विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

प्रियंका गांधी ने सीएम योगी को लिखा पत्र, कोरोना महामारी के प्रकोप को नियंत्रित करने के तरीके सुझाए

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के मरीज मिलने का सिलसिला थम नहीं रहा है। शुक्रवार की सुबह आगरा में पांच नए मामले सामने आए हैं। यूपी में संक्रमितों की संख्या 427 पहुंच गई है।

10 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

चित्रकूट

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

संत मदनगोपाल दास ने राहत कोष में दिए 51 हजार

चित्रकूट/खोही। कामदनाथ मंदिर के प्रमुख संत मदनगोपाल दास ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 51 हजार रुपये की मदद की। उन्होंने जिलाधिकारी को चेक सौंपा। लॉकडाउन के चलते जिलेभर में कई स्थानों पर जरूरतमंदों को समाजसेवी व व्यापार मंडल के पदाधिकारी लगातार भोजन व अन्य राहत सामग्री पहुंचा रहे हैं।
श्री तुलसीपीठाधीश्वर जगदगुरु रामभद्राचार्य ने अपने उत्तराधिकारी रामचंद्रदास महराज के साथ मिलकर प्रमोद वन व आसपास के क्षेत्र में गरीब व जरूरतमंदों को भोजन बांटा। इस मौके पर सद्गुरु सेवा संघ ट्रस्ट जानकीकुंड के ऋषि कुमार सहित अन्य संगठनों के प्रतिनिधि तथा प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। युवा व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष राहुल गुप्ता की मौजूदगी में सराफा व्यापारी अतुल अग्रवाल व समाजसेवी रामबाबू गुप्ता ने शहर के दो वार्ड में जाकर गरीबों को भोजन बांटा। इस मौके पर गोलू गुप्ता, धर्मचंद्र व जितेंद्र धतुरहा आदि मौजूद रहे।
व्यापारी आपदा संगठन के विष्णु गुप्ता के नेतृत्व में गरीबों को 25 मार्च से राहत सामग्री बांटी जा रही है। ट्रैफिक चौराहा, पटेल तिराहा, एलआईसी तिराहा, बस स्टैंड, पुरानी बाजार होते हुए बेड़ी पुलिया तक पहले सैनिटाइजर से हाथ धुलवाया। इसके बाद चाय, बिस्किट, फल एवं भोजन के पैकेट आदि दिए गए। राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री शानू गुप्ता ने सोमवार को असहाय, निराश्रित, विधवा, दिव्यांगों को कहारन पुरवा, छोटा खटकाना, भैरोपाग, हरिजन बस्ती आदि जगहों में पदाधिकारियों के साथ जाकर आटा, दाल, चावल, तेल, नमक, मसाले, बिस्किट, सब्जी व साबुन का वितरण किया।
नरेंद्र मिश्रा, महेश गुप्ता, विमल गुप्ता, महेश केसरवानी, शैलेंद्र केसरवानी, मनोज वर्मा, आशीष वर्मा, गोपी निषाद, संतोष, जीतू वर्मा, बबलू पटेल आदि मौजूद रहे। बलदाऊगंज निवासी रितेश केशरवानी ने सहयोगियों के साथ मानिकपुर घाटी में आदिवासियों को राशन सामग्री का वितरित किया। बीएल गुप्ता, राहुल, मनोज गुप्ता, किशन आदि मौजूद रहे। शहर में आम आदमी पार्टी के जिला संयोजक पिंटू शुक्ला, बुंदेली सेना के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह, शंकर ढाबा के मालिक जयशंकर मिश्रा व समाजसेवी साहब लाल द्विवेदी ने भी कई स्थानों पर गरीबों को भेाजन के पैकेट बांटे।
... और पढ़ें

राज्य निर्वाचन आयोग की बनी योजना अधर में लटकी

चित्रकूट। लॉकडाउन का असर प्रदेश में होने वाले पंचायत चुनाव की तैयारियों पर असर पड़ रहा है। इन चुनावों को समय से करवाने के लिए राज्य निर्वाचन आयोग नें जो कार्य योजना बनाई थी। अब वह अधर में लटक गई हैं।
मतपत्रों की छपाई, मतपेटियों व चुनाव सामग्री आदि की आपूर्ति आदि के लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकी। वोटर लिस्ट के पुनरीक्षण के लिए अब नए सिरे से कार्ययोजना बनायी जाएगी। राज्य निर्वाचन आयोग के सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार प्रदेश की ग्राम पंचायतों के मौजूदा ग्राम प्रधानों की कार्यकाल 25 दिसंबर को समाप्त हो रहा है। इसी क्रम में अगले साल 13 जनवरी को जिला पंचायत अध्यक्ष और 17 मार्च को क्षेत्र पंचायत अध्यक्ष और का कार्यकाल पूरा हो जाएगा। उससे पहले वह चुनाव करवाए जाने जरूरी है। मगर मौजूदा हालत में समय से तैयारियां पूरी न होने पर पंचायत चुनाव को छह माह के लिए टाला भी जा सकता है।
आयोग के सूत्रों के अनुसार अगर 13 अप्रैल तक स्थितियां सामान्य रहेगी तो भी मई व जून के दो महीने में पंचायतों का परिसीमन पूरा किया जाएगा। जिन ग्राम पंचायतों का पिछले 5 वर्ष में शहरी निकायों मे विलय हुआ है। उसको हटाकर अब ऐसी पंचायतों के वार्ड लिस्ट का विस्तृत पुनरीक्षण शुरू होगा। जिसमें साढे़ तीन से चार महीने के समय लगेगा। इस लिहाज ये यह प्रक्रिया अक्टूबर में पूरी हो पाएगी। इसके बाद चुनाव की अधिसूचना जारी होने के बाद पूरी चुनाव प्रक्रिया संपन्न करवाने में 42 दिन का समय और चाहिए।
अपर जिला अधिकारी गणेश प्रसाद सिंह ने बताया कि इस मामले में उन्हें कोई दिशा निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है। शासनादेश के अनुसार ही आगे की कार्रवाई होगी। अभी पूरा जिला कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने संबंधी काम में लगे हैं।
... और पढ़ें

सीमाएं रहें सील, मध्यान्ह तक खुलें दुकानें

चित्रकूट। । जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय की अध्यक्षता में कलक्ट्रेट सभागार में कोरोना को लेकर समीक्षा बैठक हुई। जिसमें डीएम ने मातहतों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिले की सीमाएं पूर्व की तरह सील रखी जाएं। राशन सामग्री, सब्जी व अन्य आवश्यक वस्तुओं की कहीं कमी न होने दें। अनाज वितरण सही तरीके से होना चाहिए।
बैठक में उन्होंने कहा कि शासन स्तर पर लगातार जानकारी ली जा रही है। वेरिफिकेशन भी किया जाएगा। अत: काम में लापरवाही न हो। जिला पूर्ति अधिकारी से कहा कि कई संस्थाएं खाद्य सामग्री का वितरण करना चाहती हैं। उप जिलाधिकारी के माध्यम से जिन क्षेत्रों में जरूरत है, उन्हें चिह्नित कर वितरण कराएं। श्रम प्रवर्तन अधिकारी के बैठक में उपस्थित न होने पर जवाब तलब किया।
वहीं डीएम ने कंट्रोल रूम ड्यूटी में तैनात अधिकारियों से शिकायतों के विवरण की जानकारी की। कहा कि जिन विभागों की जो समस्याएं प्रतिदिन आ रही हैं, उनका तत्काल निस्तारण कराया जाए।
शिकायतकर्ता से फीडबैक भी लें, क्योंकि इसकी समीक्षा शासन से हो रही है। समस्याओं का निस्तारण तत्काल होना चाहिए। गोशालाओं पर सभी व्यवस्थाएं कर ले। भूसा के लिए गोशालाओं में स्थाई निर्माण कराकर किसानों से भूसा दान कराकर रखें। ताकि अगले माहों में कोई समस्या न हो। इसके अलावा उन्होंने कृषि, विद्युत, पानी आदि विभिन्न व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी की। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, उप जिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।
चित्रकूट। जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय ने आपदा नियंत्रण कक्ष मैं बैठक कर आने वाली समस्याओं की समीक्षा की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो भी आवश्यक वस्तुओं तथा अन्य समस्याएं प्राप्त हो रही हैं उनका तत्काल निस्तारण कराया जाए। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी जीपी सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रकाश सिंह, जिला दिव्यांगजन अधिकारी राजेश नायक आदि मौजूद रहे। संवाद
... और पढ़ें

मां का दूध बच्चे को दे कोरोना से लड़ने की ताकत

चित्रकूट। जिला अस्पताल के सीएमएस डा. आरके गुप्ता का कहना है कि मां का दूध बच्चों के लिए कोरोना वायरस से लड़ने के लिए बेहद कारगर है। मास्क पहनकर मां नवजातों को दूध पिलायें। इससे बच्चों में बेहद ताकत आती है।
कोविड-19 के दौरान भी छोटे बच्चों को पूर्ण आहार मिलता रहे। इस पर ध्यान देना बहुत ही जरूरी है, क्योंकि रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने के चलते कोरोना वायरस से संक्रमित होने का खतरा ज्यादा रहता है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भी इस बारे में लोगों को जागरूक कर रहा है। अस्पतालों को भी निर्देश है कि यदि मां कोविड-19 से संक्त्रस्मित है या उसकी सम्भावना है, तब भी स्वास्थ्य कर्मचारी स्वच्छता के सारे मानकों का पालन करते हुए बच्चे को जन्म के पहले घंटे में मां का दूध पिलाना सुनिश्चित करें। जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक वरिष्ठ बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. आरके गुप्ता का कहना है कि खांसने या छींकने पर बूंदों और एरोसेल के माध्यम से कोरोना फैलता है। यदि मां पूरी सावधानी के साथ अपने स्वच्छता व्यवहार पर ध्यान दे तो स्तनपान करने पर भी संक्त्रस्मण से बचा जा सकता है। बच्चे को जन्म के एक घंटे के भीतर पीला गाढ़ा दूध पिलाना इसलिए भी जरूरी है क्योंकि वही उसका पहला टीका होता है जो कि कोरोना जैसी कई बीमारियों से बच्चों की रक्षा कर सकता है । इसके अलावा मां के दूध में एंटीबॉडी होते हैं जो बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाते हैं और जिनकी प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है उनको कोरोना से आसानी से बचाया जा सकता है। शुरू के छह माह तक बच्चे को केवल मां का दूध देना चाहिए क्योंकि उसके लिए वही सम्पूर्ण आहार होता है । इस दौरान बाहर का कुछ भी नहीं देना चाहिए, यहाँ तक कि पानी भी नहीं , क्योंकि इससे संक्त्रस्मण का खतरा रहता है।
... और पढ़ें

चित्रकूट में एक साथ भेजे बीस सैंपल, अब तक की सभी रिपोर्ट नेगेटिव

चित्रकूट। जिले में अब तक सभी सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है। बृहस्पतिवार को जिले भर के कई स्थानों से लिए गए 20 सैंपल एक साथ लखनऊ भेेजे गए हैं। बुधवार को एक नये रोगी की प्राथमिक जांच में संदेह होने पर लखनऊ में कोरोना की जांच के लिए भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट अभी नहीं आई है। जिले के दो स्थानों पर लॉकडाउन के उल्लघंन पर 8 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मंडलायुक्त और डीआईजी ने कई स्थानों का निरीक्षण किया। अस्थाई होम क्वारंटीन में ठहरे लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण व भोजन के इंतजाम का निरीक्षण कर अधिकारियों ने कम्युनिटी किचन में बने भोजन की गुणवत्ता को भी परखा। इस दौरान उन्होंने नगर पालिका द्वारा शुरू किए गए कोरोना संक्रमणरोधी सुरंग का शुभारंभ किया। सुबह सब्जी व दूध खरीदने पहुंचे लोगों ने कई स्थानों पर सोशल डिस्टेंस का जमकर उल्लंघन किया।
चित्रकूटधाम मंडल के मंडलायुक्त गौरव दयाल तथा डीआईजी दीपक कुमार ने क्वारंटीन सेंटर राजकीय औद्योगिक संस्थान शिवरामपुर, सीपी सिंह आवासीय विद्यालय बेड़ी पुलिया, सामुदायिक किचन रैनबसेरा सीतापुर, टाउन हॉल, कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। मंडलायुक्त ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि जो सर्दी, जुकाम, खासी के मरीज प्रतिदिन आते हैं उनका सैंपल जांच के लिए अवश्य भेजा जाए। दवाओं की उपलब्धता सभी चिकित्सालय पर बनी रहे। कहीं पर कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। सभी लोग मास्क अवश्य लगाएं। सामुदायिक किचन रैन बसेरा सीतापुर व टाउन हॉल का निरीक्षण कर खाने की गुणवत्ता भी परखी।
नगर पालिका परिषद कर्वी के पास पालिका द्वारा बनाए गए कोरोना संक्रमणरोधी सुरंग की शुरुआत की। इस सुरंग से गुजरने वालों को सैनिटाइज किया जाएगा। कई पुलिसकर्मियों को इस स्थल से गुजरते हुए सैनिटाइज करते देखा गया। आसपास मौजूद निराश्रित तथा असहाय लोगों को अधिकारियों ने भोजन बांटे। कलक्ट्रेट में स्थापित कंट्रोल रूम का निरीक्षण कर शिकायत रजिस्टर देखकर कहा कि समय से समस्या का निस्तारण अवश्य कराएं। डीएम शेषमणि पांडेय, एसपी अंकित मित्तल, सीडीओ डॉ महेंद्र कुमार, एडीएम जीपी सिंह, सदर एसडीएम अश्वनी कुमार पांडेय, एएसपी बलवंत चौधरी, सीओ सिटी रजनीश यादव, ईओ नगर पालिका नरेंद्र मोहन मिश्र, सीएमओ डॉ विनोद कुमार सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।
आठ के खिलाफ मामला दर्ज
चित्रकूट। लाकडाउन का उल्लंघन करने पर रैपुरा में पांच व सीतापुर में तीन लोगों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया गया है। जिले में अबतक जिले में 94 वाहन व 80 से अधिक लोगों के खिलाफ लॉकडाउन उल्लघंन की कार्यवाही हो चुकी है।
सात पर लॉकडाउन उल्लघंन मे रिपोर्ट
राजापुर। लॉकडाउन का उल्लघंन करने पर राजापुर में चार लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई।इसके अलावा रैपुरा थाने में तीन अन्य के खिलाफ भी लॉकडाउन उल्लघंन करने का मामला दर्ज किया गया है। संवाद
... और पढ़ें

चित्रकूटः जमीन पर लेटकर इलाज का इंतजार करती रही महिला

चित्रकूट/मानिकपुर। कुत्ता काटने से एक महिला की हालत खराब होने पर परिजनों ने महिला को मानिकपुर अस्पताल में भर्ती कराया। यहां से जिला अस्पताल के लिए रेफर किया गया। महिला को 108 एंबुलेंस से जिला अस्पताल के इमरजेंसी गेट के बार छोड़ दिया गया। महिला जमीन पर ही लेटकर इलाज का इंतजार करती रही। स्वास्थ्य कर्मियों ने टरका दिया कि इसका कानपुर में ही इसका इलाज होता है।
मानिकपुर विकास खंड के बगदरी गांव की उर्मिला कोल पत्नी सूरज कोल को एक माह पहले कुत्ते के बच्चे ने काट लिया था। उसने इलाज नहीं कराया। जिसकी हालत खराब होने पर परिजनों ने मानिकपुर सामुदायिक अस्पताल में भर्ती कराया। डाक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। 108 एंबुलेंस से महिला को जिला अस्पताल में लाकर कर्मी इमरजेंसी वार्ड के गेट के पास छोड़कर चले गए। यहां महिला जमीन पर लेटी-लेटी इलाज का इंतजार करते रही। मां किरन ने बताया कि जिला अस्पताल के कुछ स्वास्थ्य कर्मियों से मिली। बताया गया कि रैबीज का इलाज यहां नहीं होगा। इसको कानपुर ले जाओ।
... और पढ़ें

ग्वालियर में पल्लेदारी करने वाले ग्रामीण चित्रकूट पहुंचे

चित्रकूट। ग्वालियर शहर में पल्लेदारी करने वाले आधा दर्जन ग्रामीण पैदल चलकर चित्रकूट पहुंचे है। जिसमें अधिकतर जिले की सीमा के पास स्थित मध्य प्रदेश के रीवा जिले के रहने वाले हैं।
लॉकडाउन होने से ग्वालियर शहर में पल्लेदारी करने वाले ग्रामीण परेशान थे। जिससे वह ग्वालियर से किसी तरह किसी वाहन से महोबा तक पहुंचे। इसके बाद लगभग 100 किमी पैदल चलकर चित्रकूट पहुंचे। जिसमें मध्यप्रदेश के रीवा जिले के उदय भान पुत्र मुन्नीलाल, दीपक पुत्र बृजविहारी, विजय पुत्र कमलेश, रामप्रकाश पुत्र श्रीनाथ, संदीप शिवलाल व चित्रकूट जिले के बरगढ़ निवासी भगवानदीन आए हैं। बताया कि रविवार को वह ग्वालियर से चले थे। उनकी स्वास्थ्य की जांच ग्वालियर व झांसी में की गई थी।
... और पढ़ें

चित्रकूट में जंगली जानवर ने बछडे़ का किया शिकार

फोटो-1- ग्वालियर से पैदल रींवा जाने को चित्रकूट पहुंचे मजदूर
चित्रकूट। रैपुरा वन रेंज के बसिला गांव के पास बाघ ने बछड़े पर हमला कर दिया। बछडे़े के चिल्लाने की आवाज सुनकर ग्रामीण पहुंचे तो बाघ मृत बछडे़ को छोड़कर भाग निकला। इसी दौरान कुछ दूरी पर एक खेत में जंगली बिल्ली (वन बिलार) के दो बच्चों को ग्रामीणों ने देखा। एक किसान दोनों बच्चों को अपने घर ले आया। मामले की जानकारी होने पर बुधवार को मौके पर वन विभाग की टीम गांव पहुंची। घटना की पूरी जानकारी के बाद वनकर्मियों ने दोनों बच्चों को जंगल में ही छोड़ने के लिए कहा है।
गांव में मंगलवार की देर रात को अचानक बछड़े के चिल्लाने की आवाज सुनकर ग्रामीण खेतों की ओर दौड़े। किसान सीताराम सिंह ने बताया कि उसके खेत के पास बंधे गाय के बछडे़ का शिकार हुआ है। वह मृत अवस्था में मिला है। ग्रामीणों के पहुंचने पर हमलावर जानवर भाग निकला है। ग्रामीणों के अनुसार बाघ या लकड़बग्घे ने ही हमला किया होगा। इस क्षेत्र में यह दोनों जानवर कई दिनों से देखे जा रहे हैं। वन दरोगा ने भी बताया कि यह शिकार बाघ या लकडबग्घे ने ही किया है लेकिन मौके से किसी के न मिलने पर संदेह बना है। ग्रामीणों के जल्द पहुंच जाने से हमलावर शिकार को अपने साथ नहीं ले जा सका। इससे ग्रामीण भयभीत हैं। बसिला गांव के किसान भूपेंद्र सिंह मंगलवार को अपने खेत गया था। वहां पर दो जंगली जानवर के बच्चे पडे़ थे। जिनको उठाकर अपने घर ले लाकर शीशी से दूध पिलाया। जानकारी होने पर वन विभाग के रैपुरा के दरोगा रामऔतार पहुंच गए। देखा तो दोनो बच्चे जंगल में पाए जाने वाले वनविलार के बच्चे है। जिस पर कहा कि जहां कही बच्चों की मां दिखे वहीं पर बच्चों को छोड़ दिया जाए।
... और पढ़ें

हनुमान जयंती पर बूडे़ हनुमान मंदिर में केक काटकर जलाए गए दीप

खोही(चित्रकूट)। धर्मनगरी में भगवान श्रीहनुमान जयंती लॉकडाउन के चलते मंदिरों के अंदर ही मनाई गई। कहीं भी भक्तों की भीड़ नहीं जुट पाई। मंदिर परिसर में ही हवन पूजन आरती व भंडारे का आयोजन किया गया। सीतापुर स्थित बूड़े हनुमान जी मंदिर में बुधवार को हनुमान जयंती की धूम रही। 11 सौ तेल के दीप जलाए गए। 40 स्वच्छता कर्मचारियों को भंडारे का प्रसाद वितरित किया गया। भक्तों ने केक काटकर बजरंगी का जन्म दिन मनाया स सभी ने कोरोना से धर्मनगरी को बचाने के लिए भी प्रार्थना की।
मंदिर के पुजारी रामदास महाराज ने बताया कि इस बार हनुमान जयंती पर बैठ कर भंडारा कराने की बजाय भंडारे का प्रसाद सीतापुर के 40 सफाई कर्मियों को वितरित कर दिया गया। सभी साधकों ने बजरंगी से प्रार्थना किया कि धर्मनगरी को कोरोना से बचाएं साथ ही अखिल विश्व के कल्याण की कामना की गई। इस दौरान केशरी तिवारी, आनंद सिंह पटेल,बुन्देली सेना के जिलाध्यक्ष अजीत सिंह, जानकी शरण गुप्ता, दादू केशरवानी, रोहित नारायण आदि मौजूद रहे ।
... और पढ़ें

चित्रकूट में लॉकडाउन के दौरान 50 कर्मचारियों को हटाया

चित्रकूट। एक ओर लॉकडाउन चल रहा है दूसरी ओर विद्युत विभाग में कार्यरत संविदा कर्मियों की छंटनी की जा रही है। जिले में कार्यरत 50 संविदा कर्मियों को हटाए जाने की जानकारी होने पर संघ ने कड़ा एतराज जताया है। बुधवार को नाराज कर्मचारियों ने एसई विद्युत वितरण खंड को ज्ञापन सौंपा है। बताया कि इस घड़ी मेें उन्हें हटाया जाना निंदनीय है और इसके पूर्व भी कई संविदा कर्मियों को तीन से चार माह का मानदेय भी नहीं मिला है, जिससे वह सब परेशान हैं।
जिले में 189 संविदा विद्युत कर्मी तैनात हैं। इनके सहारे ही जिले की विद्युत व्यवस्था रहती है। संविदा कर्मियों से कार्य कराने व मानदेय देने के लिए हर साल निजी कंपनियों को ठेका दिया जाता है। पिछले साल एसके एसोसिएट कंपनी को ठेका मिला था। मार्च में किसी दूसरे कंपनी को ठेका दे दिया गया है, जिसके अधिकारियों ने संविदा कर्मियों की छंटनी क रने के लिए कहा है। उप्र बिजली कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष चंद्रभान पांडेय ने कहा कि 50 कर्मचारियों के हटाने की जानकारी मिली है। इसका संघ विरोध करेगा। यदि उनको हटाया गया तो परिवार के सदस्यों की रोजी रोटी कौन चलाएगा। जिले में इस समय विद्युत उपभोक्ताओं की शिकायतें सप्लाई नियमित कराने के लिए लगातार बढ़ रहीं हैं। विद्युत व्यवस्था का विस्तार करने के लिए कई स्थानों पर कार्य भी चल रहा है। ऐसे में संविदा कर्मियों की छंटनी कर दी जाएगी तो विद्युत व्यवस्था सही नहीं रहेगी।जिलाध्यक्ष चंद्रभान पांडेय, कार्यवाहक अध्यक्ष रामआसरे, उपाध्यक्ष राकेश त्रिपाठी, मंत्री उत्तम लाल, उपमंत्री सुशील चंद्र जोशी, मीडिया प्रभारी जुनैद हुसैन आदि मौजूद रहे। इस मामले में एसई पीके मित्तल ने बताया कि संविदाकर्मियों को नियुक्त करने वाली कंपनी के अधिकारियों को बातचीत के लिए बुलाया गया है। इसके बाद ही कोई निर्णय होगा।
... और पढ़ें

चित्रकूट ः सहायता में जुटे कर्मयोद्धा, बस्ती में बांट रहे भोजन का पैकेट

चित्रकूट। जब पूरा देश कोरोना वायरस से लड़ने का प्रयास कर रहा है। तो इस दौरान कुछ परिवार के सामने रोजी रोटी का संकट है। ऐसे में कई कर्मयोद्धा मैदान में हैं। महात्मा गांधी ग्रामोदय विश्वविद्यालय के जनसंपर्क अधिकारी जयप्रकाश शुक्ला व दलगत नीति से ऊपर उठकर आम आदमी पार्टी के जिला संयोजक ठेलिया लेकर जरूरतमंदों के घर-घर जा रहे हैं। संस्कार सेवा ट्रस्ट के माध्यम से यह कर्मयोद्धा सड़क किनारे रहने वाले अथवा बाहर से आने वाले भूखे लोगों को ट्रैफिक चौराहे से लेकर बस्ती तक खुद ठेलिया ले जाकर भोजन बांट रहे हैं।
कोरोना वायरस आपदा सहायता शिविर के माध्यम से ट्रैफिक चौराहा से गुजरने वाले जरूरतमंदों निराश्रित असहाय एवं गरीब जनों को भोजन के पैकेट उपलब्ध कराया गया। ट्रस्टी राजवैद्य कृष्ण कांत शास्त्री जय प्रकाश शुक्ल संतोषी लाल शुक्ल व हरिश्चंद्र के नेतृत्व में संस्कार सेवा ट्रस्ट के स्वयं सेवकों ने सचल हाथ ठेलिया शिविर के माध्यम से रास्ता में मिलने वाले गरीब परिवार के लोगों को शुद्ध भोजन पैकेट उपलब्ध कराया। इस कार्य में लवलेश केसरवानी, शिव नारायण केसरवानी, नर्मदा प्रसाद यादव उर्फ लल्लू, संजय गुप्ता, लालचंद केसरवानी, अवध बिहारी कोरी, कृष्णा, ललिता केसरवानी, मोहनलाल कुशवाहा, शिवानी केसरवानी आदि का भी सहयोग जारी है।
... और पढ़ें

चित्रकूटः पार्सल स्पेशल मालगाड़ी चलने से मिली सहूलियत

चित्रकूट। लॉकडाउन के दौरान चित्रकूटधाम कर्वी रेलवे स्टेशन प्लेटफार्म नंबर एक पर ट्रेन रूकी तो आसपास के लोगों को लगा कि अब ट्रेन सेवा बहाल हो गई है। लेकिन कुछ देर बाद पता चला कि यह पार्सल बुकिंग ट्रेन है पैसेंजर नहीं है। रेलवे विभाग ने आम आदमी की सहूलियत के लिए पार्सल स्पेशल मालगाड़ी की शुरूआत की है। जो बुधवार को चित्रकूट धाम रेलवे स्टेशन पहुंची। पार्सल की सुविधा शुरू हो जाने से आम जनता का समान एक स्थान से दूसरे स्थान पहुंच जाएगा। ट्रेन की सूचना व पार्सल किए गए सामान की सूचना नेट के माध्यम से जानकारी मिलती रहेगी। वही व्यापारियों का कहना कि कानपुर स्टेशन से ट्रेन चलना चाहिए। यहां के व्यापारी कानपुर से ही अधिक सामान मंगवाते हैं।
पार्सल स्पेशल मालगाड़ी आठ से 14 अप्रैल के बीच प्रतिदिन झांसी व प्रयागराज से चलाई गई है। जिसमें झांसी से चलने वाली पार्सल मालगाड़ी सुबह चित्रकूट धाम रेलवे स्टेशन पर 10 बजकर 45 मिनट पर कर्वी पहुंचेगी। पांच मिनट रुकने के बाद आगे रवाना होगी। इसी तरह प्रयागराज से आने वाली स्पेशल मालगाड़ी चित्रकूट धाम पर 9 बजकर 20 बजे आएगी। दोनो पार्सल माल गाड़ी बुधवार निर्धारित समय पर पहुंची। इसकी लोकेशन इंटरनेट पर भी देखी जा सकेगी। इन ट्रेनों से माल प्रयागराज पहुंचाने पर मुंबई हावड़ा और दिल्ली हावड़ा रूट के सभी स्टेशन तक पहुंच सकेगा। व्यापारी नेता गुलाब गुप्ता, रामबाबू गुप्ता, शिवपूजन गुप्ता आदि ने बताया कि पार्सल की सुविधा शुरू होने से सहूलियत मिलेगी। व्यापारी अपने दुकान के लिए सामग्री शहरों से मंगवा सकते हैं। वही व्यापारियों का कहना है कि इस रूट से पार्सल गाड़ी चलने से यहां के व्यापारियों को कोई फायदा होने वाला नहीं है। कानपुर शहर से अधिकतर व्यापारी सामान लाते हैं। चलाई गई पार्सल मालगाड़ी से कोई फायदा नहीं होगा। स्टेशन मास्टर आरसी यादव ने बताया कि आज कोई भी पार्सल नहीं भेजा गया।
... और पढ़ें

चित्रकूट में छह की रिपोर्ट निगेटिव, कोरोना की आशंका पर एक का सैंपल भेजा

चित्रकूट। जिले में एक नए रोगी की प्राथमिक जांच में संदेह होने पर लखनऊ में कोरोना की जांच के लिए सैंपल भेजा गया है। इसके पूर्व भेजे गए छह संदिग्धों के सैंपल जांच की रिपोर्ट आज आ गई। सभी की रिपोर्ट निगेटिव होने पर प्रशासन ने राहत की सांस ली है। अब तक जिले में 6 हजार से अधिक लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग कराई जा चुकी है। जिले में बनाए गए 27 अस्थाई होम क्वारंटीन में 763 ठहराए गए लोगों में फिलहाल सभी मौजूद हैं। जिला अस्पताल समेत पूरे जिले में 10 लोगाें का कोरोना वायरस के संदेह पर जांच की गई लेकिन किसी में प्राथमिक लक्षण नहीं मिले।
लॉकडाउन के दौरान बुधवार को जिले में सुबह सब्जी व दूध खरीदने पहुंचे लोगों ने सोशल डिस्टेंस का जमकर उल्लघंन किया। जिला प्रशासन का पूरा ध्यान अस्थाई क्वारंटीन सेंटर में ठहरे लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण व भोजन के इंतजाम पर रहा। सबसे बड़ी राहत की बात यह रही कि दो दिन पूर्व भेजे गए छह लोगों के सैंपल की रिपोर्ट में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिले हैं। इसके बाद शाम को पता चला कि पहाड़ी ब्लाक क्षेत्र के एक गांव के 14 माह के बालक में इस वायरस की संभावना पर सैंपल लिया गया। जानकारी होते ही पूरा विभाग अलर्ट हो गया। सीएमएस डॉ.आरके गुप्ता ने इसकी जांच कराकर सीएमओ को रिपोर्ट भेजी। इसमें निमोनिया बुखार होने की ज्यादा संभावना थी। सीएमओ डॉ. विनोद कुमार ने बताया कि वैसे तो कोरेाना का संदेह नहीं है, लेकिन एतियातन इसका सैंपल लेकर लखनऊ भेजा गया है। दो दिन में इसकी रिपोर्ट आएगी। डीएम शेषमणि पांडेय तथा पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने बुधवार को जनपद में विभिन्न स्थानों का भ्रमण कर लाक डाउन व्यवस्था का जायजा लिया। सदर तहसील अंतर्गत गोस्वामी तुलसीदास महाविद्यालय बेड़ी पुलिया तथा सीपी सिंह आवासीय विद्यालय में ठहरे लोगों से खानपान स्वास्थ्य आदि के बारे में जानकारी की। तहसील मऊ अंतर्गत राजकीय पॉलिटेक्निक बरगढ़ तथा पूर्व माध्यमिक विद्यालय मुर्का में ठहरे व्यक्तियों के खानपान स्वास्थ्य आदि व्यवस्थाओं देखीं। उन्होंने व्यक्तियों से कहा कि मास्क, तौलिया, साफी, गमछा से मुंह अवश्य ढके रहें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अवश्य किया जाए। प्रधानाचार्य राजकीय पॉलिटेक्निक बरगढ़ को निर्देश दिए कि विद्यालय जहां टूटा फूटा है उसका मरम्मत कराएं। उन्होंने तहसीलदार से ठहरने वालों की सूची बनाने के लिए कहा। जिनके 14 दिन पूर्ण हो गए हैं उनसे हलफनामा लेकर संबंधित गांव के ग्राम प्रधान से भी लिखित रूप में लेकर भेजने की व्यवस्था करें। छोटे बच्चों को दूध की भी व्यवस्था कराते रहें। उन्होंने विद्यालयों में नामित अधिकारियों को निर्देश दिए कि लगातार निरीक्षण कर विद्यालयों में ठहरे हुए लोगों के इंतजाम करें। प्रत्येक दिन लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य होता रहे। कोई भी व्यक्ति बीमार न होने पाए। अगर कोई व्यक्ति बीमार पाया जाता है तो उसे तत्काल चिकित्सालय में भर्ती कराकर उपचार कराएं। इसके अलावा जिले में अबतक जिले में 90 वाहन व 72 से अधिक लोगों के खिलाफ लॉकडाउन उल्लघंन की कार्रवाई हो चुकी है।
इनसेट...
ड्यूटीरत लेखपाल के वाहन का चालान
चित्रकूट। ओलावृष्टि की रिपोर्ट में जंाच कर लौटे लेखपाल के वाहन का शहर के ट्रैफिक चौराहे पर पुलिसकर्मियों ने चालान कर दिया। भरथौल के लेखपाल लवसिंह ने बताया कि मंगलवार को वह रिपोर्ट लेकर तहसील जा रहे थे। रास्ते में पुलिसकर्मियों ने उनका लॉकडाउन के उल्लघंन का आरोप लगाकर चालान काट दिया। इसकी जानकारी होने पर उप्र लेखपाल संघ उपशाखा कर्वी के अध्यक्ष पुरुषोत्तम शुक्ल व सचिव शारदा प्रसाद संगम ने इसका कड़ा विरोध जताया है। एसडीएम को लिखे पत्र में बताया कि संबधित लेखपाल ड्यूटी कार्ड व वाहन के कागजात भी दिखाए, लेकिन पुलिसकर्मियों ने उनकी एक न सुनी। इस पर रोक लगाई जाए।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Banda + Chitrakoot Ad
Banda + Chitrakoot Ad
Banda + Chitrakoot Ad

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us