विज्ञापन
विज्ञापन
मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020
Astrology Services

मौनी अमावस्या पर गया में कराएं तर्पण, हर तरह के ऋण से मिलेगी मुक्ति : 24 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

गोरखपुर की हर खबर अब अमर उजाला डिजिटल पर, कल सीएम योगी करेंगे लोकार्पण

अमर उजाला गोरखपुर के हाइपर लोकल ‘डिजिटल संस्करण’ की शुरुआत शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लैपटॉप पर एक क्लिक करके करेंगे।

17 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

जालौन

शुक्रवार, 17 जनवरी 2020

बारिश के बाद जिलाधिकारी ने किया गोशाला का निरीक्षण

कदौरा(जालौन)। जिले में दो दिन से रुक -रुककर हो रही बारिश के बाद गोशालाओं की व्यवस्था को दुरुस्त बनाने के न सिर्फ जिलाधिकारी ने निर्देश दिए, बल्कि खुद भी बोहदपुरा स्थित गोशाला का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी के निर्देश के बाद ब्लाक के भी अधिकारियों ने गोशाला का निरीक्षण कर स्थिति को परखा।
मंगलवार की रात व बुधवार सुबह हुई बारिश को देखते हुए जिलाधिकारी डा. मन्नान अख्तर ने बोहदपुरा स्थित गोशाला का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने मवेशियों को खुले में न रखने के निर्देश दिए। साथ ही गोशाला में कीचड़ न हो, इसके लिए पानी निकासी के इंतजाम दुरुस्त कराने के निर्देश दिए। वहीं उन्होंने सभी उपजिलाधिकारी व बीडीओ को भी निर्देश दिए कि वह अपने क्षेत्र में गोशालाओं स्थिति को परखे। निर्देश के बाद कदौरा में सेक्टर प्रभारी मनोज गुप्ता ने ब्लाक क्षेत्र के कुरहना, आलमगीर, इटौरा गुरु, गररेही कठपुरवा, कुआखेड़ा गांव में स्थित गोशालाओं का निरीक्षण किया। कुरहना आलमगीर में गंदगी व जलभराव देख सफाई कर्मियों की फटकार लगाई तो वही, मवेशियों की संख्या अधिक देख एक अतिरिक्त टिन शेड बनाने का निर्देश प्रधान को दिया। गररेही स्थित गोशाला में मवेशियों को न देख नाराजगी व्यक्त की, जानकारी पर पता चला कि गोशाला में मवेशियों के खाने पीने की व्यवस्था नहीं है मवेशियों को चरवाहों ले गए है। इस पर उन्होंने नाराजी व्यक्त करते हुए सचिव व प्रधान की शिकायत बीडीओ अतिरंजन सिंह से कही। इस संबंध में बीडीओ अतिरंजन सिंह ने कहा कि लापरवाही बरतने वाले सचिवों व प्रधानों की सूची बना ली है जल्द इसकी शिकायत मुख्य विकास अधिकारी से की जाएगी।
... और पढ़ें

आक्रोशित किसानों ने ग्राम सचिवालय में बंद किए मवेशी

माधौगढ़(जालौन)। अन्ना मवेशियों से परेशान ब्लाक क्षेत्र के गांव महाराजपुरा के ग्रामीणों के सब्र का बांध फूट पड़ा। बुधवार को आक्रोशित किसानों ने क्षेत्र के आधा सैकड़ा अन्ना मवेशियों को ग्राम सचिवालय में बंद कर प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। किसानों का आरोप है कि वह कई बार क्षेत्र में अस्थाई गोशाला की मांग कर चुके है, लेकिन अभी तक किसी ने सुध नहीं ली, इससे रोजाना अन्ना किसी न किसी किसान की फसलों को चट कर रहे है। सूचना पर पहुंचे सचिव देवेंद्र सिंह के दो दिन में गोशाला निर्माण का आश्वासन दिया, तब जाकर किसान शांत हुए। तहसील क्षेत्र के गांव महाराजपुरा में पिछले एक सप्ताह में अन्ना जानवरों ने एक दर्जन किसानों की लगभग एक सैकड़ा गेहूं, सरसों, मसूर व अरहर की फसल को चट कर ली। आए दिन अन्ना से परेशान किसानों ने बुधवार को अन्ना जानवरों को सचिवालय में बंद कर दिया और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। किसान लाखन सिंह, रंजीत सिंह, मानसिंह, धर्मेंद्र सिंह, नंदन, अनिल, अंगद सिंह आदि किसानों का कहना है कि प्रधान हीरा देवी, सचिव देवेंद्र सिंह से कई मर्तबा अस्थाई गोशाला बनवाने के लिए कहा गया, लेकिन प्रधान व सचिव ने इस ओर ध्यान नहीं दिया, जिससे आए दिन अन्ना क्षेत्र के किसानों की फसलों को चट कर रहे है। सूचना मिलते ही एसडीएम सालिकराम में सचिव को मौके पर भेजा। निर्देश पर सचिव देवेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे और फोन के एसडीएम की बात कराई। एसडीएम के दो दिन में गांव में अस्थाई गोशाला का निर्माण कराने के आश्वासन के बाद किसान शांत हुए और पशुओं को बाहर निकाला। ... और पढ़ें

सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने का झांसा देकर ठगी

कोंच (जालौन)। कलक्ट्रेट का बड़ा बाबू बताकर सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने का झांसा देकर एक दिव्यांग युवक व युवती ने गांव की महिलाओं से लाखों ऐंठ लिए और चंपत हो गए। महिलाओं ने कोतवाली पहुंच कर तथा कथित ठगों के खिलाफ शिकायत की है और पैसा दिलाने की मांग की है।
कोतवाली क्षेत्र के गोराकरनपुर निवासी प्रेमादेवी पत्नी ठाकुरदास कुशवाहा के साथ बुधवार को दर्जनों महिलाओं के साथ कोतवाली पहुंची और पुलिस को शिकायती पत्र देकर बताया कि गांव की ही रहने वाली एक दिव्यांग युवती जो खुद को दिव्यांग एसोसिएशन की पदाधिकारी बताती है। वहीं उसके साथ आए युवक को कलक्ट्रेट का बाबू बताकर सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर लाखों रुपये ठग लिए। महिलाओं ने बताया कि गांव की लगभग छह दर्जन महिलाएं विधवा पेंशन, वृद्धावस्था पेंशन, प्रधानमंत्री आवास योजना तथा उज्जवला जैसी योजनाओं में पात्रता की श्रेणी में हैं लेकिन लिखा पढ़ी की औपचारिकताएं जानने में असमर्थ होने का लाभ उक्त दिव्यांग युवती व युवक ने उठाते हुए उन लोगों को भरोसा दिया कि उन लोगों का काम करा दिया जाएगा लेकिन जमानत के तौर पर उन्हें पांच-पांच हजार रुपये जमा कराने होंगे जिसमें काम हो जाने के बाद पांच-पांच सौ रुपये काट कर बकाया वापस कर दिए जाएंगे। इस तरह 17 अगस्त 2019 को उन लोगों ने चुखरू मोहम्मद, राजेश कुशवाहा, राज मोहम्मद, सीमादेवी, सियारानी सहित 69 लोगों से तकरीबन 2 लाख 35 हजार रुपये ऐंठ लिया है लेकिन अभी तक उन्हें योजनाओं का लाभ नहीं मिल सका है। उन्होंने पुलिस से उनका रुपये वापस दिलाने की मांग की है। इस पर कोतवाली प्रभारी शैलेंद्र सिंह का कहना है कि शिकायती पत्र मिला है जांच कर कार्रवाई करेंगे।
... और पढ़ें

लगातार बारिश से चलना दुश्वार, कीचड़ से सने रास्ते

उरई (जालौन)। सावन की तरह माघ में बरस रहे बादलों ने शहर से लेकर गांव कस्बों तक की सूरत बदल कर रख दी है। दो दिनों से हो रही बारिश ने न सिर्फ उरई शहर के मोहल्लों में ही जलभराव कीचड़ की स्थिति पैदा कर दी है बल्कि गांव कस्बों में तो लोगों का पैदल चलना भी दुश्वार बना हुआ है। उरई में जिला अस्पताल, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और गंटाघर के आसपास कीचड़ और जलभराव होने से लोगों को काफी परेशानी हुई । घरों के बाहर से ही शुरू होने वाला कीचड़ गांव के बाहर तक दिखाई दिया।
बुधवार सुबह से शुरू हुआ बारिश का सिलसिला गुरुवार की शाम तक जारी रहा। इस कारण गुरुवार को अधिकांश स्कूलों की भी छुट्टी कर दी गई। देर रात फिर सुबह हुई तेज बारिश के कारण शहर के रामनगर, इंद्रानगर, पटेल नगर और राजेंद्र नगर आदि मोहल्लों में जलभराव हो गया। तुफैलपुरवा में तो कीचड़ से लोग परेशान रहे। इसी तरह जिला अस्पताल और रेलवे स्टेशन गेट पर भी जलभराव से आने जाने वालों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। सबसे अधिक खराब स्थित कस्बों और ग्रामीण इलाकों की रही।
डकोर ब्लाक के मुहम्मदाबाद गांव की शायद ही ऐसी कोई गली रही होगी जहां पर कीचड़ व जलभराव न दिखाई दिया हो। ग्रामीण कपड़े ऊपर करके जरूरी कामकाज के लिए सड़कों पर चलते दिखाई दिए। कदौरा स्थित एक नंबर वार्ड में पहले ही गंदगी एकत्र थी, उस पर रही सही कसर बारिश ने पूरी कर दी। जिससे चारों ओर कीचड़ और जलभराव ही दिखाई दे रहा था। इलाकाई लोगों का आरोप है कि नगर पंचायत के अधिकारी सफाई की ओर तनिक भी ध्यान नहीं देते हैं।
यही हाल आटा क्षेत्र का भी रहा। यहां भभुआ मार्ग तो इस कदर कीचड़ से सना रहा है कि उस पर वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना भी खतरे से खाली नहीं लग रहा था। कालपी प्रतिनिधि के मुताबिक निर्माणाधीन ओवरब्रिज पर बारिश से कीचड़ हो गया। जिससे वहां वाहनों की भीड़ पूरे दिन जाम के शक्ल में नजर आ रही थी। कालपी के जाम के कारण यमुना पुल पर भी वाहन रेंगते हुए नजर आए। यही हाल कालपी के भीतर स्थित मोहल्लों व गली कूचों का रहा। जहां कीचड़ व जलभराव ने लोगों का पैदल चलना भी दुश्वार कर रखा था।
बारिश से गिरा कच्चा मकान, मां व दो बच्चे दबे
माधौगढ़। कोतवाली थाना क्षेत्र के गांव बिरिया में बेमौसम बरसात के चलते सुनील गुबरेले पुत्र राधेश्याम गुबरेले का कच्चा मकान बुधवार रात भरभरा कर ढह गया। मकान में सो रहे पत्नी मोहनी, बेटा अंश (8), बेटी पलक (5) दब गए। शोरगुल सुन मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने दबे लोगों को बाहर निकाला। घायलों को सीएचसी में भर्ती कराया। डॉक्टर रामेंद्र पचौरी का कहना है कि घायल बाल बाल बच गए। तहसीलदार प्रेमनारायण का कहना है कि लेखपाल कृष्णबिहारी को मौके पर भेजा है।
कदौरा में वार्ड नंबर एक  में जलभराव
कदौरा में वार्ड नंबर एक में जलभराव- फोटो : ORAI
मोहम्मदाबाद में हरिजन मोहल्ले में कीचड़ से निकलते ग्रामीण ग्रामीण
मोहम्मदाबाद में हरिजन मोहल्ले में कीचड़ से निकलते ग्रामीण ग्रामीण- फोटो : ORAI
... और पढ़ें
आटा स्थित भभुआ पर कीचड़ से सना रास्ता आटा स्थित भभुआ पर कीचड़ से सना रास्ता

गोशालाओं में बारिश व ठंड से चार गोवंशों की मौत

जालौन/महेबा। बेमौसम बारिश अन्ना मवेशियों के लिए भी किसी मुसीबत से कम नहीं है। रही सही कसर गोशालाओं में आधे अधूरे इंतजामों ने पूरी कर दी है। जिसके चलते जालौन तहसील के सहाव गांव में दो बछड़ों और महेबा ब्लाक के गोरा कला गांव में दो गायों की मौत हो गई। ग्रामीणों का आरोप है कि गोशालाओं में आधे अधूरे इंतजाम के कारण बारिश व ठंड से मवेशियों की मौत हुई है।
महेबा ब्लॉक के ग्राम गोरा कला में बारिश से हुई ठंड के कारण बुधवार रात दो मवेशियों की मौत हो गई। ग्रामीणों का कहना है कि खंड विकास अधिकारी के निर्देश पर सभी स्थायी और अस्थायी गोशाला को तिरपाल से ढकने का काम किया गया था पर दो दिनं से बारिश और तेज सर्द हवाओं के कारण मवेशियों की मौत हो गई। वहीं ग्राम पंचायत सचिव महेंद्र कुमार ने बताया कि उन्हें एक मवेशी की मौत की जानकारी हुई है, मौत का कारण पोस्टमार्टम से स्पष्ट होगा। फिलहाल गोशाला के लिए टिन शेड आ गया है, जिसे दो एक दिन के भीतर लगा दिया जाएगा।
जालौन प्रतिनिधि के मुताबिक बुधवार रात सहाव गांव में संचालित अस्थायी गौशाला में दो बछड़ों की मौत हो गई है। जिन्हें चुपचाप दफना भी दिया गया। बता दें कि हाल ही में मंडलायुक्त ने गोशालाओं का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं दुरुस्त रखने के निर्देश भी दिए थे। इसके बाद भी गोशालाओं में लापरवाही का सिलसिला बदस्तूर जारी रहा। बताया जाता है कि ग्राम प्रधान के कहने पर शवों को आनन फानन में दफना भी दिया गया। बीडीओ महिमा विद्यार्थी का कहना है कि वे स्वयं जाकर मौके का निरीक्षण करेंगी। लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी, जिम्मेदारों पर कार्रवाई की जाएगी। कोंच के नरी गांव में भी दो मवेशियों की मौत की सूचना है पर कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।
... और पढ़ें

बारिश में भीग रहे अन्ना मवेशी

ऊमरी/मुहम्मदाबाद/सरावन। गोशालाओं को दुरुस्त रखने का दावा करने वालों की पोल भी बारिश ने खोलकर रख दी है। बारिश के दौरान गोशालाओं में मवेशी भी भीगते नजर आए। इतना ही नहीं जिन मवेशियों को टैग लगाकर उन्हें चिह्नित किया गया है, वे भी सड़कों पर इधर-उधर भटकते नजर आ रहे हैं। गोशालाओं में कुछ दिन पहले लगाए गए तिरपाल भी तितर बितर हो गए हैं। अलाव का भी कोई इंतजाम नहीं है। जिससे मवेशी ठंड से ठिठुर रहे हैं।
सरावन प्रतिनिधि के मुताबिक, कस्बा व मजरा खितौली की गोशालाएं आधी अधूरी पड़ी हुई हैं। दोनों ही गोशालाओं में न छाया है और न ही भूसा चारे का कोई इंतजाम है। जिस कारण किसान भी मवेशियों को गोशाला में नहीं रखने देते हैं। लिहाजा अन्ना मवेशी सड़कों पर ही भटकते हुए भीग रहे हैं। किसान कुलदीप, राजेंद्र कुमार, गजेंद्र सिंह आदि का कहना है कि न जाने कब अन्ना मवेशियों की समस्या से निजात मिलेगी। प्रशासन से भी कई बार गुहार की जा चुकी है।
ऊमरी प्रतिनिधि के मुताबिक, अधूरी पड़ी गोशालाओं के कारण अन्ना मवेशी बारिश में इधर उधर भटक रहे हैं। कहीं किसी मकान के दरवाजे पर कहीं दुकानों के टीन शेड के नीचे बारिश से भीगे मवेशियों का झुंड कभी भी देखा जा सकता है। हैरत की बात तो यह है कि कई मवेशियों में उन्हें चिह्नित किए जाने का टैग भी लगा है। इसके बाद भी किसी अधिकारी कि नजर उन मवेशियों पर नहीं पड़ रही, जिससे कि उन्हें गोशालाओं तक पहुंचाया जा सके।
मुहम्मदाबाद स्थित गोशाला में कीचड़ और जलभराव के बीच भीगते मवेशी
मुहम्मदाबाद स्थित गोशाला में कीचड़ और जलभराव के बीच भीगते मवेशी- फोटो : ORAI
बारिश से बचने के लिए बंद पड़े पशु अस्पताल में खड़े अन्ना मवेशी
बारिश से बचने के लिए बंद पड़े पशु अस्पताल में खड़े अन्ना मवेशी- फोटो : ORAI
... और पढ़ें

बारिश ने किसानों की मेहनत पर भी पानी फेरा, फसलों को नुकसान

उरई/सरावन। दो दिन से हो रही बारिश के कारण खेतों में पानी भर गया है। जिससे चना, मटर, मसूर आदि की फसलों को काफी नुकसान हुआ है। किसान अपना सिर पकड़े बैठा है। कहना है कि रात-रात भर खेतों में रखवाली कर फसलों को बचाया था, पानी ने सब कुछ बर्बाद कर दिया। वहीं लगातार हो रही बारिश से गांव कस्बों का भी बुरा हाल है। चारों ओर कीचड़ व जलभराव ही नजर आ रहा है। सर्दी के बीच लोगों को जलभराव से होकर गुजरने की दुश्वारी झेलनी पड़ रही है।
बता दें कि बुधवार सुबह से ही मौसम का मिजाज बिगड़ा था। तड़के शुरू हुई बारिश देर शाम तक रुक रुक कर होती रही। इसके बाद बुधवार की रात भर बारिश हुई तो गुरुवार को भी पूरे दिन बारिश ने लोगों को घरों से निकलने नहीं दिया। ठंडक बढ़ने के साथ-साथ फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा है। आटा, एट, कदौरा, कालपी, सरावन, माधौगढ़, कोंच, जालौन आदि इलाकों के खेत पानी से लबालब दिखाई दिए।
खेतों में मटर, मसूर, चना आदि की फसलों को काफी नुकसान की आशंका जताई गई है। हालांकि गेहूं के लिए बारिश फायदेमंद बताई जा रही है पर पुरानी बुवाई वाली गेहूं की फसलें भी नुकसान से अछूती नहीं रह सकी हैं। सरावन के किसान राजेश कुमार, सुरेंद्र, करन सिंह, महेश कुमार आदि का कहना है कि बारिश के कारण खेतों में फसलें बिछी पड़ीं हैं। सिरसाकलार के किसान शत्रुघ्न सिंह का कहना है कि लगातार बारिश से दलहनी व तिलहन की फसलों मसूर, चना की पत्तियां सड़ने लगी है। इस कारण फूल के झड़ने से पैदावार कम होने की आशंका है। सिर्फ गेंहूं व ज्वार की फसलों को ही थोड़ा बहुत लाभ पहुंचेगा।
आटा की महिला किसान लता तिवारी ने बताया कि उन्होंने 10 एकड़ के खेत में मसूर, चना और मटर की बुवाई की थी। बराबर पानी बरसने से सारी फसलें खराब हो गई है। लगभग दो लाख का नुकसान हुआ है। कोई भरपाई करने वाला भी नहीं है। ऊमरी के किसान देवेंद्र सिंह ने बताया कि गेहूं छोड़ सभी फसलों को नुकसान होगा। इधर आलू की खुदाई भी होनी थी पर लगातार बारिश के कारण मिट्टी कीचड़ में तब्दील हो गई है। जिससे निकालते वक्त आलू भी खराब हो जाएगा।
देवेंद्र सिंह
देवेंद्र सिंह- फोटो : ORAI
आलू के खेत में भरा पानी
आलू के खेत में भरा पानी- फोटो : ORAI
शत्रुघ्न
शत्रुघ्न- फोटो : ORAI
सिरसा कलार में मटर की खेत में भरा पानी
सिरसा कलार में मटर की खेत में भरा पानी- फोटो : ORAI
आटा में खेत में भरा पानी निकालता किसान
आटा में खेत में भरा पानी निकालता किसान- फोटो : ORAI
... और पढ़ें

दो निरीक्षक समेत 26 पुलिस कर्मी हुए इधर उधर

लता तिवारी
उरई। एसपी डा. सतीश कुमार ने जिले में निरीक्षकों, उप निरीक्षकों, आरक्षियों व महिला सिपाहियों को स्थानांतरित किया है।
पुलिस कार्यालय से जारी सूची में निरीक्षक इमरान खान को रेढ़र से कोंच कोतवाली का प्रभारी बनाया वहीं निरीक्षक संजय मिश्रा को रेढ़र थाने का चार्ज दिया गया। वहीं उपनिरीक्षक भगत सिंह को पुलिस लाइन से चौकी प्रभारी जगम्मनपुर, दिनेश कुमार गिरी को जगम्मनपुर से पुलिस लाइन, सर्वेश कुमार को कालपी से एट, हरीशंकर अवस्थी को एट से कालपी, योगेंद्र कुमार शर्मा को रेढ़र से पुलिस लाइन भेजा गया है।
मुख्य आरक्षी रामविलास को अभियोजन कार्यालय, गुलाब सिंह को न्यायालय सुरक्षा, बृजेश कुमार को कालपी, प्रीतम सिंह को रामपुरा, अहवरन सिंह को कुठौंद से पुलिस लाइन भेजा गया है। वहीं आरक्षी राजीव कुमार, त्रिलोकी नाथ त्रिपाठी, सद्दाम हुसैन को अभियोजन कार्यालय, मोहम्मद माजिद को डकोर, निवेश कुमार को पेशी कालपी, धर्मेंद्र कुमार को कंझारी, दीपक सिंह को जालौन, उपदेश सिंह को सोशल मीडिया सेल, योगेश कुमार को डॉग स्क्वाड, नरेंद्र कुमार को कोतवाली उरई, महिला विजय लक्ष्मी को एफआईआर सेल, शिखा को रामपुरा स्थानांतरित किया है।
... और पढ़ें

महिला उत्पीड़न की चार शिकायतें आईं

उरई। राज्य महिला आयोग की सदस्य प्रभा गुप्ता की अध्यक्षता में लोक निमाण के निरीक्षण गृह में महिला उत्पीडन की रोकथाम एवं पीड़ित महिलाओं को त्वरित न्याय दिलाने के लिए जन सुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस दौरान चार महिलाओं ने अपनी शिकायतें दर्ज कराईं।
जन सुनवाई कार्यक्रम की शुरूआत पिछली शिकायतों के निस्तारण से की गई। जिस पर सीओ संतोष सिंह ने बताया कि पिछले माह कुल 11 शिकायती पत्र प्राप्त हुए थे, सभी का निस्तारण कर दिया गया है। सुनवाई के दौरान कुल चार शिकायती पत्र आए, जिसमें 03 पारिवारिक उत्पीड़न व एक मामला पुलिस प्रशासन से संबंधित था। इस दौरान महिला राज्य आयोग की सदस्य ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि महिलाओं की समस्या को गंभीरता से लिया जाए और जल्द से जल्द समस्याओं का निस्तारण किया जाए।
उन्होंने मौजूद अधिकारियों से महिला उत्पीडन को लेकर चलाए जा रही शासन की योजना के विषय में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि महिलाओं से संबंधित जो भी शासन की योजनाएं आती है, उनका शत-प्रतिशत लाभ दें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि योजनाओं के साथ साथ जन सुनवाई का अधिक से अधिक प्रचार प्रसार करे। इस अवसर पर प्रभारी जिला प्रोबेशन अधिकारी गुलाब सिंह, थानाध्यक्ष नीलेश कुमार, समाज कल्याण अधिकारी लालजी यादव, शिव, सूचना अधिकारी केवी मिश्र आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

ठंड लगने से दो वृद्धों की मौत

उरई/एट। उरई स्थित कोंच बस स्टैंड चौकी के पास बुधवार शाम ठंड लगने से वृद्ध की मौत हो गई। उधर, एट स्टेशन पर बने मंदिर के चबूतरे पर 75 वर्षीय अज्ञात वृद्ध की ठंड लगने से मौत हो गई।
शहर कोतवाली क्षेत्र के कोंच बस स्टैंड चौकी के पास झोपड़ी बनाकर अपनी पत्नी के साथ रह रहे राकेश विश्वकर्मा (70) पुत्र लक्ष्मीलाल की बुधवार शाम अचानक तबीयत बिगड़ गई। जब इसकी जानकारी आसपास दुकानदारों को को हुई तो वह आनन फानन में उन्हें लेकर मेडिकल कालेज पहुंचे। जहां पर वृद्ध ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इसकी जानकारी पत्नी व पड़ोसी दुकानदारों ने कोतवाली में दी।
परिजन ठंड लगने ने मौत होना बता रहे हैं। बस स्टैंड चौकी प्रभारी हरीराम सिंह ने बताया है कि फिलहाल मौत की वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्पष्ट होगी। उधर, एट स्टेशन पर बने मंदिर के चबूतरे पर 75 वर्षीय अज्ञात वृद्ध की ठंड लगने से मौत हो गई। बाबा का शव गुरुवार सुबह मिलने से हड़कंप मच गया। स्टेशन मास्टर की सूचना पर पहुंची जीआरपी ने शव की शिनाख्त कराने का प्रयास किया। लेकिन शिनाख्त नहीं हो सकी। जीआरपी पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
... और पढ़ें

दो दुकानों से 55 हजार रुपये के सिक्के चोरी

जालौन। सर्दी के मौसम में चोरों ने ज्वालागंज में दो दुकानों को निशाना बनाकर गुल्लक में रखे 55 हजार रुपये के सिक्के व किराने का सामान पार कर दिया। पीड़ित दुकानदारों ने चोरी की तहरीर कोतवाली में दी है।
कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला धर्मशाला निवासी अनिल कुमार गुप्ता व तोपखाना निवासी दिनेश कुमार ने पुलिस को बताया कि उनकी किराने की दुकान ज्वालागंज में स्थित है। बुधवार रात करीब 8 बजे वह अपनी दुकान बंद कर घर चले गए। रात में चोर दुकानों के ऊपर लगे टिन शेड के बोल्ट काटकर दुकान में घुस गए। चोरों ने दुकान की गुल्लक में रखे क्रमश: 25 हजार व 30 हजार के 10 व 5 रुपये के सिक्के चोरी कर लिए। उन्होंने बताया कि बैंक के कर्मचारी अधिक सिक्के लेने से इंकार कर देते हैं।
जिससे सिक्के मजबूरी में उन्हें दुकान में ही रखने पड़ते हैं। इन सिक्कों को चोर चोरी कर ले गए। इसके अलावा कुछ किराने का सामान भी चोरी गया है। पीड़ित दुकानदारों की तहरीर पर पुलिस ने मौके का मुआयना कर चोरों की तलाश शुरू की। वहीं, दुकानदार अनुराग बहरे, रामजी अग्रवाल आदि ने रात में बाजार में पिकेट ड्यूटी बढ़ाने की मांग की है। ताकि चोर दुकानों में घुसकर चोरी की घटनाओं को अंजाम न दे सकें।
... और पढ़ें

अनियंत्रित कार पोल से टकराकर खंदक में पलटी चालक की मौत

कोंच (जालौन)। तेज रफ्तार कार पोल से टकराकर खड्ड में जाकर पलट गई। जिससे कार चालक की मौत हो गई। जबकि कार सवार दंपति गंभीर रुप से घायल हो गए। राहगीरों ने दंपति को बाहर निकालकर सीएचसी पहुंचाया। पुलिस ने चालक का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
कोंच कोतवाली क्षेत्र के कैलिया रोड पर झलापटा गांव के पास गुरुवार सुबह 8 बजे स्विफ्ट कार बिजली के पोल से टकराकर अनियंत्रित होने के बाद खड्ड में गिरकर पलट गई। जिसमें कार चालक बंटी (35) पुत्र जगदीश निवासी राजपुर जिला भिंड, धमेंद्र पुत्र मानसिंह व उसकी पत्नी प्रीति निवासी बरथरा थाना दबोह मध्यप्रदेश घायल हो गए। घायलों की चीख पुकार पर राहगीर पहुंचे और तीनों को बाहर निकाला और सीएचसी कोंच ले गए। जहां डाक्टरों ने कार चालक बंटी को मृत घोषित कर दिया। वहीं सूचना पाकर प्रभारी कोतवाल शैलेंद्र सिंह ने मौके पर पहुंच गए और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घायलों ने बताया वह अपनी रिश्तेदारी भदारी से घर लौट रहे थे। तभी यह हादसा हो गया।
... और पढ़ें

किसानों ने उठाई मुआवजे की मांग

उरई। जिलाधिकारी डा. मन्नान अख्तर की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में किसान दिवस का आयोजन किया गया। इस दौरान किसानों ने अभी हाल ही में क्षेत्र में हुई ओलावृष्टि से हुए नुकसान का मुआवजा दिलाने की मांग की। किसान दिवस में बिजली, पानी, सिंचाई से संबंधित कुल 51 शिकायतें दर्ज की गईं।
बुधवार को आयोजित किसान दिवस की शुरूआत पिछले शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा से की गई। इस दौरान जिलाधिकारी ने अधिकारियों को सामने ही किसानों से पिछली शिकायतों के निस्तारण की स्थित को परखा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसानों की समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए जल्द निस्तारित करे। किसी भी लापरवाही पर जिम्मेदार अफसर के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राजवीर सिंह जादौन ने कहा कि जिले में अभी हाल ही में ओलावृष्टि हुई है, जिसमें अभी तक कई क्षेत्रों के किसानों को क्लेम व मुआवजे की राशि नहीं मिली है।
उन्होंने मांग की, कि जल्द से जल्द किसानों को मुआवजा राशि व बीमा क्लेम का पैसा दिलाया जाए। भारतीय किसान संघ के प्रात अध्यक्ष साहब सिंह चौहान ने कहा किसानों को बैंकों में कई ग्रीनकार्ड व अन्य जरूरी कामों के लिए अनावश्यक रूप से परेशान किया जा रहा है। जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि किसानों को परेशान करने वाले बैंक अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बलराम लंबरदार ने अन्ना समस्या के मुद्दे को गंभीरता से उठाया, उन्होंने कहा कि अभी भी क्षेत्र में सैकड़ों अन्ना मवेशी घूम रहे है जो आए दिन किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। उन्होंने अन्ना मवेशियों की समस्या से निस्तारण के लिए ठोस कदम उठाए जाने की मांग की।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us