विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus Lockdown in UP Live Updates: 15 जिलों के हॉटस्पॉट आज रात 12 बजे से होंगे सील, जानिए उनके नाम

यूपी में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने की अटकलों के बीच प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रदेश के 15 जिलों को रात 12 बजे से सील करने का निर्णय लिया है।

8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

बुलंदशहर

बुधवार, 8 अप्रैल 2020

सीएम केजरीवाल बोले- सिर्फ 40 लोग ही संपर्क की वजह से संक्रमित, कोरोना दिल्ली में नहीं फैल रहा है

आज लॉकडाउन का 11वां दिन है और सड़कों पर बीते कुछ दिनों की तरह ही सन्नाटा छाया हुआ है। लोग लॉकडाउन का पालन करते हुए शनिवार को भी अपने घरों में ही हैं। लोग सिर्फ अपने जरूरत के सामान लेने के लिए घर से बाहर निकल रहे हैं। इसी  बीच पलवल में आज 13 नए मामले सामने आए हैं, जिसके चलते अब यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है। सभी 13 संक्रमित जमात के हैं। यहां पढ़ें दिल्ली-एनसीआर के दिनभर के सभी अपडेट्स....



वायु सेना का जवान आइसोलेशन में, दिल्ली में तैनात है जवान 
एक भारतीय वायु सेना के जवान जो तब्लीगी मरकज मामले के दौरान निजामुद्दीन क्षेत्र में थे, उन्हें सेवा द्वारा एहतियाती आइसोलेशन के रखा गया है। एयरमैन दिल्ली में तैनात हैं। पिछले दो दिनों के दौरान एयरमैन के संपर्क में आने वाले दो अन्य जवानों को भी होम क्वारंटीन के तहत रखा गया है। भारतीय वायु सेना अधिकारियों द्वारा मामले की जांच की जा रही है।

शब-ए-बारात के मौके पर सभा से बचने की सलाह : दिल्ली पुलिस उपायुक्त (दक्षिणी दिल्ली)
दिल्ली पुलिस उपायुक्त(दक्षिणी दिल्ली) ने कहा कि चूंकि नागरिकों की सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है, दिल्ली पुलिस ने धार्मिक नेताओं से बात की और उन्हें 8 और 9 अप्रैल को शब-ए-बारात के मौके पर किसी भी सभा से बचने के लिए कहा है।

लॉकडाउन के उल्लंघन करने वाले 66 हजार लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज : एम. एस. रंधावा
दिल्ली पुलिस के पीआरओ एम. एस. रंधावा ने बताया कि पुलिस ने लॉकडाउन के उल्लंघन के लिए दिल्ली पुलिस अधिनियम के तहत 66,000 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। आईपीसी की धारा 188 के तहत 3350 एफआईआर दर्ज की गई हैं, घरेलू क्वारंटीन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ लगभग एफआईआर दर्ज की गईं हैं।

उन्होंने बताया कि गैर-सरकारी संगठनों की मदद से, दिल्ली पुलिस 10 दिनों से 6,000 परिवारों को राशन और लगभग 2 लाख लोगों को भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। हम राज्य में आवश्यक वस्तुओं की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित कर रहे हैं।

दिल्ली में नहीं फैल रहा कोरोना , नियंत्रण में हालात : केजरीवाल 
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेस को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में, 445 में से केवल 40 कोरोना संक्रमित मामले ऐसे हैं, जो लोगों के बीच संपर्क के कारण हुए हैं अन्य मामले विदेश यात्रा और निजामुद्दीन मरकज के कारण हैं। यह कुछ ऐसा है जो मुझे विश्वास दिलाता है कि कोरोना यहां नहीं फैल रहा है, यह नियंत्रण में है।

उन्होंने बताया कि मरकज से बाहर लाए गए लगभग 2300 लोगों में से 500 लोग जिनमें कोरोना के दिखाई दिए उन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया और 1800 लोगों को क्वारंटीन में रखा गया। हम उन सभी का परीक्षण कर रहे हैं, उनके परिणाम 2-3 दिनों में आएंगे, इससे सकारात्मक संक्रमितों की संख्या में वृद्धि हो सकती है।

नरेला क्वारंटीन सेंटर में मेडिकल टीम बढ़ाएगी सेना
सेना सूत्रों के अनुसार दिल्ली सरकार के लिए भारतीय सेना नरेला क्वारंटीन सेंटर में मेडिकल टीम बढ़ाने जा रही है। अब यहां चार डॉक्टर और आठ नर्स अपनी सेवाएं देंगे । इससे पहले नरेला क्वारंटीन सेंटर में दो डॉक्टर और दो नर्स सेवाएं दे रहे थे।  

एम्स स्थित कोविड-19 अस्पताल में भर्ती हुए दो संक्रमित
एम्स ट्रामा सेंटर, दिल्ली स्थित कोविड-19 अस्पताल में आज सुबह ही दो कोरोना संक्रमित मरीजों को भर्ती कराया गया है।

गंगाराम अस्पताल में 108 स्वास्थ्य कर्मचारियों को किया क्वारंटीन
गंगाराम अस्पताल के 108 स्वास्थ्य कर्मचारियों को क्वारंटीन किया गया है। इनमें से 23 लोग अस्पताल में भर्ती हैं और 85 अपने घरों में क्वारंटीन हैं।  इनमें डॉक्टर भी शामिल हैं। अस्पताल में भर्ती दो मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव होने के बाद ये फैसला लिया गया है। अब दोनों मरीजों को आरएमल अस्पताल भेज दिया गया है।

सीजफायर कंपनी की महिला कर्मचारी की बहन भी हुई कोरोना पॉजिटिव
वसुंधरा में पॉजिटिव आई सीजफायर कंपनी की महिला कर्मचारी की बहन भी हुई कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गई है। पहले रिपोर्ट निगेटिव आई थी, लेकिन बहन की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर सैंपल दोबारा भेजा गया था। अब रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर सुबह ही उसे गाजियाबाद के एमएमजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। अब गाजियाबाद में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 14 हो गई है। इनमें से तीन इलाज के बाद स्वस्थ्य हो चुके हैं। 11 का एमएमजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। आज सभी मरीज मुरादनगर कोविड अस्पताल शिफ्ट किए जाएंगे। संयुक्त अस्पताल में पॉजिटिव आए तीन जमाती भी एमएमजी अस्पताल में शिफ्ट कर दिए गए थे।

दिल्ली में हुई एक और कोरोना पॉजिटिव की मौत
दिल्ली में कोरोना से संक्रमित एक और व्यक्ति की मौत हो गई है। बीती रात महाराजा अग्रसेन अस्पताल में मरीज ने आखिरी सांस ली।

पलवल में सामने आए 13 नए पॉजिटिव केस, सभी संक्रमित जमातिए
पलवल में कोरोना के 13 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। सभी पॉजिटिव केस हरियाणा के बाहर के हैं। जानकारी के अनुसार यह सभी जमात से आए हैं। सिविल सर्जन डॉ. ब्रह्मदीप सिंह ने जानकारी दी कि पलवल में जमात के 88 लोगों के सैंपल भेजे गए थे। इनमें से 13 रिपोर्ट पॉजिटिव हैं, जिसके बाद अब पलवल में संक्रमित लोगों की संख्या 17 हो गई है। हालांकि 17 में से एक ठीक होकर घर जा चुका है।
... और पढ़ें

वेव शुगर मिल ने पेराई सत्र संपन्न करने का जारी किया नोटिस

वेव शुगर मिल ने पेराई सत्र संपन्न करने का जारी किया नोटिस
बुलंदशहर। वेव शुगर मिल ने चालू गन्ना पेराई सत्र संपन्न करने का नोटिस जारी कर दिया है। मिल ने किसानों को चार अप्रैल तक का समय अपना गन्ना मिल या क्रय केंद्रों पर पहुंचाने की बात कही है। मिल प्रबंधन का तर्क है कि कम गन्ना मिलने पर मिल बार-बार बंद हो रही है।
विगत दो वर्ष की भांति इस बार चालू गन्ना पेराई सत्र की शुरूआत वेव मिल ने देरी से शुरू की थी। मिल पर किसान अब तक करीब 80 करोड़ का गन्ना डाल चुके हैं। लेकिन अभी तक मिल की ओर से किसानों को गन्ने का भुगतान नहीं किया है। इसी बीच अब मिल ने चार अप्रैल को मिल बंदी का नोटिस जारी कर दिया है। मिल प्रबंधन के अनुसार इस समय गन्ना बहुत कम मिलने से मिल बार-बार बंद करनी पड़ रही है। इससे पहले भी मिल की ओर से 24 मार्च और 30 मार्च को भी गन्ना पेराई सत्र संपन्न करने के लिए नोटिस जारी किया जा चुका है। मिल के अधिकारी देवराज ने बताया कि किसान अब चार अप्रैल तक अपना गन्ना मिल या फिर क्रय केंद्रों पर पहुंचा दें, ताकि उन्हें बाद में किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े। इसके बाद मिल बंद हो जाएगी और किसी भी किसान का गन्ना नहीं खरीदा जाएगा।
कोट =
वेव शुगर मिल से जुड़े किसानों का लगभग गन्ने की सप्लाई हो चुकी है, जो गन्ना बचा है उसे भी निर्धारित समय तक किसान गन्ना मिल में पहुंचा देंगे। अभी तक मिल ने गन्ने की राशि का भुगतान नहीं किया है। किसानाें को बकाया भुगतान न मिलने के कारण कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। लॉकडाउन के बीच किसानों के पैसा नहीं है। किसानों की मांग है कि मिल बकाया गन्ना भुगतान करें। यदि ऐसा नहीं किया तो जल्द ही गन्ना किसान आंदोलन करते हुए मिल का घेराव करेंगे।
- संग्राम सिंह, जिला अध्यक्ष, किसान गन्ना संघर्ष समिति, बुलंदशहर।
कोट =
वेव मिल से जुड़े किसानों को बकाया गन्ना भुगतान के लिए ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। इसके लिए मिल प्रबंधन से लगातार संपर्क किया जा रहा है। मिल में गन्ना पेराई सत्र संपन्न करने का नोटिस प्राप्त हो गया है। मिल को अभी पेराई सत्र संपन्न करने का विभाग की ओर से आदेश जारी नहीं किया गया है।
- डीके सैनी, जिला गन्ना अधिकारी, बुलंदशहर।
... और पढ़ें

परिवहन विभाग ने 30 जून तक सभी दस्तावेज किए मान्य

परिवहन विभाग ने 30 जून तक सभी दस्तावेज किए मान्य
बुलंदशहर। फरवरी में वाहनों के दस्तावेजों की वैधता समाप्त होने वाले वाहन स्वामी और चालकों के लिए एक राहत की खबर हैं। लॉकडाउन के चलते शासन ने वाहन स्वामियों और चालकों को राहत देते हुए संबंधित कागजातों की वैधता 30 जून तक मान्य कर दी है।
कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन होने पर परिवहन समेत सभी कार्यालय बंद चल रहे हैं। इस वजह से वाहन स्वामी/चालक वाहन के दस्तावेज रिन्यू नहीं करवा पा रहे थे, साथ ही वाहन संचालित करने पर संबंधित को वाहन पकडे़ जाने का भी भय था। जिसे देखते हुए शासन ने वाहनों के दस्तावेज रिन्यू करने के लिए जून तक की राहत दी हैं। एआरटीओ प्रशासन मोहम्मद कय्यूम ने बताया कि जिन वाहन के कागजात, ड्राइविंग लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन एवं अन्य दस्तावेज जिनकी वैधता एक फरवरी से 30 जून के मध्य खत्म हो रही हैं, उन सभी की वैधता को 30 जून 2020 तक माना जाए। इस आदेश से स्पष्ट है कि अब वाहन चालकों एवं उनके मालिकों को मोटर व्हीकल एक्ट से जुडे दस्तावेजों को रिन्यू कराने के लिए फिलहाल परेशान होने की जरूरत नहीं हैं। वाहन स्वामी और ट्रांसपोर्टरों को होने वाली परेशानियों को देखते हुए शासन ने यह फैसला लिया है कि जिन वाहनों की फिटनेस वैधता, परमिट और लाइसेंस का रिन्यू फरवरी से होना था, इन सभी को फौरी तोर पर 30 जून तक की राहत शासन द्वारा दी गई हैं। इस दौरान वाहन संचालित होने पर संबंधित का चालान नहीं काटा जाएगा। इस संबंध में प्रमुख सचिव और परिवहन आयुक्त का आदेश प्राप्त हो चुका हैं।
... और पढ़ें

कोरोना: लॉकडाउन के बीच यूपी में 15 जिलों के ये हॉटस्पॉट होंगे पूरी तरह सील

उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते हुए खतरे को देखकर यूपी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है और इसके तहत उसने आज रात 12 बजे से सूबे के 15 जिले सील करने का आदेश दिया है। इन 15 जिलों में एनसीआर के भी तीन जिले हैं। आज रात 12 बजे से गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद और बुलंदशहर भी सील हो जाएंगे। हालांकि खास बात ये है कि जिन जिलों के सील होने की घोषणा की गई है, वहां सिर्फ कोरोना के हॉटस्पॉट ही सील होंगे पूरा जिला नहीं।
 

इन 15 जिलों के हॉटस्पॉट होंगे सील
उ.प्र. के अपर प्रमुख सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया है कि यूपी. के 15 जिलों- आगरा, कानपुर, लखनऊ, वाराणसी, सहारनपुर, गौतमबुद्धनगर, मेरठ, गाजियाबाद, शामली, बरेली, बुलंदशहर, बस्ती, महाराजगंज और सीतापुर में जिन कोरोना के हॉटस्पॉट की पहचान की गई है वहां सख्ती से लॉकडाउन लागू किया जाएगा।

15 जिलों में इतने हैं हॉटस्पॉट
अवनीश अवस्थी ने बताया कि आगरा में 22 , गाजियाबाद में 13, गौतमबुद्धनगर में 12, कानपुर में 12, वाराणसी में 4, शामली में 3, मेरठ में 7, बरेली में 1, बुलंदशहर में 3, बस्ती में 3, फिरोज़ाबाद में 3, सहारनपुर में 4, महाराजगंज में 4, सीतापुर में 1 और लखनऊ में 8 बड़े और 4 छोटे हॉटस्पॉट हैं। इन इलाकों में अब बैंक भी नहीं खुलेंगे, इसकी सेवाएं लोगों की जरूरत के अनुसार उनके घर पहुंचेंगी। साथ ही इन हॉस्टपॉट पर मीडिया के जाने पर भी रोक रहेगी।

गाजियाबाद में ये 13 इलाके हैं हॉटस्पॉट
गाजियाबाद में राजनगर एक्सटेंशन, वसुंधरा, वैशाली, शालीमार गार्डन, टीला मोड़, शिप्रा सनसिटी, नंदग्राम, मसूरी, सीवियर सोसाइटी, कौशाम्बी समेत कुल 13 हॉटस्पॉट हैं।

बुलंदशहर के ये तीन इलाके रहेंगे सील
वीरखेड़ा गांव सिंकदराबाद, जनता इंटर कॉलेज जहांगीराबाद, रुकनसराय बुलंदशहर।

डीजीपी ने क्या कहा
वहीं डीजीपी एच.सी. अवस्थी, लखनऊ ने बताया कि हॉटस्पॉट इलाकों में सबसे ज्यादा कोरोना केस सामने आए हैं। कोरोना को फैलने से रोकने के लिए इन हॉटस्पॉट से आवागमन पूरी तरह से रोका जाएगा। ऐसे इलाकों की पहचान करना और उसे बंद कैसे करना है वो बैठक में निर्धारित किया जाएगा। 

डीजीपी ने आगे बताया कि इन इलाकों में किस तरह की आवश्यक सेवाएं दी जाएगी ये तय किया जाएगा। फायर सर्विस की गाड़ियों से उस एरिया को सैनिटाइज किया जाएगा। वहां एंट्री रोकने की जरूरत पड़ी तो बैरियर्स लगाए जाएंगे। 112 सर्विस या जो पुलिस पेट्रोल है उसे लगाकर इसे हर दिशा में लागू किया जाएगा।

जिले के सीलिंग की बात सुनते ही इन जिलों के दुकानों पर लंबी कतारें लग गई हैं। इसके बाद गाजियाबाद के डीएम और एसएसपी ने लोगों से अनुरोध किया है कि कृपया समस्त जनपद में कर्फ्यू लगने की अफवाह ना फैलाएं। जिलों के हॉस्टस्पॉट ही सील होंगे।
... और पढ़ें
corona virus lockdown corona virus lockdown

राशन की कालाबाजारी पर एसएमआई पर एक और रिपोर्ट दर्ज

राशन की कालाबाजारी पर एसएमआई पर एक और रिपोर्ट दर्ज
बुलंदशहर। जनपद के सरकारी खाद्यान्न गोदामाें पर डीएम के आदेश पर लगातार छापेमारी जारी है। स्याना गोदाम के बाद रविवार देर रात्रि बीबीनगर गोदाम पर छापेमारी की गई। यहां पर 330 गेहूं के कट्टे कम पाए गए। इस पर एसएमआई प्रदीप कुमार के खिलाफ एक और रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। जबकि पहले भी स्याना गोदाम में कम राशन मिलने पर रिपोर्ट दर्ज हो चुकी है। छापामार टीम में शामिल अफसराें ने एसएमआई के निलंबन की संस्तुति करते हुए डीएम को पत्र लिखा है।
डीएम रविंद्र कुमार के आदेश पर पिछले कई दिन से जनपद में सरकारी खाद्यान्न के गोदामों पर छापामार कार्रवाई जारी है। कार्रवाई को एसडीएम सुभाष सिंह, डिप्टी एआरएमओ जेया अहमद करीम, तहसीलदार संजय कुमार, क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी आलोक वशिष्ठ आदि अंजाम दे रहे हैं। इस टीम ने दो दिन पहले स्याना गोदाम पर छापेमारी की थी। यहां पर 1611 बोरे गेहूं व चावलों के 1045 बोरियां कम मिली थी। इस पर गोदाम इंचार्ज स्याना मार्केटिंग अफसर प्रदीप कुमार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। अब इस टीम ने बीबीनगर स्थित गोदाम पर छापा मारा। यहां पर 330 बोरी गेहूं की कम पाई गई। जबकि चावल की 170 बोरी अधिक मिली। बताया गया कि यह चावल दुकान पर सप्लाई किया जाना था और इसका रिकार्ड भी रजिस्टर में पाया गया। गेहूं की बोरी कम मिलने पर अब एसएमआई प्रदीप कुमार के खिलाफ एक और रिपोर्ट दर्ज हो गई है। डिप्टी एआरएमओ जेया अहमद करीम ने बताया कि इस एसएमआई को निलंबन करने की संस्तुति कर डीएम को पत्र भेज दिया है। डीएम अब एसएमआई के निलंबन की आगामी कार्रवाई के लिए आरएफसी मेरठ को पत्र भेजेंगे।
... और पढ़ें

युवती के पिता के बाद योगेश के पुत्र ने भी दर्ज कराया हत्या का मुकदमा

युवती के पिता के बाद योगेश के पुत्र ने भी दर्ज कराया हत्या का मुकदमा
जहांगीराबाद। कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में शनिवार को युवती को गोली मारने के बाद खुद को गोली मारकर जान देने के प्रकरण में रविवार को मृतक योगेश के पुत्र ने कोतवाली में तहरीर देकर मृतक युवती के पिता व दो भाईयों के विरूद्व हत्या का जहां मुकदमा दर्ज कराया है, वहीं देर सायं पुलिस बल की मौजूदगी में दोनों के परिजनों ने दोनों के शवों का अंतिम संस्कार कर दिया है।
रविवार को मृतक योगेश के पुत्र ने पुलिस को तहरीर देकर आरोप लगाया कि मृतक युवती का एक भाई उसके पिता को बुलाकर अपने घर ले गया। कुछ ही देर बाद वह गोली लगने से लहूलुहान हालत में युवती के घर ही पड़े मिले। जिन्हें हम लोग अस्पताल लाए लेकिन उपचार के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। पुलिस ने मृतक योगेश के पुत्र की तहरीर पर युवती के पिता व उसके दो भाईयों के विरूद्व हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। वहीं शनिवार देर शाम दोनों मृतकों का अंतिम संस्कार गमगीन माहौल में पुलिस बल की मौजूदगी में उनके परिजनों ने कर दिया गया। शनिवार को युवती की मौत के बाद उसके पिता ने योगेश के विरूद्व घर में घुसकर उसकी बेटी की गोली मारकर हत्या करने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। रविवार को मृतक योगेश के पुत्र ने तीन लोगों के विरूद्व उसके पिता की हत्या करने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। हत्याकांड के पीछे कोतवाली पुलिस दोनों के बीच प्रेम प्रसंग की बात कह रही है।
वर्जन =
घटना वाले दिन युवती के परिजनों की तहरीर प्राप्त हुई थी, जिसके आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया था। जबकि अब इसी प्रकरण में मृतक योगेश के पुत्र की तहरीर के आधार पर भी युवती के पिता हरिचंद्र व दो भाइयों के विरूद्व भी हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।
- विवेक शर्मा, कोतवाली प्रभारी जहाँगीराबाद।
... और पढ़ें

गर्भवती महिला की मौत, चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप

गर्भवती महिला की मौत, चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप
सिकंदराबाद। औद्योगिक क्षेत्र के की तेज सिंह कॉलोनी निवासी गर्भवती महिला की अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई। परिजनों ने अस्पताल स्टॉफ पर लापरवाही का आरोप लगाया। वही सीएमएस का कहना है कि गर्भवती को मृत अवस्था में अस्पताल लाया गया था।
औद्योगिक क्षेत्र की तेज सिंह कॉलोनी निवासी जोगेंद्र पासवान ने बताया वह मूल रूप से बिहार का रहने वाला हैं। औद्योगिक क्षेत्र स्थित फैक्टरी में काम करता हैं। कई वर्षों से परिवार के साथ औद्योगिक क्षेत्र स्थित तेज सिंह कॉलोनी में परिवार के साथ किराए पर रह रहा हैं। परिवार में उसके दो साल के बेटे किशन के अलावा उसकी पत्नी लक्ष्मी थी। शनिवार को उसने अपनी गर्भवती महिला को एंबुलेंस की मदद से सीएचसी सिकंदराबाद में भर्ती कराया था। जहां उसकी मौत हो गई। जोगेंद्र ने अस्पताल स्टॉफ पर लापरवाही का आरोप लगाते पत्नी की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया। वही सीएमएस डा. एपी सिंह का कहना हैं कि अस्पताल पहुंचने से पहले ही गर्भवती की मौत हो चुकी थी। उसे मृत अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
... और पढ़ें

भ्रामक प्रचार करने पर युवक के खिलाफ एफआईआर

भ्रामक प्रचार करने पर युवक के खिलाफ एफआईआर
ककोड़। बाहर से आए लोगों के लिए कस्बे में बनाए गए क्वारंटीन हाउस में लोगों को खाना, पानी नहीं मिलने समेत अन्य अनियमितता का आरोप लगाते हुए मुख्ममंत्री को ट्वीट करने वाले युवक के खिलाफ भ्रामक प्रचार करने के आरोप में पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की है।
बताते चले कि बाहर से लौटे लोगों के लिए कस्बा ककोड़ में सिकंदराबाद ककोड़ मार्ग पर एलएम एजुकेशनल स्कूल में क्वारंटीन हाउस बनाया गया है। प्रशासन रिकार्ड के अनुसार, क्वारंटीन हाउस में 24 लोगों को रखा गया है। कस्बा निवासी कपिल ठाकुर पुत्र बुद्धपाल सिंह ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल करते हुए आरोप लगाया था कि क्वारंटीन भवन में ठहरे लोगों के लिए खाने, पीने पानी, मास्क, सैनिटाइजर की कोई व्यवस्था नहीं है। न लोगों के लेटने के लिए दरी, ओढ़ने के लिए चादर है। क्वारंटीन हाउस में टेंट की व्यवस्था नहीं है। बताया कि कपिल ठाकुर ने उक्त वीडियो को मुख्यमंत्री को भी ट्वीट किया था। मुख्यमंत्री को वीडियो ट्वीट किए जाने के बाद मामला शासन के संज्ञान में आने पर प्रशासनिक अफसरों में हड़कंप मच गया था। रात में आनन फानन में एसडीएम सिकंदराबाद रविशंकर सिंह, एसडीएम सदर, व अन्य एसडीएम जांच के लिए क्वांरटीन हाउस पहुंचे थे। एसडीएम रविशंकर सिंह ने बताया कि जांच के दौरान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे और मुख्यमंत्री को ट्वीट किए आरोप पूरी तरह से निराधार साबित हुए। निरीक्षक जितेंद्र कुमार ने बताया कि कपिल के खिलाफ भ्रामक प्रचार करने के आरोप में रिपोर्ट दर्ज की गई।
... और पढ़ें

लॉकडाउन न मानने पर पुलिस वसूला चार लाख 72 हजार का जुर्माना

लॉकडाउन न मानने पर पुलिस वसूला चार लाख 72 हजार का जुर्माना
बुलंदशहर। कोरोना वायरस को लेकर जिले में चल रहे लॉकडाउन का पालन करने में कुछ लोग लापरवाही बरत रहे हैं। ऐसे लोगों से पुलिस सख्ती से निपट रही है। पुलिस ने अभी तक 331 मुकदमे दर्ज किए हैं। जिनमें 638 लोगों को नामजद किया जा चुका है।
एसपी सिटी अतुल कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ उनकी कार्रवाई जारी है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के पहले दिन से ही उन्होंने कार्रवाई शुरू कर दी थी। जिस कारण अभी तक 25 हजार से अधिक वाहनों को चैक किया जा चुका। जिनमें से तीन हजार 288 वाहनों के चालान किए जा चुके है। इसके अलावा अन्य वाहनों से चार लाख 72 हजार 800 रुपये का जुर्माना वसूला जा चुका है। इसके अलावा 212 वाहनों को सीज किया जा चुका है। एसपी सिटी ने बताया कि सोमवार से इस सख्ती को और बढ़ा दिया जाएगा। बिना किसी वजह के जो दुकानदार दुकानें खोल रहे हैं। उनकी वीडियोग्राफी कराने के बाद मुकदमे दर्ज किए जाएंगे। इसके अलावा जो वाहन बेवजह से सड़कों पर दौड़ रहे हैं। उनके चालान और सीज की कार्रवाई तो होगी। साथ ही वाहन को जब्त भी कर लिया जाएगा। वाहन को पुलिस लाइन में खड़ा करके उसके मालिक को उसकी चाबी दे दी जाएगी। इसलिए मेरी लोगों से अपील है कि वह लॉकडाउन का सख्ती से खुद ही पालन करें।
... और पढ़ें

बाहर से आए लोगों की जानकारी देंगे प्रधान-सचिव

बाहर से आए लोगों की जानकारी देंगे प्रधान-सचिव
सिकंदराबाद। लॉकडाउन के चलते बाहर से गांव में लौटे लोगों की जानकारी नहीं देने पर ग्राम प्रधान और ग्राम पंचायत सचिव सीधे जिम्मेदार होंगे। उक्त सभी लोगों के स्वास्थ्य के बारे में प्रतिदिन जानकारी लेनी होगी। लापरवाही बरतने पर उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
धातक कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 25 मार्च से देश भर में लॉकडाउन कर दिया गया था। नगरीय क्षेत्र में काम करने वाले ग्रामीण क्षेत्रों के लोग लॉकडाउन होने के कारण फंस गए थे। लॉकडाउन के चलते बसें, ट्रेनें और यातायात के अन्य साधनों के बंद होने के कारण नगरीय क्षेत्र में फंसे गांव के लोग पदयात्रा करते अपने गांव की ओर चल दिए थे। कई दिनों की पैदल यात्रा करने के बाद बड़ी मुश्किल से लोग अपने घरों को लौटे थे। बाहर से गांव को लौटने वाले लोगों के कारण गांव में संक्रमण फैलने की आशंका प्रशासन के साथ ग्रामीणों को भी सताने लगी थी। प्रशासन ने बाहर से लौटे सभी लोगों के बारे में जानकारी देने और उनके स्वास्थ्य की बराबर निगरानी करने की जिम्मेदारी ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सचिव को सौंपी थी। बीडीओ प्रेमचंद ने बताया कि बाहर से गांव को लौटेे सभी लोगों के बारे में जानकारी देने के लिए ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सचिव को निर्देशित किया गया है। बाहर से लौटे युवक और उसके स्वास्थ्य के बारे में सही जानकारी नहीं मिलने पर ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सचिव को जिम्मेदार ठहराया जाएगा और लापरवाही बरतने पर उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

कृषि संबंधित उपकरण की मरम्मत को दी गई छूट

कृषि संबंधित उपकरण की मरम्मत को दी गई छूट
बुलंदशहर। लॉकडाउन के बीच शासन ने किसानों के लिए बड़ी राहत दी है। गेहूं कटाई शुरू होने के कारण किसानाें को फसल उठाने में कोई परेशानी आड़े न आए। इसके लिए कृषि संबंधित उपकरण की मरम्मत करने वाली दुकानों को खोलने की छूट दी गई है। उप्र शासन के प्रमुख सचिव ने डीएम समेत अन्य अधिकारियों को आदेश भेज दिया है।
इस समय गेहूं की कटाई शुरू हो गई है। साथ ही ईंख आदि फसलों की बुवाई का भी समय चल रहा है। गेहूं उठाने के लिए किसानों को मशीन आदि कृषि उपकरण की मरम्मत करवाना भी जरूरी है। फसलों की बुवाई के लिए खाद, उर्वरक और कीटनाशक के अलावा बीज की भी जरूरत है। ऐसे में लॉकडाउन के बीच किसानों को चिंता बन रही थी कि कैसे गेहूं की फसल की निकासी होगी और कैसे फसलों की बिजाई कर सकेंगे। किसानों की इस समस्या को खत्म करने के लिए उप्र शासन के प्रमुख सचिव ने डीएम समेत अन्य अधिकारियों को आदेश भेजकर अवगत करवाया है कि लॉकडाउन के बीच कृषि उपकरण आदि से संबंधित दुकानों को खोलने की छूट दी जाए। ताकि किसानों को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े। उधर, जिला कृषि अधिकारी अश्विनी कुमार का कहना है कि शासन के आदेश पर लॉकडाउन में कृषि उपकरण के अलावा खाद, उर्वरक, बीज और कीटनाशक दुकान खोलने के लिए दुकानदारों को पास जारी किए जा रहे हैं। दुकानदार पास प्राप्त कर अपनी दुकान खोल सकते हैं। शासन का यह निर्णय किसान हित में है। इससे किसानों को बड़ी राहत मिलेगी।
... और पढ़ें

अभी भी जनपद में छिपे हैं मरकज से आए जमाती!

अभी भी जनपद में छिपे हैं मरकज से आए जमाती!
बुलंदशहर। लॉकडाउन के बाद जिले में दिल्ली की निजामुद्दीन स्थित मरकज बिल्डिंग से आए जमातियों की तलाश जारी है। पुलिस ने अपने स्तर से कुछ जमातियों को तो तलाश लिया है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि अभी भी जिले में काफी संख्या में जमाती छिपे हैं। शनिवार तक जनपद में 269 जमाती मिल चुके हैं। पुलिस प्रशासनिक अधिकारी लगातार जमातियों का पता लगाने के लिए खाक छान रही है। साथ ही लोगों को इनकी सूचना देने के प्रति जागरूक भी कर रही है।
बता दें कि कोरोना वायरस के डर के कारण सोशल मीडिया पर अफवाह फैली थी कि कई दिन तक कर्फ्यू रह लग सकता है, जिसके बाद बुलंदशहर में दिल्ली, नोएडा, केरल और अन्य राज्यों से बड़ी संख्या में 20 मार्च को जमाती पहुंचे थे। यह जमाती जिले की कई मस्जिदों में धर्म प्रचार में जुटे थे। जैसे ही दिल्ली की मरकज वाला कांड हुआ तो जमातियों की तलाश शुरू हुई। इसके बाद जनपद में भी जमातियों की धरपकड़ होने लगी। जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में मस्जिदों, मदरसों एवं घरों में तलाशी ली गई, जिसमें काफी संख्या में जमाती मिले, जिनके स्वास्थ्य की जांच के बाद क्वारंटीन कर दिया गया है। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि शनिवार तक 269 जमाती मिल चुके हैं, जमातियों की तलाश जारी है, जो भी मिल रहे हैं उन्हें क्वारंटीन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अन्य जमातियों के बारे में भी पता लगाया जा रहा है, जिसके लिए सभी थानों को निर्देशित किया गया है।
... और पढ़ें

कोरोना : दिल्ली मेंं कुल संक्रमितों की संख्या 503 हुई, आज 58 नए मामले आए सामने

देशव्यापी लॉकडाउन का आज 12वां दिन है और रविवार होने के चलते दिल्ली-एनसीआर की सड़कें रोज की अपेक्षा कहीं ज्यादा सुनसान नजर आ रही हैं। हालांकि इस बीच निजामुद्दीन मरकज के जमातियों और नोएडा की सीजफायर कंपनी के चलते यहां कोरोना के संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ी है। गौरतलब है कि बीती रात साहिबाबाद पुलिस ने एक मदरसे से इंडोनेशिया के रहने वाले 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके खिलाफ कई धाराओं में मामले भी दर्ज किए गए हैं। पढ़ें दिल्ली-एनसीआर के दिनभर के अपडेट्स...

दिल्ली में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 503 हुई

दिल्ली  सरकार ने जानकारी दी है कि आज कोरोना वायरस के  58 नए मामले सामने आए हैं। वायरस के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 503 हो गई है, जिसमें तबलीगी जमात में भाग लेने वाले 320 मामले शामिल हैं, 61 ने विदेश की यात्रा की थी। 18 लोगों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

आज दिल्ली में जो 58 नए मामले सामने आए हैं इसमें से 19 ने तबलीगी जमात में शामिल होने वाले लोग हैंऔर तीन ने अंतरराष्ट्रीय यात्रा की थी।

होम क्वारंटीन का उल्लंघन करने पर 11 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज 
डीसीपी शाहदरा ने बताया कि पुलिस द्वारा होम क्वारंटीन के 517 मामलों में सत्यापन के दौरान यह पाया गया कि 11 व्यक्ति घर पर नहीं थे। इन लोगों के खिलाफ नौ केस आज और दो केस आईपीसी की  धारा 188 के अंतर्गत पहले दर्ज किए गए हैं। 

मलेशियाई नागरिकों को क्वाारंटीन में रखने की मांग 
दिल्ली पुलिस ने जिला मजिस्ट्रेट से मलेशिया में आठ तब्लीगी जमात सदस्यों को क्वारंटीन में रखने का अनुरोध किया है, जिन्हें आज दिल्ली के आईजीआई के आव्रजन विभाग द्वारा रोका गया था जब वे मलेशिया के लिए मलिंदो हवाई राहत उड़ान में मौजूद थे।

शिक्षण संस्थानों की फीस माफ करें डीएम : वी. के. सिंह 
कंद्रीय मंत्री और गाजियाबाद के सांसद वी. के. सिंह ने कहा कि गाजियाबाद के डीएम को यूपी आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत अपनी शक्तियों का प्रयोग करके कोरोना वायरस प्रभावित अवधि के लिए शिक्षण संस्थानों की फीस माफ करने को कहा गया है।
गाजियाबाद : 13 जमातियों की रिपोर्ट आई नेगेटिव
रविवार का दिन स्वास्थ्य विभाग और जिले के लिए सुकून भरा साबित हुआ, यहां 13 करोना संदिग्धों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।  सीएमओ डॉक्टर एनके गुप्ता ने बताया कि पिछले 15 दिनों के बाद आज पहली बार ऐसा हुआ है जब रात में किसी भी मरीज को भर्ती कराने या आइसोलेट करने के लिए किसी का भी नहीं आया। सीएमओ का कहना है कि जो 24 मरीज पॉजिटिव पाए गए हैं उनके घर के आसपास और धार्मिक स्थलों के पास का इलाका सैनिटाइज कराया जा रहा है। रविवार को संयुक्त अस्पताल के कर्मचारियों सहित 30 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं, अभी 147 रिपोर्ट का इंतजार है।

हजरत निजामुद्दीन पहुंची डॉक्टरों की टीम
हजरत निजामुद्दीन पुलिस थाने पहुंची डॉक्टरों की टीम ने थाने के सभी स्टाफ की जांच की। एक डॉक्टर ने बताया कि सभी स्टाफ का रूटीन चेकअप किया गया है। पिछले महीने मरकज में एक धार्मिक आयोजन किया गया था जिसमें कोरोना पॉजिटिव लोग मिले थे, जिसके बाद आशंका है कि उन्हें बाहर निकालने वाले पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित न हों।

क्राइम ब्रांच की एक टीम निजामुद्दीन मरकज में हुई दाखिल
क्राइम ब्रांच की एक टीम निजामुद्दीन मरकज में जांच के लिए पहुंची है। क्राइम ब्रांच की टीम निजामुद्दीन मरकज की वीडियोग्राफी कर रही है, इसके लिए ड्रोन कैमरों की मदद भी ली जा रही है। एक अप्रैल को मरकज से करीब 2300  लोग निकाले गए थे। इस मामले में तब्लीगी जमात के प्रमुख मौलाना साद व अन्य के खिलाफ लॉकडाउन के दौरान इकट्ठा होकर जमात का आयोजन करने के लिए प्राथमिकी दर्ज की गई है।

जमात के आठ सदस्य आईजीआई हवाई अड्डे पर गिरफ्तार
मलएशिया के 8 तब्लीगी जमात के सदस्यों को आज दिल्ली के आईजीआई इमिग्रेशन विभाग ने मलएशिया के लिए मालिंदो एयर रिलीफ फ्लाइट में सवार होने की कोशिश करते हुए पकड़ा। उन्हें अधिकारियों को सौंपने की प्रक्रिया जारी है। नियमानुसार सभी सदस्यों को भारत में ही क्वारंटाइन किया जाएगा।

दिल्ली पुलिस की अपील शब-ए-बरात मनाने घर से न निकलें
दिल्ली पुलिस ने नागरिकों से अपील की है कि कोरोना वायरस लॉकडाउन के चलते 8/9 अप्रैल को शब-ए-बरात मनाने के लिए अपने घरों से बाहर न निकलें। 

कनॉट प्लेस में बांटी गई लोगों को खाने-पीने की चीजें
दिल्ली समेत देशभर में जारी लॉकडाउन के बीच कनॉट प्लेस में लोगों को खाने-पीने की जरूरी चीजें बांटी गई।

दिल्ली समेत अन्य जगहों पर बढ़ी दीपकों और मोमबत्तियों की बिक्री
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आज रात को 9 बजे 9 मिनट के लिए दीपक, मोमबत्ती जलाने की अपील के बाद बाजार में दीयों की ब्रिकी बढ़ गई है।

दिल्ली कैंसर संस्थान की दो नर्सों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव
दिल्ली के कैंसर संस्थान की दो और नर्सों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे पहले यहां के डॉक्टर समेत चार चिकित्सा कर्मियों की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आ चुकी है।

एलएनजेपी अस्पताल की तीसरी मंजिल से कूदा कोरोना संदिग्ध, टूटा पैर
दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में रविवार सुबह उस वक्त हड़कंप मच गया, जब एक कोरोना संदिग्ध मरीज ने तीसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की। वह 31 मार्च को यहां भर्ती हुआ था, लेकिन अभी उसकी रिपोर्ट नहीं आई है। 

गाजियाबाद में 10 विदेशियों के खिलाफ मामला दर्ज

गाजियाबाद पुलिस ने बताया कि पिछले महीने दिल्ली में तब्लीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल होने वाली 5 महिलाओं सहित 10 इंडोनेशियाई नागरिकों के खिलाफ आईपीसी की धारा 188, 269, 270, महामारी रोग अधिनियम और विदेश अधिनियम, 1897 के तहत मामला दर्ज किया गया है। इसके साथ ही उन्हें क्वारंटीन में रखा गया है।

दिल्ली में संक्रमित मरीजों की संख्या पहुंची 445, इनमें जमातियों की संख्या 300 के पार
शनिवार को दिल्ली में एक ही दिन में 59 नए कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें से 42 जमाती हैं। दिल्ली में अब कुल कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 445 हो चुकी है, जिनमें से 301 निजामुद्दीन स्थित मरकज से निकाले गए थे। इनके अलावा 58 लोग विदेश से संक्रमित होकर आए हैं। वहीं 40 मरीज ऐसे हैं, जो विदेश यात्रा से लौटने वाले संक्रमितों के संपर्क में आए थे। 46 संक्रमित मरीजों की जांच चल रही है। 423 संक्रमित मरीजों का उपचार दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, शनिवार को 5 संक्रमित मरीजों को ठीक होने पर अस्पतालों से छुट्टी मिल गई। फिलहाल कोरोना वायरस से दिल्ली में केवल छह लोगों की मौत हुई है। 

दिल्ली-एनसीआर में संक्रमित मरीजों की संख्या-
दिल्ली - 447 संक्रमित
नोएडा-ग्रेटर नोएडा - 58 संक्रमित
गाजियाबाद - 24 संक्रमित
गुरुग्राम - 17 संक्रमित
फरीदाबाद - 14 संक्रमित
पलवल - 16 संक्रमित
मेवात - 3 संक्रमित
बुलंदशहर - 3 संक्रमित
नूंह - 1 संक्रमित
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us