विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

बोली अपराजिताएं, दून सुरक्षित, पुलिस भी अच्छी लेकिन पब्लिक ट्रांसपोर्ट की स्थिति बेहद खराब

महिलाओं के लिए दून पूरी तरह सुरक्षित है। पुलिस भी अच्छी है और महिलाओं से जुड़े ज्यादातर मामलों में समय पर मदद भी उपलब्ध कराती है।

6 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

रुद्र प्रयाग

शुक्रवार, 6 दिसंबर 2019

रुद्रपुर को किया जाएगा नशा मुक्त: बनारसी दास

रुद्रपुर। प्रजापिता ब्रहाकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की ओर से मंगलवार को रुद्रपुर में व्यसन मुक्त अभियान की शुरूआत की गई। संस्था की मेडिकल विंग के चेयरमैन बनारसी दास शाह ने कहा कि इस अभियान के तहत रुद्रपुर और आसपास के क्षेत्र को पूर्ण रूप से नशा मुक्त किया जाएगा।
रुद्रपुर के एक होटल में मेरा उत्तराखंड, व्यसन मुक्त उत्तराखंड मार्ट-2 अभियान मेडिकल विंग ब्रहाकुमारी माउंट आबू की ओर आयोजित किया गया। चेयरमैन शाह ने कहा कि ब्रहाकुमारी अंतरराष्ट्रीय संस्था है। इसके जरिये उत्तराखंड को व्यसन मुक्त करने के प्रयास किए जा रहे हैं। कहा कि स्कूल, कॉलजों और अन्य शिक्षण संस्थानों के विद्यार्थियों को नशे से बचाने के लिए जागरूकता कार्यक्रम किए जाएंगे। साथ ही बच्चों को शपथ दिलाई जाएगी।
इस मौके पर विधायक राजकुमार ठुकराल, उत्तराखंड वन विकास निगम के अध्यक्ष सुरेश परिहार, मुख्य अतिथि शिव कुमार अग्रवाल, विशिष्ट अतिथि जसविंदर खरबंदा, वीके सूरजमुखी, डॉ. केडी जोशी, डॉ. हीमा, डॉ. गौमती, डॉ. सविता, डॉ. अल्का, बीके गीता, बीके राजीव, जेबी सिंह, रामसिंह बेदी, सूरजमुखी, शीला, एसीएमओ डॉ. अविनाश खन्ना, मुकुट सिंह, प्रमोद शर्मा, विपिन शर्मा, मनोज छाबड़ा, संजय ठुकराल, महावीर कश्यप, राजेश ग्रोवर, रामप्रसाद, नंदलाल, अजय चौहान, सतपाल चंद्रा , ऊषा जैन, राकेश सिंह आदि रहेे।
रुद्रपुर में मेडिकल विंग माउंट आबू के कार्यक्रम में संबोधित करते चेयरमैन बनारसी दास शाह।
रुद्रपुर में मेडिकल विंग माउंट आबू के कार्यक्रम में संबोधित करते चेयरमैन बनारसी दास शाह।- फोटो : RUDRAPUR
... और पढ़ें

‘अपने अधिकारों के साथ कर्तव्यों का करें पालन’

रुद्रपुर। अपने अधिकारों को समझते हुए कर्तव्यों का पालन करने के साथ ही हमें स्वच्छता और स्वास्थ्य पर जोर देना होगा। टाटा समूह यह कार्य बेहतर कर रहा है। यह बातें राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने टाटा मोटर्स लिमिटेड के गुणवत्ता माह समारोह के दौरान कहीं। उन्होंने गुणवत्ता माह के दौरान हुई प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कृत किया और टाटा मोटर्स मैदान में पौधरोपण भी किया। उन्होंने कहा कि टाटा मोटर्स ने कम लागत की गाड़ियों का उत्पादन कर कम आय वर्ग के व्यक्तियों के सपनों को साकार किया है और यह कार्य बदस्तूर जारी है, यह अच्छी बात है।
राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने टाटा मोटर्स लिमिटेड में टाटा गुणवत्ता माह के समापन कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया। राज्यपाल ने कहा कि टाटा समूह को कार्य करते हुए डेढ़ सौ साल हो गए हैं। टाटा ने 80 हजार लोगों को रोजगार दिया है, जो सराहनीय है। उन्होंने कहा कि वर्तमान को देखते हुए और अधिक लोगों को रोजगार दिया जाए। टाटा मोटर्स की ओर से अल्मोड़ा, नैनीताल और यूएसनगर में कुल 22 हजार लोगों को पेयजल उपलब्ध कराना बेहतरीन और पुण्य का कार्य है। टाटा मोटर्स सीएसआर मद से सरकारी स्कूलों को गोद लें और उन्हें स्मार्ट स्कूल बनाएं।
प्लांट हेड अनल विजय सिंह ने बताया कि पंतनगर में छोटे व्यवसायिक वाहनों का उत्पादन किया जाता है। टाटा मोटर्स सीएसआर मद से सामाजिक, शिक्षा, स्वास्थ्य, कौशल विकास पर कार्य कर रहा है। इस दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हुए। इस मौके पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, डीएम डॉ. नीरज खैरवाल, एसएसपी बरिंदरजीत सिंह, कुलपति पंतनगर विवि डॉ. तेज प्रताप सिंह, एडीएम उत्तम सिंह चौहान, शिशिर मिश्रा सहित अनेक मौजूद रहे।
... और पढ़ें

निर्भया फंड से 44 पीड़िताओं को मिला 65 लाख रुपये मुआवजा

रुद्रपुर। दुष्कर्म, एसिड अटैक से लेकर घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं की मदद के लिए गठित निर्भया प्रकोष्ठ में लगातार शिकायतें पहुंच रही हैं। ऊधमसिंह नगर जिले में पांच वर्षों में दर्ज कुल 259 प्रकरणों में से 122 का निस्तारण हुआ है। निर्भया फंड से 44 पीड़ित महिलाओं को करीब 65 लाख रुपये मुआवजा मिल चुका है।
दिल्ली के निर्भया कांड के बाद महिलाओं की सुरक्षा व जागरूकता के लिए जिले में भी चार अक्तूबर 2013 को निर्भया प्रकोष्ठ का गठन किया था। इसके तहत निर्भया प्रकोष्ठ में महिलाओं की समस्याओं का निस्तारण और निर्भया फंड में करीब साढ़े तीन लाख रुपये तक मुआवजा दिया जा रहा है। पीड़ित महिलाओं को केस लड़ने के लिए नि:शुल्क वकील और काउंसलिंग की व्यवस्था है। ऊधम सिंह नगर जिले केंद्र पोषित निर्भया फंड योजना के तहत महिलाओं व किशोरियों को जागरूक करने को अभियान चलाने के लिए छह लाख, 70 हजार रुपये का बजट मिला है। इसके तहत अब तक सात जागरूकता कार्यक्रम हो चुके हैं। दो जागरूकता कार्यक्रम शुरू होने जा रहे हैं। निर्भया फंड योजना के तहत जिले में अब तक 44 पीड़िता महिलाओं व किशोरियों को 65 लाख रुपये का मुआवजा मिला है। इनमें से 39 दुष्कर्म पीड़िता, दो पोक्सो एक्ट, दो एसिड अटैक और लैंगिग हमले का एक प्रकरण शामिल है। साथ ही निर्भया प्रकोष्ठ में दुष्कर्म, एसिड अटैक, पोक्सो एक्ट, यौन शोषण, छेड़छाड़ आदि के नवंबर 2019 तक दर्ज हुए 259 हैं। इनमें 122 का निस्तारण व 137 मामले प्रकियारत हैं।
निर्भया प्रकोष्ठ की काउंसलर ईशू चंद्रा ने कहा कोई भी पीड़ित महिला निर्भया प्रकोष्ठ में सीधे शिकायत कर सकती है। यहां उनकी नि:शुल्क काउंसलिंग के साथ केस लड़ने के लिए वकील की नि:शुल्क व्यवस्था की जा रही है। निर्भया फंड योजना से पीड़िताओं को मुआवजा दिया जा रहा है।
जिले में निर्भया प्रकोष्ठ में पंजीकृत मुकदमे
मुकदमा पंजीकृत निस्तारित लंबित प्रकरण
पॉक्सो एक्ट 91 69 22
दुष्कर्म 05 02 03
एसिड अटैक 03 02 01
घरेेलू हिंसा 151 43 108
यौन शोषण 06 04 02
छेड़छाड़, साइबर 02 01 01
कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न - शून्य
अन्य प्रकरण -01 -01 - 00
... और पढ़ें

अभिलेख समिति ने खिलाड़ियों का पंजीकरण किया बंद, बरपा हंगामा 19-03-55

रुद्रपुर। रुद्रपुर स्टेडियम में बृहस्पतिवार को खेल महाकुंभ के लिए खिलाड़ियों का पंजीकरण बंद करने पर अभिभावक और प्रशिक्षक भड़क उठे। जिस पर अभिलेख समिति के सदस्यों ने दोबारा पंजीकरण के लिए 15 मिनट का अतिरिक्त समय दिया। पंजीकरण में देरी के चलते खेल महाकुंभ दोपहर साढ़े 12 बजे शुरू हो सका।
रुद्रपुर स्टेडियम में आयोजित खेल महाकुंभ के तीसरे दिन अंडर-14 बालक वर्ग की ब्लॉक स्तरीय प्रतियोगिताएं आयोजित हुईं। पंजीकरण के लिए सुबह नौ बजे से ही काउंटर पर लंबी लाइन लग गई। खिलाड़ियों की संख्या अधिक होने के कारण 11.45 बजे अभिलेख समिति के सदस्य कर्मचारियों ने पंजीकरण रोक दिया। जिस वहां मौजूद खिलाड़ियों और अभिभावक भड़क उठे। उनकी कर्मचारियों के तीखी बहस हुई। हंगामा बढ़ने पर वहां मौजूद क्षेत्रीय युवा कल्याण अधिकारी वजाहत खान ने कर्मचारियों से सभी खिलाड़ियों का पंजीकरण करने को कहा। इसके बाद दोपहर 12 बजे तक खिलाड़ियों का पंजीकरण किया गया।
जिसको रोकने का प्रयास किया, उसने जीता गोल्ड
रुद्रपुर। खेड़ा निवासी मुजीब अहमद ने पिछले वर्ष खेल महाकुंभ में बैडमिंटन की युगल प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक प्राप्त किया था। उसने आरोप लगाया कि बृहस्पतिवार को 0वह जन्म प्रमाण पत्र नहीं ला सका था लेकिन उसके पास बीएफआई का प्रमाण पत्र है। उनसे अभिलेख समिति पर उसका पंजीकरण नहीं करने का आरोप लगाया। आरोप है कि सदस्यों ने उक्त प्रमाण पत्र को मान्यता नहीं दी। इसके बाद वह दोबारा घर गया और प्रमाण पत्र लेकर पहुंचा। इसके बाद उसने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया और बैडमिंटन में स्वर्ण पदक जीता।
... और पढ़ें

टीडीसी के पांच करोड़ बिहार में फंसने का मुद्दा सदन में उठा

रुद्रपुर। उत्तराखंड बीज एवं तराई विकास निगम (टीडीसी) के पांच करोड़ रुपये बिहार के एक डिस्ट्रीब्यूटर द्वारा दबाने का मामला अमर उजाला में छपने के बाद किच्छा विधायक राजेश शुक्ला ने नियम 300 के तहत मुद्दे को विधानसभा में उठाया। उन्होंने नियम 53 के तहत यूएसनगर सहित प्रदेश में फैल रहे नशे के कारोबार का मामला भी उठाया। दोनों ही मामलों को सदन में चर्चा के लिए स्वीकार कर लिया गया।
बृहस्पतिवार को शुक्ला ने सदन में कहा कि कई वर्षों से घाटे में चल रहे टीडीसी में कर्मचारियों की तनख्वाह के भी लाले पड़े हुए हैं। ऐसे में दो साल पहले टीडीसी का बीज बिहार की एक फर्म को उधार बेच दिया गया। दो सालों से उधार की पांच करोड़ रुपयों की धनराशि वसूल नहीं की जा पा रही है। घाटे में चल रहे निगम का बीज उधार में बेचने का निर्णय किस आधार पर लिया गया। इतनी बड़ी राशि के फंसने से घाटे में चल रहे निगम की वित्तीय व्यवस्था और ज्यादा चरमरा गई है। उन्होंने इस संबंध में अमर उजाला में छपी खबर का भी जिक्र किया। उन्होंने पूछा कि क्या सरकार नियम 300 के तहत इस लोक महत्व की सूचना का संज्ञान लेगी तथा ऐसा अव्यवहारिक निर्णय लेने वाले अधिकारियों की जवाबदेही सुनिश्चित करते हुए इनके विरुद्ध कार्रवाई करेगी। नियम 53 के तहत बढ़ते नशे के कारोबार का मामला सदन में उठाया। कहा कि प्रदेश में नशे का कारोबार बड़े पैमाने पर जाल बिछाकर नौजवानों को तबाह कर रहा है। इसके विरुद्ध जिस प्रकार के गहन एवं प्रभावी कार्रवाई की अपेक्षा है, पुलिस विभाग एवं नशा उन्मूलन विभाग उस स्तर पर कार्रवाई नहीं कर पा रहा है। विधानसभा अध्यक्ष ने दोनों विषयों पर विभागीय मंत्री को सख्ती से कार्रवाई करने के साथ ही उन्हें और सदस्य को अवगत कराने को कहा।
note 2000.jpg
note 2000.jpg
... और पढ़ें

खुफिया विभाग की इंस्पेक्टर के घर से 16 तोला सोना उड़ाया

रुद्रपुर। चोरों ने पुलिस को चुनौती देते हुए दिनदहाड़े एलाइंस सिटी वन कालोनी में इंटेलीजेंस इंस्पेक्टर के घर का ताला तोड़कर लाखों रुपये का सामान चोरी कर लिया। इंस्पेक्टर के घर चोरी की सूचना से पुलिस महकमे में खलबली है। आनन-फानन में पहले कोतवाल ने फोर्स के साथ मौका मुआयना किया। देर शाम एसपी क्राइम प्रमोद कुमार और एसपी सिटी देवेंद्र पींचा ने भी चोरी के बारे में मालूमात की। एसपी क्राइम ने बताया कि खुलासे के लिए तीन टीमें गठित की गई हैं और एसओजी को सक्रिय किया गया है।
भूरारानी क्षेत्र में स्थित सिटी वन कालोनी में बी-137 में इंटेलीजेंस इंस्पेक्टर प्रकाश कंबोज अपने परिवार के साथ रहती हैं। प्रकाश रुद्रपुर स्थित पुलिस कार्यालय में तैनात हैं। बृहस्पतिवार की दोपहर 12 बजे वह अपने घर में ताला लगाकर पति इंद्रजीत सिंह के साथ जिला अस्पताल उपचार कराने गई थीं। दोनों बच्चे स्कूल गए हुए थे। करीब दो बजे वह लौटीं तो घर के गेट और मुख्य दरवाजे में लगा ताला टूटा मिला। अंदर जाकर देखा तो कमरों में सामान बिखरा था और अलमारी खुली थी। सूचना पर कोतवाल केसी भट्ट दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। प्रकाश के मुताबिक चोर घर में रखे करीब 16 तोले सोने के जेवर, एलईडी, लैपटॉप, दो मोबाइल और दस्तावेज ले गए हैं। पुलिस ने कालोनी के गेट में तैनात सुरक्षा गार्ड के साथ ही आसपास निर्माण कार्य में लगे मजदूरों से भी पूछताछ की। इसके अलावा इंस्पेक्टर के घर आने वाले रास्तों के किनारे बने भवनों में लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले। पुलिस को एक फुटेज में संदिग्ध कार मिली है। इसकी पुलिस तलाश कर रही है।
इंस्पेक्टर के घर नहीं है सीसीटीवी
रुद्रपुर। सिटी वन कॉलोनी में जहां चोरी की वारदात हुई है वहां बहुत कम संख्या में मकान बने हुए हैं। कुछ मकान निर्माणाधीन भी हैं। पुलिस ने जांच की तो इंटेलिजेंस इंस्पेक्टर के घर में सीसीटीवी भी नहीं लगा था। इसके चलते दूर स्थित मकानों में लगे सीसीटीवी की फुटेज खंगालनी पड़ी। कोतवाल ने बताया कि मामले में तहरीर नहीं मिली है।
... और पढ़ें

युवा महोत्सव में ममंद जहंगी ने बाजी मारी

युवा कल्याण एवं प्रांतीय रक्षक दल विभाग की ओर से आयोजित युवा महोत्सव में ग्रामीण महिलाओं ने अपनी कला से सांस्कृतिक प्रतिभा को प्रदर्शित किया। प्रतियोगिता में महिला मंगल दल जहंगी ने बाजी मारी।
ब्लाक सभागार में आयोजित युवा महोत्सव का शुभारंभ सीडीओ सरदार सिंह चौहान ने किया। उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति विरासत जीवन में नई उमंग, नया रस एवं नई सीख देती है। हमें लोकगीतों के माध्यम से इसे निरंतर संजोए रखना है। युवा कल्याण विभाग के ब्लाक समन्वयक मनोज बजरियाल ने बताया कि महोत्सव में महिला मंगल एवं युवा मंगल दलों की ओर से लोकगीत, लोकनृत्य, एकांकी नाटक, बांसुरी/तबला वादन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है। प्रतियोगिता में विजेता टीमें जिला स्तर के युवा महोत्सव में प्रतिभाग करेंगी। लोकगीत प्रतियोगिता में ममंद जहंगी प्रथम, बैंजी कांडई द्वितीय, युमंद जहंगी तीसरे और लोकनृत्य प्रतियोगिता में ममंद जहंगी प्रथम, ममंद मलाऊं फलासी द्वितीय, ममंद बडसौं द्वितीय और एकांकी नाटक में ममंद/युमंद जहंगी प्रथम, ममंद मलाऊँ फलासी द्वितीय तथा ममंद छिनका तृतीय स्थान पर रहे। प्रतियोगिता में रागिनी नेगी, वीरेंद्र कुमार और हरेंद्र कुमार ने निर्णायक की भूमिका निभाई। इस मौके पर बीईओ केएल रडवाल, वीडीओ सीपी सेमवाल, केवी के प्राचार्य विजय नैथानी आदि मौजूद थे।
... और पढ़ें

लोक कवियों और गायिका हेमा करासी के नाम रहा सांस्कृतिक संध्या का आखिरी दिन

पांच दिवसीय तल्लानागपुर औद्योगिक विकास कृषि एवं पर्यटन महोत्सव का आखिरी दिन कलश साहित्यिक संस्था के कवियों और लोक गायिका हेमा करासी के गीतों के नाम रहा। कवियों ने लोक संस्कृति, धर्म और भ्रष्टाचार आदि पर कविताओं के जरिए कटाक्ष किया। इस मौके पर लकी ड्रॉ के विजेताओं को समिति ने सम्मानित भी किया।
चोपता स्थित चांदधार में आयोजित महोत्सव के अंतिम दिन कार्यक्रमों का शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि नई दिल्ली उच्च न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता संजय दरमोला शर्मा ने किया। उन्होंने कहा कि पहाड़ की लोक संस्कृति और रीति-रीवाजों के संरक्षण, संवर्द्धन और प्रचार के लिए प्रवासियों को एकजुट होकर कार्य करना होगा। उन्होंने नई सोच नई पहल योजना के अंतर्गत तल्लानागपुर क्षेत्र के 15 महिला मंगल दलों को पुरस्कृत किया। विशिष्ट अतिथि उत्तराखंड हाईकोर्ट नैनीताल के अधिवक्ता जयवर्धन कांडपाल ने कहा कि मेले हमारी पौराणिक संस्कृति के प्रतीक हैं। इन्हें जीवंत रखने के लिए इस तरह के प्रयास जरूरी है। इसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ साहित्यिक संस्था कलश के लोक कवि सम्मेलन से हुआ। संस्था के संयोजक ओम प्रकाश सेमवाल ने आवा बैण्यूं चला मैतु जयौंला दिवारा मां, उमा, फलासी की देवी देखयौला दिवारा मा... कविता के जरिए स्थानीय धार्मिक महत्व के बारे में बताया। मुरली दीवान ने ठेका दीली, शराब दीली, अब छीन ब्वना खराब दीली... कविता के जरिए पहाड़ में बढ़ते शराब के चलन को बया किया। तेजपाल रावत निर्मोही ने बिसिग्यां जब हम अपड़ा कर्मकांडों तैं न केदार जब आपदा... के जरिए आपदा पीड़ितों की स्थिति बताई। लोक कवि जयवर्धन कांडपाल ने आपदा को पुश्ता और भूकंप को बजट खैली... के माध्यम से आपदा राहत के नाम पर हुए भ्रष्टाचार को उजागर किया। इस मौके पर जगदंबा चमोला, अखिलेश डोभाल, गुंजन वशिष्ठ, दिव्यांशु नेगी ने भी कविता पाठ किया। इसके बाद लोक गायिका हेमा करासी नेगी ने देव स्तुति के साथ मन बकछट, मेरी बामणी आदि गीतों की प्रस्तुतियां दीं। महोत्सव के समापन पर आयोजन समिति ने सभी प्रतिभागियों व कार्यकर्ताओं को स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। इस मौके पर जीएल टम्टा, एमएस नेगी, दीप राणा, एलएस बत्र्वाल, पंचम सिंह नेगी, संजय चौहान, प्रभा बिष्ट्र, मंजू भदेाला, सोनू वर्मा, कमलकांत कांडपाल, जीएस मेवाल, लक्ष्मण सिंह नेगी, चंद्रबल्लभ चमोला, ग्राम प्रधान बसंती देवी, क्षेपंस अर्जुन सिंह नेगी, गजाधर वशिष्ठ समेत क्षेत्रीय जनता व अन्य लोग मौजूद थे।
... और पढ़ें

कबड्डी में जीआईसी बरसूड़ी अव्वल

न्याय पंचायत स्तरीय खेल महाकुंभ प्रतियोगिता के तहत अंडर-12 तक की खेल प्रतियोगिताएं जीआईसी बरसूड़ी में हुईं। प्रतियोगिता में मेडिसन बॉल थ्रो में बणसो के नवीन व कामिनी प्रथम रहे। 60 मीटर दौड़ में संदीप व कामिनी अव्वल रहीं। कबड्डी में जीआईसी बरसूड़ी प्रथम और टैठी द्वितीय रहा। मुख्य अतिथि अगस्त्यमुनि ब्लॉक के कनिष्ठ प्रमुख शशि सिंह ने विजेता खिलाड़ियों को प्रशस्तिपत्र व स्मृति चिह्न प्रदान किए। इस मौके पर प्रधानाचार्य एसएल धीमान, एलडी बमोला, एसडी त्रिपाठी, प्रियंक रुडोला, रीना बागड़ी, राधा देवी, सुमन कठैत, मदन मोहन डोबरियाल, ओमप्रकाश, जसमेंद्र सागर, भजनपाल सिंह रौतेला समेत क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि, अभिभावक व छात्र-छात्राएं मौजूद थे। ... और पढ़ें

विकास प्राधिकरण पूरे जिले में लागू करना औचित्यहीन: शुक्ला

रुद्रपुर। ऊधमसिंह नगर जिले में विकास प्राधिकरण लागू होने से आम जनता को हो रही दिक्कतों और जुर्माने का मुद्दा किच्छा विधायक राजेश शुक्ला ने विधायक दल की बैठक में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के समक्ष रखा। उन्होंने पूरे जिले में विकास प्राधिकरण लागू करना औचित्यहीन बताया।
विधायक ने कहा विकास प्राधिकरण नगर निगम एवं नगर पालिका क्षेत्रों में शामिल क्षेत्रों में ही होना चाहिए। वहां भी पूर्व से आबाद क्षेत्रों को नोएडा की तर्ज पर लाल डोरा क्षेत्र घोषित कर उसमें प्राधिकरण लागू नहीं होना चाहिए। नोएडा में विकास प्राधिकरण लागू करते समय पूर्व से आबाद क्षेत्र को नक्शे में लाल घेरा बनाकर उसे लालडोरा क्षेत्र घोषित कर वहां प्राधिकरण लागू नहीं किया था। कहा कि वर्ष 1949 के बाद आबाद तराई क्षेत्र में भारत पाकिस्तान के विभाजन से विस्थापित लोगों एवं भूमिहीनों तथा स्वतंत्रता संग्राम सेनानीजनों को तत्कालीन सरकार ने भूमि आवंटित कर बसाया था।
प्राधिकरण लागू होने पर लोगों को अपने मकान का नक्शा पास कराने के लिए अपना स्वामित्व कागज में दिखाना संभव ना होने से उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है, जिससे उनका शोषण हो रहा है। कहा कि विकास प्राधिकरण पूरी तरह से वापस लिया जाए या इसे नगर निगम और नगर पालिका के गैर आबाद क्षेत्रों तक ही सीमित रखा जाए। मुख्यमंत्री रावत ने इस पर चर्चा एवं विचार विमर्श के बाद शीघ्र निर्णय लेने का भरोसा दिलाया।
... और पढ़ें

धमाका हुआ है, वीडियो को सोशल मीडिया में चलवाओ

रुद्रपुर। डेढ़ साल पहले महिलाओं के साथ विधायक राजकुमार ठुकराल की कथित मारपीट का मामला फिर से सुर्खियों में है। इस घटना को लेकर भाजपा के दो पदाधिकारियों की बातचीत सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। इसमें विधायक की मारपीट का वीडियो वायरल करने की बात कही जा रही है। इसमें वीडियो वायरल करने की बात कहने वाले व्यक्ति भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोरा बताए जा रहे हैं। विधायक ने पूरे प्रकरण की वीडियो वायरल करने के पीछे जिलाध्यक्ष का हाथ बताया है। उन्होंने छवि खराब करने की सुनियोजित साजिश करार देते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश महामंत्री से शिकायत की है।
मार्च 2018 में दो परिवारों के बीच विवाद सुलझाने को लेकर विधायक ठुकराल के घर पर पंचायत चल रही थी। इसी बीच दोनों पक्षों में बढ़े विवाद को शांत कराने के दौरान ठुकराल पर एक पक्ष की महिलाओं ने मारपीट और जाति सूचक शब्दों से गालीगलौच करने का आरोप लगाया था। इसका वीडियो वायरल हुआ था और विधायक की जमकर किरकिरी हुई थी। भाजपा संगठन की ओर से भी इस मामले को लेकर विधायक को नोटिस जारी किया गया था। डेढ़ साल बाद यह मामला फिर से सुर्खियों में आ गया है। बुधवार की शाम से सोशल मीडिया में भाजपा के दो नेताओं के बीच हुई बातचीत की ऑडियो वायरल हो रही है। ये दो नेता जिलाध्यक्ष शिव अरोरा और नत्थूलाल गुप्ता बताए जा रहे हैं। इसमें कहा जा रहा है कि घटना की मारपीट का वीडियो एक पत्रकार को देकर खबर चलवाने की बात कही जा रही है। इसके साथ ही सोशल मीडिया में चलाने की बात भी हो रही है।
ऑडियो से भाजपा संगठन में खलबली
रुद्रपुर। भाजपा के जिला संगठन के चुनाव को लेकर रायशुमारी से ऐन वक्त पहले दो भाजपा नेताओं के बीच बातचीत का ऑडियो वायरल होने से संगठन में खलबली है। विधायक खेमे के लोग स्थानीय से लेकर प्रदेश तक नेताओं, संगठन पदाधिकारियों, विधायकों के मोबाइल में ऑडियो वायरल कर रहे हैं। इसके साथ ही एक व्हाट्सएप चैट की स्क्रीन शॉट भी वायरल हो रही है। इसमें बातचीत में कोई पद देने की बात हो रही है।
कोट:
- डेढ़ साल पहले मेरे आवास के बाहर हुए महिलाओं के झगड़े में उनको बदनाम किया गया था। जिलाध्यक्ष शिव अरोरा के इशारे पर षड्यंत्र के तहत वीडियो बनाकर वायरल किया गया था। मुझे हटाने के लिए जिलाध्यक्ष षड्यंत्र रचते आए हैं। ऑडियो मामले की शिकायत प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश महामंत्री से की गई है।
राजकुमार ठुकराल, विधायक
- जिलाध्यक्ष के चुनाव को लेकर बृहस्पतिवार को रायशुमारी होनी है। चूंकि वे भी दावेदार हैं, इसलिए राजनैतिक षड्यंत्र के साथ अपने हित साधने के लिए ऑडियो वायरल की गई है। एक चैट भी वायरल की जा रही है, जो फर्जी आईडी से की गई है।
शिव अरोरा, जिलाध्यक्ष
जिलाध्यक्ष, शिव अरोरा।
जिलाध्यक्ष, शिव अरोरा।- फोटो : RUDRAPUR
... और पढ़ें

जीजीआईसी रुद्रपुर की छात्राओं ने कबड्डी में सबको किया चित

रुद्रपुर स्टेडियम में ब्लॉक स्तरीय खेल महाकुंभ के दूसरे दिन बुधवार को अंडर-14 बालिकाओं की कबड्डी, खो-खो, वॉलीबाल, बैडमिंटन और एथलेटिक्स प्रतियोगिताएं हुईं। कबड्डी में राजकीय कन्या इंटर कॉलेज फाजलपुर महरौला की छात्राओं ने प्रथम स्थान पाया।
खेल महाकुंभ के दूसरे दिन 250 बालिकाओं ने प्रतिभाग किया। 1500 मीटर, 800 मीटर दौड़ में नित्या, 400 मीटर दौड़ में संचिता पाठक और 100 मीटर दौड़ में शगुन सिंह प्रथम रहीं। गोला फेंक में हिमानी, लंबी कूद में शगुन, ऊंची कूद में नेहा, चक्का फेंक में हिमानी और भाला फेंक में कुमकुम ने प्रथम स्थान पाया। बैडमिंटन एकल में तृप्ति और युगल में आकांक्षा व आस्था प्रथम रहीं। कबड्डी में जीजीआईसी फाजलपुर महरौला प्रथम, वॉलीबाल में एम्स स्पोर्ट्स अकादमी प्रथम और खो-खो जवाहर नवोदय विद्यालय ने प्रथम स्थान प्राप्त किया।
खंड शिक्षा अधिकारी मतादीन गौतम ने कहा कि खेल प्रतियोगिताओं में प्रतिभागियों को सुबह नौ बजे से स्टेडियम में पंजीकरण कराना होगा। वहां पर युवा कल्याण अधिकारी मोहन सिंह नगन्याल, वजाहत खान, केके शर्मा, भारत सिंह, लक्ष्मण टाकुली, कमल सक्सेना, अन्नू चौधरी, गायत्री, शालिनी शर्मा, पूजा रौतेला, कैलाश राजपूत, हरीश दनाई, धीरज पांडेय, राकेश कुमार, राजेंद्र भाकुनी, गोविंद बिष्ट आदि थे।
... और पढ़ें

अत्याचारियों को खाड़ी देशों की तर्ज पर मिले सजा

रुद्रपुर। हैदराबाद की घटना के विरोध में बुधवार को अमर उजाला अपराजिता 100 मिलियन स्माइल्स के बैनर तले रुद्रपुर के कोलंबस पब्लिक स्कूल की छात्राओं ने जागरूकता रैली निकाली। छात्राओं ने एक स्वर में कहा कि कब तक निर्भया? उन्होंने दुष्कर्मियों के लिए खाड़ी देशों की तर्ज पर सख्त से सख्त सजा की मांग की।
स्कूल की शिक्षिकाओं और 84 छात्राओं ने हैदराबाद में हुई घटना पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए आरोपियों के खिलाफ आक्रोश व्यक्त किया। उन्होंने आरोपियों को विदेशों की भांति कठोर कठोर सजा देने की मांग उठाई। साथ ही भारत में कानूनों के लचीलेपन पर भी सवाल उठाए। छात्राओं ने बेटी है तो कल है, बेटी को अधिकार दो बेटे जैसा प्यार दो, जैसे करते हो खुद की रक्षा ऐसी ही करो बेटी की सुरक्षा, बेटी नहीं है किसी से कम मिटा दो अपने सारे भ्रम आदि स्लोगनों के साथ नारे लगाते हुए मॉडल कालोनी में जागरूकता रैली निकाली। छात्राओं ने कहा कि समाज से जब तक बेटी और बेटे में भेदभाव खत्म नहीं होगा इस तरह की घटनाएं बढ़ती रहेंगी।
हैवानियत के आरोपियों को विदेशों की भांति सख्त सजा मिलनी चाहिए। ताकि ऐसा कृत्य करने से पहले सोचकर कर ही लोगों की रूह कांप उठे।
डॉ. कामेश मित्तल, उप प्रधानाचार्य
महिलाओं को अपनी रक्षा के लिए मार्शल आर्ट जैसी कलाओं का प्रशिक्षण लेना चाहिए। ताकि वह आरोपियों की मौके पर ही पिटाई कर कड़ा सबक सिखा सकें।
जसवंत कौर, शिक्षिका
हैदराबाद के आरोपियों को जनाक्रोश के बावजूद अभी तक सख्त सजा नहीं मिल सकी है। एक तरह से वह सुरक्षित हैं। इसके लिए हमारे देश का लचीला कानून जिम्मेदार है।
सीमा बिष्ट, शिक्षिका
समाज में आज भी बेटियों के लिए नियम-कायदे अधिक हैं। जबकि लड़के खुलेआम बेतहाशा आजाद घूमते हैं। लड़कों पर रोकटोक न होने से ऐसी घटनाएं बढ़ रही हैं।
रिदिमा कपूर
हैदराबाद में महिला चिकित्सक के साथ जानवरों से भी बुरा व्यवहार किया गया। आरोपियों को चौराहे पर खुलेआम गोली मार देनी चाहिए। इससे अन्य को भी सबक मिलेगा।
दीपांशी नयाल
जब भी निर्भया कांड जैसी घटनाएं होती हैं, कुछ दिन आक्रोश के बाद लोग शांत हो जाते हैं। इसलिए दुष्कर्म के आरोपियों के लिए सख्त कानून होने चाहिए, ताकि वह बच न सकें।
मान्या आनंद
इस तरह के कृत्यों के लिए अशिक्षा व रूढ़ीवादिता भी प्रमुख कारण हैं। समाज को बेटियों के प्रति सोच बदलने की जरूरत है। बेटियां बेटों से कम नहीं हैं।
तन्वी राठी
देश में सरकारें बदलती हैं, लेकिन कानून नहीं बदलते। पुराने व लचीले कानूनों का फायदा हमेशा आरोपियों को मिलता है। दुष्कर्म के आरोपियों को तुरंत सजा दिलाने के लिए नया कानून बनना चाहिए।
अश्विंदर कौर
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election