विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अनोखा विरोध: कलक्ट्रेट के बाहर 25 रुपये प्रति किलो बेचा प्याज, खरीदारों की उमड़ी भीड़

वरिष्ठ कांग्रेसजन संघर्ष समिति के लोगों ने कलक्ट्रेट के गेट पर महंगाई के विरोध प्याज की सेल लगाई।

10 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

संभल

मंगलवार, 10 दिसंबर 2019

ट्रैक्टर की टक्कर से बाइक सवार ग्रामीण की मौत

धनारी/चंदौसी। थाना धनारी क्षेत्र के खजुरा इनायत गंज के पास बाइक में सामने से ट्रैक्टर ने जोरदार टक्कर मार दी। दुर्घटना में बाइक सवार ग्रामीण की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। मृतक के भाई ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।
थाना बहजोई क्षेत्र के लालपुर निवासी सुनील कुमार (40) बुधवार को अपनी बहन की ससुराल धनारी थाना क्षेत्र के खजुरा इनायतगंज गया था। देर रात करीब दस बजे वह अपने घर वापस लौट रहा था। खजुरा इनायत गंज गांव से निकलने के बाद ही सामने से आ रहे ट्रैक्टर ने उसकी बाइक को जोरदार टक्कर मार दी। जिससे बाइक सवार सुनील कुमार की मौके पर ही मौत हो गई। चालक ट्रैक्टर को छोड़ कर मौके से भाग गया। सूचना पर पुलिस रात करीब एक बजे घटना स्थल पर पहुंची। मृतक के शव को अपने कब्जे में लेकर रात्रि में ही शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। ट्रैक्टर को अपने कब्जे में ले लिया है। मृतक के भाई रंजीत सिंह की तहरीर पर पुलिस ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। घटना के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मच गया।
... और पढ़ें

अयोध्या मुद्दे पर संवेदनशील संभल में पुलिस और पीएसी ने किया पैदल मार्च

संभल। अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद से ही विभिन्न संगठनों की गतिविधियों पर प्रशासन की नजर बनी हुई है लेकिन अब छह दिसंबर को लेकर सतर्कता बढ़ाई गई है। अयोध्या मुद्दे पर प्रतिक्रिया के अंदेशे में प्रशासन ने संभल के संवेदनशील स्थलों पर पुलिस बल की तैनाती की है। लगातार निगरानी की जा रही है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने पुलिस व पीएसी को संग लेकर भ्रमण किया है।
पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने कोतवाली, हयातनगर, नखासा की पुलिस को साथ लेकर हयातनगर और सरायतरीन में पैदल भ्रमण किया। अपर पुलिस अधीक्षक उनके साथ थे। लोगों को सुरक्षा का एहसास कराया। साथ ही हर स्थिति में धैर्य बनाए रखने की अपील की। अफवाहों पर गौर न करने का आग्रह किया। यह भी कहा कि अगर किसी को कोई दिक्कत है तो तत्काल पुलिस और प्रशासन को अवगत कराएं। पुलिस अधीक्षक का पैदल भ्रमण हयातनगर के चामुंडा मंदिर से शुरू हुआ। सरायतरीन के बाजार में मय फोर्स के पुलिस अधीक्षक ने पैदल मार्च किया। पुलिस अधीक्षक ने रास्ते में कई लोगों से संवाद किया। उन्हें सुरक्षा और शांति व्यवस्था को लेकर शासन की प्राथमिकता से अवगत कराया।
जनपद संभल में अब तक सभी थाना क्षेत्रों में शांति समितियों की गोष्ठियां हो गई हैं। दोनों समुदायों के लोगों से पुलिस का सीधा संवाद हो चुका है। लगातार संवाद बना हुआ है। प्रयास यह है कि किसी भी तरह की प्रतिक्रिया अयोध्या मुद्दे पर न होने पाए। शांति व्यवस्था बरकार रहे। इसी क्रम में गुरुवार को पुलिस ने पैदल मार्च किया है।
यमुना प्रसाद, पुलिस अधीक्षक।
सार्वजनिक स्थलों पर सीसीटीवी कैमरों की निगरानी
संभल। नगर के बस अड्डों, चौराहों और अन्य सार्वजनिक स्थलों पर लगवाए गए सीसीटीवी कैमरों से निगरानी कराई जा रही है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि नगर में पुलिस का चौकसी तंत्र मजबूत है। पुलिस ने चौकसी के लिए चौराहों पर कैमरे लगवाए हैं। वहीं जरूरत पड़ने पर निजी लोगों की ओर से लगवाए कैमरों की रिकार्डिंग भी देखी जा सकेगी।
पुलिस और पीएसी ने पहरेदारी शुरू की
संभल। नगर के जिन स्थानों पर 9 नवंबर को अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद पुलिस बल तैनात किया गया था। तकरीबन उन्हीं स्थानों पर 6 दिसंबर को लेकर पुलिस की तैनाती की गई है। पूरे नगर में चौकसी बरती जा रही है। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि पुलिस और प्रशासन ने पहले ही संवेदनशील स्थलों को चिह्नित कर लिया था। संवेदनशीलता के हिसाब से पुलिस तैनात की गई है और पहरेदारी की जा रही है। अगर कोई अफवाह फैलाने का प्रयास करता है तो उस पर कड़ी कार्रवाई होगी।
सोशल मीडिया पर निगरानी
संभल। अधोध्या मुद्दे पर पुलिस की नजर सोशल मीडिया पर भी रहेगी। इसलिए सावधानी बरतें। कोई ऐसी बात साझा न करें जिससे कि किसी दूसरे व्यक्ति की भावनाओं को ठेस पहुंचे। यह आग्रह पुलिस प्रशासन की ओर से पहले ही किया जा चुका है। अब पुलिस की ओर से सोशल मीडिया पर निगरानी रखी जा रही है।
पल-पल खबर लेंगे अफसर, आयोजनों की होगी वीडियोग्राफी
संभल। वैसे तो शांति समितियों की बैठकें थाना स्तर पर हो चुकी हैं इन बैठकों में पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों ने कहा है कि अयोध्या मुद्दे पर कोई आयोजन न करें लेकिन अगर फिर भी कोई व्यक्ति सार्वजनिक आयोजन करता है तो उसके आयोजन की वीडियोग्राफी होगी। वीडियोग्राफी को कार्यक्रम के बाद देखा जाएगा अगर कोई बात आपत्तिजनक कही गई है तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई होगी। वहीं आयोजनों के संबंध में अधिकारियों को पल-पल की खबर दी जाएगी।
... और पढ़ें

गोवंशीय पशु की हत्या करते हुए पांच लोग पकड़े, एक भागा, रिपोर्ट दर्ज

संभल। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गोवंशीय की हत्या कर रहे पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। एक आरोपी पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। मौके से मांस, अवशेष और हत्या में इस्तेमाल किए गए औजार बरामद किए हैं।
पुलिस ने आरोपियों पर रिपोर्ट दर्ज कर चालान कर दिया है। वहीं, भागे हुए आरोपी की तलाश की जा रही है। गुरुवार सुबह करीब साढ़े छह बजे मुखबिर ने सूचना दी कि थाना क्षेत्र के अन्तर्गत हसन पैलेस के नजदीक एक घर में छह लोग गोवंशीय पशु की हत्या कर रहे हैं। पुलिस ने मौके पर दबिश दी। आरोपी पुलिस को देखकर भागने लगे। पुलिस ने घेराबंदी कर पांच आरोपियों को पकड़ लिया। जबकि एक भागने में कामयाब रहा। आरोपियों ने पूछताछ में अपनी पहचान नखासा थाना क्षेत्र के मोहल्ला हिंदूपुरा खेड़ा निवासी असद उर्फ काना, पुत्तन, मोहम्मद रफी, ठंडी कोठी दीपा सराय निवासी आसिफ, संभल कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला मियां सराय तस्तपुर निवासी फैजान के रूप में कराई। वहीं, भागे हुए आरोपी की पहचान हिंदूपुरा खेड़ा निवासी नफीस उर्फ लंगड़ा के रूप में कराई। पुलिस ने मौके से गोवंशीय पशु का मांस, अवशेष और यंत्र बरामद किए गए हैं। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ गोवध अधिनियम में रिपोर्ट दर्ज कर चालान किया है। नखासा थाना प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र सिंह धामा ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर दबिश दी गई थी। गोवंशीय पशु की हत्या करते हुए पांच लोग पकड़े गए हैं। एक भाग गया है। भागे हुए की तलाश जारी है।
... और पढ़ें

सिंचाई करने गए युवक की खेत में दौड़े करंट ने ली जान, मचा कोहराम

संभल। पवांसा क्षेत्र के गांव रसूलपुर में करंट की चपेट में आने से किसान की मौत हो गई। परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। हादसा सिंचाई करने के दौरान हुआ। परिजनों का आरोप है कि जर्जर बिजली लाइन के कारण उनके बेटे की जान गई है। हालांकि कार्रवाई के लिए कोई तहरीर नहीं दी गई है। पुलिस कार्रवाई के बिना ही अंतिम संस्कार कर दिया गया है।
सोमवार की सुबह करीब सवा नौ बजे हाईटेंशन लाइन से करंट उतर गया। इस करंट से गांव रसूलपुर निवासी जितेंद्र सैनी (22) पुत्र केसरी सैनी की मौत हो गई। हादसा उस समय हुआ युवक खेत पर आलू की फसल में सिंचाई करने गया था। नलकूप चालू कर जैसे ही खेत में पहुंचा तो हाईटेंशन लाइन में फाल्ट हुआ। इसी दौरान करंट खेत में भरे पानी में उतर गया। करंट ने युवक को अपनी चपेट में लिया तो उसने शोर मचाया। जिसे सुनकर मां शीला और भतीजी स्वाती दौड़ पड़े। नजदीक के खेत में काम कर रहे किसान जितेंद्र भी दौड़े। जैसे ही खेत में घुसने का प्रयास किया तो जितेंद्र को करंट लगा। जिससे वह दूर जा गिरे। उन्होंने गांव खिरनी स्थित बिजली उपकेंद्र को सूचना दी और आपूर्ति बंद करने का आग्रह किया। लेकिन काफी देर बाद आपूर्ति बंद की जा सकी। तब तक युवक की मौत हो गई थी।
परिजनों और ग्रामीणों ने आनन-फानन में संभल के निजी अस्पताल भी दिखाया लेकिन चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजनों में कोहराम मच गया। पीड़ित मां ने बताया कि वह अपने बेटे को बचाने के लिए दौड़ी थी लेकिन करंट ने झटका दे दिया। यदि सूचना के साथ ही बिजली आपूर्ति बंद कर दी जाती तो उसके बेटे की जान बच जाती। लेकिन सूचना के 15 मिनट बाद बिजली आपूर्ति बंद की गई। जिससे उसके बेटे की मौत हो गई।
पीड़ित मां ने बताया कि उसका बेटा अपने चार बहन भाइयों में सबसे छोटा था। ग्रामीणों और परिजनों का कहना है कि युवक की जान जर्जर लाइन के कारण गई है। यदि बिजली विभाग ने इस लाइन को बदल दिया होता तो शायद करंट खेत में नह़ीं दौड़ता। वहीं घटना की जानकारी पुलिस को दिए बिना ही युवक का अंतिम संस्कार कर दिया गया है।
... और पढ़ें
मृतक जितेंद्र सैनी फाइल फोटो मृतक जितेंद्र सैनी फाइल फोटो

रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में जाते समय ट्रैक्टर से गिरकर दादी-पोते की मौत

जुनावई/चंदौसी। गुन्नौर कोतवाली क्षेत्र में ट्रैक्टर पर सवार होकर अपने रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में जा रहे दादी-पोते की हादसे में मौत हो गई गई। हादसा उस समय हुआ जब ट्रैक्टर को एक डीसीएम ने टक्कर मार दी। इस टक्कर से वृद्ध महिला व उसका चार वर्षीय पोता ट्रैक्टर के नीचे सड़क पर गिर गए। दोनों के ऊपर से पहिया गुजर गया। महिला की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि बालक ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। घटना से परिवार में कोहराम मच गया है। आक्रोशित लोगों ने मौके पर रोड जाम कर विरोध प्रदर्शन किया।
धनारी थाना क्षेत्र के गढ़ी बिचौला गांव निवासी फीरोज पुत्र अता मोहम्मद के फुफेरे साले जहीर की दिनौरा गांव में मौत हो गई थी। सूचना आई तो परिजन तत्काल ही ट्रैक्टर पर बैठकर दिनौरा के लिए चल दिए। फिरोज के साथ उसकी मौसी मौलूदन (60), पत्नी नाजरा, बेटा अरकान व अहरान (4) के साथ ट्रैक्टर पर बैठकर चला था। अहरान अपनी मौसेरी दादी मौलूदन की गोद में बैठा था। सोमवार को दोपहर करीब पौने बारह बजे जब फीरोज का ट्रैक्टर जुनावई के गुन्नौर कोतवाली क्षेत्र में पाठकपुर- जुनावई लिंक मार्ग पर बबक्कर पुर के पास पहुंचा, तभी पीछे से एक डीसीएम आ गई।
डीसीएम ने जैसे ही ट्रैक्टर को बाईपास किया तो डीसीएम ट्रैक्टर से टकरा गया। जिससे जोरदार झटका लगा तो वृद्धा मौलूदन व चार साल का अहरान ट्रैक्टर के नीचे गिर गए। उनके ऊपर से ट्रैक्टर का पहिया गुजर गया। जिससे मौलूदन की मौके पर ही मौत हो गई। राहगीरों की सूचना पर यूपी 112 पुलिस मौके पर पहुंची। बच्चे की सांस चलती देखकर उसे उठाकर जुनावई सीएचसी ले गए लेकिन वहां डाक्टर ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया।
गुन्नौर पुलिस मौके पर पहुंच गई। परिजनों ने शवों का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया है। पुलिस ने डीसीएम चालक को पकड़ लिया है। घटना की सूचना से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। आक्रोशित लोगों ने मौके पर जाम लगा दिया। पुलिस ने किसी तरह समझा बुझाकर आधे घंटे बाद जाम खुलवा दिया।
... और पढ़ें

पैथोलॉजी लैब की महिला टेक्नीशियन की गला दबाकर हत्या

गुन्नौर/चंदौसी। गुन्नौर कोतवाली क्षेत्र के बबराला कस्बे में रविवार की मध्यरात्रि के बाद करीब तीन बजे तीन लोगों ने एक पैथोलॉजी लैब की महिला टेक्नीशियन की गला दबाकर हत्या कर दी। तीनों ने महिला के आवास में घुसकर वहां मौजूद एक किशोर को किचन में बंद करने के बाद महिला की गला दबाकर हत्या कर दी गई। मौके पर अपर पुलिस अधीक्षक भी पहुंचे। फिलहाल मृतकों के परिजनों ने हसनपुर (अमरोहा) निवासी लैब संचालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अमरोहा जिले के थाना हसनपुर क्षेत्र के करन खाल गांव निवासी अशोक कुमार राना पुत्र कलुवा व बिजनौर जिले के चांदपुर के मोहल्ला विवेकनगर सराय रफी निवासी हीरा देई उर्फ मंजू पुत्री नेतराम सिंह दोनों में 2017 से पहले चांदपुर की ही पैथोलॉजी लैब में एक साथ काम करते थे। बताते हैं कि इसी दौरान दोनों के बीच प्रेम संबंध भी हो गए। 2017 में मंजू व अशोक राना ने मिलकर बबराला के इंद्रा चौक में अपनी निजी श्री पैथोलॉजी लैब स्थापित कर ली। दोनों अल्ट्रासाउंड भी करने लगे। लेकिन सालभर पहले एसडीएम के छापे में अशोक राना बिना किसी डिग्री के अल्ट्रासाउंड करता मिला तो अल्ट्रासाउंड सील कर दिया गया लेकिन एक्स-रे व पैथोलॉजी में रक्त परीक्षण आदि का कार्य लगातार जारी रहा। बताते हैं कि मंजू लैब के कुछ ही दूरी पर एक किराये के भवन में रहने लगी। लैब में काम करने वाले एक किशोर नरेंद्र कुमार भी उसके साथ रहता था। रविवार की रात करीब तीन बजे तीन लोग खिड़की तोड़कर मंजू के आवास में घुसे।
किशोर नरेंद्र को पकड़कर किचन में बंद कर दिया। उसके बाद मंजू की गला दबाकर हत्या कर दी। आरोपियों के भागने के बाद नरेंद्र ने अशोक राना को फोन पर सूचना दी तो उसने आसपास के लोगों को बताया तो दरवाजा खोलकर देखा गया। मंजू मृत पड़ी थी। नरेंद्र को किचन से बाहर निकाला गया। नरेंद्र के अनुसार तीन लोग घर में घुसे थे।
सूचना मिलने पर गुन्नौर कोतवाली पुलिस के साथ साथ सीओ सिद्धार्थ व एएसपी आलोक कुमार जायसवाल भी पहुंच गए। मृतका के भाई सोमवीर सिंह की तहरीर पर लैब संचालक अशोक कुमार राना के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। मृतका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। हत्यारोपी अशोक राना को गिरफ्तार कर लिया गया है।
... और पढ़ें

विधायक और सांसद के क्षेत्र में सड़क निर्माण के लिए संघर्ष कर रहे ग्रामीण

संभल। गुन्नौर तहसील के गांव रजपुरा स्थित चंदू नगला संपर्क मार्ग की हालत बेहद खराब है। लोगों को गंदगी और कीचड़ से होकर गुजरना पड़ता है। इस मार्ग के निर्माण के लिए ग्रामीण काफी समय से संघर्ष कर रहे हैं। प्रशासन से लेकर जनप्रतिनिधियों तक के चक्कर लगा लगाकर थक चुके हैं। लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो पा रहा है। हैरानी की बात यह है कि इस क्षेत्र में भाजपा के सांसद और विधायक होने के बाद भी सुनवाई नहीं हो रही है।
विधायक ने पत्र काफी समय पहले लिखा था लेकिन कार्रवाई उस पर भी कुछ नहीं हुई। ग्रामीणों का कहना है कि सरकार सड़कों को गड्ढा मुक्त करने की बात कहती है। लेकिन यहां कीचड़ से ही मुक्ति नहीं मिल पा रही है।
गांव रजपुरा स्थित चंदू नगला संपर्क मार्ग पर सहकारी गन्ना समिति का कार्यालय बना हुआ है। इस मार्ग से कई गांवों के लोगों का आना जाना है। साथ ही समिति में करीब 200 गांवों के लोगों का आना जाना लगा रहता है।
दर्जनों बार दुपहिया वाहन चालक गिर गए हैं। घायल हो जाते हैं। ग्रामीणों ने कई बार प्रशासन और जनप्रतिनिधियों से मुलाकात कर समस्या के समाधान की मांग उठाई लेकिन अब तक हालात नहीं सुधर सके।
ग्रामीणों ने बताया कि इस सड़क को खराब हुए काफी समय बीत चुका है। पहले पूरी तरह जर्जर हुई और अब काफी हिस्से में जलभराव और कीचड़ हो गया है। पैदल निकलने वाले ग्रामीण भी परेशानी का सामना करते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्रीय विधायक भाजपा के हैं और सांसद भी भाजपा के हैं। लेकिन सुनवाई किसी की ओर से नहीं हुई। विधायक ने प्रयास किए थे लेकिन वह नाकाफी साबित हुए। यही कारण है जो अब तक सड़क का निर्माण नहीं हुआ।
... और पढ़ें

मायके जाने से मना करने पर विवाहिता ने फंदे से लटक कर दी जान

सौंधन। हयात नगर थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी महिला ने फंदे से लटक कर जान दे दी। इसकी जानकारी ससुरालियों को हुई तो हड़कंप मच गया। इसकी सूचना महिला के मायके वालों को दी। मौके पर पहुंचे मायके वालों ने आपसी समझौते के बाद अंतिम संस्कार कर दिया। इसकी पुलिस को भी कोई सूचना नहीं दी गई। शनिवार की सुबह हयात नगर थाना क्षेत्र के एक गांव में विवाहिता का शव कमरे में लटका हुआ मिला।
ससुरालियों की शव पर नजर पड़ी तो कोहराम मच गया। शोर शराबा होने ग्रामीण आ गए। आनन फानन में शव को फंदे से नीचे उतारा गया और विवाहिता के मायके वालों को सूचना दी। विवाहिता की सास ने बताया कि दो वर्ष पहले उसके बेटे की शादी हुई थी। जिससे एक दस माह की बेटी भी है। शनिवार को बेटा ट्रैक्टर लेकर कहीं बाहर गया था। उसकी पत्नी ने अपने मायके जाने के लिए कहा था। लेकिन पति के आने पर मायके जाने की बात कह दी थी।
इसी बात से वह नाराज हो गई और कमरे में जाकर सो गई। रविवार की सुबह जब काफी देर तक बाहर नहीं आई तो कमरे को जाकर खटखटाया। लेकिन उसके बाद भी कोई आवाज नहीं आई। जब खिड़की से झांक कर देखा तो फंदे से लटकी हुई थी। जिसे देखकर चीख निकल गई।
शोर शराबा होने पर ग्रामीण आ गए। दीवार तोड़ कर कमरे में घुसे और शव को फंदे से नीचे उतारा। वहीं विवाहित की मौत की सूचना पर पहुंचे मायके वालों में कोहराम मच गया। बाद में ससुराल और मायके पक्ष में आपसी समझौता हो गया। पुलिस को सूचना दिए बिना ही अंतिम संस्कार कर दिया।
... और पढ़ें

ड्राइविंग सीखते समय कार ने दो को रौंदा, एक की मौत

धनारी/चंदौसी। धनारी थाना क्षेत्र के दिनौरा में कार चलाना सीखते समय एक युवक का पैर ब्रेक के स्थान पर फुट रेस पर बढ़ गया। जिसके कारण अचानक कार अनियंत्रित होकर दो लोगों के ऊपर चढ़ गई। चालक भाग गया। दोनों घायलों को बहजोई लाया गया। जहां एक की मौत हो गई। मृतक के परिवार में कोहराम मच गया। गुस्साएं लोगों ने ईंट-पत्थरों से कार के शीशे आदि तोड़ दिए।
रविवार को अपराह्न तीन बजे करीब एक युवक घर में खड़ी कार को सीखने के लिए सड़क पर ले आया। गांव के बीच से गुजरते समय एक घर के दरवाजे पर बैठे कई लोगों को देख कर ब्रेक लगाना चाहा लेकिन उसका पैर ब्रेक की बजाय फुट रेस पर पड़ गया। जिससे कार की स्पीड और तेज हो गई। कार दरवाजे पर बैठे दो लोगों के ऊपर चढ़ गई। जिसमें जाहिर (40) पुत्र अमीनुद्दीन व नाजिम पुत्र इस्लाम गंभीर रूप से घायल हो गए।
ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। परिजन घायलों लेकर इलाज के लिए बहजोई लाए। जहां पहुंचते ही जाहिर की मौत हो गई। जिससे परिवार में कोहराम मच गया। परिजन शव को लेकर थाने पहुंचे। पुलिस ने शव का पंचनामा भर कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
नाजिम का इलाज चंदौसी के अस्पताल में चल रहा है। मृतक की पत्नी भूरी बेगम का रोते रोते बुरा हाल हो गया है। मृतक के तीन बच्चे हैं। अब इनकी परवरिश की जिम्मेदारी पत्नी के कंधे पर आ गई। घटना के बाद सैकड़ों लोग एकत्र हो गए। गुस्साई भीड़ ने गाड़ी पर पथराव कर उसके शीशे तोड़ दिए।
... और पढ़ें

उन्नाव रेप कांडः नैतिक रूप से इस्तीफा दें योगी

संभल। नगर के सपा जिला कार्यालय पर सपाइयों ने उन्नाव व अन्य दुष्कर्म पीड़िताओं की मौत हो जाने पर शोक जताया है। सरकार की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए। सभी पीड़िताओं को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई है। साथ ही सभी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। इसके लिए राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौंपा है। इस दौरान तमाम सपाई और सपा के जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।
रविवार को सपा कार्यालय पर हुई शोक सभा में वक्ताओं ने कहा कि सरकार की कानून व्यवस्था लाचार हो चुकी है। इसके कारण ही लगातार आपराधिक घटनाएं हो रही हैं। उन्नाव में दुष्कर्म पीड़ित की मौत पर रोष जताया। आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की। साथ ही दिए ज्ञापन में कहा है कि सरकार ने आम जनता को ठगने का काम किया है। वादों से गुमराह किया गया है। ज्ञापन में राष्ट्रपति शासन लागू किए जाने की मांग उठी है। दरअसल यह शोक सभा प्रदेशभर में सपाइयों ने की है। वहीं चंदौसी में समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता व पदाधिकारियों ने संभल व उन्नाव की बेटी को न्याय दिलाने की मांग को लेकर रविवार को फव्वारा चौक पर गांधी प्रतिमा के निकट धरना देकर प्रदेश सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।
कहा कि सरकार को नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दे देना चाहिए। उन्नाव व संभल की बेटी को न्याय दिलाने के लिए सपा कार्यकर्ता व पदाधिकारी रविवार की दोपहर फव्वारा चौक पर एकत्रित हुए। जहां सभी ने दोनों बेटियों के न्याय दिलाने की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान सपा नेता सतीश प्रेमी ने कहा कि यह प्रदेश सरकार द्वारा कराया गया हत्याकांड है। इसकी नैतिक जिम्मेदारी योगी सरकार की है।
निवर्तमान महासचिव हरवीर यादव ने कहा कि भाजपा सरकार बेटी बचाओ व बेटी पढ़ाओ का नारा देती है। लेकिन इन्हीं की सरकार में बेटियों को बचाया नहीं जा रहा है। छोटे लाल दिवाकर ने कहा कि प्रदेेश में अपराधी खुले आम घूम रहे है, जो कभी भी और कहीं भी अपराध को अंजाम दे सकते है। तनवीर कुुरैशी ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस घटना की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। प्रदेश सरकार को बर्खास्त कर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाना चाहिए।
... और पढ़ें

भाकियू ने हाईवे पर पुतला फूंककर गन्ना मंत्री के खिलाफ की नारेबाजी

बहजोई। भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के बैनर तले नगर के इसलामनगर मेन चौराहा पर गन्ना मंत्री के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला फूंका गया। साथ ही गन्ने की होली भी जलाई गई।
रविवार को दोपहर करीब साढ़े बारह बजे भारतीय किसान यूनियन अराजनैतिक के प्रदेश महासचिव बिजेंद्र सिंह यादव व जिलाध्यक्ष शंकर सिंह यादव के नेतृत्व में किसान पदाधिकारी व किसान एनएच पर स्थित मेन चौराहा पर एकत्र हुए। यहां दोपहर करीब 1 बजे पदाधिकारी व किसानों ने गन्ना मूल्य को लेकर गन्ना मंत्री के खिलाफ नारेबाजी करते हुए पुतला फूंका और गन्ने की होली जलाई। सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।
पदाधिकारियों का कहना था कि केंद्र व प्रदेश की सरकार लगातार किसान विरोधी निर्णय ले रही है। बीते 3 वर्षों से गन्ना मूल्य में सरकार की ओर से कोई वृद्धि नहीं की गई है, जबकि किसान की फसलों की लागत लगातार बढ़ रही है। चीनी के दाम भी 10 से 12 रुपए प्रति किलो बढ़ चुके हैं। इससे साफ होता है कि सरकार गन्ना मिलों से हमसाज हैं। यही कारण है कि चीनी मिलों पर किसानों से लगातार खुली लूट की जा रही है।
मंडी में भी किसानों को लूटा जा रहा है। आए दिन बिजली बिलों, डीजल व रसायनिक दवाओं आदि के मूल्यों में वृद्धि कर किसानों की कमर तोड़ी जा रही है। इससे किसानों में भारी रोष है। यदि यही हाल रहा, तो जल्द ही प्रदेश स्तर पर रणनीति बनाकर प्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा। इस मौके पर मंडल सचिव रामवीर सिंह यादव, चंद्रपाल सिंह यादव, अमर सिंह राजपूत, भुवनेश यादव, धर्मपाल कुशवाहा, रामाशंकर शर्मा हनुमान, मोहर सिंह यादव, संजीव यादव, जीतपाल सिंह, सुलेराम यादव, उदयवीर सिंह, अमरपाल सिंह मौर्य व अजीत पाल सिंह आदि मौजूद रहे। वहीं सुरक्षा व्यवस्था को लेकर प्रभारी निरीक्षक रविंद्र प्रताप सिंह व सिटी इंचार्ज सुंदरलाल मय पुलिस फोर्स के तैनात रहे। इस बीच कुछ समय के लिए यातायात भी प्रभावित रहा।
... और पढ़ें

बिना लाइसेंस के जहरीला धुआं उगल रही ईंट भट्ठा-कोलहुओं की चिमनियां

चंदौसी। सुप्रीम कोर्ट की कड़ी फटकार के बाद केंद्र व प्रदेश सरकार प्रदूषण पर रोक के लिए तमाम प्रयास कर रही है। लेकिन भट्ठा संचालक नियमों को ताक पर कर हवा जहर घोलने का काम कर रहे हैं। कुढ़ फतेहगढ़ क्षेत्र में एक दर्जन से अधिक ईट भट्ठे हैं, जो बिना रायल्टी जमा किए ही संचालित किए जा रहे हैं। कई पर प्रतिबंध भी लगाया जा चुका है। इसके अलावा कई कोल्हू बिना लाइसेंस संचालित किए जा रहे हैं।
चंदौसी तहसील क्षेत्र के कुढ़ फतेहगढ़ क्षेत्र व बनियाठेर थाना क्षेत्रों में किसानों के पराली जलाने पर तो एफआईआर दर्ज कराई जा रही है लेकिन सरेआम बिना लाइसेंस के संचालित हो रहे कोल्हू व बिना ईंट भट्ठों पर जिला प्रशासन व पुलिस का ध्यान नहीं है। ईंट भट्ठा संचालक व कोल्हू सरेआम पर्यावरण प्रदूषण को रोकने संबंधी आदेशों की धज्जियां उड़ा रहे हैं। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार भट्ठा चलाने का समय फरवरी से शुरू होता है तथा बिना रायल्टी जमा किए मिट्टी का खनन भी नहीं होता है। परंतु खनन अधिकारियों व पुलिस की साठगांठ से अवैध खनन का धंधा भी जोरों से फल-फूल रहा है और भट्ठों की चिमनियां हवा में जहर भी घोल रही हैं।
कुढफतेहगढ़ क्षेत्र में एक दर्जन से अधिक ईट भट्ठें हैं, जिनमें से सात भट्ठों पर ईट पकाने का कार्य शुरू हो गया है। संचालकों द्वारा भट्ठों में कोयला की जगह प्लास्टिक पेंट का ई-कचरा तथा यूकेलिप्टस के पत्ते की कुट्टी जलाई जा रही है। जिससे जहरीला धुआ निकल रहा है। सराय ज्वालापुरी के ईंट भट्ठे पर खनन कर रही जेसीबी को खनन अधिकारी ने सीज किया था। संचालक के खिलाफ जुर्माने की कार्रवाई भी की गई।
मुड़िया खेड़ा में खनन अधिकारी सुरेश लाकड़ा ने 16 अक्तूबर को सात ईंट भट्ठो पर चल रहे खनन व ईंट बनाने के कार्य पर रोक लगाई गई, लेकिन एक भी भट्ठे पर कोई कार्य नहीं रुका। 22 नवंबर को एक बार फिर खनन अधिकारी ने ईट भट्ठो का निरीक्षण किया। जिनमें चार भट्ठों के खिलाफ थाना कुढ़फतेहगढ़ में मुकदमा दर्ज कराया गया। लेकिन भट्ठे फिर भी नहीं रुके। सवाल यह उठता है कि किसान अपने खेतों में धान की पराली या फसल के बचे अवशेष कूड़ा करकट को जलाता है तो उस पर सेटेलाइट के माध्यम से कार्रवाई होती है लेकिन इन ईट भट्ठों व कोल्हुओं के प्रदूषण को सेटेलाइट क्यों कबर नहीं कर रहा है। एक गांव में दर्जनों कोल्हू संचालित हैं, जिसमें कई के पास लाइसेंस नहीं हैं।
... और पढ़ें

मानसिक तनाव से जूझ रही किशोरी ने फंदे से झूली

सौंधन। हयात नगर थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी किशोरी ने फंदे से लटक कर आत्महत्या कर ली है। परिजनों को इसकी जानकारी हुई तो हड़कंप मच गया। पुलिस को सूचना दिए बिना ही किशोरी का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। किशोरी मानसिक तनाव से जूझ रही थी।
शुक्रवार की सुबह साढ़े आठ बजे करीब हयात नगर थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 16 वर्षीय किशोरी ने घर के कमरे में फंदे से लटक कर जान दी है। घटना को उस समय अंजाम दिया गया जब परिजन अन्य कार्य में व्यस्त थे। पिता ने कमरे का दरवाजा बंद होने पर खिड़की से झांक कर देखा। किशोरी फंदे से लटकी हुई थी। पिता ने शोर मचाया जिसे सुनकर परिजन व ग्रामीण आ गए।
आनन-फानन में किशोरी को फंदे से नीचे उतारा गया। परिजन गांव के चिकित्सक के पास ले गए। जहां मृत घोषित कर दिया। परिजनों ने बताया कि किशोरी मानसिक तनाव से जूझ रही थी। शुक्रवार को आत्महत्या करने से पहले पशुओं को चारा डालने गई थी। इसी दौरान रस्सी ले आई और कमरे में पहुंचकर फंदे से लटक कर जान दे दी। परिजनों ने पुलिस को सूचना दिए बिना ही अंतिम संस्कार कर दिया है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election