विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जानें कौन हैं श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास

राम मंदिर आंदोलन के अहम किरदार रहे अयोध्या के श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास को राम मंदिर निर्माण के लिए बनाए गए 'श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाया गया है। जानें, उनके बारे में:

19 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

देवरिया

बुधवार, 19 फरवरी 2020

प्रेमिका की बेटी का किया अपहरण, पकड़ाया

प्रेमिका की बेटी का किया अपहरण, पकड़ा गया
देर रात तक पुलिस को छकाता रहा, रेलवे स्टेशन से गिरफ्तारी
रामपुर कारखाना की रहने वाली है महिला, भटनी इलाके का युवक
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। प्रेमिका साथ जाने को तैयार नहीं हुई तो प्रेमी ने उसकी दो साल की बेटी का अपहरण कर लिया। सूचना पर हलकान हुई पुलिस को वह घंटों छकाता रहा। सर्विलांस की मदद से सदर कोतवाली पुलिस ने अंतत: रात में सदर रेलवे स्टेशन से युवक को पकड़कर बच्ची को मुक्त करा लिया। भटनी इलाके के रहने वाला आरोपी युवक पुलिस की हिरासत में है।
रामपुर कारखाना इलाके के एक गांव की रहने वाली महिला का भटनी इलाके के एक युवक से वर्षों से प्रेम संबंध है। दोनों आपस में रिश्तेदार भी हैं। बताया जा रहा है कि महिला का पति किसी असाध्य रोग से पीड़ित है। इस कारण युवक का बराबर उसके घर आना-जाना लगा रहता है। शनिवार को महिला के दो साल की बच्ची की तबीयत खराब थी। बेटी को लेकर महिला अस्पताल आई थी। यहां प्रेमी भी पहुंच गया। वह प्रेमिका को कहीं साथ ले जाने की जिद करने लगा। महिला के मना करने पर वह दो साल की बच्ची को लेकर भाग गया। कुछ देर बाद परेशान हुई महिला ने बच्ची के अपहरण की सूचना पुलिस को दी। इससे पुलिस परेशान हो गई। पुलिस ने आरोपी युवक को फोन किया तो बताया कि वाराणसी आ गए हैं। इसके बाद सदर कोतवाली पुलिस ने सर्विलांस सेल की मदद ली। इसके बाद आधी रात को उसे सदर रेलवे स्टेशन से पकड़कर बच्ची को मुक्त कराया गया। सदर कोतवाली पुलिस आरोपी युवक से पूछताछ कर रही है। प्रेमिका भी बच्ची के साथ कोतवाली में ही है। इस बाबत सदर कोतवाल टीजे सिंह ने बताया कि दोनों में आपसी संबंध हैं। किसी बात से नाराज होकर वह बच्ची का अपहरण कर लिया था। उसे पकड़कर बच्ची को मुक्त करा लिया गया है। मामले में आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

संदिग्ध परिस्थितियों ट्रेन से कटकर शिक्षक की मौत

संदिग्ध परिस्थितियों में ट्रेन से कटकर शिक्षक की मौत
खुखुंदू थाना क्षेत्र के बभनी पाण्डेय गांव के रहने वाले थे वीरेंद्र पांडेय
भटनी के सिसवा गांव के सामने छपरा-गोरखपुर रेलखंड पर मिला शव
संवाद न्यूज एजेंसी
भटनी। क्षेत्र के सिसवा गांव के सामने संदिग्ध परिस्थितियों में एक शिक्षक की ट्रेन से कटकर मौत हो गई। रेलवे से मेमो मिलने पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। घरवालों ने खेत से लौटने के दौरान ट्रेन की चपेट में आने से मौत की वजह बताई है। वहीं, पुलिस मामले को आत्महत्या बता रही है।
खुखुंदू थाना क्षेत्र के बभनी पांडेय गांव के रहने वाले वीरेंद्र पांडेय (58) भटनी के रजवल पूर्व माध्यमिक विद्यालय पर हेडमास्टर पद पर तैनात थे। रविवार सुबह घर से किसी कार्यवश निकले और सिसवा गांव के सामने छपरा-गोरखपुर रेलखंड पर उनका कटा शव मिला। ट्रेन चालक की सूचना पर स्टेशन अधीक्षक कन्हैया गिरी ने इसकी जानकारी भटनी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। वीरेंद्र के बेटे विवेक पांडेय ने बताया कि वह खेत देखने गए थे। लौटते समय ट्रेन की चपेट में आ गए। इस बाबत एसओ भीष्मपाल सिंह यादव ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। गांववालों से पूछताछ में आत्महत्या की बात सामने आई है। जांच की जा रही है।
शिक्षक की मौत से घर में मचा कोहराम
भटनी। शिक्षक वीरेंद्र पांडेय की मौत की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। वहीं, बभनी गांव और शिक्षक समाज में भी शोक की लहर दौड़ गई है। गांव और भटनी के शिक्षक जानकारी पर पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंच गए। वीरेंद्र के दो बेटे महेश पांडेय और विवेक पांडेय हैं। महेश देवरिया अपना परिवार लेकर रहते हैं। जबकि विवेक घर पर पिता के साथ रहते थे।
ट्रेन से कटकर अधेड़ की मौत
भटनी। रेलवे स्टेशन के पूर्वी ढाले पर रविवार की सुबह ट्रेन से कटकर एक अधेड़ की मौत हो गई। जीआरपी ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। मृतक बिहार के मुजफ्फरपुर का रहने वाला है। वह ट्रेनों में घूमकर भीख मांगता था।
मुजफ्फरपुर के काजी मुहम्मदपुर अघोरिया बाजार के रहने वाला महेंद्र कुमार की माली हालत ठीक नहीं थी। वह ट्रेनों में भीख मांगकर जीविकोपार्जन करता था। रविवार को रेलवे ट्रैक पार करते समय वह किसी ट्रेन की चपेट में आ गया। इससे उनकी मौत हो गई। जानकारी पर पहुंची जीआरपी ने आईडी कार्ड से शव की शिनाख्त की। इस बाबत जीआरपी एसओ बृजेश मौर्य ने बताया कि ट्रेन से कटकर भिखारी की मौत हुई है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।
... और पढ़ें

हरियाणा की शराब के साथ पकड़े गए दोनों को जेल भेजा

हरियाणा की शराब के साथ पकड़े गए दोनों को जेल भेजा
गौरीबाजार इलाके का ही रहने वाला है शराब मंगाने वाला तस्कर
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। हरियाणा निर्मित 66 लाख रुपये कीमत की शराब के साथ पकड़े गए चालक और खलासी को रविवार को जेल भेज दिया। उनके बताए गए मोबाइल नंबर से शराब मंगाने वाले तस्कर की तलाश की जा रही है। हालांकि, अभी उसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है।
पुलिस लाइंस के मनोरंजन कक्ष में प्रभारी एसपी/एएसपी शिष्यपाल ने बताया कि शनिवार को हरियाणा नंबर की डीसीएम में लदी 66 लाख रुपये कीमत की 859 पेटी शराब पुलिस ने पकड़ ली। पूछताछ में सिरसा के रहने वाले चालक और गाड़ी मालिक गुरुमल सिंह ने बताया कि 60 हजार रुपये किराया में मुझे देवरिया के लिए भेजा गया था। एक मोबाइल नंबर दिया गया था। यहां आकर उसे फोन करना था। उसके बताने वाले स्थान पर माल उतार देना था। पुलिस ने गुरुमल सिंह के साथ ही खलासी कालूराम उर्फ काला निवासी बाखड़ा, सिरसा, हरियाणा के खिलाफ केस दर्ज कर रविवार को जेल भेज दिया। पुलिस ने 15 लाख रुपये कीमत के डीसीएम को भी कब्जे में लिया है। एएसपी शिष्यपाल ने थाना प्रभारी विजय सिंह गौर, चौकी प्रभारी राकेश पांडेय, कांस्टेबल रामू प्रसाद और उमंग यादव को शाबाशी दी।
अवैध शराब के धंधे में बड़ों का हाथ
देवरिया। शराब तस्करी के धंधे में बड़ों का हाथ है। कहा तो यह भी जा रहा है कि सत्ताधारी दल के कुछ लोगों की शह पर यह फल-फूल रहा है। गौरीबाजार में पकड़ी गई शराब के साथ यहां के एक तस्कर का मोबाइल नंबर मिला है। देखना होगा कि इस बार पुलिस कार्रवाई करने में कितनी सफल हो रही है। जिले के विभिन्न थानों में 10 करोड़ रुपये से अधिक कीमत की शराब पकड़ी जा चुकी है। सर्वाधिक अवैध शराब लार के मेहरौना चौकी से पकड़ी गई। हालांकि, इस रास्ते से भी शराब लदीं कई गाड़ियां बिहार में पहुंच गईं। वहां की पुलिस ने इसे पकड़ा था। इसके बाद भी तस्करों का हौसला पस्त नहीं हो रहा है। बताया जा रहा है कि बिहार में पहुंचने के बाद शराब दो से तीन गुना रेट में शराब के शौकीनों तक पहुंचती है। इसमें सत्ताधारी दल के कुछ नेता या उनके पुत्रों का भी नाम आ रहा है। हालांकि, पुलिस उन पर हाथ डालने से कतरा रही है। गौरीबाजार पुलिस को पकड़े गए तस्करों ने एक नंबर दिया है। बताया कि वह इसी इलाके का रहने वाला है। उसी के बताने के हिसाब से माल उतारना था। पुलिस उस नंबर की जांच कर तस्कर तक पहुंचने की कोशिश में जुटी है। प्रभारी एसपी/एएसपी शिष्यपाल ने बताया कि सर्विलांस से नंबर की डिटेल पता कराई जा रही है। इस बार कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
जिले में ही शराब कर रहे स्टोर
देवरिया। शराब तस्कर जिले के विभिन्न जगहों पर हरियाणा से मंगाई गई शराब को स्टोर कर रहे हैं। शनिवार को पकड़ी गई शराब को भी यहीं कहीं स्टोर करना था। मौका देखकर लग्जरी वाहनों से इसे बिहार भेजा जाता। बॉर्डर एरिया के विभिन्न जगहों पर तस्करों ने अवैध शराब को स्टोर करने का ठिकाना बनाया है।
... और पढ़ें

देवरिया: स्कूल का चार्ज लेने के लिए आपस में भिड़ी महिला अध्यापक, आठ घायल

शिक्षा का मंदिर बुधवार को संघर्ष का मैदान बन गया। प्रधानाध्यापक पद को लेकर हुए संघर्ष में आठ लोग घायल हो गए। मामला गौरीबाजार थानाक्षेत्र के जूनियर हाईस्कल इंदूपुर प्रथम का है। सभी का घायलों का उपचार कराया गया। जानकारी होने पर बीईओ गौरीबाजार और बीएसए ने विद्यालय पर पहुंचकर हाल जाना।

जूनियर हाईस्कूल इंदूपुर प्रथम में प्रधानाध्यापक पद को लेकर विवाद चल रहा है। इसी गांव की रहने वाली पूनम सिंह और कुसुम सिंह के बीच वरिष्ठता को लेकर विवाद चल रहा है। 29 जनवरी से यह विवाद और गहरा गया। मामले की जानकारी बीईओ को दी गई।  लेकिन उन्होंने कोई हल नहीं निकाला। बताया जा रहा है कि कुसुम सिंह चार फरवरी को अवकाश पर चली गईं और मंगलवार को लौटीं।

उन्होंने इसी विद्यालय में सहायक अध्यापक अपने बेटे को चार्ज दे दिया। आरोप है कि कुसुम सिंह बैक डेट से हस्ताक्षर बना रही थीं। बुधवार को सुबह 10 बजे पूनम सिंह ने इसका विरोध किया। इसको लेकर विवाद हो गया। दोनों पक्षों के लोग लाठी, फरसा और चाकू लेकर स्कूल में पहुंच गए। खूनी संघर्ष में एक पक्ष की पूनम सिंह (50), अमित सिंह (28), दीपक सिंह (40), आदित्य सिंह (25), अंकित सिंह (27) और दूसरे पक्ष के आलोक सिंह, नवनीत सिंह, संजय सिंह सहित कई अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए।
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर। सांकेतिक तस्वीर।

चंडीगढ़ में इलाज के दौरान सेना के जवान की मौत

चंडीगढ़ में इलाज के दौरान सेना के जवान की मौत
भागलपुर काली चरण घाट पर इकलौते बेटे ने दी मुखाग्नि
गार्ड ऑफ आनर के साथ किया गया अन्तिम संस्कार
संवाद न्यूज एजेंसी
भागलपुर। बरठा बाबू गांव निवासी चंडीगढ़ में तैनात सेना का जवान 50 वर्षीय कृष्णा नंद सिंह की चंडीगढ़ में इलाज के दौरान मौत हो गई। मंगलवार को उनका शव घर आते ही घर में कोहराम मच गया। पत्नी मीना देवी का रो-रो कर बुरा हाल है। शाम को भागलपुर कालीचरण घाट पर गार्ड ऑफ आनर के साथ अन्तिम संस्कार किया गया।
मईल थाना क्षेत्र के बरठा बाबू गांव निवासी कृष्णा नन्द सिह सीआरपीएफ में हेड कांस्टेबल के पद पर चंडीगढ़ में तैनात थे। 16 फरवरी को ड्यूटी के दौरान उनकी तबीयत खराब हो गई। उनके साथी उन्हें इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाए, जहां मौत हो गई। मौत की सूचना विभाग के अधिकारियों ने परिवार के लोगों की दी। मौत की खबर मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। मंगलवार की दोपहर करीब दो बजे सेना के जवान शव घर पहुंचा। शव को देखते ही देख परिजन दहाड़ें मारकर रोने लगे। शाम को भागलपुर कालीचरण घाट पर अंतिम संस्कार हुआ। बरहज सीओ अंबिका, निरीक्षक सीआरपीएफ दीपक कुमार सिंहा ने जवान को श्रद्धांजलि दी। सीआरपीएफ के जवान और जनपद से आए पुलिसकर्मियों ने गार्ड ऑफ ऑनर देने के साथ फायर कर सलामी दी। पिता को मुखाग्नि बेटे धन्नू सिंह ने दी। धन्नू इंटरमीडिएट का छात्र है। पिता की मौत के बाद उसने बोर्ड की परीक्षा छोड़ दी। कृष्णा नंद सिंह की तीन संतानों में एक बेटा व दो बेटियां हैं।
... और पढ़ें

अंग्रेजी शराब की दुकान से लाखों की लूट

अंग्रेजी शराब की दुकान से 80 हजार की लूट
खामपार के भवानी छापर में स्थित है दुकान, हवाई फायरिंग
सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना की छानबीन की
संवाद न्यूज एजेंसी
भाटपाररानी। खामपार थानाक्षेत्र के बिहार सीमा पर भवानी छापर बाजार में मंगलवार की शाम छह बजे अंग्रेजी शराब की एक दुकान के मुनीम से बदमाशों ने असलहे के बल पर 80 हजार रुपये लूट लिए। भागते समय बदमाशों ने दहशत फैलाने के लिए हवाई फायरिंग भी की। मामले की जानकारी मिलते ही एसओ खामपार मौके पर पहुंचकर छानबीन में जुट गए।
भवानी छापर बाजार में चौराहे से उत्तर तरफ बिहार सीमा पर सलेमपुर निवासी मंटू सिंह की अंग्रेजी शराब की लाइसेंसी दुकान है। मऊ जिले के रहने वाले सुनील मद्धेशिया दुकान पर मुनीम का काम करते हैं। मंगलवार की शाम छह बजे के करीब दो बाइक पर सवार चार बदमाश दुकान पर पहुंचे। चारों असलहा लहराते हुए दुकान के अंदर पहुंच गए। दुकान में रखे बिक्री के लाखों रुपये लूटकर बदमाश बिहार सीमा में भाग गए। जाते समय बदमाशों ने दहशत फैलाने के लिए असलहे से हवाई फायर भी की। सूचना पर मौके पर पहुंचे खामपार एसओ सुदेश शर्मा और सीओ पंचमलाल ने छानबीन की, लेकिन बदमाशों का कहीं पता नहीं चल सका। थानाध्यक्ष सुदेश कुमार शर्मा ने बताया कि गोली चलने की सूचना सही है। लूट मामले में संशय लग रहा है। इसके बारे में पता किया जा रहा है। मुनीम से पूछताछ की जा रही है। उधर, अपर पुलिस अधीक्षक शिष्यपाल ने बताया कि 80 हजार की लूट हुई है।
... और पढ़ें

डीएम एसपी ने दुग्धेश्वरनाथ मंदिर का जायजा लिया

डीएम, एसपी ने मंदिर में सुरक्षा का जायजा लिया
पिछले साल की भीड़ से सबक लेने के निर्देश
शुक्रवार को पड़ रहा महाशिवरात्रि का पर्व
अमर उजाला ब्यूरो
रुद्रपुर। दूसरी काशी का दर्जा प्राप्त पौराणिक महत्व के दुग्धेश्वरनाथ मंदिर पर महाशिवरात्रि पर्व को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। मंगलवार को डीएम अमित किशोर और एसपी श्रीपति मिश्र ने मंदिर और मेला परिसर का जायजा लिया। उन्होंने श्रद्धालुओं को नियंत्रित करने के लिए लग रहे बैरिकेडिंग का निरीक्षण किया।
डीएम ने कहा कि पिछले वर्ष महाशिवरात्रि पर उमड़ी अप्रत्याशित भीड़ से सबक लेकर व्यवस्था करनी होगी। उन्होंने नगर पंचायत को मजबूत बैरिकेडिंग लगाने के निर्देश दिए। मेला परिसर में मंदिर के सामने लगी दुकानों को हटाने का मेला मालिक को निर्देश दिए। प्रवेश और निकास के रास्ते को पूरी तरह खाली रखने को कहा। मेला क्षेत्र में बड़ी गाड़ियों का प्रवेश दो किलोमीटर पहले रोक दिया जाएगा। मंदिर क्षेत्र से दो किलोमीटर दूर तीन तरफ पार्किंग स्थल बनाया जाएगा। बीते वर्ष सोमवार को शिवरात्रि पड़ने से दुग्धेश्वरनाथ मंदिर पर भारी भीड़ उमड़ी थी। तब श्रद्धालुओं की भीड़ बैरिकेडिंग तोड़कर कुछ देर के लिए अनियंत्रित हो गई थी। काफी मेहनत के बाद भीड़ को नियंत्रित किया गया। पौराणिक महत्व के दुग्धेश्वरनाथ मंदिर पर हर साल शिवरात्रि में देश के कोने-कोने से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती है। दूर-दराज से आने वाले शिवभक्त एक दिन पहले पहुंचते हैं। उनके ठहरने के लिए मंदिर प्रशासन की ओर से धर्मशालाओं में इंतजाम किए जा रहे हैं। एसपी ने कहा कि महाशिवरात्रि पर पहले दिन करीब 200 अतिरिक्त फोर्स तैनात की जाएगी। सफाई और पथ प्रकाश का इंतजाम रहेगा। इस अवसर पर महंत विजय शंकर, एसडीएम संजीव उपाध्याय, ईओ उपेंद्र नाथ सिंह, अधिशासी अभियंता बिजली ब्रजेश कुमार, एसडीओ एके पॉल, चेयरमैन प्रतिनिधि विरेंद्र शर्मा, शिवहरी त्रिपाठी, मनोज पांडेय, ई सुशील चंद, विजय यादव, सिकंदर यादव आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

देवरिया: रिश्ता हुआ शर्मसार, जेठ ने किया दुष्कर्म, आरोपित गिरफ्तार

महाशिवरात्रि पर्व के मद्देनजर रुद्रपुर के दुग्धेश्वरनाथ मंदिर और मेला परिसर का निरीक्षण करते ड?
जेठ ने महिला से कई दिनों तक दुष्कर्म किया। मामला सदर कोतवाली के एक गांव का है। जेठ की हरकतों से आजिज महिला की शिकायत पर मंगलवार को पुलिस ने आरोपी जेठ को हिरासत में लिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सदर कोतवाली के एक गांव के रहने वाले एक शख्स के तीन बेटे हैं। मझला बेटा विदेश में रहता है। घर पर उसकी पत्नी एक साल के बेटे और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ रहती है। महिला ने बताया कि पति के विदेश रहने के कारण भसुर की नियति उस पर खराब हो गई। 10 दिन पहले उसने घर में दुष्कर्म कर दिया। इज्जत बचाने के लिए यह बात किसी को नहीं बताई। इसका फायदा जेठ उठाने लगा। वह प्रतिदिन मौका देखकर दुष्कर्म करता रहा। शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी देता।

मामला हद से पार होने पर मंगलवार को पीड़ित महिला ने ससुर और अन्य लोगों के साथ कोतवाली पहुंचकर शिकायत की। शिकायत के आधार पर सदर कोतवाली पुलिस ने आरोपी जेठ को हिरासत में लेकर पूछताछ की। उसने जरूरत के सामान के लेन-देन में नजदीकी बढ़ने की बात स्वीकार की। सदर कोतवाल टीजे सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में है। जांच कराई जा रही है। केस दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

देवरिया: फर्जी प्रवेश पत्र बनाकर दूसरे छात्रों को बैठाने की थी तैयारी, चार गिरफ्तार

यूपी बोर्ड की परीक्षा में फर्जी प्रवेश पत्र बनाकर दूसरे छात्रों को बैठाने की तैयारी में जुटे चार लोगों को तरकुलवा पुलिस ने रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास से 35 से अधिक प्रवेश-पत्र और आधार कार्ड बरामद हुए हैं। पुलिस इस मामले में आवश्यक कार्रवाई करने में जुट गई है।

मंगलवार से यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं शुरू हुईं। परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे और वायर रिकॉर्डर लगने से नकल माफिया अपने मकसद में कामयाब नहीं हो पा रहे हैं। ऐसे में फर्जी प्रवेश पत्र के सहारे परीक्षार्थी की जगह बाहरी लोगों को बैठानी की तैयारी थी। इसके लिए तरकुलवा के एक स्टूडियो में फर्जी प्रवेश पत्र तैयार किया जा रहा था।

सूचना मिलने पर एसओ तरकुलवा नरेंद्र प्रताप राय मयफोर्स स्टूडियो में पहुंचकर छापेमारी किए। यहां से चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए लोगों में तरकुलवा के हरैया गांव निवासी दिग्विजय सिंह, कनकपुरा गांव निवासी चंद्रप्रकाश सिंह, अजय गोंड, अंगद गोंड शामिल हैं।

उनके कब्जे से तैयार किए गए 35 से अधिक प्रवेश पत्र और आधार कार्ड पुलिस ने बरामद किया। गिरफ्तार लोगों ने बताया कि इस प्रवेश पत्र के सहारे परीक्षार्थियों की जगह दूसरों को बैठाया जाता। पूरी तैयारी कर ली गई थी। सभी को गिरफ्तार कर पुलिस थाने लाई। इस बाबत एसओ तरकुलवा नरेंद्र प्रताप राय ने बताया कि फर्जी प्रवेश पत्र तैयार करने वाले चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। केस दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।
... और पढ़ें

निर्माणाधीन राजकीय सेतु निर्माण में लाएं तेजी: प्रमुख सचिव

प्रमुख सचिव ने चौपाल लगाकर सुनीं समस्याएं
निर्माणाधीन राजकीय सेतु निर्माण में तेजी लाने के निर्देश दिए
अमर उजाला ब्यूरो
देवरिया। जिले के नोडल अधिकारी एवं नागरिक सुरक्षा राजनैतिक पेंशन के प्रमुख सचिव राजन शुक्ला ने सोमवार को भ्रमण के दौरान सेतु निगम की दो निर्माणाधीन परियोजनाओं का निरीक्षण किया। उन्होंने पथरदेवा ब्लॉक के मलघोट विरैचा गांव में चौपाल लगाकर लोगों की समस्याएं सुनीं।
प्रमुख सचिव शुक्ला आमघाट में छोटी गंडक नदी पर निर्माणाधीन राजकीय सेतु का जायजा लेने पहुंचे, जहां उन्होंने अपूर्ण कार्य को प्राथमिकता के साथ पूरा करने एवं अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग को एप्रोच मार्ग को शीघ्रता से पूर्ण करने के निर्देश दिए। अधिकारियों ने बताया कि रिवाइज एस्टीमेट एक करोड़ 88 लाख का भेजा गया है। पुल के निर्माण में केवल एक-दो स्लैब भी डाले जाने हैं। अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी कमल किशोर ने बताया कि मुआवजा की धनराशि वितरित की जानी हैं। जिस पर शीघ्रता से कार्रवाई की जा रही है। खनुआ नाला पर मुड़कटवा के निकट बन रहे राजकीय सेतु का जायजा लेने पहुंचे, जहां केवल पेंटिंग का कार्य बाकी मिला। जिस पर उन्होंने शीघ्रता से पेंटिंग कार्य को पूर्ण कराण् जाने के निर्देश दिए।
पीडीएस गोदाम का किया निरीक्षण
देवरिया नगर में गायत्री मंदिर के निकट पीडीएस गोदाम का भी औचक निरीक्षण किया। धान क्रय तथा चावल गोदामों में उठान किये जाने के संबंध में पूछताछ सेक्टर इंचार्ज दिलीप कुमार से की। उन्होंने निर्देश दिए कि राइस मिलों में पडे़ चावल का उठान गोदामों में शीघ्रता से कराया जाए। जो ठेकेदार वाहन उपलब्धता में हीलाहवाली अपनाए उनके विरुद्ध कार्रवाई भी सुनिश्चित कराएं। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जीएन, अपर पुलिस अधीक्षक शिष्यपाल सिंह, एसडीएम सदर दिनेश कुमार मिश्र, क्षेत्राधिकारी निष्ठा उपाध्याय, प्रभारी सीएमओ डॉ डीवी शाही, परियोजना निदेशक महेश नारायण पाण्डेय, जिला विकास अधिकारी श्रीकृष्ण पाण्डेय, एलडीएम राकेश कुमार श्रीवास्तव, डीसी एसबीएम गौरव त्रिपाठी, डीसी मनरेगा गजेन्द्र तिवारी, ब्लॉक प्रमुख पथरदेवा सुब्रत शाही आदि मौजूद रहे।
लाभार्थियों से योजनाओं का सत्यापन किया
पथरदेवा। प्रमुख सचिव ने मलघौट विरैचा में आयोजित चौपाल में जन समस्याओं की सुनवाई की। लाभार्थियों से योजनाओं का सत्यापन भी किया। उन्होंने इस दौरान अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे योजनाओं का लाभ पात्रों तक पहुंचाएं। इसमें किसी प्रकार की कोताही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसा प्रयास हो कि कोई भी पात्र योजनाओं के आच्छादन से वंचित न रहे। उन्होंने ग्राम वासियों को धान क्रय केंद्र की जानकारी नहीं होनेे पर डिप्टी आरएमओ पर कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का भी निरीक्षण किया। भवन की स्थिति संतोषजनक नहीं बताई गई। इस गांव के लाभार्थी कृपाशंकर राय का प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत निर्मित आवास का भी निरीक्षण कर शौचालय देखा। उन्होंने बाल विकास परियोजना के तहत इस गांव के तीन गर्भवतियों की गोदभराई की और उन्हें पौष्टिक आहार की टोकरी प्रदान की। जिलाधिकारी ने चौपाल कार्यक्रम के दौरान ग्रामवासी पार्वती देवी द्वारा आवास की मांग किए जाने पर परियोजना निदेशक को निर्देश दिए कि इसका सत्यापन कर आख्या उपलब्ध कराएं।
फोटो समाचार
रुद्रपुर में प्रमुख सचिव का दौरा आज
रुद्रपुर। प्रमुख सचिव और देवरिया जिले के नोडल अधिकारी राजन शुक्ल मंगलवार को रुद्रपुर का दौरा करेंगे। वह तहसील सभागार में संपूर्ण समाधान दिवस पर जनता की समस्या को सुनेंगे। सोमवार को तहसील परिसर में दर्जनों सफाई कर्मचारी लगाकर पूरा परिसर साफ-सुथरा किया जाने लगा। कार्यालयों में बेतरतीब पड़ीं फाइलें ठीक की जाने लगीं। प्रमुख सचिव एक गांव में चौपाल लगाकर विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे। इस दौरान उस विभाग के आला अधिकारी मौजूद रहेंगे। तहसील में दौरे को लेकर एडीएम प्रशासन राकेश कुमार पटेल और एसडीएम संजीव उपाध्याय ने सोमवार को तहसील के सभी पटलों की समीक्षा की। उन्होंने तहसील कार्यालय के कर्मचारियों को सब कुछ ठीक ठाक करने के निर्देश दिए। ब्लॉक कार्यालय में गांवों में हुए विकास कार्यों की बुकलेट तैयार हुई।
... और पढ़ें

सुभाष चौक सहित कई स्थानों पर फोरलेन संकरा

सुभाष चौक सहित कई स्थानों पर फोरलेन संकरा
आजाद हिंद सेना के कार्यकर्ता ने लोक निर्माण विभाग की कार्यप्रणाली पर उठाया सवाल
अमर उजाला ब्यूरो
देवरिया। सौनौली-गोरखपुर-देवरिया-बलिया मार्ग का निर्माण लोक निर्माण विभाग मानक के अनुसार नहीं करा रहा है। एक अरब 82 करोड़ 63 लाख रुपये की लागत से देवरिया शहर से गोरखपुर की सीमा तक सड़क का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। फोरलेन के निर्माण में मनमाने तरीके से सड़क की चौड़ाई कम कर दी गई है। प्रश्न यह है कि मनमानी क्यों।
शहर की सीमा में सड़क का चौड़ीकरण मनमाने तौर पर किया गया है। कोऑपरेटिव चौराहे से पश्चिम पटरी पर सड़क निर्माण के दौरान राम जानकी मंदिर की बाउंड्री एवं गेट सड़क चौड़ीकरण के नाम पर तोड़ दिया गया। इसका काफी विरोध भी लोगों ने किया था। इसके बावजूद मंदिर गेट के ठीक 20 मीटर की दूरी पर टाउनहाल उद्यान की बाउंड्री सुभाष चौक पर नहीं तोड़ी गई। और तो और यहां नाले को भी टेढ़ा मेढ़ा कर दिया गया। इससे पानी का बहाव बारिश में ठीक से नहीं हो सकेगा। पिछली बारिश में कलेक्ट्रेट सहित कई स्थानों पर जलभराव होने के दौरान हुई समस्या से प्रशासन अवगत भी हो चुका है। इसके बावजूद भी इसका विकल्प नहीं निकाला जा सका है। सुभाष चौक शहर का महत्वपूर्ण चौराहा है। कुशीनगर एवं बिहार से आने लोग यहीं से इधर-उधर शहर में जाते हैं। यहां राजनैतिक दलों के लोग धरने पर अक्सर बैठते हैं। इसकी वजह से आएदिन जाम की समस्या बनी रहती है। बावजूद इसके यहां फोरलेन की सड़क पश्चिम तरफ संकरी हो गई है। इसको लेकर लोग सवाल खड़ा कर रहे है। आजाद हिंद सेना के ऋषि पांडेय ने लोक निर्माण विभाग की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़ा किया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि फोरलेन निर्माण में मनमानी बरती जा रही है। एक नेता के आवास के सामने, एक बाइक की एजेंसी के सामने, सुभाष चौक पर फोरलेन को इस कदर संकरा कर दिया गया है, जिसे देखकर लगता है कि किसी मोहल्ले की सड़क है। लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड के जिम्मेदार अधिकारी इस मसले पर कुछ बोलने से कतरा रहे हैं।
इनसेट
चौराहे का कैसे होगा सुंदरीकरण
शहर के कई चौराहों के सुंदरीकरण का खाका डीएम अमित किशोर ने तैयार किया है। इसमें पुरवा चौराहा, सुुुुभाष चौक, कचहरी, रोडवेज, हनुमान मंदिर सहित कई अन्य चौराहे शामिल हैं। फोरलेन सुभाष चौक पर इस कदर संकरा कर दिया गया है कि इससे सुंदरीकरण पर भी ग्रहण लग गया है।
... और पढ़ें

फर्जी शिक्षक प्रकरण में तीन शिक्षकों को किया बर्खास्त

जांच के बाद तीन शिक्षक बर्खास्त
कूटरचित ढंग से तैयार किए गए स्नातक, बीएड के प्रमाण पत्र फर्जी
गौरीबाजार के दो और सलेमपुर के एक शिक्षक के खिलाफ हुई कार्रवाई
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। कूटरचित ढंग से शैक्षिक प्रमाण पत्र तैयार कर पिछले कई वर्षों से बेसिक शिक्षा विभाग में नौकरी कर रहे तीन शिक्षकों को फर्जी अभिलेखों की पुष्टि के बाद बर्खास्त कर दिया गया है। इसमें दो गौरीबाजार क्षेत्र के एवं एक सलेमपुर विकास खंड का शामिल है। संबंधित क्षेत्र के बीईओ ने इनके खिलाफ विधिक कार्रवाई का आदेश दिया है।
फर्जी शिक्षक प्रकरण मामले में देवरिया जनपद लगातार शासन के रडार पर है। जबसे इसकी जांच एसटीएफ को सौंपी गई है, शिक्षक भर्ती के नाम पर यहां पर बड़ा फर्जीवाड़ा किए जाने का पर्दाफाश हुआ है। पिछले तीन वर्षों में फर्जी प्रमाण पत्रों पर नौकरी कर रहे 32 शिक्षकों को सेवा से बाहर का रास्ता अब तक दिखाया जा चुका है। इस सूची में सोमवार को तीन और शिक्षकों के नाम जुड़ गए। बीएसए प्रकाश नारायण श्रीवास्तव ने बताया कि गौरीबाजार के पूर्व माध्यमिक विद्यालय चरियांव की सहायक अध्यापक शशिप्रभा की तैनाती 29334 शिक्षक भर्ती अभियान विज्ञान व गणित विषय के अंतर्गत हुई थी। नियुक्ति के दौरान प्रस्तुत शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन के क्रम में इनके स्नातक व बीएड के प्रमाण पत्रों की जांच जब संबंधित संस्थान वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय से कराई गई तो स्नातक वर्ष 2009 एवं बीएड वर्ष 2011 के प्रमाण पत्र के अनुक्रमांक सारणीयन पंजिका में नहीं होने की पुष्टि हुई है। इन्हें अपना पक्ष रखने का मौका भी दिया गया, लेकिन उन्होंने प्रभावी स्पष्टीकरण नहीं दिया। इस पर उन्हें सेवा से पदच्युत करने का निर्णय लिया गया है। इसी क्षेत्र के उच्च प्राथमिक विद्यालय गोपालपुर के सहायक अध्यापक हीरालाल मौर्य के संबंध में मिली शिकायतों के बाद जांच में बीएड के अंक पत्र व प्रमाण पत्रों के सत्यापन में गोरखपुर विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक ने इसे फर्जी बताया है। विभाग की ओर से इस संबंध में भेजे गए नोटिस का भी उन्होंने जवाब नहीं दिया तो उन्हें भी सेवा से बर्खास्त किया जाता है। उन्होंने बताया कि सलेमपुर विकास खंड के पूर्व माध्यमिक विद्यालय बरठा बाबू के सहायक अध्यापक भूपेेंद्र कुमार की नियुक्ति 29334 भर्ती प्रक्रिया विज्ञान व गणित के अंतर्गत हुई। इनकी ओर से प्रस्तुत स्नातक वर्ष 2009, बीएड वर्ष 2011 के अंकपत्र व प्रमाण पत्रों के संबंध में वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय, जौनपुर ने इनके प्रमाण पत्रों के अनुक्रमांक को सारणीयन पंजिका में नहीं होने की पुष्टि की है। इनके भी फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्रों के आधार पर नौकरी करने पर जांच के बाद इन्हें भी बर्खास्त किया जाता है। सभी संबंधित बीईओ से इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए गए हैं।
... और पढ़ें

मौर्य एक्सप्रेस ट्रेन में नहीं लगा रिजर्व कोच, हंगामा

मौर्य एक्सप्रेस में नहीं लगा रिजर्व कोच, बारातियों ने किया हंगामा
भाटपाररानी में 30 मिनट खड़ी रही ट्रेन, छपरा में कोच लगाया गया
लापरवाही करने वाले रेलकर्मी के खिलाफ हुई विभागीय कार्रवाई
संवाद न्यूज एजेंसी
गोरखपुर/ देवरिया/भाटपाररानी। रेलवे के जिम्मेदारों की लापरवाही का खामियाजा सोमवार को बारातियों को उठाना पड़ा। मौर्य एक्सप्रेस (15028) में गोरखपुर जंक्शन से बारातियों के लिए बुक स्लीपर का रिजर्व कोच ही नहीं लगाया गया। भाटपाररानी स्टेशन पर जब बारातियों को कोच नहीं मिला तो उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया। इसके चलते ट्रेन को आधे घंटे तक खड़ा करना पड़ा। स्टेशन मास्टर ने इसकी सूचना कंट्रोल रूम एवं अपने अधिकारियों को दी। बारातियों को ट्रेन में बैठाकर छपरा तक भेजा गया और वहां से एक स्लीपर कोच लगाकर बारातियों को भेजा गया। वहीं लापरवाही में ड्यूटी पर तैनात रेलकर्मी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की गई है।
रविवार को आंध्र प्रदेश से एक बारात लार में आई थी। सोमवार को बारातियों को 15028 डाउन मौर्य एक्सप्रेस से जाना था। उनके लिए कोच रिजर्व कराया गया था। ट्रेन गोरखपुर से चली थी तो कोच भी यहीं से लगाई जानी थी, लेकिन कोच नहीं लगाया गया। मौर्य एक्सप्रेस जब सुबह 13 मिनट विलंब से 9:15 बजे भाटपाररानी स्टेशन पर पहुंची तो उसमें बारातियों के लिए रिजर्व कोच नहीं लगा था। बाराती हंगामा खड़ा कर दिए। इस दौरान ट्रेन खड़ी रही। कंट्रोल रूम की सूचना पर स्टेशन मास्टर बृजेश कुमार ने बारातियों को बताया कि पीछे से आ रही 15048 डाउन पूर्वांचल एक्सप्रेस ट्रेन में उनका रिजर्व कोच लगकर आ रहा है। वे इसी ट्रेन में बैठकर छपरा तक चले जाएं। बाराती आश्वासन पर मान गए। 23 स्लीपर बर्थ बारातियों के लिए अलग से रिजर्व कराकर छपरा तक भेजा गया। इसके चलते ट्रेन 9:45 बजे रवाना हो सकी। स्टेशन मास्टर बृजेश कुमार ने बताया कि बारातियों को छपरा तक भेज दिया गया। वहां उन्हें रिजर्व कोच उपलब्ध करा दिया गया।
-
कोट
विभागीय लोगों में समन्वय स्थापित नहीं हो पाने से ऐसी दिक्कत हुई है। छपरा में कोच उपलब्ध करा दिया गया। संबंधित रेलकर्मी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की गई है।
पंकज कुमार सिंह, सीपीआरओ एनईआर
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Coupon
Coupon
Coupon
Coupon

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us