विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जानें कौन हैं श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास

राम मंदिर आंदोलन के अहम किरदार रहे अयोध्या के श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास को राम मंदिर निर्माण के लिए बनाए गए 'श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाया गया है। जानें, उनके बारे में:

19 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

मैनपुरी

बुधवार, 19 फरवरी 2020

यूपी बोर्ड परीक्षाः मैनपुरी में पकड़ा 'मुन्नाभाई', केंद्र व्यवस्थापक ने कराई रिपोर्ट दर्ज

यूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन प्रथम पाली में डीएवी इंटर कॉलेज आलीपुर खेड़ा मैनपुरी में एक मुन्नाभाई को पकड़ने का मामला सामने आया है। नकल विहीन परीक्षा कराने के लिए प्रशासन ने आधार कार्ड से जन्मतिथि मिलान का विकल्प चुना है। मैनपुरी में सचल दल ने एक मुन्नाभाई पकड़ने के बाद पुलिस कार्रवाई की है।

बताया गया है कि मैनपुरी के आलीपुर खेड़ा में डीएवी इंटर कॉलेज में केंद्र व्यवस्थापक ने हाईस्कूल के परीक्षार्थी नीरज कुमार के स्थान पर परीक्षा देने आए अवनीश कुमार को पकड़ा है। स्कूल का सचल दल जब जांच पड़ताल कर रहा था तब अवनीश कुमार का चेहरा प्रवेश पत्र से मिलाया गया।

अवनीश अपने भाई नीरज कुमार के स्थान पर परीक्षा देने आया था। सचल दल ने सख्ती दिखाई तो अवनीश ने पूरी कहानी बता दी। जिला विद्यालय निरीक्षक के निर्देश पर केन्द्र व्यवस्थापक अमरपाल सिंह ने रिपोर्ट दर्ज कराई है।
 
... और पढ़ें

अब सादा वकालतनामा का नहीं होगा प्रयोग

मैनपुरी। दीवानी अदालतों में अब वकील सादा वकालतनामा का प्रयोग नहीं कर सकेंगे। कार्यकारिणी सदस्यों की समिति जांच करके जुर्माना लगाएगी। तीन बार से अधिक सादा वकालतनामा का प्रयोग मिलने पर बार एसोसिएशन द्वारा पंजीकरण निरस्त कराने को बार काउंसिल को लिखा जाएगा। यह निर्णय मैनपुरी बार एसोसिएशन की कार्यकारिणी की बैठक में लिया गया।
मैनपुरी बार एसोसिएशन की बैठक अध्यक्ष अजय कृष्ण पांडेय की अध्यक्षता में सोमवार को एसोसिएशन के सभाकक्ष में हुई। बैठक में कई प्रस्तावों पर चर्चा के बाद निर्णय लिए गए। सचिव ब्रजेंद्र सिंह यादव ने बताया सादा वकालतनामा का वकील प्रयोग नहीं करेंगे। कार्यकारिणी सदस्यों की एक समिति रोजाना अदालतों में वकालतनामे चेक करेगी। पहली बार पड़े जाने पर 100 रुपया, दूसरी बार 200 रुपया और तीसरी बार में 500 रुपया जुर्माना लगाया जाएगा। उसका पंजीकरण निरस्त कराने केे लिए बार काउंसिल को लिखा जाएगा। सादा वकालतनामा बेचने वाले स्टांप बैंडर पर 500 रुपया जुर्माना लगाकर डीएम को कार्रवाई के लिए लिखा जाएगा। शपथ आयुक्त बिना वकालतनामा और सादा वकालतनामा वाली जमानत और दावे को सत्यापित नहीं करेगा। अगर ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई कराई जाएगी।
अध्यक्ष, सचिव पद पर 24 को होगा मतदान
मैनपुरी। जिला बार एसोसिएशन के चुनाव में अध्यक्ष और सचिव पद के लिए 24 फरवरी को मतदान होगा। कलक्ट्रेट सभागार में सोमवार को किसी प्रत्याशी ने नामांकन वापस नहीं लिया। वरिष्ठ जन समिति के अध्यक्ष कृष्णपाल सिंह यादव ने बताया कि अध्यक्ष पद के लिए अशोक कुमार दीक्षित और पूरन सिंह शाक्य चुनाव मैदान में हैं। सचिव पद के लिए माधवेंद्र सिंह यादव, रामपाल सिंह यादव, महेंद्र प्रताप के लिए मतदान होगा। 24 फरवरी को सुबह 11 बजे से शाम चार बजे तक एसोसिएशन के सभागार में मतदान की प्रक्रिया होगी। कार्यकारिणी में राजेश बाबू वरिष्ठ उपाध्यक्ष, राकेश सिंह उपाध्यक्ष, कनिष्ठ उपाध्यक्ष संजय कुमार, सह सचिव प्रशासन उपदेश कुमार, सह सचिव पुस्तकालय अरुण कुमार, कोषाध्यक्ष प्रभाकर दुबे, वरिष्ठ सदस्य कार्यकारिणी हरीओम शाक्य, सुल्तान सिंह, सतेंद्र सिंह, रमेशबाबू, लेखेंद्र सिंह, अशोक बाबू, राकेश, कृष्णकांत यादव, कनिष्ठ सदस्य कार्यकारिणी आशीष कुमार सक्सैना, सौरभ पांडेय, मनोज कुमार का चुना जाना तय है।
... और पढ़ें

ईशन नदी की सफाई अंतिम दौर में: डीएम

मैनपुरी। ईशन नदी की सफाई अब अंतिम दौर में है। सोमवार को जिलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह ने अपने सामने ईशन नदी की जेसीबी से सफाई कराई। करबला से लेकर जेल रोड पुल तक उन्होंने साफ-सफाई का काम कराया। उन्होंने नदी को गंदा न करने की अपील की है।
जिलाधिकारी ने कहा कि जेल रोड पुल से करबला तक सफाई कार्य तकरीबन पूरा हो चुका है। करबला नाले का पानी जो उल्टा बह रहा था, आज सफाई के बाद वह सही दिशा में बहने लगा है। उन्होंने कहा कि कई लोगों ने नदी की सफाई में श्रमदान किया तो कई व्यक्तियों द्वारा आर्थिक मदद भी की जा रही है लेकिन अभी भी कुछ लोगों की मानसिकता में बदलाव नहीं हो रहा है। कुछ लोग नदी के किनारे अभी भी गंदगी कर रहे हैं, नदी के किनारे खुले में शौच किया जा रहा हैं। आज करबला के पास सफाई के दौरान कई स्थानों पर खुले में शौच पाया गया। उन्होंने करबला के समीप से आने वाले नाले में जाली लगाने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी सदर रजनीकांत, लेखपाल पुष्पेंद्र चौहान आदि उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

आगराः हनुमान भक्त नौशाद को पूजा करने से रोका, पुजारी के पैर छूने पर लोगों ने की पिटाई

हनुमान जी की पूजा करता नौशाद हनुमान जी की पूजा करता नौशाद

निराशाः बजट में खाली रह गई आबकारी मंत्री के जिले की झोली, मायूस हुई मैनपुरी

योगी सरकार का चौथा बजट मंगलवार को पेश हुआ। बजट में सीधे तौर पर मैनपुरी को कोई सौगात नहीं दी गई है। मेडिकल कॉलेज के लिए भी बजट का प्रावधान नहीं किया गया है। न ही उद्योग की सौगात मैनपुरी को दी गई है। कुल मिलाकर बजट में मैनपुरी की झोली खाली रह गई है। 

मैनपुरी योगी सरकार के आबकारी मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री का जिला है। पिछले छह महीने से जिले में मेडिकल कॉलेज बनाने की कवायद चल रही है। केंद्र सरकार की ओर से देशभर में मेडिकल कॉलेज खोलने का प्रावधान किया गया है।

ऐसे में लोगों को उम्मीद थी कि जिले में मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए बजट का प्रावधान किया जाएगा। हालांकि ऐसा हुआ नहीं। वहीं लोगों को उम्मीद थी कि उद्योग शून्य जिले को किसी उद्योग आदि की सौगात मिलेगी, लेकिन ऐसा भी नहीं हुआ। कुल मिलाकर सीधे तौर पर जिले को बजट में कुछ भी हासिल नहीं हुआ है। 

लोगों को सिर्फ उन्हीं योजनाओं का लाभ मिलेगा जो प्रदेश स्तर पर लागू की गई हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि सरकार को मेडिकल कॉलेज के लिए अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए। बजट में सरकार ने हर वर्ग को साधने की कोशिश की है।
 
... और पढ़ें

सत्तादल ने सराहा, विपक्षी बोले-निराशाजनक

मैनपुरी। राजनीतिक दलों ने प्रदेश सरकार के बजट को अपने-अपने चश्मे से देखा। सत्तारूढ़ पार्टी ने जहां प्रदेश में विकास की गति तेज करने वाला बताया तो वहीं विपक्षी दलों ने इसे निराशजनक करार दिया। उसकी कमियां गिनाने में लग जाती हैं। ऐसा ही कुछ प्रदेश सरकार द्वारा पेश किए गए बजट के बाद भी देखने को मिला। आम लोगों की निगाहें बजट पेश किए जाने के दौरान टीवी पर ही टिकीं रहीं।
जनोपयोगी बनाम धोखा
भाजपा के प्रदेश नेतृत्व ने एक संपूर्ण बजट पेश किया है। पेंशन योजनाओं से लेकर सामूहिक विवाह तक सब में खजाना खोला गया है। एक जनपयोगी बजट के लिए प्रदेश सरकार को मेरी ओर से बधाई।
-प्रदीप चौहान, जिलाध्यक्ष भाजपा।
हर बार जनता से केवल भाजपा सरकार वादा ही करती है। सपा शासन में संचालित की गईं किसानों के हित की योजनाओं को पहले ही बंद कर दिया गया। इस बार भी बजट में कुछ भी खास नहीं है।
-दीप सिंह पाल, जिलाध्यक्ष सपा।
जनता को सरकार से उम्मीद होती है कि वह बजट में कुछ न कुछ विशेष व्यवस्थाएं करेगी। हर बार की तरह इस बार भी जनता की उम्मीदें साकार नहीं हो सकीं। प्रदेश का बजट जनता के साथ धोखा है।
-रामनरेश वर्मा, जिलाध्यक्ष बसपा।
कांग्रेस के प्रत्येक बजट में हर वर्ग के लिए कुछ न कुछ किया गया। इस बार केंद्र सरकार के बजट से तो मायूसी मिली ही थी, वहीं प्रदेश सरकार ने भी बजट में निचले तबके के अरमानों पर पानी फेर दिया है।
-विनीता शाक्य, जिलाध्यक्ष कांग्रेस।
... और पढ़ें

लखनऊ से आई टीम ने पांच स्वास्थ्य केंद्रों का किया निरीक्षण

मैनपुरी। लखनऊ से आई टीम ने मंगलवार को जिले के पांच स्वास्थ्य केंद्र की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान शासन से संचालित कार्यक्रमों में अनियमितता मिलने पर नाराजगी जताई और सुधार के निर्देश दिए।
लखनऊ से आई तीन सदस्यीय तकनीकि सहायकों की टीम ने राष्ट्रीय वेक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम, नेशनल एड्स कंट्रोल प्रोग्राम, बायो मेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट कार्यक्रमों का निरीक्षण किया। टीम ने सबसे पहले जिला अस्पताल पहुंचकर जिला अस्पताल की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पाया कि कर्मचारियों के बायो वेस्ट को सही डिब्बे में नहीं डाला जा रहा है। इस पर चेतावनी दी कि संबंधित डिब्बे में ही कचरा डाला जाए। इसके बाद यह टीम जिला महिला अस्पताल पहुंची। यहां भी टीम के सदस्यों ने इन कार्यक्रमों से संबंधित व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान गीले कचरे वाले डिब्बे में सूखा कचरा पाए जाने पर नाराजगी जताई और चेतावनी दी।
इसके बाद टीम के सदस्य सीएचसी सुल्तानगंज पहुंचे। सुल्तानगंज में निरीक्षण के दौरान गंदगी मिली जिस पर नाराजगी जाहिर करते हुए बेहतर साफ-सफाई के निर्देश दिए। टीम के सदस्यों ने सुल्तानगंज के सब केंद्र दलीपपुर कैलई व नगला सेमर का भी निरीक्षण किया। यहां बायो मेडिकल वेस्ट में लापरवाही पर नाराज हुए। निरीक्षण के दौरान लखनऊ से आई टीम के सदस्य रामकुमार श्रीवास्तव, हेमंत नेगी, राहुल कुमार सिंह, डॉ. अनिल यादव, मलेरिया इंस्पेक्टर विवेक कुमार राजपूत, अजीत कुमार, डॉ. सत्यप्रकाश वर्मा आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

विवाहिता को क्यों जिंदा जलाने की कोशिश की

18एमएनपी-04-सौ शैया अस्पताल में जांच करती लखनऊ से आई टीम
बिछवां (मैनपुरी)। थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी विवाहिता ने जब देवर की अश्लील हरकत का विरोध किया तो आरोपी ने मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जलाने की कोशिश की। पीड़िता ने थाने पहुंचकर तहरीर दी। वहीं पुलिस का कहना है कि देवर से झगड़े के बाद महिला ने खुद ही पल्लू में आग लगा ली। मामले की जांच कर कार्रवाई की जाएगी।
थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला सोमवार की रात कमरे में सो रही थी। तभी देवर घरवालों से नजर बचाकर कमरे में दाखिल हो गया। सो रही भाभी के साथ वह अश्लील हरकतें करने लगा। जागने के बाद जब महिला ने शोर मचाया तो आरोपी वहां से उस वक्त चला गया। आरोप है कि मंगलवार की सुबह देवर ने गाली गलौज करते हुए मारपीट की, इतना ही नहीं अन्य परिजनों के साथ मिलकर उस पर मिट्टी का तेल डालकर जिंदा जलाने की कोशिश की। किसी तरह से बचकर निकली महिला ने थाने पहुंच कर तहरीर दी। वहीं थाना पुलिस का कहना है कि देवर से हुए झगड़े के बाद गुस्से में महिला ने पल्लू में आग लगा ली थी। पुलिस मामले की जांच कर रही है, आरोपी के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

लर्निंग आउट कम परीक्षा के लिए एक घंटे पहले पहुंचेंगे प्रश्न पत्र

मैनपुरी। परिषदीय स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था के सुधार के लिए बुधवार को जिले में लर्निंग आउट कम परीक्षा होगी। परीक्षा की निगरानी के लिए जिले में 1809 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। बोर्ड परीक्षा की तर्ज पर कड़ी निगरानी के बीच आयोजित होने वाली इस परीक्षा में प्रश्न पत्र परीक्षा से एक घंटे पहले ही पर्यवेक्षक के माध्यम से पहुंचाए जाएंगे।
परिषदीय स्कूलों की लर्निंग आउट कम परीक्षा की तैयारियों की मंगलवार को जिलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह ने समीक्षा की। जिलाधिकारी के निर्देश पर परीक्षा में लगे सभी अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि वे परीक्षा की पूरी तरह से निगरानी करें। सभी 1809 केंद्र पर लगाए गए पर्यवेक्षकों को परीक्षा केंद्र पर एक घंटे पहले प्रश्न पत्रों के साथ पहुंचने के लिए निर्देश दिए गए हैं। इस परीक्षा में कक्षा तीन से आठ तक के छात्र-छात्राएं प्रतिभाग करेंगे।
बीएसए विजय प्रताप सिंह ने बताया कि सभी विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को निर्देश दिए कि परीक्ष के दौरान किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। परीक्षा में लगे नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि परीक्षा में किसी प्रकार की नकल हुई तो नोडल अधिकारियों पर कार्रवाई होगी।
एआरपी चयन के लिए अंतिम तिथि आज
बीएसए विजय प्रताप सिंह ने बताया कि जिले में रिक्त चल रहे एआरपी चयन के लिए 19 फरवरी अंतिम तिथि है। इच्छुक शिक्षक-शिक्षिकाएं अपना आवेदन कर एआरपी पद की दौड़ में शामिल हो सकते हैं।
... और पढ़ें

योगी सरकार के बजट में खाली रह गई मैनपुरी की झोली

मैनपुरी। योगी सरकार का चौथा बजट मंगलवार को पेश किया गया। बजट में सीधे तौर पर मैनपुरी को कोई सौगात नहीं दी गई है। लोगों को उम्मीद थी कि इस बजट में मेडिकल कॉलेज के लिए भी बजट मिलेगा लेकिन अरमानों पर पानी फिर गया। कुल मिलाकर कहा जाए तो बजट में मैनपुरी की झोली खाली रह गई है।
मैनपुरी योगी सरकार के आबकारी मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री का जिला है। पिछले छह महीने से जिले में मेडिकल कॉलेज बनाने की कवायद चल रही है। केंद्र सरकार की ओर से देशभर में मेडिकल कॉलेज खोलने का प्रावधान किया गया है। ऐसे में लोगों को उम्मीद थी कि जिले में मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए बजट का प्रावधान किया जाएगा। हालांकि ऐसा हुआ नहीं। वहीं लोगों को उम्मीद थी कि उद्योग शून्य जिले के लिए कुछ घोषणा की जाएगी लेकिन ऐसा कुछ नहीं मिला। लोगों को सिर्फ उन्हीं योजनाओं का लाभ मिलेगा जो प्रदेश स्तर पर लागू की गई हैं। अनूप शुक्ला, विक्रम राठौर, कमल शर्मा आदि लोगों का कहना है कि सरकार को मेडिकल कॉलेज के लिए अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए। बजट में सरकार ने हर वर्ग को साधने की कोशिश की है।
पर्यटन विकास में भी जिले पर नहीं दिया ध्यान
योगी सरकार के बजट में पर्यटन विकास को लेकर कई प्रावधान किए गए हैं, लेकिन जिले को इन प्रावधानों से दूर रखा गया है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना चुने समान पक्षी विहार का जिक्र बजट में नहीं किया गया है। हाल ही में समान पक्षी विहार को रामसर साइट पर जगह मिली है। विदेशी सैलानी भी यहां आने लगे हैं, ऐसे में बजट का प्रावधान न होने से जिले के लोगों को मायूसी हाथ लगी है।
कैंसर यूनिट की हुई अनदेखी
प्रदेश सरकार ने बजट में कैंसर संस्थान के लिए 187 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। जिले में बनाई गई कैंसर यूनिट पर ध्यान नहीं दिया है। कैंसर पीड़ित धनपाल सिंह का कहना है कि सरकार अगर कुछ लाख रुपये का प्रावधान करती तो कैंसर यूनिट को चालू किया जा सकता था। इससे मैनपुरी सहित आसपास जिले के लोगों को लाभ मिलता।
फोटो-18 से 26 तक
बजट से कोई सहमत तो किसी ने जताई निराशा
हर कोई लेता रहा बजट की अपडेट
बाजार में व्यापारियों की टीवी और मोबाइल पर रही नजर
अमर उजाला ब्यूरो
मैनपुरी। प्रदेश सरकार के बजट पर लोगों की निगाह रही। विधानसभा में बजट की कार्रवाई शुरू होते ही लोग टीवी और मोबाइल फोन के जरिए पल पल की अपडेट लेते रहे। हालांकि इस बजट से कोई सहमत दिखा तो बहुत लोगों ने निराशा जताई।
मंगलवार को प्रदेश सरकार ने विधानसभा में बजट पेश किया। दुकानों पर कामकाज छोड़कर व्यापारी बजट की कार्रवाई देखते नजर आए। युवा मोबाइल फोन पर बजट की अपडेट लेते रहे। घरों में भी लोगों को बजट की कार्रवाई देखते हुए देखा गया। सरकारी दफ्तरों में भी कर्मचारी बजट की अपडेट लेते रहे।
रोजगार की नीति नहीं की स्पष्ट
बजट को लेकर युवाओं ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि बेरोजगारों को रोजगार देने की नीति स्पष्ट नहीं की गई है। अमन मिश्रा, देवेंद्र सिंह, अनमोल पांडेय आदि युवाओं ने मुख्यमंत्री शिक्षुता प्रोत्साहन योजना का स्वागत किया है। युवाओं का कहना है कि प्रशिक्षण के साथ प्रतिमाह भत्ता मिलने से युवाओं को राहत मिलेगी। हालांकि सरकार ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि प्रशिक्षण पूरा करने वाले युवाओं को रोजगार की व्यवस्था कैसे की जाएगी। युवाओं को सरकारी नौकरी देने को लेकर भी स्थिति स्पष्ट नहीं की गई है।
बजट पर बोले लोग
सरकार ने महिलाओं की सुरक्षा पर ध्यान दिया है। देर रात घर लौटने वाली कामकाजी महिलाओं को पुलिस सुरक्षा देना सरकार का बेहतर कदम है।
-निशा, शिक्षिका
सरकार ने नया टैक्स नहीं लगाया है, इससे लोगों को राहत मिलेगी। हालांकि महंगाई कम करने की दिशा में भी कुछ प्रावधान होता, तो अच्छा रहता।
-रिया सिंह, गृहिणी
महिलाओं को पुलिस सुरक्षा मुहैया कराना सरकार का अच्छा निर्णय है। पॉक्सो न्यायालय खुलने से दोषियों को जल्द सजा मिलेगी।
-चांदनी पचौरी, कामकाजी महिला
बजट में सरकारी कर्मचारियों को कुछ नहीं मिला है, हालांकि बजट में हर वर्ग का ध्यान रखा गया है। पुलिस विभाग का ध्यान रखा गया है।
-चंद्रशेखर, सरकारी कर्मचारी।
युवाओं को रोजगार मुहैया कराने की नीति सरकार ने स्पष्ट नहीं की है। प्रशिक्षण लेने के बाद सरकार रोजगार कैसे देगी यह स्पष्ट होना चाहिए था।
-हर्ष वर्मा, युवा
व्यापारियों की सुरक्षा के लिए बजट में कोई प्रावधान नहीं किया गया है। नया टैक्स न लगाकर सरकार ने राहत दी है।
-राहुल गुप्ता, दुकानदार
किसान फ्री बिजली, पानी और बीज की मांग कर रहे हैं, सरकार ने इस तरफ ध्यान नहीं दिया है। गोवंश किसानों को नुकसान पहुंचा रहे हैं।
-देवदत्त सिंह, किसान
बजट में सरकार ने हर वर्ग को साधने की कोशिश की है। जनता मेडिकल कॉलेज की मांग कर रही है, सरकार ने कोई घोषणा नहीं की है।
-गगनदीप तिवारी, अधिवक्ता।
... और पढ़ें

राज्यसभा सांसद के दो नातियों सहित नौ पर रिपोर्ट

औंछा (मैनपुरी)। थाना क्षेत्र के गांव अचलपुर में मंगलवार को अनुसूचित जाति के व्यक्ति के भूखंड पर रसूखदार कब्जा करने पहुंच गए। विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की। डीएम से शिकायत के बाद औंछा पुलिस ने कब्जा हटवाया। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने भाजपा से राज्यसभा सांसद के दो नातियों सहित नौ लोगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
पुलिस के अनुसार गांव अचलपुर निवासी अनुसूचित जाति के कलक्टर सिंह को गांव में एक भूखंड का पट्टा मिला है। आरोप है कि मंगलवार सुबह गोपालपुर निवासी राज्यसभा सांसद के नाती सुधाकर और ब्रजेश गांव के ही धनपाल, प्रदीप उर्फ कालिया, रजनेश, वीरेंद्र उर्फ बंटी, गांव एका फिरोजाबाद निवासी भूरे, शैलेंद्र निवासी नगला भाट औंछा, भोले निवासी अचलपुर औंछा उस भूखंड पर कब्जा कर लिया। आरोप है कि जब कलक्टर सिंह ने विरोध किया तो उन्होंने उसे गालियां देते हुए उसकी पिटाई कर दी।
मौके पर जमा ग्रामीणों ने मामले की जानकारी डीएम महेंद्र बहादुर सिंह को दी। डीएम ने एसपी से औंछा पुलिस को राजस्व कर्मियों के साथ मौके पर जाकर कार्रवाई कराने के निर्देश दिए। पुलिस ने कब्जा हटवा दिया। कलक्टर सिंह की तहरीर पर पुलिस ने सभी के खिलाफ जातिसूचक गालियां देने, मारपीट करने, परिवार को जान से मारने की धमकी देने की रिपोर्ट दर्ज कर ली। संपूर्ण समाधान दिवस के बाद डीएम और एसपी ने भी घटनास्थल का निरीक्षण किया और आरोपियों के खिलाफ जांच करके कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।
मेरे लिए यह विषय काफी दुखद है। मेरा इससे कोई लेना देना नहीं है पर किसी के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा।
हरनाथ सिंह, राज्यसभा सांसद
... और पढ़ें

फौती में गलत फीडिंग पर डीएम ने क्यों जताई नाराजगी

मैनपुरी/कुरावली। तहसील कुरावली में मंगलवार को आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस में जिलाधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह व पुलिस अधीक्षक अजय कुमार पांडेय शिकायतें सुनीं। इस दौरान खतौनी में विरासत, फौती दर्ज करते समय नाम गलत फीड किए जाने के कई प्रकरण आए। इस पर उन्होंने कड़ी नाराजगी जताई।
जिलाधिकारी ने कहा कि फीडिंग करते समय कुछ प्रकरण में जान बूझकर गलत नाम फीड किए जा रहे हैं। उप जिलाधिकारी और तहसीलदार नाम दुरुस्त करने संबंधी शिकायतों का स्वयं संज्ञान लें। लोक संपत्ति पर अनाधिकृत कब्जा करने वालों के विरुद्ध सुसंगत धाराओं में प्रभावी कार्रवाई की जाए।
नगला धनी निवासी रामपाल ने पैमाइश कराने, सराय लतीफ निवासी सरला देवी ने मकान के ऊपर पड़ोसी द्वारा जबरन छज्जा डालने, नगला भगत निवासी अजीत कुमार ने तालाब से कब्जा हटवाने, नगला जमुनिया निवासी भारतश्री ने अग्निकांड से हुई क्षति का मुआवजा दिलाए जाने, बसुरा सुल्तानपुर निवासी राममनोहर ने विद्यालय प्रबंधक द्वारा कार्य कराने के बाद पारिश्रमिक का भुगतान न किए जाने की शिकायत की।
तहसील सदर में नगला कोडर निवासी पुष्पा देवी ने राशन डीलर द्वारा 15 हजार रुपये लेने के बाद भी राशन कार्ड न बनाए जाने, नगला छतर निवासी जयपाल सिंह ने तालाब से अनाधिकृत कब्जा हटवाने की मांग की। जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को निस्तारण के आदेश दिए। पुलिस अधीक्षक अजय कुमार पांडेय ने पुलिस से संबंधित एवं मुख्य विकास अधिकारी नगेंद्र शर्मा ने विकास से संबंधित शिकायतों को सुना।
... और पढ़ें

प्रेमिका के साथ रहने को पत्नी बच्चों को सौंप दी संपत्ति

बिछवां (मैनपुरी)। गांव बिरायमपुर निवासी एक शादीशुदा युवक ने प्रेमिका से शादी कर ली। जानकारी होने के बाद पत्नी ने थाने में शिकायत दर्ज करा दी। मंगलवार को थाने में हुए राजीनामा में युवक ने अपनी सारी संपत्ति पत्नी व बच्चों के नाम कर दी।
थाना क्षेत्र के गांव बिरायमपुर निवासी एक युवक की शादी छह वर्ष पूर्व गांव दाउदपुर थाना मोहम्मदाबाद निवासी युवति के साथ हुई थी। शादी के बाद दो बेटों का जन्म हुआ। सब कुछ ठीक चल रहा था, इस बीच युवक शहर के गोला बाजार निवासी एक युवती से प्यार हो गया। बिना कुछ सोचे समझे उसने प्रेमिका से कोर्ट मैरिज कर ली और उसे लेकर दिल्ली में जाकर रहने लगा। जब पत्नी को इस बात की जानकारी हुई तो पुलिस में शिकायत की थी। पुलिस युवक व उसकी प्रेमिका पत्नी को पकड़कर थाने ले आई। वहां युवक ने साफ कह दिया कि चाहे कुछ भी हो जाए वह प्रेमिका के साथ ही रहेगा।
इस बात को लेकर पंचायत हुई तो पत्नी ने कहा कि वह अपने हिस्से की जमीन उसके व बच्चों के नाम कर दे। वह इस बात पर राजी हो गया। राजीनामा में युवक ने अपनी 10 बीघा जमीन व अन्य संपत्ति पत्नी व बच्चों के नाम कर दी।
महिला की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई है। घर पर ही मामले को निपटाया गया है। यदि तहरीर मिलेगी तो पुलिस जांच कर कार्रवाई करेगी।
सुनील भारद्वाज थानाध्यक्ष
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us