विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अयोध्या मामले में पुनर्विचार याचिका के पीछे भी कांग्रेस का हाथ- वेदांती

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को एकजुटता के सूत्र में बांधने का सार्थक प्रयास किया है। गैर भाजपाई सरकारों पर आरोप लगाया कि बंगलादेश, पाकिस्तान से कई आंतकवादी भारत में घुस आते और फिर यहां आतंकी हमले कर दहशत फैलाते हैं।

12 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

एटा

गुरूवार, 12 दिसंबर 2019

सर्द मौसम पढ़ने लगा मासूमों की सेहत पर भारी

एटा। सर्द मौसम बच्चों के लिए खतरनाक होता जा रहा है। जरा सी लापरवाही से बच्चे बीमार पड़ सकते हैं। इस मौसम में बच्चों को बीमारियों से बचाने के लिए सावधानी जरूरी है। अन्यथा उन्हें डायरिया, निमोनिया और वायरल बुखार जैसी घातक बीमारी घेर सकती हैं। इन दिनों जिला अस्पताल सहित नर्सिंग होम में मरीजों में सर्वाधिक संख्या बच्चों की है।
बदलता मौसम बीमारियां तेजी से लोगों को अपनी गिरफ्त में ले रहा है। उल्टी, खांसी, दस्त, निमोनिया और डायरिया से बच्चों की सेहत बिगड़ रही है। जिला अस्पताल से लेकर नर्सिंग होम में बीमार बच्चों की भरमार देखी जा सकती है। सही समय पर लक्षणों की पहचान कर बच्चों को इन बीमारियों से बचाया जा सकता है।
यदि बच्चे की पसली चले, स्तनपान न करे, अंगों में शिथिलता हो तो यह लक्षण निमोनिया के है। बच्चे को बिना लापरवाही किए तुरंत चिकित्सक को दिखाना चाहिए। यदि बच्चे को 24 घंटे में तीन से चार दस्त हों ऐसी स्थिति में वह डायरिया का शिकार हो सकता है। ऐसे बच्चे को तुरंत ओआरएस का घोल देना चाहिए।
कम वजन के बच्चे हो रहे इंफेक्शन का शिकार
सर्दी के मौसम में सर्वाधिक बीमारियों के शिकार कम वजन के बच्चे हो रहे हैं। चिकित्सकों की मानें तो एक वर्ष के बच्चे में दस किलोग्राम का वजन होना चाहिए, लेकिन जिले में यह स्थिति चिंताजनक है। यहां बच्चे सात से आठ किलोग्राम के हैं। इससे उनकी प्रतिरोधी क्षमता पर प्रभाव पड़ता है। जिससे बच्चों में बीमारियां फैल रहीं है।
जिला अस्पताल में सोमवार को पहुंचे 260 बच्चे
जिला अस्पताल में सोमवार को बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. अनंत व्यास ने 260 बच्चों का इलाज किया। इस दौरान उन्होंने बताया कि 20 फीसद बच्चे निमोनिया व डायरिया के पीड़ित आ रहे है। अधिकांश बच्चे सर्दी, खांसी से ग्रसित हैं।
छह माह तक पिलाएं मां का दूध
चिकित्सकों ने बताया कि नवजात को गंभीर जानलेवा बीमारियों से बचाने के लिए मॉ का दूध जरूरी होता है। इसलिए नवजात को छह माह तक मां का दूध पिलाना चालिए। जिससे उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
चिकित्सकों का कहना
बदलते मौसम में बच्चे बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। बच्चों पर अधिक ध्यान देने की जरूरत है । माताएं अपने बच्चे को छह माह तक स्तनपान कराएं। इसके बाद ही बच्चों को पूरक आहार देें।
डॉ. राजेश सक्सेना, बाल रोग विशेषज्ञ
इस समय बच्चों को सर्दी से बचाना जरूरी है। थोड़ी सी लापरवाही में बच्चे निमोनिया व डायरिया के शिकार हो रहे हैं। बीमारियों से बच्चों को बचाने के लिए ऊनी कपड़ों से उन्हें पूरी तरह ढककर रखें।
डॉ. अनंत व्यास, बाल रोग विशेषज्ञ जिला अस्पताल
... और पढ़ें

थाने-चौकियों में हो रहा मानवाधिकारों का उल्लंघन

एटा। हैदराबाद में डॉक्टर बिटिया से दुष्कर्म के आरोपियों के मुठभेड़ में मारे जाने के बाद से एक बार फिर मानवाधिकारों पर बहस छिड़ गई है। यह सही भी है कि मानवाधिकारों के संरक्षण का जिस खाकी वर्दी पर दायित्व है, वही सबसे ज्यादा मानवाधिकारों का उल्लंघन करती है। यहां तक की अपने बचाव के लिए जिले के थाने और चौकियों में शासनादेश के बावजूद मानवाधिकार संबंधी बोर्ड तक नहीं लगाए हैं।
मंगलवार को विश्व मानवाधिकार दिवस मनाया जाएगा। गोष्ठियां और रैलियां निकालकर मानवाधिकारों की दुहाई दी जाएगी और लोगों को अधिकारों का पाठ पढ़ाया जाएगा। लेकिन शहर में सबसे महत्वपूर्ण पुलिस विभाग ही इसके प्रति सजग और संवेदनशील नहीं हैं। पुलिस थानों में ही मानवाधिकारों का सबसे ज्यादा उल्लंघन किया जा रहा है।
अमर उजाला की टीम ने सोमवार को इसकी पड़ताल की तो चौंकाने वाले नजारे देखने को मिले। कोतवाली नगर, कोतवाली देहात और महिला थाना सहित अन्य चौकियों पर धड़ल्ले से मानवाधिकारों का उल्लंघन होते मिला। नियमों की जानकारी तो दूर यहां पर मानवाधिकार संबंधी बोर्ड तक टंगा नहीं मिला। थाने में बोर्ड न लगने की बात जब प्रभारी इंस्पेक्टर देहात कोतवाली सुभाष सिंह बात को टालते नजर आए। कोतवाली शहर में मुंशी लखन ने बताया कि किसी ने वॉल पेंट होने के चलते मिट गया होगा। कई इस बात पर चुप्पी साधते नजर आए।
हवालातों में गंदगी और बदबू
कोतवाली सिटी में हवालात का सबसे बुरा हाल मिला। यहां पर न तो कोई साफ-सफाई है और न ही पानी, शौचालय का इंतजाम है। हवालात में बदबू आ रही है। पीने के पानी का कैंपर हवालात के बाहर रखा मिला, जबकि बंदी के पानी मांगने पर पहरा बोतल में पानी भरकर देता है।
ये हैं मानवधिकार
- प्रत्येक पीड़ित की एफआईआर दर्ज करना पुलिस की जिम्मेदारी है। पुलिस मना नहीं कर सकती है।
- थाने लाए गए किसी भी व्यक्ति के साथ पुलिस अमानवीय व्यवहार या मारपीट नहीं कर सकती।
- पुलिस बिना कारण बताए किसी भी मामले में किसी भी व्यक्ति को गिरफ्तार नहीं कर सकती है।
- गिरफ्तार व्यक्ति को 24 घंटे के अंदर पुलिस को नजदीकी न्यायालय के समक्ष पेश करना जरूरी है।
- पुलिस किसी भी व्यक्ति को हिरासत में थाने लाती है, तो उसे समय पर भोजन देना होता है।
- न्यायालय के आदेश के बिना पुलिस किसी भी आरोप में व्यक्ति को हथकड़ी नहीं लगा सकती।
- किसी भी व्यक्ति की गिरफ्तारी पर पुलिस वालों को इसकी सूचना परिजनों को देना जरूरी है।
- दुष्कर्म पीड़िता से महिला पुलिस की मौजूदगी में ही पूछताछ की जा सकती है।
मानवाधिकार का बोर्ड प्रत्येक थाने में लगाने का प्रावधान है, जांच करके बोर्ड लगवाएंगे। हवालात में भी साफ-सफाई जल्द ही कराएंगे।
- संजय कुमार, एएसपी।
... और पढ़ें

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में 93 जोड़ों हुए एक-दूजे के

एटा। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत सोमवार को जिले में 93 जोड़ों ने एक-दूसरे का हाथ थामा। डीएम ने नवविवाहित जोड़ों को अपने जीवन साथी के प्रति वफादार रहने का संकल्प दिलाया। योजना के तहत 35 हजार रुपये वधू के खाते में डाले गए। साथ ही दस हजार रुपये का सामान उपहार स्वरूप दिया गया।
जिला पंचायत परिसर में सोमवार को एक तरह कुरान की आयतें तो दूसरी तरफ वैदिक मंत्रोच्चारण की गूंज सुनाई दी। कार्यक्रम का शुभांरभ डीएम सुखलाल भारती और भाजपा जिलाध्यक्ष संदीप जैन सहित चारों विधायकों ने किया। इस दौरान 87 हिंदू जोड़े सहित 6 मुस्लिम जोड़ों की शादियां र्हुइं। एडीएम प्रशासन केपी सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत 51 हजार रुपये प्रति जोड़े के हिसाब से खर्च किए जाने का प्रावधान है।
ये रहे मौजूद
कार्यक्रम में सदर विधायक विपिन कुमार डेविड, विधायक मारहरा वीरेंद्र सिंह लोधी, अलीगंज विधायक सत्यपाल सिंह राठौर, जलेसर विधायक संजीव दिवाकर, पूर्व विधायक सुधाकर वर्मा, पंकज चौहान, प्रमोद गुप्ता, एडीएम वित्त एवं राजस्व केशव कुमार, सीडीओ मदन वर्मा, सीएमओ डॉ. अजय अग्रवाल, एसडीएम नंदलाल सिंह, डीडीओ एसएन सिंह कुशवाह, समाज कल्याण अधिकारी रश्मी यादव, बीएसए संजय सिंह, पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी डॉली सिंह, डीपीओ संजय सिंह, क्रीड़ाधिकारी सिराजुद्दीन आदि ने उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

एटाः टायर फटने से टेंपो पलटा, अमरूद व्यापारी की मौत, परिवार में मचा कोहराम

अमरूद लाद कर आ रहे टेंपो का टायर फटने से पलट गया। हादसे में अमरूद का व्यापार करने वाले एक ठेल वाले की मौत हो गई। हादसे में चालक किसी तरह से बच गया। हादसे की खबर परिजनों को मिलते ही कोहराम मच गया। 

थाना मिरहची के गांव सिरसा टिप्पू के पास बुधवार की सुबह 7.30 बजे अमरूद से भरे टेंपो का टायर फट गया। टायर फटते ही टेंपो अनियंत्रित होकर पलट गया, टेंपो जिस ओर पलटा था उसी ओर रिजवान (30) पुत्र छोटे निवासी मोहल्ला कस्सावान मारहरा नीचे दब गया।

चालक व अन्य राहगीरों ने टेंपो के नीचे दबे रिजवान को किसी तरह से बाहर निकाला, तब तक मौत हो चुकी थी। फिर भी चालक मृतक को लेकर जिला अस्पताल पहुंचा, यहां पर डाक्टरों ने भी मृतक घोषित कर दिया। 
 
... और पढ़ें
demo pic demo pic

उचित रोजगार तलाशें, सब नौकरी के पीछे न भागें

एटा। युवा उचित रोजगार तलाशें, नौकरी के पीछे नहीं भागें। बदले दौर में रोजगार बढ़े हैं नौकरियां नहीं। हर क्षेत्र में नाम कमा रहीं बेटियों के लिए भी रोजगार-नौकरियों की कमी नहीं है। बुधवार को जलेसर स्थित आदर्श इंटर कॉलेज व एमजीएम इंटर कॉलेज में आयोजित करियर काउंसलिंग में वरिष्ठ सहायक रामबृज पाराशर ने कहा कि सेवायोजन विभाग आज आपके द्वार पंजीकरण एवं विभिन्न क्षेत्रों की नौकरियों की जानकारी देने आया है।
विशेषज्ञ राजीव उपाध्याय ने कहा कि कोई विषय कठिन और सरल नहीं होता। आपकी रुचि इसे निर्धारित करती है। लगन व मेहनत से कुछ भी हासिल किया जा सकता है। विशेषज्ञ वीके मिश्र ने कहा कि लक्ष्य प्राप्ति में गरीबी बाधक नहीं वरन बहाना भर है। जिले के किसान की बेटी वंदना ने गत माह फिलीपींस में आयोजित विज्ञान संगोष्ठी में देश का प्रतिनिधित्व कर इसे साबित कर दिया है। जिला सेवायोजन अधिकारी रामखिलाड़ी ने कहा कि अब घर बैठे सेवायोजन विभाग में पंजीकरण करा रोजगार मेले में क्षमता-योग्यता के अनुसार नौकरियां भी मिल रहीं हैं। प्रधानाचार्य अजय मोहन शर्मा ने विभागीय अधिकारियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि ऐसी पहल से छात्र-छात्राओं को नई दिशा मिलेगी। क्षेम अग्रिहोत्री ने ऑन लाइन पंजीकरण की जानकारी दी।
... और पढ़ें

पालिका के पास कूड़ा कलेक्शन के लिए वाहन के लाले

एटा। स्वच्छता सर्वेक्षण नजदीक आता जा रहा है। रैंक पाने की जुगत में लगी पालिका की समस्याएं कम होने की बजाए बढ़ती ही जा रही हैं।
नगर पालिका के पास डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन के लिए पांच टैंपो हैं, जिसमें से तीन खराब हैं। वहीं वाहन चालक मनमानी कर रहे हैं। जिसकी वजह से घरों से उठने वाला कूड़ा खाली प्लॉट या सड़कों पर फेंका जा रहा है। पालिका प्रशासन इसको लेकर सजग नहीं हैं। लापरवाही करने वाले कर्मचारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई भी नहीं की जा रही है।
नगर पालिका के पास अभी कुल 23 वाहन हैं। जिसमें 2 डंफर, 2 जेसीबी, 3 ट्रैक्टर ट्रॉली, दो लोडर, पानी छिड़काव के टैंकर 6, सेक्शन मशीन 3, फॉगिंग मशीन 2, कूड़ा कलेक्शन के लिए 5 टैंपो हैं। जिसमें से 3 टैंपो कूड़ा कलेक्शन समेत 9 वाहन खराब पड़े हैं।
... और पढ़ें

12 सौ करोड़ की लागत से बन रहे शहर में तीन बाईपास

एटा। शहर में लाइलाज बन चुकी जाम की समस्या से स्थानीय लोगों को राहत मिलने वाली है। इन दिनों शहर में बाईपास का निर्माण तेजी से चल रहा है। लगभग 50 फीसदी कार्य पूरा हो चुका है। बाईपास के साथ ओवरब्रिज भी बनाए जा रहे हैं। अगले साल दिसंबर माह तक बाईपास पर वाहन फर्राटे भरते नजर आएंगे।
दिल्ली से कानपुर तक जाने वाला एनएच-91 माया पैलेस चौराहे से सैनिक पड़ाव (करीब तीन किलोमीटर) तक शहर के सघन इलाके से होकर गुजरता है। भारी वाहनों के कारण यहां हर वक्त जाम की समस्या बनी रहती है। लोगों को इससे निजात दिलाने के लिए तीन जगह बाईपास बनाए जा रहे हैं। इस पर करीब 12 करोड़ रुपये लागत लाएगी।
पहला बाईपास जीटी रोड पर कस्बा पिलुआ से हजारा नहर के बीच है, जिसकी लंबाई करीब दो किलोमीटर है। दूसरा बाईपास विरामपुर से मानपुर तक 12.2 किलोमीटर की दूरी का बनाया जा रहा है। तीसरा बाईपास मलावन से रिलायंस पेट्रोल पंप के पास नगला रामजी तक लगभग 3 किलोमीटर का बनाया जा रहा है। तीनों ही स्थानों पर इन दिनों तेज गति से काम चल रहा है।
... और पढ़ें

181 महिला हेल्पलाइन को खुद मदद की दरकार

सुन्ना नहर पर बाईपास के लिए पुल बनाते कर्मचारी
एटा। आकस्मिक स्थिति में महिलाओं को त्वरित सहायता उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई महिला हेल्पलाइन नंबर को खुद मदद की दरकार है। डीजल का बजट न आने से हेल्पलाइन टीम के वाहन के पहिए पांच माह से थमे हुए हैं। हेल्पलाइन में काम करने वाले कर्मचारियों को छह माह से वेतन नहीं मिला है। महिला हेल्पलाइन का यह हाल तब है। जब प्रदेश में उन्नाव व हैदराबाद जैसी घटनाएं हो रही हैं।
किसी अप्रिय घटना या विषम परिस्थिति में महिलाओं को तत्काल सहायता मिल सके, इसके लिए प्रदेश सरकार के महिला कल्याण विभाग ने हेल्पलाइन सेवा 181 शुरू की थी। आवश्यकता पड़ने पर महिलाएं 181 पर कॉल कर सहायता हासिल कर सकती हैं। पीड़ित महिला तक पहुंचने के लिए 181 सेवा की टीम को एक चौपहिया वाहन दिया गया है। इसमें दो महिला पुलिस कर्मी, सुगमकर्ता व चालक की तैनाती है, लेकिन पिछले पांच माह से डीजल न मिल पाने की वजह से इसके पहिए थमे हुए हैं।
हालांकि शुरुआत में हेल्पलाइन सेवा में तैनात कर्मचारियों ने जोड़ तोड़ कर किसी तरह गाड़ी चलवाने का प्रयास किया पर ज्यादा दिनों तक व्यवस्था को सुचारु नहीं रख पाए। इससे टीम मदद मांगने वाली महिलाओं के पास नहीं पहुंच पा रही है। वहीं हेल्पलाइन में तैनात सभी कर्मचारियों को छह माह से वेतन नहीं मिला है। यह सभी कर्मचारी आउटसोर्सिंग पर रखे गए हैं।
... और पढ़ें

तहसीलदार, बीडीओ, बीईओ करेंगे स्वेटर गुणवत्ता की जांच

एटा। परिषदीय स्कूलों में वितरित हो रहे स्वेटर्स की गुणवत्ता की जांच तहसीलदार, बीडीओ व बीईओ की तीन सदस्यीय समिति करेगी। डीएम ने विकास खंड व नगर क्षेत्र के लिए समितियां गठित नमूनों से जांच के आदेश दिए हैं। भारत सरकार के जैम पोर्टल के माध्यम से परिषदीय स्कूलों में पंजीकृत 1.45 लाख छात्र-छात्राओं के स्वेटर आपूर्ति के निर्देश दिए थे। संस्था ने सैंपल के साथ आपूर्ति आवेदन किया था।
जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने तीन सदस्यीय जांच समिति का गठन कर शासनादेश के अनुसार सैंपल से स्वेटर्स की जांच कराने के निर्देश दिए हैं। बताते चलें कि जिले में आठ विकास खंड व तीन नगर क्षेत्र में 1927 परिषदीय स्कूल संचालित हैं। इनमें लगभग 1.45 लाख छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं।
... और पढ़ें

तीर्थनगरी में नागा साधुओं ने निकाली स्याही शोभायात्रा, हैरतअंगेज करतब देख दंग रह गए लोग

जिले में जगह- जगह हो रहा खनन , प्रशासन अनजान

फोएटा। सदर तहसील के गांव कासौन निजामपुर में पिछले दिनों चारागाह की भूमि पर अवैध खनन किया गया था। इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से की गई। मंगलवार को वहां राजस्व की टीम पहुंची उन्होंने वहां पैमाइश कर ठेकेदार पर पेनाल्टी लगाई है, लेकिन अधिकारी इससे अनजान बने हुए हैं। वहीं जिले में जगह- जगह अवैध खनन जारी है।
बागवाला क्षेत्र के गांव कासौन निजामपुर में एक ठेकेदार द्वारा जेसीबी से आठ से दस फुट चारगाह की भूमि पर मिट्टी का अवैध खनन किया गया। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत डीएम सुखलाल भारती से की। जहां उन्होंने जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए। इसी के तहत एक सप्ताह पूर्व वहां टीम गई। उन्होंने भूमि की पैमाइश आदि की और खनन को गलत बताया। वहीं मंगलवार को टीम वहां पुन: पहुंची और एक बार फिर भूमि की नापजोख की। प्रकरण से जिले के अधिकारी अनजान बने हुए है। उन्हें जानकारी ही नहीं है कि मंगलवार को टीम गांव गई थी। उन्होंने किसी पर जुर्माना लगाया है।
... और पढ़ें

ड्यूटी छोड़कर थाने से फरार हुआ आरोपी पुलिसकर्मी, किशोर को कमरे में बुलाकर की थी 'गंदी हरकत'

कासगंज जिले में किशोर से कुकर्म की कोशिश करने का आरोपी पुलिसकर्मी ड्यूटी छोड़कर थाने से भाग गया है। पीड़ित के पिता की तहरीर पर पुलिसकर्मी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं ड्यूटी छोड़कर भागने के मामले में थानाध्यक्ष ने भी उसके खिलाफ अनुशासनहीनता का मुकदमा दर्ज कराया है।

छह दिसंबर को अतिक्रमण के मामले में थाना सिकंदरपुर वैश्य में बंद पिता को खाना देने गए किशोर से थाने के मुंशी त्रिभुवन सिंह ने अपने कमरे में कुकर्म की कोशिश की। इस मामले में पीड़ित के पिता की तहरीर पर सोमवार रात पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं एसपी ने आरोपी मुंशी को निलंबित कर दिया है। 

मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपी मुंशी ड्यूटी छोड़कर थाने से भाग गया है। एसपी सुशील घुले ने फरार मुंशी की गिरफ्तारी के लिए सिढ़पुरा थानाध्यक्ष के नेतृत्व में टीम गठित कर दी है। सीओ पटियाली को पूरे प्रकरण की निगरानी के निर्देश दिए हैं। 
... और पढ़ें

मूक-बधिर बच्चों की सांस्कृतिक प्रस्तुतियों पर खूब बजीं तालियां

एटा। अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस पर आयोजित दिव्यांगों के अधिकार विषय पर आयोजित संगोष्ठी एवं कार्यशाला में दिव्यांग बच्चों ने रंगारंग प्रस्तुति दी। साथ ही संकेतों की अभिव्यक्ति से मानवाधिकारों की वकालत की। जेएलएन नेहरू महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा कांशीराम कालोनी स्थित एक्सीलरेटेड लर्निंग कैंप में आयोजित कार्यक्रम में मूक बधिर बच्चों ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ थीम डांस एवं ग्रुप डांस प्रस्तुत कर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया।
दिव्यांग बच्चों ने रोल प्ले के माध्यम से मोबाइल के दुरुपयोग से होने वाली नुकसान बताए। एनएसएस वालिंटियर्स प्रतीक्षा, राज पचौरी, श्वेता गुप्ता व शिवम दिवाकर ने मानवाधिकार पर अपने विचार प्रस्तुत किए। जिला दिव्यांग कल्याण अधिकारी डॉली सिंह ने दिव्यांगों के लिए सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाअेां की जानकारी दी साथ ही कहा कि मानवाधिकारों के प्रति सरकार सजग है। डीसी संजय मिश्रा ने समेकित शिक्षा के लाभार्थी बच्चों की जानकारी दी। कार्यशाला का संचालन डायट प्रवक्ता संजय शर्मा ने किया। प्रधानाध्यापक विजय शर्मा ने अतिथियों का स्वागत किया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election