बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

पत्नी के साथ आईजी ने गौरी को दुलारा, पकड़े व खिलौने दिए

Kanpur	 Bureau कानपुर ब्यूरो
Updated Sun, 16 Feb 2020 11:06 PM IST
विज्ञापन
गौरी को गोद में लिए आईजी की पत्नी प्रेरणा।
गौरी को गोद में लिए आईजी की पत्नी प्रेरणा। - फोटो : FARRUKHABAD

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
फर्रुखाबाद। पत्नी के साथ यहां आए आईजी जोन ने बताया कि उनके परिचित लोग जो अमेरिका व लंदन में रह रहे हैं ने गौरी को गोद लेने की इच्छा जताई है। इससे पहले उन्होंने मासूम को गोद लेकर दुलारा और उसे नए कपड़े व खिलौने दिए। रजनी को गौरी की एक लाख की एफडी का प्रपत्र दिया।
विज्ञापन

उनकी पत्नी ने रजनी को गौरी के लालन पालन के लिए नगद धनराशि का लिफाफा दिया। आईजी ने गौरी को गोद देने के संबंध में प्रभारी एसपी व डीएम के अलावा जिला कार्यक्रम अधिकारी से वार्ता की ।

रविवार को आईजी जोन मोहित अग्रवाल व पत्नी प्रेरणा के साथ लोक निर्माण विभाग के गेस्ट हाउस में आए। उन्होंने सबसे पहले गौरी को बुलवाया। सिपाही रजनी गौरी को लेकर आई तो आईजी की पत्नी प्रेरणा ने उसे गोद में ले लिया। गौरी उनकी गोद में पंखा को मंखा कहकर हंस रही थी। आईजी ने गौरी को नए कपड़े, खिलौने दिए।
गौरी की बालसुलभ हरकतें देख आईजी ने कहा कि गौरी इज हैपीनेस चाइल्ड। ऐसे बच्चे हमेशा खुश रहते हैं। आईजी ने गौरी के नाम कराई एक लाख रुपये की एफडी के प्रपत्र रजनी को दिए। पत्नी प्रेरणा ने बच्ची को पाल रही सिपाही रजनी को उसे पालने के लिए लिफाफे में रुपये दिए। उन्होंने कहा कि गौरी की एफडी उसे गोद लेने वाले व्यक्ति को दे दी जाएगी।
जब गौरी 18 वर्ष की होगी तब एफडी की धनराशि उसके खाते में आ जाएगी। आईजी का कहना था कि गौरी कहीं भी रहे उसकी पढ़ाई की जिम्मेदारी वह ही उठाएंगे। बताया कि रजनी को पारिवारिक समस्या है। जब तक गौरी को कोई गोद नही ले लेता तब तक रजनी ही उसे पालेगी।
गौरी को गोद लेने के लिए अमेरिका व लंदन के उनके परिचितों ने इच्छा जताई है। आईजी ने गोद देने के संबंध में डीएम मानवेंद्र सिंह व प्रभारी एसपी त्रिभुवन सिंह, जिला कार्यक्रम अधिकारी भारत प्रसाद से वार्ता की।
बच्चों को बंधक बनाने व रूबी की हत्या के मुकदमों की प्रगति जांची
मोहम्मदाबाद कोतवाली के गांव करथिया निवासी बदमाश सुभाष के 25 बच्चों को बंधक बनाने व पुलिस समेत आम लोगों पर हमला करने के मुकदमे की जांच कर रहे शहर कोतवाल वेद प्रकाश पांडेय से विवेचना के बारे में पूछताछ की। वहीं रूबी की हत्या के मुकदमे की जांच कर रहे कोतवाल मोहम्मदाबाद राकेश कुुमार से अब तक की गई कार्रवाई के बारे में जानकारी की। जिले के कई गंभीर मुकदमों को लेकर विवेचकों से बातचीत कर एएसपी को दिशा निर्देश दिए। इस दौरान सीओ सिटी मन्नी लाल, सीओ कायमगंज अवनीश कुमार मौजूद रहे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us