विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

IPS बनी गोरखपुर की बेटी एमन, सीएम योगी ने मुस्लिम लड़कियों के लिए बताया रोल मॉडल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहर की ऐमन जमाल का भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) में चयन होने पर शुभकामनाएं दीं।

10 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

संत कबीर नगर

मंगलवार, 10 दिसंबर 2019

एनकाउंटर में यहां की पुलिस भी पीछे नहीं, किसी को सिर पर गोली मारी, किसी को पैर पर

ओवरटेक कर बोलेरो चालक को पीटा, लूटपाट

ओवरटेक कर मनबढ़ों ने बोलेरो चालक को पीटा
धनघटा। महुली क्षेत्र में शुक्रवार रात तीन मनबढ़ युवकों ने एक बोलेरो चालक को घेरकर रोक लिया और मारपीट कर घायल कर दिया। पीड़ित चालक ने छह हजार रुपये और मोबाइल छीनने का भी आरोप लगाया है। पीड़ित ने शनिवार को पुलिस को तहरीर दी है।
धनघटा थाना क्षेत्र के परसहर गांव निवासी सुरेंद्र प्रकाश तिवारी पुत्र धुव्र नाथ तिवारी का आरोप है कि वह शुक्रवार को खलीलाबाद में मरीज को छोड़कर बोलोरो से लौट रहे थे। तभी महुली क्षेत्र के मानपुर गांव के पास बाइक सवार शनिचरा बाबू निवासी तीन मनबढ़ युवक गाली-गलौच करने कार ओवरटेक कर उन्हें पुलिया के पास उनकी बोलेरो को रुकवा लिया। आरोप है कि तीनों युवक जबरदस्ती बोलेरो के अंदर घुस गए। इसी दौरान एक युवक ने हेलमेट से उसके सिर पर हमला किया तो दूसरे ने नाक पर घुसा जड़ दिया। आरोप है कि इस दौरान युवकों ने उसकी जेब में रखा छह हजार रुपये व मोबाइल छीन लिया। हमले से सुरेंद्र प्रकाश तिवारी घायल हो गए। पीड़ित ने शनिवार को पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की। एसओ प्रदीप सिंह ने बताया कि प्रथम दृष्टया जांच पड़ताल में पाया गया कि शनिचरा बाबू गांव के तीन युवकों ने साइड न देने पर बोलेरों चालक को मारा पीटा था। घायल चालक को डॉक्टरी परीक्षण के लिए भेजा गया है। जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

पीएम आवास का हाल ः किसी ने किस्त से खरीदी बाइक, कहीं कोर्ट पेंच

प्रधानमंत्री आवास योजना का हाल
किसी ने किस्त से खरीदी बाइक कहीं कोर्ट का पेंच
संतकबीरनगर। गरीबों को आशियाना मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण योजना का जिले में बुरा हाल है। आलम यह है कि तीन वित्तीय वर्षों का अब तक 268 आवासों का निर्माण शुरू तक नहंी हो पाया है। इसमें आठ ऐसे लाभार्थी है, जो पहली किस्त लेकर परिवार सहित लापता हैं। एक लाभार्थी ने तो आवास की रकम लेकर बाइक खरीद ली है और परिवार समेत लापता है। ऐसे लाभार्थियों को प्रशासन ढूंढने में परेशान है।
वित्तीय वर्ष 2016-17 में जिले को 6586 प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण का लक्ष्य मिला था। इसमें 6502 लाभार्थियों ने आवास बना लिया। जबकि छह लाभार्थी अपात्र पाए गए। जिनकी प्रथम किस्त की धनराशि प्रशासन ने वापस कराई। जबकि वित्तीय वर्ष 2017-18 में 6784 पीएम आवास का लक्ष्य मिला। इसके सापेक्ष 6610 लाभार्थियों का आवास बना। जबकि 15 लाभार्थी अपात्र पाए गए। जिनसे सरकारी धन की रिकवरी कराई गई। वित्तीय वर्ष 2018-19 में 3834 पीएम आवास का लक्ष्य था और 3794 लाभार्थियों का आवास पूर्ण हुआ। जबकि नौ लाभार्थी अपात्र पाए गए। इनकी रकम की भी रिकवरी कराई गई। इस प्रकार तीनों वित्तीय वर्षों में 298 पीएम आवास अपूर्ण रह गए, जिसमें से 30 आवासों की रकम की रिकवरी तो प्रशासन ने करा लिया। लेकिन नौ ऐसे लाभार्थी ऐसे थे जिनकी किश्त दूसरे के खाते में चली गई। सेमरियावां विकास खंड के देवरिया विजयी गांव निवासी लाभार्थी उग्रसेन, खलीलाबाद ब्लॉक के मोहम्मदपुर कठार गांव निवासी वसीउल्लाह, दिक्तौली गांव निवासी रामबहादुर की पहली किस्त की ही धनराशि गलत खाते में भेजी गई। जबकि बेलहर ब्लॉक के कुसुरु खुर्द गांव निवासी लालती, पौली ब्लॉक क्षेत्र के मुठही खुर्द गांव निवासी वीरेंद्र, मुठही कला निवासी सुभावती, लौकिया गांव निवासी सुभावती, सेवाईपार निवासी सुभावती और सांथा ब्लॉक क्षेत्र के अठेलिया गांव निवासी रामकुबेर की दूसरी किस्त की धनराशि दूसरे खाते में भेज दी गई। जबकि शेष 259 लाभार्थियों में से पांच ऐसे लाभार्थी है। जिनकी मृत्यु हो चुकी है और उनका कोई वारिश नहीं है। इसके अलावा आठ ऐसे लाभार्थी है जो पहली किश्त की धनराशि लेकर परिवार सहित चंपत हैं। 12 लाभार्थी ऐसे है जिनका जमीन विवाद कोर्ट में विचाराधीन है, जिससे उनका आवास नही बन पा रहा है। शेष बचे 234 आवासों में से 45 ऐसे लाभार्थी है। जिनका आवास आपसी विवाद की वजह से नहीं शुरू हो पा रहा है। कई ऐसे मामले में पति-पत्नी के बीच विवाद और भाई-भाई के बीच विवाद होने से आवास निर्माण में पेंच फंस गया है। इसके अलावा शेष बचे 189 लाभार्थियों का आवास अपूर्ण होने के पीछे वजह पैसा विलंब से मिलना बताया जा रहा है। इन लाभार्थियों को दो किस्त की धनराशि दे दी गई,लेकिन आवास शुरू नहीं किया गया है।
इंसेट
परियोजना निदेशक ने तैयार किया खाका
डीआरडीए के परियोजना निदेशक प्रमोद यादव ने बताया कि यह सच है कि तीन वित्तीय वर्षों का 298 आवास नहीं बन पाए हैं। इसमें आठ ऐसे लाभार्थी है जो पहली किस्त लेकर फरार हैं और उनकी तलाश कराई जा रही है। बीडीओ के स्तर से जो रिपोर्ट प्राप्त हुई है वह चौंकाने वाली है। जैसे तामा के लाभार्थी रामललित ने पहली किस्त प्राप्त की और उसी रकम से बाइक खरीद ली। खाजो की सरोज और सीयर खुर्द की मालती भी पहली किस्त लेकर परिवार समेत लापता हैं। बीडीओ को निर्देश दिए गए है कि जिन लाभार्थियों के पैसे गलत खाते में गए हैं बैंकों से बाउचर निकलवा कर खाता सही कराएं। फिर सही खाते में पैसा भिजवाएं। जो लाभार्थी पहली किस्त लेकर लापता हो गए हैं। उनके खिलाफ वसूली आदेश जारी कराएं। साथ ही एफआईआर दर्ज कराएं। जिन लाभार्थियों के आवास कोर्ट के स्थगन आदेश की वजह से शुरू नहीं हो पा रहे है। इनमें एसडीएम कोर्ट में चलने वाले मामलों को चिन्हित करें और एसडीएम से अनुरोध करके उसका निस्तारण जल्दी कराएं। जो आवास पारिवारिक विवाद में फंसे है,उसमें प्रधान स्तर से पंचायत करके सुलह समझौते के माध्यम से शुरू कराएं। इसके अलावा विलंब से पैसा मिलने की वजह से जो 189 आवास शुरू नहीं हुए, उन लाभार्थियों को नोटिस जारी करें। इसके साथ ही सचिवों को चेतावनी नोटिस जारी करते हुए दिसंबर तक हर हाल में इन आवासों को पूरा कराएं। इसमें जिसके स्तर पर लापरवाही बरती जाएगी, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
... और पढ़ें

सीओ के खिलाफ व्यापारियों ने किया प्रदर्शन

क्षेत्राधिकारी पर लगाया अतिक्रमण हटाने के नाम पर अभद्रता का आरोप
संवाद न्यूज एजेंसी
संतकबीरनगर। अतिक्रमण हटाने के नाम पर व्यापारियों के साथ अभद्रता किए जाने का आरोप लगाते हुए व्यापारियों ने मंगलवार को मेंहदावल बाईपास चौराहे पर प्रदर्शन किया। व्यापारियों ने चेतावनी दी कि व्यापारियों का उत्पीड़न बंद किया जाए, अन्यथा वृहद आंदोलन छेड़ा जाएगा।
पूर्वांचल उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सर्वदानंद पांडेय से कुछ व्यापारियों ने शिकायत किया कि सीओ सदर अपने सहयोगियों के साथ अतिक्रमण हटाने के नाम पर व्यापारियों से अभद्र व्यवहार कर रहे हैं। इसके बाद व्यापारी मेंहदावल बाईपास पहुंच गए और प्रदर्शन किया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि वह खुद ही अतिक्रमण के खिलाफ हैं, लेकिन जिस प्रकार से व्यापारियों के साथ व्यवहार किया जा रहा है, वह ठीक नहीं है।
व्यापारी समाज सरकार को टैक्स देकर विकास में योगदान दे रहा है, लेकिन उसे उत्पीड़न का शिकार होना पड़ता है। इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। व्यापारियों ने कहा कि प्रशासन को अपना रवैया बदलना चाहिए, ऐसा न होने पर आंदोलन को तेज किया जाएगा।
प्रदर्शन के दौरान महेश गुप्ता, तीरथराज गुप्ता, रामजी गुप्ता, बैजनाथ जायसवाल, सत्येंद्र सिंह, नागेंद्र सिंह, जगदीश सिंह, विनोद जायसवाल, मूलचंद्र मौर्य, भोला प्रजापति, राजू मद्देशिया, टुन्नू लाला, राकेश सिंह, हरिलाल चौरसिया आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

ससुराल गए मजदूर की संदिग्ध हाल में मौत

मामले की जांच पड़ताल में जुटी पुलिस
अमर उजाला ब्यूरो
धनघटा। उमरिया बाजार में ससुराल गए एक मजदूर की संदिग्ध हाल में मौत हो गई। मंगलवार को सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुट गई।
मनकूपुर निवासी 55 वर्षीय हरीराम की ससुराल उमरिया बाजार निवासी लालमन के घर है। पत्नी मायके में थी। जबकि तीन बेटे दिल्ली में रहकर मेहनत मजदूरी करते हैं। सोमवार शाम हरीराम अपने ससुराल पहुंचे। उनकी पत्नी लालमती व साले लालमन ने बताया कि हरीराम अत्यधिक शराब के नशे में थे। वह बगैर भोजन किए सो गए। सुबह जब बिस्तर से नहीं उठे तो पत्नी उन्हें जगाने के लिए पास गई तो वह मृत हाल में पड़े थे। हरीराम की मौत को लेकर तरह- तरह की चर्चा होने लगी। कोई उनकी हत्या की आशंका जता रहा था तो कोई शराब जहरीली होने की बात कह रहा था। हरीराम की मौत किस कारण से हुई, इसका पता तो पोस्टमार्टम के बाद ही चल सकेगा।
प्रभारी थानाध्यक्ष विवेकानंद तिवारी ने बताया कि मृतक के बेटे दिल्ली से घर लौट रहे हैं। देर शाम तक उनके पहुंचने की संभावना है। उनके आने के बाद ही इस मामले में कोई कार्रवाई की जाएगी। मृतक हरीराम शराब पीने के आदी थे।।
... और पढ़ें

छुट्टा पशुओं से परेशान किसानों ने मेंहदावल-नंदौर मार्ग किया जाम

छुट्टा पशुओं से परेशान किसानों ने मेंहदावल-नंदौर मार्ग किया जाम
करीब डेढ़ घंटे तक बाधित रहा आवागमन, आश्वासन के बाद माने किसान
संवाद न्यूज एजेंसी
मेंहदावल। गगनई राव, गगनई बाबू व धौरापार गांव के किसानों ने मंगलवार को गगनई राव के ग्राम प्रधान अनिल निषाद के नेतृत्व में मेंहदावल तहसील मुख्यालय का घेराव कर मेंहदावल- नंदौर मार्ग जाम कर दिया। आरोप था कि शिकायत के बाद भी प्रशासन छुट्टा पशुओं से क्षेत्र को मुक्त कराने में नाकाम है। बाद में अफसरों के आश्वासन पर लोग माने और जाम खोला। इससे करीब डेढ़ घंटे तक यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।
मेंहदावल क्षेत्र के गगनई राव, धौरापार, गगनई बाबू के किसान तहसील पर पहुंचे और छुट्टा पशुओं से हो रहे फसलों के नुकसान का मामला उठाते हुए एसडीएम से समस्या से निजात दिलाने की मांग की और फिर मार्ग जाम कर दिया। किसानों ने कहा कि मेंहदावल क्षेत्र छुट्टा पशुओं से की समस्या से जूझ रहा है। छुट्टा पशु फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। फसलों के नुकसान की शिकायत लगातार की जा रही है। इसके बाद भी प्रशासन सुध नहीं ले रहा है। किसानों ने कहा कि क्षेत्र में खोली गईं गोशालाएं कागजों में चल रही हैं। गौशाला में पशु तब बांधे जाते हैं जब कोई अधिकारी गोशाला का निरीक्षण करने आता है। जाम की सूचना मिलने पर सीओ गयादत्त मिश्रा, व थानाध्यक्ष रविंद्र कुमार गौतम ने किसानों से बात की। इसके बाद खंड विकास अधिकारी के समक्ष किसानों ने इस समस्या से निजात दिलाने के लिए गोशाला का निर्माण व छुट्टा पशुओं को पकड़कर गोशाला में रखने के निर्णय पर सहमति बनी, तब जाकर करीब डेढ घंटे बाद रास्ता जाम खत्म हुआ।
इस दौरान संतोष सिंह, पारसनाथ, यादव बाबूलाल, भोलानाथ, लालमति, रामदेव, राम सुभाग, छोटेलाल, सुखाई सहदेव, उदय राज, नंदलाल, परदेशी, विश्वनाथ,सत्यवीर सिंह, रामदयाल यादव, अर्जुन निषाद, राजकुमार साहनी, चंद्रावती, राधिका, अजोरा, मोहनलाल, लक्ष्मण आदि लोग मौजूद रहे।
... और पढ़ें

संतकबीरनगर: फिल्मी अंदाज में बीपीएम को बैठक से ले गई प्रयागराज पुलिस

ये दर्द है दिल्ली में हुए अग्निकांड में मारे गए राहुल के संतकबीर नगर रहते परिजनों का
महुली क्षेत्र के सीएचसी नाथनगर में सोमवार को आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम की बैठक में से ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर को सादे कपड़े में आए कार सवार तीन लोग फिल्मी अंदाज में साथ ले गए।

देखते ही देखते अपहरण की चर्चा फैल गई। सूचना पर पुलिस भी पहुंची। जांच में पता चला कि एक मुकदमे में आरोपी बनाए जाने की वजह से बीपीएम को प्रयागराज पुलिस अपने साथ ले गई। बीपीएम को उठाकर ले जाने के तरीके से साथी स्वास्थ्य कर्मियों में पुलिस के खिलाफ रोष व्याप्त है।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नाथनगर की दूसरे मंजिल नियमानुसार सोमवार को आशा कार्यकर्ताओं व एएनएम की बैठक हो रही थी। इसमें ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर अमित कुमार सोनकर भी थे। तभी दो लोग वहां पहुंचे और ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर अमित कुमार को किनारे बुलाया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, कुछ मिनट बात करने के बाद वापस भेज दिया। फिर दोनो दोबारा आए और अमित कुमार को बुलाया। ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर को साथ लेकर नीचे उतरे। परिसर में खड़ी कार जिसे चालक पहले से स्टार्ट किए था, उसमें जबदस्ती बैठाया जाने लगा।

इस पर ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर ने शोर मचाया तो आसपास के लोग दौड़े। इसी दौरान कार में मौजूद लोगों ने हाथों में असलहा लहराते हुए कार लेकर विश्वनाथपुर की तरफ लेकर चले गए।

सूचना पर स्थानीय पुलिस भी पहुंची। इधर पीड़ित पिता छेदीलाल सोनकर कार सवार अज्ञात लोगों के जरिए बेटे को उठा ले जाने की सूचना देने एसपी कार्यालय पहुंचे थे। एसओ प्रदीप कुमार सिंह ने बताया कि ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर अमित कुमार सोनकर की पत्नी ने प्रयागराज के करनैलगंज थाने में धोखाधड़ी करके शादी कर लेने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है। इसी मामले में आरोपी बनाए गए अमित कुमार को प्रयागराज के करनैलगंज थाने की पुलिस ले गई। इनके अपहरण की सूचना गलत है।
... और पढ़ें

ससुर और बहू पर हंसिए से हमला

बखिरा। करैली गांव में खेत के मेड़ के विवाद को लेकर रविवार को दो पक्षों में विवाद हुआ। आरोप है कि एक पक्ष ने दूसरे पक्ष के ससुर और बहू को धारदार हथियार से हमला करके घायल कर दिया। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने पांच लोगों पर गोलबंद होकर मारने-पीटने और एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया।
पीड़िता रंभा देवी का आरोप है कि आठ दिसंबर को वह ससुर लल्लन के साथ खेत पर गईं थीं। वहां गांव के दो लोगों ने ट्रैक्टर से उसके खेत के मेड़ को जुतवा लिया है। विरोध करने पर विरोधियों व तीन अन्य लोगों के साथ लाठी, डंडा व हंसिया से उसके व ससुर पर हमला कर दिया। इस घटना में उसे और ससुर को काफी चोटें आईं। हंसिया के प्रहार से शरीर पर कई जगह गंभीर चोटें आईं है। एसओ अखिलानंद उपाध्याय ने बताया कि पीड़िता की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर रामप्रीत, मदनलाल, प्रमोद, रामजी व साहिल यादव के खिलाफ बलवा, धारदार हथियार से हमला करने, गाली गलौज देने और एससी/एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

बाप-बेटों पर छेड़खानी का केस दर्ज

धनघटा। महिला से छेड़छाड़ और जाति सूचक शब्दों से अपमानित करने के आरोप में महुली पुलिस ने बगल गांव के रहने वाले एक पिता और उसके दो बेटों के खिलाफ छेड़खानी और एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया। पुलिस ने यह कार्रवाई सीओ के निर्देश पर की।
महिला का आरोप है कि करीब ढाई महीने पहले की रात 11 बजे बजे वह बच्चों के साथ घर की छत पर सोई हुई थी। उसी दौरान पड़ोस के गांव से लोग चोर- चोर की आवाज कर रहे थे। शोर सुनकर वह जग गई। टार्च जलाकर देखा तो दो लोग उसकी घर की तरफ से जाते हुए दिखाई दिए। उसने उन्हें पहचान लिया। इसके बाद से जब भी वह उनके दरवाजे से अपने खेत को देखने जाती है, ये लोग टिप्पणी करते और छेड़छाड़ करने की बात कहते हुए जाति सूचक अपशब्द कहते । जिसकी सूचना थाने पर देने के बाद कोई करवाई नही हुई। बाद में सीओ को प्रार्थना पत्र देकर कार्रवाई की गुहार लगाई। सीओ के निर्देश पर सभाजीत यादव, इंद्रजीत यादव और राम नवल यादव के खिलाफ छेड़छाड़ व एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया।
... और पढ़ें

बैंकों की सुरक्षा पर हुआ मंथन

संदिग्ध व्यक्तियों को बैंक में न घुसने देने और पुलिस को सूचना देने का निर्देश
डीएम की अध्यक्षता में बैंकों के शाखा प्रबंधकों की बैठक हुई
संवाद न्यूज एजेंसी
संतकबीरनगर। बस्ती में आईसीआईसीआई बैंक में हुई लूट के बाद जिले में भी प्रशासन सतर्कता बरत रहा है। सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में डीएम रवीश गुप्त की अध्यक्षता में बैंकों के शाखा प्रबंधकों की बैठक हुई। जिसमें बैंकों की सुरक्षा को लेकर विचार विमर्श किया गया है।
डीएम रवीश गुप्त ने कहा कि शाखा प्रबंधक अपने अपने बैंकों में सुरक्षा गार्ड, सायरन, सीसीटीवी, नाइट विजन सीसीटीवी, एटीएम मशीन के पास सीसीटीवी कैमरा को प्रतिदिन चेक करा लें, अगर उसमें खराबी हो तो उसे तत्काल सही कराएं। इसके साथ ही अपने अपने बैंक क्षेत्र के एसओ का मोबाइल नंबर बैंक के कर्मचारियों के पास उपलब्ध करा दें। इसके साथ ही अधिक रकम के लेनदेन वाले बैंकों की सुरक्षा आदि की समीक्षा एसओ के साथ बैठक कर ली जाए। एसपी ब्रजेश सिंह ने कहा कि समस्त एसओ बैंकों की सुरक्षा लेकर रणनीति बना लें। बारी बारी से पुलिस कर्मियों की ड्यूटी बैंकों पर निर्धारित कर दे। बैठक में उपस्थित सभी बैंक शाखाओं के मैनेजरों को बैंक सुरक्षा में कार्यरत सुरक्षा गार्डों के शस्त्रों के नवीनीकरण करवाने व बिना किसी कार्य के बैंक में घूमने वाले संदिग्ध व्यक्तियों को बैंक शाखाओं में प्रवेश न देने व तत्काल पुलिस को सूचना देने का निर्देश दिया गया। बैठक में एडीएम रणविजय सिंह समेत समस्त बैंकों के शाखा प्रबंधक आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

सात लोगों पर मुकदमा दर्ज

मारपीट के मामले में कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने की कार्रवाई
अमर उजाला ब्यूरो
बखिरा। इमिलिया गांव में एक महिला की हुई पिटाई के मामले में सोमवार को पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर सात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। पीड़िता का आरोप है कि घटना एक साल पहले की है। थाने से लेकर एसपी कार्यालय का दौड़ लगाई,लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। मजबूरन कोर्ट की शरण में गई।
मनीषा पत्नी राजन का आरोप है कि पुरानी रंजिश को लेकर गांव के कुछ लोगों ने गोलबंद होकर 19 दिसंबर 2018 को हाथ में लाठी डंडा लेकर उसके घर में घुस आए थे। जान बचाने के लिए वह घर में भागी, लेकिन विरोधियों ने उसे पकड़ कर जाति सूचक शब्दों से अपमानित किया और लाठी डंडे से मारा पीटा। शोर मचाने पर बीच- बचाव में पहुंची गांव की एक अन्य महिला को भी लोगों ने मारा पीटा। अन्य ग्रामीणों के जुटने पर आरोपियों ने शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी दी और चले गए। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए वह थाने का चक्कर काटती रही। 17 जनवरी को पुलिस अधीक्षक से भी इसकी शिकायत की,फिर भी कार्रवाई नहीं हुई। एसओ अखिलानंद उपाध्याय ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर इमिलिया निवासी अब्दुल मोबिन, मोहम्मद ईशा, हजारा खातून, इब्राहिम, तजबुन्निशान, शबीना खातून व एक अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी गई है।
... और पढ़ें

तीन युवक एक बाइक पर लौट रहे थे घर, कंटेनर ने मारी टक्कर और दो युवकों को कुचला

सन्तकबीरनगर जिले के दुधारा इलाके में बीएमसिटी मार्ग पर कोइलसा के पास शनिवार देर रात कंटेनर की चपेट में आने से बाइक सवार दो यवकों की मौके पर मौत हो गई, जबकि तीसरा युवक घायल हो गया। घायल का मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में उपचार चल रहा है।

बेलहर इलाके के सांथा के रहने वाले 21 वर्षीय मनोज कुमार और बखिरा इलाके के विजय कुमार पुत्र मोहन लाल व रसूलपुर चौधरी गांव निवासी 40 वर्षीय अशोक कुमार पुत्र राम बली शनिवार रात एक ही बाइक से बस्ती की ओर से घर लौट रहे थे। अभी लोग दुधारा इलाके के कोइलसा गांव के पास पहुंचे ही थे। उसी दौरान कंटेनर की चपेट में आ गए।

हादसे में मनोज और विजय की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि अशोक कुमार घायल हो गए। घटना के बाद आस पास के लोग पहुंच गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल को एंबुलेंस से जिला अस्पताल भेजा, जहां से डॉक्टर ने घायल अशोक को मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया। प्रत्यक्ष दर्शियों के अनुसार सामने से कंटेनर ने बाइक सवारों को टक्कर मारी थी।

बाद में बाइक सवारों के ऊपर से दो अन्य कंटेनर भी गुजर गए थे। एसओ गौरव सिंह ने बताया कि सिर्फ घायल अशोक ने हेलमेट का प्रयोग किया था। लोगों ने ये भी बताया कि केवल अशोक ही बाइक भी चला रहे थे।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election