विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जानें कौन हैं श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास

राम मंदिर आंदोलन के अहम किरदार रहे अयोध्या के श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास को राम मंदिर निर्माण के लिए बनाए गए 'श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाया गया है। जानें, उनके बारे में:

19 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

कौशांबी

बुधवार, 19 फरवरी 2020

पंचायत का आडिट नहीं कराई तो चुनाव लड़ने से वंचित हो जाएंगे प्रधान जी 17-34-49

मंझनपुर। गांवों में विकास कार्यों का तमाम ग्राम पंचायतों ने अभी तक ऑडिट नहीं कराया है। इसके बावजूद ग्राम निधि के खातों में करोड़ों रुपये हस्तांतरित कर दिए गए। शासन ने इसे गंभीरता से लिया है। शासन ने ऑडिट नहीं कराने वाले प्रधानों को चुनाव लड़ने से वंचित करने का आदेश दिया है। पंचायतीराज निदेशक किंजल सिंह ने इस बाबत जिला पंचायतराज अधिकारियों को पत्र भेजा है।
डायरेक्टर ने भेजे गए पत्र में कहा है कि केंद्रीय वित्त व राज्यवित्त आयोग की गाइडलाइन में विकास कार्यों का ऑडिट कराना अनिवार्य है। ताकि, ग्राम पंचायतें परफार्मेंस ग्रांट व राज्यवित्त की ऑडिट अनुशंसा की धनराशि प्राप्त कर सकें। इसलिए सचिव एवं प्रधानों को अपनी ग्राम पंचायतों का प्रतिवर्ष ऑडिट कराने का निर्देश दिया गया है। धनराशि खर्च में आपत्ति आने पर उसे प्रधान व सचिव से वसूली कर जमा कराने को कहा गया है। इसे कैशबुक में भी अंकित कराकर ऑडिट आपत्ति का शत-प्रतिशत अनुपालन कराया जाए।
कहा गया कि ग्राम पंचायत का ऑडिट नहीं होने पर प्रधान को अदेय प्रमाणपत्र न दिया जाए। ऑडिट की आपत्तियों का 20 फरवरी तक निस्तारण करने का भी आदेश दिया गया है। डीपीआरओ गोपाल जी ओझा ने बताया कि ऑडिट के लिए ब्लाकों को रोस्टर जारी कर दिया गया है। बड़ी संख्या में ग्राम पंचायतों ने ऑडिट भी करा लिया है। एक-दो दिन में सभी ब्लॉकों से रिपोर्ट मंगाई जाएगी। इसके बाद भी किसी प्रधान ने ऑडिट नहीं कराया तो चुनाव में उसे अदेय प्रमाणपत्र नहीं जारी किए जाएंगे। इससे वह चुनाव में प्रतिभाग नहीं कर सकेंगे।
... और पढ़ें

यमुना किनारे बसे 38 गांवों में लगेगा सबमर्सिबल

मंझनपुर। यमुना किनारे बसे दोआबा के 38 गांवों में रहने वालों के लिए अच्छी खबर है। जल्द ही इन गांवों में जलसंकट दूर करने की खातिर सबमर्सिबल लगवाया जाएगा। पानी टंकी का निर्माण कराने के साथ पाइप लाइन भी बिछवाई जाएगी। सदर विधायक की पहल पर जिला विकास अधिकारी ने एक्सईएन जल निगम से इन कामों का प्रोजेक्ट मांग लिया है। धन अवमुक्त होते ही काम भी शुरू करा दिया जाएगा।
यमुना किनारे बसे हिसामबाद, गोपसहसा, बरमबारी, गुरौली, चांदकन, पाली, सिंघवल, नौहाई, कैलाशपुर व महिला सहित 38 गांवों में वॉटर लेबल खिसकने के कारण जल संकट गहरा गया है। हैंडपंप पानी नहीं दे रहे हैं। इसकी वजह से ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। गांव वालों ने जनवरी के पहले हफ्ते में समस्या से सदर विधायक लालबहादुर को अवगत कराया था। इसके बाद लालबहादुर ने जिलाधिकारी को चिट्टी भेजी।
डीएम मनीष कुमार वर्मा के निर्देश पर सोमवार को जिला विकास अधिकारी विजय कुमार ने अधिशासी अभियंता जल निगम को पत्र भेजा। उन्होंने बताया कि सभी गांवों में दो हार्सपॉवर का एक सबमर्सिबल, दो हजार लीटर की पानी टंकी तथा दो सौ मीटर पाइप लाइन बिछवाई जाएगी। इसी का प्रोजेक्ट एक्सईएन जल निगम से मांगा गया है। प्रोजेक्ट शासन को भेजा जाएगा। रुपया आते ही काम शुरू करा दिया जाएगा। उम्मीद है कि भीषण गर्मी के पहले ही गांवों में यह व्यवस्था हो जाएगी। जिससे ग्रामीणों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा।
... और पढ़ें

मामूली बात पर मारपीट, पथराव में 12 घायल 18-48-49

सरायअकिल। स्थानीय कस्बे के पूर्वी कटरा मोहल्ले में रविवार सुबह मामूली बात पर सगे भाइयों के बीच जमकर मारपीट हुई।
इस दौरान पथराव भी किया गया। इसकी चपेट में आने से करीब 12 लोग घायल हो गए। सभी को सीएचसी में भर्ती कराया गया है। दोनों पक्षों की तहरीर लेकर पुलिस प्रकरण की जांच कर रही है।
पूर्वी कटरा मोहल्ला निवासी पप्पू व सलीम सगे भाई हैं। इनके बीच पटती नहीं है, लिहाजा आएदिन कहासुनी होती रहती है। बताया जाता है कि रविवार सुबह सलीम ने पप्पू के दरवाजे के सामने से बिजली का केबल खींच लिया था। जिससे पप्पू के घर का गेट खुलने मे परेशानी हो रही थी।
ऐसे में पप्पू ने सलीम से केबल हटाने को कहा। इसी बात को लेकर दोनों के बीच कहासुनी होने लगी। देखते ही देखते मारपीट शुरू हो गई। तभी इनके परिजन आ गए और एक-दूसरे पर ईंट-पत्थर से हमला कर दिया। मारपीट में एक पक्ष से पप्पू व उसकी पड़ोसन कंचन, निखिल, नितिल, शोभा, विमलेश, उमा देवी को चोटें आई हैं।
वहीं, दूसरी तरफ से सलीम उसकी पत्नी शाहीन, बेटियां शाजिया, नाजिया तथा फिजा घायल हैं। झगड़े के दौरान चीख-पुकार पर जुटे ग्रामीणों ने दखल देकर किसी तरह मामला शांत कराया। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने घायलों को सरायअकिल सीएचसी में भर्ती कराया। सरायअकिल कोतवाल विजय विक्रम सिंह का कहना है कि तहरीर के आधार पर रिपोर्ट लिखकर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

कौशाम्बी में मासूम छात्र की मौत पर चक्काजाम

कोतवाली क्षेत्र के बैरागीपुर गांव के समीप बुधवार सुबह टेंपो की टक्कर से छात्र की मौत के बाद जमकर हंगामा हुआ। आक्रोशित लोगों ने मंझनपुर-प्रयागराज मार्ग पर शव रखकर चक्काजाम कर दिया। इस दौरान जाम में दो एंबुलेंस फंस गईं, जिनको निकलवाने के लिए लाठियां फटकार कर लोगों को खदेड़ा। टेंपो चालक को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

सरायअकिल कोतवाली क्षेत्र के बसुहार गांव के मजरा बैरागीपुर गांव निवासी विकास गुप्ता किसान हैं। जीविकोपार्जन के लिए उन्होंने म्योहर में मिठाई की दुकान खोल रखी है। विकास का पांच वर्षीय बेटा आर्यन म्योहर स्थित एक स्कूल में एलकेजी का छात्र था। बुधवार सुबह आर्यन घर के सामने खेल रहा था। इस दौरान बेनीराम कटरा से मंझनपुर जा रही बेकाबू टेंपो ने आर्यन को टक्कर मार दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे से आक्रोशित ग्रामीणों ने मंझनपुर-प्रयागराज मार्ग पर चक्काजाम कर दिया।

मौके पर पहुंची सरायअकिल, करारी व पिपरी कोतवाली की पुलिस ने जाम समाप्त कराने का प्रयास किया। लेकिन, लोग जिलाधिकारी को बुलाने की जिद पर अड़े रहे। दो घंटे तक चले जाम में सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गई। इस दौरान जाम में दो एंबुलेंस भी फंस गईं। एंबुलेंस में मरीजों को देख पुलिस ने सड़क से शव किनारे किया तो लोग भड़क उठे। भीड़ एंबुलेंस के सामने सड़क पर लेट गई। पुलिस ने लाठीचार्ज कर जाम लगा रहे लोगों को हटाया। शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। उधर, आर्यन को टक्कर मारने वाले टेंपो चालक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।  
... और पढ़ें
रास्ते के विवाद में गई महिला की जान रास्ते के विवाद में गई महिला की जान

महिला ने पिता संग मिल बेटी का कर दिया सौदा

विवाहिता ने पिता संग मिल बेटी का कर दिया सौदा
पैसों के लालच में एक महिला ने पिता की मिलीभगत से अपनी सगी बेटी का 50 हजार में सौदा कर दिया। बेटी की तलाश में परेशान पिता ने पत्नी, ससुर समेत तीन लोगों के खिलाफ सदर कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराया।
फतेहपुर जिले के खखरेरू कोतवाली क्षेत्र के तेदुआ गांव निवासी राजेंद्र प्रसाद की शादी करीब 20 साल पहले सदर कोतवाली क्षेत्र के निजामपुर नौगीरा निवासी हरिशंकर की बेटी संतोषी के साथ हुई थी। शादी के बाद दंपती के एक बेटा व एक बेटी हुई। राजेंद्र का कहना है वह रोजगार के सिलसिले में सूरत (गुजरात) में रहता है। पत्नी ज्यादा समय अपने मायके में रहा करती थी। राजेंद्र का आरोप है 27 दिसंबर 2019 को पत्नी संतोषी ने बेटी को अपने पास बुला लिया।
इसके बाद पत्नी ने अपने पिता हरिशंकर व तेदुआ गांव के राहुल तिवारी के साथ मिलकर बेटी का 50 हजार रुपये में सौदा कर दिया। 27 दिसंबर को ही बेटी को सिराथू रेलवे स्टेेशन से दिल्ली भेज दिया गया। राजेंद्र के मुताबिक पत्नी बेटी के बारे में जानकारी नहीं दे रही है। बेटी की खोजबीन में नाकाम होने के बाद राजेंद्र ने सदर कोतवाली में तहरीर दिया। पुलिस ने हरिशंकर, संतोषी व राहुल के खिलाफ घटना की रिपोर्ट दर्ज कर लिया है।
... और पढ़ें

अप्पे की टक्कर से साइकिल सवार सेवानिवृत्त दरोगा जख्मी

अप्पे की टक्कर से साइकिल सवार सेवानिवृत्त दरोगा जख्मी
पिपरी कोतवाली क्षेत्र के चायल ब्लाक के समीप मंगलवार सुबह अप्पे की टक्कर लगने से साइकिल सवार सेवानिवृत्त दरोगा घायल हो गया। स्थानीय लोग उन्हें इलाज के लिए पीएचसी चायल ले गए। यहां चिकित्सकों ने हालत नाजुक देख उन्हें एसआरएन प्रयागराज रेफर कर दिया। एक अन्य हादसे में बाइक सवार बाल-बाल बचा है।
पिपरी कोतवाली क्षेत्र के सिंहपुर गांव निवासी राजाराम पुलिस विभाग में दरोगा के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं। मंगलवार की सुबह वह साइकिल से चायल जा रहे थे। चायल ब्लाक के समीप बेकाबू अप्पे ने साइकिल में टक्कर मार दिया। हादसे के बाद अप्पे चालक गाड़ी सहित भाग निकला। घटना के बाद पहुंचे स्थानीय लोगों ने राजाराम को पीएचसी चायल में भर्ती कराया। यहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद राजाराम को एसआरएन अस्पताल प्रयागराज रेफर कर दिया।
सैनी कोतवाली के साढ़ो गांव का महेश प्रसाद मंगलवार को बाइक से सिराथू जा रहा था। निहालपुर गांव के समीप फोन आने पर महेश पहले से खड़े डंपर के पीछे अपनी बाइक खड़ी करके बात करने लगा। इसी बीच डंपर चालक ने गाड़ी बैक करना शुरू कर दिया। डंपर बैक होता देख महेश गाड़ी छोड़कर भाग निकला। घटना में उसे तो चोट नहीं आई लेकिन बाइक क्षतिग्रस्त हो गई है। स्थानीय लोगों ने डंपर चालक को पकड़ कर सैनी पुलिस के हवाले कर दिया।
... और पढ़ें

डायरेक्टर माध्यमिक व एडी राजकीय ने परीक्षा केंद्रों का किया निरीक्षण

डायरेक्टर माध्यमिक व एडी राजकीय ने परीक्षा केंद्रों का किया निरीक्षण
मंझनपुर। बोर्ड परीक्षा के पहले दिन जिले में शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी औचक निरीक्षण किया। डायरेक्टर माध्यमिक विनय कुमार पांडेय एवं एडी राजकीय डॉ अंजना गोयल ने अलग-अलग भ्रमण कर आधा दर्जन से ज्यादा केंद्रों में चल रही परीक्षा का जायजा लिया। एडी ने डीआईओएस दफ्तर में बने मानीटरिंग सेल का भी निरीक्षण किया।
डायरेक्टर माध्यमिक सबसे पहले सुबह साढ़े नौ बजे महगांव इंटर कॉलेज महगांव पहुंचे। यहां एसडीएम चायल ज्योति मौयौ, सेक्टर मजिस्ट्रेट और स्टेटिक मजिस्ट्रेट भी इसी वक्त पहुंच गए। एक साथ अफसरों की फौज देख केंद्र में खलबली मच गई। हालांकि,सबकुछ दुरुस्त मिलने पर सभी ने राहत की सास ली। इसके बाद एसपी मौर्या उमावि हर्रायपुर पहुंचे डायरेक्टर ने कक्षा संख्या दो के सीसीटीवी कैमरा नंबर सात के समक्ष खड़े होकर राज्य स्तरीय मॉनीटरिंग सेल से अपनी लोकेशन पूछा। सटीक जानकारी मिलने पर संतोष व्यक्त किया।
यहां एक कमरे में अकेले कक्ष निरीक्षक को देख एक और कक्ष निरीक्षक लगाने का निर्देश दिया। इसके बाद एनडी गल्र्स इंटर कॉलेज भरवारी का भी निरीक्षण किया। सभी केंद्रों पर डायरेक्टर सीसीटी कैमरे की फुटेज, वायस रिकार्डिंग आदि को चेक किया। इस दौरान डीआईओएस एसके सिंह भी मौजूद रहे। इसी तरह एडी राजकीय डॉ अंजना गोयल ने पं जगन्नाथ विद्या निकेतन रमदयालपुर, सर्वजीत सिंह इंटर कॉलेज लोहरी का पूरा, लालबहादुर शास्त्री इंटर कॉलेज चायल, करारी इंटर कॉलेज करारी आदि केंद्रों पर पहुंचकर परीक्षा का जायजा लिया। बाद में डीआईओएस दफ्तर आकर मॉनीटरिंग सेल का निरीक्षण किया। सबकुछ दुरुस्त मिलने पर संतोष व्यक्त किया। उधर शिक्षा विभाग के दो-दो बड़े अफसरों की मौजूदगी से परीक्षा तंत्र से जुडे लोगों में हड़कंप मचा रहा।
सरायअकिल स्थित आदर्श इंटर कॉलेज में मंगलवार सुबह हाईस्कूल हिंदी प्रथम प्रश्नपत्र की परीक्षा के दौरान एसडीएम व सीओ निरीक्षण में पहुंचे। एसडीएम ज्योति मौर्या व सीओ कृष्ण गोपाल सिंह द्वारा प्रधानाचार्य कक्ष में लगे सीसीटीवी को चेक किया। इस दौरानपता चला कि सभी कैमरे एक साथ नहीं चल रहे हैं। केंद्र व्यवस्थापक को बुलाकर कैमरे की जांच कराई। कैमरा न चलने पर एसडीएम ज्योति मौर्या ने उन्हें कड़ी फटकार लगाई। उन्होंने तत्काल मॉनिटर को सही करने का निर्देश दिया। इसी तरह से सवा आठ बजे तक शिवाजी इंटर कालेज नेवादा परीक्षा केंद्र का भी कैमरा बंद मिला। जिससे नौ कमरों में परीक्षा दे रहे परीक्षार्थियों की फुटेज कम्प्यूटर के मॉनिटर पर नही दिख रही थी। उन्होंने ऑपरेटर को बुलाकर तुरंत सीसीटीवी मॉनिटर सहित कैमरों को चालू करवाया।
... और पढ़ें

यूपी बोर्ड: पहले ही दिन ------- विद्यार्थियों ने छोड़ दी परीक्षा, एक रस्टीकेट

director madhyamik and ad did the inspection of centres
यूपी बोर्ड: पहले ही दिन 4709 विद्यार्थियों ने छोड़ दी परीक्षा, एक रस्टीकेट
मंझनपुर। सख्त पहरे के बीच गुरुवार से यूपी बोर्ड की परीक्षाएं प्रारंभ हो गईं। प्रशासनिक सख्ती के कारण पहले ही दिन हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के 4709 छात्र-छात्राओं ने परीक्षा छोड़ दी। जबकि, हुबलाल इंटर कॉलेज भरवारी में एक नकलची छात्र को रस्टीकेट कर दिया गया। डीएम मनीष कुमार वर्मा ने केंद्रों का औचक निरीक्षण कर परीक्षा का जायजा लिया। साथ ही नकलविहीन परीक्षा कराने का निर्देश दिया। चेताया कि किसी भी केंद्र पर गड़बड़ी मिली तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।
इस बार हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के 45006 छात्र-छात्राओं ने यूपी बोर्ड की परीक्षा के लिए पंजीकरण कराया है। इनके लिए जिले के 77 विद्यालयों को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। नकलविहीन पारदर्शी परीक्षा के लिए केंद्रों पर कक्ष के दोनों ओर वायस रिकार्डर युक्त सीसीटीवी कैमरे लगवाए गए हैं। मंगलवार को पहले दिन प्रथम पाली में हाईस्कूल व द्वितीय पाली इंटरमीडिएट की हिंदी विषय की परीक्षा थी। केंद्रों में गेट पर ही परीक्षार्थियों की सघन तलाशी के बाद कक्ष में प्रवेश दिया गया। इसी बीच हुबलाल इंटर कॉलेज भरवारी में हाईस्कूल के एक छात्र को कक्ष निरीक्षक ने नकल की चिट के साथ पकड़ लिया। प्रधानाचार्य रसीद खान ने नकलची छात्र को रस्टीकेट कर दिया। डीएम मनीष कुमार वर्मा ने रियाज इंटर कॉलेज उखैयाखास और महगांव इंका महगांव पहुंचकर परीक्षा का जायजा लिया। डीएम ने केंद्र व्यवस्थापकों, स्टेटिक मजिस्ट्रेटों के साथ ही परीक्षा संचालन में लगे सभी अधिकारियों को केंद्र में गड़बड़ी मिलने पर सख्त कार्रवाई की हिदायत दी। चेताया कि मौनीटरिंग सेल, कंट्रोल रूम या अन्य किसी माध्यम से परीक्षा में नकल की शिकायत मिली तो संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने जोनल तथा सेक्टर प्रभारियों को लगातार मोबाइल रहकर परीक्षा पर नजर बनाए रखने का निर्देश दिया। डीआईओएस एसके सिंह ने बताया प्रशासन की सख्ती के कारण पहली पाली में हाईस्कूल के 2873 के तथा द्वितीय पाली में इंटर के 1836 परीक्षार्थियों समेत कुल 4709 विद्यार्थियों ने इम्तिहान छोड़ दिया।
up board exam 4709 students left the exam in first day
up board exam 4709 students left the exam in first day- फोटो : KAUSHAMBI
up board exam 4709 students left the exam in first day
up board exam 4709 students left the exam in first day- फोटो : KAUSHAMBI
up board exam 4709 students left the exam in first day
up board exam 4709 students left the exam in first day- फोटो : KAUSHAMBI
... और पढ़ें

समाधान दिवस: 105 में सिर्फ 9 मामले निपटे

चायल के एक्सईएन विद्युत को प्रतिकूल प्रवृष्टि जारी करने का निर्देश
अमनी लोकीपुर का विद्युतीकरण नहीं करने पर बिफरे जिलाधिकारी
-समाधान दिवस में आए 105 मामले में सिर्फ नौ का हो सका निस्तारण फोटो नं-02
संवाद न्यूज एजेंसी
चायल। स्थानीय तहसील सभागार में मंगलवार को संपूर्ण समाधान दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान कुल 105 शिकायतें आईं। इनमें सिर्फ नौ का मौके पर निस्तारण किया गया। बाकी फरियादियों को तारीख दे दी गई। हालांकि जिलाधिकारी ने मातहतों को लंबित प्रकरणों के शीघ्र निस्तारण का निर्देश गुणवत्तापूर्ण तरीके से करने का निर्देश दे दिया है।
जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने पिछले सम्पूर्ण समाधान दिवस में आए प्रकरणों के निस्तारण की समीक्षा भी की। मातहत अधिकारियों, कर्मचारियों को सचेत किया कि वह जनशिकायतों का निस्तारण समय सीमा के भीतर गुणवत्तापूर्ण एवं पारदर्शी तरीके से करें। डीएम ने कहा कि राजस्व से संबंधित मामलों का निपटारा करने के लिए राजस्व और पुलिस की संयुक्त टीम गठित की जाए। टीम स्थलीय निरीक्षण करके समस्या का समाधान करेगी तो बेहतर होगी। डीएम ने तालाब, पोखर, चारागाह, कब्रिस्तान आदि जमीनों से कब्जा हटवाने का भी निर्देश दिया। संपूर्ण समाधान दिवस के मौके पर औंधन गांव के लोगों ने बताया कि प्रधान ने बंजर भूमि पर कब्जा करके निर्माण करा लिया है। इसपर डीएम ने उपजिलाधिकारी को कार्रवाई का निर्देश दिया। नसीरपुर के अशर्फी लाल पुत्र बनारसी ने आवासीय पट्टे की भूमि पर अवैध कब्जे की शिकायत दर्ज कराई। खलीलउद्दीन पुत्र नसीरउद्दीन निवासी पट्टी नरवर ने आराजी भूमि पर कब्जे की शिकायत की। अमनीलोकीपुर के रामविलास, भारत सिंह, कामता प्रसाद, रामआसरे, गयाप्रसाद, हीरालाल आदि ने अमनी गांव को विद्युत उपकेंद्र अमनीलोकीपुर से जोड़े जाने की खातिर प्रार्थना पत्र दिया। बताया कि कई बार शिकायती पत्र दिए जाने के बाद भी विद्युत अधिकारियों ने कुछ नहीं किया। इसे लेकर डीएम बिफर पड़े। उन्होंने अधिशासी अभियंता विद्युत को प्रतिकूल प्रविष्टि दिए जाने का निर्देश दिया। तहसील परिसर में स्वास्थ्य विभाग, दिव्यांगजन कल्याण विभाग, कृषि विभाग, समाज कल्याण विभाग द्वारा योजनाओं के संबंध में स्टाल लगाए गए थे। जिलाधिकारी ने इनका अवलोकन किया। इस मौके पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. पीएन चतुर्वेदी, उपजिलाधिकारी चायल ज्योति मौर्या, तहसीलदार चायल सहित सभी विभागों के अफसर व कर्मचारी मौजूद रहे।
जिला योजना समिति की बैठक 22 फरवरी को
मंझनपुर। मुख्य विकास अधिकारी इन्द्रसेन सिंह ने बताया है कि जिले के प्रभारी मंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय की अध्यक्षता में जिला योजना समिति की बैठक 22 फरवरी को पूर्वान्ह 11 बजे से कलक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में होगी। सीडीओ ने सभी विभागाध्यक्षों से बैठक में मौजूद रहने के लिए कहा है। चेताया है कि अनुपस्थित रहने पर कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

एक साल से डंप पड़े रुपये, पता नहीं कहां होना है निर्माण

एक साल से डंप पड़े रुपये, पता नहीं कहां होना है निर्माण
एक तरफ विभाग बजट का रोना रोते हैं, लेकिन शिक्षा विभाग का हाल इसके उलट है। 12 उच्च प्राथमिक विद्यालयों में चहारदीवारी और गेट का निर्माण कराने के लिए जारी 65.70 लाख रुपये डंप पड़े हैं, पर, शिक्षा विभाग एक साल में यह नहीं बता पाया कि कहां काम होना है। आरईएस के अधिशासी अभियंता ने बीएसए को तीन बार पत्र भेजकर पूछा कि कहां स्कूलों में निर्माण कार्य होना है। इसके बाद भी विभाग ने कार्यों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी।
ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के खाते में आठ मार्च 2019 को बेसिक शिक्षा विभाग ने 65.70 रुपये भेजे थे। तब बीएसए ने बाकायदा एक चिट्ठी भी भेजी थी। इसमें कहा था कि इन रुपयों से 12 जूनियर हाईस्कूलों में चहारदीवारी और गेट का निर्माण कराया जाना है। रुपये भेजे जाने के चार महीने बाद भी ये नहीं बताया कि निर्माण कार्य कहा होना है। तो परेशान होकर एक्सईएन आरईएस ने 23 जुलाई को पत्र भेजकर बेसिक शिक्षा अधिकारी से स्कूलों की सूची मांगी। जवाब नहीं मिलने पर बीते आठ फरवरी को फिर से रिमाइंडर भेजा।
इसके बाद भी बीएसए ग्रामीण अभियंत्रण विभाग को स्कूलों का नाम नहीं उपलब्ध करा सके। करीब एक साल में दो रिमाइंडर भेजने के बाद भी जवाब नहीं मिलने पर अधिशासी अभियंता ने सोमवार को एक बार फिर से बीएसए को पत्र भेजा। पत्र में कहा गया है कि तीन दिन के भीतर स्कूलों का नाम नहीं बताने पर भेजी गई रकम वापस लौटा दी जाएगी। मामले में बेसिक शिक्षा अधिकारी स्वराज भूषण का कहना है कि जल्द ही सूची कार्यदायी संस्था को मुहैैया करा दी जाएगी।
... और पढ़ें

29 आंगनबाड़ी केंद्रों का तीन महीने बाद भी नहीं हुआ विद्युतीकरण

29 आंगनबाड़ी केंद्रों का तीन महीने बाद भी नहीं हुआ विद्युतीकरण
दोआबा में तैनात बिजली विभाग के अधिकारियों ने मनमानी की हद कर दी है। तीन महीने पहले रकम उपलब्ध कराए जाने के बाद भी अभी तक वह सदर विकास खंड क्षेत्र के 29 आंगनबाड़ी केन्द्रों का वाह्य विद्युतीकरण नहीं करा सके हैं। इसे लेकर निदेशक बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग ने नाराजगी जताई है। जिसके बाद डीपीओ ने एक्सईएन विद्युत को पत्र भेजकर जल्द से जल्द विद्युतीकरण का काम कराने के लिए कहा है।
बाल विकास एवं पुष्टाहार निदेशालय ने जून 2019 में आंगनबाड़ी केन्द्रों का वाह्य तथा आंतरिक विद्युतीकरण कराने के लिए जिला प्रशासन को सात लाख 83 हजार रुपया भेजा था। दो नवम्बर को जिलाधिकारी मनीष कुमार के निर्देश पर इसमें से दो लाख दस हजार रुपये विद्युत विभाग के खाते में हस्तांतरित कर दिए गए। इन रुपयों से बिजली विभाग को सदर विकास खंड क्षेत्र के 34 आंगनबाड़ी केन्द्रों का वाह्य विद्युतीकरण कराना था।
पखवाड़े भर पहले समीक्षा बैठक हुई तो पता चला कि अभी तक बंधवा रजबर, समदा, अंबावा पश्चिम, भैलामकदूमपुर और बंधवा कल्यान सहित कुल पांच केन्द्रों पर ही विद्युतीकरण का काम हो सका है। बाकी 29 केन्द्रों पर काम होना बाकी है। इसकी जानकारी निदेशक बाल विकास एवं पुष्टाहार को हुई तो वह भड़क गए। उनकी ओर से नाराजगी जताए जाने के बाद जिला कार्यक्रम अधिकारी सुरेश कुमार गुप्ता ने अधिशासी अभियंता विद्युत को पत्र भेजा है। इसमें कहा है कि जल्द ही विद्युतीकरण का काम पूरा कराकर उपभोग प्रमाण पत्र उपलब्ध करा दिया जाए। अन्यथा की स्थिति में जिलाधिकारी को समस्या से अवगत कराना पड़ेगा।
... और पढ़ें

ध्वस्तीकरण के विरोध में गरजे वकील, नहीं किया काम

मंझनपुर। कचहरी के समीप तोड़े गए चैंबर को लेकर वकीलों में गुस्सा है। सोमवार को कचहरी आए अधिवक्ता चैंबर टूटा देख उबल पड़े। अधिवक्ताओं ने कचहरी मार्ग पर चक्काजाम कर विरोध जताया। इसके बाद सर्व सम्मति से हड़ताल पर रहने का निर्णय किया।
कचहरी रोड पर अधिवक्ताओं के चैंबर बने थे। इसके अलावा कुछ दुकानदारों ने खान-पान की दुकानें खोल रखी थीं। वाहन भी इन्हीं दुकानों के बाहर खड़े रहते थे। इसे लेकर न्यायिक अफसर अक्सर जाम में फंस जाते थे। अफसरों की शिकायत पर नगर पंचायत प्रशासन ने अधिवक्ताओं को चैंबर खाली करने की नोटिस दिया। तमाम अधिवक्ताओं ने अपना चैंबर हटा लेकिन कुछ लोग अभी भी चैंबर में बैठते थे। रविवार रात नगर पंचायत प्रशासन ने चैंबर को तोड़वा दिया। सोमवार को अधिवक्ता कचहरी पहुंचे तो चैंबर टूटा देख उबल पड़े। मॉडल डिस्ट्रिक्ट बार के अध्यक्ष देवसरण त्रिपाठी की अगुवाई में अधिवक्ताओं ने हड़ताल में रहने का निर्णय लिया। कचहरी मार्ग पर टूटा मलबा रखकर जाम लगा दिया गया।
इसे लेकर न्यायिक अफसर दूसरे रास्ते से कोर्ट पहुंचे। अधिवक्ता व मॉडल डिस्ट्रिक्ट बार के पूर्व महामंत्री लक्ष्मीकांत त्रिपाठी का कहना है वकीलों का चैंबर तोड़े जाने का नोटिस नहीं दिया गया था। चैंबर के शटर भी नहीं निकालने का मौका दिया गया। इस बाबत जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा से शिकायत की गई । डीेएम ने ईओ को फोन कर नुकसान का आंकलन करने का निर्देश दिया। अधिवक्ता संघ के महामंत्री राजेंद्र द्विेवेदी का कहना सोमवार को सभी अधिवक्ता हड़ताल पर रहे। मंगलवार को आगे की रणनीति तैयार किया जाएगा। इस मौके पर गोपाल जी ओझा, अरविंद शुक्ला, कुलदीप शुक्ला, अशोक शुक्ला, देवनरायण शुक्ला सहित तमाम अधिवक्ता मौजूद रहे।
... और पढ़ें

फेरीवाले को मारपीट कर लूटा, पुलिस ने आरोपी को छोड़ा

मंझनपुर। सदर कोतवाली क्षेत्र के सेवकूपुर गांव के समीप शनिवार शाम बाइक सवार फेरीवाले को पांच लोगों ने पीटकर छह हजार रुपया लूट लिया। कारोबारी की शिकायत पर पुलिस ने एक आरोपी को पकड़ भी लिया। आरोप है कि बाद में पुलिस ने उसे लेनदेन कर छोड़ दिया गया। पीड़ित ने मामले की शिकायत सोमवार को एसपी अभिनंदन से की।
नारा गांव निवासी दीपू सोनकर फेरी लगाकर गुड़ बेचता है। दीपू का कहना है 15 फरवरी की शाम वह फेरी लगाकर घर लौट रहा था। सेवकूपुर गांव के समीप पहले से घात लगाकर खड़े पांच लोगों ने दीपू के साथ मारपीट कर छह हजार रुपया छीन लिया। मामले में दीपू ने नारा पुलिस चौकी में नामजद शिकायत किया। एसपी अभिनंदन को दिए शिकायती पत्र में दीपू ने बताया चौकी के एक सिपाही ने आरोपी से 15 हजार रुपया लेकर छोड़ दिया है। उसके प्रार्थना पत्र पर रिपोर्ट भी दर्ज नहीं किया गया। एसपी ने मामले में कार्रवाई का आश्वासन दिया है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं
Ishwardin
Ishwardin

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us