विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020
Astrology Services

विवाह संबंधी दोषों को दूर करने के लिए शिवरात्रि पर मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक : 21-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

जानें कौन हैं श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास

राम मंदिर आंदोलन के अहम किरदार रहे अयोध्या के श्री रामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपालदास को राम मंदिर निर्माण के लिए बनाए गए 'श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र' ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाया गया है। जानें, उनके बारे में:

19 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

पीलीभीत

बुधवार, 19 फरवरी 2020

जबरन पेड़ काटने की सूचना पर पहुंचे सिपाही पर शराबी ने किया हमला, गिरफ्तार

बरखेड़ा (पीलीभीत)। खेत पर लगे पेड़ों को जबरन काटने की सूचना पर पहुंचे यूपी 112 के सिपाही पर नशे में धुत आरोपी ने लकड़ी का टुकड़ा उठाकर हमलाकर दिया। पुलिस ने साथ गए होमगार्ड और ग्रामीणों की मदद से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। सिपाही की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी का चालान कर दिया गया।
घटना रविवार पूर्वान्ह करीब साढ़े 10 बजे की है। यूपी 112 पर अमखेड़ा गांव निवासी बालेश्वर ने कॉल कर बताया कि उनके खेत पर खड़े पापुलर के पेड़ दो लोग जबरन कटवा रहे हैं। विरोध करने पर झगड़ा किया जा रहा है। कुछ ही देर में यूपी 112 की पीआरवी 3444 पर तैनात सिपाही मोहम्मद आरिफ, होमगार्ड वेदप्रकाश के साथ मौके पर पहुंच गए। वहां पर अमखेड़ा गांव निवासी भगवत सरन पेड़ों को कटवाता मिला। पुलिस के अनुसार वह नशे में था। सिपाही ने जब भगवतसरन को रोकने का प्रयास किया तो उसने हमला कर दिया। पेड़ काटकर जमा की गई लकड़ी के टुकड़े से सिपाही पर हमला कर दिया। इसमें सिपाही के एक हाथ में चोट आई। इसके बाद होमगार्ड और कुछ ग्रामीणों की मदद से सिपाही ने आरोपी भगवतसरन को पकड़ लिया। उसको लेकर थाने आए और सिपाही ने तहरीर दी। इंस्पेक्टर उमेश सिंह सोलंकी ने बताया कि सिपाही की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर भगवत सरन का चालान कर दिया है। सिपाही का मेडिकल परीक्षण कराया गया।
... और पढ़ें

त्योहारी सीजन में सब्जियां भी शुद्ध नहीं, केमिकल से पकाकर चमकाई जा रहीं

पीलीभीत। बाजार में ताजी और हरी सब्जियों को देखकर आप उन्हें अच्छा समझ रहे हैं तो सतर्क हो जाइए। जो सब्जियां फड़ या ठेलों पर आपको हरी भरी और चमचमाती दिख रही हैं, वे दरअसल ताजी न होकर केमिकल से पकाई और चमकाई गई हैं। सब्जियों को चमकदार और ताजा दिखाने के लिए उनमें केमिकल युक्त रंग लगाया जा रहा है। ऑक्सीटोसिन इंजेक्शन लगाकर लौकी और बैंगन के अलावा अन्य सब्जियों की लंबाई बढ़ाई जा रही है। एफएसडीए इस खेल पर शिकंजा कसने के बजाय खामोश है।
होली का त्योहार नजदीक है। शादी बरातों का सीजन भी चल रहा है। बाजार में डिमांड अधिक देखते हुए मिलावटखोरों ने अपना नेटवर्क तेजी से सक्रिय कर दिया है। जिधर नजर दौड़ाओ, वहीं मिलावट मिलेगी। फिर चाहे वह सरसों का तेल हो या फिर दूध, मावा, दाल, मसाले या सब्जियां ही क्यों न हों। कारोबारी मोटा मुनाफा कमाने के लिए सब्जियों को रातोंरात केमिकल लगाकर उन्हें चमकदार बनाने के बाद सुबह बेचते हैं। केमिकल युक्त सब्जियां पेट में एसिडिटी बनाकर लिवर और किडनी पर असर डाल रही हैं। खराब और बेरंग सब्जियों को कम दाम में खरीदने के बाद उनमें केमिकल युक्त रंग लगाया जाता है, इससे वे पकी हुई और ताजा नजर आती हैं। यह केमिकल सरसों के तेल या रिफाइंड लगाकर चमकाया जाता है। आसपास सब्जी की खेती करने वाले किसानों को भी मिलावटखोरों ने बैंगन और लौकी की लंबाई बढ़ाने के लिए ऑक्सीटोसिन इंजेक्शन लगाना सिखा दिया है।
10 से 15 मिनट में चमक उठती है सब्जी
मिलावटखोरी करने वाले मंडी से कम दाम में टमाटर, बैंगन, लौकी, कटहल, भिंडी, पपीता, कच्चा केला, टिंडे, परमल, पत्ता गोभी, फूल गोभी जैसी सब्जियों को खरीद लेते हैं। बासी और सूख चूकी सब्जियां कम दाम में मिल जाती हैं। फिर इन्हें गोदाम में ले जाकर केमिकल युक्त रंग से सरसों के तेल या पॉम ऑयल से चमकदार बनाते हैं। केमिकलयुक्त कलर लगने के बाद सब्जी चमककर और तरोताजा दिखने लगती है। एक सब्जी विक्रेता का कहना है कि सब्जी कितनी ही बासी क्यों न हो। गोदाम में पहुंचते ही 10 से 15 मिनट में सब्जी चमकने लगती है। सब्जी की चमक देख कोई भी धोखा खा सकता है। रंगी हुई सब्जी मंहंगे दाम पर बिकती है।
इस तरह से चमकाते हैं सब्जियां
सब्जियों पर केमिकल युक्त रंग चढ़ाने के लिए कारोबार गोपनीय गोदाम बनाते हैं। वहां एक बड़े वर्तन में सब्जी से जुड़ा रंग का घोल तैयार किया जाता है। उसमें सरसों का तेल या पॉम ऑयल या फिर रिफाइंड मिलाया जाता है। उसी में कुछ केमिकल की मात्रा रखी जाती है। इन सबका घोल तैयार करके बासी, सूख चुकी सब्जी को उसमें डुबोकर रख देते हैं। कुछ देर बाद जब उन पर रंग चढ़ जाता है तो बाहर निकालकर पोंछ देते हैं। इससे सब्जी चमकदार बन जाती है। यह सब्जी बाजार में तरोताजा और चमकदार दिखती है। बेहतर दामों में बिकती है।
हरी सब्जियों में सर्वाधिक खेल
लॉकी और बैंगन को बड़ा करने के लिए ऑक्सीटोसिन इंजेक्शन का इस्तेमाल आम बात है। हरी सब्जियों की डिमांड बाजार में अधिक रहती है। ऐसे में मिलावटखोर हरी सब्जियों को ही चमकदार बनाने में पूरा जोर लगाते हैं। पत्तागोभी, परवल, पालक, करेला, शिमला मिर्च, भिंडी, तोरई, मेथी, मूली, सरसों का साग समेत अन्य सब्जियों को हरे केमिकल युक्त रंग से रंगा जाता है। टमाटर में केमिकल युक्त लाल रंग लगाकर चमकदार बनाते हैं। सब्जी बेचने वाले एक दुकानदार से जब इसको लेकर बात की गई तो पहले तो वह अपनी दुकान की सब्जियों के प्राकृतिक होने की बात कहता रहा। बाद में जब उससे रंग की हुई सब्जी की मिलावट को लेकर पूछा गया तो बोला कि इसमें उनका कोई फायदा नहीं है। ग्राहकों को भी सब्जी दिखने में अच्छी लगती है। वह उसे आसानी से खरीद लेते हैं। अगर सब्जी में चमक न हो तो बिकने में दिक्कत आती है।
ऐसे करें केमिकल युक्त सब्जी की पहचान
केमिकल युक्त सब्जी की पहचान करना वैसे तो मुश्किल काम है। लेकिन ठेले या फड़ पर रखी कोई सब्जी अपने प्राकृतिक रंग से ज्यादा चमक रही है और उसका रंग भी कुछ अंतर का अंदेशा जता रहा है तो उसे रगड़कर देखना चाहिए। दुकानदारों से उसकी चमक के बारे में पूछताछ कर सकते हैं। विशेषज्ञों की मानें तो एक सफेद कपड़े पर उस सब्जी को रगड़ना चाहिए..अगर रंग की हुई होगी तो कपड़े पर रंग उतर आएगा। कई बार तो मोम की परत भी चमक बढ़ाने को चढ़ा दी जाती है। उसका पता लगाने का भी यही आसान तरीका है। इसके अलावा गीली रुई को भी सब्जी पर रगड़ने से उसकी पहचान की जा सकती है। सब्जी को सूंघकर उसकी महक से भी पता लगाया जा सकता है कि सब्जी का रंग प्राकृतिक है या केमिकल युक्त।
लिवर और किडनी पर पड़ेगा असर
केमिकल युक्त रंगी सब्जियों का सेवन शरीर में एलर्जी पैदा कर सकता है। लिवर और किडनी पर भी असर डालता है। खासकर पेट संबंधी बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। एसिडिटी बनना आम बात है। सब्जी रंगने में इस्तेमाल होने वाले सभी तरह के केमिकल स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हैं। - डॉ.सीबी चौरसिया, वरिष्ठ फिजिशियन
बाजार में मिलावटखोरी को लेकर लगातार अभियान चलाया जा रहा है। प्रतिदिन छापे मारकर सैंपल लिए जा रहे हैं। परीक्षण रिपोर्ट मिलने पर कार्रवाई भी कराई जाती है। सब्जियों में मिलावट या केमिकल युक्त रंग लगाने के मामले को भी गंभीरता से लेकर दिखवाया जाएगा। - शशांक त्रिपाठी, अभिहीत अधिकारी, एफएसडीए टीम
... और पढ़ें

दो दिन से लापता चालक का शव ट्रैक्टर ट्रॉली समेत सुतिया नाले के दलदल में मिला, हड़कंप

पूरनपुर (पीलीभीत)। ट्रैक्टर ट्रॉली समेत लापता चालक गांव राहुलनगर निवासी अमर सिंह (30) का शव दो दिन बाद सुतिया नाले के दलदल में मिला। ट्रैक्टर ट्रॉली भी दलदल में पूरी तरह धंसी हुई थी। पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद क्रेन से शव और ट्रैक्टर ट्रॉली को बाहर निकलवाया।
मोहल्ला अहमद नगर निवासी हामिद असर का खिरकिया बरगदिया गांव में फार्म हाउस है। अमर सिंह उनके यहां ट्रैक्टर चालक था। शुक्रवार को वह ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर फार्म हाउस के लिए निकला था। उसने अपनी साइकिल भी ट्रॉली में पीछे बांध रखी थी। इसके बाद से वह लापता हो गया। देर शाम तक वह नहीं लौटा तो फार्मर और परिजनों ने ग्रामीणों के साथ तलाश की। शनिवार को भी दिन भर हर तरफ तलाशा गया लेकिन कुछ पता नहीं लगा।
रविवार दोपहर हामिद के फार्म हाउस के पास शारदा नदी के दलदलनुमा सुतिया नाले में ट्रॉली के पीछे बंधी अमर सिंह की साइकिल का हिस्सा दिखाई दिया। चालक और ट्रैक्टर ट्रॉली के सुतिया में होने की आशंका पर पुलिस को बुलाया गया। पुलिस ने क्रेन मंगाकर करीब दो घंटे बाद ट्रैक्टर ट्रॉली और चालक के शव को बाहर निकाला। आशंका है कि ट्रैक्टर ट्रॉली बेकाबू होकर सुतिया नाले में चली गई। दलदल होने की वजह से वह उसमें समा गई। अमर सिंह दो भाइयों में छोटा और विवाहित था।
साइकिल का हिस्सा न दिखाई देता तो पता नहीं चलता
ट्रैक्टर ट्रॉली पूरी तरह सुतिया के दलदल में समा चुकी थी। अमर सिंह ट्रैक्टर ट्रॉली के पीछे साइकिल बांधकर रखता था, ताकि अगर कहीं देर हो जाए तो वह साइकिल से निकल जाए। उसे तलाशते हुए ग्रामीण हर तरफ घूम चुके थे। अगर साइकिल का हिस्सा न दिखाई देता तो यह रहस्य ही बना रहता।
... और पढ़ें

हर्ष फायरिंग करने वाले का शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने को कार्रवाई शुरू

पीलीभीत। परसिया गांव में बरात में द्वारचार के समय की गई हर्ष फायरिंग में एक बराती के घायल होने के मामले में गिरफ्तार आरोपी के शस्त्र लाइसेंस को निरस्त करने के लिए बीसलपुर पुलिस ने एसपी को भेज दी है। एसपी इस रिपोर्ट को शाहजहांपुर के जिलाधिकारी को भेजेंगे।
बीसलपुर कोतवाली क्षेत्र के परसिया गांव निवासी महेंद्रपाल की बेटी की शादी सोमवार रात गांव के एक बरातघर में थी। बरात बरेली के फरीदपुर से आई थी। रात करीब साढ़े 10 बजे द्वारचार के दौरान शाहजहांपुर के खुदागंज थाना क्षेत्र के गांव चिरचिरा निवासी नत्थूलाल ने लाइसेंसी बंदूक से फायर कर दिया था। गोली एक अन्य बराती बराती दातागंज (बदायूं) के वीरमपुर गांव निवासी विजय कुमार के लगी थी। उसी समय गुस्साई भीड़ ने बंदूक को तोड़ भी दिया था। पुलिस ने घायल बराती के साले देवेंद्र कुमार की ओर से जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया था। लाइसेंसी बंदूक पुलिस के कब्जे में है। अब बंदूक का लाइसेंस निरस्त करने को कार्रवाई की जा रही है। कार्यवाहक कोतवाल बीसलपुर पूरनचंद ने बताया कि लाइसेंस निरस्तीकरण को रिपोर्ट बनाकर एसपी को भेज दी गई है। अब एसपी के माध्यम से इसको शाहजहांपुर के डीएम को भेजा जाएगा। आगे की कार्रवाई वहीं से होगी।
... और पढ़ें

हैंडओवर हुआ तो टनकपुर हाइवे का होगा चौड़ीकरण

पीलीभीत। शहर के बीचोबीच गुजर रहे टनकपुर नेशनल हाईवे का चौड़ीकरण किया जाएगा। फिलहाल यह कार्य तभी हो सकेगा, जब नेशनल हाईवे अथॉरिटी इस मार्ग को लोक निर्माण विभाग को हस्तांतरित करेगा। इधर शासन से संकेत मिलने के बाद लोक निर्माण विभाग ने चौड़ीकरण को लेकर सड़क की नाप करने के साथ एस्टीमेट बनाने की तैयारी शुरू कर दी है।
सड़क एवं परिवहन मंत्रालय द्वारा कई राज्य मार्गों को राष्ट्रीय राज मार्ग में तब्दील कराने की योजना है, लेकिन एनएच में तब्दील होने वाले राज्य मार्गों की संख्या इतनी अधिक हो चुकी है कि कई राज्य मार्ग प्रतीक्षा सूची में शामिल हैं। अब यह राज्य मार्ग कब राष्ट्रीय राजमार्ग में तबदील होंगे, इसका जवाब तो अधिकारियों के पास भी नहीं है। बताते हैं कि प्रतीक्षा सूची लंबी होने के चलते अब नेशनल हाईवे अथॉरिटी पूर्व में शामिल किए गए कुछ राज्य मार्गों को लोक निर्माण विभाग को वापस सकता है। ठंडी सड़क के नाम से जाने जाना वाला मार्ग टनकपुर हाईवे भी नेशनल हाईवे अथॉरिटी (एनएच) के अधीन है। सूत्रों के मुताबिक यह हाइवे भी एनएचए लोक निर्माण विभाग को वापस कर सकता है।
इधर शासन से संकेत मिलने के बाद लोक निर्माण विभाग ने टनकपुर हाईवे के चौड़ीकरण को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है। विभाग के मुताबिक यदि यह मार्ग उन्हें वापस मिलता है तो शहर के असम चौराहे से छतरी चौराहा होते हुए कचहरी तिराहे तक मार्ग का चौड़ीकरण किया जाएगा। अभी तक यह मार्ग मात्र सात मीटर चौड़ा है। चौड़ीकरण के कार्य के बाद यह मार्ग 11 मीटर हो जाएगा। विभागीय अफसरों ने मार्ग की नापजोख करने के साथ एस्टीमेट बनाने की भी तैयारी शुरू कर दी है।
टनकपुर रोड नेशनल हाइवे अथॉरिटी के अधीन है। शासन से संकेत मिलने के बाद इस मार्ग के चौड़ीकरण को लेकर तैयारियां की जा रही है। यह कार्य तभी होगा, जबकि एनएचए से वापस हैंडओवर करेगा।
- हरस्वरूप, अधिशासी अभियंता, लोकनिर्माण
... और पढ़ें

उखड़ी पड़ी सड़क से कॉलोनीवासियों को दिक्कत, सौंपा ज्ञापन

पीलीभीत। नगरपालिका की ओर से गंगाबिहार कॉलोनी की मेन सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। ठेकेदार पर घटिया निर्माण का आरोप लगाते हुए एक नेता ने काम रुकवा दिया। इससे काम बंद हो गया। इस खड़ी पड़ी ऊबड खाबड़ सड़क से कॉलोनीवासियों का निकलना मुश्किल हो गया है। लोगों ने ईओ को ज्ञापन देकर सड़क का काम पूरा कराने की मांग की गई है।
शहर वार्ड नंबर 16 के छतरी चौराहा के समीप गंगाबिहार कॉलोनी में नगरपालिका की ओर से 22 लाख रुपये की लागत से इंटरलॉकिंग रोड का निर्माण कराया जा रहा है। निर्माण के दौरान एक भाजपा नेता ने गुणवत्ता खराब होने की शिकायत की थी। शिकायत पर एसडीएम और ईओ ने जांच की। इसके बाद निर्माण कार्य बंद कर दिया गया था। काम बंद होने के बाद उखड़ी पड़ी ऊबड़- खाबड़ सड़क से कॉलोनी के कई लोग चोटिल हो गए। कॉलोनी वासियों का कहना है कि ठेकेदार और नेता के झगड़े के बीच में कॉलोनी के लोग परेशान है। कॉलोनी के लोगों ने मंगलवार को ईओ निशा मिश्रा को ज्ञापन सौंपकर सड़क का निर्माण पूरा कराने की मांग की है। ज्ञापन में मनोज शर्मा, पंकज शर्मा, मीनाक्षी शर्मा, ज्योति शर्मा, गीता शर्मा, संदेश, पुष्पेंद्र, शांतिस्वरूप, सार्थक, उत्कर्ष शिवेंद्र मनीष अग्रवाल आदि के हस्ताक्षर है।
शिकायत मिलने पर सड़क निर्माण की जांच की गई थी। इसमें ईंट का नमूना सैंपल के लिए भेजा गया है। ठेकेदार को नोटिस दिया गया। सड़क का निर्माण बेहतर हो। इसको लेकर पूरा ध्यान रखा जाएगा। -निशा मिश्रा, ईओ नगरपालिका पीलीभीत
... और पढ़ें

लापरवाही पड़ी भारी...चार एडीओ पंचायत को प्रतिकूल प्रवृष्टि

पीलीभीत। स्वच्छ भारत मिशन के कार्यों में लापरवाही और उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवहेलना करने पर चार प्रभारी एडीओ पंचायत को प्रतिकूल प्रविष्टि दी है। यह कार्रवाई डीपीआरओ द्वारा की गई है।
डीपीआरओ प्रमोद यादव द्वारा पिछले माह स्वच्छ भारत मिशन और ग्राम पंचायत विकास योजना के कार्यों की समीक्षा की गई थी। समीक्षा के दौरान डीपीआरओ ने ललौरीखेड़ा, बरखेड़ा, पूरनपुर और बीसलपुर के प्रभारी एडीओ पंचायत को अपने-अपने ब्लॉक की ग्राम पंचायतों में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अंतर्गत निर्मित किए जा रहे शौचालयों के लाभार्थियों की द्वितीय किश्त का मांग पत्र पांच फरवरी तक उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे। निर्धारित तिथि पर उक्त ब्लाकों के प्रभारी एडीओ ने सूचना उपलब्ध नहीं कराई। इससे पूर्व इन चारों प्रभारी एडीओ पंचायत से दिसंबर में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वरोजगार अभियान के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 में नवीन पंचायत भवनों के निर्माण एवं मरम्मत के प्रस्ताव एक सप्ताह में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए, लेकिन इस प्रस्तावों को भी उपलब्ध नहीं कराया गया। डीपीआरओ ने स्वच्छ भारत मिशन, ग्राम पंचायत विकास योजना के कार्यों में लापरवाही बरतने और उच्चाधिकारियों के आदेशों की अवेहलना करने पर ललौरीखेड़ा के प्रभारी एडीओ पंचायत वीरेंद्र कुमार, बरखेड़ा के मोहम्मद रिजवान, पूरनपुर के मेहरबान सिंह राना और बीसलपुर ब्लाक के प्रभारी एडीओ पंचायत अवनीश कुमार को प्रतिकूल प्रवृष्टि जारी की गई है।
चार ब्लाकों के प्रभारी एडीओ पंचायत से स्वच्छ भारत मिशन और जीपीडीपी के तहत सूचना और प्रस्ताव मांगे थे। नियत तिथि पर प्रगति शून्य पाई गई। इस पर चार एडीओ पंचायत को प्रतिकूल प्रवृष्टि दी गई है।
प्रमोद कुमार यादव, डीपीआरओ
... और पढ़ें

सांड़ के हमले में किसान की मौत

गजरौला (पीलीभीत)। खेत की रखवाली कर रहे किसान पर सांड़ ने के हमले में मौत हो गई। इलाज के दौरान एक निजी अस्पताल में किसान ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया है।
गजरौला थाना क्षेत्र के बिठौराकलां गांव निवासी 55 वर्षीय गेंदनलाल पुत्र कल्यान सिंह खेती करते थे। सोमवार दोपहर वह खेत में खड़ी गेहूं की फसल की रखवाली करने गए थे। इस बीच सांड़ खेत पर पहुंचकर फसल चरने लगा। किसान ने सांड़ भगाने का प्रयास किया तो सांड़ ने उन पर हमला बोल दिया। इससे गेंदनलाल गंभीर रूप से घायल हो गए। चीखने की आवाज सुनकर आसपास के खेतों पर काम कर रहे ग्रामीण जमा हुए। बमुश्किल लाठी डंडों से सांड़ को भगाया। हमले की सूचना पर कुछ ही देर में परिजन भी आ गए। घायल किसान को आनन-फानन में परिजन एंबुलेंस से शहर लाए और एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया। वहां किसान का इलाज चल रहा था। सोमवार दोपहर किसान की इलाज के दौरान मौत हो गई। इसकी सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भिजवाया। हादसे के बाद किसान के परिवार में कोहराम मचा है। पत्नी केतकी देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। मृतक के तीन विवाहित बेटे हैं।
... और पढ़ें

बरात में हर्ष फायरिंग, एक घायल

बीसलपुर (पीलीभीत)। द्वारचार के दौरान बरात में लाइसेंसी बंदूक से फायरिंग की गई, कुछ दूरी पर खड़े दूसरे बराती की बाईं कोहनी में जाकर लगी। घायल को प्राथमिक इलाज के बाद परिजन बरेली ले गए। गुस्साई भीड़ ने बंदूक तोड़ दी। पुलिस ने घायल के साले की तरफ से जानलेवा हमला करने की धारा में एफआईआर दर्ज की है। आरोपी को गिरफ्तार कर चालान कर दिया है।
बीसलपुर कोतवाली क्षेत्र के परसिया गांव निवासी महेंद्रपाल की बेटी की शादी सोमवार रात गांव के एक बरात घर में थी। फरीदपुर (बरेली) से बरात आई थी। रात करीब साढ़े 10 बजे गांव में बरात घूमने के बाद बरात घर पहुंची। बरात घर के गेट पर द्वारचार की रस्म अदा की जा रही थी। इस बीच नशे में बराती खुदागंज (शाहजहांपुर) के चिरचिरा गांव निवासी नत्थूलाल ने लाइसेंसी बंदूक से फायर किया। गोली सीधे कुछ दूरी पर खड़े एक अन्य बराती दातागंज (बदायूं) वीरमपुर गांव निवासी 32 वर्षीय विजय कुमार पुत्र मोहनलाल की बाईं कोहनी में लगी। इसके बाद बरात में अफरा-तफरी मच गई। आरोपी नत्थूलाल बंदूक छोड़कर भाग गया। गुस्साई बरातियों की भीड़ ने बंदूक को जमीन पर मारकर तोड़ दिया। आनन-फानन में घायल को सीएचसी ले जाया गया। वहां से जिला अस्पताल और फिर परिजन उसको बेहतर इलाज के लिए अपने साथ बरेली ले गए। इधर, घायल के साले भुता (बरेली) के महमूदापुर गांव निवासी देवेंद्र कुमार ने पुलिस को सूचना दी। सीओ धर्म सिंह मार्छाल, एसएसआई पूरनचंद, यूपी 112 पुलिस मौके पर पहुंच गई। बरातियों से घटना की जानकारी जुटा टूटी बंदूक को कब्जे में ले लिया। इसके बाद बरात घर के पास से ही आरोपी नत्थूलाल भी पकड़ा गया। देवेंद्र कुमार (घायल के साले) ने जानलेवा हमला करने की तहरीर पुलिस को दी। इसी के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई।
दहशत का माहौल..खाना खाए बिना लौटी भीड़
बीसलपुर (पीलीभीत)। परिसया गांव में सोमवार रात हुई हर्ष फायरिंग की घटना से अफरा-तफरी के बीच बरात में दहशत का माहौल रहा। गोली चलने के बाद एक बराती के घायल होने से पुलिस सुरागरसी को काफी देर तक डटी रही। वहीं बरात में पहुंचे अधिकांश लोग बिना खाना खाए ही वापस लौट गए।
किसान महेंद्रपाल की बिटिया की शादी धूमधाम से की जा रही थी। इसको लेकर काफी सजावट की गई थी। लड़की और लड़का पक्ष के काफी लोग इकट्ठा थे। बरात गांव में घूमकर जब बरात घर के गेट पर पहुंची तो द्वारचार की रस्म देखने को सभी बाहर आकर इकट्ठा हो गए थे। नाज-गाना चल रहा था। किसी को ये अंदाजा नहीं था कि बराती नत्थूलाल (50) अचानक बंदूक से गोली चला देगा। अचानक गोली चलने की आवाज आई तो पहले लोग कुछ समझ ही नहीं पाए। जब सबकी नजर लहूलुहान विजय कुमार पर गई तो भगदड़ सी मच गई। गोली चलाने वाला बंदूक फेंककर भाग गया। उसको पकडने का कुछ लोगों ने प्रयास भी किया, मगर असफल रहे। इसके बाद गुस्सा फूटा तो बंदूक तोड़ दी गई। चूंकि मामला हर्ष फायरिंग से जुड़ा था तो पुलिस को पहुंचने में भी देर न लगी। बरात में आए तमाम लोगों ने पछड़े में पडने के बजाय घर जाने में भी भलाई समझी और वापस लौट गए। नतीजतन कुछ देर में ही करीबियों और रिश्तेदारों के अलावा कोई दिखाई नहीं दे रहा था। फिलहाल पुलिस घटना को समझने के लिए पूछताछ करती रही। सीओ ने बरात में कराई जा रही वीडियोग्राफी की फुटेज चेक करने के निर्देश भी पुलिस को दिए हैं, ..ताकि पुख्ता साक्ष्य भी जुटाए जा सकें।
लाइसेंस निरस्तीकरण की होगी कार्रवाई
बरात में हर्ष फायरिंग करने के बाद नत्थूलाल को गिरफ्तार करने के बाद कार्रवाई पूरी करते हुए जेल भेज दिया गया है। मगर अभी उसकी मुश्किल कम नहीं हुई है। अब बंदूक का लाइसेंस निरस्त कराया जाएगा। इसके लिए पुलिस की ओर से शाहजहांपुर के डीएम को पत्राचार किया जाएगा। इसकी कार्रवाई के निर्देश भी अधिकारियों ने दिए हैं।
... और पढ़ें

अफसरों की फौज...चार शिकायतों का हो सका निस्तारण

पीलीभीत। जिले में मंगलवार को आयोजित हुए संपूर्ण समाधान दिवस पर 83 फरियादियों ने अपनी शिकायत रखी, लेकिन मात्र चार शिकायतों का ही निस्तारण किया जा सका। बीसलपुर में एसपी अभिषेक दीक्षित की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान का आयोजन किया गया।
सदर तहसील में एसडीएम सदर अविनाश चंद्र मौर्य की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। इस दौरान 23 फरियादियों ने अपनी शिकायतें रखी। जिसमें मात्र दो शिकायतों की ही मौके पर निस्तारण किया जा सका। शेष बची शिकायतों को संबंधित विभागों के सुपुर्द कर दिया गया।
बीसलपुर। तहसील सभागार में डीएम की गैरमौजूदगी में एसपी अभिषेक दीक्षित की अध्यक्षता में संपूर्ण समाधान दिवस लगा। इसमें 36 फरियादियों ने अपनी शिकायतें रखी। जिसमें मात्र एक शिकायत का ही मौके पर निस्तारण किया गया। एसपी ने शेष शिकायतें निस्तारण के लिए संबंधित विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों को सौंप दी। समाधान दिवस का संचालन एसडीएम चंद्रभानु सिंह ने किया। समाधान दिवस में सीडीओ श्रीनिवास मिश्र, एएसपी रोहित मिश्रा, सीएमओ डॉ. सीमा अग्रवाल, बीएसए देवेेंद्र स्वरूप, डीएसओ एपी सिंह, डीसीओ जितेंद्र मिश्रा, पीडब्ल्यूडी के सहायक अभियंता सीताराम और जिला कृषि अधिकारी विनोद यादव समेत विभिन्न विभागों के जिला, तहसील और ब्लाकस्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।
पूरनपुर। एडीएम (वित्त एवं राजस्व) अतुल ङ्क्षसह की अध्यक्षता में हुए संपूर्ण समाधान दिवस में 24 फरियादियों ने अपनी समस्याएं रखी। इसमें से मात्र एक का ही निस्तारण हो सका।
... और पढ़ें

बेटे की फीस जमा कर लौट रही महिला की डीसीएम की टक्कर से मौत

पूरनपुर। बेटे की स्कूल फीस जमा करने के बाद स्कूटी से घर जा रही महिला की डीसीएम की टक्कर से मौत हो गई। डीसीएम चालक को पब्लिक ने पकड़कर पुलिस के सुपुर्द कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। महिला स्कूटी चलाते वक्त हेलमेट नहीं लगाए थी।
कोतवाली क्षेत्र के मटेहना कॉलोनी निवासी संतराम प्रजापति क्रेन आपरेटर हैं। पत्नी इंदुदेवी (35) नगर की अशोक कॉलोनी में किराए के घर में रहती हैं। बेटा नीरज स्वामी एजुकेशनल स्कूल में कक्षा सात और नितिन कक्षा चार के छात्र हैं। दोनों बच्चों की पढ़ाई के लिए ही इंदु देवी किराए के मकान में नगर में रहती थीं। मंगलवार सुबह इंदु देवी बड़े बेटे नीरज की फीस जमा करने गई थीं। फीस जमा करने के बाद स्कूटी से वापस घर आ रही थीं। असम हाईवे पर घुंघचाई चौराहा के पास पहुंचते ही पीलीभीत की ओर से आ रही डीसीएम ने स्कूटी को टक्कर मार दी। इसमें इंदु देवी गंभीर रूप से घायल हो गई। हादसे के बाद जमा हुई भीड़ ने डीसीएम को मय चालक पकड़ लिया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। आनन-फानन में महिला को सीएचसी भिजवाया गया। प्राथमिक इलाज के बाद जिला अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में इंदु देवी की मौत हो गई। उधर, मौके पर पहुंची पुलिस आरोपी चालक को हिरासत में लेकर कोतवाली आ गई। डीसीएम को भी कब्जे में ले लिया। कोतवाल एसके सिंह ने बताया कि महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।
इसके अलावा गांव बलरामपुर के पास टेंपो-जीप की टक्कर में गांव नरायनपुर निवासी धीरज, असम हाईवे पर जीप-ई-रिक्शा की टक्कर में गांव खांडेपुर निवासी सोनू, मेजर सिंह, गांव मोहनपुर के पास ट्रक की टक्कर से मक्कापुर गांव निवासी 15 वर्षीय रानी पुत्री नन्हेलाल घायल हुए। सभी को इलाज के लिए सीएचसी भर्ती कराया गया।
... और पढ़ें

कोल्ड ड्रिंक में नशा देकर दो युवकों को लूटा

पीलीभीत। कोल्डड्रिंक में नशीला पदार्थ देकर दो युवकों से रोडवेज बस में जहर खुरान गिरोह ने नकदी और सामान लूट लिया। युवकों को प्राइवेट अस्पताल में ले जाया गया और होश आने के बाद पीड़ितों ने दो अज्ञात लोगों के खिलाफ घटना की तहरीर दी। हालांकि पुलिस घटनास्थल गैर जनपद बताकर टाल गई है।
गजरौला थाना क्षेत्र के पिपरिया कॉलोनी निवासी आकाश विश्वास और तुषार माझी ने मंगलवार को पुलिस को दी तहरीर में बताया कि वह दिल्ली के अशोक नगर में नौकरी करते हैं। 13 फरवरी की रात सवा 10 बजे आनंद बिहार बस अड्डे से पीलीभीत आने के लिए रोडवेज बस में सवार हुए। बस में सवार दो युवकों ने बातचीत कर रास्ते में उन्हें कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ दे दिया। जिसके कुछ देर बाद ही दोनों बेहोश हो गए। इसके बाद आरोपियों ने उनके 38 हजार रुपये, सोने की चेन, मोबाइल समेत अन्य सामान लूट लिया। बस चालक ने पीलीभीत पहुंचकर किसी तरह एक परिचित का नंबर मिलने पर परिवार वालों को सूचना दी। इसके बाद दोनों युवकों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के बाद होश आया। युवकों ने अज्ञात के खिलाफ पुलिस में तहरीर देकर मामले में कार्रवाई की मांग की है। इंस्पेक्टर नरेश कश्यप ने बताया कि मामला हमारे क्षेत्र का नहीं है। इसकी कोई तहरीर भी नहीं दी गई है।
... और पढ़ें

गन्ने के खेत में मिले गोवंशीय पशुओं के अवशेष, हड़कंप

बरखेड़ा (पीलीभीत)। मूसेपुरकलां गांव में सक्रिय हुए तस्करों ने दो गोवंशीय पशुओं की हत्या कर दी। खेत में अवशेष मिलने पर ग्रामीणों ने एकत्र होकर नाराजगी जताई। पुलिस ने सख्त कार्रवाई का भरोसा दिलाकर लोगों को शांत कराया। अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर पुलिस छानबीन में जुटी है।
बरखेड़ा थाना क्षेत्र के मूसेपुरकलां गांव निवासी जानकी प्रसाद खेती करते हैं। उनका खेत गांव में माला नदी के पास है। सोमवार रात गोमांस तस्करों ने दो आवारा गोवंशीय पशुओं को पकड़ने के बाद जमुना प्रसाद के खेत में ले जाकर हत्या कर दी। इसके बाद मांस तस्करी को साथ ले गए। मंगलवार सुबह गांव का धर्मवीर समेत अन्य लोग खेत की तरफ पहुंचे। उनकी नजर गोवंशीय पशु के अवशेष पर पड़ी तो गोहत्या का शोर मच गया। कुछ ही देर में काफी लोग जमा हो गए। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सीओ धर्म सिंह मार्छाल, इंस्पेक्टर उमेश सिंह सोलंकी, करोड़ चौकी प्रभारी उपेंद्र कुमार पुलिस बल के साथ पहुंचे। मौका मुआयना कर जानकारी की गई। ग्रामीणों ने गोहत्या की घटना पर नाराजगी जताते हुए सख्त कार्रवाई की मांग की। सीओ ने आश्वासन देकर शांत कराया। इसके बाद पशु चिकित्सक को बुलाकर अवशेष का परीक्षण कराया गया तो वह गोवंशीय पशु के होने की पुष्टि हुई। पुलिस ने अवशेष नजदीक में ही आदेश कुमार के खेत में दफन करा दिए। धर्मवीर से तहरीर लेकर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ गोहत्या निवारण अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज की। घटना का खुलासा करने के लिए पुलिस अब पुराने तस्करों की कुंडली खंगालने में जुट गई है। सर्विलांस टीम की भी मदद ली जा रही है।
हिंयुवा ने चौकी पुलिस पर उठाए सवाल
मूसेपुरकलां गांव में गोहत्या के पहले भी मामले सामने आ चुके हैं। 25 जनवरी और 31 जनवरी को भी गोवंशीय पशुओं के अवशेष मिले थे। ऐसे में मंगलवार सुबह हुई घटना का पता लगते ही हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता एकत्र हो गए। उन्होंने थाना बरखेड़ा पहुंचकर पुलिस को ज्ञापन दिया। इसमें सिलसिलेवार हो रही घटनाओं में कुछ पुलिसकर्मियों की मिलीभगत का अंदेशा जताया। साथ ही चौकी पुलिस की ओर से गश्त के नाम पर बरती जा रही लापरवाही पर सवाल उठाए। उन्होंने 24 घंटे में घटना का खुलासा न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी। हिंदू युवा वाहिनी ब्लॉक अध्यक्ष जितेंद्र सैनी, महामंत्री अनूप जायसवाल, राहुल वर्मा, शिव कुमार समेत कई मौजूद रहे।
मूसेपुरकलां गांव के खेत में गोवंशीय पशु के अवशेष मिले थे, उनको परीक्षण के बाद दफना दिया है। अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। गोमांस तस्करों का पता लगाने के लिए सुरागरसी करा रहे हैं, सख्त कार्रवाई होगी।
- धर्म सिंह मार्छाल, सीओ बीसलपुर
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us