिग की नादानी और सड़क पर पड़े रेत ने ले तीन लोगों की जान
उघैती (बदायूं)। थाना क्षेत्र में बुधवार सुबह हुए हादसे का जिम्मेदार और कोई नहीं, बल्कि नाबालिग ड्राइवर की नादानी और सड़क पर डाला गया रेत-बजरफुट रहा। हादसे के दौरान काफी अंधेरा था। चालक नाबालिग होने के साथ उसे ज्यादा अनुभव नहीं था। इस कारण वह सड़क पर पड़े रेत-बजरफुट की ऊंचाई का अंदाजा नहीं लगा सका और ट्रैक्टर-ट्राली अनियंत्रित होकर पलट गई, जिससे तीन लोगों की जान चली गई।
सहसवान कोतवाली क्षेत्र के ग्राम होतीपुर निवासी रामफल अपना ट्रैक्टर-ट्राली किराए पर चलाता था। उसके लकड़ी ठेकेदार जब्बार से अच्छे संबंध हैं। ठेकेदार जहां भी लकड़ी काटने जाता है, रामफल का ही ट्रैक्टर लेकर जाता है। दो दिन पहले उसने उघैती क्षेत्र के ग्राम दम्मीनगर में लकड़ी काटने का ठेका लिया था। मंगलवार रात जब्बार अपने गांव के नफीस, नासिर, अफजल, जाविद, तसब्बर और हनीफ आदि को मजदूरी पर लकड़ी काटने के लिए अपने साथ ले जा रहा था। ट्रैक्टर रामफाल का नाबालिग बेटा चला रहा था। उसकी उम्र करीब 16 साल बताई जा रही है।
इधर, खितौरा निवासी एक व्यक्ति सड़क किनारे अपनी दुकानों का निर्माण करवा रहा है। उसकी दुकान के सामने सड़क पर रेता, बजरफुट पड़ा है। कुछ दूरी पर ईंटों के रोड़े का ढेर लगा है। अगर ये रेत बजरफुट सड़क पर नहीं पड़ा होता तो शायद इतना बड़ा हादसा नहीं होता। घायल लोगों के मुताबिक ट्रैक्टर की गति भी काफी तेज थी। इससे ट्रैक्टर रेत बजरफुट पर चढ़कर उछलते ही पलट गया। इस हादसे में चालक को हल्की चोटें आईं। हालांकि हादसे के बाद वह मौके से भाग गया।
बहबलपुर में मातमी सन्नाटा
ग्राम बहबलपुर के तीन लोगों की मौत से बुधवार को पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा रहा। तीनों लोगों के घर आसपास हैं। तीनों एक साथ काम करते थे। उनके परिवार वालों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। सभी मजदूरी पर निर्भर थे। इस हादसे से बुधवारों को तीनों परिवारों में कोहराम मचा रहा। गांव की गलियां सुनसान रहीं। गांव के अधिकांश लोग काम पर नहीं गए। कई घरों में तो चूल्हे भी ठंडे पड़े रहे।
... और पढ़ें

मार्केट में ओवरलोड ट्रक से टूटे बिजली के तार, स्पार्किंग होने से मची अफरातफरी

उझानी (बदायूं)। रेलवे स्टेशन रोड पर कोतवाली के पास ओवरलोड ट्रक ने बिजली की लाइन को चपेट में ले लिया। स्पार्किंग के बाद तार दुकानों के स्लैब पर जा गिरे तो बाजार में अफरातफरी मच गई। गनीमत रही कि तार ट्रक के ऊपर नहीं गिरे, वरना बड़ा हादसा हो सकता था।
दोपहर में करीब एक बजे पुरानी अनाज मंडी की ओर से आ रहे ओवरलोड ट्रक को चालक ने कोतवाली की ओर मोड़ा, इस दौरान बिजली के दो तार फंस गए। तार आपस में टकराए तो स्पार्किंग होने लगी। यह देख राहगीरों ने शोर मचाया तो चालक ट्रक से कूद पड़ा। टेलीफोन की लाइन भी ट्रक पर ही झूल गई। बाद में हेल्पर ने ट्रक के ऊपर चढ़कर तारों को हटाया, तब कहीं जाकर चालक ने ट्रक को आगे बढ़ाया। प्रत्यक्षदर्शी अनिल कुमार ने बताया कि तारों में करीब 15 मिनट तक स्पार्किंग होती रही। जिसके बाद उपकेंद्र पर फोन करके सप्लाई को बंद कराया गया लेकिन तब तक चालक ट्रक लेकर लिंक रोड के रास्ते बदायूं की ओर निकल गया। इसे लेकर काफी देर तक अफरातफरी का माहौल बना रहा।
... और पढ़ें

बड़े साहब के नरऊ गांव पहुंचने का डर, इलाज को घर-घर पहुंचे डॉक्टर

उझानी (बदायूं)। नरऊ गांव में पीलिया के प्रकोप से बिगड़े हालात से बुधवार को मंडलायुक्त के आने का डर अफसरों के चेहरे पर साफ दिखा। बुधवार को सुबह से ही प्रशासनिक अमला सक्रिय दिखा। डॉक्टरों की टीम ने घर-घर जाकर मरीजों का परीक्षण किया और दवाएं भी दीं। इधर, कादरचौक रोड किनारे नाले की खुदाई ने रफ्तार पकड़ ली है। एसडीएम सदर पारसनाथ मौर्य और पालिका के जेई विनय सक्सेना की देखरेख में नाले की खुदाई को तीन जेसीबी लगा दी गईं। एसडीएम सदर दोपहर तक नरऊ गांव में डटे रहे।
उझानी के नाले का गंदा पानी नरऊ के तालाब में जाने की वजह से नलों से दूषित पानी निकल रहा है। दूषित पानी पीने से नरऊ में पीलिया फैला है। पीलिया अब तक चार लोगों की जान ले चुका है। मंगलवार को गांव पहुंचे डीएम कुमार प्रशांत को ग्रामीणों ने नलों से निकल रहा दूषित पानी दिखाया था। इलाज में लापरवाही को भी उजागर किया था। इस पर डीएम ने सीएमओ यशपाल सिंह को फटकार लगाई थी। बुधवार को गांव पहुंची स्वास्थ्य विभाग टीम में प्रभाकर मिश्रा, रोहित शर्मा और काजल यादव शामिल रहे।
भट्ठा मालिक ने खुद ही शुरू करा दी नाले की खुदाई
उझानी। नरऊ गांव से आगे फतेहपुर की ओर जहां तक नाले की खुदाई की जानी है, उस बीच कादरचौक रोड किनारे एक व्यक्ति का भट्ठा पड़ता है। भट्ठे के आसपास खेतों में ईंटों की पथाई के लिए मिट्टी उठा लिए जाने से वहां गहराई भी अधिक हो गई है। इसलिए भट्ठा मालिक ने अपने खेतों के पास नाले की खुदाई निजी जेसीबी से शुरू कर दी। ठेकेदार को आशंका है कि नाले से सड़क के विपरीत वाले छोर पर चकरोड ऊंचा नहीं किया गया तो नाले का पानी कारोबार प्रभावित कर सकता है।
ग्रामीणों की सेहत में तेजी से सुधार हो रहा है। मैं खुद भी ग्रामीणों के इलाज से लेकर नाले की खुदाई की प्रगति पर नजर रखे हुए हूं। नाले का पानी तालाब में नहीं पहुंचेगा तो नरऊ की दशा खुद ब खुद ठीक हो जाएगी।
- पारसनाथ मौर्य, एसडीएम, सदर
... और पढ़ें

यूपी बोर्ड परीक्षा 2020: सरल आया हिंदी का पेपर तो खिले उठे परीक्षार्थियों के चेहरे

बदायूं। यूपी बोर्ड परीक्षा की शुरुआत हिंदी विषय के पेपर के साथ हुई। पेपर परीक्षार्थियों के उम्मीदों के हिसाब से आया तो उनके चेहरे खिल उठे। पहली पाली में हाईस्कूूल के 30477 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी जबकि 2674 परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे। इंटर की परीक्षा में 23450 परीक्षार्थी शामिल हुए जबकि 1663 अनुपस्थित रहे। जबकि इंटरमीडिएट में 15619 छात्र व 9494 छात्राएं पंजीकृत थीं। इनमें 14452 छात्र व 8998 छात्राओं ने परीक्षा दी। सुरक्षा की दृष्टि से हर केंद्र पर पुलिस फोर्स तैनात रही।
यूपी बोर्ड की परीक्षाएं मंगलवार से शुरू हो गईं। पहले दिन सुबह की पाली में हाईस्कूल और दूसरी पाली में इंटरमीडिएट की हिंदी और प्रारंभिक हिंदी विषय की परीक्षा हुई। बोर्ड परीक्षाओं का जायजा लेने को सचल दल ने कॉलेजों का औचक निरीक्षण किया। परीक्षा शुरू होने से पूर्व सभी केंद्रों पर पुलिसकर्मी पहुंच गए, जिन्होंने केंद्रों के बाहर बेवजह की भीड़ नहीं लगने दी। सुबह की पाली में 20818 छात्र और 12333 छात्राएं समेत कुल 33151 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। इनमें 18844 छात्र और 11633 छात्राएं मिलाकर कुल 30477 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी। डीएम कुमार प्रशांत और एसएसपी अशोक कुमार त्रिपाठी ने राजकीय इंटर कॉलेज और उझानी के महात्मा गांधी पालिका इंटर कॉलेज का औचक निरीक्षण किया। यहां पर डीएम ने सीसीटीवी की लाइव फुटेज का निरीक्षण करते हुए केंद्र व्यवस्थापकों को निर्देश दिए कि सीसीटीवी निरंतर चलते रहें। कोई भी परीक्षार्थी परीक्षा कक्ष में किसी भी प्रकार की डिजिटल डिवाइस लेकर न आने पाए। बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर पूरी तरह से पाबंदी रहनी चाहिए। परीक्षा को पारदर्शी व नकलविहीन संपन्न कराया जाए।
सुबह सात बजे ही केंद्रों पर पहुंच गए परीक्षार्थी
बोर्ड की तरफ से परीक्षा का समय सुबह आठ बजे निर्धारित किया गया था, लेकिन अधिकांश परीक्षार्थी सुबह सात बजे से ही परीक्षा केंद्र पर पहुंच गए थे। गले में आई कार्ड , हाथों में पैन और प्रवेश पत्र लिए परीक्षा केंद्र के बाहर खड़े परीक्षार्थी काफी नर्वस नजर आ रहे थे। उनके चेहरे पर एक अलग सी बैचनी दिखाई दे रही थी। भीड़ होने होने की वजह से परीक्षा केंद्रों पर लगे सिटिंग प्लान की चस्पा लिस्ट में अपना रोल नंबर तलाशने में परीक्षार्थियों को काफी परेशानी हुई। परीक्षा केंद्रों के गेट अपने निर्धारित समय से खोले गए। यहां पर परीक्षार्थियों की गहन तलाशी ली गई। उसके उपरांत उन्हें कक्षा में प्रवेश करने दिया। इस दौरान परीक्षा केंद्रों के बाहर परीक्षार्थियों की लंबी लाइन लग गई थी।
मोबाइल लेकर परीक्षा देने पहुंचे परीक्षार्थी
बोर्ड की परीक्षाओं में इलेक्ट्रॉनिक चीजों पर पाबंदी है। इसके बावजूद कुछ परीक्षार्थियों की परीक्षा केंद्र पर जब तलाशी ली गई, तो उनके पास मोबाइल फोन मिले। इस पर तैनात शिक्षकों ने कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए मोबाइल को जब्त कर लिया, जिन्हें परीक्षा खत्म होने बाद वापस लेने को कहा। साथ ही निर्देश दिए कि आगामी परीक्षा में अगर किसी के पास मोबाइल मिलता है, तो वह वापस नहीं दिया जाएगा।
कंट्रोल रूम का नहीं उठा नंबर
सूचनाओं का आदान प्रदान करने के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में कंट्रोल रूम खोला गया है। जो केवल कागजों पर ही चलता नजर आ रहा है। हालात यह हैं कि कंट्रोल रूम नंबर 05832-220156 पर घंटी जा रही है। लेकिन कंट्रोल रूम में किसी भी व्यक्ति उसे रिसीव करना तक जरूरी नहीं समझा। हालांकि राजकीय इंटर कॉलेज में बने कंट्रोल रूम का नंबर 05832-267500 समय-समय पर उठता रहा।
कोठार में जमा की गईं उत्तर पुस्तिकाएं
पहले दिन की परीक्षा खत्म होने के बाद सभी केंद्रों की उत्तर पुस्तिकाओं को राजकीय इंटर कॉलेज में स्थित कोठार में जमा किया गया। यहां पर सीसीटीवी कैमरे की निगरानी के बीच में उत्तर पुस्तिकाओं को रखा गया है। साथ ही दो पुलिसकर्मी यहां पर तैनात किए गए हैं, जो 24 घंटे यहां नजर रखेंगे।
केंद्रों पर नहीं पहुंचे शिक्षक
यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन अधिकांश केंद्रों पर शिक्षक नहीं पहुंचे। इसकी वजह से केंद्र व्यवस्थापकों को परीक्षा करने में परेशानी का सामना करना पड़ा। इसको लेकर केंद्र व्यस्थापकों ने अपनी-अपनी शिकायतें डीआईओएस और संबंधित एसडीएम को दी है। हालांकि विभाग की तरफ से गैरहाजिर रहे शिक्षकों पर कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है।
बोली छात्राएं.....
पेपर मिलने से पहले थोड़ा नर्वस थी, लेकिन जब पेपर देखा, तो राहत मिली। क्योंकि पेपर को लेकर जो तैयारी की थी, वह उसी के अनुरूप आया। ऐसे में पेपर देते समय कोई दिक्कत नहीं हुई।
- मनीषा, कक्षा 10
परीक्षा को लेकर शुरू से तैयारी कर रही थी। इसलिए पेपर देने में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं हुई। पेपर वैसे ही काफी सरल था। ऐसे में समय से पहले ही पूरा कर लिया था।
- नीलम, कक्षा 10
राजकीय इंटर कॉले से पेपर देकर निकलतीं छात्राएं
राजकीय इंटर कॉले से पेपर देकर निकलतीं छात्राएं- फोटो : BADAUN
 
जिले में बने मॉनीटरिंग सेल का निरीक्षण करते डीएम
जिले में बने मॉनीटरिंग सेल का निरीक्षण करते डीएम- फोटो : BADAUN
 
शहर के जीआईसी में बने परीक्षा केंद्र का निरीक्षण करते डीएम व एसएसपी
शहर के जीआईसी में बने परीक्षा केंद्र का निरीक्षण करते डीएम व एसएसपी- फोटो : BADAUN
 
राजकीय इंटर कॉलेज से पेपर देकर निकलतीं छात्राएं
राजकीय इंटर कॉलेज से पेपर देकर निकलतीं छात्राएं- फोटो : BADAUN
 
... और पढ़ें

बिजली का बिल जमा न करना 103 लोगों को पड़ा भारी, पावर कॉरपोरेशन ने काटे कनेक्शन

बदायूं। मंगलवार को पावर कॉरपोरेशन की टीम ने जिलेभर में बकायेदारों के खिलाफ अभियान चलाया। टीम ने 88 बकाएदारों के बिजली कनेक्शन काटे। इस दौरान टीम 26 लाख रुपये की वसूूली भी की। एक्सईएन वाईएस राघव ने बताया कि यह अभियान लगातार जारी रहेगा।
बिल्सी। अधिशासी अभियंता सतेंद्र कुमार चौहान के निर्देश पर बिजली उपभोक्ताओं की समस्याओं के निराकरण के लिए शिविर आयोजन किया गया। शिविर में बिजली बिल, मीटर, नए कनेक्शन संबंधी 25 समस्याओं का मौके पर निराकरण किया गया। वहीं टीम ने अभियान चलाकर 15 बड़े बकायेदारों के कनेक्शनों को काटा गया। साथ ही साढ़े चार लाख रुपए की बकाया राशि को वसूल किया। इस मौके पर एसडीओ कुशमेंद्र कुमार गंगवार, जेई धर्मात्मा कुमार, गौरव सक्सेना, तेजपाल सिंह, राजेश कुमार, मंगलीराम, कुंवरपाल, अजय कुमार आदि रहे। संवाद
... और पढ़ें

स्वास्थ्य केंद्र में फैली गंदगी और बिजली के खुले बोर्ड देख सीडीओ का चढ़ा पारा

कुंवरगांव। मुख्य विकास अधिकारी निशा अनंत ने मंगलवार को नवीन सामुदायिक अस्पताल की व्यवस्थाओं के निरीक्षण किया। अस्पताल परिसर में हर तरफ गंदगी और बिजली के खुले बोर्ड मिलने पर उन्होंने एमओआईसी केके राठौर से नाराजगी जाहिर की। और व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने के निर्देश दिए। साथ ही कुंवरगांव नगर पंचायत में तैनात ईओ डीके राय को मौके पर बुलाया। ईओ के छुट्टी पर होने के कारण नगर पंचायत में तैनात लिपिक व अन्य कर्मचारी मौके पर पहुंचे, जिस पर सीडीओ ने उन्हें अस्पताल में रोज सफाई कराने के कड़े निर्देश दिए। यह भी पूछा कि ईओ के छुट्टी पर होने पर उनको रोज छुट्टियां कौन दे देता है। सीडीओ ने आयुर्वेदिक अस्पताल भी देखा और वहां बैठे मरीजों से बात की। संवाद ... और पढ़ें

बदायूंः मंडी समिति में अतिक्रमण पर गरजी प्रशासन की जेसीबी, 30 व्यापारियों ने किया था अतिक्रमण

बदायूं। मंगलवार को मंडी समिति में सभापति/ सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमार के निर्देशन पर अस्थाई अतिक्रमण के खिलाफ जेसीबी चली। कार्रवाई होती देख कुछ व्यापारी खुद ही सामान हटाने में जुट गए। इस दौरान मंडी के व्यापारियों में हड़कंप मचा रहा।
ककराला रोड स्थित मंडी समिति में स्थित करीब 30 व्यापारियों ने अपनी दुकानों के आगे टीनशेड डालने के साथ-साथ कुछ पक्का निर्माण कर लिया था। जिस वजह से मंडी समिति की स्थिति बिगड़ने लगी थी। जानकारी मिलने पर सभापति/ सिटी मजिस्ट्रेट अमित कुमार ने पिछले दिनों यहां का निरीक्षण किया था। उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए मंडी सचिव ओमकर सिंह को अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए थे। निर्देश के बाद मंडी सचिव ने दुकानों को चिन्हित करते हुए व्यापारियों को नोटिस जारी कर दिए। लेकिन व्यापारियों ने कोई असर नहीं हुआ। इस पर मंगलवार को मंडी सचिव ने पालिका से जेसीबी मंगवाकर कर अतिक्रमण हटाना शुरू कर दिया।
अतिक्रमण को लेकर व्यापारियों को चेतावनी दी गई थी। लेकिन व्यापारियों ने अतिक्रमण नहीं हटाया। इसको लेकर सचिव को निर्देश दिए थे कि अतिक्रमण को हटवाएं। उसके तहत अतिक्रमण हटाया गया।
- अमित कुमार, सभापति/सिटी मजिस्ट्रेट
... और पढ़ें

मरा दिखाकर भाई ने अपने नाम करा ली जमीन, डीएम ने दिए जांच के निर्देश

बदायूं। मंगलवार को तहसील सदर में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में बिल्सी के ग्राम बैरमई खुर्द निवासी देवपाल सिंह ने बताया कि वह मेहनत मजदूरी करने लिए दूसरे जिले में गए थे। इसी बीच उसके भाई ने लेखपाल और कानूनगो से साठगांठ कर उसको मृत घोषित कर उसकी जमीन अपने नाम करा ली है। डीएम ने एसडीएम बिल्सी को कार्रवाई के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि ऐसे मामलों में लिप्त अधिकारियों के खिलाफ भी कठोर कारवाई करें। वहीं, ग्राम अहरुईया निवासी नेत्रपाल ने शिकायत की है कि उसके पिता दृष्टिहीन हैं। पीएनबी से उन्होंने इलाज के लिए जमा धनराशि निकालना चाही, तो बैंक उन्हें अनावश्यक परेशान कर रहा है और जमा पूंजी नहीं निकाल रहा है। डीएम के निर्देश पर एलडीएम ने प्रार्थी की शिकायत का समाधान करा दिया। मौंगर गौटिया निवासी चंद्रपाल ने शिकायत की कि गांव के ही कुछ लोग खलियान की भूमि पर जबरन तालाब खुदवा रहे हैं। डीएम ने कहा है कि फरियादियों की शिकायतों को सभी विभागीय अधिकारी गंभीरता से लें और समय सीमा के अंदर ही प्राप्त शिकायतों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करें। इसके बाद में डीएम ने एसडीएम और तहसीलदार न्यायालय का निरीक्षण करते हुए वादों की पत्रावलियों का निरीक्षण किया। उन्होंने लंबित वादों पर समय से कार्रवाई करने के निर्देश दिए। समाधान दिवस में आई 83 शिकायतों में से केवल आठ शिकायतों का मौके पर निस्तारण किया गया। डीएम, एसएसपी ने प्राथमिकता के आधार पर समस्याओं का निस्तारण कराने के निर्देश दिए हैं।
संपूर्ण समाधान दिवस में दी लूट की तहरीर
बदायूं। सिविल लाइंस थाना क्षेत्र के ग्राम लखनपुर निवासी प्रिंस राठौर पुत्र संजीव राठौर ने संपूूर्ण समाधान दिवस में तहरीर देकर लूट की रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग की है। प्रिंस के मुताबिक वह एक फाइनेंस कंपनी में कलेक्शन का काम करता है। 15 फरवरी की शाम करीब चार बजे वह इमली चौक कटरा ब्राहमपुर में अपना कलेक्शन कर रहा था। उसी समय कुछ युवकों ने उस पर हॉकी और धारदार हथियार से हमला बोल दिया। उससे आठ हजार रुपये, दो मोबाइल और उसका पर्स लूट लिया। उसने किसी तरह भागकर जान बचाई। सूचना पर पहुंची पुलिस उसे कोतवाली ले गई लेकिन उसकी ओर से रिपोर्ट नहीं लिखी गई। जबकि ये लूटपाट की वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो चुकी है। उसने एसएसपी को तहरीर देकर रिपोर्ट दर्ज कराने की मांग की है। संवाद
समाधान दिवस से गायब रहे नामित अधिकारी
बिल्सी। तहसीलदार अशोक कुमार सैनी की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। यहां 19 शिकायतें आईं। इनमें तीन शिकायतों का मौके पर निराकरण हो सका। इस दौरान बीडीओ सहसवान, अंबियापुर, चिकित्साधिकारी बिल्सी, चकबंदी अधिकारी बिल्सी, लोक निर्माण विभाग व डीआईओएस की तरफ से नामित अधिकारी गैर हाजिर रहे।
... और पढ़ें

बदायूंः बढ़ेगा महंगाई का रोना.... बाजार में हावी होता जा रहा कोरोना

बदायूं। चीन के कोरोना वायरस का असर भारतीय बाजार पर हो रहा है। अधिकांश चीजों के चीन से आयात होने तथा कलपुर्जों के लिए चीन पर निर्भर होने का असर बाजारों पर दिखाई देने लगा है। हर आदमी की जरूरत माने जाने वाले मोबाइल फोन पर महंगाई छाने के आसान नजर आने लगे हैं। पहले जहां हर कंपनी महीने-दो महीने में हर मॉडल पर रेट घटा देती थी वहीं अब रेट स्थिर हो गए हैं। इसके अलावा एक्सेसरीज पर महंगाई का असर दिखाई देने लगा है। इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट भी इससे अछूता नहीं रहा। कारोबारियों के अनुसार एल्युमीनियम वायर का आयात चीन से होता है, लेकिन अब यह बंद होने के कारण इस गर्मी कूलर आदि मंहगे होने की संभावना है, साथ ही भविष्य में इनकी शॉर्टेज होने की भी संभावना जताई जा रही है। एलईडी पर तो महंगाई बढ़ ही गई है।
कोरोना वायरस के हमले से चीन में हाहाकार मचा है। भारत में भले ही अभी वायरस का असर न हो लेकिन जल्द ही यह भारतीय बाजार पर कहर बरपाने की तैयारी में है। छोटी मोटी जरूरतों की चीजों से लेकर मोबाइल, मोबाइल एक्सेसरीज, इलेक्ट्रॉनिक आइटम आदि के लिए चीन पर निर्भर देसी बाजारों में चीन से आयात रुकने पर बेचैनी बढ़ने लगी है। इससे कई चीजों के दाम बढ़ गए हैं तो कई चीजों पर बढ़ने की उम्मीद लगाई जा रही है।
पांच से बीस प्रतिशत बढ़ गए एक्सेसरीज के दाम
मोबाइल फोन मार्केट में एक्सेसरीज का खास महत्व है। एक्सेसरीज यानी टैंपर्ड, डिस्प्ले, बैक कवर, होल्डर आदि का अपना अलग ही मार्केट है। मोबाइल फोन लेने वालों का इनके बिना काम नहीं चलता। इनमें से कई चीजें चीन में निर्मित होकर आती हैं। इन पर रोक होने से इनके दामों में पांच से 20 प्रतिशत तक का इजाफा हो गया है।
एल्युमीनियम वायर नहीं तो कूलर पंखें होंगे मंहगे
इलेक्ट्रॉनिक्स कारोबारियों की मानें तो अधिकांश कूलर पंखों में अब एल्युमीनियम वायरिंग का उपयोग हो रहा है। कई कंपनी इंवर्टर से चलने वाले कूलर बना रही हैं, जिसमें एल्युमीनियम वायर लगता है लेकिन इस पर रोक लगने के कारण कूलर पंखों के दामों में बढ़ोतरी की संभावना जताई जा रही है। यह भी आशंका है कि गर्मी के दिनों में इनकी शॉर्टेज भी हो सकती है। इसके अलावा कई नामी कंपनियों के इंडक्शन चूल्हे, गीजर समेत अन्य उपकरण भी चीन से बनकर आते हैं। लोगो और नाम तो देसी कंपनियों का होता है, लेकिन ये पूरे के पूूरे चीन से आयात होते हैं। ऐसे में इनके दाम भी बढ़ सकते हैं। एलईडी के दाम तो पांच सौ से आठ सौ रुपये बढ़ ही गए हैं।
हर आदमी हो रहा चीन के सामान पर निर्भर
रोजमर्रा की जरूरत की चीजों की बात करें तो आम आदमी चीन के आइटमों पर ज्यादा निर्भर हो गया है। चीनी उत्पादों का सस्ता होना आम आदमी के लिए फायदेमंद प्रतीत होता है। खिलौने, सजावटी सामान, घरेलू उपकरण, पेन ड्राइव, कंप्यूटर पार्ट्स आदि अधिकांश चीन से आयात होते हैं। यहां तक की होली और दीपावली पर जरूरी पिचकारी, झालरें आदि से भी भारतीय बाजार पटा दिखाई देता है।
80 फीसदी आबादी तक चीनी सामान की पहुंच
भले ही सोशल मीडिया पर चीनी सामान का विरोध करने का ट्रेंड हो, लेकिन सच्चाई यह है कि इसका विरोध करने वाले अधिकांश लोग भी इस सामान का प्रयोग करते हैं। कई उपकरणों के लिए कच्चा माल भी चीन से आता है। मसलन चाकू, गुब्बारे, गिफ्ट का सामान, चश्मे के फ्रेम, बाल्टी, मग समेत तमाम प्लास्टिक का सामान चीन से ही आयात होता है।
बोले कारोबारी-
मोबाइल फोन कंपनियां पहले हर एक-दो माह में मॉडल के अनुसार दाम घटा देती थीं, लेकिन अब यह बंद हो गया है। जब से कोरोना का अटैक चीन में हुआ है तब से कंपनियों ने दाम घटाने बंद कर दिए हैं। मोबाइल फोन से जुड़ी एक्सेसरीज के दामों में इजाफा हुआ है क्योंकि अधिकांश चीजें चीन में ही बनती हैं। मोबाइल फोन के दाम बढेंगे या नहीं, इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता। - भंवर अरोरा, मोबाइल फोन कारोबारी
कई देसी कंपनियां चीन से बने बनाए उपकरण मंगाती हैं और अपना लोगो लगाकर बेचती हैं। इसमें कई नामी गिरामी कंपनियां भी शामिल हैं। चीन से आयात बंद होने के बाद निसंदेह इनके दाम बढ़ेंगे। एल्युमीनियम वायर के लिए तो सारा बाजार ही चीन पर निर्भर है, जिसका आयात बिल्कुल बंद हो गया है। ऐसे में कूलर-पंखों के दाम बढ़ने ही बढ़ने हैं। - राजेश कुमार, इलेक्ट्रानिक्स कारोबारी
... और पढ़ें

उझानी ब्लॉक प्रमुख बने हरवंश पहलवान, रिटर्निंग ऑफीसर ने सौंपा प्रमाण पत्र

उझानी (बदायूं)। ब्लॉक प्रमुख की सीट पर मंगलवार को भगवा परचम लहरा गया। नाम वापसी की समय सीमा समाप्त होने के बाद रिटर्निंग ऑफीसर डॉ. एके जादौन ने निर्विरोध चुने गए भाजपा के हरवंश पहलवान को जीत का प्रमाण पत्र सौंप दिया। पार्टी के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने नव निर्वाचित ब्लॉक प्रमुख को फूलमालाओं से लाद दिया।
ब्लॉक प्रमुख के उपचुनाव में सोमवार को भाजपा के हरवंश पहलवान के अलावा किसी अन्य दावेदार ने पर्चा दाखिल नहीं किया था। इसके बाद से ही माना जाने लगा था कि उनका निर्विरोध चुना जाना तय है लेकिन नाम वापसी तक उनके निर्वाचन की औपचारिक घोषणा नहीं हो पाई। मंगलवार को प्रमाण पत्र लेने पहुंचे हरवंश पहलवान के साथ सभासद सचिन अग्रवाल, रामप्रवेश यादव, जगदीश सिंह, नगर अध्यक्ष अखिल अग्रवाल, शिशुपाल सिंह शाक्य, मोनू शर्मा, पंकज सक्सेना आदि रहे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us