विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

उत्तराखंड: रोक के बाद भी 17 स्कूलों को दे दिया पूर्ण अनुदान, अब अफसरों पर होगी कार्रवाई 

उत्तराखंड में रोक के बाद भी 17  अशासकीय स्कूलों को पूर्ण अनुदान दे दिया गया है। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे के मुताबिक प्रकरण भ्रष्टाचार से जुड़ा है।

25 जनवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

ऋषिकेश

शनिवार, 25 जनवरी 2020

दीवार गिरने से एक की मौत, दो घायल

पुुष्कर मंदिर मार्ग स्थित एक सरकारी स्कूल की जर्जर दीवार बुधवार को भरभरा कर गिर गई। दीवार के मलबे में दबने से एक किशोर की मौत हो गई जबकि दो लोग बुरी तरह घायल हो गए। शव पोस्टमार्टम के लिए राजकीय अस्पताल भेज दिया गया है। जबकि दोनों घायलों को एम्स रेफर कर दिया गया है।
जानकारी के मुताबिक बुधवार शाम करीब सवा छह बजे वार्ड संख्या पांच में पुष्कर मंदिर मार्ग स्थित राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय नंबर एक की 10 फुट ऊंची दीवार का करीब 15 फुट हिस्सा अचानक ढह गई। दीवार से सटे मार्ग से गुजर रहे एक किशोर समेत तीन लोग मलबे की चपेट में आ गए। हादसा होते ही चीख-पुकार मच गई। मौके पर मौजूद लोगों ने जैसे-तैसे तीनों लोगों को मलबे से निकाला। घायल अवस्था में सभी को राजकीय चिकित्सालय ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने किशोर को मृत घोषित कर दिया। जबकि अन्य दोनों को प्राथमिक उपचार देकर एम्स रेफर कर दिया गया।
मृतक किशोर की पहचान 15 वर्षीय केतन पुत्र हुकुम सिंह निवासी मायाकुंड के रूप में हुई है। श्री भरत मंदिर इंटर कालेज के अध्यापक रंजन अंथवाल ने बताया कि केतन उनके विद्यालय में कक्षा 11 का छात्र था। वह घटना के दौरान ट़्यूशन पढ़ने के बाद घर जा रहा था। 10 वीं में उसके 85 प्रतिशत अंक आए थे। वहीं, घायलों की पहचान शांतिनगर निवासी 57 वर्षीय कृपाल सिंह और पुष्कर मंदिर मार्ग निवासी 65 वर्षीय स्नेहलता गुप्ता पत्नी सतपाल गुप्ता के रूप में हुई है। दोनों का उपचार चल रहा है।
---
लापरवाही ने ले ली एक मेधावी किशोर की जान
पुष्कर मंदिर मार्ग स्थित राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय नंबर एक के प्रबंधन को जर्जर हो चुकी दीवार और इससे पैदा हुए खतरे का अंदाजा था। यही वजह थी कि बार-बार स्कूल की दीवार सही कराने के लिए विभाग और जनप्रतिनिधियों से गुहार लगाई जा रही थी, लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हुई। यह अनदेखी और लापरवाही ही मेधावी किशोर केतन की जान ले बैठी।
परमार्थ निकेतन की ओर से गोद लिए हुए राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय नंबर एक के प्रभारी प्रधानाध्यापक विकास ने बताया कि स्कूल की दीवार करीब तीन महीने से जीर्णशीर्ण हालत में है। इसकी मरम्मत के लिए बजट उपलब्ध नहीं था। लिहाजा कई बार बजट के लिए जनप्रतिनिधियों सहित शासन से पत्राचार कर गुहार लगाई गई। इसके बावजूद समय पर बजट नहीं उपलब्ध कराया गया। इसकी मरम्मत के लिए करीब लाख रुपये बजट की दरकार है।
---
बची हुई जर्जर दीवार गिरवाई
हादसे के बाद देखते ही देखते घटनास्थल पर भीड़ उमड़ पड़ी। मेयर अनिता ममगाईं, स्थानीय पार्षद देवेन्द्र प्रजापति, तहसीलदार रेखा आर्य भी घटनास्थल पर पहुंचे। मेयर ने निर्माण विभाग के निगम के एई आनंद सिंह मिश्रवाण और अन्य निगम कर्मियों को मौके पर बुलवाकर जेसीबी से बची हुई जर्जर दीवार को भी गिरवा दिया। साथ ही सड़क पर बिखरे मलबे को भी साफ करवाया गया।
-----
उक्त स्कूल की दीवार के लिए कई माह पूर्व निगम के अफसरों को अवगत कराकर मरम्मत की मांग मेरी ओर से भी की गई थी। इस पर निगम अफसरों ने तर्क दिया कि उक्त संपत्ति उनके दायरे में नहीं आती है। लिहाजा उक्त दीवार की मरम्मत निगम की ओर से नहीं कराई जा सकती है।
- देवेन्द्र प्रजापति, स्थानीय पार्षद
------
यहां भी हादसे को न्योता दे रही जर्जर दीवार
बनखंडी क्षेत्र से लगी हुई रेलवे की दीवार भी कभी भी ढह सकती है। इसके लिए स्थानीय लोगों ने स्टेशन मास्टर को ज्ञापन भी दिया है। स्थानीय निवासी रणवीर पाल ने बताया कि पुष्कर मंदिर मार्ग स्थित स्कूल की दीवार की जैसी हालत बनखंडी में रेलवे की दीवार की भी है। इस मार्ग से अधिकांश लोग गुजरते हैं। यदि समय रहते इस पर ध्यान न दिया गया तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।
मृतक केतन।   फाइल फोटो
मृतक केतन। फाइल फोटो- फोटो : RISHIKESH
... और पढ़ें

सीवर पाइप बिछा रही फर्म के खिलाफ दी तहरीर

वीरभद्र मार्ग के आसपास क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति बाधित करने पर जलकल इंजीनियर ने क्षेत्र में सीवर पाइप बिछा रही फर्म के खिलाफ तहरीर दी है। जलकल इंजीनियर ने फर्म पर लापरवाही, पेयजल व्यवस्था बाधित करने और बिना एनओसी कार्य करने का आरोप लगाया है।
जलकल विभाग के इंजीनियर सूरज पिंडेल ने बताया कि निजी फर्म के खिलाफ पुलिस को डाक सेवा के माध्यम से तहरीर भेजी है। इसमें 200 मीटर पेयजल लाइन प्रभावित करने पर पुलिस से कार्रवाई की सिफारिश की गई है। मामला वीरभद्र मार्ग के आसपास क्षेत्रों से जुड़ा है। बुधवार को स्थानीय लोगों ने इकट्ठा होकर विभागीय अफसरों को बुलाया और जमकर खरीखोटी सुनाई। सूरज पिंडेल ने बताया है कि वर्तमान में नमामि गंगे विभाग की ओर से वीरभद्र मार्ग पर कोयल घाटी से लक्कड़ घाट तक सीवर लाइन बिछाने का कार्य चल रहा है। यहां पर जल संस्थान की 200 एमएम आरसीसी पाइप लाइन बिछी हुई है। इसके बावजूद नमामि गंगे के परियोजना प्रबंधक ने बिना विभागीय एनओसी लिए यहां पेयजल लाइन तोड़ दी। साथ ही उसे गलत तरीके से अन्यत्र शिफ्ट कर यहां आसपास क्षेत्रों में दो सौ मीटर तक पूर्ण रूप से पेयजल आपूर्ति बाधित कर दी। इस संदर्भ में पुलिस से कानूनी कार्रवाई की सिफारिश की गई है।
----
गुस्साए लोगों ने अधिकारियों को सुनाई खरी खोटी
वीरभद्र मार्ग के आसपास क्षेत्रों में बीते तीन दिनों से पेयजल आपूर्ति बाधित है। इससे गुस्साए लोगों ने बुधवार को मौके पर संबंधित अफसरों को बुलाया और जमकर खरीखोटी सुनाई। लोगों के तेवर देख ठेका कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर आदेश वार्ष्णेय मौके पर पहुंचे और लोगों को शीघ्र ही समस्या के निस्तारण का आश्वासन दिया। दरअसल तीन दिन पहले गंगा विहार के समीप वीरभद्र मार्ग पर सीवर पाइप बिछाने के दौरान यहां मुख्य पेयजल लाइन क्षतिग्रस्त हो गई थी। आनन फानन मेें नमामि गंगे विभाग ने यहां गलत तरीके से पेयजल लाइन जोड़कर समीप ही स्टैंड पोस्ट भी लगा दिया। बुधवार को वीरभद्र मार्ग के आसपास क्षेत्रों गंगा विहार, आवास विकास, स्टर्डिया आदि जगहों में जलापूर्ति सेवा बाधित रहने पर इसकी सूचना लोगों ने जलकल इंजीनियर को दी। जलकल इंजीनियर सूरज पिंडेल ने मौके का निरीक्षण कर बताया कि पेयजल लाइन गलत तरीके से जोड़ दी गई है। साथ ही अवैध रूप से स्टैंड पोस्ट भी बना दिया गया है। मौके पर पहुंचे ठेका कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर को स्थनीय लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ा।
----
दो फुट के अंतराल मेें नमामि गंगे की ओर से पेयजल लाइन जोड़ दी गई है। इससे पानी का प्रेशर नहीं बन पा रहा है। इस लापरवाही के कारण बीते तीन दिनों से गंगा विहार और वीरभद्र गली नंबर नौ तक पानी की समस्या बनी हुई है। - अनिल कक्कड़, स्थानीय निवासी
----
तीन दिन बाद नमामि गंगे विभाग के कर्मी पानी की पाइप जोड़ पाए। हालत ये है कि लाइन गलत जोड़ दी गई। अफसरों को लोगों के सुविधा की चिंता ही नहीं है। पेयजल आपूर्ति बहाल नहीं होने से परेशानी हो रही है। - गुरमीत मिनोचा, स्थानीय निवासी
... और पढ़ें

गोल्ड मेडल विजेता जितेंद्र को किया सम्मानित

गढ़वाल महासभा और बैडमिंटन क्लब की ओर से स्वागत समारोह का आयोजन किया गया। इसमें गोल्ड मेडल जीतने वाले राष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी जितेंद्र बिष्ट को सम्मानित किया गया।
गढ़वाल महासभा के प्रदेश महामंत्री उत्तम असवाल ने बताया कि 19 से 21 जनवरी तक चली 19वीं उत्तराखंड स्टेट मास्टर बैडमिंटन चैंपियनशिप में जितेंद्र बिष्ट ने मेंस सिंगल 50 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में राजेश निजोहन को सीधे सेटों में हरा कर गोल्ड मेडल और मेंस डबल में दिनेश कंडवाल व राजेश शर्मा की जोड़ी को हरा कर गोल्ड मेडल जीत कर स्टेट बैडमिंटन चैंपियन बनने पर सम्मानित किया गया। बैडमिंटन खिलाड़ी मनोज डोबरियाल ने बताया कि एक से तीन नवंबर तक करनाल हरियाणा में आयोजित राष्ट्रीय बैडमिंटन प्रतियोगिता में भी जितेंद्र बिष्ट ने अपने जोड़ीदार के साथ मेंस डबल में गोल्ड मेडल हासिल किया था। बताया कि जितेंद्र बिष्ट ऋषिकेश में दर्जनों गरीब पृष्ठभूमि के बैडमिंटन खिलाड़ियों को निशुल्क बैडमिंटन का प्रशिक्षण दे रहे हैं।
कहा कि जितेंद्र बिष्ट ने राष्ट्रीय और राज्यस्तरीय बैडमिंटन चैंपियनशिप जीत कर ऋषिकेश का नाम रोशन किया। इस अवसर पर सरदार देवेंद्र सिंह, रविंद्र असवाल, प्रवीण कपसुडी, अजय रतूड़ी, राजीव लखेड़ा, यस गोयल, पंकज चावला, सरदार परमजीत सिंह, दिनेश ठाकुर, अनिल कुकरेती, देवेंद्र सिंह, दीपक भारद्वाज, अमरजीत सिंह आदि उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

शाश्वत जे की प्रस्तुतियों पर जमकर थिरके लोग

मुनीकीरेती में पूर्णानंद खेल मैदान में आयोजित गंगा महोत्सव-2020 क्रेजी पर्यटन एवं विकास मेले के दूसरे दिन फ्यूजन स्टार शाश्वत जे पंडित की प्रस्तुतियों पर दर्शक जमकर झूमे। गंगा प्रदूषण थीम पर आधारित नृत्य नाटक को दर्शकों ने खूब सराहा। कार्यक्रम में सामाजिक सरोकार से जुड़े लोगों को सम्मानित भी किया गया।
शुक्रवार को क्रेजी पर्यटन एवं विकास मेले का शुभारंभ सांसद तीरथ सिंह रावत ने सुभाष चंद्र बोस के चित्र पर पुष्प अर्पित कर किया। उन्होंने कहा कि समाज को एकजुट बनाए रखने के लिए मेलों का आयोजन अति आवश्यक है। मेले में लोगों ने चरखी, झूलो और स्टालों पर चटपटे व्यंजनों का भरपूर आनंद उठाया। वहीं, ओपन कबड्डी, खो-खो और वॉलीबाल प्रतियोगिताओं में खिलाड़ियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। क्रेजी संस्था के अध्यक्ष मनीष डिमरी ने बताया की फाइनल मैच शनिवार को खेले जाएंगे। कार्यक्रम में राजकीय इंटर कॉलेज मंजकोट, कीर्तिनगर की टीम ने गंगा प्रदूषण थीम पर नृत्य नाटिका प्रस्तुति देकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया। कार्यक्रम में उत्कृष्ट कार्य करने पर स्वतंत्र पत्रकार शशिभूषण मैठाणी को सम्मानित किया गया।
स्थानीय प्रतिभाओं में नवरत्न डांस क्लासेज और द अट्रैक्शन ग्रुप ने शानदार प्रस्तुतियों से समा बांधा। शाम को फ्यूजन स्टार शाश्वत जे पंडित की गढ़वाली प्रस्तुतियों ने कार्यक्रम में धूम मचाई। इस मौके पर मेयर अनिता ममगाई, पालिकाध्यक्ष रोशन रतूड़ी, मंडी समिति के अध्यक्ष विनोद कुकरेती, मंडल अध्यक्ष राकेश भट्ट, मदन सिंह रावत, बीना जोशी, क्रेजी संस्था के सचिव राजेश्वर उनियाल, सभासद गजेंद्र सिंह, मनोज बिष्ट, सुभाष चौहान, देवस्पति बिजल्वाण, महावीर खरोला आदि उपस्थित थे।
... और पढ़ें
गंगा प्रदूषण पर आधारित नृत्य नाटिका की प्रस्तुति देते कलाकार। गंगा प्रदूषण पर आधारित नृत्य नाटिका की प्रस्तुति देते कलाकार।

छात्रों को सिखाए पर्यावरण संरक्षण के गुर

वर्ल्ड व्हाइट फंड फॉर नेचर संस्था की ओर से एक पृथ्वी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में छात्रों को पर्यावरण और वन्यजीव संरक्षण के गुर सिखाए गए। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं की ओर से पर्यावरण से संबंधित प्रदर्शनी भी लगाई गई।
शुक्रवार को लक्ष्मणझूला स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम का संस्था के डायरेक्टर डॉ. अनिल कुमार सिंह, नोडल अधिकारी डॉ. केएन विजल्वाण ने शुभारंभ किया। चेतना सिंह ने छात्र-छात्राओं को पर्यावरण और वन्यजीव संरक्षण की जानकारी दी। छात्रों को चलचित्र के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण और वन्यजीवों के बचाव का तरीका बताया गया। नोडल अधिकारी डॉ. केएन बिजल्वाण ने बताया कि कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य पर्यावरण संरक्षण के प्रति बच्चों की मानसिकता में बदलाव लाना था। कार्यक्रम में राजाजी टाइगर रिजर्व के समीप संचालित होने वाले 10 विद्यालयों और कार्बेट टाइगर रिजर्व के आसपास के 11 विद्यालयों को शामिल किया गया।
बताया कि कार्यक्रम में उत्तराखंड से चार बच्चों का चयन किया जाएगा जो दिल्ली में होने वाले एक पृथ्वी कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगे। इस अवसर पर कार्यक्रम संयोजक तनु जैन, प्रधानाध्यापिका लक्ष्मी वर्तवाल, अरुणा भंडारी, लक्ष्मी पोखरियाल, मालती बिष्ट, सुमन नेगी, सुमन धूलिया, अमरीश कुमार, मनोहर जोशी आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

दीवार ढही, बड़ा हादसा टला

अभी दीवार गिरने से किशोर की मौत मामले को तीन दिन ही हुए कि अद्वैतानंद मार्ग पर एक निजी प्लॉट की जर्जर दीवार भी ढेर हो गई। व्यस्ततम मार्ग होने के बावजूद यहां बड़ा हादसा होने से टल गया। यदि दीवार सुबह के बाद किसी भी समय गिरती तो किसी अनहोनी से इनकार नहीं किया जा सकता था। बावजूद इसके नगर निगम अब तक नहीं जागा है। अभी तक नगर क्षेत्र के विभिन्न गिरासू भवनों का सर्वे तक नहीं हो सका है।
जानकारी के अनुसार अंबेडकर चौक से अंदर अद्वैतानंद मार्ग पर शुक्रवार तड़के एक निजी प्लॉट की दीवार गिरकर सड़क पर बिखर गई। हर कोई गिरी दीवार को देखकर तीन दिन पूर्व की घटना का जिक्र करने लगा। दरअसल, दीवार के लगते हुए कॉम्पलेक्स में कई कोंचिग सेंटर, ट्यूशन प्वाइंट, योग प्रशिक्षण केंद्र और व्यापारिक प्रतिष्ठान हैं। इस कारण सुबह से लेकर देर शाम तक यहां बच्चों का जमघट लगा रहता है। इसके अलावा यहां लगातार आवागमन भी होता रहता है। मगर, शुक्रवार की सुबह शिक्षण संस्थान खुलने के समय से पूर्व ही दीवार ढेर हो गई। गनीमत रही कि दीवार ढहने के दौरान आसपास कोई नहीं था।
दीवार गिरने की सूचना पाकर सहायक नगर आयुक्त विनोद लाल भी मौके पर पहुंचे और सड़क पर गिरे मलबे को हटाने के निर्देश सफाईकर्मियों को दिए। देर शाम सड़क पर गिरे मलबे को हटा दिया गया।
----
निगम की लापरवाही पड़ सकती है भारी
पुष्कर मंदिर मार्ग पर बृहस्पतिवार को हुई घटना के बाद भी नगर निगम अभी तक नहीं चेता है, जबकि नगर क्षेत्र के बीचोंबीच करीब दो दर्जन से ज्यादा ऐसे भवन और दीवारें हैं जो जर्जर हो चुकी हैं। इन्हें समय रहते चिह्नित कर उचित उपाय न किए गए तो बड़ी घटना की संभावना है। मामले में सहायक नगर आयुक्त विनोद लाल ने बताया कि अभी तक निगम की ओर से गिरासू भवनों की पहचान नहीं की गई है।
----
दीवार ढहते ही प्लाट में दिखा कूड़े का अंबार
दीवार ढहने के साथ ही सफाई व्यवस्था और स्वच्छता अभियान की पोल भी खुल गई। यहां खाली पड़े प्लाट में कूड़े का अंबार उजागर हुआ। आबादी के बीच पड़े इस कूड़े के ढेर पर अब तक किसी का ध्यान ही नहीं गया था। लोगों का कहना है कि कूड़े के बोझ के कारण ही एक ईंट की बनी उक्त दीवार ढह गई। सहायक नगर आयुक्त विनोद ने बताया कि प्लॉट पर पड़ी गंदगी हटाने के लिए सफाईकर्मियों को निर्देशित कर दिया गया है।
... और पढ़ें

रेलवे स्टेशन से चोरों ने उड़ाईं दो एलसीडी

कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत रेलवे स्टेशन पर चोरों ने बीती रात धावा बोल दिया। चोरों ने आरक्षण काउंटर के ऊपर लगी दो बड़ी एलसीडी पर हाथ साफ कर दिया। वहीं, पास की खिड़की भी क्षतिग्रस्त कर दी। मामले में जीआरपी पुलिस स्टेशन के आसपास की दुकानों के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। हालांकि, पूरे घटनाक्रम पर पुलिस चुप्पी साधे हुए है।
सूत्रों के अनुसार शुक्रवार सुबह जैसे ही कर्मचारी स्टेशन पहुंचे तो यहां टिकट खिड़की के आरक्षण काउंटर के ऊपर लगी दो एलसीडी टीवी गायब देखकर उनके होश उड़ गए। उन्होंने आसपास देखा तो काउंटर के समीप कांच की खिड़की भी क्षतिग्रस्त थी। कर्मचारियों ने तुंरत इसकी सूचना स्टेशन अधीक्षक राजपाल मीणा को दी। वह भी मौके पर पहुंचे और मामले से जीआरपी पुलिस को अवगत कराया। इसके बाद जीआरपी पुलिस मामले की छानबीन में लग गई। जीआरपी पुलिस के सिपाही स्टेशन के आसपास के अलग-अलग मार्गों पर बनी दुकानों के सीसीटीवी फुटेज दिनभर खंगालते रहे। मगर, चोरी की घटना को लेकर पूछने पर जीआरपी पुलिस चोरी की घटना को दबाने की कोशिश में जुटी रही। खबर लिखे जाने तक चोरों का कोई सुराग नहीं लग पाया था।
-----
सीसीटीवी कैमरे भी बने शोपीज
रेलवे स्टेशन पर कई जगह बोर्ड लगाकर लिखा गया है कि आप सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में है। जबकि, हकीकत यह है कि यहां लगे करीब पांच सीसीटीवी कैमरे शोपीज बने हुए हैं। इनकी रिकॉर्डिंग नहीं होती, यह लाइव चलते हैं। उच्च अधिकारियों को इस संबंध में जानकारी होने के बाद भी कैमरों को दुरुस्त नहीं किया गया। हालत यह हैं कि कांवड़ के दौरान यहां किराए के सीसीटीवी कैमरे लगवाए गए, जो तय अवधि के बाद निकाल लिए गए। यदि रेलवे स्टेशन पर सीसीटीवी कैमरे सही होते तो जीआरपी पुलिस को बाहर दुकानों की फुटेज खंगालने की जरूरत नहीं पड़ती।
---
रेलवे स्टेशन पर चोरी जैसी कोई वारदात नहीं हुई है। न ही रेलवे के अधिकारियों की ओर से ऐसी कोई सूचना मिली है।
- बलवंत सिंह पंवार, चौकी इंचार्ज जीआरपी पुलिस
... और पढ़ें

‘कांग्रेस की नीयत साफ होती तो न होता पाकिस्तान का अस्तित्व’

चोरों की शिनाख्त के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगालती जीआरपी के जवान।
आजादी के बाद कांग्रेस सरकार की गलतियों का खामियाजा देश आज तक भुगत रहा है। यदि कांग्रेस की नीयत देश के प्रति साफ रही होती तो आज पाकिस्तान का अस्तित्व न होता। पाकिस्तान बनने के कारण आज भी फौजी भाइयों को बलिदान देना पड़ रहा है। ये बातें उप्र के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहीं।
वे शुक्रवार को चीला स्थित दिव्य प्रेम सेवा मिशन संस्थान में नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जयंती समारोह में बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में केशव प्रसाद मौर्य ने न सिर्फ सरकार की उपलब्धियां गिनाईं बल्कि विपक्षी पार्टी कांग्रेस को भी आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि पूर्व में कांग्रेस सरकार की नीयत में ही खोट थी। वरना न तो 370 और न ही सीएए का विवाद खड़ा होता। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेसी आज भी देश को बरगलाने में लगे हैं। कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि मुझे प्रसन्नता है कि पीएम मोदी नेताजी के सपनों का भारत गढ़ रहे हैं। उन्होंने मिशन के कार्यों की सराहना करते हुए पहल की कि संस्थान के लिए कार्पस फंड बनाया जाए। उन्होंने कहा कि मिशन के संचालक आशीष भैया को भी अब दौड़भाग से राहत देनी चाहिए।
इसके लिए उप्र के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को कार्पस फंड समिति का अध्यक्ष, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रेम शुक्ल को समन्वयक और खुद को सचिव बनने की घोषणा की। इसी क्रम में सांसद अशीष राजपूत ने अपने एक माह का वेतन कार्पस फंड को समर्पित किया। इस पहल पर केशव प्रसाद मौर्य ने भरोसा दिलाया कि कार्पस फंड को समृद्ध बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।
इस मौके पर व्यवसाई जीबी सिंह, देवबंद से विधायक बृजेश सिंह, लोनी विधायक नंद किशोर गूजर, मिल्कीपुर विधायक गोरख बाबा सहित जीएमवीएन उपाध्यक्ष केके सिंघल, मेयर अनिता ममगाईं आदि लोग उपस्थित रहे।
... और पढ़ें

सावधान इन मार्गों से गुजर रहे हों तो जरा संभलकर

तीर्थनगरी के अधिकांश शिक्षण संस्थानों की चारदीवारी जीर्णशीर्ण हालत में हैं। इनकी मरम्मत के लिए कई बार शासन स्तर पर पत्राचार किया जा चुका है, लेकिन हालत यह है कि अफसरों ने इस मुद्दे को अब तक तवज्जो देने की जरूरत नहीं समझी है। लिहाजा स्कूल प्रबंधन भी पत्राचार का कोरम पूरा कर निराश भाव में बैठे रहे। बुधवार देर शाम जर्जर दीवार ढहने के कारण हुई किशोर की मौत के बाद जनप्रतिनिधियों और स्कूल प्रबंधन में जरूर हलचल हुई। अब स्कूल प्रबंधन नए सिरे से जर्जर दीवारों को जल्द ठीक करवाने के लिए पत्राचार की कसरत कर रहे हैं। बताते चलें कि पुष्कर मंदिर मार्ग स्थित राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय नंबर-1 की 10 फीट ऊंची दीवार ढह जाने से एक किशोर की मौत हो गई। वहीं, दो बुरी तरह से घायल हो गए हैं। किशोर की मौत के बाद अफसरों और जनप्रतिनिधियों में नए सिरे से संवेदना की लहर दौड़ी है। उम्मीद भी की जा रही है कि जिम्मेदार लोग हादसे से सबक लेंगे।
--
ये है हादसों के दीवार की फेहरिस्त
दीवार-1
श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज की 12 फीट ऊंची 100 मीटर लंबी चारदीवारी जीर्णशीर्ण हालत में हैं। इससे गंगानगर, गणेश विहार, हनुमंतपुरम के मार्ग सटे हुए हैं। सैंकड़ों लोग प्रतिदिन यहां से आवागमन करते हैं। इस चारदीवारी की मरम्मत के लिए वर्ष 2014 में तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने बजट दिलाने का वादा भी किया था। इसके बावजूद आज तक इसका पुनरुद्धार नहीं हो पाया है। थकहारकर स्कूल प्रबंधन ने 2015, 2018 और 2019 में भी उप जिलाधिकारी को पत्र देकर दीवार की दयनीय स्थिति से अवगत कराया। प्रधानाचार्य मेजर गोविंद सिंह रावत ने बताया कि समय रहते इस पर ध्यान न दिया गया तो कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।
----
दीवार-2
देहरादून रोड स्थित राजकीय बालिका इंटर कॉलेज की पांच फीट से अधिक ऊंची चारदीवारी की भी हालत हादसों को न्योता दे रही है। हालत ये है कि मरम्मत के इंतजार में दीवार सड़क की ओर झुक गई है। पूर्व में इस दीवार का कुछ हिस्सा ढह भी चुका है। इसके बावजूद शिक्षा विभाग के आला अधिकारियों ने खतरे की गंभीरता को नजरंदाज कर दिया। प्रधानाचार्य रचना अग्रवाल का कहना है कि बुधवार की घटना के बाद मुख्य शिक्षा अधिकारी को पत्र भेजकर इंजीनियर से दीवार का परीक्षण कराया जाएगा। साथ ही इसकी मरम्मत की सिफारिश की जाएगी।
-----
दीवार-3
रेलवे रोड स्थित हरिचंद गुप्ता आदर्श कन्या इंटर कॉलेज की चारदीवारी करीब पांच वर्ष पूर्व नए सिरे से बनवाई गई थी। दीवार से सटे पीपल के पेड़ की जड़ों ने इसे अपनी चपेट में ले लिया है। इस कारण दीवार में दरारें आ गई हैं। लिहाजा इस दीवार के भी ढहने का खतरा बना हुआ है। प्रधानाचार्य पूनम रानी शर्मा ने बताया कि दीवार में दरार होने के कारण इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। हादसे से सबक लेकर वह जनप्रतिनिधियों को पत्राचार कर दीवार की मरम्मत के लिए मांग उठाएंगी।
----
दीवार-4
खतरे से खाली कोतवाली ऋषिकेश की चारदीवारी भी नहीं है। कोतवाली स्थित पुराने एलआईयू ऑफिस से सटे भवन और उसकी चारदीवारी ही हालत दयनीय है। इस मार्ग का उपयोग लोग देहरादून मार्ग से रेलवे रोड को शॉर्टकट से जाने के लिए करते हैं। इसके अलावा छोटी सब्जी मंडी का रास्ता भी इसी दीवार से सटा है। सैकड़ों लोग रोजाना इस मार्ग से पैदल और वाहन से आवागमन करते हैं। खतरे का अंदाजा होते हुए भी अब तक ये दीवार भी उपेक्षा की शिकार है।
----
दीवार-5
बनखंडी क्षेत्र से लगती हुई रेलवे की दीवार भी कभी भी ढह सकती है। दीवार एक विद्युत पोल के सहारे टिकी हुई है। इस दीवार का अधिकांश हिस्सा सड़क की ओर झुका हुआ है। यह शहर के व्यस्ततम मार्गों में शुमार है। यहां से शांतिनगर, गंगानगर, सोमेश्वर नगर, गीतानगर आदि क्षेत्रों का रास्ता जुड़ता है। स्थानीय लोगों ने स्टेशन अधीक्षक को पत्र भेजकर इसकी मरम्मत की मांग की है। इसके बावजूद अभी तक रेलवे विभाग की ओर से कोई एहतियाती कदम नहीं उठाया गया है।
----
दीवार-6
राजकीय इंटर कॉलेज लक्ष्मणझूला की चारदीवारी लगभग 30 साल पुरानी है। इन दीवारों की स्थिति वर्तमान में जीर्णशीर्ण है। प्रधानाचार्य मदन मोहन उप्रेती के अनुसार स्थानीय जनप्रतिनिधियों को कई बार अवगत कराया जा चुका है। इसके बावजूद किसी ने संज्ञान नहीं लिया है। मरम्मत में खर्च का अनुमान अधिक लगने के कारण शायद प्रतिनिधि इसको नजरंदाज कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि बुधवार की घटना के बाद यमकेश्वर विधायक ऋतु खंडूड़ी ने मरम्मत के लिए सहयोग देने का आश्वासन दिया है।
----
दीवार-7
लक्ष्मणझूला स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय की चारदीवारी जर्जर हालत से जूझ रही है। प्रधानाचार्य लक्ष्मी बर्तवाल ने बताया कि स्थानीय जनप्रतिनिधियों को इस बारे में अवगत कराया गया। फिलहाल मामला अधर में लटका हुआ है। यमकेश्वर विधायक की ओर से सकारात्मक जवाब मिला है। उन्होंने इसकी मरम्मत के लिए सहयोग का भरोसा दिया है। विधायक रितु खंडूरी ने ऋषिकेश की घटना से सबक लेते कहा कि दोनों विद्यालयों के बजट का प्रस्ताव मिल चुका है। विधायक निधि से इसे दुरुस्त कराया जाएगा।
 राजकीय प्राथमिक विद्यालय लक्ष्मणझूला की दीवार।
राजकीय प्राथमिक विद्यालय लक्ष्मणझूला की दीवार।- फोटो : RISHIKESH
... और पढ़ें

आजादी के महानायक को किया याद

नगर सहित आसपास के क्षेत्रों में नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 123वीं जयंती मनाई गई। विभिन्न संगठनों ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस के चित्र पर पुष्प अर्पित कर आजादी के महानायक को याद किया। बैराज रोड स्थित विधानसभा अध्यक्ष के कैंप कार्यालय में बोस की जयंती पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि महान देशभक्त सुभाषचंद्र बोस के पद चिह्नों पर चलकर हमें देश को परम वैभव के पद पर आसीन करने के लिए प्रयत्नशील रहना चाहिए। मंडल अध्यक्ष दिनेश सती, वीरभद्र मंडल अध्यक्ष अरविंद चौधरी, श्यामपुर मंडल अध्यक्ष गणेश रावत, रविंद्र राणा, पार्षद रीना शर्मा, प्रभाकर शर्मा, सुमित पंवार, किशन मंडल, क्षेत्र पंचायत सदस्य प्रभाकर पैन्यूली, हिमांशु संतानी, अनुराग पयाल, भूपेंद्र राणा, रवि शर्मा, राजेश शुक्ला, शिव कुमार गौतम आदि मौजूद थे। रेलवे रोड स्थित हरिचंद गुप्ता बालिका इंटर कॉलेज में नेताजी की जयंती मनाई गई। प्रधानाचार्य पूनमरानी शर्मा ने छात्राओं को नेताजी सुभाषचंद्र बोस की जीवनी पर वक्तव्य दिया। इस दौरान छात्राओं ने नेताजी से संबंधित कविता और कहानियों की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में सीमा कोठियाल, अमिता अरोड़ा, ममता गुप्ता, सपना सिंह, पूनम बिष्ट, विनिता, नेहा शर्मा आदि मौजूद थे।
वहीं, यमकेश्वर के जूनियर हाईस्कूल पटना में छात्र-छात्राओं ने नेताजी के आंदोलन का जिक्र करते हुए उनका भावपूर्ण स्मरण किया। विद्यालय के शिक्षक शिक्षिकाओं ने नेताजी के चित्र पर माल्यापर्ण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर कुंवर राणा, पुष्पलता, कुसुमलता, अंजना बिष्ट, अशोक क्रेजी आदि मौजूद थे। सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज आवास विकास के योग सभागार में नेताजी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें याद किया गया। छात्र-छात्राओं ने गांधी के सपनों का भारत पर कला प्रतियोगिता आयोजित की। इसमें अनुष्का प्रथम, आफरीन द्वितीय, चांदनी तृतीय स्थान पर रहीं।
---
‘स्वतंत्रता संग्राम के अग्रणी नेता थे बोस’
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की ओर से नेताजी सुभाषचंद्र बोस को पुष्पांजलि अर्पित की गई। नगर मंत्री शुभम झा ने कहा कि नेताजी सुभाषचंद्र बोस स्वतंत्रता संग्राम के अग्रणी नेता थे। इस अवसर पर काजल थापा, संदीप शर्मा, शुभम झा, ईशा बेदवाल, सौरभ राणा, खुमेंद्र सिंह, अदिति मौजूद थे। वहीं, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं उत्तराधिकारी कल्याण समिति और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से नेताजी की जयंती मनाई गई। इस दौरान रैली निकालकर समाज को नशा मुक्त बनाने का संदेश दिया गया। इस अवसर पर जिला संघचालक सुदामा सिंघल, विपिन कंडवाल, श्याम बिहारी, अमरीश गर्ग, राजेश शर्मा, चंद्रमणि शुक्ला, डॉ. हेतराम मंगाई, दयाशंकर राठी आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

रेडियोलॉजी में विशेषज्ञों को तैयार करने पर दिया जोर

इंडियन रेडियोलॉजिकल इमेजिंग एसोसिएशन (आईआरआईए) की 2020 वार्षिक कॉन्फ्रेंस का बृहस्पतिवार को शुभारंभ हुआ। एम्स निदेशक ने रेडियोलॉजी के क्षेत्र में विशेषज्ञता रखने वाले चिकित्सकों को तैयार करने पर जोर दिया।
एम्स निदेशक प्रो. रवि कांत ने कहा कि एमडी, एमएस और डीएनबी की संयुक्त परीक्षा होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि न्यूक्लियर मेडिसिन व रेडियो डाइग्नोसिस दोनों ही प्रणाली बीमारी की जांच से जुड़ी हैं। इसके तहत दोनों विभागों में आपसी समन्वय होना जरूरी है। कहा कि इन दोनों विभागों का विलय कर दिया जाना चाहिए। अमेरिकन बोर्ड पूर्व में ही न्यूक्लियर मेडिसिन व रेडियो डाइग्नोसिस विभाग को एक कर चुका है। एम्स निदेशक ने कहा कि रेडियोलॉजी का पृथक विभाग होना चाहिए। उन्होंने इस विषय को सुपर स्पेशलिटी श्रेणी की बजाय स्पेशलिटी प्रोग्राम में शामिल किए जाने पर जोर दिया।
इस मौके पर नेशनल बोर्ड ऑफ एजुकेशन के अध्यक्ष डॉ. अभिजात सेठ, आईआरआईए के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. हेमंत पटेल, मनीपाल यूनिवर्सिटी के प्रो. चांसलर डॉ. एचएस बलाल, डॉ. सुधीर सक्सेना, डॉ. पंकज शर्मा, डॉ. उदित चौहान, डॉ. मोहित तायल आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

संस्थान ने छह छात्रों को बांटी छात्रवृत्ति

ओम ब्रह्म शांति सेवा संस्थान की ओर से सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में व्यापारी श्याम अरोड़ा को सामाजिक कार्यों के लिए अविरल सेवा रत्न सम्मान से नवाजा गया। साथ ही विद्यालय के छह छात्रों को छात्रवृत्ति वितरित की गई।
बृहस्पतिवार को गुमानीवाला स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय में संस्थान के संस्थापक डीसी श्रीवास्तव की अध्यक्षता में सम्मान समारोह आयोजित किया गया। मुख्य अतिथि श्याम अरोड़ा, डीसी श्रीवास्तव और अरविंद श्रीवास्तव ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में संस्थान की ओर से समाजिक कार्य करने वाले व्यापारी श्याम अरोड़ा को अविरल सेवा रत्न सम्मान से सम्मानित किया गया। साथ ही विद्यालय के छह छात्रों प्रिंस जायसवाल, श्याम बाबू, मीनाक्षी, रोहित, सोमवती, अंजली को छात्रवृत्ति के चेक प्रदान किए गए। श्याम अरोड़ा ने छात्र-छात्राओं को गरम वस्त्र प्रदान किए। इस अवसर पर पुष्पा गोयल, प्रमोद अग्रवाल, अशोक गुप्ता, रामनाथ शुक्ला, प्रधानाचार्य धर्मपाल सिंह, सावित्री देवी, एनके तोमर, पवन कुमार गुप्ता, मयंक मोहन सक्सेना, सुरेश श्रीवास्तव आदि मौजूद थे। संवाद
... और पढ़ें

स्कूल का मुआयना करने पहुंची मेयर, अफसर का किया घेराव

बीते बुधवार को स्कूल की दीवार गिरने से हुई किशोर की मौत पर मायांकुड वासियों ने जमकर हंगामा काटा। मुआवजे और दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग को लेकर लोगों ने लक्ष्मणझूला रोड पर प्रदर्शन किया। इस दौरान स्कूल का मुआयना करने पहुंचीं मेयर और जिला शिक्षा अधिकारी को लोगों ने घेर लिया।
साथ ही नगर निगम समेत शासन, प्रशासन के खिलाफ मुर्दाबाद के जमकर नारे लगाए। मौके पर पहुंचे उपजिलाधिकारी प्रेमलाल ने सप्ताह भर में मृतक किशोर के परिजनों को मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। वहीं, लोगों ने मुआवजा न मिलने पर एसडीएम को उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।
गौरतलब है कि बीते बुधवार को पुष्कर मंदिर मार्ग में स्थित राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय की दीवार ढहने से मायाकुंड निवासी एक किशोर की मौत हो गई थी। इससे नाराज महिलाएं और पुरुष बृहस्पतिवार को लक्ष्मणझूला रोड पर एकत्र हुए और हाईवे जाम कर दिया। करीब पांच मिनट तक हाईवे पर प्रदर्शन का दौर जारी रहा। यहां से लोग राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय पहुंचे। इस दौरान घटना स्थल का निरीक्षण करने पहुंचीं मेयर अनिता ममगाईं और जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी राजेंद्र रावत को लोगों ने घेर लिया। गुस्साए लोगों ने अधिकारियों और मेयर को जमकर खरीखोटी सुनाई। सुरक्षा के मद्देनजर यहां पहले से पुलिसबल तैनात किया गया था। लोगों का गुस्सा और किसी अप्रिय घटना की संभावना को देखते हुए आननफानन में जिला शिक्षा अधिकारी को भीड़ से बाहर निकाला गया। इस दौरान आक्रोशित कुछ महिलाएं मेयर से उलझ पड़ीं। साथ ही मेयर की गाड़ी को भी भीड़ ने स्कूल के बाहर ही रोक दिया।
मेयर ने मृतक किशोर के परिजनों को उचित मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया। इसके बावजूद भीड़ हर मनुहार को अनसुना करती रही। इस बीच मृतक बालक के पिता की ओर से स्कूल के प्रधानाचार्य व जिम्मेदार अधिकारियों के विरुद्घ कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर कार्रवाई की मांग भी की गई। पीड़ित पक्ष ने तहरीर में शिक्षा विभाग और विद्यालय के प्रधानाचार्य के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।
---
ठेकेदार पर भी हो कार्रवाई
घटना स्थल पर पहुंचे एसडीएम प्रेमलाल से एआईसीसी सदस्य जयेंद्र रमोला, क्षेत्रीय पार्षद देवेंद्र प्रजापति, पूर्व सभासद कविता शाह, रामकृपाल गौतम, शिवमोहन मिश्र, मनीष बनवाल ने मृतक किशोर के परिजनों को शीघ्र मुआवजा दिलाने की मांग की। साथ ही दीवार बनाने वाले ठेकेदार के विरुद्घ कार्रवाई का भी आग्रह किया। लोगों ने आरोप लगाया कि ठेकेदार ने यहां जर्जर हो चुकी दीवार के ऊपर ही नया निर्माण कर दिया था। इसकी जांच होनी चाहिए। इस पर एसडीएम ने फोन से जिलाधिकारी देहरादून से वार्ता की और सप्ताह भर में मृतक किशोर के परिजनों के लिए मुआवजा उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया।
---
दीवार से भी जर्जर साबित हुई सरकारी कार्यप्रणाली
घटना स्थल पर पहुंचे जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, देहरादून राजेंद्र सिंह रावत ने बताया कि उन्हें स्कूल के दीवार की जर्जर हालत की जानकारी पूर्व से थी। इसके बावजूद विभाग के पास फंड उपलब्ध न होने के कारण मरम्मत नहीं हो पाई। उन्होंने बताया कि घटना का सबब बनी दीवार का निर्माण वर्ष 1956 में हुआ था। तब से उसकी मरम्मत नहीं हो पाई थी। वर्तमान मेें यहां दो स्कूलों का संचालन हो रहा है। इनमें कुल 255 छात्र-छात्राएं अध्ययनरत हैं। इसमें खास बात यह है कि इन विद्यालयों की अब तक मरम्मत तक नहीं हो पाई है। मुआवजे के संबंध मेें पूछने पर जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि जिलाधिकारी देहरादून से वार्ता हुई है। शिक्षा विभाग की ओर से मुआवजे का कोई प्रावधान नहीं है। यह सहयोग शासन-प्रशासन के स्तर पर किया जाता है।
----
अध्यापिका को जड़ा तमाचा
बृहस्पतिवार को राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय की एक अध्यापिका को गुस्साई भीड़ में से किसी एक महिला ने थप्पड़ जड़ दिया। जानकारी के मुताबिक अध्यापिका ने एक महिला पर तंज कसते हुए कहा कि यहां लड्डू खाने आई है। इस कटाक्ष से बौखलाई महिला आगे बढ़ी और अध्यापिका के मुंह पर तमाचा जड़ दिया। माहौल बिगड़ता देख लोगों ने हालात को संभाला। इस बीच अध्यापिका मौके से किनारा कर चली गई।
----
बच्ची को डांटने वाली अध्यापिका की शिकायत की
बृहस्पतिवार को राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय में हो रहे प्रदर्शन के दौरान यहां तैनात एक अध्यापिका ने भीड़ के साथ आई एक बच्ची को डांट दिया। बच्ची ने बताया कि वह इसी विद्यालय में पढ़ती है। अध्यापिका ने कहा कि अगले दिन स्कूल आएगी तो वह तब उसकी खबर लेगी। इस पर अध्यापिका की शिकायत लोगों ने आला अधिकारियों से भी की।
----
मुआवजा दिलाने के लिए विस अध्यक्ष ने डीएम को दिए निर्देश
राजकीय पूर्व माध्यमिक विद्यालय की दीवार गिरने से किशोर छात्र की मौत को विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। बृहस्पतिवार को उन्होंने घटनास्थल का मुआयना किया। साथ ही दुर्घटना में मृत छात्र केतन के परिजनों को मुआवजा दिलाने के लिए जिलाधिकारी देहरादून को मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक सहायता देने के लिए निर्देशित किया। दीवार गिरने से घायल हुई स्नेहलता गुप्ता का हाल जानने वह एम्स भी पहुंचे। इस मौके पर उपजिलाधिकारी प्रेमलाल, तहसीलदार रेखा आर्य, पार्षद रीना शर्मा, पूर्व पार्षद कविता शाह, मृत्युंजय गुप्ता, विद्यालय के प्रधानाचार्य भीष्म सिंह राजपूत, वार्डन सुशीला बड़थ्वाल उपस्थित थे ।
-----
विद्यालय में हुई शोक सभा, अवकाश घोषित
मृतक किशोर श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज का छात्र था। इसी क्रम में छात्र केतन की याद में विद्यालय प्रबंधन ने अवकाश घोषित किया। इससे पूर्व विद्यालय में शोकसभा का आयोजन किया गया। इस दौरान छात्रों ने दो मिनट का मौन रखा। शोक सभा में प्रधानाचार्य मेजर गोविंद सिंह रावत, यमुना प्रसाद त्रिपाठी, लखविंदर सिंह, अरविंद कुमार, जितेन्द्र बिष्ट, रंजन अंथवाल, सुशीला बर्थवाल, शालिनी, जितेन्द्र बिष्ट, नीलम जोशी आदि शामिल रहे।
 मेयर और अफसर का घेराव करते आक्रोशित लोग।
मेयर और अफसर का घेराव करते आक्रोशित लोग।- फोटो : RISHIKESH
19 घटनास्थल पर पहुंचे विस अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल
19 घटनास्थल पर पहुंचे विस अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल- फोटो : RISHIKESH
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us