विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

यूपी: प्रदेश में कोरोना से तीसरी मौत, गौतमबुद्धनगर में 30 अप्रैल तक धारा 144 लागू

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। तब्लीगी जमात में शामिल हुए लोगों के कारण संक्रमण का आंकड़ा और भी तेजी से बढ़ा है।

5 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

देवरिया

रविवार, 5 अप्रैल 2020

बेटा आया दिल्ली से, पिता ने कहा पहले जाओ जांच कराओ

बेटा आया दिल्ली से, पिता बोले-पहले जांच कराओ
चनुकी(देवरिया)। बृहस्पतिवार की सुबह एक युवक कार से गांव पहुंचा। पिता ने उसे घर के बाहर ही रोक दिया। कहा, पहले अपनी जांच कराओ फ़िर अंदर आना। यह बात युवक की मां को बुरा लगा, लेकिन कोरोना ने सभी को मजबूर कर दिया है। पिता स्वयं पुत्र को साथ लेकर अस्पताल पहुंचे और जांच कराकर डॉक्टर की सलाह पर युवक को आइसोलेट कर दिया।
लार थानाक्षेत्र के भरौली निवासी संतोष तिवारी का बेटा अभय तिवारी दिल्ली में रहता है। देश में लॉकडाउन हो जाने के बाद वह वहीं था। बुधवार को अभय अपनी कार से गांव चला और सुबह घर पहुंचा। कार दरवाजे पर लगा कर ज्यो हीं वह उतरा, घर के अंदर से निकले पिता ने उसे रोककर जांच कराने की बात कही। यह बात युवक की मां को अच्छा नहीं लगा वह घर के अंदर से बाहर निकल कर हस्तक्षेप करना चाही, लेकिन बीमारी को लेकर कुछ नहीं कह सकीं। पिता पुत्र को तुरंत सीएचसी लेकर पहुंचे और थर्मल स्क्रीनिंग कराया। डॉक्टर ने सुझाव दिया कि इन्हें 14 दिन तक कहीं अलग रखा जाय। डॉक्टर की बात मान कर युवक को घर के बाहर एक कोठरी में रखवा दिया गया। सूचना पर एसओ गिरिजेश तिवारी गांव पहुंच कर इसकी जानकारी ली।
... और पढ़ें

दुष्कर्म के आरोपी को पकड़ने वाले पुलिसकर्मियों की हुई स्क्रीनिंग

दुष्कर्म के आरोपी को पकड़ने वाले पुलिसकर्मियों की हुई स्क्रीनिंग
भटनी (देवरिया)। दुष्कर्म के एक आरोपी को जेल प्रशासन ने इलाज के लिए गोरखपुर स्थित मेडिकल कॉलेज में भेजा है। उसे तेज बुखार और गले में दर्द की शिकायत थी। इसकी जानकारी होते ही स्थानीय पुलिस सकते में है। एसओ से लेकर ड्यूटी में तैनात चौकीदार सभी का बुधवार देर रात पीएचसी में थर्मल स्क्रीनिंग कराया गया। पीड़ित किशोरी को घर में ही क्वारंटीन किया गया है।
रुद्रपुर कोतवाली के एक गांव के रहना वाला युवक भटनी की रहने वाली एक किशोरी का कुछ दिन पहले अपहरण कर लिया था। किशोरी के परिजनों की शिकायत पर पुलिस युवक की तलाश में जुटी थी। सोमवार रात पुलिस ने युवक को किशोरी के साथ पकड़ लिया। उसके खिलाफ दुष्कर्म सहित गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया गया। मंगलवार शाम को आरोपी को लेकर पुलिस जेल पहुंची। जेल कर्मियों ने युवक की थर्मल जांच कराई तो वह कोरोना संदिग्ध निकला। जिला अस्पताल से पहुंचे डॉक्टरों ने उसका इलाज किया। बुधवार शाम कोरोना के लक्षण दिखने पर उसे मेडिकल कॉलेज गोरखपुर भेजा गया। इसकी जानकारी जैसे ही भटनी पुलिस को मिली वह परेशान हो गई। क्योंकि वह करीब 20 घंटे तक भटनी थाने में रहा था। ऐसे में एसओ से लेकर थाने पर तैनात सभी पुलिसकर्मियों का थर्मल स्क्रीनिंग पीएचसी पर कराया गया, जहां डॉक्टर एनपी सिंह ने सबको सामान्य बताया। पीड़ित किशोरी को घर में ही एक कमरे में रखा गया है। इस संबंध में एसओ भीष्मपाल सिंह यादव ने कहा कि सबकी जांच हुई है। आरोपी को जेल ले जाने वाले पुलिसकर्मियों को सतर्कता बरतने को कहा गया है। वैसे गोरखपुर में आरोपी युवक ठीक बताया जा रहा है।
... और पढ़ें

जलसे में जुटे 40 लोग, पुलिस पहुंची तो भागे

जलसे में जुटे 40 लोग, पुलिस पहुंची तो भागे
भटनी (देवरिया)। मुख्य दरवाजे पर ताला बंदकर एक मकान में जलसा हो रहा था। गांव वालों की शिकायत पर जब पुलिस ने छापा मारा तो लोग पीछे के दरवाजे से भाग निकले। पुलिस अब मकान मालिक से पूछताछ कर रही है।
कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन है। लोगों से घरों में रहने की अपील की जा रही है। मंदिर और मस्जिद में भी जुटने से लोगों को रोका गया है। किसी भी हाल में भीड़ जुटाने पर मनाही है। ऐसे में भटनी क्षेत्र के छपिया जयदेव गांव में एक मकान में जलसा हो रहा था। इसमें आसपास के गांवों से करीब 40 लोग पहुंचे थे। इसी दौरान किसी ने इसकी शिकायत पुलिस से कर दी, लेकिन जब तक पुलिस पहुंचती, वहां जुटे लोग पीछे के दरवाजे से निकल भागे। एसओ भीष्मपाल सिंह यादव ने कहा कि जलसे में लोगों के जुटने की शिकायत मिली थी। पुलिस के पहुंचने पर लोग भाग गए। मकान मालिक और गांव वालों से पूछताछ कर जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

देवरिया: पुलिस पर हमले में 18 नामजद कई अज्ञात पर केस, गांव में पसरा सन्नाटा

रामपुर कारखाना के बसंतपुर गांव में शुक्रवार को जुमे की नमाज को लेकर हुए विवाद में रामपुर कारखाना पुलिस ने 18 नामजद और 35 अज्ञात लोगों पर केस दर्ज कर लिया है। पुलिस की इस कार्रवाई से नमाजियों में हड़कंप मच गया है। शनिवार को गांव में सन्नाटा पसरा रहा। गांव में ज्यादातर महिलाएं और बच्चे ही अपने घरों में हैं।

वैश्विक कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए हुए लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए क्षेत्र के बसतंपुर गांव स्थित मस्जिद में शुक्रवार को नमाजियों का हुजूम उमड़ पड़ा। सूचना पर पहुंची पुलिस की तरफ से नमाज पढ़ने से मना करने पर वे भड़क गए और विवाद पर उतारू हो गए। पुलिस पर पथराव भी किया गया।

गलियों से अन्य लोग भी समर्थन में उतर आए। धारदार हथियारों का प्रदर्शन कर पुलिस पर दबाव बनाया गया। सूचना पर तत्काल फोर्स के साथ पहुंचे रामपुर कारखाना के इंस्पेक्टर जयंत सिंह ने नमाजियों को मस्जिद के अंदर ही घेर लिया। थोड़ी ही देर बाद एसडीएम सदर दिनेश मिश्र, सीओ सिटी निष्ठा उपाध्याय और तीन थानों की फोर्स पहुंची। इसके बाद मामला शांत हुआ।

देर रात इस मामले में पुलिस ने 18 नामजद और 35 अज्ञात आरोपियों पर केस दर्ज कर लिया। जानकारी होते ही आरोपी गांव से भाग निकले। महिलाएं और बच्चे ही अपने घरों में दिखाई दे रहे हैं। गांव में शनिवार को माहौल पूरी तरह शांत रहा।

चर्चा है कि रामपुर कारखाना थाने के इंस्पेक्टर यदि समय से फोर्स के साथ नहीं पहुंचते तो हालात अलग होते। इस बाबत इंस्पेक्टर जयंत कुमार सिंह ने बताया कि देश संकट से जूझ रहा है। नमाजियों ने लॉकडाउन का उल्लंघन किया। उनके खिलाफ केस दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। लॉकडाउन तोड़ने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।
... और पढ़ें
Deoria Police Deoria Police

रापुर कारखाना पुलिस ने 1

13 मौलवियों समेत 14 को आइसोलेशन वार्ड में किया गया भर्ती
शहीनबाग के रहने वाले हैं मौलवी, पुलिस की कस्टडी में लाए गए जिला अस्पताल
खुखुन्दू थाना क्षेत्र के खजुरी गांव में लिए थे ठौर, मेडिकल कॉलेज भेजा गया सैंपल
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। शहीन बाग से आए कोरोना के संदिग्ध 13 मौलवियों समेत 14 लोगों को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। कई दिनों से मौलवी गुपचुप तरीके से खुखुन्दू के एक गांव में ठौर लिए थे। सभी का सैंपल जांच के लिए गोरखपुर मेडिकल कॉलेज भेज दिया गया है। पुलिस की मौजूूदगी में सैंपलिंग की कार्रवाई पूरी हुई।
भलुअनी ब्लॉक के खजुरी गांव निवासी शिक्षक समीउल्लाह के घर शहीनबाग से आकर 13 मौलवी 17 मार्च से रह रहे थे। इसकी खबर मिलते ही जिम्मेदार हरकत में आ गए। ठिकाना देने वाले शिक्षक पर केस दर्ज किया। 15 मौलवियों को पुलिस की मदद से जिला अस्पताल लाया गया। तापमान जांच के बाद इनको आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। इसके अलावा एक युवक सदर कोतवाली क्षेत्र के गांव का भी पहुंचा था, कोरोना संदेह के लक्षण के आधार पर इसे भी आइसोलेशन वार्ड में डॉक्टरों की टीम ने भर्ती किया। पुलिस की पूछताछ में मौलवियों ने बताया कि धर्म का प्रचार-प्रसार करना काम है। 11 मार्च को दिल्ली से हम लोग प्रयागराज आए, वहां से खुखुंदू आए थे, लॉकडाउन के कारण यहीं पर रुक गए। खुखुंदू पुलिस पूरे दिन आइसोलेशन वार्ड के बाहर मुस्तैद रही। इस बाबत सीएमएस डॉ. छोटेलाल ने बताया कि 14 लोगों का सैंपल लिया गया है, जिसमें 13 मौलाना शाहीनबाग के रहने वाले हैं।
स्वास्थ्य विभाग के डायरेक्टर के निर्देश पर लिया गया सैंपल
देवरिया। खजुरी में मौलवियों के ठहरने की जानकारी चार दिन पूर्व प्रशासन को हुई। जिला प्रशासन के निर्देश पर सिर्फ मौलवियों को शरण देने वालों पर केस दर्ज कराकर चुप्पी साथ लिया। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग के डायरेक्टर ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए सीएमओ से वार्ता की थी। सीएमओ ने शाहीनबाग से आने की जानकारी मौलवियों को दी। डायरेक्टर ने तत्काल इनका सैंपल कराने के निर्देश दिए। इस आधार पर मौलवियों का सैंपल लिया गया।
डीएम, एसपी ने जाना हाल
देवरिया। सैंपल लेने के बाद 100 बेड के मैटरनिटी विंग में बनाए गए आइसोलेशन वार्ड में मौलवियों को रखा गया। इसके पहले डीएम अमित किशोर और एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र पहुंचे और निरीक्षण कर जरूरी निर्देश दिए। सीएमओ ने एसपी से बात कर डॉक्टर और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए पुलिस की ड्यूटी लगाने की मांग की।
आइसोलेशन वार्ड में दम तोड़ने वाले युवक की रिपोर्ट निगेटिव
युवक की मौत के बाद दहशत में थे गांव वाले, स्वास्थ्य विभाग ने ली राहत की सांस
अभी तक आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 12 लोगों की हो चुकी है जांच, युवक में खून की थी कमी
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। आइसोलेशन वार्ड मेें कोरोना के संदिग्ध के दम तोड़ने वाले युवक की रिपार्ट निगेटिव आई है। अभी तक जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 12 कोरोना संदिग्ध लोगों को भर्ती किया गया है सभी की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है।
खामपार इलाके के एक गांव युवक मुंबई में रहता था। लॉकडाउन से पूर्व वह घर आया। उसके बाद से उसकी तबीयत बिगड़ने लगी। सांस लेने में उसे तकलीफ हुई तो घर वाले उसे जिला अस्पताल लेकर बृहस्पतिवार की रात पहुंचे। कुछ देर बाद बैतालपुर इलाके का भी एक कोरोना संदिग्ध को भर्ती किया गया। शुक्रवार को खामपार का 18 वर्षीय युवक की आइसोलेशन वार्ड में मौत हो गई। इसकी खबर मिलते ही स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदार परेशान हो गए। सैनिटाइज करने के बाद शव को कड़ी सुरक्षा के बीच घर वालों को सुपुर्द किया गया। पुलिस की मौजूदगी में सीधे शव को अंत्येष्टि स्थल पर पहुंचाया गया और दाह संस्कार किया गया। गांव व इलाके के लोगों में कोरोना से मौत का डर बना हुआ था। मेडिकल कॉलेज से निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य महकमा और लोगों ने राहत की सांस ली। इस बाबत सीएमओ डॉ. आलोक पांडेय ने बताया कि अभी तक आइसोलेशन में 12 लोगों को भर्ती किया गया था। सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है।
80 से अधिक लोगों की हुई जांच
देवरिया। जिला अस्पताल के कोरोना ओपीडी में 80 से अधिक गैर प्रांतों से आए लोगों की जांच हुई। कोरोना ओपीडी में आने वालों की संख्या कम नहीं हो रही है। वहींख् आइसोलेेशन वार्ड में डॉ. डीके सिंह, स्टाफ नर्स कमलेश, राजीव पांडेय समेत कई कर्मचारी जमे रहे।
... और पढ़ें

परिषदीय स्कूलों में ठहरे लोगों का ख्याल रखेंगे दो शिक्षक

परिषदीय स्कूलों में ठहरे लोगों का ख्याल रखेंगे दो शिक्षक
प्रत्येक स्कूल में बने क्वारंटीन सेंटर में दो-दो शिक्षकों की लगाई गई ड्यूटी
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जिन परिषदीय विद्यालयों को क्वारंटीन सेंटर बनाया गया है, उन विद्यालयों के दो शिक्षक अब इनकी निगरानी करेंगे। जिला प्रशासन ने दो-दो शिक्षकों को दो शिफ्ट में यहां इन लोगों का ख्याल रखने की ड्यूटी लगाई है।
बीएसए प्रकाश नारायण श्रीवास्तव ने शनिवार को बताया कि जिलाधिकारी के आदेश पर शिक्षकों की ड्यूटी दो शिफ्टों में लगाई गई है। इस संबंध में सभी बीईओ को निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं। इसके अंतर्गत प्रधानाध्यापक, सहायक अध्यापक अपने यहां के दो लोगों की ड्यूटी विद्यालयों पर सुबह सात से अपराह्न एक बजे तक तथा अपराह्न एक से शाम सात बजे तक विद्यालय पर उपस्थित रहकर इस माहौल में जनसहभागिता एवं सहयोग करेंगे। अपरिहार्य स्थिति में निकट के परिषदीय विद्यालय के शिक्षक, शिक्षामित्र व अनुदेशक आदि से मानव संसाधन की व्यवस्था की जाएगी। ये शिक्षक वहां रखे गए लोगों का ख्याल रखेंगे। कोई बात होने पर कंट्रोल रूम को सूचना देंगे। जो भी शिक्षक, शिक्षामित्र या अनुदेशक यहां ड्यूटी करेंगे, वह मॉस्क, सैनिटाइजर का प्रयोग करते हुए सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करेंगे। हाथ की सफाई का वह विशेष ध्यान रखेंगे।
... और पढ़ें

लाउडस्पीकर से किया अजान तो जाएंगे जेल

लाउडस्पीकर से किया अजान तो जाएंगे जेल
जिला प्रशासन की ओर से शनिवार को मौखिक रूप से लगाई गई रोक
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। अजान के लिए मस्जिदों लाउडस्पीकर का प्रयोग नहीं कर सकेंगे। ऐसा किया तो जेल भी जाना पड़ सकता है। पांचों वक्त की नमाज अपने घर में पढ़नी है। शनिवार को जिला प्रशासन की ओर से इस तरह का मौखिक आदेश दिया गया है। इसका हरहाल में अनुपालन भी करना ही होगा।
शनिवार को सदर कोतवाली थाने में एसडीएम सदर दिनेश मिश्र और सीओ सिटी निष्ठा उपाध्याय ने मुस्लिम धर्मगुरुओं के साथ बैठक की। कोराना वायरस को देखते हुए उनसे अजान के लिए लाउडस्पीकर का प्रयोग नहीं करने की बात कही गई। अधिकारियों ने कहा कि पांचों वक्त की नमाज सभी लोग अपने घरों में ही रहकर पढ़ें। मौलाना अहमद रजा ने बताया कि लाउडस्पीकर से अजान होने पर लोगों को नमाज पढ़ने की जानकारी हो जाती थी। हर दिन नमाज पढ़ने का समय अलग-अलग होता है। अजान नहीं होने पर लोग नमाज का सही वक्त नहीं जान पाएंगे। कोरोना महामारी के चलते प्रशासन के लोगों ने बैठककर इसका प्रयोग न करने की हिदायत दी है। लाउडस्पीकर का प्रयोग न होने से सूना-सूना लग रहा है, लेकिन प्रशासन के निर्देश का पालन करना है। इस संबंध में एएसपी शिष्यपाल ने बताया कि कोरोना महामारी से लड़ने के लिए लॉकडाउन का पालन जरूरी है। लोग अपने घरों में रहकर समय-समय से नमाज पढ़ते रहे। इससे किसी को कोई दिक्कत नहीं होगी।
... और पढ़ें

देवरिया: मस्जिद में नमाज पढ़ रहे थे लोग, पुलिस ने रोका तो जमकर की पत्थरबाजी, तलवार लेकर दौड़ाया

रामपुर कारखाना क्षेत्र के बसंतपुर गांव स्थित मस्जिद में सामूहिक नमाज होने की सूचना पर वहां पहुंचे पुलिसकर्मियों पर पथराव किया गया । यही नहीं, गली में मौजूद कुछ लोगों ने  धारदार हथियार लेकर पुलिस को दौड़ा लिया, लेकिन सिपाही भी पीछे नहीं हटे। उन्होंने उच्चाधिकारियों को सूचना देकर मोर्चा संभाले रखा।

कुछ देर में ही फोर्स के साथ एसडीएम सदर और सीओ भी पहुंच गए। बाद में माफीनामा लिखवाकर सभी को छोड़ दिया गया। हालांकि इस मामले में 18 नामजद और कुछ अज्ञात लोगों पर केस दर्ज किया गया है।

बसंतपुर गांव स्थित बड़ी मस्जिद में शुक्रवार दोपहर को जुमे की नमाज के लिए नमाजियों का हुजूम उमड़ पड़ा। किसी ने इसकी जानकारी पुलिस को दे दी। कुछ ही देर में एसआई अखिलेश कुमार सिपाहियों के साथ पहुंचे पर उन्हें देखते ही नमाजी आक्रामक हो गए और बहस करने लगे।



इतने में गांव के कुछ लोग लामबंद होकर पुलिस पर पथराव करने लगे। उन्होंने पुलिस को तलवार और बरछे के साथ दौड़ा लिया। कुछ दूर पर पुलिस ने उच्चाधिकारियों को सूचना देकर मोर्चा संभाल लिया। सूचना मिलने पर इंस्पेक्टर जयंत कुमार सिंह फोर्स के साथ पहुंचे। थोड़ी देर में एसओ तरकुलवा और एसओ बघौचघाट भी भारी पुलिस बल के साथ पहुंच गए और मस्जिद को घेर लिया।

 
... और पढ़ें

आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीज की मौत

आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मरीज की मौत
बृहस्पतिवार की रात भर्ती हुआ
शुक्रवार की दोपहर तोड़ दिया दम
जांच के लिए सैंपल भेजा गया
देवरिया। जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती एक मरीज की शुक्रवार की दोपहर मौत हो गई। उसका सैंपल गोरखपुर मेडिकल कॉलेज जांच के लिए भेजा गया है। जिला अस्पताल प्रशासन की सूचना पर सदर कोतवाली पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
खामपार थानाक्षेत्र के एक गांव निवासी 18 वर्षीय युवक मुंबई में रहकर काम करता था। वहां से 21 मार्च को वह घर लौटा था। बताया जा रहा है कि उसकी तबीयत खराब रहती थी। बृहस्पतिवार को एसडीएम भाटपाररानी सौरभ सिंह और एसीएमओ सुरेंद्र सिंह उसके घर पहुंचे थे। बताया जा रहा है कि उसको टीबी की बीमारी थी। तबीयत बिगड़ने पर परिवारवालों ने बृहस्पतिवार की रात डेढ़ बजे उसे जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया। यहां उसका उपचार चल रहा था। टीम ने उसका सैंपल लेकर जांच के लिए गोरखपुर मेडिकल कॉलेज भेज दिया था। शुक्रवार की दोपहर उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मामले की जानकारी पर सीएमएस डॉ. छोटेलाल पहुंच गए। उन्होंने सदर कोतवाली पुलिस को सूचना दी। सदर कोतवाल टीजे सिंह ने बताया कि जिला अस्पताल में मरीज के मौत की सूचना पर आवश्यक कार्रवाई की गई है।
... और पढ़ें

अस्पताल में जाली तोड़कर बंदी ने भागने का प्रयास किया

अस्पताल में जाली तोड़कर बंदी ने भागने का प्रयास किया
अपहरण के मामले में बंद है गोरखपुर का रहने वाला प्रमोद
देवरिया। जिला अस्पताल के स्नन घर की जाली तोड़कर एक बंदी ने भागने का प्रयास किया। संयोग ही रहा कि ड्यूटी में लगे बंदी रक्षकों ने देख लिया और उसका प्लान फेल हो गया। मामला शुक्रवार की सुबह का है। जानकारी होने पर जिम्मेदारों के हाथ-पांव फूल गए।
गोरखपुर जिले का रहने वाला 22 वर्षीय प्रमोद का कुशीनगर जिले की किसी युवती से संबंध था। इस मामले में युवती के परिवारवालों ने केस दर्ज कराया था। कुशीनगर जिले की पुलिस ने प्रमोद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। बृहस्पतिवार की शाम उसके पेट में दर्द होने लगा। जेल से उसे जिला अस्पताल भेज दिया गया। इमरजेंसी से चिकित्सकों ने पुरुष मेडिकल वार्ड में भर्ती कर दिया। उसके साथ ड्यूटी पर दो बंदी रक्षक तैनात किए गए। शुक्रवार की सुबह प्रमोद जिला अस्पताल के स्नान घर में गया। बंदी रक्षक बाहर खड़े थे। प्रमोद स्नान घर के पीछे की तरफ लगे जाली को तोड़कर भागने की फिराक में था। संयोग ही था कि देर होने पर एक बंदी रक्षक पीछे की तरफ चला गया। जाली तोड़ते हुए उसने प्रमोद को देखा तो उसके होश उड़ गए। फिर दोनों बंदी रक्षकों ने उसे पकड़ लिया। इस बाबत जेल अधीक्षक केपी त्रिपाठी ने बताया कि बंदी रक्षकों ने जानकारी दी थी। जांच-पड़ताल की गई। उसकी सुरक्षा और कड़ी करते हुए पूरी निगरानी के निर्देश दिए गए हैं।
... और पढ़ें

लॉकडाउन से नहीं आ सके बेटे, पोते ने दी दादी को मुखाग्नि

लॉकडाउन से नहीं आ सके बेटे, पोते ने दी दादी को मुखाग्नि
शव ले जाने के लिए नहीं था साधन
बहू ने चेयरमैन से मांगी मदद, उन्होंने उपलब्ध कराया वाहन
सलेमपुर (देवरिया)। इलाज के दौरान एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। उसके तीन पुत्र बाहर रहते हैं। लॉकडाउन की वजह से वे मां के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो सके। ऐसे में पोते ने दादी की चिता को मुखाग्नि देनी पड़ी। यह देख वहां मौजूद लोगों के आंखें नम हो गईं।
लार थानाक्षेत्र के तिलौली गांव के चंद्रशेखर की पत्नी नीतू देवी सास एवं तीन बच्चों के साथ नगर के सोहनाग रोड स्थित किराए के मकान में रहती हैं। शुक्रवार को 70 वर्षीय सास सुमित्रा देवी की अचानक तबीयत खराब हो गई। आसपास के लोगों की मदद से बहू उन्हें एंबुलेंस से लेकर सीएचसी पहुंचीं। डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। मौत की खबर सुनते ही नीतू आवक रह गईं और इसकी सूचना परिवार के लोगों को दी। उसके पास सास का शव ले जाने का साधन भी नहीं था। यह बात उसने पति चंद्रशेखर को बताया तो उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के चलते वह घर नहीं आ सकते। यही बात दो अन्य बेटों ने भी कही और मां का अंतिम संस्कार कराने की बात कही। ऐसे में नीतू एक मासूम को लेकर शुक्रवार पूर्वाह्न करीब 11 बजे नगर पंचायत कार्यालय पहुंचीं और कहा, चेयरमैन साहब, मेरी सास की सलेमपुर अस्पताल में मौत हो गई है। लॉकडाउन के चलते कोई साधन नहीं मिल रहा हैं... प्लीज किसी साधन से घर भिजवा दीजिए, जो रुपये लगेंगे दे दूंगी। क्योंकि परिवार के सभी लोग बाहर हैं। लॉकडाउन के चलते कोई आ नहीं पा रहा है। महिला की बात सुनकर चेयरमैन जेपी मद्धेशिया ने तत्काल प्राइवेट वाहन से उसकी सास के शव को नदावर घाट पर पहुंचाया, जहां मासूम ने दादी को मुखाग्नि दी।
... और पढ़ें

कोरोना के खौफ से दब जाएगी शहनाई की धुन

कोरोना के खौफ से दब जाएगी शहनाई की धुन
गर्मी के सीजन की शादियां टाल रहे वर-वधु पक्ष
मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह की तैयारी भी ठंडी
देवरिया। भले ही पीएम ने लॉकडाउन की घोषणा 14 अप्रैल तक की हो, लेकिन कोरोना वायरस के खौफ को देखते हुए तमाम वर-वधु पक्ष ने आगामी दो महीनों में होने वाले विवाह के कार्यक्रम टाल दिए हैं। समाज कल्याण विभाग की ओर से हर साल कराए जा रहे मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना की तैयारी भी ठंडी पड़ गई है।
शासन से विभाग को अब तक कोई स्पष्ट निर्देश प्राप्त नहीं हुए हैं। हां इतना जरूर कहा जा रहा है कि इस सत्र में सामूहिक विवाह के लाभार्थियों से आवेदन ऑफलाइन के जगह ऑनलाइन प्राप्त किए जाएंगे। नए सत्र में कितने जोड़ों की शादी कराने का लक्ष्य है, शासन से कितना बजट मिलेगा, अभी इसकी जानकारी विभाग को नहीं भेजी गई है। समूचा सरकारी तंत्र कोरोना महामारी से निपटने में लगा है। 15 अप्रैल के बाद विवाह के शुभ मुहूर्त शुरू हो रहे हैं। तमाम लोगों ने अप्रैल, मई, जून व जुलाई में शादी की तारीख तय रखी है। शहर में विवाह भवन तो गांवों में लोगों ने टेंट, लाइट, हलुवाई, मिठाई, वेटर, वाहन, बैंडबाजा, आर्केस्ट्रा आदि की बुकिंग छह माह पहले ही कर ली। अब कोरोना का संकट गहराने और लॉकडाउन की घोषणा होने के बाद लोगों को आयोजन फीका पड़ने का खतरा सताने लगा है। गर्मी के सीजन में प्रस्तावित शादियां नवंबर, दिसंबर व जनवरी के लिए टाली जा रही हैं। समाज कल्याण अधिकारी आरपी यादव ने बताया कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत होने वाली शादियों के लिए शासन स्तर से अभी कोई लक्ष्य निर्धारित नहीं किया गया है। लॉकडाउन होने से सामूहिक विवाह आयोजन की प्रक्रिया प्रभावित है।
शादियां टलने से बढ़ेगी बेरोजगारी
अप्रैल से जुलाई के बीच होने वाली शादियां टलने से वेटर, हलुआई, फूल कारोबारी, फ्रूट स्टाल, चाट स्टाल आदि लगाने वाले तमाम लोगों की बेरोजगारी बढ़ जाएगी। वहीं ये शादियां नवंबर, दिसंबर, जनवरी में आयोजित होने से महंगाई डेढ़ गुना बढ़ने के आसार हैं।
... और पढ़ें

मौलवियों को शरण देना पड़ा महंगा, शिक्षक निलंबित

मौलवियों को शरण देना पड़ा महंगा, शिक्षक निलंबित
दिल्ली के शाहीन बाग से आए लोगों को घर में दी थी शरण
देवरिया। दिल्ली के शाहीन बाग से आए आठ लोगों को अपने घर में शरण देने पर भलुअनी विकास खंड के एक शिक्षक को भारी पड़ गया है। लॉकडाउन की स्थिति में असहयोग करने एवं सरकारी कर्मचारी आचरण नियमावली के खिलाफ व्यवहार करने पर बीएसए ने उन्हें निलंबित कर दिया है।
बीएसए प्रकाश नारायण श्रीवास्तव ने शुक्रवार को बताया कि खुंखुंदू थाना के इंस्पेक्टर मनोज यादव ने उक्त शिक्षक पर एफआईआर दर्ज कराया है। भलुअनी विकास खंड के ग्राम खजूरी निवासी एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय खुंखुंदू में सहायक अध्यापक समीउल्लाह के घर एक अप्रैल को आठ व्यक्ति दो कमरों में पाए गए। ये सभी छिपके रह रहे थे। शिक्षक ने जिला प्रशासन की अनुमति के बगैर इन्हें अपने घर में शरण दे दी। जबकि जिला प्रशासन ने बाहर से आए लोगों के लिए प्राथमिक पाठशाला, पंचायत भवन में बने क्वारंटीन वार्ड में रखने का सख्त निर्देश दे रखा है। प्रशासनिक आदेशों को न मानने एवं खुंखुंदू थाने में उनकी खिलाफ एफआईआर दर्ज होने पर उन्हें वैश्विक महामारी के रोकथाम के कार्य में बाधा डालने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाता है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Coupon
Coupon
Coupon
Coupon

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us