विज्ञापन
विज्ञापन
कराएं वसंत पंचमी पर बासर के सरस्वती मंदिर में पूजा, पढ़ाई व प्रतियोगी परीक्षाओं में मिलती है सफलता :29 जनवरी 2020
Astrology Services

कराएं वसंत पंचमी पर बासर के सरस्वती मंदिर में पूजा, पढ़ाई व प्रतियोगी परीक्षाओं में मिलती है सफलता :29 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

कोरोनावायरस की दहशतः बुंदेलखंड के 150 कारोबारियों ने टाला चीन का टूर

चीन के कुछ शहरों में फैले जानलेवा कोरोना वायरस की दहशत ने कारोबारियों को बेचैन कर दिया है।

29 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

मेरठ

बुधवार, 29 जनवरी 2020

Ganga yatra: मखदूमपुर में डिप्टी सीएम ने आरती के साथ शुरू की दूसरे दिन की गंगा यात्रा

Ganga yatra: मखदूमपुर में बिखरी वाराणसी घाट सी छटा, भव्य आरती के साथ इतिहास से जुड़ी नई परंपरा

कोरोना वायरस के लिए अलर्ट जारी, मरीज मिला तो दिल्ली भेजा जाएगा सैंपल, जानें इसके लक्षण

चीन में फैले जानलेवा कोरोना वायरस को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। सीएमओ डॉ. राजकुमार ने मेडिकल कॉलेज, जिला अस्पताल, निजी चिकित्सक और अस्पतालों को पत्र भेजा है।

पत्र में निर्देश दिए गए हैं कि अगर कोरोना जैसे लक्षणों वाला मरीज मिलता है तो उसकी सूचना दें। सीएमओ का कहना है कि मेरठ में इस बीमारी की जांच की व्यवस्था नहीं है। इस तरह के जो मरीज मिलेंगे उनके सैंपल जांच के लिए दिल्ली भेजे जाएंगे।

उन्होंने बताया कि चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस फैला है। इसके लक्षण स्वाइन फ्लू जैसे हैं। कोरोना वायरस कई किस्म के होते हैं, लेकिन इनमें से छह को ही लोगों को संक्रमित करने के लिए जाना जाता था। 
... और पढ़ें

एसएसपी अजय साहनी बोले- मेरठ में कोई बंद नहीं, किसी ने जबरन कुछ किया तो निपटेगी पुलिस

सीएए, एनआरसी और ईवीएम के विरोध में बहुजन क्रांति मोर्चा की ओर से तथाकथित बंद पर एसएसपी अजय साहनी ने कहा है कि मेरठ में कोई बंद नहीं है। जबरन बंद कराने वालों से पुलिस सख्ती से निपटेगी। शहर में अतिसंवेदनशील 18 प्वाइंट चिह्नित किए गए हैं। सुरक्षा के पूरे इंतजाम हैं। दो कंपनी आरएएफ और दो कंपनी पीएसी को रिजर्व में रखा गया है। 

एसएसपी ने बताया कि 29 जनवरी को भारत बंद के लिए सोशल साइट्स पर प्रचार के अलावा शहर में पोस्टर चस्पा किए जा रहे थे। इस संबंध में लालकुर्ती पुलिस ने सोमवार को बेगमपुल चौराहे से चार लोगों को पोस्टर लगाते पकड़ा था। मंगलवार को ऐसे ही एक मामले में पुलिस ने श्यामनगर निवासी अधिवक्ता रिजवान रमजानी को थाने बुलाकर पूछताछ की। उसने भारत या मेरठ बंद से कोई लेना देना होने से इनकार किया। देरशाम उसने लिसाड़ी गेट थाने में अज्ञात के खिलाफ तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया। 

रमजानी का कहना है कि तहरीक उलमा ए हिंद जयपुर राजस्थान संस्था के नाम से छपवाए गए पोस्टर पर उसके नाम का गलत प्रयोग किया गया है। उसका संगठन से कोई लेना-देना नहीं है। 20 दिसंबर को हिंसा से पहले भी इसी तरह से लोगों को भड़काने के लिए पोस्टर चस्पा किए गए थे। वहीं एसएसपी का कहना है कि मेरठ बंद की किसी ने कोई अनुमति नहीं ली है। जबरन दुकान या मार्केट बंद करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। कुछ लोग अफवाह फैला रहे हैं। 20 दिसंबर की हिंसा को देखते हुए फोर्स तैनात कर दी गई है।

यह भी पढ़ें: 
ऐसे खुली मेरठ पुलिस की पोल, किरकिरी होने पर एडीजी नाराज, अफसरों को दिए सख्त निर्देश
... और पढ़ें
एसएसपी अजय साहनी एसएसपी अजय साहनी

ईडी के खुलासे पर आईजी ने गठित की टीम, खंगाला पीएफआई का रिकॉर्ड, सामने आई ये बड़ी बात

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हिंसा करने वाले लोगों व केरल के चरमपंथी इस्लामी संगठन पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के बीच कनेक्शन का खुलासा प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने किया है। इसके बाद आईजी मेरठ ने हिंसा के मामले में दर्ज मुकदमों की खुद मानिटरिंग करने की बात कही है।

मेरठ में लिसाड़ीगेट और हापुड़ रोड पर 20 दिसंबर को जुमे की नमाज के बाद हिंसा हुई। इसमें छह लोगों की मौत हुई थी। पुलिस जांच में खुलासा हुआ कि हिंसा कराने के पीछे पीएफआई है। मेरठ पुलिस ने पीएफआई से जुड़े चार आरोपियों को जेल भेज दिया। पुलिस ने मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया, लेकिन सुरक्षा एजेंसियां जांच में जुटी हैं। सोमवार को ईडी ने खुलासा किया हिंसा करने के लिए पीएफआई संगठन ने कई लोगों के एकाउंट में करोड़ों रुपये ट्रांसफर किए हैं। इसके बाद मेरठ पुलिस की नींद टूटी है। मेरठ की हिंसा में लिसाड़ीगेट, नौचंदी, देहलीगेट, नौचंदी, ब्रह्मपुरी थाने में 18 मुकदमे दर्ज हैं। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी हिंसा: मेरठ से गिरफ्तार अनीस ने कबूला, उपद्रव के लिए पीएफआई ने उकसाया था

आईजी मेरठ रेंज प्रवीण कुमार ने बताया कि हिंसा से जुड़े सभी मुकदमों की मानिटरिंग वह खुद करेंगे। इसको लेकर आईजी ने एक टीम गठित की है। सभी मुकदमों की जानकारी मांगी गई है। इसको लेकर जवाब तैयार किया जा रहा है। खासतौर पर गोली चलाने वाले आरोपियों की पुलिस ने कुंडली खंगाली है, जो पीएफआई से जुड़े हैं। 

शास्त्रीनगर में रहकर फैलाया नेटवर्क 
हापुड़ रोड स्थित शास्त्रीनगर सेक्टर-11-12 में पीएफआई का ऑफिस खुला था। जहां से संगठन के सदस्य लिसाड़ीगेट, कोतवाली, ब्रह्मपुरी और नौचंदी इलाके में अपना नेटवर्क फैला रहे थे। नौ सितंबर को अयोध्या प्रकरण में फैसला आने के बाद पीएफआई सक्रिय हुआ था। सीएए लागू होने के बाद 20 दिसंबर को जुमे की नमाज के बाद हिंसा करने की प्लानिंग पीएफआई ने बनाई थी। अवैध हथियार भी उपलब्ध कराए। पुलिस ने मेरठ में पीएफआई के लीडर परवेज को नामजद किया हुआ है। उसकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

शरजील इमाम को फांसी देने की मांग, कहा- देश तोड़ने की साजिश रचने वालों पर सख्ती करे सरकार

हिंदू युवा वाहिनी की बैठक में शाहीन बाग में असम को भारत से अलग करने वाले विवादित बयान पर आक्रोश जताते हुए शरजील इमाम को फांसी देने की मांग की है। वक्ताओं ने कहा कि देश तोड़ने की साजिश रचने वालों पर सरकार सख्ती करें।

सहारनपुर देहात के गांव लखनौती कला में हिंदू युवा वाहिनी की मासिक बैठक संदीप राणा के आवास पर हुई। इसमें प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. योगेंद्र सिंह राणा ने कहा कि शरजील इमाम जैसे लोग ना कभी भारत के हुए हैं और ना कभी होंगे। यह वह लोग हैं जो भारत की जड़ों को काटने का काम कर रहे हैं। हमें पाकिस्तान से ज्यादा खतरा ऐसे गद्दारों से हैं जो खाते तो देश का है मगर गाते देश के दुश्मनों का हैं। 

उन्होंने कहा कि इन्हें पता है कि सीएए में कुछ भी गलत नहीं है, लेकिन विरोध कर रहे हैं, क्योंकि इनकी मानसिकता देश तोड़ने की है और यह बात जनता भलीभांति जान गई है। 

यह भी पढ़ें: 
देवबंद से उठीं महिलाओं की आवाज, नहीं चाहिए देश को हिंदू-मुस्लिम में बांटने वाली सरकार

मंडल प्रभारी मानवेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि इस कानून से यह तो साफ हो गया है कि कौन देश के साथ है और कौन देश का दुश्मन है। जिला प्रभारी अजय सिंह ने कहा कि देश विरोधी तत्वों के साथ सरकार कोई नरमी न बरते। 

इस दौरान जिला महामंत्री संदीप राणा, जिला संयोजक अनूप सिंह, जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष जितेंद्र राणा, एडवोकेट अभिषेक राणा, मोनू राणा, नाथी सिंह, शुभम सिंह, प्रमोद धीमान, अक्षय सिंह, मेजर सिंह, कुणाल राणा आदि रहे।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

मेरठ में योगी सरकार के मंत्री सुरेश राणा के गनर की गोली मारकर हत्या, जंगल में मिला शव

छात्रा के साथ मारपीट करती युवतियां

सीएम योगी के मंत्री सुरेश राणा को मिली बड़ी राहत, अदालत ने खत्म किया ये मुकदमा

प्रदेश के गन्ना एवं चीनी उद्योग मंत्री सुरेश राणा पर दर्ज आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन और चुनावी सभा में भड़काऊ भाषण देने का मुकदमा अदालत ने खत्म कर दिया है। प्रदेश सरकार ने विगत दिनों इस मुकदमे को वापस लेने की अनुमति दी थी। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव के दौरान यह मुकदमा शामली जिले के थानाभवन थाने पर दर्ज हुआ था।

शामली के थानाभवन निवासी सूबे के गन्ना एवं चीनी उद्योग मंत्री सुरेश राणा को एक मुकदमे से राहत मिली है। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में विधायक रहते हुए उन्होंने शामली जिले की थानाभवन विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ा था। 30 जनवरी 2017 को चुनाव के दौरान बनाए गए उड़नदस्ता प्रभारी सुनील कुमार ने थानाभवन थाने पर सुरेश राणा के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के मामले में मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप था कि भाजपा प्रत्याशी सुरेश राणा ने 28 जनवरी 2017 को थानाभवन के विनय वाटिका बैंक्वेट हाल में चुनावी सभा के दौरान भड़काऊ भाषण दिया। चुनाव जीतने और योगी मंत्रिमंडल में गन्ना मंत्री बनने के बाद सुरेश राणा ने सरकार को पत्र लिख कर इस मुकदमे को राजनीति से प्रेरित होकर दर्ज होने की बात कहते हुए वापस लेने की मांग की थी। 

यह भी पढ़ें: 
पश्चिमी यूपी के छात्रों को 10 फीसदी आरक्षण दे दो, एएमयू-जामिया का इलाज कर देंगे: केंद्रीय मंत्री

वहीं इस पर योगी सरकार ने आठ फरवरी 2019 को इस संबंध में राज्यपाल के पास पत्रावली भेजी थी। राज्यपाल के इस मुकदमे को वापस लेने की अनुमति दे दी। पांच सितंबर 2019 को शासन के अनु सचिव अरुण कुमार राय ने राज्यपाल के आदेश का हवाला देते हुए इस वाद के अभियोजन को वापस लेने के लिए लोक अभियोजन को न्यायालय में प्रार्थना पत्र देने के निर्देश दिए थे। यह मुकदमा यहां अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश राम सुध सिंह की कोर्ट नंबर-4 में चल रहा था। 

एडीजीसी सुभाष सैनी ने बताया कि मंत्री सुरेश राणा के खिलाफ थानाभवन थाने पर दर्ज मुकदमा अपराध संख्या 103/2017 को राज्यपाल के आदेश पर अवलोकन के उपरांत अदालत ने खत्म कर दिया है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

अदालत ने दो हत्यारों को सुनाई उम्रकैद की सजा, सात पहले किया था एक किशोर का कत्ल

मुजफ्फरनगर जनपद में जानसठ कोतवाली क्षेत्र के गांव वाजिदपुर में करीब सात साल पूर्व किशोर की अपहरण के बाद की गई हत्या के मामले में एडीजे-13 कोर्ट ने दो हत्यारों को उम्रकैद और 80-80 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। एक अभियुक्त घटना के बाद से ही जेल में बंद था।

जानसठ कोतवाली क्षेत्र के गांव वाजिदपुर निवासी चेतन उर्फ आदित्य (15) पुत्र बालेंद्र गत 17 फरवरी 2013 को घर से सब्जी लाने के लिए निकला था, लेकिन इसके बाद घर नहीं लौटा। हरसंभव तलाश के बावजूद किशोर का सुराग नहीं लगा। इस पर परिजनों ने किशोर की गुमशुदगी की तहरीर थाने में दे दी थी। 20 फरवरी को लापता किशोर का शव गांव के बाहर जंगल में पड़ा मिला था। उसकी साइकिल भी पास ही में खड़ी मिली थी। किशोर की गला दबाकर हत्या की गई थी। पीड़ित परिजनों ने किशोर के अपहरण व हत्या के आरोप में गांव के ही अर्जुन पुत्र भामाशाह व अमित उर्फ बबलू पुत्र भोपाल के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। बाद में अमित उर्फ बबलू जमानत पर आ गया था, जबकि अर्जुन घटना के बाद से ही जेल में है। 

यह भी पढ़ें: 
यूपी: चार दोषियों को उम्रकैद, रॉड से पीट- पीटकर की थी एक परिवार के पांच सदस्यों की हत्या

एडीजीसी ओमप्रकाश उपाध्याय ने बताया कि मुकदमे की सुनवाई एडीजे-13 कोर्ट में न्यायाधीश ओमबीर सिंह के समक्ष चली, जिसमें अभियोजन की ओर से पुख्ता सुबूत व गवाह पेश किए गए। 

एडीजीसी ने बताया कि पुख्ता सुबूतों के आधार पर न्यायाधीश ने दोनों हत्यारोपियों को किशोर की हत्या का दोषी करार दिया। मंगलवार को कोर्ट ने दोनों हत्यारों को उम्रकैद के साथ ही 80-80 हजार रुपये जुर्माने की भी सजा सुनाई है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

पूर्व क्रिकेटर सुमित चौहान का निधन, दिल्ली के अस्पताल में ली अंतिम सांस, खेल जगत में शोक

चौधरी चरण सिंह विवि की क्रिकेट टीम के पांच साल कप्तान और वेटरन टीम इंडिया के सदस्य रहे मेरठ के पूर्व क्रिकेटर सुमित चौहान का निधन हो गया। वह पिछले दो सप्ताह से पेट में संक्रमण के कारण दिल्ली के निजी अस्पताल में भर्ती थे। किडनी फेल होने के कारण मंगलवार सुबह छह बजे 49 वर्षीय सुमित चौहान ने अंतिम सांस ली। उनके निधन पर खेल जगत शोक में डूब गया। शहर की क्रिकेट एकेडमियों में मंगलवार को खिलाड़ियों ने अभ्यास नहीं किया।  

पूर्व क्रिकेटर सुमित चौहान के देहांत के बाद परिजनों ने नेत्र दान कराया। दोपहर बाद उनका पार्थिव शरीर पांडवनगर स्थित आवास लाया गया। सुमित चौहान मेरठ कॉलेज के पूर्व प्राचार्य विनोद बाबू चौहान के इकलौते बेटे थे। शाम साढ़े चार बजे सूरजकुंड श्मशान घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया। बडे़ बेटे यश चौहान ने चिता को मुखाग्नि दी। पूर्व क्रिकेटर सुमित चौहान अपने पीछे पत्नी सरिता चौहान, तीन बेटे यश, त्रियक्ष व देवव्रश को छोड़ गए।

यह भी पढ़ें: 
वरिष्ठ समाजसेवी सेठ दयानंद गुप्ता को नम आंखों से दी अंतिम विदाई, छोटे बेटे ने दी मुखाग्नि 

स्व. सुमित चौहान ने क्रिकेट खेल में अहम योगदान दिया। वर्तमान में वह मवाना रोड स्थित जेएसएम स्कूल के साथ क्रिकेट एकेडमी चला रहे थे। अंतिम दर्शन के लिए यूपीसीए सचिव युद्धवीर सिंह, एसएस निदेशक जतिन सरीन, पूर्व क्रिकेटर प्रवीण कुमार, भुवनेश्वर के पिता किरनपाल सिंह, कोच विपिन वत्स, सुखविंदर सिंह, पंडित आशु शर्मा आसिफ अंसारी व अन्य पहुंचे। 

सुमित चौहान के निधन पर करन एकेडमी में शोक जताया 
पूर्व क्रिकेटर सुमित चौहान के निधन पर मंगलवार को करन क्रिकेट एकेडमी में शोक सभा की गई। जिसमें सुमित चौहान के निधन पर करन एकेडमी में प्रशिक्षण की छुट्टी की गई, जबकि दो मिनट का मौन धारण किया। इस दौरान कोच अतहर अली, सुरेंद्र सिंह, सुधीर सिसौदिया, अमित शर्मा, अतुलेश शास्त्री, अमहदुल्ला, नजर खान सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

यूपी: पुलिस ने पकड़ी एक करोड़ रुपये की शराब, ट्रक में ऐसे छिपा रखी थी 1223 पेटियां

उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद में पुलिस ने दस टायरा ट्रक में शराब की 1223 पेटियां बरामद कीं। चालक को भी गिरफ्तार कर लिया। यह शराब प्लाइवुड के नीचे छिपाकर लाई जा रही थी। इसके अलावा लग्जरी कार से 40 पेटी शराब बरामद की है। बरामद शराब की कीमत करीब एक करोड़ रुपये बताई जा रही है। 

एसपी प्रताप गोपेंद्र यादव ने बताया कि एएसपी अनिल कुमार सिसौदिया और सीओ बड़ौत आलोक कुमार के नेतृत्व में पुलिस ने बड़ौत में सराय रोड मंडी चौकी के पास तलाशी ली। इसी दौरान दस टायरा ट्रक आता दिखाई दिया। पुलिस ने उसे रुकने का इशारा किया तो चालक ने ट्रक की रफ्तार बढ़ाकर भागने की कोशिश की। लेकिन पुलिस ने उसे रुकवा लिया। तलाशी में प्लाइवुड के नीचे छिपाकर रखी गईं चंडीगढ़ मार्का अंग्रेजी शराब की 1223 पेटियां बरामद हुईं। पुलिस ने आरोपी ट्रक चालक आकाश पुत्र नाहर सिंह निवासी केसरी थाना गंगीरी जनपद अलीगढ़ को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

यह भी पढ़ें: 
शराब के 17 ठेकों का पार्टनर है डॉक्टर, पर्दाफाश होने पर अफसर हैरान, टीम को मिलेगा एक लाख का इनाम

एसपी के मुताबिक बरामद शराब की कीमत बाजार मूल्य के हिसाब से करीब एक करोड़ रुपये है। इसकी सप्लाई बिहार के सिवान जिले में होनी थी। इसके अलावा छपरौली रोड से एक लग्जरी कार से 40 पेटी देशी शराब हरियाणा मार्का बरामद की। हालांकि आरोपी भाग गया। 

अब तक पकड़ी आठ करोड़ की शराब
शराब तस्करी थम नहीं रही है। जिले में बॉर्डर पर चेकिंग में पुलिस अवैध शराब की एंट्री रोकने में नाकाम साबित हो रही है। एसपी का कहना है कि पिछले एक साल में अब तक आठ करोड़ रुपये की शराब पकड़ी चुकी है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें

शर्मनाक! यूपी के इस जिले में तीन साल की बच्ची से दुष्कर्म, आरोपी युवक फरार

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जनपद में देहात कोतवाली क्षेत्र की एक कॉलोनी में तीन साल की बच्ची के साथ युवक ने दुष्कर्म किया। मामले की सूचना पर डायल 112 पुलिस पहुंची। पुलिस ने बच्ची को मेडिकल के लिए भेज दिया। पुलिस आरोपी युवक की तलाश कर रही है।

यह भी पढ़ें: 
शर्मनाक! मदरसे में सात साल की मासूम से दुष्कर्म, धमकी देकर आरोपी मौलाना फरार

कॉलोनी में एक युवक ने घर से बाहर खेल रही तीन वर्षीय बच्ची को मकान में ले जाकर दुष्कर्म किया। बच्ची के रोने की आवाज पर पड़ोसी दौड़े। इतने में ही आरोपी युवक फरार हो गया। डायल 112 पुलिस को घटना की सूचना दी गई। इसके बाद पुलिस पहुंची और बच्ची को मेडिकल के लिए भिजवाया गया। 

यह भी पढ़ें: शर्मनाक! 65 साल के बुजुर्ग ने छह साल की बच्ची से की दरिंदगी, आरोपी की जमकर पिटाई

इस मामले में देहात कोतवाली प्रभारी मुनेंद्र कुमार ने बताया कि बच्ची से रेप की सूचना पर पुलिस टीम गई थी। अभी तक आरोपी बताए गए युवक का पता नहीं चला है। बच्ची की मेडिकल जांच करवाई जा रही है। जांच के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। कॉलोनी के कुछ लोगों ने बताया कि यहां कई मकान खाली पड़े हैं। असामाजिक तत्व यहां सक्रिय रहते हैं। नशेड़ी और आपराधिक किस्म के लोग यहां हर समय सक्रिय रहते हैं। यहां पुलिस की नियमित जांच जरूरी है।

नोट- इन खबरों के बारे आपकी क्या राय हैं। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं।

शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें


https://www.facebook.com/AuNewsMeerut/
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us