विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020
Astrology Services

हनुमान जयंती पर नौकरी प्राप्ति, आर्थिक उन्नत्ति, राजनीतिक सफलता एवं शत्रुनाशक हनुमंत अनुष्ठान - 8 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

रेड जोन घोषित इलाकों में 60 हजार घरों के लोग चार दिन रहेंगे कैद, अघोषित कर्फ्यू जैसा होगा माहौल

कानपुर में रेड जोन घोषित क्षेत्रों के करीब 60 हजार घरों के लोग चार दिन तक घर से बाहर नहीं निकल पाएंगे। स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की टीमें जब तक एक-एक घर में पहुंचकर स्वास्थ्य परीक्षण नहीं करा लेतीं इन इलाकों में अघोषित कर्फ्यू जैसा माहौल रहेगा।

6 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

इटावा

सोमवार, 6 अप्रैल 2020

प्रेमी युगल की मौत पर दोनों परिवार खामोश

भरथना (इटावा)। देवरासई गांव में प्रेमी युगल की मौत से दोनों परिवार गमगीन हैं। पोस्टमार्टम के बाद दोनों के शवों का खेतों पर अंतिम संस्कार कर दिया गया। दोनों ही परिवारों ने फिलहाल खामोशी ओढ़ रखी है। किसी ने भी पुलिस से शिकायत नहीं की है। हालांकि पुलिस लोगों से पूछताछ कर रही है।
देवरासई गांव के राजमिस्त्री का पुत्र (17) और गांव के ही इंजन मिस्त्री की बेटी एक साथ बसरेहर थाना क्षेत्र के चंपानेर गांव के इंटर कॉलेज में 11वीं के छात्र थे। दोनों एक दूसरे से प्रेम करते थे। 30 मार्च की शाम को दोनों घर से लापता हुए और गुरुवार को उन दोनों शव के देवरासई गांव के बाहर स्थित एक कुंए में पड़े मिले थे। ग्राम प्रधान के पति रामू दुबे की सूचना पर पुलिस ने दोनों शवों को कुंए से निकालकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा था।
गुरुवार रात करीब दो बजे दोनों शव गांव पहुंचे तो परिजन में मातम पसर गया। शुक्रवार की सुबह करीब 8 बजे परिजनों ने लड़के के शव का अपने खेत पर अंतिम संस्कार किया। इसके बाद लड़की के शव को उसके घरवाले खेत पर ले गए और अंतिम क्रिया पूरी की। प्रेमी युगल की मौत के बाद अब तक लड़का या लड़की किसी के भी परिवार ने पुलिस को तहरीर नहीं दी है। लिहाजा पुलिस ने भी अब तक कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की। कोतवाल बलिराज शाही ने बताया कि पुलिस दोनों परिवार के लोगों से पूछताछ कर रही है। फिलहाल किसी ने भी तहरीर नहीं दी है।
... और पढ़ें

फोटो संख्या 05: महिला सीएमएस डा.अशोक कुमार

इटावा। महिला अस्पताल आने वाली मरीजों को संक्रमण से बचाने के लिए खासकर डिलीवरी के लिए आने वाली महिलाओं से एक सहमति पत्र भरवाया जा रहा है। इसका उद्देश्य यह है कि मरीज मे खांसी, जुकाम, बुखार के पूर्व लक्षण तो नहीं है। वह दूसरे शहर अथवा राज्य से तो नहीं आई हैं। साथ ही पड़ोस के किसी व्यक्ति को खांसी, जुकाम, बुखार तो नहीं आ रहा है।
सीएमएस डा.अशोक कुमार ने बताया कि कोरोना वायरस को लेकर वह और उनका स्टाफ पूरा एहतियात बरत रहे हैं। पर्चे को सैनिटाइज किया जा रहा है। डाक्टर के पास मरीज को भेजने से पहले हाथों को सैनिटाइज करके भेज रहे हैं। डाक्टर भी उन्हें दूसरों से दूरी बनाकर रहने की सलाह दे रहे हैं। सारी जांच कराई जा रही है। अस्पताल में उठने, बैठने, दवाईयों समेत पूरे अस्पताल को सैनिटाइज करवा रहे हैं।
यह भी बताया कि कोरोना वायरस को लेकर वह काफी सतर्कता बरत रहे हैं। भर्ती मरीजों को खाना देने के अलावा उनके तीमारदार को भी खाना दिया जा रहा है ताकि वह बाहर न जाएं। यही वजह कि उनका अस्पताल फिलहाल सुरक्षित है। कोई भी संक्रमण नहीं है। इस कार्य में पैरामेडिकल स्टाफ, नर्सें, सफाई कर्मी आदि का पूरा सहयोग मिल रहा है। बच्चों का टीकाकरण कराने आने वाली महिलाओं का हाथ सैनिटाइज करके बुलाने के बाद बच्चे का टीकाकरण किया जा रहा है। शुक्रवार की दोपहर 12 बजे तक 13 बच्चों का टीकाकरण हो चुका था। सीएमएस ने बताया कि 23 से 31 मार्च तक 88 डिलीवरी हुई। 3 अप्रैल को 28 ओपीडी रही। पांच महिलाएं भर्ती की गईं।
सीएमएस डा.अशोक कुमार ने कहा कि गर्भवती महिलाओं के बच्चे पर कोरोना का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। गर्भवती महिलाएं हरी सब्जियां खाएं। विटामिन सी का प्रयोग करें। सब्जियों को पकाने से पहले गुनगुने पानी से धोने के बाद पकाएं।
स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. राखी शर्मा ने बताया कि गर्भवती महिलाओं में प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है, वह सजग रहे। बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलें। जहां तक हो संक्रमण से बचने का प्रयास करें और घर पर ही रहें।
... और पढ़ें

फोटो संख्या 18: पचराहा स्थित मस्जिद के पास दोपहर में सन्नाटे के बीच बैठे सुरक्षा कर्मी

इटावा। लॉकडाउन लगने के बाद दूसरे जुमे पर भी मुस्लिमों ने घरों में नमाज अदा की। मस्जिदों के लाउडस्पीकर भी बंद रहे। मस्जिदों में इमाम, मुतवल्ली और मुअज्जिन ने सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर नमाज अदा की। पिछले जुमे को एक मस्जिद में भीड़ जमा होने के कारण इस बार प्रशासन ज्यादा मुस्तैद दिखा। मस्जिदों के बाहर पुलिस तैनात रही और अधिकारी गश्त करते रहे।
पचराहा मस्जिद के मुतवल्ली गुलशेर ने सुबह में गेट पर ताला डाल दिया था। उन्होंने बताया कि मस्जिद में किसी को घुसने की इजाजत नहीं है। बाहर तीन दरोगा और छह सिपाही तैनात रहे। जामा मस्जिद के मुतवल्ली ने भी गेट पर ताला डाल दिया था। इस मस्जिद के बाहर पौने एक बजे पुलिसकर्मी भी बैठ गए। इसी तरह सभी मस्जिदों के गेट पर ताले लगा दिए गए। एडीएम ज्ञानप्रकाश श्रीवास्तव, एसपी सिटी रामयश सिंह, एसडीएम सिद्धार्थ, सीओ वैभव पांडेय ने मस्जिदों के बाहर जायजा लिया। मुस्लिम बस्तियों ने भी अधिकारी ये देखने पहुंचे कि कहीं भीड़ तो नहीं जुट रही है।
एक मार्च से अभी तक गांवों में मस्जिदों में एवं मंदिरों में पहुंचे बाहरी लोगों की जानकारी 24 घंटे के अंदर पुलिस को देनी होगी। गलत जानकारी देने पर होगी कार्रवाई।
शुक्रवार को थानाध्यक्ष ऊसराहार जे पी सिंह ने थाना क्षेत्र के 30 से अधिक ग्राम प्रधानों एवं नौ मस्जिद के मौलवी व हाफिज चार मंदिरों के पुजारियों एवं सभी क्षेत्र पंचायत सदस्य जिला पंचायत सदस्यों को नोटिस जारी किया है। निर्देश हैं कि यदि उनकी ग्राम पंचायत में मंदिर में मस्जिद में यदि कोई भी व्यक्ति बाहर से आकर रुका है तो उसकी सूचना 24 घंटे के अंदर थाना पुलिस को दें। सूचना नहीं दी जाती है तो संबंधित जिम्मेदार के विरुद्ध भी कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

वाहन की टक्कर से युवक की मौत

इटावा: लखनऊ से आई सूचना पर युवक आइसोलेट, बाद में सूची से नाम बाहर किया

इटावा। शासन की ओर से लखनऊ से जारी सूची में शहर के युवक को कोरोना पॉजिटिव दर्शाने पर आनन-फानन उसे अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करा दिया गया। कुछ समय बाद ही लखनऊ से संशोधित सूचना में उस युवक का नाम न होने की जानकारी दी गई।
लखनऊ की पहली सूचना पर सीडीओ राजा गणपति आर, सीएमओ डॉ.एनएस तोमर, एसडीएम सदर युवक के घर पहुंचे। युवक मोतीझील कॉलोनी स्थित अपने घर पर नहीं था। वह रिश्तेदारी में गया था। अधिकारी रिश्तेदार के यहां पहुंचे। युवक को एंबुलेंस से लाकर जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। सैंपल जांच के लिए सैफई पीजीआई भेजा गया। लखनऊ से मिली जानकारी में युवक के लखनऊ में कोरोना संक्रमितों के संपर्क से प्रभावित होने की बात कही गई थी। युवक ने बताया कि वह कई माह से इटावा में ही है। लखनऊ गया ही नहीं।
डीएम जेबी सिंह ने बताया कि मोबाइल सर्विलांस के जरिए युवक कोरोना संक्रमितों के संपर्क में होने की जानकारी मिली थी। कोरोना पॉजिटिव होने की बात रिपोर्ट में नहीं थी। फिलहाल वह निगरानी में है। सीएमओ डॉ. एनएस तोमर ने बताया कि लखनऊ से मिली सूचना कुछ देर बाद संशोधित कर दी गई। युवक का नाम संशोधित सूचना से बाहर कर दिया गया है। फिलहाल एहतियातन उसकी सैंपल रिपोर्ट आने तक निगरानी में रखा है।
... और पढ़ें

कोई बाहर से आया हो तो सफाई नायक को जरूर बताएं

इटावा। यदि किसी घर में कोई बाहर से आया है तो उसकी सूचना क्षेत्र के सफाई नायक को जरूर दें। उस व्यक्ति की ट्रेवल हिस्ट्री और खुद उसकी जांच संभव हो सके। यह बात नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जेके तिवारी ने घर-घर जाकर जांच करते समय दी।
उन्होंने बताया कि नगर के सभी 40 वार्डों में सफाई नायक तैनात हैं। अपने क्षेत्र के सफाई नायक को सूचना दी जा सकती है। लोग चाहे तो उनके मोबाइल नंबर 9045034211 पर भी संपर्क कर सकते हैं।
डॉ. जेके तिवारी की टीम ने लोधी मोहल्ला, अड्डा बगिया, शास्त्रीनगर, काली कब्रें, पुरबिया टोला, अजीतनगर, तुलसीनगर, लालपुरा, बाइस ख्वाजा मोहल्लों में करीब 300 घरों को चेक किया। नगर स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि फिलहाल कहीं पर भी कोरोना वायरस संदिग्ध व्यक्ति नहीं मिला है। भ्रमण के दौरान सामान्यजनों को बताया रहा कि वे आसपास क्षेत्र में बाहर से आने वालों को लेकर सजग रहें और तत्काल सफाई नायकों को सूचित करें।
.
... और पढ़ें

तीन दुकानें सीज, 100 बाइक कराई पंक्चर

इटावा। पड़ोसी जिलों तक कोरोना के पाजिटिव केस मिलने के बाद लॉकडाउन उल्लंघन करने वालों पर प्रशासन और सख्त हो गया है। रविवार को एसडीएम सदर ने तीन दुकानों सीज कर दी और बेवजह घर से निकले 100 लोगों की बाइक पंक्चर करवा दीं। उन्हें घसीटते हुए बाइक घर तक ले जाना पड़ा।
एसडीएम सदर सिद्धार्थ, सीओ सिटी वैभव पांडेय फोर्स के साथ सुबह 9 बजे शहर का जायजा लेने निकले। रास्ते में कई कई लोग बिना मास्क लगाए दिखे। इन लोगों को रोककर एसडीएम ने सख्त चेतावनी दी। कहा कि दोबारा घर के बाहर भी बिना मास्क के दिख गए तो मुकदमा दर्ज कर जेल भेज देंगे। छहराहा पर भोले पेड़ा वाले की मिठाई की दुकान खुली मिली। दुकान को सील कर दुकान मालिक विकास जैन पुत्र सुनील जैन निवासी पंसारी टोला, दुकान के काम करने वाले राकेश जैन पुत्र सुरेंद्र जैन के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया। इसी तरह बाह अडड में खुली मिली कोल्डड्रिंक की दुकान को सीज कर दुकान मालिक फरीद पुत्र शमशुद्दीन निवासी बाह अड्डा के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया। यहां से एसडीम व सीओ गाड़ीपुरा होते हुए मकसूदपुरा पहुंचे। वहां खुली मिली मोबाइल फोन की दुकान सील कर दुकान मालिक संजय गुप्ता पुत्र ओमप्रकाश गुप्ता निवासी मकसूदपुरा के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। सीओ वैभव पांडेय ने बताया कि सभी के खिलाफ धारा 144, 188,269 और 270 में मुकदमा दर्ज किया गया है। एसडीएम ने बताया कि लोग बहाने बनाकर घरों से निकल रहे हैं। एक व्यक्ति पांच रुपये की धनिया लेने के लिए बाजार में आया था। इसी तरह एक की भाभी का छेना खाने का मन चल गया तो वह छेना लेने निकल पड़ा। पुरबिया टोला का एक व्यक्ति नौरंगाबाद आया था। एक व्यक्ति नए शहर से पुराने शहर किराना लेने आया था। ऐसे करीब 100 लोगों की बाइक पंक्चर करवा दी गई। एसडीएम ने बताया कि गुरुद्वारे का गेट खुला मिलने पर वहां मौजूद लोगों से बात की। एसडीएम ने बताया कि गुरुद्वारा का गेट बंद करा दिया गया। सेवादारों से लॉकडाउन के दौरान गेट बंद रखने को कहा गया है।
जिलाधिकारी जेबी सिंह ने बताया कि लोग लॉकडाउन का पालन करने में लापरवाही कर रहे हैं। लोगों की इसी लापरवाही का नतीजा है कि देश में कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं। हमें हर हाल में सोशल डिस्टेंसिंग बनाकर रखनी है। जिलाधिकारी ने कहा कि सोमवार को सुबह आठ बजे से ही अधिकारी सड़कों पर रहेंगे। गलियों में भी घूमने वालों के खिलाफ सख्ती की जाएगी। पुलिस को गलियों में भीड़ लगाए लोगों पर भी मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए गए हैं।
... और पढ़ें

मरकज एरिया में ट्रेस हुए जिले के 171 लोगों के मोबाइल नंबर

इटावा/बकेवर। जिले के 171 लोगों के मोबाइल नंबर दिल्ली की निजामुद्दीन मस्जिद एरिया में ट्रेस हुए हैं। इसी मस्जिद में मरकज हुआ था, जहां से निकले संक्रमित लोगों से सैकड़ों लोगों तक कोरोना पहुंच गया। सभी नंबरों को प्रशासन ट्रेस करा रहा है। इसमें सबसे ज्यादा लोग सिटी सर्किल के थाना क्षेत्रों के निवासी हैं। एसएसपी ने सभी सीओ को मोबाइल नंबरों को ट्रेस कर लोगों की तलाश में लगा दिया है।
जिलाधिकारी जेबी सिंह ने बताया कि दिल्ली के मरकज में शामिल रहे लोगों को मोबाइल लोकेशन के आधार पर भी ट्रेस किया जा रहा है। जिले के पते पर खरीदे गए 171 सिम की लोकेशन मरकज क्षेत्र में मिली है। इसमें सबसे अधिक लोग शहर सर्किल के पांच थाना क्षेत्रों के रहने वाले हैं। इसके बाद 34 लोग भरथना सर्किल क्षेत्र, 23 लोग जसवंतनगर सर्किल क्षेत्र, 17 लोग सैफई सर्किल क्षेत्र और 10 लोग चकरनगर सर्किल क्षेत्र के हैं। जिलाधिकारी ने बताया कि एसएसपी आकाश तोमर ने सभी सीओ को अपने क्षेत्र के मोबाइल नंबरों के आधार पर लोगों की पहचान के लिए लगाया है।
जिलाधिकारी ने कहा कि सूची में शामिल ज्यादातर ऐसे लोग हैं जिन्होंने जिले के पते पर सिम खरीदा है लेकिर रहते दिल्ली और एनसीआर में हैं। उन्होंने कहा कि हो सकता है कि ये लोग बाजार और अन्य जगह जाते समय मरकज के पास से गुजरे होंगे। नंबरों को लेकर सतर्कता बरती जा रही है। सभी नंबरों की पड़ताल की जाएगी। अगर ये लोग जिले में मिले तो उनकी जांच कराई जाएगी और घरों में ही आइसोलेट कर दिया जाएगा।
थाना प्रभारी बकेवर बचन सिंह सिरोही ने बताया थाना क्षेत्र के दस लोगों के मोबाइल नंबर भी ट्रेस हुए हैं। एसडीएम भरथना इंद्रजीत सिंह ने बताया कि सूची में दर्ज प्रत्येक व्यक्ति के बारे में जानकारी की जा रही है। अभी कोई भी व्यक्ति क्षेत्र में नहीं मिला है।
... और पढ़ें

15 फरवरी के बाद बाहर से आए लोगों के परिजनों की होगी जांच

इटावा। 15 फरवरी के बाद अन्य प्रदेशों और प्रदेश के अन्य शहरों से जिले में आए लोगों के परिवार के सदस्यों की भी जांच कराई जाएगी। इसके लिए 17 टीमों को लगाया गया है। सभी टीमों को एक-एक वाहन भी दिया गया है। टीमें चार से छह दिन में जांच पूरी करेंगी।
सीडीओ राजा गणपति आर ने बताया कि 15 फरवरी से 27 मार्च तक जिले में 7880 लोग दूसरे प्रदेशों और यूपी के अन्य शहरों से जिले के गांवों व नगरों में आए हैं। ग्राम प्रधानों और जागरूक लोगों की सूचना पर बाहर से आने वालों को चिह्नित किया गया। बाहर से आए लोगों की 16 टीमें लगाकर जांच कराई गई, जिसमें किसी में भी कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए हैं। अब बाहर से आए लोगों के परिवारीजनों की जांच कराई जाएगी। पहली जांच के आधार पर 15500 से अधिक लोगों की एक सूची बनाई गई है।
सभी के मोबाइल नंबर भी ले लिए गए हैं। 17 टीमों को इन लोगों की जांच के लिए लगाया गया है। चार टीमें कंट्रोल रूम में रखी गई हैं। ये टीमें फोन पर बाहर से आए लोगों और उनके परिवार के लोगों पर नजर रखेंगे। बुलाकर भी उनकी जांच करेंगे। जो 17 टीमें बनाई गई हैं, वे घर-घर जाकर बाहर से आए लोगों के साथ उनके परिवार के सभी सदस्यों की जांच करेंगे।
जांच के दौरान आसपास के लोगों ने उनके घर से निकलने की जानकारी भी ली जाएगी। सीडीओ ने कहा कि बाहर से आए लोग और उनके परिवारों को होम क्वारंटीन किया गया है। अगर ये लोग बाहर घूमते मिले तो उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जाएगा। अन्य लोग भी ऐसे लोगों से दूरी बनाए रहें, उनके घरों में भी न जाएं।
... और पढ़ें

कोरोना संदिग्ध दंपति आइसोलेशन वार्ड में भर्ती

इटावा। लॉकडाउन होने के बाद नोएडा से ऊसराहार में गांव भगवंतपुर लौटे एक टैक्सी चालक के कोरोना संदिग्ध होने की सूचना से गांव से लेकर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। टैक्सी चालक को करीब चार दिन से खांसी, जुकाम और सांस लेने में परेशानी हो रही थी। ग्रामीणों के एसडीएम ताखा को जानकारी देने के बाद गांव पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने टैक्सी चालक व उसके पत्नी को एंबुलेंस से जिला अस्पताल लाकर आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया।
तहसील ताखा की हरजुंकलपुर ग्राम पंचायत के गांव भगवंतपुर निवासी संजीव (35) पुत्र छविनाथ नोएडा में टैक्सी चलाने का कार्य करता है। लॉंकडाउन होने के बाद गांव लौटने के बाद वह तीन-चार दिन से खासी, जुकाम था। सांस लेने में भी परेशानी हो रही थी। लक्षण के आधार पर ग्रामीणों ने उपजिलाधिकारी ताखा नंद प्रकाश मौर्य गांव में कोरोना संदिग्ध होने को सूचना दी। उपजिलाधिकारी ने तत्काल सरसईनावर स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डा.वीरेंद्र सिंह, थानाध्यक्ष जितेंद्र प्रताप सिंह को गांवं पहुंचने का निर्देश दिया। उपजिलाधिकारी ने ग्रामीणों को घर से बाहर जाने पर रोक दिया है। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।
गांव भगवंतपुर पहुंची स्वास्थ्य विभाग की टीम ने टैक्सी चालक संजीव उसकी पत्नी रूबी को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। सीएमएस डा.एसएस भदौरिया ने बताया है किसी को बुखार नहीं है। सुबह होम आइसोलेशन की सलाह दी जा सकती है। सीएमओ डा.एनएस तोमर ने बताया कि दो लोगों को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है।
... और पढ़ें

सांसद बोले- घरों पर रहें, समस्या हो तो करें फोन

इटावा। सांसद लॉकडाउन में लोगों से घर में रहने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अगर किसी को राशन और भोजन या कोई अन्य समस्या हो तो उन्हें फोन मोबाइल नंबर 9013180116, 941275008 करें। सभी समस्याओं का निस्तारण कराया जाएगा।
अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष और सासंद डा. रामशंकर कठेरिया ने कहा कि कोरोना से लोगों को बचाने के लिए की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में लॉकडाउन किया है। एक-दूसरे से दूर रहने से कोरोना संक्रमण बढ़ने से रोका जा सकता है लेकिन कुछ लोग नादानी कर रहे हैं। इसी कारण सैकड़ों पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। औरैया जिले में भी लोग पॉजिटिव निकले हैं। चूंकि औरैया इटावा का करीबी जिला है, इसलिए यहां के लोगों को और सतर्कता बरतने की जरूरत है।
सांसद ने कहा कि लॉकडाउन से कुछ लोगों को दिक्कत हो रही है। इसे देखते हुए मुफ्त राशन, पेंशन और जनधन खाते में सरकार ने पैसा भी भेज दिया है। लोग राशन दुकान, बैंक जाएं लेकिन एक-दूसरे से सामाजिक दूरी बनाकर रहें। सांसद ने कहा कि वह सोमवार को इटावा पहुंचेेंगे और तीन दिन तक तीनों तहसील के गांवों में जाकर लोगों जनसमस्याओं की जानकारी लेंगे। इसके साथ ही अधिकारियों से भी गरीबों, मजदूरों आदि के लिए शुरू की गई सुविधाओं की जानकारी करेंगे। सांसद ने कहा कि किसी को घबराने की जरूरत नहीं है। अगर किसी को समस्या है तो उन्हें बेेहिचक फान करें। सभी समस्याओं का निदान कराया जाएगा। राशन दुकानों से एक-एक कार्डधारक को राशन दिलाया जाएगा।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Redwood global school 6x8 col

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us