विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

2022 में बोलेगा काम, अकेले चुनाव लड़कर बनाएंगे सरकार: अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कुशासन से जनता परेशान है।

22 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

फर्रूखाबाद

शनिवार, 22 फरवरी 2020

रेलवे ने निजी हाथों को सौंपा उच्च एवं शयनयान श्रेणी प्रतीक्षालय

फर्रुखाबाद। रेलवे को तेजी से निजीकरण की ओर ले जाया जा रहा है। इसका असर रेलवे स्टेशन पर भी दिखने लगा है। रेलवे ने प्लेटफार्म पांच पर बने उच्च एवं शयनयान श्रेणी प्रतीक्षालय को निजी हाथों में सौंप दिया है। स्टेशन अधीक्षक ने संस्था को हैंडओवर भी कर दिया है। अब यात्रियों को सुविधा के बदले शुल्क भी देना होगा। प्रतीक्षालय में कैंटीन सेवा भी मिलेगी।
फर्रुखाबाद रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर पांच पर उच्च एवं शयनयान श्रेणी एवं महिला प्रतीक्षालय बनाए गए हैं। इनमें अत्याधुुनिक सुविधाएं दी गई हैं। रेलवे ने इसमें से उच्च एवं शयनयान श्रेणी प्रतीक्षालय को निजी हाथों को सौंप दिया है। इसका जिम्मा आगरा के समसकर रोड की आरके फूड प्रोडक्ट कंपनी को दिया गया है। 20 फरवरी की शाम कंपनी के अधिकारी यहां रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। उन्होंने यात्री प्रतीक्षालय को हैंडओवर कर लिया है।
कंपनी प्रतीक्षालय के अंदर ही कैंटीन की सेवाएं भी मुहैया कराएगी। इसके बदले में शुल्क भी लिया जाएगा। माना जा रहा है कि प्रतीक्षालय में सुविधाओं के बदले में अतिरिक्त शुल्क भी वसूला जा सकता है। फिलहाल अनुबंध की कापी न मिलने से उसकी शर्तों का पता नहीं चल सका है। बहरहाल यह तय है कि अब यात्रियों को फ्री में सुविधाएं मिलने वाली नहीं हैं।
फर्म ने डाला ताला, नहीं बैठ सके यात्री
फर्म के अधिकारियों ने जैसे ही लिखित में प्रतीक्षालय को अपने कब्जे में लिया, तो गेट पर उन्होंने अपना ताला डाल दिया। फिलहाल कोई जिम्मेदार न होने से दिन भर यात्री इधर-उधर बैठने को मजबूर हुए। दूरदराज जाने वाले यात्रियों को खासी दिक्कतें उठानी पड़ीं।
हां आगरा की कंपनी को प्रतीक्षालय हैंडओवर कर दिया है। अब उसकी व्यवस्था निजी हाथों में ही रहेगी। शीघ्र ही प्रतीक्षालय में सुविधाएं मुहैया हो जाएंगी। अभी अनुबंध की शर्तों की पत्रावली नहीं मिली है।
-योगेंद्र कश्यप, स्टेशन अधीक्षक, रेलवे स्टेशन फर्रुखाबाद।
... और पढ़ें

श्रामिक का शव पेड़ पर फंदे से लटका मिला

शमसाबाद। थाना क्षेत्र के गांव पलिया रसीदपुर में एक श्रमिक का शव पेड़ से शुक्रवार सुबह लटका मिला। इससे परिजनों में कोहराम मच गया। परिजनों ने किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया। घरेलू विवाद में आत्महत्या करने की आशंका जताई जा रही है।
गांव पलिया रसीदपुर निवासी संतोष कुमार (40) पुत्र अमर सिंह कायमगंज में तंबाकू गोदाम पर मजदूरी करता था। गुरुवार सुबह वह गोदाम पर काम करने गया था। वहां से देर शाम तक वह घर नहीं पहुंचा। इस पर परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की। पर कुछ पता नहीं चला। सुबह उसका बेटा पुष्पेंद्र पिता को खोज रहा था। तभी उसे गांव के गुड्डू के खेत में संतोष का शव चांदनी के पेड़ पर अंगौछे के फंदे से लटका दिखाई दिया।
इस पर उसने शोर मचा दिया। इससे आसपास लोग एकत्र हो गए। अन्य परिजन भी रोते बिलखते हुए मौके पर पहुंच गए। संतोष की पत्नी सरोज रो-रोकर बेहाल हो गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव फंदे से उतरवाकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। उसके बेटे पुष्पेंद्र (12), अनुज (10), बेटी गौरी (9), रश्मी (6), अवनीश (4) हैं। पिता संतोष की मौत होने से बच्चों के भरण पोषण का संकट खड़ा हो गया है। थानाध्यक्ष जेएल सोनकर ने बताया कि परिजनों ने किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया है। घरेलू विवाद में आत्महत्या करने की आशंका है। मामले की जांच कर रही है।
... और पढ़ें

एंबुलेंस चालक पर जानलेवा हमले में आठ पर रिपोर्ट

फर्रुखाबाद। कमालगंज से घायलों को लेकर आ रहे 108 एंबुलेंस के चालक के साथ मारपीट के मामले में पुलिस ने एक नामजद समेत आठ लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। पुलिस ने गुरुवार देर रात चालक का लोहिया में मेडिकल कराया। पुलिस ने मामले में छानबीन शुरू कर दी है।
जिला हरदोई थाना हरपालपुुर के गांव हरियापुर निवासी 108 एंबुलेंस के चालक महेश गुरुवार को कमालगंज में पिकअप पलटने की हुई दुर्घटना में घायलों को लेकर आ रहे थे। मसेनी चौराहे से पहले जीआरडी गेस्ट हाउस के पास एक बरात रास्ते में थी। मरीज की हालत गंभीर देखकर सायरन बजा दिया। बरात में सात आठ लोग नशे में थे। यह लोग सायरन बजाने पर गालीगलौज करने लगे। ईएमटी संदीप कुमार ने लोगों से रास्ता छोड़ने को कहा।
इस पर वह लोग नहीं माने। इन लोगों ने चालक को एंबुलेंस से उतार कर रायफल की बटों से पीट दिया। एंबुलेंस के शीशे तोड़ दिए। दूसरी एंबुलेंस से आए ईएमटी अभिनव कुमार व पायलट देवेश ने किसी तरह उन लोगों से बचाया। प्रवीण नाम के युवक ने धारदार हथियार से प्रहार किए। पुलिस ने महेश की तहरीर पर प्रवीण व उसके सात अज्ञात साथियों के खिलाफ जानलेवा हमले व सरकारी कार्य में बाधा डालने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। इसमें आरोप लगाया कि आरोपियों ने जान से मारने की नियत से फायर किया। इसमें वह बाल बाल बच गए। घटना से मौके पर अफरा तफरी मच गई। कोतवाल जसवंत सिंह ने बताया कि महेश के साथ मारपीट व फायर करने तथा सरकारी कार्य में बाधा का मुकदमा दर्ज किया गया। महेश का रात में ही मेडिकल कराया गया।
बरात में हुुई वीडियोग्राफी से हमलावरों को तलाशेगी पुलिस
चालक महेश पर रायफल की बटों से हमला करने वाले दबंगों को पुलिस बरात में हुई वीडियोग्राफी व फोटोग्राफ से तलाशने का दावा कर रही है। इसको लेेकर पुलिस ने रात में ही वीडियोग्राफर को दिशा निर्देश दिए। कोतवाल ने बताया कि चालक महेश पर हमला करने वाले लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।
पांच घंटे जाम रहा बरेली-इटावा हाईवे
कमालगंज। एंबुलेंस चालक महेश से मारपीट के विरोध में बरेली-इटावा हाईवे पर पांच घंटे जाम लगा रहा। पुलिस ने पायलट महेश की तहरीर पर जानलेवा हमले का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी करने का भरोसा दिया। तब कहीं जाकर जाम खोलने को ईएमटी व चालक तैयार हुए। मौके से एंबुलेंस तो हटा ली गईं पर पुलिस रात दो बजे तक बरेली-इटावा हाईवे पर जाम को खुलवाती रही। कई बार लोगों ने पहल करके जाम खुलवाने का प्रयास भी किया था, पर सफलता नहीं मिली। जाम खुलवाने के लिए पुलिस ने वाहनों को अन्य मार्गों पर डायवर्ट किया। कुछ वाहनों को नेकपुर कला व आवास विकास की ओर से निकाला गया। छोटे वाहनों को मसेनी से लोको जाने वाले मार्ग पर भेजा गया। वहीं जाम में वाहनों को फंसने से रोकने के लिए सेंट्रल जेल चौकी पुलिस ने जिला जेल चौराहे की ओर डायवर्ट करके निकाला। कोतवाल जसवंत सिंह ने बताया कि एंबुलेंस के कर्मचारी तो रात 12 बजे ही मान गए थे। लेकिन जाम को पूरी तरह खुलवाने में दो बजे तक पुलिस को जूझना पड़ा।
... और पढ़ें

सीएए का विरोध नहीं, धर्म के आधार पर नागरिकता देने का विरोध- सलमान खुर्शीद

कायमगंज (फर्रुखाबाद)। गांव पितौरा स्थित कैंप कार्यालय में पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने पत्रकारों से कहा कि सीएए का विरोध नहीं किया जा रहा है। धर्म आधारित नागरिकता देने का विरोध है। हम किसी को नागरिकता देने का विरोध नहीं कर रहे बल्कि उसका स्वागत है, लेकिन कानून धर्म के आधार पर बनाया गया, इसलिए गलत है।
साथ ही कहा कानूनी लिहाज से राज्य सरकारें इसका विरोध नहीं कर सकतीं, लेकिन सत्याग्रह तो कर सकती हैं। इस पर विचार चल रहा है। पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद शनिवार सुबह पितौरा स्थित अपने आवास पर पहुंचे। वहां पत्रकारों ने सवाल किया कि कपिल सिब्बल ने पिछले दिनों बयान दिया था कि राज्य सरकारें कानून का विरोध नहीं कर सकती हैं।
इस पर उन्होंने कहा कि सिब्बल की बात को गलत कहें तो उनकी वकालत पर प्रश्न चिह्न लगेगा। कुछ लोग कहेंगे की सीएए के विरोध के मूवमेंट कमजोर कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने भी इसमें हस्तक्षेप नहीं किया तो यह कानून की किताब में कायम रहेगा और उसे सभी को मानना भी होगा। कहा कि राज्य सरकारें कानून का विरोध नहीं, गांधीजी का सत्याग्रह कर सकती हैं। इसके लिए विचार चल रहा है।
दिल्ली के शाहीन बाग में आजादी के नारे के सवाल पर कहा कि पहले तो वहां भारत से आजादी के कोई नारे नहीं लगाए गए। भुखमरी, पिछड़ेपन, बेरोजगारी से आजादी के नारे लगे हैं। यदि किसी ने भारत से आजादी के नारे लगाए हैं तो ऐसे लोगों को सरकार जेल भेज दे। जो भुखमरी व बेरोजगारी से आजादी मांग रहे उन्हें गले लगा ले।
भाजपा के समर्थक फिल्म अभिनेता अनुपम खेर ने भी कहा कि भुखमरी से आजादी चाहिए तो काम करो। उन्होंने कहा पाकिस्तान, बंग्लादेश, अफगानिस्तान के पीड़ितों को नागरिकता देने का हम विरोध नहीं करते हैं, इसे हम लिखित देने को तैयार हैं। पूरा शाहीन बाग भी इसके लिए तैयार है, लेकिन पीड़ित के साथ धर्म न जोड़ा जाए।
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से हमारे देश का लियाकत पैक्ट हुआ था। यदि वहां अल्पसंख्यक पीड़ित हैं तो उसने पैक्ट तोड़ दिया है। उद्धव ठाकरे ने पीएम से मुलाकात के बाद देश में एनआरसी लागू न होने की बात कही थी।
इस पर पूर्व विदेश मंत्री ने कहा कि अब सुप्रीम कोर्ट ही तय करेगा कि एनआरसी देश में लागू होगा की नहीं। जिलाध्यक्ष विजय कटियार, प्रकाश प्रधान, उजैर खां, डॉ. फरीद चुगताई, कौशलेंद्र यादव, इरफान खां, साबेज खां, हिलाल खां आदि मौजूद रहे।
आज करथिया जाएंगे सलमान
फर्रुखाबाद। पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद रविवार को मोहम्मदाबाद क्षेत्र के गांव करथिया में बंधक बनाए गए बच्चों से मिलने जाएंगे। कांग्रेस जिलाध्यक्ष विजय कटियार ने बताया कि सलमान खुर्शीद सुबह साढ़े दस बजे कटरा बक्सी मोहल्ले में अनवर पठान, मेराज अली के यहां जाएंगे।
11 बजे नीबाचुअत मोहल्ले में इस्लाम चौधरी के यहां पहुंचेंगे। इसके बाद वह जिलाध्यक्ष के आवास पर जाएंगे। साढ़े 12 बजे महरूपुर, एक बजे पतौजा गांव में किसान जनजागरण अभियान में हिस्सा लेंगे। इसके बाद वह दो बजे करथिया गांव पहुंचेंगे। वहां बंधक बनाए गए बच्चों और उनके परिजनों से हालचाल लेने के बाद दिल्ली को रवाना होंगे।
... और पढ़ें
गांव पितौरा स्थित कैंप कार्यालय में पत्रकार वार्ता करते पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद। गांव पितौरा स्थित कैंप कार्यालय में पत्रकार वार्ता करते पूर्व विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद।

मरणासन्न बेटी को लेकर नर्सिंगहोम में धरने पर बैठे परिजन

फर्रुखाबाद। आपरेशन के बाद इंफेक्शन फैलने से बच्ची की ऐसी हालत बिगड़ी कि नर्सिंगहोम से रेफर करने के बाद कोई डाक्टर इलाज करने को तैयार नहीं है। बेटी को मौत के मुहाने पर देख परिजनों का धैर्य टूट गया। पीड़ित पिता तड़पती बच्ची को लेकर परिजनों के साथ शनिवार को नर्सिंगहोम पहुंच गया।
वहां धरना दे दिया। इस दौरान समर्थन में आए जिला पंचायत सदस्य की नर्सिंगहोम संचालक से तीखी झड़प हो गई। सिटी मजिस्ट्रेट व सीओ सिटी ने स्थिति को काबू किया। बाद में संचालक ने पीड़ित को 50 हजार रुपये दिए।
कमालगंज के मोहल्ला लोहिया नगर निवासी मजदूर बलराम कश्यप ने बेटी मोनिका (8) को पेट में दर्द होने पर दो फरवरी को मसेनी स्थित गायत्री नर्सिंगहोम में दिखाया। आंत उलझी बताकर तीन फरवरी को डा. एके गुप्ता ने आपरेशन किया। 15 दिन भर्ती रही। इस बीच इंफेक्शन फैलने पर 16 फरवरी को उसे रेफर कर दिया गया।
कानपुर हैलट में जवाब मिलने पर बच्ची को परिजन लखनऊ केजीएमसीयू ले गए। वहां भी उसे भर्ती नहीं किया। 19 फरवरी को डीएम से फरियाद पर उन्होंने लोहिया अस्पताल भेजा। वहां प्राथमिक उपचार के बाद आगरा रेफर कर दिया गया। वहां भी भर्ती न किए जाने से तड़पती बच्ची को परिजन घर ले आए।
दर-दर भटकने के बाद राहत नहीं मिली तो बलराम शनिवार को परिजनों व बच्ची के साथ नर्सिंगहोम पहुंच गए। वहीं बीमार बच्ची को लेकर धरने पर बैठ गए। परिजन बिलख रहे थे कि कोई तो बेटी का इलाज करे, वह लोग कहीं के नहीं बचे। कोई डाक्टर इलाज करने को तैयार नहीं। तभी समर्थन में जिला पंचायत सदस्य अवनीश यादव पहुंच गए।
उन्होंने नर्सिंगहोम संचालक अरविंद राजपूत के भाई प्रमोद से इलाज करने को कहा। मना करने पर जमकर झड़प हो गई। सूचना मिलते ही पुलिस पहुंच गई। डिप्टी सीएमओ डा.राजीव शाक्य, सिटी मजिस्ट्रेट अशोक मौर्य व सीओ सिटी मन्नीलाल गौंड ने समझाकर किसी तरह मामला शांत किया और एंबुलेंस बुलाकर बच्ची को लोहिया अस्पताल भिजवाया। वहां से उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया।
बच्ची के पिता को दिलाए 50 हजार रुपये
बलराम ने लोहिया अस्पताल में बताया कि अधिकारियों ने उन्हें नर्सिंगहोम संचालक से 50 हजार रुपये दिलवाए हैं जबकि इलाज में करीब एक लाख रुपये खर्च हो चुके हैं। वह बेटी को लेकर फिर से लखनऊ जा रहे हैं।
आपरेशन में फिजीशियन से नहीं ली राय
नर्सिंगहोम के आफिस में मौजूद नर्सिंगहोम संचालक अरविंद राजपूत व साथ में बैठे डा. यूएस तिवारी ने बताया कि मोनिका को मियादी बुखार होने से आंत में छेद हो गए थे। हालत गंभीर देख सर्जन डा. एके गुप्ता ने आपरेशन किया। आंतों में इंफेक्शन पहले से था।
एक सवाल पर कहा कि इमरजेंसी में आपरेशन किए जाने से फिजीशियन की राय नहीं ली गई। सामान्य आपरेशन में फिजीशियन की राय लेना अनिवार्य है। रेफर करने के दौरान बच्ची की हालत बहुत ज्यादा खराब नहीं थी। दौड़भाग के चक्कर में हालत नाजुक हो गई। नर्सिंगहोम में देखरेख के लिए सर्जन के अलावा अन्य डाक्टर भी बुला लिए जाते हैं।
अधिकारियों ने बंद कमरे में की वार्ता
बच्ची व परिजनों के जाने के बाद सिटी मजिस्ट्रेट अशोक कुमार मौर्य नर्सिंगहोम संचालक से उनके कार्यालय में वार्ता कर रहे थे। तभी सीओ सिटी पहुंचे और दरवाजा खटखटाया। करीब 7-8 मिनट बाद दरवाजा खोलकर सीओ सिटी मन्नीलाल गौंड को अंदर बुला लिया गया। इसके बाद फिर अंदर से दरवाजा बंद हो गया।
करीब 15 मिनट के बाद बाहर निकले सिटी मजिस्ट्रेट ने बताया कि गायत्री नर्सिंगहोम में विवाद की सूचना पर एडीएम ने उन्हें स्थिति नियंत्रित करने के लिए भेजा था। हालांकि अभी जांच के आदेश नहीं मिले।
कमेटी से कराई जाएगी जांच : डीएम
जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने बताया कि बच्ची के आपरेशन व इंफेक्शन फैलने के मामले में झोलाछापों के खिलाफ अभियान चलाने को गठित कमेटी द्वारा नर्सिंगहोम की जांच कराई जाएगी। सिटी मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में जांच कराने के बाद मानक पूरे न होने पर नर्सिंगहोम के खिलाफ कार्रवाई तय की जाएगी।
फोटो- 8, 9 व 10
... और पढ़ें

डीसीएम की टक्कर से रेलवे क्रासिंग गेट टूटा

फर्रुखाबाद। फतेहगढ़ के जिला जेल चौराहे स्थित रेलवे क्रासिंग का गेट शनिवार सुबह डीसीएम की टक्कर से टूट गया। गेटमैन ने किसी तरह यातायात रोका। ट्रेन पास कराने के साथ ही रेलवे अधिकारियों व जीआरपी को सूचना दी। पुलिस ने डीसीएम कब्जे में ले ली।
फर्रुखाबाद से कानपुर की ओर मालगाड़ी पास कराने के लिए सुबह करीब 7.20 बजे जिला जेल चौराहे स्थित रेलवे क्रासिंग का गेट बंद हो रहा था। इसी दौरान सेंट्रल जेल चौराहे की ओर से आ रही डीसीएम को चालक ने निकालने का प्रयास किया। डीसीएम की टक्कर से क्रासिंग का बैरियर टूट गया। गेटमैन ने चालक को पकड़ लिया।
टूटा बैरियर हटाकर किसी तरह यातायात रोका गया और इमरजेंसी बैरियर लगाकर मालगाड़ी पास कराई गई। गेटमैन ने बैरियर टूटने की सूचना रेलवे अधिकारियों व आरपीएफ को दी। स्थानीय पुलिस ने डीसीएम को कब्जे में लेकर सड़क किनारे खड़ा करा दिया।
डीसीएम का पंजीकरण नंबर जनपद बरेली व वाहन मालिक जनपद शाहजहांपुर के कस्बा अल्लागंज का निवासी बताया गया है। आरपीएफ के दरोगा वासुदेव शुक्ला ने बताया कि डीसीएम कब्जे में लेकर चालक को हिरासत में ले लिया है। चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा।
... और पढ़ें

चेयरमैन ने समितियां नहीं की गठित, सभासदों ने जताया विरोध

फर्रुखाबाद। नगर पालिका परिषद का आधा कार्यकाल गुजर जाने के बाद भी समितियों का गठन नहीं किया गया। इससे खफा सभासदों ने नाराजगी व्यक्त की। कहा कि विभागों में मनमानी हो रही है। उन्होंने बैठक करके शीघ्र समितियां गठित करने की मांग की।
पालिका में इस समय सभासद पूरी दमदारी से अपनी आवाज उठा रहे हैं। ईओ रश्मि भारती को बोर्ड की बैठक में रिलीव किए जाने का प्रस्ताव पास कराने के बाद अब उन्होंने दूसरा लक्ष्य हासिल करने की ओर काम शुरू कर दिया है। सभासद लव कनौजिया के आवास पर कई सभासद एकत्रित हुए।
उन्होंने कहा कि पिछली बोर्ड की आम बैठक में प्रस्ताव संख्या 32 पास हुआ था। इसमें समितियों का गठन करना तय किया गया था, मगर अभी तक नहीं की गईं। सभासदों के पास जनता की शिकायतें आती हैं। कामकाज की जानकारी सभासद को भी होनी चाहिए।
उन्होंने चेयरमैन से शीघ्र ही जलकल समिति, मार्ग प्रकाश समिति, जलकर समिति, गृह कर समिति, स्वास्थ्य समिति, स्वच्छता समिति, निर्माण समिति, अधिकारी कर्मचारी अनुशासन समिति, बीमा फंड ग्रेच्युटी भुगतान समिति, वाहन रखरखाव व मरम्मत समिति, स्क्रेप नीलम समिति गठित करने की मांग की। मौके पर कई सभासद मौजूद रहे।
... और पढ़ें

जंगली जानवर के हमले से 43 भेड़ों की मौत

बैठक कर विरोध करते सभासद।
संकिसा (फर्रुखाबाद)। जंगली जानवर ने हमला कर झोपड़ी में बंधी 43 भेड़ें मार डालीं। इससे पशुपालक का करीब पांच लाख रुपये का नुकसान हो गया। सुबह जब पशुपालक झोपड़ी में पहुंचा तब उसे घटना की जानकारी हुई। सूचना पर पुलिस व लेखपाल ने मौके पर पहुंच कर जांच की। ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में जंगली सुअरों का आतंक है। जंगली सुअरों के हमले से ही भेड़ों की मौत होने की आशंका है।
थाना मेरापुर क्षेत्र के ग्राम पुनपालपुर के मजरा इमादपुर केसर निवासी देशराज पाल पुत्र नत्थू लाल पाल भेड़ें पालते हैं। उनकी 43 भेड़ें गांव के पास स्थित झोपड़ी में बंधी थीं। शुक्रवार रात किसी जंगली जानवर ने उन पर हमला कर मार दिया। सुबह जब देशराज अपनी भेड़ें देखने गए, तो सभी मरी पड़ी थीं। यह देख उनके होश उड़ गए।
देशराज की सूचना पर थाना पुलिस मौके पर पहुंची। राजस्व विभाग को जानकारी दी गई। इस पर क्षेत्रीय लेखपाल अनुपम मिश्रा ने मौके पर पहुंचकर नुकसान का आंकलन किया। लेखपाल ने बताया कि रिपोर्ट प्रशासन को भेज दी है। वहीं ग्रामीणों का कहना है की जंगली सुअरों का क्षेत्र में आतंक है। जंगली सुअर ही आए दिन हमला करते रहते हैं। देशराज ने बताया कि उसका करीब पांच लाख रुपये नुकसान हुुआ है।
... और पढ़ें

घर के कमरे का तोड़कर चोर नगदी व जेवरात ले गए

कमालगंज (फर्रुखाबाद)। थाना क्षेत्र के गांव सियांपुर निवासी मोबाइल रिपेयरिंग दुकानदार के घर शुक्रवार रात मकान के मुख्य गेट से चोर घर में घुस गए। कमरे के दरवाजे का ताला तोड़कर अलमारी से नगदी, जेवर व कपड़े का बैग आदि चुरा ले गए। रात में एक बजे चोरी की जानकारी होने पर यूपी 112 पुलिस को सूचना दी गई।
थाना क्षेत्र के गांव सियांपुर निवासी दीपक कटियार पुत्र राकेश कुमार की कमालगंज में मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान है। शुक्रवार रात करीब 11.30 बजे दीपक अपने परिजनों के साथ मकान के अंदर बने कमरों में सो रहे थे। बाहर बने कमरे में उनका भाई सो रहा था। शनिवार रात घर के मुख्य गेट पर लगे चैनल को खोलकर चोर घर में घुस गए।
जिस कमरे में दीपक का भाई सो रहा था चोरों ने उसके दरवाजे की बाहर से कुंडी लगा दी। पास में दूसरे कमरे के दरवाजे का ताला तोड़कर चोर कमरे में घुस गए। वहां अलमारी का ताला खोलकर एक सोने की चेन, दो अंगूठी, चार जोड़ी पायलें, एक पेंडल, 50 चांदी के सिक्के, 20 हजार रुपये व कपड़े से भरा एक बैग आदि सामान चुरा ले गए।
रात करीब 1 बजे दीपक की मां उठीं तो उनकी नजर कमरे के दरवाजे पर पड़ी। उन्होंने कमरे में जाकर देखा तो सामान बिखरा व अलमारी खुली थी। इस पर उन्होंने मामले की जानकारी परिजनों को दी। दीपक ने चोरी की सूचना यूपी 112 पुलिस को दी। रात में ही पुलिस मौके पर पहुंची।
दीपक कटियार ने बताया कि रात 12 से 1 बजे की बीच में चोरी हुई है। करीब डेढ़ लाख रुपये का सामान चोर ले गए। थानाध्यक्ष अंगद सिंह ने बताया कि तहरीर मिलने पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

खंभे से टकराकर बाइक सवार की मौत, साथी घायल

फर्रुखाबाद। भतीजी की गोदभराई में रिश्तेदारों की विदाई के लिए टिफिन लेकर घर जा रहे युवक की बाइक सड़क किनारे खंभे से टकरा गई। इसमें चालक की मौत हो गई, जबकि पीछे बैठा युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। वह हेलमेट नहीं लगाए थे। युवक खेती करके अपने परिवार की गुजर करता था।
मऊदरवाजा थाने के गांव नेकपुर खुर्द निवासी चंद्रपाल (25) पुत्र गंगाराम की भतीजी स्वाती पुत्री इंद्रपाल की गोद भराई रश्म शुक्रवार को हुई। तभी शाम करीब पौने सात बजे वह अपने पड़ोसी परिनाथ (19) पुत्र चंपत के साथ रिश्तेदारों को विदाई में टिफिन देने के लिए शहर से घर लेकर जा रहा था। बाइक जब गुरगांव देवी मंदिर के पास पहुंची तो अचानक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे खड़े बिजली के खंभे में टकरा गई। घटना के बाद दोनों दूर जा गिरे। आसपास के लोगों ने उन्हें देखा तो तुरंत ही पुलिस और एंबुलेंस को सूचना दी। एंबुलेंस ने दोनों को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया, जहां चंद्रपाल को मृत घोषित कर दिया गया। परिनाथ की हालत गंभीर है।
चंद्रपाल खेती से अपने परिवार का भरण पोषण करता था। उसकी छह साल पहले रेखा देवी से शादी हुई थी। चार बच्चे हैं। वह दो भाइयों में छोटा था। शव मोर्चरी में रखवा दिया गया है। बीबीगंज चौकी प्रभारी मीनेश पचौरी ने बताया कि घटनास्थल से बाइक और घायल को ले गए हैं। पता किया जा रहा है कि वह कहां गए हैं। लोग बाइक खंभे में टकराने की बात कह रहे हैं।
... और पढ़ें

सीएए कानून का विरोध नहीं, धर्म आधारित नागरिकता का विरोध है- सलमान खुर्शीद

प्रधान के भाई की पत्नी का शव फंदे पर लटका मिला

जहानगंज। गांव पंजूखिरिया के प्रधान के भाई की पत्नी का शव घर के कमरे में फंदे से लटका मिला। सूचना पर पुलिस के पहुंचने से पहले ही ससुरालीजन फरार हो गए। शरीर पर मारपीट की चोट व आग से झुलसने के निशान मिले हैं। घर पर महिला की दो अबोध बेटियां रोती मिलीं। सीओ व तहसीलदार की मौजूदगी में महिला के शव को फंदे से उतारा गया।
थाना क्षेत्र के गांव पंजूखिरिया के प्रधान गौरव श्रीवास्तव के भाई वैभव श्रीवास्तव की शादी तीन वर्ष पूर्व मऊदरवाजा थाना क्षेत्र गुतासी निवासी शिल्पी (27) हुई थी। शुक्रवार सुबह दस बजे वैभव अपनी पत्नी शिल्पी से मारपीट कर रहा था। इस दौरान शिल्पी की आवाज सुनकर पड़ोसियों ने यूपी 112 को मारपीट करने की सूचना दे दी थी। यूपी 112 के बाइक सवार दो पुलिसकर्मी मौके पर गए थे। मामला प्रधान से जुड़ा था। ऐसे में पुलिस फौरी छानबीन करके लौट गई और वैभव के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। पुलिस के जाने के बाद शिल्पी से फिर मारपीट की। इसके बाद शिल्पी कमरे में चली गई। प्रधान गौरव ने थाने के दरोगा दलवीर को शिल्पी के फांसी लगाने सूचना दी। पुलिस जब घर पहुुंची तो प्रधान समेत घर के सभी लोग फरार हो गए थे। घर पर शिल्पी की दो वर्ष की पुत्री ईशानी व एक वर्ष की पुत्री अंजल रोती मिली।
सीओ मोहम्मदाबाद राजवीर सिंह, तहसीलदार सदर राजू कुमार की मौजूदगी में शव को फंदे से उतारा गया। शिल्पी के पैरों में मारपीट के चोट के निशान मिले। शिल्पी का एक हाथ आग से झुलसा था। घटना की जानकारी पर शिल्पी के गुतासी निवासी पिता रवि श्रीवास्तव परिवार के लोगों के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने बताया कि ससुराल वाले डेढ़ लाख रुपये व सोने की चेन की मांग कर शिल्पी को प्रताड़ित करते थे। पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सीओ राजवीर ने बताया कि अभी तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलते ही मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। महिला के पैर व हाथ में मारपीट व आग से झुलसने के निशान पाए गए।
वैभव ने की थी दूसरी शादी
पंजूखिरिया निवासी प्रधान के भाई वैभव की पहली शादी शाहजहांपुर से हुई थी। पहली पत्नी को उसने मारपीट कर घर से निकाल दिया था। तीन वर्ष पहले शिल्पी से दूसरी शादी की थी। पांच महीने पहले वैभव ने पत्नी के ऊपर दाल से भरा कुकर फेंक दिया था। इसमें शिल्पी झुलस गई थी।
प्रधान गौरव श्रीवास्तव शराब माफिया रह चुका है। उसके खिलाफ जहानगंज थाने में मुकदमा दर्ज हुआ था। वर्ष 2015 व 2016 में प्रधान के घर से भी शराब का जखीरा पुलिस बरामद कर चुकी है। वहां से पुलिस ने अवैध शराब की पैैकिंग की मशीन व भारी मात्रा में ढक्कन भी बरामद किए थे। प्रधान के कई देसी व अग्रेंजी शराब के ठेके भी हैं। पुलिस वाले प्रधान के घर के चक्कर लगाते रहते हैं। थाने में भी प्रधान का दबदबा कायम है।
... और पढ़ें

कानपुर देहात में तीन वर्ष पहले हुई हत्या के आरोपी की तलाश में पुलिस ने मारी दबिश

फर्रुखाबाद। कानपुर देहात में तीन वर्ष पहले हुई हत्या के मामले में फतेहगढ़ कोतवाली पुलिस ने आरोपी की तलाश में कई गांवों में दबिश मारी। लेकिन हत्यारोपी पकड़ में नहीं आया है। एडीजी जोन के आदेश पर हत्या कि विवेचना फतेहगढ़ कोतवाल जसवंत सिंह को दी गई है। एसएसआई ने आरोपी के न मिलने पर कुर्की की कार्रवाई शुरू कर दी है।
जिला कानपुर देहात थाना रसूलाबाद के गांव धरमूपुर मड़ैया निवासी शिवनरायन का पुत्र कौशल किशोर 28 मई 2017 को गांव में ही लगे टावर पर मोबाइल चार्ज करने की बात कहकर घर से गया था। लेकिन वापस नहीं आया। 29 मई को कौशल किशोर का शव मिला था। पिता शिवनरायण ने गांव तिस्ती के सूबेदार, रणवीर उर्फ छोटे, अतुल, बलवीर, अरविंद के खिलाफ पुत्र की हत्या करने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। एडीजी जोन ने हत्या के मुकदमे की विवेचना फतेहगढ़ कोतवाल को स्थानांतरित कर दी थी। मुकदमे की विवेचना कोतवाल फतेहगढ़ जसवंत सिंह कर रहे हैं। इस प्रकरण में हत्यारोपी रणवीर उर्फ छोटे अब तक फरार चल रहा है।
एसएसआई आरएस वर्मा ने फोर्स के साथ गुरुवार को रणवीर उर्फ छोटे की तलाश में उसके गांव तिस्ती में दबिश मारी। पुलिस ने उसके रिश्तेदारों के बारे में जानकारी करने के बाद रणवीर को वहां भी तलाश किया, पर सफलता नहीं मिली। एसएसआई आरएस वर्मा ने बताया कि फरार चल रहे आरोपी के न मिलने पर कुर्की का कार्रवाई शुरू कर दी गई है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us