विज्ञापन
विज्ञापन
कराएं वसंत पंचमी पर बासर के सरस्वती मंदिर में पूजा, पढ़ाई व प्रतियोगी परीक्षाओं में मिलती है सफलता :29 जनवरी 2020
Astrology Services

कराएं वसंत पंचमी पर बासर के सरस्वती मंदिर में पूजा, पढ़ाई व प्रतियोगी परीक्षाओं में मिलती है सफलता :29 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

नेताओं का पढ़ा-लिखा होना जरूरी नहीं, शिक्षित लोग गलत माहौल पैदा करते हैं: यूपी के मंत्री

यूपी के जेल मंत्री जेके सिंह जैकी ने एक अजीबोगरीब बयान दिया है। उन्होंने कहा कि पढ़े-लिखे लोग माहौल खराब करते हैं। नेताओं का पढ़ा-लिखा होना जरूरी नहीं है। इसकी कोई जरूरत नहीं है।

29 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

श्रावस्ती

बुधवार, 29 जनवरी 2020

रेंजर पर लकड़हारों ने किया हमला, वन कर्मियों ने दो को दबोचा

सिरसिया (श्रावस्ती)। संरक्षित वन क्षेत्र सोहेलवा में लकड़हारों को लकड़ी काटने से मना करना रेंजर को भारी पड़ा। गुरुवार शाम जंगल से लौटते समय दो लकड़हारों ने रेंजर की पिटाई कर दी। इस दौरान साथ में मौजूद वन कर्मियों ने रेंजर को बचाकर दो लकड़हारों को दबोच लिया। मामले में रेंजर की तहरीर पर पुलिस ने लकड़हारों के विरुद्ध वन अधिनियम व एससी एसटी एक्ट में मामला दर्ज कर लिया है।
सिरसिया थाना क्षेत्र में पड़ने वाला पूर्वी सोहेलवा जंगल बंगाल टाइगर के लिए रिजर्व है। जहां मानव प्रवेश पूर्णतया प्रतिबंधित है। इसके बावजूद वन माफिया व लकड़हारे जंगल में जाकर प्रतिबंधित पेड़ काट रहे हैं। इनमें से जहां कीमती प्रजाति की लकड़ियों का बूट बना कर उन्हें गैर जिलों में भेजा जा रहा है। वहीं तमाम लोगों की ओर से उसकी जलौनी बना कर आसपास के गांव व बाजार में बेचा जा रहा है।
गुरुवार शाम जंगल पहुंचे वनक्षेत्राधिकारी पूर्वी सोहेलवा मदनलाल ने जंगल में चोरी से लकड़ी काट रहे कुछ लकड़हारों को पकड़ लिया। इनसे पूछताछ के बाद वह दो लकड़हारों को अपने साथ वन कार्यालय ले जा रहे थे। जैसे ही रेंजर लकड़हारों को लेकर ग्राम गब्बापुर के उत्तर जंगल से बाहर पहुंचे, तभी लकड़हारों ने उन पर हमला कर दिया। इसमें रेंजर को गंभीर चोट आई।
इस दौरान साथ में मौजूद वन कर्मियों ने हमलावर चिल्हरिया निवासी सालिकराम यादव व हवलदार यादव को दबोच लिया। जिन्हें सिरसिया थाने ले जाया गया। जहां रेंजर की तहरीर पर सिरसिया पुलिस ने मामला दर्ज कर घायल रेंजर को प्राथमिक उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिरसिया पहुंचाया। जहां चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें वापस पूर्वी सोहेलवा रेंज भेज दिया। इस मामले में प्रभारी निरीक्षक सिरसिया विनोद कुमार ने बताया कि रेंजर पर हुए हमले के मामले में केस दर्ज कर पूछताछ की जा रही है।
... और पढ़ें

तफ्तीश में लापरवाही पर होगी कार्रवाई

विवेचना में लापरवाही पर होगी कार्रवाई
एएसपी ने महिला थाने का किया निरीक्षण, जांचे अभिलेख
संवाद न्यूज एजेंसी
फोटो - 08,09
श्रावस्ती। एएसपी ने गुरुवार को महिला थाने का वार्षिक निरीक्षण किया। यहां उन्होंने लंबित मुकदमों की समीक्षा की तो 25 विवेचनाएं लंबित मिली। इस पर नाराजगी जताते हुए एएसपी ने विवेचकों को जांच पूरी करने का निर्देश दिया। लापरवाही पर कार्रवाई की चेतावनी दी। इस दौरान उन्होंने थाना परिसर का निरीक्षण भी किया।
अपर पुलिस अधीक्षक बीसी दूबे ने गुरुवार को महिला थाने का वार्षिक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने थाना परिसर, आगंतुक कक्ष, हवालात, मालखाना, शस्त्रागार, भोजनालय, थाना कार्यालय का निरीक्षण किया। इसके बाद थाने में मौजूद अभिलेखों की जांच की। वहां रखे शस्त्रों, अभिलेखों आदि की साफ सफाई व रख रखाव की जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान उन्हें कई स्थानों पर गंदगी देखने को मिली। इस पर नाराजगी जताते हुए प्रभारी निरीक्षक केके यादव को सफाई व्यवस्था चुस्त दुरुस्त रखने का निर्देश दिया। इसके बाद उन्होंने थाने पर तैनात विवेचकों के साथ बैठक कर लंबित मुकदमों की समीक्षा की। थाने में कुल 25 मुकदमे लंबित मिलने पर नाराजगी जताते हुए एएसपी ने विवेचकों से विवेचनाओं व शिकायती पत्रों का गुणवत्तापूर्ण ढंग से निपटारा करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि थाने में महिलाओं के जो प्रकरण व शिकायती पत्र आ रहे हैं, उसे तत्काल एक रजिस्टर में दर्ज किया जाए। इसके बाद प्रकरणों का निपटारा त्वरित रूप से करें। निस्तारण की समीक्षा हर पंद्रह दिन में करें। पीड़ित महिला से फोन पर बात करके यह सुनिश्चित करें कि अब उन्हें किसी प्रकार की समस्या तो नहीं। इस दौरान सभी विवेचक, उप निरीक्षक, प्रधान आरक्षी व आरक्षी मौजूद रहे।
उधर एसपी के निर्देश पर गुरुवार को सभी सर्किल में सीओ ने अपराध समीक्षा बैठक की। इसमें सीओ ने अपने अपने क्षेत्रों के थानों में लंबित विवेचनाएं, अपराध की स्थिति, रोकथाम के लिए की गई कार्रवाई, प्राप्त जन शिकायत व उसके निस्तारण के बारे में जानकारी ली। भिनगा में सीओ डॉ. जेबी सिंह तो जमुनहा में हौसला प्रसाद ने समीक्षा की।
... और पढ़ें

गन्ना बिक्री व भुगतान के लिए चक्कर लगा रहे किसान

श्रावस्ती। गन्ना किसानों की मुसीबतें कम नहीं हो रही। एक तरफ जहां उन्हें फसल बेचने के लिए क्रय केंद्रों पर कई दिनों तक इंतजार करना पड़ रहा है। वहीं दूसरी ओर किसी भी गड़बड़ी व बकाया भुगतान के लिए किसानों को बहराइच व बलरामपुर के चक्कर भी लगाने पड़ रहे हैं।
चिलवरिया मिल पर ही जिले के किसानों का लगभग सत्तर करोड़ रुपया पुराना बकाया है। वहीं नए सत्र में भी 15 करोड़ रुपये का गन्ना खरीदा जा चुका है। इसका भुगतान अभी न के बराबर हो पा रहा है। चिलवरिया चीनी मिल को अपनी फसल बेचना किसानों के सामने मजबूरी है। जिले में कुल 28 गन्ना क्रय केंद्र बनाए गए हैं, इसमें से 12 चिलवरिया चीनी मिल के हैं।
भले ही सरकार चीनी मिलों को गन्ना किसानों का बकाया भुगतान के लिए आदेश जारी कर रही हो, लेकिन उसका लाभ उनको नहीं मिल रहा है। इसके चलते अब गन्ना किसानों के लिए यह खेती महंगी व मुसीबत भरी हो चुकी है। इसका कारण पहले कई दिनों तक लगने वाली क्रय केंद्रों पर लंबी कतार। इस कतार से जूझ कर गन्ना तौल कराने के बाद महीनों तक भुगतान के लिए किसानों को चीनी मिल का चक्कर लगाना पड़ रहा है।
यदि आंकड़ों पर गौर करें तो श्रावस्ती जिले में गन्ने का क्षेत्रफल लगभग पंद्रह हजार हेक्टेअर है। इस गन्ने को खरीदने के लिए जिले में कुल चार चीनी मिलें अधिकृत हैं। इन चीनी मिलों को गन्ना आपूर्ति के लिए 28 क्रय केंद्र बनाए गए हैं। इसमें से 11 क्रय केंद्र बलरामपुर चीनी मिल के हैं।
इसी ग्रुप की तुलसीपुर चीनी मिल के दो क्रय केंद्र, उतरौला स्थित पिटईमैदा चीनी मिल के तीन केंद्र व बहराइच स्थित चिलवरिया चीनी मिल के 12 क्रय केंद्र हैं। इनके माध्यम से किसानों का गन्ना खरीदा जा रहा है। इनमें यदि बलरामपुर व तुलसीपुर चीनी मिलों में गन्ना भुगतान प्रक्रिया को छोड़ दिया जाए तो पिटईमैदा व चिलवरिया मिली की स्थिति चिंता जनक है। अकेले चिलवरिया चीनी मिल पर ही जिले के गन्ना किसानों का लगभग सत्तर करोड़ रुपये विगत वर्ष का बकाया है। यही नहीं इस पेराई सत्र में 27 नवंबर से अब तक 15 करोड़ रुपये का गन्ना खरीदा जा चुका है। इसका भी भुगतान अभी तक नहीं हो पाया है।
जिले में लगभग पंद्रह हजार हेक्टेअर गन्ना उपज का क्षेत्रफल है। इस उपज को खरीदने के लिए चार चार चीनी मिलों में होड़ लगी है। श्रावस्ती में इस गन्ने की खरीद व बिक्री की मध्यस्थता करने के लिए गन्ना समिति का गठन ही नहीं हो पाया। चिलवरिया मिल को जाने वाला गन्ना श्रावस्ती गन्ना समिति बहराइच से संचालित होता है। बलरामपुर, तुलसीपुर व पिटईमैदा को भेजे जाने वाला गन्ना बलरामपुर गन्ना समिति के माध्यम से भेजा जाता है।
गन्ना खरीद के लिए गन्ना समिति बनाई जाती है। इस समिति का गन्ने की उपज करने वाला प्रत्येक किसान सदस्य होता है। इस समिति के माध्यम से किसानों का गन्ना खरीद कर चीनी मिलों को भेजा जाता है। चीनी मिलें गन्ने का भुगतान पहले समिति को करती है। इसके बाद समिति किसानों को उसका भुगतान करती है। इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए समिति किसानों से अपना लाभांश लेती है।
इस लाभांश से वह किसानों के हित में कभी उत्तम कोटि का बीज, कभी फर्टलाइजर, तो कभी गन्ना ट्रैक्टर ट्रॉलियों के आने जाने के लिए सड़क का निर्माण करती है। यही नहीं यदि गन्ना किसान के साथ कोई दुर्घटना फसल लाने व ले जाने के दौरान हो तो उसको मुआवजा, चिकित्सीय प्रतिपूर्ति देने के साथ ही गन्ने के नुकसान की भरपाई भी कर करती है। जिले में गन्ना समिति न होने के कारण इसका लाभ किसानों को कभी नहीं मिला।
गन्ना रकबा की फीडिंग कराने से लेकर पर्चियों में गड़बड़ी व भुगतान की जानकारी के लिए लोगों को बहराइच व बलरामपुर का चक्कर लगाना होता है। इसके लिए जिले में किसी भी चीनी मिल का न तो कोई कैंप कार्यालय है और न गन्ना समिति के अधिकारी यहां आते हैं।
एडीएम योगानंद पांडेय का कहना है कि चिलवरिया चीनी मिल की ओर से गन्ना किसानों का बकाया भुगतान नहीं होने से उस पर पहले ही एफआईआर की जा चुकी है। लगातार प्रयास किया जा रहा है कि किसानों का भुगतान जल्द से जल्द हो जाए।
... और पढ़ें

अनुशासित व देश भक्त होता है कैडेट......

श्रावस्ती। चौधरी राम बिहारी बुद्ध इंटर कॉलेज कटरा में 51 यूपी एनसीसी का दस दिवसीय कैंप आयोजित किया गया है। इसकी शुरुआत कर्नल ने एनसीसी ध्वज फहरा कर किया। इस दौरान कर्नल विकास गोस्वामी ने कहा कि राष्ट्रीय कैडेट कोर अनुशासित व देशभक्त नागरिकों में देश के युवाओं को संवारने में लगे सेना, नौसेना एवं वायु सेना का एक त्रिकोणीय सेवा संगठन है। इसकी शुरुआत 15 जुलाई 1948 में हुई थी। एनसीसी की उत्पत्ति सेना की कमी को पूरा करने के लिए वस्तु के साथ, भारतीय रक्षा अधिनियम 1917 के तहत हुई थी। 1920 में भारतीय प्रादेशिक अधिनियम पारित किया गया था। बाद में इसे विश्वविद्यालय प्रशिक्षण कोर (यूटीसी) ने बदल दिया था।
इसका उद्देश्य यूटीसी की स्थिति को बढ़ाने और युवाओं के लिए इसे और अधिक आकर्षक बनाना था। यूटीसी अधिकारियों और कैडेटों को सेना की तरह कपड़े पहनना पड़ा था। यह सशस्त्र बलों के भारतीयकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम था। राष्ट्रीय कैडेट कोर 1942 में ब्रिटिश सरकार द्वारा स्थापित किया गया था, जो विश्वविद्यालय अधिकारी प्रशिक्षण कोर के एक उत्तराधिकारी के रूप में माना जा सकता है। पंडित हेमवती कुंजरू की अध्यक्षता वाली समिति ने एक राष्ट्रीय स्तर पर स्कूलों और कॉलेजों में स्थापित करने के लिए एक कैडेट संगठन की सिफारिश की।
राष्ट्रीय कैडेट कोर अधिनियम गवर्नर जनरल ने स्वीकार कर लिया और 15 जुलाई 1948 को नेशनल कैडेट कोर अस्तित्व में आया था। सूबेदार मेजर संतोष कुमार ने बताया कि इस कैंप में 510 एनसीसी कैडेट प्रतिभाग कर रहे हैं। जिसमें एमएलके पीजी कॉलेज बलरामपुर, केडीसी बहराइच, महाराज सिंह इंटर कॉलेज बहराइच, बालिका इंटर कॉलेज बलरामपुर, एमपीपी इंटर कॉलेज बलरामपुर आदि विद्यालयों के एनसीसी कैडेट कैंप में प्रतिभाग कर रहे हैं। इस मौके पर विद्यालय के प्रधानाचार्य मुन्नालाल यादव, हवलदार जुबेर हुसैन, एसएन शुक्ला, राजेश कुमार यादव आदि एनसीसी स्टाफ तथा कैडेट मौजूद रहे।
... और पढ़ें
श्रावस्ती के सीआरबी इंटर कालेज दस दिवसीय एनसीसी कैंप के दौरान मौजूद कैडेट तथा मौजूद सेना के अधिक? श्रावस्ती के सीआरबी इंटर कालेज दस दिवसीय एनसीसी कैंप के दौरान मौजूद कैडेट तथा मौजूद सेना के अधिक?

शिक्षा स्वास्थ्य और सुरक्षा, मांग रहा है बच्चा बच्चा

श्रावस्ती। बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य व सुरक्षा प्रत्येक नागरिक का अधिकार है। इससे कोई भी बालक अथवा बालिका किसी कीमत पर अछूता नहीं रह सकता है। आज बच्चा-बच्चा उचित शिक्षा, स्वास्थ्य व सुरक्षा मांग रहा है। जिसमें किसी भी प्रकार का भेदभाव करने वाले सामाजिक व कानूनी रूप से अपराधी हैं। क्योंकि बेटे व बेटियां दोनों समान हैं। दोनों ही एक दूसरे के पूरक हैं। इनमें से यदि एक का भी संतुलन बिगड़ा तो उस समाज को इसके घातक परिणाम भुगतने होंगे। ऐसा कोई भी काम नहीं है। जो सिर्फ बेटे कर सकें, बेटियां नहीं।
घर के चूल्हा चौका से लेकर सीमा सुरक्षा तक हर क्षेत्र में बेटियां अपने कौशल दिखला रही हैं। ऐसे में हमें भी एक अच्छा माता-पिता, अभिभावक व शिक्षक बन कर दोनों को समान लाड प्यार, शिक्षा व सम्मान देना होगा। यह बातें गिलौला के एसटी मोसेस इंग्लिश स्कूल में अमर उजाला के अपराजिता 100 मिलयिंस स्माइल के तहत संवाद कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गिलौला के अधीक्षक डॉ. रोहित कुमार ने कही। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के प्रधानाचार्य अनिल कुमार ने किया।
गिलैला सीएचसी अधीक्षक डॉ. रोहित कुमार ने बताया कि किशोरावस्था में प्रवेश के दौरान बेटे व बेटियों में शरीरिक व मानसिक दोनों प्रकार के परिवर्तन होते हैं। ऐसे समय में उन्हें उचित देखभाल व सलाह की जरूरत होती है। ऐसे में माता-पिता को चाहिए कि वह उनकी समस्याओं व शंकाओं का समाधान करें। आवश्यकता पड़ने पर डॉक्टर व शिक्षक की सलाह भी लेते रहे। ताकि किशोर व किशोरियाें के मन में किसी प्रकार का भटकाव न रहे।
प्राचार्य अनिल कुुुमार ने कहा कि बच्चों को चाहिए कि वह सूर्योदय से पूर्व बिस्तर त्याग दें। नियमित समय सारिणी के अनुसार पठन पाठन करनें के साथ ही खेलकूद व व्यायाम को भी समय दें। अपने खान पान व दैनिक दिनचर्या का पूरा ख्याल रखें। क्योंकि बिना स्वस्थ रहे शिक्षा व आत्मरक्षा संभव नहीं है। इसलिए शिक्षा के साथ ही बेहतर स्वास्थ्य पर भी ध्यान दें। लोगों को चाहिए कि वह अमर उजाला के अपराजिता एटदिरेट अमर उजाला डाट काम से जुड़ कर इस मुहिम को आगे बढ़ाने में सहयोगी बनें।
छात्रा नंदनी पाठक ने कहा कि विद्यालय से मिली शिक्षा का घर पर अभ्यास जरूरी है। साथ ही समय से सोना, जगना, खाना व खेलना भी आवश्यक है। ऐसे में पढ़ाई, खेल आदि की समय सारिणी बना कर उसी के अनुसार अपनी दिनचर्या तय करें। वहीं छात्रा अनुष्का ने बताया कि घर से विद्यालय आते समय हमें कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए उनसे निपटने के लिए हमें सदैव तत्पर रहना होगा। इसक लिए हमारा स्वस्थ रहना भी जरूरी है। जिस पर ध्यान देना चाहिए।
छात्रा मंजरी ने कहा कि विद्यालय में हमें शिक्षा के साथ ही बेहतर स्वास्थ्य व सुरक्षा की भी जानकारी मिलनी चाहिए। इसके लिए समय समय पर विद्यालय में स्वास्थ्य कैंप व आत्मरक्षा के लिए पूर्वाभ्यास कराया जाए। ताकि हम हर क्षेत्र में अपनी उचित देखभाल कर सकें।
छात्रा प्रिया त्रिपाठी ने बताया कि सभी माता पिता व गुरुजन चाहतें हैं कि उनके बच्चे हर क्षेत्र में कामयाब हों। इसलिए बेटियों को भी बेटों के समान सभी क्षेत्रों में समान अवसर मिले। ताकि बेटियां भी बेटों से कम नहीं हैं। यह वह प्रमाणित कर सकें। वहीं छात्रा प्रज्ञा सिंह ने कहा कि अक्सर सभी घरों में यह सुनने को मिलता है कि बेटियां पराया धन हैं। ऐसा सोचना पूरी तरह से गलत है। बेटा हो या बेटी वह आपकी ही संतान हैं। ऐसे में बेटियों के मन में यह भेदभाव न भर कर उन्हें आत्म निर्भर बनाने का प्रयास करें। फिर बेटियां पराई नहीं रहेंगी।
छात्रा प्रिया पटेल ने कहा कि शिक्षा के साथ ही व्यवहारिक ज्ञान भी आवश्यक है। इसलिए माता पिता व गुरुजनों को समय समय पर बच्चों के साथ खुलेमन से बात करनी चाहिए। बच्चों से मित्रवत व्यवहार करें ताकि वह अपनी सभी समस्याएं खुल कर बता सकें।
वहीं छात्रा ऋचा ने बताया कि बहुत से माता पिता या तो स्वयं आपस में झगड़ते रहते हैं। या फिर वह अपना गुस्सा बच्चों पर निकालते हैं। जिससे बच्चों के कोमल हृदय पर इसका विपरीत असर पड़ता है। घर में खुशनुमा माहौल रखें। ताकि बच्चे भी उसी के अनुसार ढल सकें।
छात्रा दिशा सिंहन ने कहा कि बच्चों पर हर वक्त पढ़ाई का दबाव न बनाएं। उन्हें सहपाठियों के साथ खेलने कूदने का भी अवसर प्रदान करें। साथ साथ उन्हें यातायात नियम व संकेत के साथ ही अन्य जानकारी भी देते रहें। जिससे उन्हें घर से बाहर निकलने में परेशान न होना पड़े। वहीं छात्रा अराधना ने कहा किविद्यालय में एक क्लास आत्मरक्षा का भी चलना चाहिए। जिसमें बच्चों को जूडो कराटे आदि भी सिखाया जाए। ताकि आवश्यकता पड़ने पर बच्चे अपना बचाव करने के साथ ही सामने वाले को सबक भी सिखा सके।
राशि शुक्ला ने अपने विचार रखते हुए कहा कि आज अमर उजाला के इस कार्यक्रम में हमें बहुत कुछ सीखने का मौका मिला। जिसे हम अपने परिजनों व दोस्तो से भी साझा करेंगे। जिससे औरों को भी इसका फायदा मिले। और बेटियों को इसका लाभ मिल सके। वहीं गरिमा ने कहा कि अमर उजाला सिर्फ समाचार पत्र नहीं है। बल्कि अमर उजाला बेटियों को सम्मान दिलाने के लिए समय समय पर कई कार्यक्रम आयोजित करता है। हम इसके नियमित पाठक हैं। अमर उजाला को धन्यवाद जो हमें इससे जुड़ने का मौका मिला।
कोमल पाठक ने बताया कि सभी प्रकार के धन की चोरी हो सकती है। लेकिन शिक्षा वह अनमोल रतन है जिसे कोई न तो छीन सकता है और न चुरा सकता है। इसे जितना बांटों यह बढ़ती है। मेरी सभी को सलाह है कि वह मन लगा कर पठन पाठन करें। वहीं छात्रा प्रतिभा ने बताया कि आज इस कार्यक्रम में हमें शिक्षा व स्वास्थ्य से संबंधित कई सीख मिली। हम टाइम टेबिल बना कर सभी कार्य करेंगे। मेरी दोस्तों को सलाह है कि वह भी समय सारिणी बना कर उसी के अनुसार अपनी दिनचर्या तय करें।
... और पढ़ें

रमसा के शिक्षकों को पांच माह से नहीं मिला वेतन, करेंगे बोर्ड परीक्षा बहिष्कार

श्रावस्ती। उच्चीकृत राजकीय हाईस्कूल में रमसा के तहत तैनात शिक्षकों को पांच माह से वेतन का भुगतान नहीं किया गया है। इससे उनके सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। ऐसे में शनिवार को शिक्षकों ने डीआईओएस कार्यालय पर प्रदर्शन किया। इस दौरान शिक्षकों ने जिला विद्यालय निरीक्षक को एक ज्ञापन सौंपा। कहा कि वेतन न मिलने पर बोर्ड परीक्षा का बहिष्कार किया जाएगा।
रमसा के तहत राजकीय हाईस्कूल में तैनात शिक्षक व शिक्षिकाओं ने शनिवार को जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय पर प्रदर्शन किया। इसके बाद जिला बेसिक शिक्षाधिकारी चंद्रपाल को एक ज्ञापन सौंपा। सौंपे गए ज्ञापन के जरिये शिक्षकों ने कहा है कि उनको पांच माह से वेतन का भुगतान नहीं किया गया है जबकि माध्यमिक शिक्षा परिषद के राजकीय विद्यालयों में तैनात शिक्षकों को बराबर वेतन का भुगतान किया जा रहा है।
वेतन की मांग को लेकर कई बार शिक्षकों द्वारा लेखाधिकारी से मिल कर निवेदन किया जा चुका है लेकिन हर बार बजट न होने की बात कह उन्हें लौटा दिया जाता है। शिक्षकों के आवास से उनके विद्यालय काफी दूर हैं। ऐसे में उन्हें वाहनों का सहारा लेना पड़ रहा है। वेतन न मिलने के कारण अब उनके सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। ऐसे में विद्यालय आने-जाने व रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने में भी दिक्कत उठानी पड़ रही है।
शिक्षकों ने जिला विद्यालय निरीक्षक से हस्तक्षेप कर अविलंब वेतन का भुगतान कराने की मांग की है। ऐसा न होने पर उनके द्वारा बोर्ड परीक्षा का बहिष्कार करने की चेतावनी दी गई है। ज्ञापन देने वालों में सरोज गिरी, बीना कुमारी, डाली सहित कई अन्य शिक्षिकाओं व शिक्षकों का नाम शामिल है।
... और पढ़ें

मार्ग दुर्घटना में जीजा की मौत, बाल बाल बचा साला

गिलौला (श्रावस्ती)। गिलौला फिलिंग स्टेशन से पेट्रोल भरवाकर लौट रहे बाइक सवार को डीसीएम ने टक्कर मार दी। हादसे में बाइक चला रहा युवक दूर जा गिरा जबकि उसका जीजा बाइक सहित वहीं गिर गया जिसे पीछे से आ रहे ट्रक ने रौंद किया। हादसे में जीजा की मौके पर ही मौत हो गई जबकि युवक बाल-बाल बच गया। सूचना पर पहुंची गिलौला पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भिनगा भेज दिया। जानकारी होते ही मौके पर पहुंचे परिवारीजन में रोना-पीटना मच गया।
थाना क्षेत्र गिलौला के ग्राम मनिकौरा निवासी सूरज कुमार उर्फ छोटू (30) पुत्र राम गोपाल तिवारी की ससुराल इकौना थाना क्षेत्र के पांडेपुरवा में पड़ती है। रविवार को सूरज का साला अखिलेश पांडे पुत्र शिव कुमार मनिकौरा आया था जहां से दोनों बाइक से गिलौला बाजार आए थे। बाइक में पेट्रोल भरवाकर दोनों गिलौला से वापस लौट रहे थे। जैसे ही अखिलेश बाइक लेकर बौद्ध परिपथ स्थित गिलौला थाना क्षेत्र के किसान इंटर कॉलेज सुविखा के सामने पहुंचा, पीछे से आ रही तेज रफ्तार डीसीएम ने बाइक में टक्कर मार दी।
दोनों वाहनों की गति काफी तेज होने के कारण अखिलेश मार्ग किनारे दूर जा गिरा जबकि सूरज कुमार बाइक सहित बौद्ध परिपथ पर ही गिर गया। तभी पीछे से आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सहित सूरज कुमार को रौंद दिया। इससे सूरज की घटनास्थल पर ही मौत हो गई जबकि अखिलेश बाल-बाल बचा। घटना के समय दोनों ही बाइक सवारों ने हेलमेट नहीं पहन रखा था।
हादसे के बाद जहां डीसीएम चालक ने मौके पर तो ट्रक चालक माजरे गांव के निकट ट्रक छोड़ कर मौके से फरार हो गया। सूचना पर पहुंची गिलौला पुलिस ने बाइक सहित ट्रक व डीसीएम को कब्जे में ले लिया। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भिनगा भेज दिया है। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे परिवारीजनों का रो-रो कर हाल बेहाल है।
... और पढ़ें

टीम भावना के साथ काम कर पात्रों को लाभान्वित करें अधिकारी

श्रावस्ती। कलेक्ट्रेट सभागार में रविवार शाम विकास कार्यों की समीक्षा बैठक हुई। इसमें जिले के प्रभारी मंत्री ने अधिकारियों को टीम भावना से कार्य करने व लोगों को सुलभ न्याय तथा पात्रों को योजनाओं से लाभान्वित कराने का निर्देश दिया।
समीक्षा बैठक में जिले के प्रभारी मंत्री व राज्यमंत्री खाद्य एवं रसद तथा नागरिक आपूर्ति, कृषि एवं कृषि अनुसंधान रणवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ धुन्नी सिंह ने कहा कि सरकार जन कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। केंद्र व प्रदेश सरकार तमाम योजनाओं का संचालन कर लोगों को लाभान्वित करा रही है। इसलिए अधिकारी भी टीम भावना से कार्य कर सरकार की मंशा को पूरा करें।
उन्होंने कहा कि महिला अपराध पर प्रभावी नियंत्रण रखा जाए। महिलाओं की शिकायतों को गंभीरता से लेकर उसका प्राथमिकता के आधार पर निराकरण करें। जिन प्रकरणों की विवेचना चल रही है, उन्हें जल्द निस्तारित कर समय से न्यायालय में चार्जशीट भेजें। गवाही में तेजी लाकर अभियुक्तों को सजा दिलाएं।
एसपी अनूप सिंह ने बताया कि पहली अप्रैल 2019 से अब तक 11630 वाहनों का चालान किया गया है। साथ ही 29 लाख 65 हजार 200 रुपये शमन शुल्क भी वसूले गए। आपदा समीक्षा के दौरान पता चला कि राप्ती नदी के बायें तट पर परसा डेहरिया, तिलकपुर तटबंध एवं खजुहा झुनझनिया अंधरपुरवा तटबंध में कई गैप हैं। इसके निर्माण कार्य की लागत एवं सही जानकारी न दिये जाने पर प्रभारी मंत्री ने संबंधित अभियंता को फटकार लगाते हुए डीएम यशु रुस्तगी से अधूरे कार्य को पूरा कराने को कहा।
नहरों की सिल्ट सफाई की समीक्षा के दौरान सहायक अभियंता सरयू नहर खंड-6 संतोषजनक जवाब न दे सके। इस पर सीडीओ अवनीश राय से स्पष्टीकरण तलब कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। वहीं नहरों की सिल्ट सफाई पर क्षेत्र के विधायक के साथ अधिशाषी अभियंता को सेल्फी लेकर फोटो अपलोड करने का निर्देश दिया। कृषि अधिकारी को किसान सम्मान निधि, फसल बीमा योजना से सभी पात्र किसान को लाभान्वित कराने को कहा।
पांच ट्रांसफार्मर खराब मिलने की सूचना पर अधिशाषी अभियंता से तत्काल उसे बदलवाने का निर्देश दिया। इस दौरान उनके द्वारा भूमाफिया, आयुष्मान भारत योजना, निराश्रित गोंवश के लिए गाोआश्रय स्थल, पेंशन, बेटी बचाओ-बेटी बढ़ाओ आदि की समीक्षा की गई। इस दौरान श्रावस्ती विधायक राम फेरन पांडे, एडीएम योगानंद पांडे, एसडीएम आरपी चौधरी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा, झंडा ऊंचा रहे हमारा ....

श्रावस्ती। जिले में रविवार को धूमधाम से 71वां गणतंत्र दिवस मनाया गया। कलेक्ट्रेट में डीएम तो पुलिस लाइंस में जिले के प्रभारी मंत्री ने ध्वजारोहण किया। पुलिस लाइंस में रैतिक परेड भी हुई। जिले के सभी सरकारी व गैर सरकारी कार्यालयों सहित शैक्षणिक संस्थाओं में भी तिरंगा फहराया गया। विद्यालयों में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। स्कूली बच्चों ने प्रभात फेरी निकाली। इस मौके पर हुई प्रतियोगिताओं के विजेताओं सहित उत्कृष्ट कार्य करने वालों को सम्मानित किया गया।
गणतंत्र दिवस पर कलेक्ट्रेट में डीएम यशु रुस्तगी ने राष्ट्रध्वज फहराया। इस दौरान उन्होंने मौजूद लोगों को राष्ट्रीय एकता व अखंडता बनाए रखने की शपथ दिलाई। छात्राओं ने राष्ट्रगीत प्रस्तुत किया। एसपी कार्यालय पर पुलिस अधीक्षक अनूप सिंह, न्यायालय परिसर में जिला जज मृदुलेश कुमार सिंह, विकास भवन में सीडीओ अवनीश राय, वन कार्यालय में डीएफओ एपी यादव, सीएमओ कार्यालय में सीएमओ डॉ. बीके भार्गव ने ध्वजारोहण किया।
वहीं तहसीलों में एसडीएम, ब्लॉकों पर बीडीओ, सीएचसी व पीएचसी में प्रभारी चिकित्सक, थानों में प्रभारियों सहित विभिन्न दफ्तरों में कार्यालयाध्यक्षों, शैक्षणिक संस्थाओं में प्राचार्यों ने ध्वजारोहण किया। पुलिस लाइंस भिनगा में जिले के प्रभारी मंत्री राज्यमंत्री कृषि, कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान रणवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ धुन्नी सिंह ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान प्रभारी मंत्री व एसपी द्वारा संविधान में उल्लिखित संकल्प का स्मरण कराया गया। इसके बाद प्रभारी मंत्री, डीएम व एसपी ने शहीद स्मारक पर श्रद्धा सुमन समर्पित किया। इसके बाद प्रभारी मंत्री ने पुलिस परेड का निरीक्षण किया।
प्रभारी मंत्री ने पुलिस के जवानों से कहा कि उन्हें गरीबों को न्याय देने के लिए जो अधिकार प्राप्त है, वह अधिकार किसी के पास नहीं है। इसलिए गरीबों की समस्याएं सुनें और उन्हें सुलभ न्याय दिलाएं। इस दौरान उन्होंने नागरिकता संशोधन अधिनियम पारित होने के बाद जिले में अमन-चैन बनाए रखने के लिए पुलिस की भूमिका की सराहना की।
जिले में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए तथा उत्कृष्ट कार्य के लिए प्रभारी निरीक्षक भिनगा दद्न सिंह, प्रभारी निरीक्षक सोनवा बृजेश द्विवेदी, एसपी के रीडर अजय कुमार, इकौना के उप निरीक्षक राजेंद्र कनौजिया, गिलौला के उप निरीक्षक रंजीत भारती, बदला चौकी प्रभारी किसलय मिश्र, गिरंट चौकी प्रभारी राजीव मिश्रा, राजपुर चौकी प्रभारी रविंद्र कुमार सिंह, सेमरी चौकी प्रभारी विद्याशंकर पांडे, पुलिस लाइंस के राम स्वारथ शुक्ला, परिवार परामर्श केंद्र की एसआई सुनीता सिंह, डीसीआर के आरएसआई राकेश मणि तिवारी, स्वाट टीम के प्रधान आरक्षी तेज सिंह, सिरसिया के प्रधान आरक्षी जगत नारायण यादव, प्रधान आरक्षी ऐजाज अहमद, बलवीर सिंह, पुष्पेंद्र सिंह, आरमोरर रामजी चौधरी, जितेंद्र पाल, रोहित कुमार, तेजबहादुर, दिलीप कुमार, नवनीत कुमार, अभिषेक सिंह, महेश चंद्र, स्वामीनाथ मौर्या, उमाशंकर, नीलेंद्र कुमार, कन्हैया लाल, राममणि, अरविंद कुमार, रोहित सिंह, दिलीप कुमार, अमरीश, रवि प्रकाश पाल, विनोद चौधरी व राजेश यादव सहित 71 लोगों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।
पुलिस लाइंस में रैतिक परेड के दौरान पुलिस की विभिन्न इकाइयों के साथ ही वायरलेस विभाग, अग्निशमन विभाग, पीआरवी 112, दंगा नियंत्रण के साथ ही एंबुलेंस सेवा, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, स्वच्छ भारत मिशन, वन, उद्यान, कृषि, राष्ट्रीय आजीविका मिशन, मनरेगा, प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री आवास योजना, बेसिक शिक्षा विभाग, सर्व शिक्षा अभियान आदि योजनाओं की झांकी निकाली गई।
इस बीच विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों से सभी का मन मोह लिया जिन्हें प्रभारी मंत्री, डीएम व एसपी सहित अन्य अधिकारियों ने पुरस्कार व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस मौके पर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट शीतला प्रसाद, प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय राकेश सिंह, कमांडेंट एसएसबी चरक सिंह तोमर, उप जिलाधिकारी भिनगा चंद्रमोहन गर्ग, एएसपी बीसी दुबे, अध्यक्ष जिला पंचायत साक्षी कैराती, विधायक श्रावस्ती रामफेरन पांडे, विधायक भिनगा असलम रायनी, नगर पंचायत अध्यक्ष इकौना जीतेंद्र गुप्ता, पूर्व विधायक भिनगा इंद्राणी वर्मा, उपाध्यक्ष सिंचाई बंधु उदय प्रताप नारायण सिंह समेत पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।
ध्वजारोहण के बाद कलेक्ट्रेट सभागार में गोष्ठी का आयोजन हुआ जिसमें जिलाधिकारी यशु रुस्तगी व अपर जिलाधिकारी योगानंद पांडे ने मौजूद लोगों को राष्ट्रीय एकता व अखंडता बनाए रखने की शपथ दिलाई। इसके साथ ही देश को आजाद कराने में अपना योगदान करने वाले देश की महान विभूतियों के जीवन चरित्र पर प्रकाश डाला। गोष्ठी को राज्य कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अवधेश यादव, आशुलिपिक केके वैश्य, अधिवक्ता शिवपूजन सिंह, योगेंद्र मणि त्रिपाठी ने भी संबोधित किया।
इसके बाद शाहिद रजा ने देशभक्ति गीत प्रस्तुत कर लोगों का मन मोह लिया। इस दौरान डीएम ने ऐसे छात्र/छात्राएं जिन्हें शुल्क प्रतिपूर्ति एवं छात्रवृत्ति दी जा रही है को स्वीकृति प्रमाण पत्र प्रदान किया। वहीं पूर्व सूबेदार सैनिक दिवंगत खुनखुन राम की पत्नी अनीता को डीएम ने अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया।
गणतंत्र दिवस पर साइकिल रेस का आयोजन किया गया जिसे उप जिलाधिकारी आरपी चौधरी ने हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। प्रतियोगिता में 40 बालक व 55 बालिकाओं ने प्रतिभाग किया। बालक वर्ग में प्रथम बड़ेनाथ, द्वितीय राजेंद्र प्रसाद, तृतीय आशुतोष जायसवाल, चतुर्थ धर्मेंद्र कुमार, पंचम ओम प्रकाश यादव व छठवें स्थान पर आशीष जायसवाल रहे।
वहीं, बालिका वर्ग में प्रथम ममता यादव, द्वितीय अनुपम राना, तृतीय सुलोचना राना, चतुर्थ निधि राना, पंचम मंजू देवी व छठवें स्थान पर पुष्पा यादव रहीं। इन सभी को उप जिलाधिकारी ने पुरस्कृत किया। इस मौके पर वयोवृद्ध परशुराम त्रिपाठी, उप क्रीड़ाधिकारी अभिषेक कुमार धानुक, फुटबाल कोच मो. मुस्लिम, हॉकी कोच विवेक प्रसाद, खो-खो कोच जगेश्वर सैनी व वार्डेन कस्तूरबा विद्यालय कैसर जहां मौजूद रहीं।
मुस्लिम समुदाय के लोगों ने गणतंत्र दिवस पर जमुनहा के पटपर गंज स्थित मस्जिद में राष्ट्रध्वज फहराया। इसके बाद तिरंगा रैली भी निकाली गई जिसमें सभी समुदाय के लोग शामिल हुए। सभी ने आम जन को राष्ट्रीय एकता का संदेश दिया।
पुलिस लाइंस से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ थीम पर आधारित झांकी निकाली गई जिसमें शामिल लोग भिनगा के ईदगाह, दहाना, कोतवाली होते हुए अस्पताल चौराहा सहित अन्य सार्वजनिक स्थलों में जाकर लोगों को इसके प्रति जागरूक किया। इसके साथ ही चौराहों, बसों एवं अन्य वाहनों पर स्टीकर भी लगाया। महिला कल्याण विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं से संबंधित पंपलेट का वितरण भी किया।
इनमें महिला हेल्प लाइन 181, वीमेन पावर हेल्प लाइन 1090, चाइल्ड लाइन 1098, पुलिस हेल्प लाइन नंबर 112, मुख्यमंत्री कन्या सुमगंला योजना, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, 108 एवं 102 स्वास्थ्य सेवा, फायर ब्रिगेड हेल्प लाइन नंबर 101 व कन्या भ्रूण हत्या निवारण अधिनियम आदि के बारे में जानकारी दी गई। इस दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी व उप जिलाधिकारी आरपी चौधरी, जितेंद्र कुमार, महिला कल्याण अधिकारी सरिता मिश्रा, जिला समन्वयक कुसुम श्रीवास्तव, रिजवाना परवीन व गुलशन जहां आदि मौजूद रहीं।
गणतंत्र दिवस पर एसएसबी 62वीं वाहिनी मुख्यालय भिनगा में कमांडेंट सीएस तोमर ने ध्वजारोहण किया। वहीं एसएसबी 42वीं वाहिनी जमुनहा में प्रभारी सुखदेव ने ध्वजारोहण किया। इसके साथ ही एसएसबी के अन्य बीओपी पर प्रभारियों ने राष्ट्र ध्वज फहराया।
... और पढ़ें

नेपाली शराब के साथ युवक गिरफ्तार

श्रावस्ती। एसएसबी के जवानों ने शुक्रवार शाम सिरसिया पुलिस के साथ सीमा क्षेत्र में कांबिंग की। इस दौरान संयुक्त टीम ने एक युवक को गिरफ्तार किया। उसके पास से टीम ने 120 शीशी नेपाली शराब बरामद की।
सशस्त्र सीमा बल 62वीं वाहिनी सुइया बीओपी के जवानों ने शुक्रवार शाम राजपुर चौकी पुलिस के साथ इंडो नेपाल सीमा क्षेत्र पर कांबिंग की। इस दौरान तालबघौड़ा के निकट टीम ने एक नेपाली युवक को भारतीय क्षेत्र में आते देखा।
पुलिस व एसएसबी के जवानों को देख युवक बोरा फेंक नेपाल की ओर भागने लगा। इस पर घेराबंदी कर टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया। तलाशी के दौरान बोरे में शराब की चार पेटी बरामद हुई। इसमें सादी कर्णाली व सौंफिया ब्रांड की शराब की 120 शीशी थी।
गिरफ्तार युवक की पहचान नेपाल राष्ट्र के बांके जिला अंतर्गत थाना भगवानपुर के बनिया गांव निवासी राजाराम के रूप में हुई। उसके विरुद्ध सिरसिया पुलिस ने आबकारी अधिनियम में कार्रवाई की है।
... और पढ़ें

मतदान करना प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य

श्रावस्ती। मतदाता जागरूकता के लिए शनिवार को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया गया। इस दौरान कलेक्ट्रेट सहित तहसील मुख्यालयों व जूनियर हाईस्कूल भिनगा में कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। इसमें लोगों को मतदान के लिए शपथ दिलाई गई। इसके साथ ही लोकतंत्र की रक्षा के लिए एक एक मत की अहमियत बताई गई। इस दौरान जागरूकता रैली भी निकाली गई।
राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर कलेक्ट्रेट परिसर में जन जागरूकता गोष्ठी का आयोजन किया गया। यहां जिलाधिकारी यशु रुस्तगी ने 18 वर्ष की आयु पूरी कर चुके प्रत्येक नागरिक को अपना नाम मतदाता सूची में शामिल कराने को कहा। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है कि वह चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग करें। इस दौरान उन्होंने मौजूद अधिकारियों व अन्य लोगों को मतदान दिवस पर वोट डालने की शपथ दिलाई।
कलेक्ट्रेट परिसर से होमगार्ड के जवानों ने जागरूकता रैली भी निकाली। इसे डीएम ने हरी झंडी दिखा करवाना किया। इस दौरान तहसील परिसर इकौना व जमुनहा में उप जिलाधिकारी के नेतृत्व में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जहां मौजूद लोगों को मतदान की शपथ दिलाई गई। साथ ही मतदाता सूची पुनरीक्षण में बेहतर कार्य करने वाले बीएलओ, सुपरवाइजर आदि को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया। वहीं सदर तहसील भिनगा में होने वाले कार्यक्रम जूनियर हाईस्कूल मैदान में हुए।
मतदाता दिवस पर लोकतांत्रिक परंपराओं की मर्यादा को बनाये रखने के लिए एसपी अनूप सिंह ने कार्यालय में उपस्थित सभी मातहतों को मतदाता जागरूकता की शपथ दिलाई। वहीं इस दौरान थाना व चौकी प्रभारियों ने अपने अपने थानों व चौकियों पर मातहतों को मतदाता दिवस पर मतदान की शपथ दिलाई। इसके साथ ही सभी कार्यालयों में विभागाध्यक्षों ने अधिकारियों व कर्मचारियों को मतदान की शपथ दिलाई।
... और पढ़ें

हरियाली के लिए लगाए जाएंगे 43.82 लाख पौधे

श्रावस्ती। जिले में हरियाली लाने के लिए इस वर्ष 4382921 पौधों का रोपण कराया जाएगा। इनमें से 2865465 पौध का रोपण वन विभाग करेगा। शेष पौधों के रोपण की जिम्मेदारी अन्य विभागों को सौंपी गई है। उन्हें अभी से तैयारी शुरू करने का निर्देश दिया गया है।
जिले के जंगलों सहित ग्रामीण क्षेत्रों में लगे हरे पेड़ों की अंधाधुंध कटान की जा रही है। इससे हरियाली को खतरा उत्पन्न हो रहा है। इसे रोकने के लिए विभाग की ओर से लगातार प्रयास भी किया जा रहा है। इसके बाद भी बंगाल टाइगर के लिए रिजर्व सोहेलवा, हरदत्त नगर गिरंट, ककरदरी व भिनगा के जंगल में अवैध कटान का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है।
यही स्थिति प्रदेश के अन्य जिलों की भी है। जहां लगातार हरियाली को मिटाया जा रहा है। ऐसे में ग्लोबल वर्मिंग की समस्या को रोकने के लिए प्रदेश सरकार की ओर से इस वर्ष पूरे प्रदेश में पच्चीस करोड़ पौधों के रोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इनमें से जिले में 43 लाख 82 हजार 921 पौधों के रोपण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसमें वन विभाग की ओर से 28 लाख 65 हजार 465 पौधे लगाए जाएंगे।
शेष पंद्रह लाख 17 हजार 456 पौधे अन्य विभागों के माध्यम से लगवाए जाएंगे। लक्ष्य को पूरा करने व जिले में हरियाली लाने के लिए अपर जिलाधिकारी योगानंद पांडेय ने सभी ग्राम पंचायतों, नगर पंचायत व नगर पालिका सहित अन्य विभागाध्यक्षों को विद्यालयों, कार्यालय परिसरों, जंगल सहित खाली पड़ी सार्वजनिक भूमि, नहर व माइनरों की पटरियों, नदी के किनारे पौधरोपण के लिए अभी से तैयारी प्रारंभ करने को कहा है।
इस बार पौध रोपण के लिए किसानों का भी सहारा लिया जाएगा। उनको अपने खेत की मेड़ पर पौध रोपण के लिए प्रेरित किया जाएगा। इस बारे में प्रभागीय वनाधिकारी एपी यादव ने बताया कि इस बार लक्ष्य अधिक है। इस लिए इसे पूरा करने के लिए अभी से तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।
... और पढ़ें

गणतंत्र दिवस परेड में जवान दिखाएंगे कौशल

श्रावस्ती। रिजर्व पुलिस लाइंस भिनगा में रविवार को गणतंत्र दिवस की परेड होगी। इसको आकर्षक व यादगार बनाने के लिए शुक्रवार को फुल ड्रेस रिहर्सल हुआ। इसमें एसपी व एएसपी ने परेड की सलामी ली। गणतंत्र दिवस के दिन पुलिस महकमे के जवान अपना कौशल दिखाएंगे।
गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी को पुलिस लाइंस में परेड का आयोजन किया जाएगा। इसको देखते हुए शुक्रवार को अपर पुलिस अधीक्षक बीसी दुबे की अगुवाई में परेड का फुल ड्रेस रिहर्सल किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में एएसपी ने परेड का निरीक्षण किया। वहीं पुलिस अधीक्षक अनूप सिंह ने सलामी ली। 26 जनवरी को होने वाली परेड के प्रथम कमांडर क्षेत्राधिकारी नगर डॉ. जंग बहादुर यादव, द्वितीय कमांडर उपनिरीक्षक महबूब आलम, तृतीय कमांडर उपनिरीक्षक शिवकुमार बनाए गए हैं।
परेड के लिए आठ टोलियां भी बनाई गई है। टोली नंबर एक के कमांडर उप निरीक्षक सुरेंद्र प्रताप बौद्ध, दो के कमांडर उपनिरीक्षक सुनील कुमार, तीन के कमांडर उपनिरीक्षक केशवराम मौर्य, चार के कमांडर उपनिरीक्षक नदीम खान, पांच के कमांडर उप निरीक्षक दीपक गिरी, छह के कमांडर उपनिरीक्षक पंकज गुप्ता, सात के कमांडर प्लाटून कमांडर सुनील कुमार, आठ (महिला टोली) के कमांडर उप निरीक्षक कुलदीप कुमार तथा वाहन दस्ता के कमांडर उपनिरीक्षक दयानंद यादव बनाए गए हैं। फुल ड्रेस रिहर्सल के दौरान एएसपी ने जीप से परेड का निरीक्षण भी किया।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us