विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

Coronavirus in Uttarakhand: बुखार से किशोरी की मौत, परिजन समेत अंत्येष्टि में शामिल लोगों को किया क्वारंटीन

कोरोना वायरस के खौफ के बीच हरिद्वार में बुखार से एक किशोरी की मौत का मामला सामने आया है। पुलिस ने किशोरी के परिजनों समेत अंत्येष्टि में शामिल लोगों को होम क्वारंटीन में रहने के लिए कहा है।

30 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

पौड़ी

मंगलवार, 31 मार्च 2020

नगर के गली, मोहल्लों में 28 सब्जी और फल विक्रेता नियुक्त

सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए नगर पालिका ने अहम कदम उठाए हैं। पालिका की ओर से नगर से सब्जी मंडी को हटाकर जीआईएडंटीआई मैदान में शिफ्ट किया गया है, जबकि नगर की हर गली और मोहल्लों में 28 सब्जी तथा फल विक्रेताओं को नियुक्त किया गया है। अब लोगों को डा. हटवाल क्लीनिक के सामने, जीजीआईसी गेट, पॉलीटेक्निक गेट, तहसील, रामलीला मैदान, बुचड़खाना चौराहा, महाजन के आगे, सिंचाई विभाग घस्यामहादेव, हनुमान मंदिर के पास, पुलिस चौकी के पीछे, बांसबाड़ा, पीपलचौरी पौड़ी बस अड्डा, एनआईटी गेट, तिवारी मोहल्ला तिराह नर्सरी रोड, एजेंसी मोहल्ला कमल पान भंडार, नैथाना झूला पुल, गढ़वाल विवि गेट और पौड़ी चुंगी पर निर्धारित कीमत पर फल तथा सब्जियां उपलब्ध हो सकेंगी। पालिकाध्यक्ष पूनम तिवाड़ी ने बताया कि सब्जी की दुकानें एक साथ होने से अधिक भीड़ जमा हो रही थी, इसलिए यह कदम उठाया गया है। संवाद ... और पढ़ें

सस्ते-गल्ले की दुकानों से राशन मिलना शुरू

शनिवार को लॉकडाउन के तहत सुबह सात से एक बजे तक आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुली रहीं। इस दौरान लोगों की कम ही भीड़ बाजारों में देखने को मिली। कई जगह सस्ते-गल्ले की दुकानों से भी लोगों को राशन दी गई। एक बजे के बाद बाजारों में सन्नाटा पसरा रहा। प्रशासन की टीमें बाजारों का निरीक्षण करती रहीं। इस दौरान लोगों ने दूध, सब्जी, दवाई व राशन आदि की खरीदारी की। दूसरी ओर कई स्थानों पर सस्ते-गल्ले की दुकानों में कार्डधारकों को राशन वितरित किया गया। जिला पूर्ति अधिकारी केएस कोहली ने सस्ते-गल्ले की दुकानों का निरीक्षण करते हुए लोगों व व्यापारियों से सामाजिक दूरी का पालन किए जाने की अपील की। वहीं कोतवाल लक्ष्मण सिंह कठैत भी बाजारों का निरीक्षण करते रहे।
सस्ते-गल्ले की दुकानों में मिलेगी दवा और सेनेट्री नैपकिन
पौड़ी। कोरोना को देखते हुए लॉकडाउन के तहत आवश्यक वस्तुओं के साथ ही दवा व सेनेट्री नैपकिन सहित अनेक वस्तुएं मिलेंगी। डीएम पौड़ी धीराज सिंह गर्ब्याल ने जिला पूर्ति विभाग को सस्ता-गल्ले की दुकानों में गेहूं और चावल के साथ ही अन्य जरूरी सामान भी वितरित करने के निर्देश दिए हैं। जिला पूर्ति अधिकारी केएस कोहली ने बताया कि लॉकडाउन की अवधि में सस्ता-गल्ले की दुकानों से गेहूं, चावल, दाल, चीनी, खाद्य तेल, मिट्टी तेल के साथ ही सॉफ्ट ड्रिंक, साबुन, टूथपेस्ट, खाने का तेल, दालें, आयोडीन नमक, चाय, ओआरएस, दवाएं व सेनेट्री नैपकिन आदि वस्तुओं का विक्रय भी किया जाएगा।
... और पढ़ें

मुफ्त का राशन लेने के लिए सोशल डिस्टेसिंग का फार्मूला ध्वस्त

श्रीनगर। शहर के एक ज्वैलर्स के घर से ही मुफ्त का राशन वितरित होने की खबर फैलते ही यहां लोगों का जमावड़ा लग गया। राशन के लिए लोगों में होड़ लग गई। इससे सोशल डिस्टेंसिंग का नियम धरा का धरा रह गया। कुछ लोगों की वजह से कोरोना से निपटने की सरकारी मुहिम को धक्का पहुंचा है। इधर, जिला अधिकारी धीराज गर्ब्याल ने बताया कि संबंधित व्यक्ति को नोटिस भेजा जा रहा है।
शनिवार को गुरुद्वारा रोड से जुड़ी एक गली में सुबह-सुबह लॉकडाउन के दौरान छूट की अवधि में भारी भीड़ लग गई। यहां मजदूर, जरूरतमंद और अन्य लोग एक दूसरे से चिपक कर लाइन में लग गए। पता चला कि शहर का एक ज्वैलर्स आटा, चावल, दाल और तेल निशुल्क दे रहा है। प्रतिबंध के बावजूद इस तरह से मारामारी देखकर जागरूक लोगों ने फोटो खींचकर सोशल मीडिया में अपलोड कर दी। देखते ही देखते यह फोटो वायरल हो गई। पुलिस और प्रशासन को भी इसकी सूचना मिली। तब पुलिस ने आकर लोगों को तितर-बितर किया। साथ ही संबंधित व्यक्ति को इस तरह लोगों की जान खतरे में न डालने की हिदायत दी। कोतवाल एनएस बिष्ट ने बताया कि उक्त व्यक्ति को पुलिस को सूचित करने के बाद ही मोहल्लों में जाकर मुफ्त का राशन वितरित करने के निर्देश दिए थे। शुक्रवार को पुलिस की निगरानी में राशन बंटा था, लेकिन लोग सुबह उनके घर में ही पहुंच गए, जिससे यह स्थिति आई।
... और पढ़ें

जेकेएसपीडीसी की बीओडी का पुनगर्ठन

जम्मू। जम्मू-कश्मीर पावर डेवलपमेंट कारपोरेशन के बोर्ड आफ डायरेक्टर्स का पुनगर्ठन हुआ है। सोमवार को उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू के निर्देश पर सलाहकार बसीर खान को बोर्ड का चेयरमैन बनाया गया है। वित्त विभाग के वित्त आयुक्त, योजना, विकास और निगरानी विभाग के प्रधान सचिव, बिजली विकास विभाग के प्रशासनिक सचिव, विज्ञान और तकनीकी विभाग के प्रतिनिधि को बोर्ड में निदेशक बनाया गया है। अन्य निदेशकों में जेकेपीडीसीएल के प्रबंधक निदेशक, वित्त निदेशक, कार्यकारी निदेशक विद्युत, कार्यकारी निदेशक सिविल, केंद्रीय विद्युत मंत्रालय के प्रतिनिधि और केंद्रीय बिजली प्राधिकरण के प्रतिनिधि शामिल रहेंगे। ... और पढ़ें

उद्योग निदेशक को फर्म्स, सोसायटी का रजिस्ट्रार नियुक्त किया

जम्मू। सरकार ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम, 2019 की धारा 98 के तहत दो आदेश जारी किए, इन्हें जम्मू-कश्मीर की कठिनाइयों को दूर करने वाले आदेश 2019 के खंड 17 के साथ लिया जाएगा।
पहले आदेश के अनुसार उपराज्यपाल ने निर्देश दिया कि जम्मू व कश्मीर भागीदारी अधिनियम, संवत 1996 (निरस्त) के तहत निदेशक, उद्योग व वाणिज्य, कश्मीर और जम्मू को भारतीय भागीदारी अधिनियम, 1932 के तहत रजिस्ट्रार ऑफ फर्म्स के रूप में नियुक्त किया माना जाएगा।
दूसरे आदेश में उपराज्यपाल ने निर्देश दिया कि जम्मू-कश्मीर सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1998 (निरस्त) के तहत निदेशक, उद्योग व वाणिज्य, कश्मीर और जम्मू को सोसायटी पंजीकरण अधिनियम 1860 के तहत रजिस्ट्रार ऑफ सोसाइटीज के तहत नियुक्त माना जाएगा।
... और पढ़ें

कौड़ियाला से बागवान के बीच आज भी होगा काम

ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर कौड़ियाला से बागवान के बीच पहाड़ तोड़ने का काम मंगलवार को भी जारी रहेगा। कार्यदायी संस्था लोनिवि राष्ट्रीय राजमार्ग खंड ने यह निर्णय प्रदेश सरकार की ओर से 31 मार्च को लॉकडाउन छूट को निरस्त करने के बाद लिया है।
ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर तोताघाटी और बागवान में पहाड़ तोड़ने के लिए जिला प्रशासन टिहरी ने 22 से 31 मार्च तक मलेथा से ऋषिकेश के बीच यातायात बंद करने की अनुमति दी है। इसके तहत वर्तमान में वाहनों का आवागमन मलेथा-कोटी-चंबा-नरेंद्रनगर-ऋषिकेश रोड से हो रहा है। लोनिवि राष्ट्रीय राजमार्ग खंड के ईई दिनेश बिजल्वाण ने बताया कि 31 मार्च को भी पूर्व की भांति पहाड़ तोड़ने का काम जारी रहेगा।
... और पढ़ें

देवप्रयाग बाजार में पुलिस का फ्लैग मार्च

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए घोषित किए गए लॉकडाउन का पालन कराने के लिए देवप्रयाग पुलिस ने बस स्टेशन, शांति बाजार व बीच बाजार सहित तहसील परिसर तक फ्लैग मार्च निकाला। इस दौरान एसआई विपिन कुमार ने लोगों से अपील की कि वे अपने घरों में ही रहें। इससे वे महामारी से बच सकते हैं। आवश्यक सामग्री लेने निर्धारित समय पर ही बाजार आएं। यदि कोई व्यक्ति बेवजह सड़कों पर घूमता या वाहन चलाता हुए देखा गया तो उस पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
वहीं, दूसरी ओर व्यापार सभा के पूर्व अध्यक्ष मैचंद रावत ने तहसीलदार से वार्ता करते हुए बताया कि ऋषिकेश से अधिक मूल्य पर सामान खुदरा विक्रेताओं को दिया जा रहा है। ऐसे में व्यापारी प्रशासन की ओर से निर्धारित मूल्य पर खाद्यान्न सामग्री कैसे वितरित करें। बड़े व्यापारी बिल पर कम कीमत दर्शा रहे हैं और कीमत अधिक ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा ही हाल रहा तो वे अपनी दुकानें बंद कर देंगे। वहीं, तहसीलदार एसएस कठैत का कहना है कि जिला प्रशासन को व्यापारियों की समस्याओं से अवगत करा दिया गया है।
... और पढ़ें

बेस अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में सुविधाएं नहीं

राजकीय मेडिकल कॉलेज से संबद्ध बेस अस्पताल में 200 बेड के भवन में आइसोलेशन वार्ड बना तो दिया गया, लेकिन यहां न तो ऑक्सीजन सप्लाई पाइप काम करते हैं और न ही फायर फाइटिंग उपकरण। लिफ्ट भी एक बार चली थी, जो चलने की दशा में है या नहीं विभागीय अधिकारियों को भी इसी जानकारी नहीं है। वहीं डीएम ने अब निर्माण निगम को भवन का काम जल्द पूर्ण नहीं करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।
जिलाधिकारी धीराज गर्ब्याल ने कार्यदायी संस्था उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम को पत्र भेजकर तत्काल अवशेष कार्य निपटाने के निर्देश दिए हैं। एमसीआई (भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद) के मानक अनुसार बेस अस्पताल में करीब 14 करोड़ की लागत से 200 बेड के नए वार्ड बनाए गए। वर्ष 2015 में तत्कालीन चिकित्सा शिक्षा मंत्री डा. हरक सिंह रावत ने इसका लोकार्पण भी किया, लेकिन आज तक यह वार्ड क्रियान्वित हालत में नहीं आया। भाजपा के सत्ता में आने के बाद जब मेडिकल कॉलेज को सेना के हवाले करने की बात की गई, तो भवन की सुध ली गई। 10 अगस्त 2018 तक भवन के अवशेष कार्य पूर्ण कर हैंडओवर करने की बात की गई, लेकिन बात आई गई हो गई। अब कोविड-19 महामारी में भवन में आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है।
जिले में बनेंगे तीन कोरोना अस्पताल
पौड़ी। सरकार राजकीय मेडिकल कालेज श्रीनगर को पहले ही कोरोना चिकित्सालय घोषित कर चुकी है। महानिदेशक चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण अमिता उप्रेती ने राजकीय मेडिकल कालेज श्रीनगर के साथ ही जिला चिकित्सालय पौड़ी व बेस चिकित्सालय कोटद्वार को भी कोरोना चिकित्सालय के रूप में विकसित किए जाने का आदेश जारी किया है। जिलाधिकारी डीएस गर्ब्याल ने बताया कि तीनों चिकित्सालयों को कोरोना चिकित्सालय के रूप में विकसित किए जाएंगे।
... और पढ़ें

श्रमिकों व छात्रों से नहीं लिया जाएगा एक माह का किराया

पौड़ी। जिले में रह रहे श्रमिकों व छात्रों से एक माह का किराया नहीं लिया जाएगा। साथ ही मकान मालिक इस अवधि में उन्हें कमरा खाली करने के लिए भी नहीं कहेगा। जिलाधिकारी पौड़ी धीराज सिंह गर्ब्याल ने आदेश जारी करते हुए बताया कि लॉकडाउन की अवधि में किसी भी श्रमिक व छात्र से मकान मालिक एक माह का किराया नहीं लेगा। साथ ही कमरा खाली किए जाने को बाध्य भी नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि दुकानोें, होटलों व प्रतिष्ठानों में काम करने वाले श्रमिकों के वेतन में कटौती नहीं की जाएगी। कहा कि ठेकेदारी प्रथा के तहत काम कर रहे श्रमिकों के खाने व रहने की जिम्मेदारी ठेकेदार की ही होगी। उन्होंने कहा कि आदेश का अनुपालन नहीं किए जाने पर राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी। ... और पढ़ें

राशन बंटवाने में लगाना पड़ रहा पुलिस को जोर

जम्मू। लॉकडाउन का पालन कराने में जुटी पुलिस के सामने अब लोगो के घरों के राशन पहुंचाने की भी बड़ी चुनौती है। राशन लेने के लिए कहीं पर भीड़ न जुट जाए, इस पर नजर रखने के लिए पुलिस को जोर लगाना पड़ रहा है। रविवार को कई जगहों पर खुद पुलिस के जवान घर-घर पहुंचकर राशन और खाने का पैकेट दिए तो वहीं कुछ डीलरों को भीड़ लगाकर राशन देने पर शिकंजा कसते हुए हवालात में पहुंचाया।
नगरोटा क्षेत्र में राशन देने वाले एक डीलर ने भीड़ जमा कर ली। जिस पर पुलिस ने उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर कार्रवाई की गई। वहीं दोमाना पुलिस सब डिविजन में पुलिस की ओर से झुग्गी-झोपड़ियों में रहने वाले 500 लोगों को उनके घर पर राशन पहुंचाया गया। कई जगहों पर पुलिस की तररफ से दिन का खाना बनाकर बांटा गया। पुलिस की तरफ से निर्देश दिए गए हैं कि यहां कहीं भी कोई गरीब लोगों की मदद करना चाहता है, तो उस समय इस बात का जरूर ध्यान रखें कि कहीं पर भीड़ जमा न हो। पुलिस ने डीलरों से कहा है कि वह घर-घर जाकर लोगों को राशन पहुंचाए। इससे सब लोग सुुरक्षित रह सकेंगे।
पुलिस कर्मी कर रहे स्प्रे
शहर में कई जगहों पर पुलिस की ओर से अब सैनिटाइजिंग का काम शुरू किया गया है। ‘वी केयर फार यू’ कार्यक्रम के तहत शहर में कई जगहों पर पुलिस कर्मियों ने स्प्रे किया। लोगों को हिदायतें भी दीं। लोगों से साफ-सुथरे माहौल में रहने की अपील की।
400 से अधिक एफआईआर दर्ज
पुलिस की तरफ से लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों पर कार्रवाई जारी है। अब तक 400 से अधिक एफआईआर दर्ज करते हुए 700 से अधिक लोगों पर कार्रवाई की गई है।
... और पढ़ें

सड़कों पर सन्नाटा, गैर जरूरी कार्यों से बाहर निकले लोगों पर सख्ती

जम्मू। कोरोना वायरस के बढ़ते पाजिटिव मामलों को देखते हुए लॉकडाउन में सख्ती बढ़ाई गई है। सोमवार को शहर और आसपास के इलाकों में लॉकडाउन के दौरान सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। सड़कों पर कई जगह तारबंदी की गई थी। नाकों पर गैर जरूरी कार्यों के लिए घरों से बाहर निकल रहे लोगों को वापस लौटाया जा रहा है। हालांकि दिनभर सड़कों पर वाहनों और लोगों की हल्की आवाजाही जारी है।
शहर में सुबह की हलचल को कम करने के लिए सभी पार्कों के मुख्य गेट पर ताला लगाया गया है। पुराने शहर के मुबारक मंडी में रोजाना बड़ी संख्या में लोग सैर करने के लिए पहुंचते थे, लेकिन लॉकडाउन के दौरान अब यह आवाजाही बंद है। सुबह लोग दूध सहित अन्य जरूरी सामग्री की खरीदारी के लिए घरों से बाहर निकले और लौट गए। शहर के चौक चबूतरा, सिटी चौक, शालामार, परेड, इंदिरा चौक, विक्रम चौक सहित अन्य इलाकों में तारबंदी की गई है। चौराहों पर लोगों से रोककर उनसे बाहर आने का कारण पूछा जा रहा है, जिसमें जरूरी कार्यों के लिए ही उन्हें अनुमति दी जा रही है। लॉकडाउन के तहत लोगों ने अपनी दिनचर्या को भी एडजेस्ट कर लिया है। इसमें अधिकतर लोग घरों में ही रहकर समय व्यतीत कर रहे हैं। घरों में लजीज व्यंजनों का मजा लिया जा रहा है। जिसमें ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर में अगल-अलग मैन्यू फिक्स किए गए हैं।
खाना न मिलने से हिंसक हो रहे जानवर
जम्मू। शहर में हजारों की संख्या में आवारा कुत्ते लॉकडाउन के चलते खाना न मिल पाने के कारण हिंसक हो रहे हैं। ऐसी कई शिकायतें आ रही हैं जिसमें कुत्ते लोगों को काटने का काम कर रहे हैं। इसी तरह शहर में अचानक बंदरों की भरमार बढ़ गई है। ये बंदर लोगों के छतों और उनके परिसरों में घुसकर उत्पात मचा रहे हैं। इन बंदरों को भी खाने का कोई साधन होने के कारण इनकी प्रवृति हिंसक हो रही है।
... और पढ़ें

सीआरपीएफ जवान की संदिग्ध मौत

जम्मू। ड्यूटी पर तैनात एक सीआरपीएफ कर्मी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक कर्मी के शव का पोस्टमार्टम कर परिवार को सौंप दिया गया। हार्ट अटैक से मौत का अंदेशा जताया जा रहा है। हालांकि पुलिस ने संदिग्ध मौत का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। डीएसपी कौशीन कौल का कहना है कि शुरूआती जांच में मौत का कारण हार्ट अटैक सामने आया है। पुलिस ने धारा 174 के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
आरएस पुरा के रठाना गांव का रहने वाले रवि दास सीआरपीएफ की 38 बटालियन में बतौर कांस्टेबल तैनात था। पटोली के पास टीवी टावर स्टेशन पर उसकी तैनाती थी। रविदास की रविवार सुबह 4 बजे के आसपास सहकर्मियों ने उसकी आवाज सुनी। इसके बाद वह बेसुध हो गया। सहकर्मियों ने इसकी जानकारी अपने उच्चाधिकारियों को दी। इसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। मृतक के शरीर या अन्य हिस्से पर किसी तरह के चोट के निशान नहीं हैं। डीएसपी कौशीन कौल का कहना है कि शुरूआती जांच में मौत का कारण हार्ट अटैक सामने आया है। पुलिस ने धारा 174 के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
... और पढ़ें

संकट की घड़ी में अभिभावकों से फीस न मांगें निजी स्कूल

जम्मू। जम्मू-कश्मीर प्राइवेट स्कूल कॉर्डिनेशन कमेटी और प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन जम्मू-कश्मीर (पीएसएजेके) के कार्यकारी सदस्यों ने टेली कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से रविवार को बैठक की। कोरोना महामारी की वर्तमान स्थिति पर चर्चा की गई।
दोनों संघों के अध्यक्षों ने निजी स्कूलों से अपील की कि कोई भी प्राइवेट स्कूल इस महत्वपूर्ण समय पर अभिभावकों से फीस जमा करने के लिए नहीं कहे, लेकिन फिर भी अगर कोई निजी स्कूल ऐसा करता है तो उसे तत्काल प्रभाव से इस तरह के नोटिस को वापस लेना चाहिए। कहा कि कुछ विरोधी सामाजिक लोग अफवाह फैलाकर माता-पिता के बीच अराजकता पैदा कर रहे हैं। इसलिए, निदेशक स्कूल शिक्षा को स्कूलों द्वारा जारी किए गए ऐसे किसी भी नोटिस के प्रमाण की मांग करनी चाहिए और ऐसे स्कूलों का नाम अखबार में प्रकाशित करना चाहिए। जेकेपीएससीसी के अध्यक्ष रामेश्वर सिंह मन्हास, डॉ. हरि दत्त कार्यकारी अध्यक्ष जेकेपीएससीसी और जीएन वार अध्यक्ष पीएसएजेके ने कहा कि जरूरत के समय में प्राइवेट स्कूलों को आगे आना चाहिए और सरकार को हर संभव तरीके से समर्थन देना चाहिए।
बैठक में कहा गया कि शैक्षणिक नुकसान की भरपाई के लिए डिजिटल लर्निंग, ई-लर्निंग प्लेटफॉर्म जैसे इनोवेटिव तरीकों की खोज की जानी चाहिए। जम्मू-कश्मीर के दोनों संघ छात्रों और अभिभावकों की भलाई के लिए प्रार्थना करते हैं और सभी से अपील करते हैं कि वे सामाजिक दूरी बनाए रखें और पूरी तरह से सरकारी आदेशों का पालन करें।
फीस के लिए दबाव न डालें स्कूल
स्कूल एजूकेशन विभाग के कमीश्नर सेक्रेटरी असगर हासन सामून ने ट्वीट कर प्राइवेट स्कूलों को विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों पर इस कठिन स्थिति में किसी भी तरह की फीस जमा करवाने का दवाब डालने से मना किया है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us