विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Uttarakhand Lockdown update Live: हल्द्वानी में युवक की मां ने पार्षद पर उठाया हाथ, आमने-समाने आए दोनों पक्ष

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमित मामलों के बीच गुरुवार का दिन स्वास्थ्य विभाग के लिए राहत लेकर आया। मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी और एम्स ऋषिकेश से आई सैंपल जांच रिपोर्ट में कोई कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला। 

10 अप्रैल 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

अल्मोड़ा

शुक्रवार, 10 अप्रैल 2020

Uttarakhand Lockdown: नदियों में नहा रहे लोग, टूट रहा सोशल डिस्टेंस

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए चल रहे लॉकडाउन किया गया है, ताकि लोग अपने घरों में रहें और सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहे। इसके बावजूद लोग नदियों में नहाने से बाज नहीं आ रहे हैं। कई बार तो नदियों के किनारे काफी भीड़ जमा होने की शिकायत भी मिल रही है।

तीन दिन पहले भिकियासैंण के निकट रामगंगा नदी में डूबकर तीन युवकों की मौत भी हो गई थी। पिछले कुछ दिन से गर्मी शुरू होने के साथ ही घाटी वाले इलाकों में युवा नदियों में नहाने पहुंच रहे हैं। खास तौर पर आबादी से दूर के क्षेत्रों में लोग लॉकडाउन की भी परवाह नहीं कर रहे हैं।

बता दें कि तीन दिन पहले भिकियासैंण के निकट नदी में नहाने गए तीन युवकों की डूबकर मौत हो गई थी। इधर अल्मोड़ा के निकट भैसोड़ा नामक स्थान में भी हर रोज युवा लॉकडाउन के दौरान स्वाल नदी में नहाने पहुंच रहे हैं।

कोसी औऱ अन्य नदियों में भी युवाओं के नहाने पहुंचने की सूचनाएं मिल रही हैं, जिससे घटनाओं की आशंकाएं बनी रहती हैं। लोगों ने ग्रामीण इलाकों में राजस्व पुलिस की मदद से लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने की मांग की मांग की है।
... और पढ़ें

अब गुल्लक लेकर गांव गांव निकले लोग

Coronavirus Uttarakhand: पांच जिलों में सील किए गए मोहल्लों में उतारी जा रही सर्विलांस टीमें, तैयार होगी ट्रैक हिस्ट्री

कोरोना संक्रमण को हर हाल में रोकने के लिए उत्तराखंड में लॉकडाउन किए गए मोहल्लों और कॉलोनियों की शत-प्रतिशत स्क्रीनिंग होगी। शासन और प्रशासन ने कुछ इलाकों में अपने इस अभियान पर कार्रवाई शुरू कर दी है। प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव मामले पाए जाने पर उनसे जुड़े करीब डेढ़ दर्जन स्थानों को सील कर दिया गया है। प्रदेश में अभी तक 31 कोरोना पॉजिटिव मामलों की पुष्टि हुई है।

इनमें सबसे अधिक 18 यानी 58 प्रतिशत मामले अकेले देहरादून जिले के हैं। इसकी वजह से अब शासन ने देहरादून को हॉट स्पॉट मान लिया है। जिले में अभी तक पांच आवासीय कालोनी व बस्तियों को पूरी तरह से सील कर दिया है। हरिद्वार जिले के रुड़की में पनियाला गांव को सील किया गया है जबकि कलियर और मंगलौर के कुछ घर भी निगरानी पर रखे गए हैं।

नैनीताल जिले के हल्द्वानी में चार इलाकों में लॉकडाउन किया गया है। इसी तरह अल्मोड़ा के रानीखेत में भी तीन मोहल्ले सील किए गए हैं। ऊधमसिंह नगर में गुज्जर खत्ता गांव लॉक डाउन है। इन सभी मोहल्लों में कोरोना पॉजिटिव मामले मिले हैं।
... और पढ़ें

जनसेवा का जुनून, मास्क बनाकर निशुल्क कर रहे वितरित

द्वाराहाट। कोरोना महामारी के संक्रमण को लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी मास्क बनाकर निशुल्क दिये जा रहे हैं। इस कार्य में जुटी हैं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की आशा कार्यकर्ता उमा पंत। वह अपने घर पर ही तीन सहयोगियों के साथ विगत एक सप्ताह से मास्क बनाने का काम कर रही हैं। अब तक 200 मास्क तैयार कर चुकी हैं। वह आस-पास के गांव में मुफ्त मास्क वितरित करा रहीं हैं। बेढूली निवासी आशा कार्यकर्ती उमा पंत एवं बेढूली की ग्राम प्रधान शीनू आर्या, दीपा रावत व मंजू रावत चारों के सहयोग से मास्क तैयार किए जा रहे हैं। उमा पंत ने बताया कि, अब तक वे लगभग 200 मास्क तैयार कर चुकी हैं अभी भी जो लोग बाजार या इधर उधर बिना मास्क के जाते दिखाई देते हैं, उन्हें मास्क दे देती हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र द्वाराहाट, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र असगोली ने उनके कार्य के लिए उनकी सराहना की है। ... और पढ़ें
द्वाराहाट में मास्क बनाती आशा कार्यकर्ती उमा पंत। द्वाराहाट में मास्क बनाती आशा कार्यकर्ती उमा पंत।

सस्ता गल्ला की दुकानों पर प्रशासन ने मारे छापे, एक दुकान सीज

तबलीगी जमातियों के छिपे होने की सूचना मिलने से हड़कंप

अल्मोड़ा। नगर के धारानौला से आफिसर कॉलोनी के बीच एक फर्नीचर बनाने वाले के यहां तब्लीगी जमातियों के छिपे होने से संबंधी पर्चे मिलने से हड़कंप मच गया। एसडीएम सीमा विश्वकर्मा को निरीक्षण करने के दौरान हाथ से लिखे पोस्टर मिले। पोस्टर में लिखे नंबर और पते के आधार पर प्रशासन की टीम उस जगह गई तो सूचना फर्जी निकली। इससे प्रशासन ने राहत की सांस ली।
बृहस्पतिवार को एसडीएम सीमा विश्वकर्मा नगर के धारानौला में निरीक्षण कर रही थी। इस दौरान उन्हें सड़क में पोस्टर पड़े हुए मिले, जिसमें ऑफिसर कॉलोनी इलाके में स्थित एक फर्नीचर बनाने वाले व्यक्ति के वहां तबलीगी जमातियों के ठहरने की बात लिखी गई थी। हाथ से लिखे पर्चों में एक समुदाय विशेष के व्यक्ति द्वारा तब्लीगी जमातियों को पनाह देने का जिक्र किया गया है।
पर्चों के आधार पर एसडीएम सीमा विश्वकर्मा और कोतवाल अरुण वर्मा, तहसीलदार संजय कुमार आदि ने संबंधित व्यक्ति के यहां जाकर तहकीकात की। एसडीएम ने बताया कि उक्त स्थान पर जमात के किसी व्यक्ति के पनाह लेने की बात अफवाह निकली। उन्होंने बताया कि इस तरह के पर्चे लिखकर अफवाह फैलाने वालों का पता लगाया जा रहा है। इन पर्चों को हैंडराइटिंग विशेषज्ञ के पास भेजा जाएगा। इस मामले में एफआईआर दर्ज करने की भी तैयारी चल रही है।
-
तब्लीगी जमात से जुड़े लोगों को लेकर रोज चल रही हैं चर्चाएं
अल्मोड़ा। इन दिनों नगर में कई स्थानों पर जमातियों के छिपे होने की चर्चा चलती रहती है। बीते दिनों नरसिंह बाड़ी इलाके में भी एक स्थान पर जमातियों के आने की चर्चाओं का बाजार गर्म रहा। बाद में प्रशासन के अधिकारियों ने भी इस बारे में जानकारी ली लेकिन वहां किसी जमाती के आने की बात सामने नहीं आई। इधर एसडीएम सीमा विश्वकर्मा ने बताया कि प्रशासन नगर और आसपास के इलाकों में तबलीगी जमात से लौटने वाले लोगों के बारे में पूरी जानकारी जुटा रहा है और इस तरह की सूचनाओं पर पूरी जानकारी ली जा रही है लेकिन इसे लेकर अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।
-
नहाने के फेर में पहुंचे संस्थागत क्वारंटीन
बागेश्वर। नगर में कारपेंटर का काम कर रहे उत्तर प्रदेश के विभिन्न इलाकों के युवक और किशोरों को किराए के कमरे में आना भारी पड़ गया। यह चारों लोग लॉकडाउन के बाद से अपने कार्यस्थल पर रह रहे थे। बृहस्पतिवार को नहाने के लिए जाते समय वह पुलिस के हत्थे चढ़ गए। इन लोगों को स्वास्थ्य जांच के बाद एहतियातन 14 दिन के लिए टीआरसी में बने संस्थागत क्वारंटीन में रख दिया गया है।
जिला मुरादाबाद उत्तर प्रदेश के रायपुर समथर निवासी सरफराज (18) पुत्र भूरा, रायपुर समंदा (मुरादाबाद) निवासी सआदत अली (29) पुत्र नवी हुसैन, सुल्तानपुर निवासी सानिब (16) पुत्र तसलीम अहमद, सुलेमान (24) पुत्र तसलीम अहमद बृहस्पतिवार सुबह करीब 10 बजे जिला मुख्यालय के पास किराए के कमरे में बिलौना पहुंचे थे। स्थानीय लोगों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पूछताछ की। इन लोगों ने बताया कि वह लोग जिला मुख्यालय के नदीगांव में काम करते हैं। नहाने के लिए बिलौना जाते समय पुलिस ने चारों का स्वास्थ्य परीक्षण कराया। नायब तहसीलदार दीपिका आर्य ने जिला अस्पताल में इन लोगों से पूछताछ की। टीआरसी के क्वारंटीन में डॉ. एजल पटेल, डॉ. दीप्ति रावत ने इन लोगों की जांच की। बताया कि चारों स्वस्थ हैं। इनमें से सरफराज दिसंबर 2019 से यहां रह रहा है जबकि अन्य तीन लोग 20 मार्च को बागेश्वर पहुंचे थे। अब संस्थागत क्वारंटीन में रखे गए लोगों की संख्या 20 हो गई है।
---
पिथौरागढ़ में 1218 लोग होम क्वारंटीन में
पिथौरागढ़। सीमांत जिले में बाहर से आए 34 लोगों को विभिन्न क्वारंटीन केंद्रों में रखा गया है। इसके अलावा 1218 लोगों को होम क्वारंटीन किया गया है। क्वारंटीन पर रखे गए लोगों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम कड़ी निगरानी रखे हुए है। जिले में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए व्यापक तैयारी की जा रही है। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. राजेश ढकरियाल ने बताया कि होम क्वारंटीन पर रखे गए लोगों की आशा वर्कर्स के जरिए काउंसिलिंग की जा रही है। संवाद
--
17 लोगों को संस्थागत क्वारंटीन से हटाया
चंपावत। संस्थागत क्वारंटीन में 14 दिन पूरे कर चुके 17 लोगों को बृहस्पतिवार को होम क्वारंटीन में भेज दिया है। इससे पूर्व डॉ. मनीष बिष्ट और डॉ. गिरजेंद्र चौहान ने इनका परीक्षण किया। सीएमओ डॉ. आरपी खंडूरी ने बताया कि इन लोगों ने संस्थागत क्वारंटीन में 14 दिन पूरे कर लिए हैं। अब इन्हें एहतियात के तौर पर उनके घरों में क्वारंटीन किया जा रहा है। इसी के साथ चंपावत जिले के आठ केंद्रों में अब संस्थागत क्वारंटीन की संख्या घटकर 130 हो गई है। जिले में होम क्वारंटीन की तादाद 3784 है। इसके अलावा तीन लोगों को अस्पतालों में आइसोलेशन किया गया है। इनमें से दो लोग लोहाघाट व एक को टनकपुर में रखा गया है। जिले के दस राहत केंद्रों में कुल 576 लोग हैं। बुधवार तक भेजे गए 20 सेंपलों में से 13 की जांच आई है। ये सभी रिपोर्ट निगेटिव हैं।
-
सात संदिग्धों के सैंपल जांच को भेजे
टनकपुर (चंपावत)। स्वास्थ्य विभाग ने क्वारंटीन किए गए सात लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए हैं। बृहस्पतिवार को एसीएमओ डॉ. एचएस ह्यांकी के नेतृत्व में डॉक्टरों की टीम ने क्वारंटीन किए गए तीन युवकों और एक मौलवी समेत सात लोगों के सैंपल लेकर जांच के लिए एसटीएच हल्द्वानी भेज दिया। एसीएमओ ने बताया कि सैंपलों की जांच रिपोर्ट शनिवार शाम तक मिलने की उम्मीद है। संवाद
-
केंद्रीय गृह राज्य मंत्री राय रोज ले रहे हैं हालात का जायजा
चंपावत। कोरोना संकट से निपटने को लेकर प्रशासन तो हर वक्त चौकस है ही, भारत सरकार के मंत्री भी रोजाना फोन के जरिये हालात का जायजा ले रहे हैं। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय हर रोज डीएम से फोन पर बात कर कोरोना से बचाव को लेकर उठाए जा रहे कदम, स्वास्थ्य, खाद्यान्न के हालात के अलावा लॉकडाउन की स्थिति की पड़ताल कर रहे हैं। डीएम सुरेंद्र नारायण पांडेय ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री के अलावा प्रदेश के कैबिनेट व जिले के प्रभारी मंत्री अरविंद पांडेय भी हर रोज फोन से हालात की समीक्षा कर रहे हैं।
-
नगरों में भी बुखार का परीक्षण शुरू, डीएम ने राहत केंद्र की व्यवस्था देखी
चंपावत। जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के बाद बृहस्पतिवार से नगरीय क्षेत्रों में भी खांसी, जुकाम व बुखार वाले लोगों का चिन्हीकरण शुरू हो गया है। चंपावत, लोहाघाट, टनकपुर व बनबसा में वार्डवार यह काम शुरू हो गया है। हर वार्ड में आशा, आंगनबाड़ी वर्कर्स के अलावा एक शिक्षक की टीम बनाई गई है। इससे पूर्व डीएम सुरेंद्र नारायण पांडेय ने रैनबसेरा के राहत केंद्र का जायजा लिया। उन्होंने अधिकारियों से राहत केंद्रों में सभी जरूरी व्यवस्था करने के साथ सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की हिदायत दी।
... और पढ़ें

जरूरत और समस्या पर एसएसपी को कर सकते हैं ट्वीट

अल्मोड़ा में तबलीगी जमाती के छिपे होने की सूचना मिलने पर पुलिस से जानकारी लेती एसडीएम सीमा विश्व?
अल्मोड़ा। लॉकडाउन के बीच जिले के दूरस्थ क्षेत्रों में ट्वीटर के माध्यम से लोग अपनी जरूरत और समस्या पुलिस प्रशासन तक पहुंचा सकते हैं। इसके तहत बृहस्पतिवार को जिले के सुदूर ससखोली (भिकियासैंण) निवासी मनोज सतपोला को हल्द्वानी से मंगाकर जरूरी दवाएं भिकियासैंण पुलिस के माध्यम से दिलाई गईं। एसएसपी प्रहलाद नारायण मीणा ने लॉकडाउन के बीच पुलिस को मानव धर्म निभाते हुए जरूरतमंदों की मदद के निर्देश दिए हैं। इसके तहत जिले के किसी भी क्षेत्र से लोग अपनी समस्या ट्वीटर के माध्यम से एसएसपी तक पहुंचा सकते हैं। पुलिस टीम अपने स्तर से उनकी समस्या और जरूरत का ख्याल रखेगी। एसएसपी ने कहा कि लॉकडाउन में सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों तक जरूरी समान पहुंच पाना मुश्किल है। इसीलिए यह पहल शुरू की गई है। किसी भी सहायता के लिए लोग उनके मोबाइल नंबर 9410322790, फेसबुक आइडी पेज sspalmora, और ट्वीटर almora [email protected] आदि पर संपर्क कर अपनी समस्याएं बता सकते हैं। ... और पढ़ें

छात्र-छात्राओं को दिया जाएगा ऑनलाइन शिक्षण

छात्र-छात्राओं को दिया जाएगा ऑनलाइन शिक्षण
अल्मोड़ा। कुमाऊं विश्वविद्यालय एसएसजे परिसर के दृश्य कला संकाय के छात्र-छात्राओं को ऑनलाइन शिक्षण सुविधा दिलाई जाएगी। परिसर के दृश्य कला संकाय के डीन प्रो. शेखर जोशी ने बताया कि इसमें एमएचआरडी नई दिल्ली के ऑनलाइन कोर्स महत्वपूर्ण हैं। चित्रकला (फाइन आर्ट) के विद्यार्थी भी एमएचआरडी के ऑनलाइन कोर्स, यूजी, पीजी एमओओ सीज, ईपीजी पाठशाला, ई-कांटेंट कोर्सवेयर, इन यूजी सब्जेक्शन, स्वयंप्रभा, सीईसी यूजीसी, यू-ट्यूब चैनलों से भी विद्यार्थी पाठ्यक्रम की सामग्री ले सकते हैं। शोध की दिशा में नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी, ई-शोध गंगा, ई-शोध सिंधु और विद्वानी जैसे टूल्स ऑनलाइन उपलब्ध हैं। विद्यार्थी और शिक्षक व्हाट्सएप के माध्यम से भी पठन-पाठन में शिक्षण का लाभ ले सकते हैं। इस दिशा में सर जेसी बोस टेक्निकल कैंपस भीमताल का व्हाट्सएप ग्रुप भी कार्यरत है। उन्होंने बताया कि कुमाऊं विवि के कुलपति ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए शारीरिक दूरी बनाते हुए ऑनलाइन शिक्षण के निर्देश दिए हैं। संवाद
... और पढ़ें

कुरेशियन मोहल्ले में घर घर जाकर लोगों का हुआ स्वास्थ्य परीक्षण

रानीखेत (अल्मोड़ा)। जिले में पहला कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद कुरैशियन मोहल्ला, सुदामापुरी, लोअर खड़ी बाजार को सील किया गया है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बृहस्पतिवार को भी इन क्षेत्रों में रहने वालों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। तीनों मोहल्लों के लिए चार टीमें बनाई गई हैं। इनमें एक-एक डॉक्टर, एएनएम और आशा कार्यकर्ता शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग की इन टीमों ने घर-घर जाकर लोगों के स्वास्थ्य की जांच की। उन्हेें कोरोना से बचाव के लिए जागरूक किया। खांसी, जुकाम, बुखार की शिकायत होने पर तत्काल परीक्षण करा लेने की अपील की गई। बताया कि जांच के दौरान सर्दी, जुकाम, बुखार आदि से पीड़ित रोगियों को चिह्नित किया जा रहा है। गंभीर रोगी को राजकीय अस्पताल में आइसोलेट किया जाएगा। सैंपल की जांच भी होगी। वहां बाहरी लोगों को जाने से रोका जा रहा है हालांकि स्थानीय लोगों को राशन सहित जरूरी सामान की खरीद के लिए सुबह छूट दी गई। इन लोगों को अपने मोहल्लों में ही जरूरी सामान उपलब्ध कराया जा रहा है। तीनों इलाकों में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। ... और पढ़ें

कोरोना वायरस के चलते चिड़ियाघर के जानवरों को उबालकर दिया जा रहा है भोजन

अल्मोड़ा। न्यूयॉर्क शहर के एक चिड़ियाघर में एक बाघिन के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद सभी चिड़ियाघरों को सतर्क कर दिया गया है। केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण ने भारत के सभी चिड़ियाघरों को हाईअलर्ट कर दिया है। बताया गया है कि तमाम जानवरों के लिए पैनी नजर बनाए रखें। अल्मोड़ा के मृग विहार में भी इन दिनों तेंदुओं और अन्य जानवरों को भोजन और दवाएं आदि देते वक्त पूरी सावधानी बरती जा रही है। संबंधित वन कर्मी सैनिटाइजेशन और ग्लव्स आदि पहनकर ही जानवरों के करीब जा रहे हैं।
अल्मोड़ा के मृग विहार में 67 चीतल, 27 सांभर, नौ तेंदुओं समेत एक-एक भालू और बंदर भी है। बीते दिनों अमेरिका के एक चिड़ियाघर में बाघिन के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब यहां भी जानवरों के रखरखाव आति पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है। वन रेंजर राजेश जोशी ने बताया कि उच्चाधिकारियों के निर्देश के बाद पूरे चिड़ियाघर को सैनिटाइज किया जा रहा है। कोरोना के चलते तेंदुए को देने वाले मीट को पहले गर्म पानी में उबालकर ही दिया जा रहा है और तेंदुए को मीट देने वाले व्यक्ति को सैनिटाइज कर उसे किट पहनाकर ही भेजा जा रहा है। चीतल, सांभर के लिए घास और दाने डालने वाले लोगों को भी पहले सैनिटाइज किया जा रहा है। भालू और बंदर के लिए भी फलों को गर्म पानी से साफ करके ही दिया जा रहा है।
... और पढ़ें

जरूरी वस्तुओं और पशु पोषक आहार की आपूर्ति की जा रही

अल्मोड़ा। एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना की जिला इकाई भी जिला प्रशासन के साथ मिलकर कोरोना से बचाव में सहयोग दे रही है। डीएम नितिन सिंह भदौरिया ने बताया कि इस परियोजना के तहत गठित कुल 45 आजीविका संघ दूरस्थ ग्राम समुदाय के साथ कार्य कर रहे हैं। सदस्यों को दैनिक उपभोग की वस्तुओं समेत पशु आहार की आपूर्ति भी की जा रही है। तीन, चार माह का उधार भी दिलाया जा रहा है। प्रभागीय परियोजना प्रबंधक कैलाश चंद्र भट्ट ने बताया सहकारिता के माध्यम से आटा, चावल, दाल, चीनी, गुड़, तेल, आलू, प्याज, साबुन, मसाला आदि वस्तुएं दिलाई जा रही हैं। पशु आहार, चोकर, कैल्शियम आदि भी दिया जा रहा है। कई सदस्य मास्क भी बना रहे हैं। लॉकडाउन अवधि में आजीविका संघों ने अपने सदस्यों तक करीब 27 लाख की सामग्री पहुंचाई है। सहकारिता, आजीविका संघों ने पंचायत प्रतिनिधियों के सहयोग से टेक होम राशन समेत 20 लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिड़काव भी गांवों में करवाया है। ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us