विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Trump In India: ताजमहल की खूबसूरती के मुरीद हुए डोनाल्ड ट्रंप, बोले- थैंक्यू इंडिया

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आगरा पहुंच गए हैं।

24 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

मुरादाबाद

सोमवार, 24 फरवरी 2020

आपरेशन कराना है तो साथ लेकर आएं ब्लड डोनर

मुरादाबाद। जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत आपरेशन से डिलीवरी करानी पड़ी तो तो ब्लड डोनर साथ लेकर ही सरकारी अस्पताल आएं। डोनर साथ नहीं होने से डिलीवरी के ऐन वक्त आपको ब्लड का इंतजाम करने में जूझना पड़ सकता है। सरकारी अस्पताल का ब्लड बैंक लगभग खाली हो गया है। स्वैच्छिक रक्तदान के प्रति जागरूकता के अभाव में ब्लड बैंक में मात्र 35 यूनिट ब्लड है। यह कोटा भी वीआईपी और वीवीआईपी के लिए आरक्षित है। ऐसे में थैलेसीमिया के रोगियों के लिए भी बमुश्किल ब्लड का इंतजाम हो रहा है।
जिला अस्पताल में 1000 यूनिट क्षमता का ब्लड बैंक है। जननी सुरक्षा योजना, थैलेसीमिया, एचआईवी और लावारिस मरीजों के लिए निशुल्क ब्लड दिया जाता है। ब्लड बैंक में 65 थैलेसीमिया के मरीज पंजीकृत हैं। अधिकतर मरीजों को सप्ताह में एक या दो बार ब्लड चढ़ता है। जननी सुरक्षा योजना में महिला अस्पताल के लिए प्रतिदिन चार से पांच यूनिट ब्लड जारी होता है। प्रतिदिन एक से दो यूनिट लावारिस मरीजों और एचआईवी पीड़ितों को दिया जाता है। पिछले एक सप्ताह से बैंक में ब्लड की मारामारी हो गई है। स्वैच्छिक रक्तदान के लिए लोग नहीं पहुंच रहे हैं। इससे थैलेसीमिया के मरीज ही नहीं बल्कि ब्लड बैंक कर्मी भी जूझ रहे हैं। बैंक में 35 यूनिट ब्लड है। इसमें भी रेयर ग्रुप नहीं हैं। अस्पताल प्रशासन जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत आपरेशन से डिलीवरी वाले केस में तीमारदारों से रक्तदान करवा रहे हैं।
शिविर न लगने से कमी
ब्लड बैंक प्रभारी डा. आरएस सैनी बताते हैं, डोनर नहीं आने से समस्या बढ़ी है। इमरजेंसी होने पर बैंक कर्मी खुद ही रक्तदान कर रहे हैं। डा. सैनी ने बताया कि विगत दिवस चार साल के एक बच्चे को ब्लड की जरूरत थी। बच्चा एनीमिया से पीड़ित था और तीमारदार भी खून देने की स्थिति में नहीं थे। ब्लड बैंक कर्मी मो नईम ने बच्चे के लिए रक्तदान किया। डा. सैनी ने बताया कि स्वयंसेवी संस्थाओं ने भी पिछले कुछ महीनों से शिविर नहीं लगाए हैं। इससे बैंक में ब्लड की कमी हुई है।
... और पढ़ें

बेवफा मंगेतर नहीं पहुंचा शादी करने तो युवती का मानसिक संतुलन बिगड़ा

मंगेतर ने कोर्ट मैरिज करने से इनकार किया तो युवती का मानसिक संतुलन बिगड़ गया। वह घंटों से कचहरी में मंगेतर का इंतजार कर रही थी। इसके बाद भी वह नहीं आया तो युवती ने कचहरी में हंगामा शुरू कर दिया। वह जोर-जोर से चीखने लगी। पुलिस उसे थाने ले आई। युवती ने थाने में भी अपना सिर दीवार में मारने की कोशिश की। युवती ने कहा कि अगर उसकी शादी मंगेतर से नहीं हुई तो वह मर जाएगी। वह जी नहीं पाएगी। पुलिस ने युवती को समझाकर उसकी मां के साथ भेज दिया है।

युवती सिविल लाइंस क्षेत्र की रहने वाली है। वह एक कालेज में पढ़ाती है। सिविल लाइंस क्षेत्र में मिशन कंपाउंड निवासी युवक से दो साल से उसके प्रेम संबंध हैं। दोनों ने अपने अपने परिवार में इसकी जानकारी दी और शादी करने की इच्छा जताई। युवती की मां ने बताया कि छह माह पहले दोनों का रिश्ता तय कर दिया था, लेकिन बाद में युवक शादी करने से इनकार करने लगा। उसने कहा कि उसके परिजन शादी के लिए राजी नहीं हैं। दो दिन पहले दोनों के बीच तय हुआ था कि गुरुवार को कचहरी में कोर्ट मैरिज करेंगे।

युवती अपनी मां को साथ लेकर कचहरी पहुंच गई। यहां युवती अधिवक्ता के चैंबर पर घंटों बैठी रही। उसने मंगेतर को कई बार कॉल की। वह हर बार बहाना बनाता रहा। उसने कहा कि उसका आधार कार्ड नहीं मिल रहा है। उसके बिना कोर्ट मैरिज नहीं हो पाएगी। युवती ने कहा कि उसके आधार कार्ड की कॉपी मेरे मोबाइल में है। उससे काम चल जाएगा। इसके बाद भी युवक नहीं पहुंचा। बाद में मंगेतर ने अपना मोबाइल बंद कर लिया। जिससे युवती परेशान हो गई और वह हंगामा करने लगी। उसने अपनी जान देने की कोशिश भी की। जिससे मौके पर हड़कंप मच गया।

सूचना मिलने पर इंस्पेक्टर नवल मारवाह महिला दरोगा और महिला सिपाही को साथ लेकर मौके पर पहुंचे और युवती को थाने ले आए। यहां भी युवती ने हंगामा किया। किसी तरह पुलिस कर्मियों ने उसे समझाकर शांत किया। इंस्पेक्टर नवल मारवाहा ने बताया कि दोनों पक्षों में समझौता हो गया। युवती के परिजनों ने दस दिन का समय मांगा है। वह दस दिन में शादी कर लेंगे। इसके बाद युवती उसकी मां की सुपुर्दगी में दे दी है।
... और पढ़ें

पत्नी की हत्या में पति को आजीवन कारावास

मुरादाबाद। दहेज की मांग पूरी न होने पर गोली मारकर पत्नी की हत्या करने वाले मुलजिम पति को एफटीसी तृतीय अविनाश कुमार सिंह की अदालत ने दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई है, जबकि 55 हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित भी किया है।
सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता सुरेंद्र पाल सिंह ने बताया कि मझोला थाने में 26 मार्च 2016 को श्यामवीर ने नितेश निवासी नेता कालोनी के खिलाफ केस दर्ज कराया था। जिसमें उन्होंने बताया गया था कि नितेश से उसकी बेटी भावना की शादी हुई थी। दहेज की मांग पूरी न होने पर नितेश ने भावना को गोली मार दी थी। दो माह तक अस्पताल में महिला का इलाज चला था। इसके बाद उसकी मौत हो गई। आरोपी के खिलाफ पहले जानलेवा हमले की रिपोर्ट। इसके बाद हत्या की धारा भी केस में जोड़ी गई थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। पुलिस ने इस मामले में तफ्तीश पूरी करने के बाद आरोपी नितेश के खिलाफ अदालत में चार्जशीट दाखिल की गई थी। इस केस की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट तृतीय अविनाश कुमार सिंह की अदालत में चली। जिसमें सरकार की ओर से एडीजीसी सुरेंद्र पाल सिंह ने पक्ष रखा और मुलजिम को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने को दलीलें दीं। अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने, साक्ष्य, पोस्टमार्टम रिपोर्ट और गवाही के आधार पर मुलजिम को पत्नी की हत्या में दोषी ठहराते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई है, जबकि 55 हजार रुपये के अर्थदंड से दंडित किया है।
... और पढ़ें

महिलाओं से ब्लैकमेलिंग के तार झारखंड के नक्सल इलाके से जुड़े 

मोटापा कम करने के नाम पर फेस बुक आईडी को हैक करके महिला मित्रों के नाम से महिलाओं, युवतियों की आपत्तिजनक तस्वीरे मंगा कर उन्हें पोर्न साइट पर वायरल करने की धमकी देकर ब्लैक मेल करने के मामले में कोतवाली पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है। सर्विलांस के साथ साथ साइबर सेल ने जांच शुरू कर दी है। शुरुआती तौर पर जो जानकारी सामने आई है तो ब्लैकमेलर के तार झारखंड राज्य के नक्सल प्रभावित क्षेत्र से जुड़े हुए नजर आ रहे हैं। 

फेसबुक पर महिलाओं की आईडी को हैक करके ब्लैकमेलिंग के मामले को पुलिस ने भी गंभीरता से लिया है। कोतवाली प्रभारी धर्मपाल सिंह ने बताया कि महिला की तहरीर पर अज्ञात हैकर्स के साथ सूचना प्रौद्योगिकी (संशोधन) अधिनियम-2008 की विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। इसमें फेसबुक आईडी हैक करके दूसरी महिलाओं से अश्लील वार्तालाप किए जाने, मोटापा कम करने के नाम पर मांगे गए शरीर के फैट एरिया के फोटो मांगने, उन्हें पोर्न साइट पर डालने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने आदि आरोप लगाए गए हैं। 

मामले की जांच शुरू कर दी गई है। रविवार का अवकाश होने के कारण कई कंपनियों के बंद रहने के कारण अपेक्षित जानकारी तो नहीं मिल पाई है लेकिन अब तक जो जानकारी मिली है, उसके तार झारखंड के नक्सल प्रभावित क्षेत्र से जुड़े बताए जा रहे हैं। यह भी पता चला है कि यह बैंक एकाउंट भी झारंखड राज्य के ही एक व्यक्ति है। वहां एक कोरवा गांव है, जहां के साइबर अपराधी टेक्नीलॉजी के इस्तेमाल से वहीं बैठकर ऐसा कर रहे हैं। अभी लगातार जांच की जा रही है। झारखंड भी टीम भेजी जाएगी। 
... और पढ़ें
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर

जबरन दुकानें बंद कराने पर 25 लोगों पर मुकदमे

मुरादाबाद। सीएए और एनआसी के विरोध में भारत बंद का मुरादाबाद में मिलाजुला असर रहा। मुसलिम बहुल क्षेत्रों को छोड़कर बाकी शहर में बंद बेअसर रहा। मुस्लिम इलाकों में भी कई जगहों पर दुकानें खुली रहीं। प्रिंस रोड पर कुछ लोगों ने जबरन दुकानों को बंद कराने की कोशिश की तो पुलिस ने लोगों को खदेड़ दिया। देर शाम पुलिस ने जबरन दुकानों को बंद कराने के आरोप में आंबेडकर युवा स्पेशल फोर्स के राष्ट्रीय अध्यक्ष विलाडी उर्फ वीरा समेत 25 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इनमें वीरा समेत चार लोग नामजद और 21 लोग अज्ञात शामिल हैं।
सीएए और एनआरसी के विरोध में मुरादाबाद में भी लोग विरोध में हैं। ईदगाह स्थल पर 29 जनवरी से अनिश्चितकालीन धरना चल रहा है। इसमें मुरादाबाद ही नहीं प्रदेश और देश के अलग-अलग जगहों से लोग समर्थन देने पहुंच रहे हैं। रविवार को एनआरसी और सीएए के विरोध में भारत बंद का आह्वान था। इसको लेकर पुलिस अलर्ट रही। सुबह से ही शहर के प्रमुख बाजारों के अलावा मुस्लिम बहुल इलाकों में फोर्स तैनात कर दी गई। शहर में बंद का असर नहीं दिखा। लेकिन मुस्लिम बहुल इलाकों में सुबह से ही अधिकतर दुकानों के शटर नहीं उठे। हालांकि, दोपहर बाद दुकानें खुलनी शुरू हो गईं।
प्रिंस रोड में कुछ लोगों ने एकत्र होकर जबरन दुकानों को बंद कराने की कोशिश की। कुछ व्यापारियों ने दुकानें बंद कर दी। पुलिस के पहुंचने पर एकत्र लोग वहां से इधर-उधर हो गए। एसपी सिटी अमित आनंद ने बताया कि दुकानें बंद कराने वाले चिह्नित कर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इनमें आंबेडकर युवा स्पेशल फोर्स के राष्ट्रीय अध्यक्ष विलाडी उर्फ वीरा निवासी लाजपत नगर, महामंत्री गौतम भाष्कर निवासी लाजपत नगर, मो मुस्ताक निवासी दस सराय चौकी कटघर और तनवीर निवासी गलशहीद नामजद हैं। जबकि 21 अज्ञात लोग शामिल हैं। एसपी सिटी ने कहा कि 144 लागू है। इसका उल्लंघन करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।
ईदगाह पर अनिश्चितकालीन धरना जारी
मुरादाबाद। सीएए और एनआरसी के विरोध में ईदगाह स्थल पर अनिश्चितकालीन धरना रविवार को भी जारी रहा। धरना आयोजक समिति के सदस्य साहिल ने बताया कि धरना जारी रहेगा। रविवार को सावित्री बाई फूले महासभा की महिला ब्रिगेड की राष्ट्रीय अध्यक्ष निर्देश सिंह, रविराज रावण और अभिषेक वाल्मीकि समर्थन देने पहुंचे। सैकड़ों लोग धरने में शामिल हुए।
... और पढ़ें

लेखपाल के घर में घुसे बदमाश, फायरिंग कर भागे

मुरादाबाद। मझोला थानाक्षेत्र के आजाद नगर में शनिवार रात बाइक सवार बदमाश लेखपाल के घर में पहुंच गए। बदमाशों ने पूरे परिवार को तमंचों से कवर कर लिया। इसी बीच एक बदमाश ने कहा कि गलत घर में आ गए। इसके बाद बदमाश मकान से बाहर निकले और फायरिंग करते हुए फरार हो गए। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची। बदमाशों की तलाश की गई, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चल पाया। देर रात तक परिवार दहशत में था।
संभल में तैनात लेखपाल नकी रजा का परिवार मझोला थानाक्षेत्र के आजादनगर में रहता है। लेखपाल के परिवार में मां नसीमा बेगम, पत्नी शमा और चार बच्चे हैं। लेखपाल ने पुलिस को बताया कि रविवार रात करीब आठ बजे परिवार के सभी सदस्य घर में मौजूद थे। इसी दौरान उनके घर के पास आकर दो बाइक रुकीं। जिस पर चार युवक सवार आए। दो बदमाश बाहर बाइक के पास ही रुक गए और दो बदमाश तमंचा लेकर घर में घुस आए। बदमाशों ने अपने सिर में कपड़ा बांध रखा था। अचानक घर में बदमाशों के देखकर परिजन घबरा गए और इसके बाद बदमाशों ने तमंचा निकाल लिया। इसी बीच नकी रजा बाहर की ओर आए तो दोनों युवक यह कहकर घर से निकल गए कि गलत घर में आ गए हैं। इसके बाद बदमाश घर से बाहर आए और बाइक पर बैठने लगे। इसी बीच आस पड़ोस के लोग इकट्ठा हो गए और पड़ोस में रहने फहीम ने एक बदमाश को पकड़ लिया। इस बीच दूसरे बदमाश ने तमंचा से गोली मारने की धमकी देकर अपने साथी को छुड़ा लिया। इसके बाद बदमाश बाइक पर बैठकर फायरिंग करते हुए टीपीनगर की ओर फरार हो गए। इस घटना से कालोनी में सनसनी फैल गई। सूचना मिलने पर पुलिस पहुंची और पीड़ित परिवार से पूछताछ की। मझोला इंस्पेक्टर राकेश कुमार सिंह ने बताया कि अभी तक कोई तहरीर नहीं आई है। तहरीर मिलने पर केस दर्ज किया जाएगा।
... और पढ़ें

'मन की बात’ में गूंजा हमीरपुर के सलमान का नाम, बेटे की उपलब्धि का उल्लेख सुन खुशी से झूमे गांववासी

शहर से 12 किलोमीटर दूर काशीपुर मार्ग पर स्थित हमीरपुर गांव रविवार को राष्ट्रीय स्तर पर छा गया। इस गांव की प्रधान हुस्न जहां के दिव्यांग बेटे सलमान की खूब चर्चा हो रही है। रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात कार्यक्रम’ में सलमान का उदाहरण देते हुए कहा कि लोगों को सलमान से सीख लेनी चाहिए। दोनों पैरों से दिव्यांग होने के बावजूद उन्होंने खुद हार नहीं मानी। जूते-चप्पल की फैक्टरी लगाकर अब वह दूसरे दिव्यांगों के भी सहारा बन गए हैं। सलमान ने अपनी कमजोरी को ताकत बनाया। वह अपने जैसे दूसरे लोगों का सहारा बन गए हैं। वह 30 दिव्यांगों को रोजगार दे रहे हैं।

मुरादाबाद के हमीरपुर गांव निवासी ग्राम प्रधान हुस्न जहां का परिवार रहता है। प्रधान का पांचवें नंबर के बेटे सलमान जन्म से ही दोनों पैरों से दिव्यांग हैं। वह बारहवीं उत्तीर्ण है। सरकारी विभाग में जॉब नहीं मिली तो उसने हार नहीं मानी। पिछले साल दिसंबर में नौकरी की आस छोड़कर खुद काम करने और अपनी तरह के लोगों को रोजगार देने की ठान ली।

इसके लिए उन्होंने अपने गांव में पांच लाख रुपये लगाकर टारगेट नाम से कंपनी खोली। चप्पल और डिटर्जेंट बनाने का काम शुरू कर दिया। छह महीने पहले से सलमान ने मार्केटिंग शुरू की। अब उनका कारोबार साथियों का वेतन निकाल कर लाभ में पहुंच गया है। उनके कारखाने में अब तक 30 दिव्यांग रोजगार से जुड़ गए हैं। प्रधानमंत्री के मुंह से सलमान की तारीफ सुनकर ग्राम वासियों की खुशी का भी ठिकाना नहीं रहा। उनके घर बधाइयां देने वालों की भीड़ लगी है।

एक सप्ताह पहले पीएमओ ने मांगी थी जानकारी

बताया जा रहा है कि एक सप्ताह पहले ही पीएमओ ने मुरादाबाद के अधिकारियों से सलमान के बारे में जानकारी मांगी थी। इसके बाद अफसरों ने रिपोर्ट और सलमान के बारे में जानकारी भेजी गई थी।

उम्मीद नहीं थी प्रधानमंत्री मेरे बारे में बोलेंगे, बहुत खुश हूं : सलमान

मुझे उम्मीद नहीं थी कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मन की बात कार्यक्रम में मेरे बारे में बोलेंगे। मैं अपने साथी कर्मचारियों के साथ काम में जुटा था। रविवार दोपहर कुछ लोगों ने मुझे कॉल की। उन्होंने बताया कि आज प्रधानमंत्री ने मेरी तारीफ की है। मेरे कार्य की सराहना की है। मुझे सुनकर बहुत अच्छा लगा। इसके बाद मैंने मोबाइल पर वीडियो सुनी। वीडियो सुनकर बड़ी खुशी हुई। हमें अपने देश के प्रधानमंत्री पर गर्व है।

मैं लंबे समय से फैक्ट्री के लिए लोन मांग रहा था, लेकिन लोन नहीं हो पा रहा था। कुछ दिन पहले अधिकारी मेरे घर पहुंचे और लोन मंजूर होने की जानकारी दी। पांच लाख का जोन मंजूर हो गया है। पहली किस्त में पचास हजार रुपये मिले हैं। मैनें बारहवीं की परीक्षा पास करने के बाद बीएससी में दाखिला लिया था। 15 मई 2017 से बीएससी की परीक्षा थी। उसी दिन पिता का इंतकाल हो गया था। जिस कारण वह परीक्षा देने नहीं पहुंचा था। तब से करियर को लेकर तमाम आशंकाएं थीं। लेकिन शुरू किया तो काम चल निकला। अब सब तारीफ करते हैं और हौसला बढ़ाते हैं।
... और पढ़ें

पीएम मोदी के मन की बात में मुरादाबाद के बेटे की प्रशंसा, खुशी से झूम उठा गांव

सलमान, जिनका जिक्र पीएम ने 'मन की बात' में किया
दोनों पैरों से दिव्यांग सलमान जब नौकरी के लिए दर-दर भटक रहे थे, तब उन्होंने शायद ही सोचा होगा कि यही कमजोरी उनकी इतनी बड़ी ताकत बन जाएगी कि आने वाल समय में वह दूसरों को सहारा देंगे। मुरादाबाद से 12 किलोमीटर दूर काशीपुर मार्ग पर स्थित छोटे से गांव हमीरपुर में आज खुशी का झोंका दौड़ पड़ा है। 

प्रधानमंत्री के 'मन की बात' कार्यक्रम के प्रसारित होने के बाद हमीरपुर गांव की चर्चा राष्ट्रीय स्तर पर हो रही है। तमाम आलोढ़नों और झकोरों के सामने डट कर अपने दिव्यांग पैरों से सफलता की सीढ़ी चढ़ने वाले सलमान के हौसले से प्रधानमंत्री मोदी भी आश्चर्यचकित हैं। सलमान के संघर्ष और सफलता का जिक्र आज उन्होंने अपने कार्यक्रम में किया। 

सलमान हमीरपुर गांव की प्रधान हुस्न जहां के बेटे हैं। दोनों पैरें से दिव्यांग सलमान ने पढ़ाई के बाद जब नौकरी की तलाश शुरू की, तो उनकी दिव्यांगता के कारण हर जगह से उपेक्षा मिली। समाज के इस चेहरे ने सलमान को झकझोरा तो जरूर, लेकिन हरा नहीं पाया। दिसंबर 2019 में उन्होंने नौकरी के लिए हाथ फैलाने के बजाय अपने जैसे दिव्यांगों को नौकरी देने की ठानी।

सलमान ने अपनी कमजोरी को ताकत बनाया और अपने जैसे दूसरे लोगों का सहारा बन गया। इसके लिए उन्होंने अपने गांव में पांच लाख रुपये लगाकर किराए के मकान में टारगेट नाम की कंपनी खोली। चप्पल और डिटर्जेंट बनाने का काम शुरू कर दिया। छह महीने पहले से सलमान ने मार्केटिंग शुरू की।
 
... और पढ़ें

अमरोहाः नशेड़ी दूल्हे को जयमाल के वक्त आई उल्टी तो दुल्हन शादी से पलटी 

जयमाला के समय नशेड़ी दूल्हे को अचानक खून की उल्टी आ गई। आनन-फानन में उसे चिकित्सक के यहां लेकर गए। चिकित्सक ने बताया कि दूल्हा नशा करता है। 

इस बात पर दुल्हन भड़क गई। उसने शादी से इनकार कर दिया। वर पक्ष की ओर से काफी मान-मनौव्वल की गई, लेकिन दुल्हन नहीं मानी। आखिरकार बरात बैरंग लौटी।

मामला शुक्रवार की रात का है। नगर के एक मोहल्ले में एक व्यक्ति की बेटी की बरात मुरादाबाद से आई थी। लड़का सरकारी विभाग में नौकर था। परिवार में हंसी-खुशी का माहौल था। 

जयमाला के समय दूल्हा स्टेज पर बैठा था। बराती डीजे की धुन पर नाच रहे थे। दुल्हन जैसे ही वरमाला के लिए स्टेज पर पहुंची। दूल्हा गश खाकर गिर पड़ा। उसके मुंह से खून निकलने लगा। 

तुरंत ही उसे नगर के एक निजी चिकित्सक के यहां ले जाया गया। चिकित्सक ने उसका परीक्षण किया। डाक्टर ने बताया कि दूल्हा नशे का आदी है। लगातार नशा करने की वजह से खून की उल्टी हुई है। उपचार के बाद दूल्हा फिर विवाह स्थल पर होटल में पहुंचा। तब तक दुल्हन को सारी जानकारी मिल चुकी थी। उसने विवाह से साफ इनकार कर दिया। 

दूल्हा पक्ष ने काफी सफाई दी लेकिन दुल्हन तैयार नहीं हुई। रात भर पंचायत चली। शनिवार को भी शाम तक समझौते का प्रयास दोनों पक्षों के बीच चलता रहा। लेकिन दुल्हन अपने फैसले पर अडिग रही।
... और पढ़ें

मुरादाबादः ईदगाह पहुंचे पूर्व राज्यपाल कुरैशी के बिगड़े बोल, मोदी-शाह को कोसा

व्हील चेयर पर बैठकर सीएए के खिलाफ चल रहे धरने को संबोधित करने ईदगाह मैदान पहुंचे यूपी व उत्तराखंड के पूर्व राज्यपाल अजीज कुरैशी ने मंच से खुलेआम आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया।

कुरैशी ने भाषण देना शुरू किया तो पब्लिक की तालियों के बीच उनके बोल बिगड़ते ही चले गए। कोई हमारी वफादारी पर हाथ उठाएगा तो हम उसका हाथ काट देंगे से अपनी बात शुरू करने वाले कुरैशी ने बाद में बेहद आपत्तिजनक और उत्तेजक शब्दों का इस्तेमाल करने से भी परहेज नहीं किया। 

अस्वस्थता की वजह से कुरैशी व्हील चेयर पर बैठकर ईदगाह मैदान पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा और संघ परिवार हिंदुस्तान को एक हिंदू राष्ट्र बनाने की बात कहता है।

देश को आजाद कराने में मुसलमानों ने बढ़ चढ़ कर कुर्बानी दी है। उन्होंने कहा कि मोदी और अमित शाह देश में नफरत के बीच वो रहे हैं। लोगों को गोडसे के जय राम और गांधी के हे राम के बीच का फर्क समझना होगा। 

इसके बाद उन्होंने मोदी और शाह को निशाना बनाया। पब्लिक ने तालियां बजाना शुरू कीं तो कुरैशी के बोल बिगड़ते चले गए। आपत्तिजनक भाषण देने के बाद अंत में कुरैशी बोले, इस लड़ाई को मोदी और शाह इसलिए अब तक हिंदू बनाम मुसलमान की लड़ाई नहीं बना सके क्योकि इस लड़ाई में गैर मुस्लिम भी शरीक हैं। पूर्व राज्यपाल ने कहा कि जब तक सीएए को सरकार वापस नहीं लेती तब तक यह लड़ाई जारी रहनी चाहिए।
... और पढ़ें

फेसबुक ने फंसायाः चंदौसी की 25 महिलाएं ब्लैकमेलर के जाल में फंसीं

मोटापा कम करने के नाम पर शहर की पचीस से अधिक संभ्रांत महिलाएं ब्लैकमेलर के जाल में फंस गईं। इन महिलाओं का फेसबुक अकाउंट हैक करके उसके माध्यम से अन्य महिला मित्रों से चैट करके पहले तो उनकी नग्न तस्वीरें मंगाई गई। फिर लाखों रुपये की उगाही की गई।

कुछ महिलाओं ने शनिवार की शाम को कोतवाली जाकर मामले में कार्रवाई के लिए तहरीर दी है।  कोतवाली प्रभारी धर्मपाल सिंह ने बताया कि मामला गंभीर है, जांच के लिए साइबर सेल को स्थानांतरित कर दिया गया है।

साइबर अपराधी के जाल में फंस चुकी महिलाओं ने एकत्र होकर शहर कोतवाली जाकर तहरीर दी। पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद को भी फोन पर मामले की जानकारी दी गई। महिलाओं ने बताया कि ब्लैकमेलर सबसे पहले किसी महिला की फेसबुक आईडी हैक कर मैसेंजर के जरिये अन्य महिलाओं से चैट करता है। महिला समझती है कि उसकी अपनी दोस्त/सहेली बात कर रही है। 

इसके बाद महिला को अतिशीघ्र मोटापा कम कराने की युक्ति सुझाने की बात कही जाती है। मोटापा देखने के नाम पर महिला से चेहरे सहित प्राइवेट पार्ट्स की तस्वीरें मांगी जाती है। एक महिला से तो उसकी बहन की फेसबुक आईडी को हैक करके कई तस्वीरें मंगा ली गई हैं। इन तस्वीरों को एक मोबाइल फोन नंबर देकर व्हाट्सएप पर मंगाया। 

इसके बाद अब ब्लैकमेलर ने उन्हीं फोटो को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। हैकर्स ने अकाउंट नंबर 07112413000016 और आईएफसीई कोड ओआरबीसी 100711 दिया है। बताया गया है कि बदनामी से बचने को कई महिलाओं ने धनराशि भी खाते में डाल दी है।
... और पढ़ें

लेखपाल के लिए पति को छोड़ा, वह ही रेलवे स्टेशन पर छोड़कर भागा

मुरादाबाद। अमरोहा जिले में तैनात एक लेखपाल शादी का झांसा देकर लंबे समय तक मऊ की युवती के साथ लिव इन रिलेशन में रहा। बाद में शादी के वादे से मुकर गया। लेखपाल के मुंह फेरने पर युवती ने दूसरे युवक से शादी कर ली तो लेखपाल फिर से उसे सपने दिखाने लगा। प्यार का वास्ता देकर उसने युवती से पति का घर छुड़वा दिया। एक सप्ताह तक युवती को साथ रखा और फिर मुरादाबाद रेलवे स्टेशन पर छोड़कर फरार हो गया। युवती ने आरोपी लेखपाल के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में तहरीर दी है।
मऊ में एक गांव की रहने वाली युवती ने सिविल लाइंस पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि वह 2014 में कानपुर में कोचिंग सेंटर पर एमबीए की तैयारी कर रही थी। इस दौरान उसकी मुलाकात मऊ जनपद के घोसी थानाक्षेत्र के गांव निवासी युवक से हुई। दोनों के बीच प्रेम संबंध हो गए। युवती का आरोप है कि प्रेमी ने उसे शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया। इसके बाद आरोपी युवक की नौकरी लेखपाल के पद लग गई। वह वर्तमान में अमरोहा में तैनात है। सरकारी नौकरी पाने के बाद युवक ने उससे किनारा करना शुरू कर दिया। युवती ने पुलिस को बताया कि आरोपी ने उससे शादी करने से इनकार कर दिया था। तब परिजनों ने युवती की शादी दूसरे युवक से कर दी। इसके बाद भी आरोपी लेखपाल उससे संपर्क करता रहा और उस पर दबाव बनाया कि वह अपने पति को छोड़ दे। लेखपाल ने झांसा दिया कि यदि वह पति को छोड़ देगी तो वह उससे शादी कर लेगा। युवती ने पुलिस को बताया कि लेखपाल के कहने पर वह अपने पति को छोड़कर उसके पास आ गई। लेकिन एक सप्ताह अपने साथ रखने के बाद लेखपाल फिर से अपने वादे से मुकरने लगा। उसने मऊ थाने में तहरीर दी। तब आरोपी और उसके परिजन लिखित में देकर आए कि वह युवती को अपने साथ ले जाने को तैयार हैं। युवती ने बताया कि लेखपाल उसे मुरादाबाद ले आया था। उससे कहा था कि उसके पिता पीएसी में कार्यरत हैं। एक सप्ताह तक उसे यहां रखा गया। 16 फरवरी को लेखपाल ने युवती से कहा कि वापस मऊ चल रहे हैं। वह युवती को लेकर रेलवे स्टेशन आया और फिर स्टेशन पर छोड़कर गायब हो गया। इंस्पेक्टर नवल मारवाहा ने बताया कि युवती ने लिखित में शिकायत की है, लेकिन लेखपाल के परिजन युवती को अपने साथ ले गए हैं। उनका कहना है कि वह दोनों की शादी करा देंगे।
सोलह फरवरी से थाने के चक्कर लगा रही युवती
मुरादाबाद। युवती का कहना है कि उसका प्रेमी उसे सोलह फरवरी को रेलवे स्टेशन पर छोड़कर चला गया था। इसके बाद उसने प्रेमी की तलाश की, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल पाया। उसने अपना मोबाइल भी स्विच आफ कर लिया। इसके बाद उसने थाने में आकर तहरीर दी। लेकिन आरोपी के खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं किया गया।
... और पढ़ें

मुरादाबादः आज रात दिल्ली रोड स्थित लोको शेड पुल पर नो एंट्री, बदला गया है रास्ता

लोकोशेड पुल पर शनिवार से गार्डर रखने का कार्य किया जाएगा। इसके लिए यातायात पुलिस ने रूट डायवर्जन कर दिया है। शनिवार रात ग्यारह बजे से सुबह छह बजे तक लोकोशेड पुल पर यातायात पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगा।

इस दौरान दिल्ली रोड से आने वाली लाकड़ी फाजलपुर तिराहे से टीपी नगर, हनुमान मूर्ति तिराहे से शहर की ओर आएंगे और इसी रास्ते से वापस जाएंगे। जबकि शहर से दिल्ली रोड की ओर जाने वाले वाहन फव्वारा चौक पर रोक दिए जाएंगे।

इन वाहनों को रेलवे स्टेशन से हनुमान मूर्ति तिराहा से पंडित नगला बाईपास से टीपी नगर और लाकड़ी फाजलपुर तिराहे से दिल्ली रोड पर भेज जाएंगे। एसपी यातायात सतीश चंद्र ने बताया कि दिल्ली रोड से कंटेनर डिपो में आने वाले कंटेनर और ट्रक रात नौ बजे से ग्यारह बजे के बीच आ सकेंगे।

उन्होंने बताया कि चौबीस फरवरी 2020 को दोपहर बारह बजे से शाम चार बजे तक भी लोकोशेड पुल पर यातायात बंद रहेगा। इस दौरान भी वाहनों को तय मार्गों से गुजारा जाएगा।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us