विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

IPS बनी गोरखपुर की बेटी एमन, सीएम योगी ने मुस्लिम लड़कियों के लिए बताया रोल मॉडल

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहर की ऐमन जमाल का भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) में चयन होने पर शुभकामनाएं दीं।

10 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

श्रावस्ती

मंगलवार, 10 दिसंबर 2019

गंदगी से होकर बूथ पर पहुंची डीएम

श्रावस्ती। नगर पालिका भिनगा में गंदगी का अंबार है। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि कुछ मोहल्लों में पैदल चलना भी मुश्किल है। शुक्रवार को निरीक्षण पर निकलीं डीएम को भी इस समस्या से रूबरू होना पड़ा। मिशन इंद्र धनुष के तहत हो रहे टीकाकरण का निरीक्षण करने बूथ पर जा रहीं डीएम को गंदगी से होकर गुजरना पड़ा। इससे नाराज डीएम ने ईओ को तलब कर चौबीस घंटे में सफाई कराने के निर्देश दिए।
भिनगा के कई मोहल्लों में शायद ही कभी साफ सफाई होती हो। जगह जगह गंदगी का अंबार लगा है। लोगों को इसी गंदगी से होकर गुजरना पड़ता है। शुक्रवार को जब डीएम यशु रुस्तगी निरीक्षण के लिए निकलीं तो उन्हें इसकी हकीकत पता चली। मामला भिनगा नगर के मोहल्ला मंगलभट्ठा का है।
यहां मिशन इंद्रधनुष के तहत टीकाकरण का कैंप लगाया गया था। इसका निरीक्षण करने के लिए डीएम स्वयं बूथ जा रहीं थीं। वाहन से उतरने के बाद वह जब मोहल्ले में पहुंची तो नालियों का पानी सड़क पर भरा मिला। चारों ओर गंदगी नजर आई, जहां से पैदल निकलना भी मुश्किल दिखाई दिया।
किसी तरह डीएम बूथ पर पहुंची तो वहां भी आसपास गंदगी नजर आई। इस पर नाराजगी जताते हुए डीएम ने ईओ नगर पालिका को मौके पर तलब कर 24 घंटे में सफाई कराने का निर्देश दिया। साथ ही रोस्टर बना कर सभी वार्डों की सफाई कराने को कहा।
कोर्ट रियासत में चल रहे टीकाकरण सत्र का जायजा लेने के लिए डीएम ने बूथ का निरीक्षण किया। यहां मौजूद एएनएम सावित्री मिश्रा को धीमी गति से कार्य करने पर फटकार लगाई। मोहल्ला मंगलभट्ठा में एएनएम स्वाती सिंह को भी फटकार लगाते हुए ड्यू लिस्ट के अनुसार बच्चों का टीकाकरण करने के निर्देश दिया।
वहीं हरिहरपुररानी के असईपुरवा में जांच के दौरान वजन करने की मशीन खराब मिली। उसे तत्काल बदलने का निर्देश दिया। इस दौरान उन्होंने एएनएम, आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व पर्यवेक्षकों से पूरे मनोयोग से कार्य करके शत प्रतिशत बच्चों का टीकाकरण करने का निर्देश दिया। इस दौरान उनके साथ अपर जिलाधिकारी योगानंद पांडेय, डब्लूएचओ की एसएमओ डॉ. प्रिया बंसल मौजूद रही।
... और पढ़ें

गांव-गांव जाकर बताएंगे सरकार की योजनाएं

श्रावस्ती। भाजपा की ओर से ग्राम स्वराज अभियान के तहत भिनगा कार्यालय में कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसकी अध्यक्षता भाजपा जिलाध्यक्ष ने की। मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष ने बताया कि अभियान में पदाधिकारी व कार्यकर्ता गांव-गांव जाकर लोगों को सरकार की योजनाओं की जानकारी देंगे।
भारतीय जनता पार्टी कार्यालय में आयोजित कार्यशाला में दो माह तक चलने वाले ग्राम स्वराज अभियान पर चर्चा की गई। इस दौरान जिले के सभी मोर्चों के जिलाध्यक्ष, मंडल अध्यक्षों के बीच सीधा संवाद हुआ। कार्यक्रम में भाजयूमो प्रदेश उपाध्यक्ष मिथिलेश त्रिपाठी ने कहा कि ग्राम स्वराज अभियान पार्टी की एक विशेष मुहिम है।
इस अभियान के जरिये विकास और सुशासन के साथ चल रही सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं, कार्यों और सोच को दस हजार गांव की जनता तक पहुंचाया जाएगा। इस अभियान के तहत सभी पदाधिकारी गांवों में जाकर लोगों से उनकी समस्या सुन कर सरकार की ओर से चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी देंगे।
इस दौरान जिलाध्यक्ष संजय कैराती ने कहा कि कार्यकर्ता प्रत्येक गांव में दो दिन का रात्रि प्रवास करेंगे। प्रवास के दौरान वह ग्रामीणों को प्लास्टिक निषेध, स्वच्छता, स्वास्थ्य, शिक्षा का अधिकार, बेटी बचाओ, पर्यावरण, आयुष्मान योजना, ऋण माफी सहित अन्य योजनाओं की जानकारी देंगे। कौन पदाधिकारी कहा प्रवास करेगा, इसकी सूची बनाई जा चुकी है। कार्यशाला में पूर्व सांसद दद्दन मिश्रा, पूर्व जिलाध्यक्ष शंकर दयाल पांडेय, रमन सिंह, शुभम कश्यप, गीता गुप्ता, दिवाकर शुक्ल, उदय प्रकाश त्रिपाठी, रणबीर सिंह, राकेश गुप्ता, विनोद त्रिपाठी सहित सभी मंडलों के अध्यक्ष व कार्यकर्ता मौजूद रहे।
... और पढ़ें

चप्पे चप्पे पर तैनात रही पुलिस, ड्रोन से हुई निगरानी

श्रावस्ती। अयोध्या के विवादित ढांचा विध्वंस की बरसी पर किसी भी संगठन की ओर से जिले में कोई आयोजन न किया जाए इसको लेकर शुक्रवार को प्रशासन पूरी तरह चौकन्ना रहा। सभी मंदिर मसजिदों पर पुलिस की निगरानी रही। पूरे जिले को जोन व सेक्टर में बांट कर ड्रोन कैमरे से संवेदनशील इलाकों पर निगाह रखी गई। इस दौरान एएसपी ने कई संवेदनशील क्षेत्रों का दौरा करके वहां की स्थिति का जायजा लिया।
अयोध्या के विवादित ढांचा विध्वंस की बरसी पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए अपर पुलिस अधीक्षक बीसी दुबे ने सुइया, बघौड़ा नासिरगंज सहित अन्य क्षेत्रों का दौरा किया। वहीं एसएसबी ने भी भारत नेपाल सीमा पर आने जाने वाले वाहनों की सघन तलाश ली। जिले की सुरक्षा व्यवस्था तथा अराजकतत्वों पर निगाह रखने के लिए पूरे जिले को छह जोन व 27 सेक्टर में बांटा गया था।
सभी जोन का प्रभारी जिला स्तरीय अधिकारी को बनाया गया था। इसके अतिरिक्त सभी सेक्टरों में एक एक सब इंस्पेक्टर भी तैनात किया गया था। इनको ग्राम पंचायतों में सुरक्षा व्यवस्था की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इस दौरान जिला स्तरीय अधिकारियों व सेक्टर प्रभारियों ने अपने अपने क्षेत्रों में स्थानीय पुलिस कर्मियों के साथ भ्रमण कर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। इसके साथ ही लोगों से वार्ता कर शांति बनाए रखने की अपील की।
उधर सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने भी भारत नेपाल सीमा पर आने जाने वालों की सघन जांच की। वहीं प्रत्येक गांव पर निगरानी रखने के लिए पुलिस उप निरीक्षकों के साथ साथ बीट के सिपाहियों को लगाया गया था। प्रत्येक उपनिरीक्षक ने अलग अलग ग्राम पंचायतों में भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया।
इन रास्तों पर रही विशेष निगाह
जिले में वैसे तो नेपाल की ओर से आने के लिए कई रास्ते है, लेकिन दस रास्ते बहुत ही महत्वपूर्ण है। इसमें सिरसिया के पैकोरी, तकिया, सुहेलवा, गब्बापुर, मोतीपुर, रनियापुर, भचकाही, तालबघौड़ा, ककरदरी, भरथा रोशनपुरवा, घोड़दौरिया एवं परसोहन प्रमुख है। जहां पुलिस के साथ एसएसबी के जवानों व मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई थी।
चप्पे चप्पे पर तैनात रही पुलिस
विवादित ढांचा विध्वंस की बरसी पर शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिले में भारत नेपाल सीमा पर दस बैरियर बनाए गए थे। पूरे जिले को छह जोन व 27 सेक्टर में बांटा गया था। इसके साथ ही जिले में तीन सीओ के साथ ही इंस्पेक्टर, उप निरीक्षक, सिपाहियों को तैनात किया गया था। हमने खुद बघौड़ा, जमुनहा नासिरगंज सहित अन्य क्षेत्रों का दौरा कर शांति व्यवस्था का जायजा लिया। सभी जगह लोग सौहार्द के साथ एक दूसरे से मिलते रहे। - बीसी दुबे एएसपी
... और पढ़ें

मिशन इंद्रधनुष अभियान का डीएम ने लिया जायजा

श्रावस्ती। जिले में चल रहे सघन मिशन इंद्र धनुष टीकाकरण अभियान का सोमवार जिलाधिकारी ने स्थलीय सत्यापन किया। उन्होंने जमुनहा के इमिलिया व पटपरगंज पहुंच वहां चल रहे टीकाकरण सत्र का जायजा लिया। इस दौरान मिली खामियों को दूर करने का निर्देश भी दिया।
जमुनहा विकास क्षेत्र के ग्राम इमिलिया पहुंची डीएम यशु रुस्तगी को वहां मौजूद एएनएम अनीता चौधरी से ड्यू लिस्ट और आरसीएच रजिस्टर मांगा। इस दौरान दोनों ही दस्तावेज अधूरे मिले। दस्तावेज दुरुस्त न रखने पर डीएम ने एएनएम को फटकार लगाया। साथ ही दस दिन की मोहलत देते हुए सभी पंजिकाओं को अपडेट करने का निर्देश दिया।
टीकाकरण सत्र पर ही उपस्थित सुनीता देवी से डीएम ने कुशलक्षेम जाना। वहीं चार बच्चे की मां सुनीता को परिवार नियोजन के बारे में जानकारी देने के लिए आशा मीना कुमारी को निर्देश भी दिया। जमुनहा के ही पटपरगंज पहुंची डीएम ने टीकाकरण सत्र का जायजा लिया।
इस दौरान वहां तैनात पूनम देवी ने बताया कि लोग भ्रांतियां के कारण टीकाकरण नहीं करा रहे हैं। इस पर जिलाधिकारी ने इसे अफवाह बताते हुए इस पर लोगों को ध्यान न देने की सलाह दिया। साथ ही प्रधान व कोटेदार को टीकाकरण कार्यक्रम मेें पूरा सहयोग करने व लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करने को कहा। निरीक्षण के दौरान डब्ल्यूएचओ की एसएमओ डॉ. प्रिया बंसल मौजूद रहीं।
... और पढ़ें
श्रावस्ती में टीकाकरण अभियान का जायजा लेती डीएम व डब्ल्यूएचओ की एसएमओ। श्रावस्ती में टीकाकरण अभियान का जायजा लेती डीएम व डब्ल्यूएचओ की एसएमओ।

अंतरा लगवाएं, तीन माह तक गर्भधारण से मुक्ति पाएं

श्रावस्ती। जनसंख्या वृद्धि रोकने व परिवार नियोजन के संसाधनों का प्रयोग करने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है। सभी सीएचसी व पीएचसी प्रभारी, एएनएम, आशा तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता महिलाओं को गर्भ निरोधक इंजेक्शन अंतरा का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करें। यह सभी महिलाओं के लिये सुरक्षित व उपयुक्त साधन हैं।
यह सुविधा जिला अस्पताल सहित जिले के सभी सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर नि:शुल्क उपलब्ध हैं। अंतरा इंजेक्शन प्रयोग करने से पूर्व लाभार्थियों को रिकार्ड कार्ड दिए जाने की व्यवस्था भी करें। जिसमें अंतरा इंजेक्शन लगने की तिथि का स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा उल्लेख किया जाए।
यह बातें सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी यशु रुस्तगी ने स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक में कही। उन्होंने कहा कि अन्य जिलों की अपेक्षा जिले में बच्चों का जन्मदर अधिक है। इससे मां के स्वास्थ्य के साथ साथ उनके नवजात शिशुओं के स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता हैं। जागरूकता के अभाव में वह परिवार नियोजन पर ध्यान नहीं देते। जिससे उनके परिवार का आकार भी बड़ा हो जाता हैं । इससे बच्चों के लालन पालन, पढ़ाई लिखाई ढंग से नहीं हो पाती। इसलिये उन्हें परिवार नियोजन अपनाने की बेहद आवश्यकता हैं।
अंतरा इंजेक्शन सभी महिलाओं के लिये सुरक्षित व उपयुक्त साधन हैं। इसे नवविवाहित दंपति, प्रसव के बाद स्तनपान कराने वाली महिला, प्रसव होने के 6 सप्ताह बाद शुरू कर सकती हैं। ऐसी महिला जो 2 बच्चों के बीच में अंतर रखना चाहती हैं। वह भी इसे किसी भी समय चिकित्सक द्वारा उचित स्क्रीनिंग के बाद लगवा सकती हैं।
सीएमओ डा. बीके सिंह ने बताया कि अंतरा का पहला इंजेक्शन माहवारी शुरू होने के 7 दिन के अंदर, प्रसव होने के 6 सप्ताह बाद एवं गर्भपात होने के बाद तुरंत या 7 दिनों के बाद लगवाया जा सकता हैं। इसे लगवाने से महिला के स्वास्थ्य पर कोई दुष्प्रभाव नही पड़ता हैं। इससे एनीमिया रोकने में भी मदद मिलती हैं। इन्जेक्शन लगे स्थान पर मालिस व सिकाई नहीं करनी चाहिये। अंतरा कार्ड में अंकित तिथियों पर ही इंजेक्शन लगवाएं। स्वास्थ्य केंद्र जाने पर लाभार्थी अपना अंतरा कार्ड अवश्य लेकर जाएं। इस मौके पर कई अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

भूटान के धर्मगुरु ने बौद्ध तपोस्थली में की विशेष प्रार्थना

कटरा (श्रावस्ती)। भूटान के धर्मगुरु विश्व शांति की कामना लेकर बौद्ध तपोस्थली श्रावस्ती पहुंचे। जिनके द्वारा सोमवार को बौद्ध तपोस्थली में विशेष प्रार्थना कर विश्वशांति की कामना किया। इस दौरान उनके द्वारा बुद्ध मंत्र का जाप करते हुए तपोस्थली के विभिन्न मोन्यूमेंट का भ्रमण किया गया। इस दौरान कई अन्य बौद्ध भिक्षु व पुलिस कर्मी उनके साथ मौजूद रही।
भूटान के धर्मगुरु जलसे टुलकू जीगमे तेनजिन वागपो रविवार देर शाम बौद्ध तपोस्थली श्रावस्ती पहुंचे। इस दौरान धर्मगुरु ने सोमवार को बौद्ध तपोस्थली श्रावस्ती का भ्रमण किया। इसके बाद उनके द्वारा आनंद बोधि व गंध कुटि पर विश्व शांति की कामना लेकर विशेष प्रार्थना की गई।
इस दौरान धर्मगुरु ने कहा कि श्रावस्ती का कण-कण पूज्यनीय है। भगवान बुद्ध ने यहां अपने जीवन के सर्वाधित 24 वर्षावास बिताया। भगवान बुद्ध ने श्रावस्ती की धरती को पवित्र कर दिया। तपोस्थली के भ्रमण के दौरान धर्मगुरु ने बुद्ध मंत्रणा करते हुए बुद्धम् शरणम् गच्छाम् िसंघम् शरणम् गच्छाम् िधम्मम् शरणम् गच्छाम् िका उद्घोष भी किया।
इसके बाद उनके द्वारा तपोस्थली स्थित गंध कुटी, सभामंडप, कौशांबी कुटी, अंगुलिमाल स्तूप, पुरवाराम बिहार, सूर्य कुंड आदि का भ्रमण भी किया गया। इस मौके पर उनके साथ बौद्ध भिक्षु जलछन लामा, बौद्ध भिक्षु संतोष शेरपा, चौकी प्रभारी श्रावस्ती अनिल कुमार दीक्षित, एलआईयू इंस्पेक्टर प्रभाकर सिंह आदि मौजूद रहे।
... और पढ़ें

बेकाबू ट्रक ने बाइक सवार को कुचला, मौत

इकौना/कटरा (श्रावस्ती)। नगर पंचायत इकौना के पूर्व अध्यक्ष का भाई सोमवार को मोटर साइकिल से कटरा बाजार जा रहा था। वहीं बौद्ध परिपथ पर बलरामपुर से बहराइच जा रहा तेज रफ्तार ट्रक मोटर साइकिल से टकरा गया। जिसमें मोटर साइकिल सवार की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद ट्रक एक पुलिया को तोड़ते हुए खड्ड में जाकर पलट गया। मौके पर पहुंची इकौना पुलिस ने वाहन को कब्जे में लेकर चालक को हिरासत में ले लिया।
इकौना नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष, सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष व इकौना कस्बे के मोहल्ला तिलकनगर निवासी महमूद आलम नयमी का भाई जहीर आलम नयमी (35) पुत्र मोहम्मद याकूब सोमवार को किसी काम से कटरा बाजार जा रहा था। जैसे ही जहीर आलम मोटर साइकिल लेकर बौद्ध परिपथ स्थित इकौना थाना क्षेत्र के ग्राम भिट्ठी स्थित राजकीय महामाया डिग्री कालेज के निकट पहुंचा।
तभी सामने बलरामपुर से बहराइच की ओर आ रहे तेज रफ्तार ट्रक ने मोटर साइकिल को टक्कर मार दिया। टक्कर तेज होने के कारण जहां मोटर साइकिल के परखच्चे उड़ गए। वहीं मोटर साइकिल सवार जहीर आलम की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद ट्रक मार्ग किनारे बने नाले को तोड़ते हुए खड्ड में जाकर पलट गया।
आसपास मौजूद लोगों की सूचना पर पहुंचे श्रावस्ती पुलिस चौकी प्रभारी अनिल दीक्षित ने ट्रक सहित चालक को अपने कब्जे में ले लिया। वहीं लाश को पोस्टमार्टम के लिए भिनगा भेज दिया है। घटना के समय मोटर साइकिल सवार ने हेलमेट नहीं पहन रखा था। घटना की सूचना के बाद इकौना थाने में स्थानीय लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। जिन्हें प्रभारी निरीक्षक इकौना मनोज पांडे व प्रभारी सीओ डा. जंग बहादुर यादव ने समझा बुझाकर वापस लौटाया।
... और पढ़ें

बेटियां किसी भी मायने में बेटों से कम नहीं

श्रावस्ती। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से ग्राम पंचायत परसा डेहरिया स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय डेहरिया में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का मुख्य विषय बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, निशुल्क कानूनी सहायता, लोक अदालत का महत्व, आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत की सफलता एवं अन्य कानूनी जानकारी देना था। इसकी शुरूआत प्राधिकरण के सचिव व सिविल जज ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण कर की।
शिविर में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव व सिविल जज प्रशांत कुमार सिंह ने कहा कि इस शिविर का मुख्य उद्देश्य बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के संदेश से जन जन को जागरूक करना है। अब बेटियां किसी भी मायने में बेटों से कम नहीं हैं। उन्होंने बालिकाओं को मिलने वाली निशुल्क शिक्षा, पॉक्सो एक्ट, प्रथम सूचना रिपोर्ट, बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि जब तक महिलाओं एवं बालिकाओं को उनके अधिकारों व कानूनों का ज्ञान नहीं होगा तब तक महिलाएं सशक्त नहीं होंगी।
उन्होंने आह्वान किया कि वह अत्याचारों को सहन न करें। सरकार की ओर से बनाए गए कानूनों का उपयोग कर अपने अधिकारों की रक्षा करें। मौजूदा दौर में लिंगानुपात में बालिकाओं की संख्या कम होना चिंता का विषय है। पूरी दुनिया में महिलायें अब कला, विज्ञान, निर्माण, प्रशासन, सुरक्षा व्यवस्था और नेतृत्व आदि में पुरुषों के साथ बराबरी कर एक विकसित समाज की बुनियाद रख रही हैं। ऐसे में महिलाओं के साथ बढ़ती घटनायें लोगों को झकझोर देती हैं।
महिलाओं की सुरक्षा और सहायता के लिए विशेष कानून बनाये गये हैं। कानून अभियुक्त को सजा देकर पीड़ित को न्याय दिलाते हैं। उन्होंने बताया कि 14 दिसंबर को आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में अलग अलग मामलों की सुनवाई के लिए पीठों का गठन किया गया है। पुराने सुलह होने वाले मामलों के निपटारे के लिए इस तरह की लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है।
इसमें दोनों पक्षों के बीच आपसी सुलह के आधार पर मामलों का निपटारा किया जायेगा। खंड शिक्षाधिकारी अखिलेश कुमार ने कहा कि गर्भ में पल रहे भ्रूण के लिंग का आधुनिक तकनीकों के जरिये पता लगाना दंडनीय अपराध है। शिविर को अधिवक्ता पंकज देव गुप्ता, अनूप श्रीवास्तव, सुरेंद्र कुमार आर्य, अतुल कुमार, रज्जब अली सहित काफी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।
... और पढ़ें

दौड़ में दिलीप, गौतम व ममता प्रथम

श्रावस्ती। जूनियर हाईस्कूल भिनगा में रविवार से बेसिक शिक्षा परिषद की दो दिवसीय जिला स्तरीय बाल क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। बीएसए ओमकार राणा के नेतृत्व में आयोजित प्रतियोगिता का शुभारंभ डीएम यशु रुस्तगी ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ ही दीप जलाकर किया। इस दौरान प्रतियोगिता में बच्चों ने मार्च पास्ट कर सलामी दी। वहीं अतिथि ने गुब्बारे एवं सफेद कबूतर छोड़कर आजादी, शांति एवं सौहार्द का परिचय दिया।
प्रतियोगिता की शुरुआत प्राथमिक स्तर 100 मीटर बालक वर्ग की दौड़ से हुई। इसमें विकास क्षेत्र हरिहरपुररानी के दिलीप यादव प्रथम, सिरसिया के शिवकुमार द्वितीय तथा हरिहरपुररानी के ही राकेश तृतीय स्थान पर रहे। उच्च प्राथमिक स्तर 100 मीटर बालक दौड़ में हरिहरपुररानी के गौतम प्रथम, जमुनहा के रामबरन द्वितीय जबकि हरिहरपुररानी के ही मोहम्मद आलम तृतीय स्थान पर रहे।
उच्च प्राथमिक स्तर 200 मीटर बालिका दौड़ में हरिहरहरपुररानी की ममता यादव प्रथम, रनियापुर सिरसिया की सोनिका द्वितीय जबकि जमुनहा की सामिया तृतीय स्थान पर रहीं। विजेता प्रतिभागियों को जिलाधिकारी ने मेडल पहनाकर सम्मानित किया।
इस मौके पर सुधा कुमारी, गुलिश्ता गौहर, नीतू यादव, निधि राजपूत, रेहाना कुरैशी आदि शिक्षिकाओं ने रंगोली बनाई। प्रतियोगिता के दौरान खंड शिक्षा अधिकारी अखिलेश यादव, भारत भूषण जायसवाल, कृष्ण कुमार, जिला समन्वयक अजीत उपाध्याय, जिला व्यायाम शिक्षक अमरनाथ सिंह, अनूप कुमार श्रीवास्तव, अशोक पाठक, राम दयाल, रवि कुमार, अंकित श्रीवास्तव सहित काफी संख्या में शिक्षक, शिक्षिकाएं व छात्र मौजूद रहे।
... और पढ़ें

बेटियों के उत्थान से होगा समाज का विकास

श्रावस्ती। कलेक्ट्रेट के तथागत हाल में रविवार को यूनीसेफ की ओर से स्मार्ट बेटियां फिल्म फेस्टिवल का आयोजन किया गया। इसका शुभारंभ जिलाधिकारी ने दीप जलाकर किया। इस मौके पर बाल विवाह, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं पोषण विषय पर श्रावस्ती तथा बलरामपुर की बेटियों की ओर से बनाई गई प्रेरक फिल्में दिखाई गईं। इन्हें देखकर लोगों ने बेटियों की सराहना की। इस दौरान अधिकारियों ने कहा कि बेटियों के उत्थान से ही समाज का विकास होगा।
स्मार्ट बेेटियां फिल्म फेस्टिवल में डीएम यशु रुस्तगी ने कहा कि इस फिल्म को देखने से निश्चित ही समाज में बदलाव आएगा। बाल विवाह के कारण लड़कियां कम उम्र में गर्भवती हो जाती हैं। इससे उनके शरीर का पूरी तरह मानसिक और शारीरिक विकास नहीं हो पाता है। कम उम्र होने के चलते प्रसव के दौरान बहुत सी लड़कियों की मृत्यु हो जाती है। इसलिए बाल विवाह को हम सभी को रोकना चाहिए। कम उम्र में मां बनने से लड़कियों के सेहत पर बुरा असर पड़ता है।
उनके शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है। बच्चे कुपोषण का शिकार हो सकते हैं। मातृ मृत्यु दर की संभावना बहुत अधिक होती है। विवाह के लिए लड़की की न्यूनतम आयु 18 वर्ष और लड़के की आयु 21 वर्ष होनी चाहिए। यदि कहीं बाल विवाह हो रहा है तो इसका विरोध करना चाहिए। इसके साथ ही प्रशासन को इसकी सूचना देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जिले में जन्म दर बहुत अधिक है।
इसको कम करने के लिए परिवार नियोजन के बारे में लोगों को जागरूक करें। यह भी बताए कि परिवार बड़ा होने से किस प्रकार की समस्याओं का समाना करना पड़ता है। इस दौरान प्रेरक विषयों पर कहानी व फिल्म बनाने के लिए बेटियों की सराहना करते हुए उन्हें पुरस्कृत किया गया। बाल विवाह श्रेणी में श्रेष्ठ कहानी का पुरस्कार प्रिया यादव व उसके समूह व बेहतर फिल्म का पुरस्कार नीलम सिंह व उनके समूह की पांच किशोरियों दिया गया।
शिक्षा श्रेणी में किरण व उनके समूह को श्रेष्ठ फिल्म व पूनम तथा उनके समूह की किशोरियों को श्रेष्ठ कहानी के लिये सम्मानित किया गया। स्वास्थ्य एवं पोषण विषय पर श्रेष्ठ कहानी के लिए सोनी शर्मा व उनके समूह को तथा बेहतर फिल्म के लिए अनुराधा तिवारी व उनके समूह को सम्मानित किया गया। इस दौरान अपर जिलाधिकारी योगानंद पांडेय, एएसपी बीसी दूबे, सीएमओ डॉ. बीके सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी राकेश रमन, जिला पंचायत राज अधिकारी अवनीश कुमार श्रीवास्तव, जिला कार्यक्रम अधिकारी आशा सिंह सहित सभी खंड विकास अधिकारी व छात्राएं मौजूद रहीं।
... और पढ़ें

दो लापरवाह विवेचकों की होगी जांच

श्रावस्ती। थानों में जहां केस दर्ज करने में हीला हवाली की जा रही है, वहीं मुकदमों की विवेचना में भी लापरवाही बरती जा रही है। इसका खुलासा शनिवार की देर शाम सिरसिया थाने में अपराध समीक्षा बैठक में हुआ। इस पर नाराजगी जताते हुए एएसपी ने दो विवेचकों के विरुद्ध जांच करने का निर्देश दिया है।
सिरसिया थाने का शनिवार देर शाम एएसपी बीसी दुबे ने औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने थाना परिसर, कार्यालय, मेस, बैरक, आवास, महिला व पुरुष बंदीगृह, मालखाना, शौचालय, पेयजल व्यवस्था सहित सफाई व्यवस्था का जायजा लिया। उन्होंने कार्यालय में रखे अभिलेखों की जांच की। इसमें कई अभिलेख अपूर्ण मिलने पर नाराजगी जताते हुए प्रधान आरक्षी को रजिस्टर व अभिलेख सुव्यवस्थित रखने व उनको पूरा करने का निर्देश दिया।
थाने में गंदगी दिखने पर थाना प्रभारी विनोद कुमार को सफाई कराने को कहा। इसके बाद थाने में बैठक कर अपराध की समीक्षा की। इस दौरान उन्हें 38 विवेचनाएं लंबित मिली। इसमें दो विवेचकों की विवेचनाएं काफी समय से लंबित मिली। इस पर नाराजगी जताते हुए दोनों विवेचकों की ओर से बरती गई लापरवाही की जांच कराने को कहा।
वहीं एसपी अनूप सिंह ने जिले के थानों में खड़े लावारिस वाहन व माल मुकदमाती वाहनों का निपटारा कराने के लिए पूर्व में निर्देश दिए थे। इसका अनुपालन कराने के लिए रविवार को एएसपी ने पुलिस कार्यालय में सभी थानों पर नियुक्त मालनिस्तारण उपनिरीक्षक, प्रधान आरक्षी व पैरोकार के साथ बैठक की। इसमें लंबित मामलों की समीक्षा की गई। इसके साथ मातहतों को थानों पर खड़े वाहनों की पैरवी कर यथाशीघ्र निपटारा कराने का निर्देश दिया।
... और पढ़ें

एएनएम नहीं दे रही परिवार नियोजन की जानकारी

श्रावस्ती। जिलाधिकारी ने शनिवार को मिशन इंद्रधनुष की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने माना कि एएनएम महिलाओं को परिवार नियोजन की जानकारी नहीं दे रही हैं। इसके साथ ही बैठक में अन्य समस्याओं पर भी विचार विमर्श किया गया।
समीक्षा बैठक के दौरान डीएम यशु रुस्तगी ने कहा कि एएनएम व आशाओं की ओर से गांवों में परिवार नियोजन जानकारी नहीं दी जा रही है। इससे अन्य जिलों की अपेक्षा श्रावस्ती में जनसंख्या वृद्धि दर अधिक है। इसको कम करने के लिए सरकार की ओर से अस्पताल के माध्यम से परिवार नियोजन की कई सुविधाएं निशुल्क दी जा रही है।
प्रोत्साहन स्वरूप महिला नसबंदी के लिए दो हजार, पुरुष नसबंदी के लिए तीन हजार, प्रसव के बाद कापर टी लगवाने पर 300 रुपये दिए जा रहे हैं। इसके साथ ही परिवार नियोजन के अन्य संसाधनों को लोग अपना कर खुशहाल बना सकते है। समीक्षा के दौरान उन्होंने देखा कि एनआरसी में अति कुपोषित बच्चों की उपस्थिति कम हो रही है।
इस पर सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों को कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि जिले में जितने भी मरीज ओपीडी में आते हैं उनमें से तीन प्रतिशत मरीजों का क्षय रोग परीक्षण कराया जाए। इस दौरान प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना, जननी सुरक्षा योजना, आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना, डेंगू से बचाव एवं हाई रिस्क गर्भवती की पहचान सहित स्वास्थ्य विभाग की ओर से संचालित अन्य कार्यक्रमों की भी समीक्षा की गई। मौके पर स्वास्थ्य सहित अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।
... और पढ़ें

ठंड के साथ जंगलों में बढ़ी अवैध कटान

मल्हीपुर (श्रावस्ती)। ठंड शुरू होते ही जंगलों से अवैध कटान करके कीमती लकड़ी को बाजार पहुंचाया जा रहा है। सबसे अधिक कटान ककरदरी रेंज के जमुनहा कानी बोझी व लक्ष्मनपुर कोठी क्षेत्र में हो रही है। इन मार्गों पर सुबह अवैध कटान करने वाले लकड़हारों की कतार लग जाती है। इस कार्य में वन विभाग के कुछ कर्मचारी भी मिले हुए हैं। इसके चलते अवैध कटान करने वालों पर कार्रवाई नहीं हो पाती।
तराई का पारा जैसे जैसे गिरता जा रहा है। वैसे वैसे लकड़ी की मांग बढ़ती जा रही है। इस मांग को पूरा करने के लिए लकड़हारों की कुल्हाड़ी जंगल के कीमती पेड़ों पर चल रही है। प्रतिदिन सैकड़ों टन लकड़ी जंगल से काट कर बाजार पहुंचाई जा रही है।
ऐसा ही कुछ नजारा शनिवार तड़के ककरदरी जंगल से सटे जमुनहा, कानी बोझी, लक्षणपुर बैराज व मल्हीपुर बाजार में देखने को मिला। यहां जंगल से लकड़ी काट कर साइकिलों से बाजार में पहुंचाई जा रही है। इसमें ज्यादातर सागौन व साखू की लकड़ी है। औसतन प्रति साइकिल पर दो से तीन क्विंटल लकड़ी लदी होती है।
इस कार्य में लकड़हारों के साथ वन विभाग के कुछ कर्मचारियों की मिली भगत होती है। इसी के चलते सुबह चार से पांच बजे के मध्य बैराज से यह लकड़हारे साइकिल लेकर खुलेआम गुजरते हें, जबकि बैराज पर ही वन विभाग का एक बैरियर भी है। इस संबंध में डीएफओ एपी यादव बताते हैं कि मामले की जानकारी नहीं थी। विशेष टीम भेज कर इस अवैध कटान की जांच कराई जाएगी।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election