विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान
Puja

एक माह तक वृंदावन बिहारी जी मंदिर में कराएं चन्दन तुलसी इत्र सेवा , मिलेगा नौकरी व व्यापार से जुड़े समस्याओं का समाधान

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

विज्ञापन
Digital Edition

नूरपुर गांव में पेड़ से लटकता मिला कामगार का शव

नूरपुर गांव में पेड़ से लटकता मिला कामगार का शव
पिपरी कोतवाली क्षेत्र के नूरपुर गांव का मामला, परिवार में मचा कोहराम
संवाद न्यूज एजेंसी
चायल। पिपरी कोतवाली क्षेत्र के नूरपुर गांव में रहने वाले एक युवक का शव सोमवार सुबह उसके घर के समीप पेड़ से लटकता मिला। युवक ने खुदकुशी की या उसे मारकर लटकाया गया? फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो सका है। घटना से पीड़ित परिवार में कोहराम मच गया। पुलिस जांच के बाद कार्रवाई की बात कह रही है।
नूरपुर निवासी अन्नू (22) पुत्र लालमन मुंबई में प्राइवेट नौकरी करता था। लॉकडाउन के बाद हफ्ते भर पहले ही वह दुश्वारियों भरा सफर तय करके घर आया था। रविवार शाम खाना खाने के बाद अन्नू कमरे में सो गया। एकांतवास में रह रहा अन्नू सोमवार सुबह कमरे से गायब मिला तो परिजनों ने खोजबीन शुरू कर दी। इसी बीच घर के समीप ही आम के पेड़ पर फंदे से लटकती हुई उसकी लाश मिली। इसकी जानकारी होते ही पीड़ित परिजन मौके पर पहुंचे। पुलिस ने जांच के बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मामले में पिपरी कोतवाल अतुल सिंह का कहना है कि पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट होगा। परिवार की ओर से तहरीर नहीं दी गई है। तहरीर मिली तो रिपोर्ट लिखकर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

लॉकडाउन : घरों में अदा की गई ईद उल फितर की नमाज

लॉकडाउन : घरों में अदा की गई ईद उल फितर की नमाज
खुशियों के पर्व ईद पर कोरोना का छाया रहा खौफ, वीडियो कॉलिंग व व्हाट्सएप के जरिए एक-दूसरे से साझा की गई खुशियां
अमर उजाला ब्यूरो
मंझनपुर। ईद-उल-फितर पर सोमवार को पहली बार कोरोना वायरस केखौफ की वजह से न ईदगाह पर जमावड़ा हुआ न आम लोगों के लिए मस्जिदें खोली गईं। मस्जिदों में सन्नाटा पसरा रहा। लोगों ने घरों में रह कर ईद उल फितर की नमाज अदा की।इस दौरान मुल्क को महामारी से बचाने के साथ ही नेकी, बरकत और अमन के लिए अल्लाह से दुआएं की गईं। वीडियो कॉलिंग, व्हाट्सएप के जरिए ईद की मुबारकबाद दी जाती रही। तकरीबन सभी घरों में लजीज व्यंजन बनाए गए और लोगों ने इसका आनंद लिया।
चांद का दीदार होने के बाद सोमवार को जिले भर में ईद मनाई गई। आम तौर पर ईद के दिन ईदगाहें सुबह से ही गुलजार हो जाया करती थीं। वहां मेेला लगता था। नमाज अदा करने के बाद लोग मेले में खरीदारी करते थे। इस दफा लॉकडाउन के कारण ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। मुस्लिम समाज के लोगों ने घरों में ही ईद की नमाज अदा की। घरों में लजीज व्यंजन बनाकर उसका आनंद लिया। उधर ईदगाहों में भीड़ नहीं जुटे, इसे लेेकर पुलिस सुबह से लेकर दोपहर बाद तक अलर्ट रही। सभी ईदगाहों में पुलिस का पहरा रहा। डीएम मनीष कुमार वर्मा और एसपी अभिनंदन खुद पुलिस फोर्स के साथ जिला मंझनपुर, करारी, भरवारी, मूरतगंज, महगांव, चायल आदि कस्बों में स्थिति का जायजा लेते रहे।
----------
ईद पर कोरोना की मार, सादगी से मना त्योहार
मंझनपुर। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस को लेकर जारी लॉकडाउन के कारण सबकुछ बंद है। इसका असर ईद पर भी पड़ा। आमतौर पर ईद के दिन सभी मुस्लिम नए कपड़ों में नमाज अदा कर त्योहार मनाते हैं। पर इस बार दो महीने से कामधंधा बंद होने के कारण तकरीबन सभी वर्ग आर्थिक तंगी के दौर से गुजर रहा है। इनकी स्थिति कुछ ठीक भी है उन्होंने भी महामारी के चलते सोमवार को सादगी के साथ ईद मनाया। मुस्लिम समुदाय के लोगों का कहना है कि देश वैश्विक महामारी के दौर से गुजर रहा है। प्रवासी मजदूरों की हालत को देखकर नए कपड़ों की खरीदारी से परहेज किया। लॉकडॉउन के नियमों का पालन करते हुए लोगों ने अपने-अपने घरों में ही ईद की नमाज अदा की।
-------
कोरोना संक्रमितों ने अस्पताल में मनाई ईद, खिलाई गई सेंवई
मंझनपुर। जिले में इस वक्त 37 कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज भर्ती हैं। इनमें से 33 मरीज मंझनपुर स्थित कोविड 19 एल-1 अस्पताल में भर्ती हैं। सीएओ डॉ. पीएन चतुर्वेदी ने बताया कि इनमें से दस संक्रमित मुस्लिम हैं। सोमवार को सभी ने अस्पताल में ईद की नमाज अदा की। देश को को महामारी से निजात दिलाने के लिए इबादत की। शासन की ओर से यूं तो इनके खान-पान का प्रोटोकॉल निर्धारित है। पर स्थानीय प्रशासन ने ईद पर सभी को सुबह सेंवई और शाम को खाने में खीर परोसा।
... और पढ़ें

नौतपा के पहले दिन दोआबा में झुलसा बदन

नौतपा के पहले दिन दोआबा में झुलसा बदन
पारा पहुंचा 44 डिग्री के पार
संवाद न्यूज एजेंसी
मंझनपुर। जिले में मौसम का पारा सोमवार को एक डिग्री बढ़कर 44 पर पहुंच गया। न्यूनतम पारा 28-29 डिग्री के इर्द-गिर्द दो दिन से है। घरों के बाहर लू चल रही है। घर में लोग पसीने से तर-बतर हो जा रहे। पंखा व कूलर आदि भी बेमतलब साबित हो रहे हैं। चार दिनों से आसमान से आग बरस रही है। उधर तालाबों में पानी कम होने से ग्रामीण क्षेत्रों में मवेशियों को पानी की दिक्कत हो रही है।
यूं तो पिछले चार दिनों से जिले में गर्मी का कहर चल रहा है। पर सोमवार से नौतपा लगने के कारण भगवान भाष्कर के तेवर और तल्ख हो गए। मौसम का मिजाज बदलने से दिनभर बदन झुलसता रहा। सोमवार को अधिकतम तापमान 44 डिग्री पहुंचने के कारण पंखा, कूलर सब फेल हो गए। घर से लेकर बाहर तक गरम हवा के थपेड़ों ने जीना मुहाल कर दिया। न्यूनतम तापमान स्थिर रहने से रात में भी तपन कम नहीं हो रही है। उमस भरी गर्मी के चलते घरों में और बाहर पसीना थमने का नाम नहीं ले रहा। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि नौतपा के दौरान सुबह नौ बजे से शाम पांच बजे तक धूप में निकलना खतरे से खाली नहीं है। मौसम के मिजाज में बदलाव के साथ बिजली कटौती का सिलसिला चालू हो गया है। चौबीस घंटे में तीन से चार घंटे बिजली कटौती हो सकती है। यह बात दीगर है कि कटौती का समय निर्धारित नहीं है।
... और पढ़ें

पारा फिर 47 के पार, बारिश ने बढ़ा दी उमस

prayagraj news prayagraj news

पूर्व ब्लॉक प्रमुख शैलेंद्र कुमार बने बसपा के जिलाध्यक्ष

पूर्व ब्लॉक प्रमुख शैलेंद्र कुमार बने बसपा के जिलाध्यक्ष
मंझनपुर। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने कौशाम्बी विकास खंड के पूर्व ब्लाक प्रमुख शैलेंद्र कुमार को पार्टी का जिलाध्यक्ष मनोनीत किया है। बसपा ने साल भर के दौरान चौथी बार जिलाध्यक्ष बदला है। बसपा के जोनल कोआर्डिनेटर अशोक कुमार गौतम ने विज्ञप्ति जारी कर बताया कि पार्टी प्रमुख मायावती ने कौशांबी के मेड़ुआ सलेमपुर गांव निवासी शैलेंद्र कुमार को जिलाध्यक्ष मनोनीत किया है। शैलेंद्र कौशांबी विकास खंड में ब्लाक प्रमुख रह चुके हैं। बताते चलें कि साल भर के दौरान जिले में बसपा जिलाध्यक्ष पद पर चौथी बार यह फेरबदल किया गया है। महेंद्र गौतम, राजू गौतम, आमिर काजी के बाद अब पार्टी प्रमुख ने शैलेंद्र पर दांव लगाया है।
... और पढ़ें

बड़ौदा उप्र क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक में चोरी का प्रयास

बड़ौदा उप्र क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक में चोरी का प्रयास
सरायअकिल के तिल्हापुर शाखा में हुई घटना, तिजोरी तोड़ने में चोर बिफल
मंगलवार को एसपी ने किया घटनास्थल का निरीक्षण, शीघ्र खुलासे का निर्देश
संवाद न्यूज एजेंसी
चायल। बड़ौदा उत्तर प्रदेश क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक की तिल्हापुर शाखा में चोरों ने नकब लगाकर चोरी का प्रयास किया। चोरों ने लॉकर (तिजोरी) तोड़ने का काफी प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हो सके। मंगलवार को बैंक खुला तो घटना की जानकारी हुई। शाखा प्रबंधक की सूचना पर एसपी फोर्स के साथ पहुंचे। एसपी ने वारदात के शीघ्र खुलासे का निर्देश दिया।
पिपरी कोतवाली क्षेत्र के तिल्हापुर स्थित बैंक की शाखा काफी पुरानी हैं। बैंक के पीछे की तरफ प्लाट हैं। शनिवार को शाखा प्रबंधक ओम प्रकाश ने काम निपटाने के बाद ताला बंद कराया और घर चले गए। रविवार व सोमवार (ईद) को अवकाश था। मंगलवार सुबह दस बजे मैनेजर बैंक पहुंचे और ताला खोलकर अंदर गए। अंदर जाकर देखा कि पीछे की दीवार में सेंध लगी थी। हाल में रखे लॉकर (तिजोरी) को तोड़ने का प्रयास किया गया था, लेकिन वह खुला नहीं। शाखा प्रबंधक ने घटना की जानकारी पिपरी कोतवाली पुलिस को दी। जानकारी होने पर एसपी अभिनंदन ने बैंक का निरीक्षण किया। शाखा प्रबंधक ने बताया चोर बैंक से कुछ नहीं ले जा सके हैं। लॉकर खुलता तो नकदी चोरी हो जाती है। इस पर एसपी ने पिपरी इंस्पेक्टर अतुल सिंह को शाखा प्रबंधक से तहरीर लेकर घटना के शीघ्र खुलासे का निर्देश दिया। पुलिस ने शक पर बैंक के दो संविदा स्टाफ को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। फिलहाल खुलासे का कोई क्लू नहीं मिल रहा है। इंस्पेक्टर का कहना है बैंक से कुछ चोरी नहीं हुआ है। घटना का जल्द ही खुलासा किया जाएगा।
----
30 हजार ग्राहकों की लुट जाती कमाई
चायल। सूत्रों की मानें तो यहां करीब 30 हजार ग्राहक हैं। रोजाना दस से 15 लाख का लेनदेन हुआ करता है। बैंक की चाभी शाखा प्रबंधक के पास रहती है। अगर चोर बैंक का लॉकर तोड़ने में कामयाब हो जाते तो ग्राहकों की कमाई लुट जाती। लॉकर देखने से लग रहा था कि उसे किसी वजनी वस्तु से तोड़ने का प्रयास किया गया होगा। काफी प्रयास के बाद भी लॉकर नहीं खुला तो चोरों को खाली हाथ लौटना पड़ा।
---
खराब थे कैमरे
चायल। बैंक में सुरक्षा मानक का ख्याल नहीं रखा गया था। बैंक के अंदर सीसीटीवी कैमरे तो थे, लेकिन वह खराब थे। इसी तरह बैंक का अलार्म भी किसी पड़ोसी को नहीं सुनाई दिया। बैंक की सुरक्षा को लेकर इतनी बड़ी चूक सामने आने पर एसपी ने नाराजगी जाहिर की। एसपी ने इंस्पेक्टर को इलाके के बैंकों में चेकिंग करके सुरक्षा मानक पूरा कराने का निर्देश दिया।
... और पढ़ें

श्रमिक स्पेशल पर सवार होकर आए 68 श्रमिक

श्रमिक स्पेशल ट्रेन से दोआबा आए 68 श्रमिक
सिराथू। श्रमिकों के लिए चलाई जा रही स्पेशन ट्रेन से मंगलवार की सुबह 68 श्रमिक सिराथू रेलवे स्टेशन पर उतरे। उन्हें नाश्ता कराए जाने के बाद बसों से क्वारंटीन सेंटर के लिए रवाना कर दिया गया।
मंगलवार को श्रमिकों को लेकर दिल्ली से प्रयागराज जा रही स्पेशल श्रमिक ट्रेन सुबह करीब नौ बजे सिराथू आई। यहां कौशाम्बी के 68 श्रमिक उतरे। पहले से ही सूचना होने पर एसडीएम सिराथू राजेश कुमार श्रीवास्तव, सीओ रामवीर सिंह, तहसीलदार राकेश कुमार और चेयरमैन सिराथू राजेंद्र यादव आदि मौजूद रहे। सभी श्रमिकों को नगर पंचायत की ओर से नाश्ते के लिए केला, बिस्किट और पानी दिया गया। श्रमिकों में करीब 46 पुरुष, 13 महिलाएं और 9 बच्चे रहे। एसडीएम ने बताया कि सिराथू क्षेत्र के 23 श्रमिकों को सेंट मारिया में बने क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है। शेष मंझनपुर और चायल क्षेत्र केे थे। उन्हें दो बसों में बिठा कर उनके घरों के लिए रवाना कर दिया गया।
... और पढ़ें

जनता कर्फ्यू के दिन कागजों पर खूब हुआ मनरेगा का काम

68 workers came to Doaba by labor special train
जनता कर्फ्यू के दिन कागजों पर खूब हुआ मनरेगा का काम
कड़ा ब्लॉक के विभिन्न गांवों में मजदूरी के नाम पर लाखों रुपये का गोलमाल
संवाद न्यूज एजेंसी
सिराथू। कड़ा ब्लॉक में मनरेगा के तहत हुए कथित गोलमाल की परत-दर-परत खुल रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर 22 मार्च को देश में जनता कर्फ्यू के दिन सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक लॉकडाउन किया गया था। इसके बावजूद ब्लॉक के विभिन्न ग्राम पंचायतों में कागज पर मजदूरों को फावड़ा चलाते दिखाया गया। इतना ही नहीं जिम्मेदारों ने मजदूरी के नाम पर ऑनलाइन लाखों रुपये का भुगतान भी कर दिया।
विकास खंड कड़ा में मनरेगा में जमकर खेल किया जा रहा है। यहां रोजाना नए-नए कारनामे सामने आ रहे हैं। योजना के तहत पक्के कार्यों के नाम पर बोगस फर्म को करीब 86 लाख रुपये के भुगतान करने का मामला ठंडा भी नहीं पड़ा कि अब बगैर काम के ही मजदूरी के नाम पर लाखों रुपये के गोलमाल का प्रकरण सामने आ गया है। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का आह्वान किया था। इस दिन देश भर के लोग स्वेच्छा से घरों में ही थे। तकरीबन सभी सरकारी, गैरसरकारी दफ्तर, व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद थे। इसके बावजूद विकास खंड के कंथुआ, ख्वचकीमई, रामपुर बढनावा, नांदेमई, गौसपुर नवांवा, चक कदिलापुर समेत 42 ग्राम पंचायतों में कागज पर मनरेगा के मजदूरों ने खूब फावड़ा चलाया। जनता कर्फ्यू के दिन जब सबकुछ बंद था तो फिर जाबकार्ड पर श्रमिकों ने कैसे काम किया? इसे लेकर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। विकास विभाग के सूत्रों की मानें तो जनता कर्फ्यू के दिन मनरेगा रिकार्ड में बकायदा डाटा भी एपीओ स्तर से आनलाइन अपडेट किया गया है। डाटा लीक होने के बाद ब्लॉक में हड़कंप मचा हुआ है। बचाव के रास्ते भी निकालने की कोशिश की जा रही है। ब्लाक के जिम्मेदार अपनी गर्दन फंसती देख कुछ भी कहने से कन्नी काट रहे हैं। मामले में ब्लॉक के जेई योगेंद्र का कहना है कि इस संबंध में वह कुछ भी नहीं जानकारी दे सकते हैं। इसके लिए ऊपर भी जिम्मेदार बैठे हैं।
... और पढ़ें

प्रदेश अध्यक्ष की रिहाई के लिए कांग्रेसियो ने रखा उपवास

प्रदेश अध्यक्ष की रिहाई के लिए कांग्रेसियों ने रखा उपवास
चरवा में पीसीसी सदस्य के आवास पर की गई बैठक
संवाद न्यूज एजेंसी
चरवा। प्रवासी मजदूरों की घर वापसी के लिए भेजी गई बसों का रजिस्ट्रेशन नंबर गलत देने के मामले में गिरफ्तार किए गए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की रिहाई के लिए मंगलवार को कार्यकर्ताओं ने सांकेतिक उपवास रख कर विरोध जताया। पदाधिकारियों ने प्रदेश सरकार की तरफ से की गई कार्रवाई की आलोचना किया।
चरवा में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य गौरव पांडेय के आवास पर कार्यकर्ताओं ने बैठक की। वक्ताओं ने कहा दूसरे प्रांतों में फंसे मजदूर परिवार के साथ पैदल घर लौटने को विवश हैं। सड़क हादसों में उनकी जान जा रही है। इसे लेकर कांग्रेस पार्टी ने एक हजार बसों का इंतजाम कर प्रदेश सरकार से प्रवासियों की घर वापसी के लिए अनुमति मांगी थी। बाद में सरकार की तरफ से कहा गया कि कुछ बसों के नंबर गलत हैं। इस आधार पर लखनऊ पुलिस ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने प्रदेश सरकार की इस कार्रवाई की निंदा की। साथ ही अजय कुमार को शीघ्र रिहा किए जाने की मांग की। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने सांकेतिक उपवास रखकर विरोध जताया। इस मौके पर शत्रुरंजन उपाध्याय, निक्की पांडेय, उदय यादव, वेदांत पांडेय, अमित कुमार, दुर्गा पासी, दुलदुल आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

यमुना नदी में किया जा रहा बालू का अवैध खनन

यमुना नदी में किया जा रहा बालू का अवैध खनन
संवाद न्यूज एजेंसी
नेवादा। चायल क्षेत्र के रसूलपुर ब्यूर घाट में यमुना नदी के अंदर से बालू का अवैध खनन किया जा रहा है। यहां नदी के दोनों तरफ से बालू निकाला जा रहा है। एक तरफ पनचक्की व पोकलैंड तो दूसरी तरफ नाव के जरिए से बालू निकाली जाती है।
बताया जाता है कि रसूलपुर ब्यूर घाट पर एक खंड का इंद्रासन मौर्या के नाम से बालू खनन का पट्टा स्वीकृत है। अदालत ने नदी के अंदर से बालू खनन में पाबंदी लगा रखी है। इसके बावजूद इस खंड के पट्टाधारक द्वारा पानी के अंदर से बालू निकासी कराई जा रही है। सूत्रों की मानें तो दिन में पोकलैंड व रात के अंधेरे में पनचक्की लगाकर नदी के एक छोर पर बालू का भंडारण किया जाता है। वहीं दूसरी छोर पर नावों के जरिए अवैध बालू निकासी कर दिन में बिक्री जाती है। घाट में लगा धर्मकाटा भी गड़बड़ है। इसके चलते ओवरलोडिंग भी की जा रही है। मामले में एसडीएम चायल ज्योति मौर्या का कहना है कि पनचक्की द्वारा बालू निकासी करने की जानकारी नहीं है। अगर अवैध बालू खनन किया जा रहा है तो निरीक्षण कर पट्टाधारक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

किसान को जान से मारने के लिए नलकूप में लगाई गई थी आग

किसान को जान से मारने के लिए नलकूप में लगाई गई थी आग
मंगलवार को पीड़ित किसान की मां ने कोखराज पुलिस को दी तहरीर
22 मई को कशिया पश्चिम के एक नलकूप में लगी थी आग, बचा गया था किसान
संवाद न्यूज एजेंसी
मूरतगंज। कोखराज कोतवाली क्षेत्र के कशिया पश्चिम स्थित एक निजी नलकूप में शनिवार को रहस्मय हालत में लगी आग के मामले में नया मोड़ आ गया है। किसान की मां ने पुलिस को तहरीर देकर बेटे की हत्या की साजिश किए जाने का आरोप लगाया। नामजद तहरीर पुलिस को दी गई है।
कशिया पश्चिम गांव की विट्टन देवी ने मंगलवार को पुलिस को दी तहरीर में बताया उसके चार बेटे हैं और सभी किसानी करते हैं। विट्टन का कहना है 21 मई को उसकी भैंस पड़ोसी के खेत में चली गई थी। इस पर पड़ोसी ने अपने बेटों के साथ मिलकर उसके बच्चों से गाली-गलौच की। आरोप है कि पड़ोसी ने उसके बेटों की हत्या करने की भी चेतावनी दी थी। इसकी शिकायत कोखराज पुलिस से की गई थी। शिकायत के बाद भी पुलिस ने मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। 22 मई की रात बड़ा बेटा लक्ष्मी प्रसाद अपने नलकूप की रखवाली कर रहा था। इसी दौरान पड़ोसी ने बड़े बेटे की हत्या करने के लिए नलकूप में आग लगा दी। आगजनी की घटना में किसी तरह उसका बेटा बच गया था। शोरगुल पर पहुंचे ग्रामीण जब तक आग पर काबू पाते तब तक उसका काफी नुकसान हो चुका था। इसकी जानकारी पुलिस को दी गई। आरोप है कि पुलिसकर्मी मौके की जांच तक नहीं करने पहुंचे। इसे लेकर मंगलवार को विट्टन ने पड़ोसी व उसके बेटों के खिलाफ जानलेवा हमला सहित आगजनी करने की तहरीर दी। इस बाबत इंस्पेक्टर राकेश तिवारी ने आरोपों की जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया है।
... और पढ़ें

Pratapgarh: रास्ता बनाने के विवाद में पुलिस से भिड़े ग्रामीण, बवाल

कोहड़ौर के धरौली मुफरिद में रास्ता बनाने को लेकर बवाल हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस पर भी लाठी-डंडे से लैस उपद्रवी हमलावर हो गए। पुलिसकर्मियों से हाथापाई करने के साथ ही ईंट-पत्थर लेकर दौड़ा लिया। हालांकि बाद में कोहड़ौर व कंधई थाने से पहुंची फोर्स ने उपद्रवियों को पीछे हटने के लिए मजबूर कर दिया। खबर लिखे जाने तक उपद्रवियों की तलाश में पुलिस दबिश देती रही। प्रधानपति समेत चार लोगों को हिरासत में लिया था।

कोहड़ौर थाना क्षेत्र के धरौली मुफरिद में सुरेश कुमार सिंह का लालबहादुर सिंह इंटरमीडिएट कालेज है। कालेज के करीब पटेल बस्ती है। आरोप है कि ग्रामीण कालेज की जमीन के बीच से रास्ता बनाना चाह रहे थे। इसे लेकर कई दिनों से तनातनी चल रही थी। मंगलवार को रास्ता बनाने को लेकर कालेज संचालक व ग्रामीणों के बीच विवाद हो गया।

 
... और पढ़ें
Ishwardin
Ishwardin
Election
  • Downloads

Follow Us