विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

अयोध्या मामले में पुनर्विचार याचिका के पीछे भी कांग्रेस का हाथ- वेदांती

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को एकजुटता के सूत्र में बांधने का सार्थक प्रयास किया है। गैर भाजपाई सरकारों पर आरोप लगाया कि बंगलादेश, पाकिस्तान से कई आंतकवादी भारत में घुस आते और फिर यहां आतंकी हमले कर दहशत फैलाते हैं।

12 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

उन्नाव

गुरूवार, 12 दिसंबर 2019

सदर बाजार मार्ग का अतिक्रमण हटाया

गंजमुरादाबाद। नगर के दरगाह शरीफ जाने वाले सदर बाजार मार्ग पर किए गए अतिक्रमण को मंगलवार को नगर पंचायत व पुलिस प्रशासन ने हटवाया।
मुख्य चौराहे से दरगाह शरीफ जाने वाले सदर बाजार मार्ग के निर्माण के लिए टेंडर हो चुका है। पिछले दिनों ठेकेदार ने निर्माण कार्य कराए जाने की पहल की थी, लेकिन भारी विरोध के चलते कार्य बंद करा दिया था। मंगलवार को नगर पंचायत के चेयरमैन रामनरेश कुशवाहा, अधिशासी अधिकारी कुंवर गौरव सिंह तथा पुलिस चौकी इंचार्ज आरके शुक्ला के नेतृत्व में सदर मार्ग पर किए गए अतिक्रमण को हटवाकर जेसीबी मशीन से मार्ग के दोनों ओर खुदाई कराई गई। इस मौके पर नगर पंचायत का पूरा स्टाफ तथा पुलिस फ ोर्स के साथ-साथ आसपास के दुकानदारों की भारी भीड़ मौजूद रही।
... और पढ़ें

ससुराल पत्नी व अन्य को पीटा, रिपोर्ट दर्ज

बाहर की दवा लिखने पर भिड़े दो डाक्टरों के सहयोगी युवक

उन्नाव। जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर में अस्पताल की ही महिला सफाई कर्मी को बाहर की दवा लिखने पर हड्डी के अलग-अलग डाक्टरों के पास बैठने वाले दो युवकों में आपस में मारपीट हो गई। बवाल बढ़ने पर किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। इस बीच मारपीट करने वाला एक युवक भाग निकला। दूसरे युवक ने पुलिस को पहले तहरीर दी। बाद में दोनों ने समझौता कर लिया।
जिला अस्पताल की ओपीडी में सभी डाक्टरों के साथ बाहरी लोग बैठते हैं। यह लोग मरीजों को कमीशन वाली दवाएं लिखते हैं। मंगलवार दोपहर जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर में डाक्टर के साथ बैठने वाले दो युवकों में अस्पताल की महिला सफाई कर्मी को कमीशन की दवा लिखने पर बहस हो गई। डाक्टर ने दोनों युवकों को समझाकर मामला शांत कराया। ओपीडी समाप्त होने के बाद दोनों युवक बाहर निकलते ही दोबारा आपस में भिड़ गए। मारपीट होते देख किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। अस्पताल चौकी इंचार्ज मौके पर पहुंचे और जांच की। एक पक्ष ने पहले दूसरे के खिलाफ तहरीर दी। लेकिन बाद में दोनों ने आपस में समझौता कर लिया। जिला अस्पताल चौकी इंचार्ज रामजीत यादव ने बताया कि एक पक्ष ने पहले घटना की तहरीर दी थी। बाद में आपस में समझौता कर लिया है।
... और पढ़ें

यूपी: भाजपा नेता पर जानलेवा हमला, भागकर बचाई जान, जांच में जुटी पुलिस

घटना की जांच करती पुलिस घटना की जांच करती पुलिस

हाईवे किनारे दुकानों में लगी आग, आधे घंटे रुका ट्रैफिक

नवाबगंज(उन्नाव)। कानपुर-लखनऊ हाईवे पर नवाबगंज कस्बे में बस स्टॉप के पास सर्विसलेन किनारे मंगलवार रात गुमटी दुकानों में आग लग गई। तेज लपटों से करीब आधे घंटे तक हाईवे का यातायात भी प्रभावित रहा। चौकी पुलिस ने अग्निशमन केंद्र को सूचना दी। दमकल करीब दो घंटे बाद पहुंची तबतक तीन दुकानें जल चुकी थीं। सब्जी व्यापारियों ने लगभग दो लाख के नुकसान की बात कही है। सब्जी विक्रेता की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।
कानपुर बस स्टॉप के समीप मंगलवार रात दुर्गेश व राम प्रकाश निवासी मददूखेड़ा की सब्जी दुकान में अचानक आग लग गई। हाईवे किनारे दुकानों में लगी आग देख लोगों ने सब्जी व्यापारी को सूचना दी। वहीं, आग ने पड़ोस में सैलून चलाने वाले बबलू निवासी भांडी की भी गुमटी को चपेट में ले लिया। आग बढ़ते देख अन्य दुकानदारों ने अपनी दुकानों को गिराकर बचाने का प्रयास किया। लगभग दो घंटे देरी से पहुंची फ ायर ब्रिगेड टीम ने बड़ी मशक्कत के बाद दो घंटे में आग पर काबू पाया। तीनों दुकानदारों की दुकान जलकर राख हो गई। घटना के दूसरे दिन दुर्गेश राम प्रकाश व बबलू ने तहरीर देकर लगभग 3 लाख रुपये नुकसान की आशंका जताते हुए अज्ञात लोगों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई है।
... और पढ़ें

संयुक्त निदेशक की टीम ने फाइलेरिया दवा की जानी हकीकत

पुरवा(उन्नाव)। कोतवाली क्षेत्र के गांव कटरा में युवक की मौत से फाइलेरिया की दवा पर सवाल उठने के बाद बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त निदेशक तीन सदस्यीय टीम के साथ सीएचसी पहुंचे। सीएचसी प्रभारी से युवक व उसके परिवार में खिलाई गई फाइलेरिया की दवा की जानकारी लेने के साथ पूरे माइक्रोप्लान की समीक्षा की। करीब एक घंटे जांच करने के बाद टीम वापस लखनऊ लौट गई।
कटरा गांव निवासी विजय बहादुर (40) की सोमवार रात करीब एक बजे सांस लेने में तकलीफ और झटके आने से हालत बिगड़ गई थी। छोटे भाई रमाशंकर ने सीएचसी पहुंचाया था। यहां डाक्टर ने विजय बहादुर को मृत घोषित कर दिया था। परिजनों ने फाइलेरिया की दवा खाने से हालत बिगड़ने फिर मौत होने का आरोप लगा हंगामा काटा था। बुधवार को स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त निदेशक लखनऊ मंडल डॉ. एके त्रिपाठी डॉ. मानवेंद्र त्रिपाठी व डॉ. धीरज पांडेय के साथ दोपहर करीब 2.30 बजे सीएचसी पहुंचे।
यहां प्रभारी डॉ. प्रमोद कुमार से मृतक विजय बहादुर व उसके परिवार को फाइलेरिया की दवा खिलाने व हालत बिगड़ने के समय की जानकारी ली। दवा खिलाने गए वालंटियर अमरेश व राजेश के भी बयान दर्ज किए। फाइलेरिया अभियान के माइक्रोप्लान की समीक्षा की तो पता चला 1.43 लाख का लक्ष्य था, जिसमें 1.15 लाख लोगों को फाइलेरिया की दवा खिलाई गई है। इस दौरान उन्होंने सीएमओ डॉ. कामेंद्र पाल सिंह से भी फोन पर वार्ता की। करीब एक घंटे तक समीक्षा करने के बाद टीम वापस लौट गई।
आशा रंजीता ने संयुक्त निदेशक को बताया कि कोतवाली क्षेत्र के गांव रम्माखेड़ा निवासी सरोजनी को फाइलेरिया की दवा खिलाई गई थी, जिससे उसके चकत्ते पड़ने के साथ उल्टियां शुरू हो गईं थीं। महिला के परिजन धमकी दे रहे हैं कि कुछ भी हुआ तो तुम्हें भी नहीं छोड़ूंगा। इस पर संयुक्त निदेशक ने सीएचसी प्रभारी को पुलिस को शिकायती पत्र देेने के निर्देश दिए हैं।
कटरा गांव में हुई युवक की मौत पर फाइलेरिया की दवा खाने से हालत बिगड़ने के आरोपों को सीएमओ ने निराधार बताया। पत्रकारों से वार्ता करते हुए सीएमओ डॉ. कामेंद्र पाल सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हृदयघात होने से मौत की बात सामने आई है। जांच के लिए विसरा भी सुरक्षित कराया गया है। उन्हाेेंने लोगों से अपील की है कि अफवाह पर ध्यान न दें। फाइलेरिया की दवा का सेवन करने से यह रोग हमेशा के लिए ठीक हो जाता है। यहां एसीएमओ डॉ. आरके गौतम, नोडल अधिकारी वेक्टर वॉर्न डिजीज डॉ. जेआर सिंह, जिला मलेरिया अधिकारी रमेशचंद्र यादव व स्वास्थ्य एवं शिक्षाधिकारी लाल बहादुर यादव उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

ग्रामीणों ने प्राथमिक विद्यालय में बंद किए मवेशी

सोनिक/नवाबगंज/ चकलवंशी।(उन्नाव)। विकासखंड की ग्रामसभा पिपरोसा के किसानों ने 50 से अधिक छुट्टा मवेशियों को मंगलवार रात गांव के प्राइमरी स्कूल में बंद कर दिया। सूचना पर पहुंची पीआरवी, प्रधान और सचिव ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं माने। बुधवार सुबह उपजिलाधिकारी हसनगंज और तहसीलदार गांव पहुंचे और ग्रामीणों से वार्ता की। इसके बाद मवेशियों को टैगिंग करा वाहनों से पास के गांव जंसार और भौली में बनी अस्थायी गोशाला भेजा। वहीं, बच्चों की पढ़ाई नहीं हो सकी।
फ सलों को नुकसान पहुंचा रहे मवेशियों को ग्रामीणों ने खदेड़कर मंगलवार रात प्राथमिक विद्यालय में बंद कर दिया था। रात को तहसीलदार नरेंद्र कुमार यादव और कोतवाली प्रभारी अजयराज वर्मा मौके पर पहुंचे थे और जानवरों को बाहर निकलवाकर वापस लौट गए थे। बुधवार सुबह प्रधान शिक्षिका मंजू विद्यालय पहुंची तो गेट का ताला टूटा मिला। अंदर देखा तो मवेशी भरे हुए थे। बाहर गांव के लोग लाठी-डंडे लिए मौजूद थे। शिक्षिका ने मामले की जानकारी अधिकारियों को दी। इस पर एसडीएम प्रदीप वर्मा और तहसीलदार नरेंद्र कुमार यादव पहुंचे और वहां पर ग्रामीणों से वार्ता की। ग्रामीण जब कोई बात सुनने को तैयार नहीं हुए तो पुलिस ने डराने-धमकाने का प्रयास किया। इससे महिलाएं भी सड़क पर निकल आईं। सैकड़ों महिलाओं को विरोध करता देख पुलिस प्रशासन के भी हाथ-पांव फ ूल गए।
एसडीएम ने पशु चिकित्सक डॉ. राजेश मौर्या और ग्राम विकास अधिकारी बृजेश को निर्देश दिए कि सभी जानवरों को यहां से निकाल कर उनकी टैगिंग कराते हुए दूसरी गोशाला में भिजवाएं। इस पर अधिकारियों ने ट्रक व डीसीएम बुलवाकर उसमें मवेशियों को लदवाया। इसके बाद जंसार और भौली गोशाला में भिजवाने की कार्रवाई शुरू कराई। जब तक पूरे जानवर गोशाला नहीं भेज दिए गए तब तक गांव के लोग वहीं पर बैठे रहे।
माखी थानाक्षेत्र के ग्राम पंचायत मेथीटीकुर के मजरा चकलवंशी में स्थित अस्थायी गोशाला का अराजकतत्वों ने ताला काट दिया। जिससे गोशाला में बंद सौ से अधिक मवेशी भाग गए। एसडीएम सफ ीपुर, बीडीओ व पशु चिकित्साधिकारी पहुंचे। प्रधान प्रतिनिधि ने करीब बीस लोगों के विरुद्ध पुलिस को तहरीर दी है।
तहसील सफ ीपुर क्षेत्र के ग्राम पंचायत मेथीटीकुर के मजरा चकलवंशी में स्थित कन्या जूनियर स्कूल के नजदीक एक अस्थायी गोशाला का निर्माण कराया जा रहा है। गोशाला और स्कूल की बाउंड्री एक ही है। ग्रामीणों ने छुट्टा मवेशियों को रविवार से गोशाला में ही बंद करना शुरु किया था। पिछले तीन दिन से मवेशियों को चारा-पानी नसीब नहीं हो रहा था। सोमवार को पशु चिकित्सक राजेश कुमार ने 72 मवेशियों को टैग लगाया था। उसके बाद किसानों ने और मवेशी भरकर ताला लगा दिया था। उप पशु चिकित्साधिकारी सफ ीपुर आरके चौरसिया ने बताया कि इस गोशाला में अधिकतम दो दर्जन मवेशी रखे जा सकते हैं। मंगलवार रात किसी अराजकतत्व ने गेट में लगी जंजीर को आरी से काट कर उसे खोल दिया। जिससे सभी मवेशी भाग गए। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि सचिन सिंह ने पुलिस और एसडीएम को सूचना दी। मौके पर पहुंचे सफ ीपुर एसडीएम अनिल कुमार सिंह ने अराजकतत्वों पर मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया। इस मौके पर दरोगा बलराम यादव, लेखपाल रामस्वरूप व ग्राम सचिव सकुशल सिंह सहित सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।
दरोगा बलराम ने बताया कि करीब बीस लोगों पर रिपोर्ट दर्ज करने की तहरीर मिली है। वहीं, ग्रामीणों का कहना है कि मवेशियों को रात में लोडर से कहीं भेज दिया गया है। उधर, 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ तहरीर देने से आक्रोशित ग्रामीणों ने चकलवंशी में जाम लगाकर हंगामे का प्रयास किया। प्रधान प्रतिनिधि व सचिव पर आरोप लगाया कि कोई उनकी सुन नहीं रहा है। फसल बर्बाद हो रही है। इसके विपरीत मुकदमा दर्ज कराने की तैयारी है। इसकी जानकारी मिलने पर थाना प्रभारी माखी सुधाकर यादव पहुंचे और ग्रामीणों को समझाया। कहा कि किसी ग्रामीण पर मुकदमा दर्ज नहीं होगा। इसके बाद ग्रामीण शांत हुए।
... और पढ़ें

छोटा चौराहा पर शव रखकर लगाया जाम, हंगामा

पिपरोसा प्राथमिक विद्यालय में बंद मवेशी।
लीड
फोटो नंबर, 14, 15
छोटा चौराहा पर शव रखकर लगाया जाम, हंगामा
जहर से युवक की मौत मामले में परिजन कर रहे थे गिरफ्तारी की मांग
दो लोगोें पर मृतक के भाई ने मंगलवार को दर्ज कराई थी रिपोर्ट, लगा जाम
संवाद न्यूज एजेंसी
उन्नाव। शहर के मोहल्ला तालिब सरांय निवासी युवक की जहर खाने से मौत के मामले में परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर बुधवार दोपहर छोटा चौराहा पर शव रखकर हंगामा किया। पुलिस ने कानपुर हैलट से पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी का भरोसा दिला परिजनों को शांत कराया। कोतवाल के आश्वासन पर परिजन शव लेकर अंतिम संस्कार को चले गए। हंगामा के दौरान करीब 20 मिनट तक जाम में वाहन फंसे रहे।
शहर के मोहल्ला तालिब सरांय निवासी कमलेश 35 पुत्र महावीर ने रविवार को घर में जहरीला पदार्थ खा लिया था। सोमवार रात कानपुर के हैलट में उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई थी। मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद परिजन शव लेकर घर आए। रात 9 बजे करीब मृतक का भाई कल्लू कोतवाली पहुंचा और पुलिस को तहरीर देकर बताया कि पड़ोसी नुरुद्दीनगर व तालिब सरांय निवासी जमीन ब्रोकर शादाब, नीतू और रजेपाल ने उसके भाई कमलेश को झांसे में लेकर उसके पूर्व में बिके आधा बिस्वा प्लॉट की प्रीती नाम की महिला को रजिस्ट्री करवा दी। प्रीती को जब प्लॉट पर कब्जा नहीं मिला तो उसने उसके भाई कमलेश, सादाब, नीतू व रजेपाल के खिलाफ 14 मई 2019 को धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज करा दी। तीनोें ब्रोकर 2.50 लाख रुपये वापस लौटाने का कमलेश पर दबाव बनाने लगे। उधर पुलिस भी कमलेश से पूछताछ करने उसके घर पहुंचने लगी। ऊबकर कमलेश ने जहर खा लिया। मृतक के भाई कल्लू की तहरीर पर देर रात पुलिस ने सादाब, नीतू व रजेपाल के विरुद्ध धोखाधड़ी, कूटरचना करके संपत्ति की बिक्री कराने, जान की धमकी व गाली-गलौज की धाराओं में रिपेार्ट दर्ज की थी। बुधवार सुबह परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर छोटा चौराहा पर शव रखकर जाम लगा दिया। सीओ सिटी यादवेंद्र यादव, कोतवाल दिनेश चंद्र मिश्र ने मौके पर पहुंच कानपुर हैलट से पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी का भरोसा दिलाया। जिस पर परिजन सड़क से हट गए और शव लेकर अंतिम संस्कार को लेकर चले गए। इस दौरान करीब 20 मिनट जाम लगा रहा।
... और पढ़ें

नेटवर्क न होने से आरोपी चाचा की नहीं हो सकी पेशी

नेटवर्क न होने से आरोपी चाचा की नहीं हो सकी पेशी
एडीजे षष्ठ व तृतीय के यहां चार मामलों की वीडियो कांफ्रेंसिंग से होनी थी सुनवाई
संवाद न्यूज एजेंसी
उन्नाव। विधायक पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता के चाचा पर चल रहे प्राणघातक हमले सहित चार मामले की बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग से पेशी होनी थी, लेकिन नेटवर्क की दिक्कत के चलते पेशी नहीं हो पाई। इन सभी मामलों में अगली तारीख 18 दिसंबर दी गई है।
विधायक कुलदीप सेंगर पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता के चाचा पर दर्ज प्राणघातक हमले की सुनवाई अपर सत्र न्यायाधीश षष्ठ अहसान उल्ला खां के न्यायालय में चल रही है। पिछली सुनवाई में जज ने गवाहाें को अगली पेशी में आने का आदेश दिया था, लेकिन गवाह हाजिर नहीं हुए थे। इससे गवाही नहीं हो पाई थी। वहीं एसीजेएम तृतीय प्रमोद कुमार के न्यायालय में चल रहे मुकदमों में फर्जी टीसी, कब्र खुदवाने व झूठा प्रार्थनापत्र के मामले में भी सुनवाई होनी थी, लेकिन नेटवर्क की समस्या होने से आरोपी चाचा की वीडियो कांफ्रेंसिंग से भी पेशी नहीं हो पाई। आरोपी चाचा के वकील अजेंद्र अवस्थी ने बताया कि गवाहों के न आने और नेटवर्क की दिक्कत के चलते पेशी नहीं हो पाई। इन सभी मामलों की सुनवाई के लिए अगली तिथि 18 दिसंबर दी गई है।
... और पढ़ें

कोरारीकला में कोटेदार के चयन को बुलाई बैठक में हुई मारपीट

अचलगंज। विकासखंड बिछिया के कोरारीकला के सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान के लिए चल रहे चुनाव के दौरान दो पक्षों में तू-तू, मैं-मैं हो गई। हंगामा बढ़ते देख चुनाव अधिकारी ने चुनाव प्रक्रिया स्थगित कर आगे किसी तारीख पर चुनाव कराने का आदेश दिया।
कोरारीकला में सरकारी राशन दुकान के नए कोटेदार के चयन के लिए चुनाव अधिकारी के रूप में एडीओ पंचायत रविकुमार शर्मा पहुंचे। उनके सामने गांव की राजश्री पति मनोज कुमार व विटोल पत्नी शिवेंद्र ने अपनी प्रत्याशिता दाखिल की। जिस पर दोनों पक्षों के सैकड़ों समर्थक आपस में भिड़ गए। मामला गालीगलौज से शांत न हुआ और मारपीट की नौबत आ गई। जिस पर वहां उपस्थित पुलिस के जवानों ने किसी तरह बीच-बचाव कर मामला शांत कराया। बवाल की आशंका के चलते एडीओ ने प्रक्रिया को स्थगित कर दिया। उन्होंने बताया कि स्थिति को देखते हुए शांतिपूर्ण चुनाव असंभव दिख रहा है। मामले की रिपोर्ट एसडीएम को भेजी जा रही है। आगे की कार्रवाई एसडीएम करेंगे।
... और पढ़ें

टोलकर्मियों व किसान यूनियन कार्यकर्ताओं से मारपीट

नवाबगंज। टोल प्लाजा पर पर्ची कटवाने के दौरान बुधवार को किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं व टोलकर्मियों के साथ गालीगलौज व मारपीट हो गई। बुधवार सुबह लगभग 11 बजे चार पांच गाड़ियों में सवार किसान यूनियन के कार्यकर्ता लखनऊ जाते समय नवाबगंज टोल प्लाजा पर रुके और पर्ची न कटवाने की बात करने लगे। इसकी सूचना टोल मैनेजर सीपी दीक्षित को मिली तो वह बूथ पर पहुंचे और पर्ची कटवाने को कहा। लेकिन किसान यूनियन कार्यकर्ता पर्ची न कटवाने की बात पर अड़े रहे। इस दौरान दोनों में जमकर गालीगलौज हुई। बवाल के दौरान टोल पर जाम लग गया। सूचना मिलते ही पुलिस पहुंच गई। दोनों पक्षों को समझा-बुझाया और गाड़ियों को जाने दिया। एसओ अजयराज वर्मा ने बताया कि विवाद को सुलझा दिया गया। कोई शिकायतीपत्र नहीं मिला है। संवाद ... और पढ़ें

नवजात की मौत मामले में महिला डाक्टर व बाल रोग विशेषज्ञ मिले दोषी

नवाबगंज/हसनगंज। सीएचसी में दो महीने पहले नवजात बच्चे की हुई मौत मामले में जांच के दौरान चिकित्सकों की लापरवाही सामने आई है। डीएम ने प्रसव कराने वाली महिला डॉक्टर व ड्यूटी के दौरान उपस्थित रहे बाल रोग विशेषज्ञ के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं परिवार कल्याण को पत्र भेजा है।
भाजपा के ओबीसी मोर्चा हसनगंज मंडल के अध्यक्ष दुर्गेश राठौर के नवजात बच्चे की नवाबगंज सीएचसी में 9 जून 2019 को मौत हो गई थी। उन्होंने डॉ. कंचन व बाल रोग विशेषज्ञ डा. शैलेंद्र अस्थाना, स्टाफ नर्स व सफाई कर्मी पर लापरवाही का आरोप लगाया था। 25 अगस्त को दुर्गेश राठौर ने मुख्यमंत्री को अपने खून से पत्र लिखा था। जिस पर सीएमओ ने आरोपी डॉक्टरों को प्रतिकूल प्रविष्टि देने के साथ स्टाफ नर्स व सफाई कर्मी को सीएचसी से हटा दिया था। जांच के लिए डीएम ने तीन सदस्यीय जांच टीम गठित की थी। जांच में टीम ने पाया है कि नीलम राठौर का प्रसव सामान्य नहीं था। उसका ऑपरेशन किया जाना अनिवार्य था, लेकिन महिला चिकित्साधिकारी ने सामान्य प्रसव कराने का प्रयास किया, जिससे बच्चे की मौत हो गई। बाल रोग विशेषज्ञ ने भी इलाज में गंभरीता नहीं दिखाई और न ही बच्चे को बचाने का प्रयास किया। मामले पर पर्दा डालने और खुद को बचाने के लिए प्रसूता की सास गोमती का अंगूठा 9 जून को सुबह 11:50 बजे लगवाया गया। जिस नोटशीट पर अंगूठा लगवाया गया वह प्राइवेट अस्पताल ले जाने की बात लिखी है। नियमानुसार इसे मरीज के दाखिला प्रपत्र में अंकित कराया जाना था। मामले में दोषी पाए जाने पर डीएम देवेंद्र पांडेय ने दोनों डाक्टरों के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं परिवार कल्याण को पत्र भेजा है।
... और पढ़ें

मां के डांटने पर बेटे ने खुद को लगाई आग

गंजमुरादाबाद। डांट से क्षुब्ध बेटे ने मां, बाप को घर से धक्का देकर भगा दिया और खुद पर केरोसिन डालकर आग लगा ली। गंभीर हालत में उसे बांगरमऊ सीएचसी में भर्ती कराया गया। जहां से उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया।
बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के ग्राम महमदाबाद कलवारी निवासी अविवाहित 20 वर्षीय अमन पुत्र सुखदेव सिंह शराब पीने का लती है। बुधवार दोपहर बाद अमन नशे की हालत में घर आया तो माता-पिता ने डांट दिया। इससे बाप बेटे में काफ ी झड़प हो गई, जिस पर अमन ने मां बाप को घर से धक्का देकर भगा दिया। इससे वृद्ध दंपति पास की एक रिश्तेदारी में चले गए। उनके जाने के बाद अमन ने अपने शरीर पर केरोसिन डालकर आग लगा ली। जब वह चीखा तो पड़ोसी उसकी तरफ दौड़े। किसी तरह पड़ोसियों ने उसे बचाया, लेकिन तब तक वह 80 प्रतिशत जल चुका था। पड़ोसियों ने उसे सीएचसी में भर्ती कराया, जहां गंभीर हालत में उसे ट्रामा सेंटर रेफ र कर दिया गया है। जहां वह जिंदगी मौत से जूझ रहा है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election