विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

IPS बनी गोरखपुर की बेटी एमन, सीएम योगी ने मुस्लिम लड़कियों के लिए बताया रोल मॉडल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहर की ऐमन जमाल का भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) में चयन होने पर शुभकामनाएं दीं।

10 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

घाटमपुर

मंगलवार, 10 दिसंबर 2019

ट्रांसमिशन लाइन का तार चोरी, बरामद

घाटमपुर (कानपुर)। पुलिस चौकी नंदना क्षेत्र में चोरों ने मेगावाट (ट्रांसमिशन) लाइन का 1200 मीटर तार चोरी कर लिया। लाइन से तार काटने के बाद बंडल बनाकर आम के बगीचे में छिपा दिए। शनिवार सुबह ग्रामीण ने तारों के बंडल छिपे देखे तो चर्चा हुई और चौकी पुलिस को सूचना दी गई।
यमुनापट्टी में बन रहे 1980 मेगावाट नेयवेली पावर प्लांट की एक लाइन कानपुर देहात के रनियां कस्बा स्थित औद्योगिक क्षेत्र के लिए डाली जा रही है। जिसका काम तेजी के साथ जारी है। गजनेर (कानपुर देहात) थानाक्षेत्र और नंदना चौकी क्षेत्र के मध्य स्थित महमदपुर गांव के निकट टॉवरों में तार बांधने का काम चल रहा है। चार दिन पहले लाइन पर चार सौ मीटर की दूरी पर लाइन के तीनों काट लिए गए थे। कंपनी के कर्मचारियों के मुताबिक कुल 1200 मीटर तार काटा गया है। जिसकी कीमत करीब डेढ़ लाख रुपये के आसपास है।
चोरी की घटना के बाद लाइन पर काम कर रहे अधिकारी/कर्मचारी चोरी गए तार की तलाश करने में जुटे थे। किसी ने महमदपुर गांव के बाहर आम के बगीचे में तारों के कुछ बंडल छिपे देखे। गांववालों ने इसकी सूचना एलएंडटी कंपनी के कैंप और पुलिस चौकी नंदना में दी। चौकी इंचार्ज धन्य कुमार ने बताया कि सूचना मिली है तार बरामद करने के साथ ही मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

अयोध्या पर फैसला: कानपुर समेत आसपास के जिलों में दिखा अमन-चैन, पल-पल का अपडेट

घाटमपुर: सिलेंडर फटने से धमाका, आठ दुकानें जलकर राख

घाटमपुर में मोहल्ला जवाहर नगर में मूसानगर रोड पर सरकारी अस्पताल के पास गुरुवार सुबह फुटपाथ किनारे टट्टर और झोपड़ी डालकर बनी दुकानों में आग लग जाने से आठ दुकाने जलकर राख हो गईं। सरकारी अस्पताल के बगल में रोड के किनारे लगी हुई गुमटियों में आग लग गई। स्थानीय लोगों ने बताया कि कूड़े के ढेर में आग सुलग रही थी जिसपर किसी ने ध्यान नहीं दिया। 

सुलगने के बाद आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और हाईवे के किनारे लगी हुई गुमटियां आग की चपेट में आ गई। एक गुमटी में वेल्डिंग का सामान था। उसमें आग लगने के बाद रखा हुआ सिलेंडर फट गया। जिससे आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। कपड़े की गुमटी, ऑटो पार्ट्स की दुकान, सिलाई की दुकान, हेयर कटिंग की दुकान आग की चपेट में आ गई। स्थानीय लोगों ने 100 नंबर पर सूचना दी।

जानकारी मिलते ही फायर बिग्रेड मौके पर पहुंची और आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन वह खराब हो गई जिसके चलते आग और बढ़ गई। थोड़ी देर बाद दूसरी गाड़ी बुलाई गई तब कहीं आग पर काबू पाया जा सका।
... और पढ़ें

घाटमपुर: पुलिस मुठभेड़ में अपराधी के दाहिने पैर में लगी गोली, एक गिरफ्तार

मुठभेड़ में शातिर के पैर में लगी गोली मुठभेड़ में शातिर के पैर में लगी गोली

यूपी: ट्रक की टक्कर से कमांडो की मौत, सैन्य सम्मान के साथ हुआ अंतिम संस्कार

घाटमपुर: पूर्व फौजी के साथ 3 लाख की टप्पेबाजी, बाइक का टायर पंचर करके डिग्गी से निकाले रुपए

घाटमपुर में शातिर टप्पेबाजों ने सोमवार की दोपहर बाद एक पूर्व फौजी को अपना निशाना बनाया। उसकी बाइक का टायर पंचर करने के बाद डिग्गी में रखे 3 लाख 8 हजार रुपये पार कर दिए। जानकारी होने पर किसान कोतवाली पहुंचा और घटना की तहरीर दी। पुलिस मामले की जांच कर रही है। घटना दोपहर बाद करीब 3.30 बजे की है।

थाना सजेती के अमौली गांव निवासी किसान सुभाष सिंह सेना का रिटायर जवान और संपन्न किसान है। उसने बताया कि बेटे सौरभ सिंह को व्यापार कराने के लिए सोमवार की दोपहर घाटमपुर कस्बा के मूसानगर रोड पर स्थित बैंक आफ बड़ौदा से 2 लाख रुपये जबकि, कानपुर रोड पर स्थित पंजाब नेशनल बैंक शाखा से 1 लाख 8 हजार रुपये निकालने के बाद एक बैग में रखे।
... और पढ़ें

पहले बेटी की डोली और फिर उठी मां अर्थी

टप्पेबाजी का शिकार हुआ पूर्व फौजी सुभाष सिंह
घाटमपुर (कानपुर देहात)। तहसील क्षेत्र के मुइया गांव में गुरुवार को बेटी के विवाह समारोह में द्वारचार के वक्त मां की मौत हो गई थी। परिजनों ने रिश्तेदारों व गांव के लोगों के मशविरा करने के बाद बेटी की शादी को नहीं टालने का फैसला किया। इसके बाद मां के शव को पंचायत भवन में सुरक्षित रखवा कर बेटी की शादी की रस्में निभाई। शुक्रवार की सुबह बेटी की डोली उठाई और दोपहर में मां अर्थी। एक ही दिन में डोली और अर्थी उठने के बाद घर दुल्हन के घर का माहौल गमगीन है।
मुइया गांव निवासी गुसाईं लाल प्रजापति गांव का चौकीदार है। उसने बेटी मंजू की शादी कानपुर नगर के तिलसहरी गांव महाराजपुर के निवासी जीत कुमार प्रजापति के साथ तय की थी। गुरुवार को मंजू की बरात आई थी। रात में द्वारचार का कार्यक्रम चल रहा था। उसी दौरान मंजू की मां शांती देवी (55) को अचानक जमीन पर गिर गईं थीं। बाद में डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। शांति की मौत की खबर गुसाई व उसके परिवार के लोगों ने मंजू और अन्य रिश्तेदारों को नहीं दी। साथ ही कुछ रिश्तेदारों और गांव वालों ने गुसाई को समझा कर शांति को शव गांव के पंचायत भवन के बरामदे में रखवा दिया। इसके बाद पूरी रात मंजू की शादी की रस्में चलती रहीं। गांव के ओम नरायन तिवारी, छेदा लाल प्रजापति, विपिन तिवारी, मेवालाल, कल्लू मिश्रा और रामप्रसाद ने अपनी देखरेख में विधि विधान से शादी की रस्म पूरी कराई। इसके बाद शुक्रवार की सुबह लगभग नौ बजे मंजू को बिदा कर दिया। इसके बाद शांति का शव घर लाया गया।
दोपहर में उनका मूसा नगर (कानपुर देहात) के यमुना घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया। शनिवार की सुबह मुइया गांव में गोसाईं लाल प्रजापति के घर मातम दिखा। जिस आंगन में बेटी की शादी का मंडप गड़ा था, वहां पर सन्नाटा पसरा हुआ था। घर के दरवाजे पर एक किनारे गोसाईंलाल के परिवार के कुछ लोगों के साथ बैठे नजर आए। जबकि उनका बेटा बृजेश प्रजापति भी भी गुमसुम खड़ा दिखाई दिया। वहीं, कई लोग गुसाई के घर में सांत्वना देने भी आते रहे।
... और पढ़ें

बेटी की बारात आते ही मां ने तोड़ा दम, शव मंडप से दूर रख निभाई गईं शादी की रस्में

यूपी में डेंगू का कहर, वायु सैनिक समेत चार लोगों की मौत

घाटमपुर के बिल्हौर में मंगलवार को डेंगू बुखार की चपेट में आने से वायु सैनिक समेत चार लोगों की मौत हो गई। घाटमपुर क्षेत्र में दो, बिल्हौर और शिवराजपुर क्षेत्र एक-एक ग्रामीण की डेंगू बुखार से मौत हो गई। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

कस्बे के भदेवना गांव निवासी रामप्रताप यादव का एकलौता पुत्र संदीप यादव (25) वायुसैनिक था। इस समय उसकी तैनाती दिल्ली में थी। दीपावली पर वह छुट्टी लेकर घर आया था। 13 नवंबर को अचानक बुखार आया। दो दिनों तक स्थानीय स्तर पर इलाज कराया गया। फायदा न मिलने पर तीन दिन पहले कानपुर के सेवन हास्पिटल में भर्ती कराया गया। जांच में डेंगू पाया गया। हालत में कोई सुधार नहीं हुआ और बीते सोमवार की देर शाम अस्पताल में ही मौत हो गई।
... और पढ़ें

रास्ते में घायल पड़े बंदर का इलाज कराया

पतारा (कानपुर)। कस्बे के रेलवे स्टेशन रोड पर घायल पड़े बंदर को कुछ लोगों ने उठाकर पशु चिकित्सालय पहुंचाया और वन विभाग को सूचना दी। इलाज के बाद बंदर की हालत में सुधार हुआ। वन विभाग की टीम अस्पताल से उसे अपने साथ ले गई और घाटमपुर कस्बा स्थित वन रेंजर कार्यालय परिसर में रखा है।
बीते बुधवार की दोपहर पतारा रेलवे स्टेशन रोड के किनारे एक बंदर अचेत पड़ा मिला। लोग उसके पास पहुंचे तो उसकी सांसें चल रहीं थीं। यह देख कुछ लोगों ने उसे उठाकर पशु चिकित्सालय पहुंचाया। पशु चिकित्सक डा. अमित जायसवाल ने बताया कि इलाज के बाद बंदर को होश आया। वहीं सूचना पाकर वन विभाग के दरोगा ध्रुवनरायण भी पहुंचे।
उन्होंने घायल बंदर को अपने कब्जे में लेकर उसका इलाज शुरू कराया। वन दरोगा ने बताया कि बंदर की हालत में सुधार होने के बाद उसे वन विभाग की टीम घाटमपुर ले आई जहां उसकी देखभाल की जा रही है। बताया कि बंदर अब उछलकूद करने लगा है और खाना भी खा रहा है। बताया कि गुरुवार को उसे आजाद कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें

हादसे में घायल किशोरी की इलाज के दौरान मौत

घाटमपुर (कानपुर)। मूसानगर रोड स्थित श्रीनगर गांव के पास शनिवार की शाम हुए सड़कहादसे में घायल किशोरी की इलाज के दौरान हैलट अस्पताल (कानपुर) में मौत हो गई। इस हादसे में मरने वालों की संख्या दो हो गई है। वहीं, दो घायलों का इलाज चल रहा है।
कोतवाली क्षेत्र के गांव कोरों निवासी गुलवेश (25) पुत्र इस्लाम की चचेरी बहन का रविवार को निकाह होना है। इसके चलते गुलवेश अपनी ममेरी बहनों भदरस गांव निवासी नौशीन (17) पुत्री मुमताज, सानिया (15) और नाजिया (4) पुत्री रियाज को बाइक में बैठाकर भदरस से वापस कोरों लौट रहा था। चारों एक ही बाइक पर सवार थे। शाम को वह जैसे ही श्रीनगर गांव के पास पहुंचा। तभी, सामने से ट्रैक्टर की चपेट में आ जाने से चारों हादसे का शिकार हुए थे। सीएचसी में डाक्टरों ने गुलवेश को मृत घोषित कर दिया। जबकि नौशीन, सानिया और नाजिया को गंभीर हालत में हैलट अस्पताल (कानपुर) रेफर किया गया था। जहां इलाज के दौरान सानिया की भी मौत हो गई।
इधर, कोरों गांव निवासी गुलवेश का शव पोस्टमार्टम के बाद उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया। दोपहर बाद शव को लेकर गांव आए और शाम करीब 5 बजे के आसपास गमगीन माहौल में उसकी अंत्येष्टि की गई। वहीं, गुलवेश की चचेरी बहन के निकाह को न टालने का फैसला किया गया। जिसके चलते शाम को कस्बा सिठमरा, थाना रूरा (कानपुर देहात) से बरात बुलवा ली गई। गांव निवासी भाजपा नेता हरनाथ सिंह ने बताया कि दुख की घड़ी में गांव के लोगों ने इस्लाम के परिवार के साथ खड़े होकर उसकी भतीजी के निकाह को संपन्न कराया। वहीं, वरपक्ष ने भी मानवता दिखाई, इसके चलते वह बरात में कम लोगों को लेकर आए। देररात तक निकाह की रस्में चलती रहीं।
... और पढ़ें

आर्य समाज ने शोभायात्रा निकालकर जगाई अलख

घाटमपुर (कानपुर)। कस्बा स्थित आर्य समाज मंदिर में शुक्रवार से तीन दिवसीय शताब्दी समारोह शुरू हुआ। आर्य प्रतिनिधि सभा (उप्र) के प्रधान धीरज सिंह आर्य ने ओम ध्वज फहराकर समारोह की शुरुआत कराई। शुक्रवार सुबह 6 से 7 बजे तक योगासन और 8 से 10 बजे तक यज्ञ का कार्यक्रम संपन्न कराया गया। वहीं, 11 बजे से शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा में बड़ी संख्या में महिलाएं शामिल हुईं।
आयोजन स्थल से निकाली गई शोभायात्रा नगर पालिका रोड से वाया पुराना अस्पताल रोड होते हुए कानपुर-सागर राजमार्ग पर पहुंची। रेलवे स्टेशन रोड और टीचर कालोनी होते हुए दीना मार्केंट (डाकखाना) रोड और बाबा मंदिर गली होकर वापस मुगल रोड पर पहुंची। कस्बे के मुख्य चौराहा से होकर रोडवेज बस स्टाप की बगल वाली गली वापस आयोजन स्थल पर खत्म हुई। शोभायात्रा में शामिल लोगों ने आर्य समाज के उद्देश्यों को बताया। कहा कि वेदों से ही आर्य संस्कृति का उदय हुआ है। वहीं, धर्मध्वज के साथ देश का राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा भी लहरा रहा था। हाथों में भारत माता की जय और वैदिक धर्म की जय के साथ ही सर्वे भवंतु सुखिना, सर्वे संतु निरामया के नारे लगाते चल रहे थे।
तख्तियों के माध्यम से यह संदेश भी दिया गया कि वैदिक धर्म का प्रचार-प्रसार करने के लिए ऋषि दयानंद ने जन्म लिया था। शोभायात्रा में प्रधान अशोक कुमार आर्य, शिवनरायण आर्य इंटर कालेज (मुरलीपुर) के प्रधानाचार्य प्रभाष कुमार आर्य, मंत्री प्रदीप कुमार आर्य के अलावा डॉ शिवसिंह, डॉ राजकुमार, जगरूप सिंह, वीरेंद्र कुमार आर्य, वंदना आर्य, रामऔतार, नीलम आर्य, बिंदू आर्य और विनोद कुमार पटेल सहित अन्य लोग शामिल हुए। जबकि, दो विद्यालयों के छात्र और एनसीसी कैडेट्स शामिल हुए। रात्रिकालीन सभा में भजन, प्रवचन और उपदेश के कार्यक्रम संपन्न हुए।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election