विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

रुद्रपुरः घर से बाहर खेल रहा तीन साल का मासूम लापता, दो लोग सीसीटीवी में बच्चे का साथ दिखे

रुद्रपुर में ट्रांजिट कैम्प में अपने घर के बाहर खेल रहा मासूम लापता हो गया। इस मामले में परिजनों ने अपहरण की आशंका जताते हुए पुलिस से शिकायत की है।

9 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

रुद्र प्रयाग

सोमवार, 9 दिसंबर 2019

अभिलेख समिति ने खिलाड़ियों का पंजीकरण किया बंद, बरपा हंगामा 19-03-55

रुद्रपुर। रुद्रपुर स्टेडियम में बृहस्पतिवार को खेल महाकुंभ के लिए खिलाड़ियों का पंजीकरण बंद करने पर अभिभावक और प्रशिक्षक भड़क उठे। जिस पर अभिलेख समिति के सदस्यों ने दोबारा पंजीकरण के लिए 15 मिनट का अतिरिक्त समय दिया। पंजीकरण में देरी के चलते खेल महाकुंभ दोपहर साढ़े 12 बजे शुरू हो सका।
रुद्रपुर स्टेडियम में आयोजित खेल महाकुंभ के तीसरे दिन अंडर-14 बालक वर्ग की ब्लॉक स्तरीय प्रतियोगिताएं आयोजित हुईं। पंजीकरण के लिए सुबह नौ बजे से ही काउंटर पर लंबी लाइन लग गई। खिलाड़ियों की संख्या अधिक होने के कारण 11.45 बजे अभिलेख समिति के सदस्य कर्मचारियों ने पंजीकरण रोक दिया। जिस वहां मौजूद खिलाड़ियों और अभिभावक भड़क उठे। उनकी कर्मचारियों के तीखी बहस हुई। हंगामा बढ़ने पर वहां मौजूद क्षेत्रीय युवा कल्याण अधिकारी वजाहत खान ने कर्मचारियों से सभी खिलाड़ियों का पंजीकरण करने को कहा। इसके बाद दोपहर 12 बजे तक खिलाड़ियों का पंजीकरण किया गया।
जिसको रोकने का प्रयास किया, उसने जीता गोल्ड
रुद्रपुर। खेड़ा निवासी मुजीब अहमद ने पिछले वर्ष खेल महाकुंभ में बैडमिंटन की युगल प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक प्राप्त किया था। उसने आरोप लगाया कि बृहस्पतिवार को 0वह जन्म प्रमाण पत्र नहीं ला सका था लेकिन उसके पास बीएफआई का प्रमाण पत्र है। उनसे अभिलेख समिति पर उसका पंजीकरण नहीं करने का आरोप लगाया। आरोप है कि सदस्यों ने उक्त प्रमाण पत्र को मान्यता नहीं दी। इसके बाद वह दोबारा घर गया और प्रमाण पत्र लेकर पहुंचा। इसके बाद उसने प्रतियोगिता में हिस्सा लिया और बैडमिंटन में स्वर्ण पदक जीता।
... और पढ़ें

टीडीसी के पांच करोड़ बिहार में फंसने का मुद्दा सदन में उठा

रुद्रपुर। उत्तराखंड बीज एवं तराई विकास निगम (टीडीसी) के पांच करोड़ रुपये बिहार के एक डिस्ट्रीब्यूटर द्वारा दबाने का मामला अमर उजाला में छपने के बाद किच्छा विधायक राजेश शुक्ला ने नियम 300 के तहत मुद्दे को विधानसभा में उठाया। उन्होंने नियम 53 के तहत यूएसनगर सहित प्रदेश में फैल रहे नशे के कारोबार का मामला भी उठाया। दोनों ही मामलों को सदन में चर्चा के लिए स्वीकार कर लिया गया।
बृहस्पतिवार को शुक्ला ने सदन में कहा कि कई वर्षों से घाटे में चल रहे टीडीसी में कर्मचारियों की तनख्वाह के भी लाले पड़े हुए हैं। ऐसे में दो साल पहले टीडीसी का बीज बिहार की एक फर्म को उधार बेच दिया गया। दो सालों से उधार की पांच करोड़ रुपयों की धनराशि वसूल नहीं की जा पा रही है। घाटे में चल रहे निगम का बीज उधार में बेचने का निर्णय किस आधार पर लिया गया। इतनी बड़ी राशि के फंसने से घाटे में चल रहे निगम की वित्तीय व्यवस्था और ज्यादा चरमरा गई है। उन्होंने इस संबंध में अमर उजाला में छपी खबर का भी जिक्र किया। उन्होंने पूछा कि क्या सरकार नियम 300 के तहत इस लोक महत्व की सूचना का संज्ञान लेगी तथा ऐसा अव्यवहारिक निर्णय लेने वाले अधिकारियों की जवाबदेही सुनिश्चित करते हुए इनके विरुद्ध कार्रवाई करेगी। नियम 53 के तहत बढ़ते नशे के कारोबार का मामला सदन में उठाया। कहा कि प्रदेश में नशे का कारोबार बड़े पैमाने पर जाल बिछाकर नौजवानों को तबाह कर रहा है। इसके विरुद्ध जिस प्रकार के गहन एवं प्रभावी कार्रवाई की अपेक्षा है, पुलिस विभाग एवं नशा उन्मूलन विभाग उस स्तर पर कार्रवाई नहीं कर पा रहा है। विधानसभा अध्यक्ष ने दोनों विषयों पर विभागीय मंत्री को सख्ती से कार्रवाई करने के साथ ही उन्हें और सदस्य को अवगत कराने को कहा।
note 2000.jpg
note 2000.jpg
... और पढ़ें

बिलासपुर में श्रमिकों से भरा टैम्पो पलटा, महिला श्रमिक की मौत

रुद्रपुर। यूपी के रामपुर जिले के बिलासपुर क्षेत्र में फैक्ट्री श्रमिकों से भरा एक टैंपो अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पलट गया। हादसे में एक महिला की मौत हो गई जबकि चार यात्री जख्मी हुए हैं। पुलिस ने शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।
बिलासपुर क्षेत्र के मुबारकपुर गांव से सवारियां लेकर टैंपो रुद्रपुर आ रहा था। बिलासपुर में रसहना गांव के पास सामने से आ रहे भैंसा गाड़ी को बचाने के फेर में टैंपो सड़क किनारे पुआल के ढेर में घुसकर पलट गया। टैंपो सवार एक महिला कांति देवी (38) पत्नी स्व. महेंद्र निवासी मुबारकपुर टैंपो के नीचे दब गई जबकि बाकी श्रमिक घायल हो गए। आनन-फानन में सभी घायलों को उपचार के लिए रुद्रपुर के निजी अस्पताल लाया गया। कांति देवी की हालत नाजुक होने पर उसे जिला अस्पताल लाया गया, यहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। कांति देवी दो बेटियों अंजलि और निकिता के साथ बिलासपुर में एक बोतल फैक्ट्री में काम करती थी। तीनों घर से फैक्ट्री के लिए निकले और कांति हादसे का शिकार हो गई। इधर, हादसे में शिववती, अमरवती, विद्या, शांति देवी को भी चोटें आई हैं, जो निजी अस्पताल में उपचार के बाद घर चली गईं। सभी घायल बोतल फैक्ट्री के श्रमिक हैं। मृतका के छह बच्चे हैं और पति की एक साल पहले मौत हो चुकी है।
... और पढ़ें

अमसारी के लिए एक किमी हल्का वाहन मार्ग का निर्माण शुरू

नगर पालिका अध्यक्ष गीता झिक्वांण ने जीजीआईसी बैंड से अमसारी तक एक किमी सड़क का शिलान्यास किया। कहा कि, मार्ग बनने से जहां स्थानीय लोगों को आवाजाही में आसानी होगी। वहीं, वे साग-सब्जी व अन्य उत्पादों के जरिए रोजगार को बढ़ावा मिलेगा। पालिकाध्यक्ष ने कहा कि नगर क्षेत्र के विकास के लिए कार्ययोजना तैयार कर ली गई है। सभी सात वार्डों में लोगों की परेशानी को देखते सड़कों का जाल बिछाया जा रहा है। कहा कि पालिका के विकास के लिए हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द गुलाबराय-पुनाड़-ओंण-डांगेसरा मार्ग का निर्माण भी शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रत्येक घर से जैविक-अजैविक कूड़े का नियमित उठान हो रहा है। साथ ही ट्रंचिंग ग्राउंड के विकास को पहली किश्त भी मिल चुकी है। इस मौके पर ईओ सीमा रावत ने बताया कि यूआईडीएसएसएमटी (अर्बन इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट स्कीम फॉर स्माल एंड मीडियम टाउंस) के तहत जीजीआईसी बैंड से अमसारी तक एक किमी सड़क का निर्माण शुरू हो गया है। इसके लिए 39 लाख का बजट निर्धारित किया गया है। इस मौके पर जिपं सदस्य नरेंद्र बिष्ट, सभासद अमरा देवी, पूर्व पालिकाध्यक्ष देवेंद्र सिंह झिक्वांण, शैलेंद्र गोस्वामी, संजय पांडेय, सूरत राणा, कुलदीप कप्रवाण, प्रकाश रावत, नरेंद्र ममगाईं, अनुज जगवाण आदि मौजूद थे। ... और पढ़ें
रुद्रप्रयाग में जीजीआईसी बैंड से अमसारी के लिए शुरू हुआ हल्का वाहन मार्ग निर्माण। रुद्रप्रयाग में जीजीआईसी बैंड से अमसारी के लिए शुरू हुआ हल्का वाहन मार्ग निर्माण।

अलकनंदा नदी में उड़ेला जा रहा निर्माणधीन सड़क का मलबा

जिला मुख्यालय रुद्रप्रयाग में निर्माणाधीन जवाड़ी-कोटली-बांसी मोटर मार्ग का टनों मलबा प्रतिदिन अलकनंदा नदी में डाला जा रहा है। इसके मलबे से नदी मैली हो रही है, वहीं उड़ रही धूल से लोगों और पर्यावरण को भी नुकसान पहुंच रहा है।
चारधाम विकास परियोजना के निर्माण में मलबा नदियों में नहीं गिरे, इसके लिए कार्यदायी संस्थाओं को डंपिंग जोन बनाने के निर्देश दिए गए हैं, लेकिन संपर्क मोटर मार्गों के निर्माण के दौरान कार्यदायी संस्थाएं खुलेआम मलबा नदियों में उड़ेल रही हैं। जखोली ब्लाक के भरदार पट्टी के दूरस्थ बांसी गांव के लिए तीन माह से लोनिवि की ओर से जवाड़ी-कोटली-बांसी मोटर मार्ग का निर्माण किया जा रहा है। कार्यदायी संस्था लोनिवि के अधीनस्थ ठेकेदार की ओर से मलबा अलकनंदा नदी में गिराया जा रहा है। नदी किनारे जगह-जगह पर बड़े-बड़े मलबे के ढेर आसानी से देखे जा सकते हैं। इसके बाद भी जिले के आला अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों को यह नजर नहीं आ रहा है। उक्रांद के वरिष्ठ नेता किशोरीनंदन डोभाल, राजेंद्र प्रसाद नौटियाल व देवेंद्र चमोली ने डीएम से संबंधित विभागीय अधिकारियों और ठेकेदार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। इधर, लोनिवि के अधिशासी अभियंता इंद्रजीत बोस ने बताया कि इस संबंध में ठेकेदार से जवाब मांगा गया है। साथ ही उसे चिह्नित डंपिंग जोन में मलबा डालने को कहा गया है।
... और पढ़ें

400 मीटर में अर्शदीप और मनीषा दौड़े सबसे तेज

दिनेशपुर। खेल महाकुंभ के तहत किड्स पैराडाइस पब्लिक स्कूल के खेल मैदान में चल रही ब्लॉक स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता का शनिवार को समापन हो गया। प्रतियोगिता में चयनित खिलाड़ी 16 दिसंबर से रुद्रपुर के खेल स्टेडियम में होने वाली जिलास्तरीय प्रतियोगिता में प्रतिभाग करेंगे।
बालक वर्ग की 400 मीटर दौड़ में अर्शदीप सिंह, 800 मीटर में संजय सिंह, 1500 मीटर में रवि कुमार व पांच हजार मीटर में वीर बहादुर ने प्रथम रहे। बालिका वर्ग की 400 मीटर दौड़ में मनीशा पानू, 800 मीटर में मोनिका, 1500 मीटर में ममता, 300 मीटर में मनीषा प्रथम रहीं। बालक वर्ग वालीबाल में मोनार्ड पब्लिक स्कूल, फुटबाल में रामबाग, कबड्डी में मीरी पीरी इंटर की टीम ने जीत दर्ज की। बालिका वर्ग वालीबाल में न्यू ईरा पब्लिक स्कूल व कबड्डी में कालीनगर की टीम ने जीत दर्ज कर जिलास्तरीय प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई किया। ब्लॉक युवा कल्याण अधिकारी इमरान खान, ब्लॉक खेल समन्वयक ब्रजेश दुबे, पंकज चौहान, उमेश जोशी, प्रदीप कुमार, अवतार सिंह, अशोक चौहान, मिनती रानी, जगदीश सिंह, सतेंदर सिंह आदि थे।
... और पढ़ें

संतुलन बिगड़ने से छत से गिरा सुपरवाइजर, मौत

रुद्रपुर। सिडकुल की एक मल्टीनेशनल कंपनी में तैनात सुपरवाइजर की छत से गिरने से मौत हो गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया।
मूल रूप से ग्राम धंधौर थाना सिकंदरा (बिहार) निवासी संजय पांडे (50) पुत्र आनंदी पांडे रुद्रपुर के जगतपुरा में एक भवन की दूसरी मंजिल में किराए पर रहते थे। वह सिडकुल की एक कंपनी में सुपरवाइजर थे। शुक्रवार रात को वह खाना खाने के बाद कमरे के बाहर निकलकर टहल रहे थे। छत पर सुरक्षा के लिए कोई रैलिंग नहीं लगी थी।
इसी बीच टहलते हुए संतुलन बिगड़ने की वजह से संजय छत से सिर के बल जमीन पर गिर पड़े। हादसे में वह गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी। मृतक के साथ उनकी पत्नी आशा देवी और पुत्र लवकुश रहता है। लवकुश डिग्री कॉलेज में पढ़ाई करता है। मृतक के दो पुत्र दिलकुश और मनसुख दिल्ली में रहकर नौकरी करते हैं।
ेद्रपुर के मृतक संजय का फाइल फोटो।
ेद्रपुर के मृतक संजय का फाइल फोटो।- फोटो : RUDRAPUR
... और पढ़ें

डब्ल्यूएफपी की टीम ने किया राइस मिल का भ्रमण

रुद्रपुर पोस्टमार्टम हाउस में रोता बिलखता मृतक का पुत्र लवकुश।
रुद्रपुर। संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएनओ) के तत्वावधान में वर्ल्ड फूड प्रोग्राम (डब्ल्यूूएफपी) के 15 सदस्यीय दल ने किच्छा रोड स्थित केएलए राइस मिल का भ्रमण किया। टीम ने मिल में चावल उत्पादन और निर्यात आदि की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।
यूनाइटेड नेशन की ओर से वर्ल्ड फूड प्रोग्राम चलाया जा रहा है। प्रोग्राम में कई देशों के सदस्य शामिल हैं। इसी के तहत डब्ल्यूएफपी का एक दल भारत की खाद्यान्न वितरण प्रणाली का जायजा लेने पहुंचा है। टीम के सदस्य विभिन्न प्रदेशों में खाद्यान्न वितरण प्रणाली और इससे जुड़ी बारीकियों का जायजा ले रहे है।
इसी क्रम में शुक्रवार को डब्ल्यूएफपी की टीम में शामिल थाईलैंड से जीन कोलर, इटली से कोन पीटर एवं लुईस एन्जोस, दिल्ली से अंकित सूद ने डिप्टी आरएमओ वेदप्रकाश धूलिया, एफसीआई जिला प्रबंधक राजेश वर्मा के साथ किच्छा रोड स्थित केएलए राइस मिल का भ्रमण किया। उन्होंने मिल में चावल उत्पादन और निर्यात से संबंधित जानकारी ली और व्यवस्थाओं को बेहतर बताया।
केएलए के एमडी अरुण अग्रवाल ने टीम को बताया कि केएलए की औद्योगिक इकाई अत्याधुनिक चावल प्रसंस्करण तकनीक से लैस है। भारत सरकार ने इसे मेक इन इंडिया के तहत चिह्नित किया है। इस इकाई से निर्मित चावल भारत की खाद्य प्रणाली को उत्तम क्वालिटी का चावल आपूर्ति करने के साथ ही करीब 40 देशों को चावल निर्यात किया जाता है।
टीम सदस्यों ने कहा कि डब्ल्यूएफपी अपने अंतरराष्ट्रीय चावल की आपूर्ति टेंडर के माध्यम से केएलए के साथ और बढ़ाने के लिए प्रयास करेगा। वहां कंपनी के सीमएडी कुंदन लाल अग्रवाल, डायरेक्टर अशोक अग्रवाल, एसएमआई हेमंत जोशी, डीएसओ श्याम आर्या, उत्सव अग्रवाल, लक्ष्य अग्रवाल, भुवन चंद्र, मजहर, सोमपाल, श्रीप्रकाश, नमन अग्रवाल मौजूद रहे।
... और पढ़ें

रंजिश में भिड़े दो पक्ष, फायरिंग में एक घायल

लालपुर। रंजिश को लेकर दो गुटों में टकराव के बीच फायरिंग हो गई, जिसमें एक युवक के पैर में गोली लगने से वह घायल हो गया। उसे किच्छा के सरकारी अस्पताल में प्राथमिक इलाज के बाद रेफर कर दिया गया। पुलिस ने छह नामजद के अलावा तीन अज्ञात के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।
लालपुर निवासी आशुतोष भंडारी ने पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि वह शुक्रवार देर रात अपने साथी अरविंद कुमार, छिन्दर के साथ कार (यूके 06 एडी 7008) से अपने घर जा रहा था। हिबा गैस एजेंसी के पास बिना नंबर प्लेट की तीन कारों में सवार युवकों ने उनका रास्ता रोक लिया। कार में सवार लोग लाठी डंडे दिखाकर गालीगलौज करने लगे।
विवाद से बचने के लिए आशुतोष और उसके साथी किसी तरह वहां निकले और कुछ दूर जाने पर उन्होंने कार रोककर अरविंद को नीचे उतारा। तभी पीछा कर रहे कार सवार युवकों ने पिस्टल और तमंचे से फायरिंग शुरू कर दी। इसमें एक गोली अरविंद के पैर में लग गई। फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोग एकत्र हुए तो आरोपी फरार हो गए।
आशुतोष घायल अरविंद को इलाज के लिए किच्छा लेकर जा रहा था, तभी महिंद्रा कंपनी के सामने आरोपियों ने दोबारा फायरिंग की और फरार हो गए। आशुतोष के मुताबिक उनका आरोपियों से पुराना विवाद था। पुलिस ने तहरीर के आधार पर गगनदीप सिंह, सुखविंदर सिंह, तारा उर्फ अवतार, चंचल सिंह उर्फ सोनू, करन सिंह और गुरमीत सिंह के अलावा तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ धारा 307, 147, 48, 49, 141, 105 आईपीसी के तहत केस दर्ज कर लिया है। चौकी प्रभारी ललित मोहन रावल ने कहा कि शीघ्र ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।
दोनों गुटों में पूर्व में भी हो चुका है टकराव
लालपुर। क्षेत्र में आशुतोष भंडारी और गगनदीप के गुटों में पूर्व में भी कई बार टकराव हो चुका है। शुक्रवार की रात गगन गुट का निशाना आशुतोष भंडारी था लेकिन अफरातफरी में गोली अरविंद को लग गई। अरविंद और छिन्दर एक होटल में खाना खाकर आशुतोष के साथ अपने घर के लिए रवाना हुए थे। विवाद देखकर अरविंद अपने घर जाने के लिए गाड़ी से नीचे उतर गया था। दूसरे गुट ने उसे आशुतोष समझकर फायर झोंक दिया। पुलिस के अनुसार सभी आरोपियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज है।
लालपुर में आरोपियों की फायरिंग से टूटा कार का शीशा।
लालपुर में आरोपियों की फायरिंग से टूटा कार का शीशा।- फोटो : RUDRAPUR
... और पढ़ें

तस्कर समझकर ग्रामीणों पर की फायरिंग, बच्चा घायल

गूलरभोज। विवाह समारोह से लौट रहे नाव सवार किशोरों पर वन कर्मियों ने तस्कर समझकर फायरिंग कर दी। इसमें एक बच्चा घायल हो गया। गंभीर हालत में बच्चे को सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में भर्ती कराया गया है। वहीं, वन विभाग की ओर से क्रॉस फायरिंग का आरोप लगाकर अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी गई है। पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
क्षेत्र के ग्राम कटपुलिया निवासी गुरमीत सिंह ने पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि उसका बड़ा पुत्र हरजीत (15) शुक्रवार रात को एक शादी समारोह से लौट रहा था। हरिपुरा और बौर जलाशय के बीच स्थित कट से पार जाने के लिए सवारी नाव न होने के कारण उसने अपने छोटे भाई दीपू (11) को छोटी नाव लेकर आने के लिए कहा था।
दीपू नाव लेकर वहां पहुंचा और दोनों भाई नाव से जलाशय पार करने के बाद उससे उतरकर घर की ओर जा रहे थे। आरोप है कि दूसरी नाव में सवार वन दरोगा मोहन दत्त शर्मा, राजू डोगरा और दो अन्य ने उनके बेटों पर फायरिंग कर दी। इसमें दीपू के कूल्हे के एक हिस्से में गोली लगी और पार कर गई। इससे दीपू लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा।
आननफानन में उसे इलाज के लिए गदरपुर अस्पताल ले जाया गया। वहां उसे उसे पहले रुद्रपुर और फिर सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत स्थिर बनी है।
फायरिंग की सूचना पर एएसपी डॉ. जगदीश चंद्र और गदरपुर थाना प्रभारी एसआई ललित बिष्ट पुलिस चौकी पहुंच गए। थानाध्यक्ष प्रभारी बिष्ट ने बताया कि वन विभाग की ओर से वन रक्षक मो. इमरान ने अज्ञात लोगों के खिलाफ उन पर फायरिंग करने की तहरीर दी है। मौके से बरामद एक तमंचा भी पुलिस को सौंपा है।
पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धारा 307 आईपीसी और 25 आर्म्स एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है। इधर, गुरमीत सिंह की तहरीर पर वन दरोगा मोहन दत्त शर्मा, राजू डोगरा और दो अन्य के खिलाफ धारा 307 आईपीसी के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
मामला संज्ञान में आया है। यह पता चला है कि लकड़ी तस्करी की सूचना पर गई गश्त कर रही टीम पर तस्करों ने फायरिंग की थी। इसके बाद में वन विभाग की ओर से फायरिंग की गई थी। बच्चा कैसे बीच में आया और उसको किसकी गोली लगी, यह जांच का विषय है। - यूसी तिवारी, एसडीओ।
आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन
गूलरभोज। घायल दीपू पर फायरिंग करने वाले वन कर्मियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर ग्रामीणों ने पुलिस चौकी में प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने आरोपी वन कर्मियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की। ग्रामीणों को कहना था कि वन कर्मियों द्वारा पूर्व में भी कई बार ग्रामीणों पर फायरिंग की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए वन विभाग को भी ठोस प्रयास करने चाहिए।
सात महीने पहले वनकर्मियों की गोली से जा चुकी ग्रामीण की जान
गूलरभोज। जलाशय के रास्ते होने वाली लकड़ी तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए गश्त करने वाले वनकर्मियों की ओर से की गई फायरिंग का यह कोई नया मामला नहीं है। इससे पहले भी कई बार वन कर्मी ग्रामीणों पर फायरिंग कर चुके है। बीते चार मई की रात को वन दरोगा राजेश अपने साथियों के साथ नाव पर गश्त कर रहे थे।
एक अन्य नाव पर सवार दो लोगों को लकड़ी तस्कर समझकर फायरिंग की गई। वनकर्मियों की गोली से घायल ककराला निवासी रंजीत उर्फ काका की जलाशय में डूबकर मौत हो गई थी। एक अन्य ग्रामीण गुरमीत ने नाव से कूदकर जान बचाई थी। सात माह बाद अब एक बार फिर से नाबालिग को तस्कर समझकर वन कर्मियों ने फिर से फायरिंग की। इसमें दीपू गंभीर रूप से घायल हो गया।
सवाल खड़ा हो रहा है कि क्या शुक्रवार को हुई घटना में नाबालिग के पास कोई लकड़ी बरामद हुई या इनका कोई पूर्व में आपराधिक रिकॉर्ड था। इस सवाल का वन अधिकारियों के पास कोई जवाब नहीं है। वहीं, वन क्षेत्राधिकारी भूपेंद्र कुमार मेहरा के अनुसार घटना स्थल पर चार गिल्टे खैर और एक तमंचा बरामद हुआ है।
गूलरभोज में वन कर्मियों की गोली से घायल दीपू।
गूलरभोज में वन कर्मियों की गोली से घायल दीपू।- फोटो : RUDRAPUR
... और पढ़ें

पंतनगर में ही बनेगा अंतरराष्ट्रीय स्तर का ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट

पंतनगर/किच्छा। अंतरराष्ट्रीय स्तर का ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट अटरिया रोड पर पंतनगर विवि के अधीन चिह्नित 1122 एकड़ भूमि पर ही बनेगा। इसके लिए आवश्यक प्री-फिजिबिलिटी सर्वे होने के बाद ओएलएस सर्वे होना है। इसके बाद ही भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को भूमि हस्तांतरित करने की प्रक्रिया शुरू हो सकेगी। ओएलएस सर्वे के लिए एयरपोर्ट डायरेक्टर एसके सिंह ने 10.75 लाख रुपये की आवश्यकता जताई। इस पर मुख्य सचिव ने सचिव स्टेट एविएशन को फोन कर तत्काल धनराशि उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।
एयरपोर्ट डायरेक्टर एसके सिंह ने कहा कि शनिवार को स्टेट हेलीकाप्टर से देहरादून से मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, प्रमुख सचिव मनीषा पंवार, वित्त सचिव अमित नेगी पंतनगर एयरपोर्ट पहुंचे। एयरपोर्ट पर ही आधा घंटे चली एयरपोर्ट विस्तारीकरण संबंधी अहम बैठक में डायरेक्टर सिंह ने अब तक की विस्तारीकरण संबंधी कार्य प्रगति से मुख्य सचिव को अवगत कराया।
साथ ही सभी अधिकारियों सहित मुख्य सचिव ने स्थलीय निरीक्षण कर विवि के अधीन 1122 एकड़ भूमि को न्यू ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट के उपयुक्त पाया। बताया कि यहां पर एयरपोर्ट के लिए पर्याप्त जमीन है। भविष्य की आवश्यकताओं को देखते हुए इसका विस्तार किया जा सकता है। साथ ही यह एयरपोर्ट लॉजिस्टिक के रूप में भी कार्य करेगा, जिसमें सिडकुल के उद्योगपति बाहर से कच्चा माल लाने और तैयार माल को बाहर भेज पाएंगे।
डायरेक्टर की ओर से ओएलएस सर्वे के लिए 10.75 लाख रुपये की आवश्यकता सहित स्टेट एविएशन की ओर से सर्वे टीम भिजवाने की बात कही गई। मुख्य सचिव ने मोबाइल पर सचिव स्टेट एविएशन से बात कर आवश्यक धनराशि जारी करने सहित ओएलएस सर्वे टीम भेजने के निर्देश दिए। इसके बाद मुख्य सचिव सहित अन्य अधिकारियों ने प्राग फार्म और खुरपिया फार्म का स्थलीय निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
वहां से लौटकर मुख्य सचिव और अधिकारियों ने हेलीकाप्टर से नैनीताल के लिए प्रस्थान किया। इस दौरान मंडलायुक्त राजीव रौतेला, विधायक राजेश शुक्ला, डीएम नीरज खैरवाल, एसएसपी बरिंदरजीत सिंह, निदेशक एयरपोर्ट एसके सिंह, सीडीओ मयूर दीक्षित, एडीएम जगदीश कांडपाल, जीएम सिडकुल पीसी दुम्का, एसएलओ एनएस नबियाल, नरेश दुर्गापाल, गौरव कुमार, मुक्ता मिश्र, भूपेंद्र कांडपाल आदि थे।
आवासीय पट्टे देने की मांग
किच्छा। खुरपिया वार्ड के सभासद रणजीत सिंह नगरकोटी ने एडीएम जगदीश कांडपाल के माध्यम से एक ज्ञापन प्रमुख सचिव को भेजा है। ज्ञापन में कहा गया है कि इस क्षेत्र (खुरपिया फार्म) में बड़ी तादाद में वह लोग रह रहे हैं जो खुरपिया और प्राग फार्म में श्रमिक थे। बताया कि उक्त लोग तीन पीढ़ियों से वहां निवास कर रहे हैं। कुछ लोगों को आवासीय पट्टे मिल चुके हैं जबकि कुछ आज तक आवासीय पट्टे से वंचित हैं। उन्होंने मांग की है कि शेष लोगों को भी जल्द ही आवासीय पट्टे दिए जाएं।
... और पढ़ें

गुलदार ने बनाया महिला को निवाला

जखोली विकासखंड के पपडासू गांव में गुलदार ने एक महिला को अपना शिकार बना दिया। महिला का शव गांव से तीन किमी दूर क्षत-विक्षत हालत में मिला। गुलदार के हमले की एक माह में यह तीसरी घटना है। शिकारी जॉय हुकिल और लखपत सिंह रावत मौके पर पहुंच गए हैं। क्षेत्र की शिकारियों व विभागीय कर्मियों द्वारा रेकी की जा रही है।
बीते शुक्रवार को पपडासू गांव निवासी कौशल्या देवी (55) पत्नी जगत सिंह घास लेने जंगल गई थी, लेकिन देर शाम तक जब वह घर नहीं लौटीं, तो परिजनों ने ग्रामीणों की मदद से खोजबीन की। लेकिन कहीं कोई पता नहीं लगा। शनिवार को तड़के से पुन: महिला की ढूंढ खोज की गई, तो गांव से लगभग तीन किमी दूर महिला का क्षतविक्षत शव मिला। गुलदार द्वारा कमर से ऊपर का पूरा हिस्सा खा रखा था, सिर्फ ढांचा मात्र रह गया था। सूचना पर रुद्रप्रयाग वन प्रभाग के डीएफओ वैभव कुमार, एसडीओ एमएस सिरोही व खांकरा रेंज के रेंजर समेत प्रशासन, राजस्व विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे। शव को कब्जे में लेते हुए राजस्व उप निरीक्षक मौके पर पहुंचे।
डीएफओ वैभव कुमार ने बताया घटनास्थल की स्थिति से प्रथम दृष्टया प्रतीत हो रहा है कि यह वही गुलदार है, जिसके द्वारा बीते माह भी दो लोगों को मारा गया था। शिकारी जॉय हुकिल और लखपत सिंह रावत मौके पर पहुंच चुके हैं। पूरे क्षेत्र की शिकारियों व विभागीय कर्मियों द्वारा रेकी की जा रही है। साथ ही यहां दो-तीन स्थानों पर ट्रैप कैमरा लगाए जा रहे हैं। बताया कि प्रभावित परिवार को तीस प्रतिशत मुआवजा राशि तत्काल प्रदान कर दी जाएगी, जबकि शेष, राशि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट के बाद दी जाएगी।
खतरे के साये में जी रहे हैं भरदार क्षेत्र के लोग
रुद्रप्रयाग। सामाजिक कार्यकर्ता मोहित डिमरी ने बताया कि एक माह में तीन लोगों को गुलदार द्वारा अपना निवाला बनाया गया है। बीते एक माह से पूरा भरदार क्षेत्र भय के साये में जी रहा है। अगर, गुलदार को जल्द खत्म नहीं किया गया, तो अन्य घटनाएं भी हो सकती हैं। बीते माह छह नवंबर को गुलदार ने सतनी गांव में एक अधेड़ और आठ नवंबर को बांसी गांव में एक महिला को अपना शिकार बनाया था। तब, ग्रामीणों की मांग पर वन विभाग द्वारा गुलदार को नरभक्षी घोषित करते हुए मारने के लिए शिकारियों को तैनात किया गया था, लेकिन इसके बाद गुलदार का पूरे क्षेत्र में कोई पता नहीं लग पाया। घटना के बाद गुलदार के पुन: सक्रिय होने का खतरा पैदा हो गया है, जिससे लोग भयभीत हैं।
... और पढ़ें

शाम होते ही घरों में कैद हो जाते हैं लोग

गुलदार की दहशत के कारण रोजगार चौपट हो रहा है। महिलाएं, खेतीबाड़ी और घास के लिए समूह में जाने से भी डर रही हैं। गुलदार रास्ते में कब हमला कर दे इसका भय बना है। भरदार पट्टी के गांवों में शाम पांच बजे के बाद गांव में लोग अपने घरों में दुबक जाते हैं। यह कहना है बांसी गांव के जितेंद्र सिंह रावत का जो अपने साथियों के साथ रात के साढ़े 11 बजे तक गांव में गश्त कर रहे हैं।
जितेंद्र सिंह रावत बताते हैं कि आठ नवंबर को गांव में घास लेने गई एक महिला को गुलदार ने मार डाला था। जिस बांसी गांव में बीते अक्तूबर तक पंचायत चौक में अंधेरा होने तक चौपाल लगी रहती थी वहां एक माह से सुनसान पड़ा है। सभी शाम चार बजे तक घरों में कैद हो जाते हैं। ग्रामीण वासुदेव राणा, बीरेंद्र सिंह धनाई, वीर सिंह राणा और धर्म सिंह राणा ने बताया कि दैनिक मजदूरी वाले लोगों का रोजगार भी चौपट हो रहा है। गांव से जीआईसी सौंराखाल पढ़ने वाले बच्चों को छोड़ने के लिए भी लोग समूह में जा रहे हैं। स्थिति यह है कि गुलदार के डर के कारण श्रीनगर-चौरास-बांसी मार्ग पर दुपहिया वाहनों का आवागमन लगभग बंद हो चुका है। इधर, सतनी गांव में भी यही स्थिति है। यहां भी लोग शाम पांच बजे के बाद घरों में दुबक जाते हैं। पपडासू में भी गुलदार की धमक बनी है।
शिकारियों ने मचान किया तैयार
रुद्रप्रयाग। पपडासू गांव में शिकारी लखपत रावत और जॉय हुकिल ने गुलदार को ढेर करने के लिए अपने स्तर से तैयार कर दी है। उन्होंने घटनास्थल के समीप ही पेड़ पर मचान तैयार कर दिया है। शिकारी लखपत रावत ने बताया कि गुलदार अपने किए हुए शिकार पर दोबारा जरूर आता है। वह दिखाई दिया तो उसे ढेर कर दिया जाएगा।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election