विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019
Astrology Services

ढाई साल बाद शनि बदलेंगे अपनी राशि , कुदृष्टि से बचने के लिए शनि शिंगणापुर मंदिर में कराएं तेल अभिषेक : 14-दिसंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

रणजी ट्रॉफी 2019: उत्तराखंड और जम्मू-कश्मीर का पहला मैच आज

रणजी ट्रॉफी में उत्तराखंड का पहला मुकाबला आज जम्मू कश्मीर के साथ हो रहा है। 

9 दिसंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

ऊधम सिंह नगर

सोमवार, 9 दिसंबर 2019

जंगलात टीम पर हमला करने वाले आठ आरोपी गिरफ्तार

बाजपुर। पुलिस ने बरहैनी रेंजर सहित जंगलात टीम पर हमला करने वाले नामजद आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बृहस्पतिवार को साढ़े तीन बजे पुलिस आरोपियों को कोर्ट भेजने की तैयारी कर रही थी कि कोतवाली में परिजनों सहित अन्य लोगों की भीड़ लग गई। आरोपियों को कड़ी सुरक्षा के साथ मेडिकल परीक्षण कराने और कोर्ट ले जाया गया।
आरोप है कि बुधवार को पुलिस और जंगलात टीम ने खैर के गिल्टों से भरा कैंटर पकड़ा था, जिसकी कार्रवाई कर बरहैनी रेंजर रूपनारायण गौतम रात नौ बजे लौट रहे थे। रास्ते में कार सवार तस्करों ने हमला बोल दिया, जिसमें रेंजर रूप नारायण गौतम सहित छह वन कर्मचारी घायल हो गए। तस्कर कार और बाइक छोड़कर फरार हो गए, जबकि पुलिस ने घेराबंदी कर एक तस्कर को गिरफ्तार कर लिया। तस्करों ने पुलिस चौकी बरहैनी पहुंचकर कार को जबरन ले जाने की कोशिश की। इसके बाद तस्कर समर्थकों के साथ तलवार, लाठी डंडे लेकर कोतवाली के सामने आकर हंगामा करने लगे, जिस पर पुलिस ने लाठियां भांजकर कई तस्करों को पकड़ लिया।
रेंजर रूपनाराण गौतम की तहरीर पर पुलिस ने सतनाम सिंह, रवि सागर, सेरा, रनजीत सिंह, कमलजीत सिंह, हरप्रीत सिंह, बलकार, मनप्रीत सिंह, गुरमीत सिंह, गुरदीप सिंह निवासी गांव भीकमपुरी (सिंधियों वाली) के खिलाफ केस दर्ज कर जांच सुल्तानपुर पट्टी पुलिस चौकी इंचार्ज दीपक कौशिक को सौंपी है।
कोतवाल एनबी भट्ट ने बताया कि पुलिस ने रेंजर सहित जंगलात टीम पर हमला करने के आरोपी सेरा, रनजीत सिंह, कमलजीत सिंह, हरप्रीत सिंह, बलकार सिंह, मनप्रीत सिंह, गुरमीत सिंह, गुरदीप सिंह को बरहैनी नई सड़क से गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। आरोपियों की गिरफ्तारी होने पर कोतवाली में दिनभर परिजनों सहित अन्य लोगों की भीड़ लगी रही। इधर, घटना में नामजद रवि सागर और सतनाम सिंह गिरफ्तारी नहीं होने को लेकर क्षेत्र में तरह तरह की चर्चा है।
... और पढ़ें

नानकमत्ता को अलग विकास खंड बनाने की कवायद

सितारगंज। नानकमत्ता को अलग ब्लॉक बनाने की कवायद शुरू हो गई है। प्रधानमंत्री के उपसचिव के पत्र पर निदेशालय ने विभाग से आख्या मांगी है। डीडीओ ने बीडीओ को पत्र भेजकर तीन दिन के भीतर आख्या देने के निर्देश दिए हैं। मालूम हो कि दो माह पहले नानकमत्ता विधायक डॉ. प्रेम सिंह राणा ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र भेजकर नानकमत्ता नगर पंचायत में अलग ब्लॉक की स्थापना करने की मांग की थी।
नानकमत्ता विधानसभा में सितारगंज ब्लॉक क्षेत्र की 16 क्षेत्र पंचायत और 32 ग्राम पंचायतें शामिल हैं। वहीं खटीमा ब्लॉक की 13 क्षेत्र पंचायतें और 19 ग्रामसभाओं को शामिल किया गया है। इनमें एक क्षेत्र पंचायत आंशिक रूप से शामिल हैं। 19 अगस्त को नानकमत्ता के विधायक डॉ. प्रेम सिंह राणा ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र भेजकर बताया था कि विधानसभा खटीमा व सितारगंज के बीच स्थित नानकमत्ता जनजाति बाहुल्य क्षेत्र है। विकास की दृष्टि से पिछड़ी विधानसभा है। ब्लॉक कार्यालय नहीं होने से यहां का क्षेत्र दो ब्लॉकों में बंटा हुआ है। इससे क्षेत्र का समुचित विकास नहीं हो पा रहा है। 21 अगस्त को प्रधानमंत्री कार्यालय के उपसचिव कविथा वी पदीननभान ने मुख्य सचिव उत्तराखंड शासन को पत्र जारी कर कार्रवाई के आदेश दिए थे। इसके बाद शासन ने ग्राम्य विकास आयुक्त से आख्या मांगी थी। 23 अक्तूबर को ग्राम्य विकास के अपर आयुक्त डॉ. आरएस पोखरिया ने डीएम डॉ. नीरज खैरवाल को पत्र लिखा। जिसके बाद डीडीओ अजय सिंह ने सितारगंज और खटीमा के बीडीओ से इस मामले में तीन दिन के भीतर आख्या देने के निर्देश दिए हैं। इधर, खटीमा के बीडीओ हरीश चंद्र जोशी ने बताया कि जांच के बाद आख्या भेजी जाएगी।
नानकमत्ता विधानसभा की सितारगंज ब्लॉक में शामिल क्षेत्र पंचायत
सरौंजा, बिचुवा, टुकड़ी, बरकीडांडी, पचपेड़ा, बलखेड़ा, विडौरा, सलमता, देवकली, पिपलिया पिस्तौर, डोहरा, मगरसड़ा, साधूनगर, ऐंचता, गोविंदपुर, बिज्टी।
नानकमत्ता विधानसभा की खटीमा में शामिल क्षेत्र पंचायत
रतनपुरा, झनकट, बानूसा, पहनियां, चंदेली, चांदा, चारुबेटा, सैंजना, भूड़ महोलिया, मोहम्मदपुर भुडिय़ा, चांदा, मुंडेली, चारुबेटा, नौंगवां ठग्गूू ऊमरुखुर्द प्रथम और द्वितीय, फुलैया आदि।
... और पढ़ें

काशीपुर से हल्द्वानी जा रही प्राइवेट बस मिला आठ क्विंटल मावा

बाजपुर। पुलिस ने काशीपुर से हल्द्वानी जा रही एक निजी बस में प्लास्टिक के 26 कट्टों में करीब आठ क्विंटल मावा पकड़ा गया। मावा के नकली होने की आशंका जताते हुए फूड इंस्पेक्टर ने मावा के सैंपल ले लिए हैं। पुलिस ने यात्रियों को उतार कर बस सहित चालक और परिचालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की। बताते हैं कि मावा हल्द्वानी और अल्मोड़ा क्षेत्र के मिठाई विक्रेताओं को सप्लाई किया जा रहा था।
बुधवार सुबह 10:45 बजे कोतवाल एनबी भट्ट, एसआई अशोक कांडपाल, एसआई एमएम जोशी, एसआई जर्नादन भट्ट ने टीम के साथ काशीपुर से हल्द्वानी जा रही बस संख्या यूके 18पीए 0186 को कोतवाली के सामने रोककर तलाशी ली। बस में से मावे के 26 कट्टे पकड़े गए। यात्रियों को बस से उतारकर पुलिस ने मावा के कट्टे, चालक, परिचालक को बस सहित कब्जे में ले लिया। कोतवाल एनबी भट्ट ने बताया मावा काशीपुर स्थित डीएन मावा ट्रेडर्स से बस के माध्यम से हल्द्वानी जा रहा था। कोतवाली पहुंचे फूड इंस्पेक्टर ललित मोहन पांडे ने प्रारंभिक जांच की और मावे के सैंपल लेकर डीएन मावा ट्रेडर्स के स्वामी दिलशाद अहमद को मावे के कट्टे सुपुर्द कर दिए। फूड इंस्पेक्टर ने बताया कि सैंपल जांच के लिए भेजे जाएंगे। इधर, कोतवाल ने बताया कि पूछताछ के बाद चालक, परिचालक को बस सहित छोड़ दिया गया।
... और पढ़ें

उत्तराखंड: काशीपुर में आईआरबी तो सितारगंज में एसएसबी कर्मी पर लगा यौन शोषण का आरोप

उत्तराखंड के काशीपुर और सितारगंज में आईआरबी और एसएसबी कर्मी पर युवतियों ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। काशीपुर में युवती ने आईआरबी में तैनात एक कर्मी पर शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने और जबरन गर्भपात कराने का आरोप लगाते हुए पुलिस के उच्चाधिकारियों को शिकायती पत्र भेजा है। आरोप है कि पुलिस में कार्रवाई करने पर आरोपी और उसकी दरोगा बहन उसके परिजनों को झूठे मुकदमों में फंसाने की धमकी दे रहे हैं। 

क्षेत्र की एक युवती ने एसएसपी समेत पुलिस उच्चाधिकारियों को भेजे गए शिकायती पत्र में कहा कि वर्ष 2014 में वह अपने गांव के विद्यालय में कक्षा नौ की छात्रा थी। इसी दौरान उसकी पहचान ग्राम बरखेड़ा निवासी एक युवक से हुई। उसका दोस्त मोबाइल के जरिए उससे बात कराता था। दोनों के बीच हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग परिजनों को भेजने की धमकी देकर उसने उसे डराया। आरोप है कि उक्त युवक ने उसकी मर्जी के बगैर एक लॉज में ले जाकर दो बार उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में उसने उसके साथ शादी करने का झांसा देकर अलग-अलग स्थानों पर संबंध बनाए।

इसी दौरान उक्त युवक की नियुक्ति आईआरबी में हो गई। उसने अपने मित्रों के घर ले जाकर भी उसके साथ संबंध बनाए। इससे उसे गर्भ ठहर गया। 10 फरवरी 2019 को आरोपी ने उसे जबरन उसका गर्भपात करा दिया। एक अगस्त 2019 को आरोपी उसे कुंडेश्वरी रोड स्थित एक रेस्टोरेंट में ले गया। वहां उसने उसके साथ शादी करने की बात दोहराई और बाइक से कुंडेश्वरी-केलामोड़ पर एक सुनसान स्थान पर ले गया। वहां उसने उसे जबरन जहर पिलाने का प्रयास किया लेकिन जहर की शीशी नीचे गिर गई। पीड़िता का आरोप है कि उक्त युवक उसके साथ शादी करने की बात से मुकर रहा है और जान से मारने की धमकी दे रहा है। उसका आरोप है कि युवक की दरोगा बहन भी उसे फोन कर धमका रही है और कार्रवाई करने पर उसके परिवार वालों को झूठे मुकदमों में फंसाने की धमकी दे रही है। पीड़िता ने न्याय की गुहार लगाई।
... और पढ़ें

पंतनगर में ही बनेगा अंतरराष्ट्रीय स्तर का ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट

अंतरराष्ट्रीय स्तर का ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट अटरिया रोड पर पंतनगर विवि के अधीन चिह्नित 1122 एकड़ भूमि पर ही बनेगा। इसके लिए आवश्यक प्री-फिजिबिलिटी सर्वे होने के बाद ओएलएस सर्वे होना है। इसके बाद ही भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण को भूमि हस्तांतरित करने की प्रक्रिया शुरू हो सकेगी। 

ओएलएस सर्वे के लिए एयरपोर्ट डायरेक्टर एसके सिंह ने 10.75 लाख रुपये की आवश्यकता जताई। इस पर मुख्य सचिव ने सचिव स्टेट एविएशन को फोन कर तत्काल धनराशि उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। एयरपोर्ट डायरेक्टर एसके सिंह ने कहा कि शनिवार को देहरादून से हेलीकॉप्टर से  मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, प्रमुख सचिव मनीषा पंवार, वित्त सचिव अमित नेगी पंतनगर एयरपोर्ट पहुंचे।

एयरपोर्ट पर ही आधे घंटे चली एयरपोर्ट विस्तारीकरण संबंधी अहम बैठक में डायरेक्टर एसके सिंह ने अब तक की विस्तारीकरण संबंधी कार्य प्रगति से मुख्य सचिव को अवगत कराया। साथ ही सभी अधिकारियों सहित मुख्य सचिव ने स्थलीय निरीक्षण कर विवि के अधीन 1122 एकड़ भूमि को न्यू ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट के लिए उपयुक्त पाया। बताया कि यहां पर एयरपोर्ट के लिए पर्याप्त जमीन है। भविष्य की आवश्यकताओं को देखते हुए इसका विस्तार किया जा सकता है। साथ ही यह एयरपोर्ट लॉजिस्टिक हब के रूप में भी कार्य करेगा, जिसमें सिडकुल के उद्योगपति बाहर से कच्चा माल लाने और तैयार माल बाहर भेज पाएंगे। 

डायरेक्टर की ओर से ओएलएस सर्वे के लिए 10.75 लाख रुपये की आवश्यकता सहित स्टेट एविएशन की ओर से सर्वे टीम भिजवाने की बात कही गई। मुख्य सचिव ने मोबाइल पर सचिव स्टेट एविएशन से बात कर आवश्यक धनराशि जारी करने सहित ओएलएस सर्वे टीम भेजने के निर्देश दिए। इसके बाद मुख्य सचिव सहित अन्य अधिकारियों ने प्राग फार्म और खुरपिया फार्म का स्थलीय निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। वहां से लौटकर मुख्य सचिव और अधिकारी हेलीकॉप्टर से नैनीताल रवाना हो गए।

इनकी रही मौजूदगी

इस दौरान मंडलायुक्त राजीव रौतेला, विधायक राजेश शुक्ला, डीएम नीरज खैरवाल, एसएसपी बरिंदरजीत सिंह, निदेशक एयरपोर्ट एसके सिंह, सीडीओ मयूर दीक्षित, एडीएम जगदीश कांडपाल, जीएम सिडकुल पीसी दुम्का, एसएलओ एनएस नबियाल, नरेश दुर्गापाल, गौरव कुमार, मुक्ता मिश्र, भूपेंद्र कांडपाल आदि थे। 

आवासीय पट्टे देने की मांग 

खुरपिया वार्ड के सभासद रणजीत सिंह नगरकोटी ने एडीएम जगदीश कांडपाल के माध्यम से एक ज्ञापन प्रमुख सचिव को भेजा है। ज्ञापन में कहा गया है कि इस क्षेत्र (खुरपिया फार्म) में बड़ी तादाद में वे लोग रह रहे हैं जो खुरपिया और प्राग फार्म में श्रमिक थे। बताया कि उक्त लोग तीन पीढ़ियों से वहां रह रहे हैं। कुछ लोगों को आवासीय पट्टे मिल चुके हैं, जबकि कुछ आज तक आवासीय पट्टे से वंचित हैं। उन्होंने मांग की है कि शेष लोगों को भी जल्द ही आवासीय पट्टे दिए जाएं।
... और पढ़ें

सरकारी अस्पताल में न तो डॉक्टर और न ही एंबुलेंस

सितारगंज/शांतिपुरी। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शक्तिफार्म में डॉक्टर और एंबुलेंस की सुविधा की मांग को लेकर शनिवार को सामाजिक संस्था एक समाज श्रेष्ठ समाज के अध्यक्ष योगेंद्र कुमार साहू के नेतृत्व में लोगों ने एसडीएम गौरव सिंघल के प्रतिनिधि हेम पांडे को ज्ञापन सौंपा।
इसमें डॉक्टर की व्यवस्था करने समेत अन्य सुविधाएं जुटाने की मांग की गई है। बता दें कि क्षेत्र की 35 हजार की आबादी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर निर्भर है। ज्ञापन सौंपने वालों में बलराम हालदार, विवेकानंद विश्वास, गोविंद देवनाथ, श्रीवास पाल, शंकर चौधरी, रितिक साहू, श्यामल सरकार, राकेश बैरागी, चंदन सरकार, विजय चंद्र आदि थे।
इधर, शांतिपुरी में राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टर की स्थायी तैनाती की मांग को लेकर जिला पंचायत सदस्य दीपा आर्या व ज्येष्ठ ब्लॉक प्रमुख नीरज टाकुली के नेतृत्व में पंचायत प्रतिनिधियों ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के गेट पर प्रदर्शन किया। वक्ताओं ने कहा कि करीब 35 हजार से अधिक आबादी के लिए यहां आठ वर्षों से महिला और पुरुष डॉक्टरों के पद रिक्त पड़े हैं।
उन्होंने एक सप्ताह के भीतर अस्पताल में स्थायी डाक्टर की तैनाती नहीं होने पर जिलाधिकारी कार्यालय का घेराव कर अनशन में बैठने की चेतावनी दी। वहां ग्राम प्रधान चंद्रकला कोरंगा, बिशन सिंह कोरंगा, प्रधान रोहित तिवारी, प्रधान विमला कोरंगा, प्रेम आर्या, क्षेत्रपंचायत सदस्य पंकज कोरंगा, क्षेत्र पंचायत सदस्य लता पटवाल आदि थे।
शांतिपुरी में डॉक्टर की मांग को लेकर अस्पताल गेट के बाहर प्रदर्शन करते पंचायत प्रतिनिधि।
शांतिपुरी में डॉक्टर की मांग को लेकर अस्पताल गेट के बाहर प्रदर्शन करते पंचायत प्रतिनिधि।- फोटो : RUDRAPUR
... और पढ़ें

2022 तक किसानों की आय दोगुना करने में जुटी है सरकार-मेहरा

खटीमा। सहकारिता परिषद के उप सभापति हयात सिंह मेहरा ने सहकारिता विभाग के बैंक एवं दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ का निरीक्षण किया। मेहरा ने कहा कि सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के प्रयास में जुटी है। इसके लिए किसानों को सहकारिता विभाग शून्य ब्याज पर ऋण देगा।
शनिवार को मेहरा ने कहा कि दुग्ध उत्पादन, मत्स्य पालन सहकारिता क्षेत्र के विकास के लिए एनडीसी से 3700 करोड़ का ऋण लिया जा रहा है। कहा कि किसानों का कृषि के प्रति मोहभंग हो रहा है लेकिन दुग्ध उत्पादन एवं मत्स्य पालन के प्रति रुझान बना है। इस दौरान दुग्ध फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष राजवीर सिंह, कैलाश मनराल, प्रधान प्रबंधक संजय डिमरी, एडीओ सहकारिता शोभित अग्रवाल आदि मौजूद थे।
डेयरी प्लांट में काम करते श्रमिक घायल, हालत गंभीर
खटीमा। ऊधम सिंह नगर दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ के पनीर प्लांट में काम कर रहे श्रमिक ईश्वरी दत्त भट्ट घायल हो गए। लेकिन प्रबंधन ने उन्हें अस्पताल भेजने के बजाय घर भेज दिया। इधर मामले की जानकारी होने पर लोगों ने हंगामा किया तब नींद से जागे प्रबंधन ने श्रमिक को निजी अस्पताल भिजवाया, जहां से उसे बरेली रेफर कर दिया गया। डॉक्टरों के मुताबिक श्रमिक की हालत गंभीर है।
डेढ़ बजे के करीब जिस वक्त डेयरी में हयात सिंह मेहरा मौजूद थे, उसी दौरान एक श्रमिक घायल हो गया। इधर घायल मजदूर की जानकारी फैक्ट्री मैनेजर ने प्रशासन को विलंब से दी। सूचना पर डेयरी प्रबंधन ने घायल श्रमिक को अस्पताल के बजाय उसके घर पहुंचा दिया। बताया जाता है कि मामले को गुप्त रखने के लिए श्रमिक को सीधे उसके घर भेज दिया।
इधर, घायल श्रमिक अपने घर ब्यानधुरा कालोनी कंजाबाग पहुंचा तो उसकी हालत देख प्रधान पति कमलेश राणा, जिपंस पति प्रकाश पांडे और क्षेत्र पंचायत सदस्य विनोद जोशी के साथ गांव की महिलाएं दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ पहुंची और प्रदर्शन कर हंगामा शुरू कर दिया। तब जाकर डेयरी प्रबंधन ने घायल श्रमिक को नगर के निजी अस्पताल में पहुंचाया, जहां से डॉक्टरों ने उन्हें बरेली रेेफर किया।
पत्रकारों को नहीं दी अनुमति
खटीमा। हयात सिंह मेहरा के कार्यक्रम की कवरेज करने पहुंचे पत्रकारों को गेट पर रोक दिया गया। सुरक्षा कर्मियों ने कहा कि प्रधान प्रबंधक की अनुमति नहीं है। इसके बाद सहायक प्रबंधक लाला राम ने भी प्रवेश के लिए हयात सिंह मेहरा से पूछने की बात कही। पत्रकारों ने कहा कि दुग्ध संघ किसानों का है, जिसमें अनुमति की जरूरत नहीं है।
वहीं प्रधान प्रबंधक संजय डिमरी के व्यवहार पर हयात सिंह मेहरा, पूर्व अध्यक्ष राजवीर सिंह भी खफा हुए। पीपी डिमरी ने मामला दुग्ध संघ अध्यक्ष निर्देशानुसार होना बताया, जिस पर मामला दुग्ध सहकारी संघ अध्यक्ष अर्जुन रौतेला के समक्ष पहुंचा। इधर, दुग्ध फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष राजवीर सिंह ने पत्रकारों के रोकने के मामले की कड़ी निंदा की है।
दुग्ध संघ के पनीर प्लांट में घायल श्रमिक।
दुग्ध संघ के पनीर प्लांट में घायल श्रमिक। - फोटो : KHATIMA
... और पढ़ें

रुद्रपुर: वतस्कर समझकर ग्रामीणों पर की फायरिंग, बच्चा घायल, दो पक्षों के बीच चलीं गोलियां

दुग्‍ध संघ के कार्यालय में घायल का इलाज नहीं करने की शिकायत करते ग्रामीण।
विवाह समारोह से लौट रहे नाव सवार किशोरों पर वन कर्मियों ने तस्कर समझकर फायरिंग कर दी। इसमें एक बच्चा घायल हो गया। गंभीर हालत में बच्चे को सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में भर्ती कराया गया है। वहीं, वन विभाग ने क्रॉस फायरिंग का आरोप लगाकर अज्ञात के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

क्षेत्र के ग्राम कटपुलिया निवासी गुरमीत सिंह ने पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि उसका बड़ा पुत्र हरजीत (15) शुक्रवार रात को एक शादी समारोह से लौट रहा था। हरिपुरा और बौर जलाशय के बीच स्थित कट से पार जाने के लिए सवारी नाव न होने से उसने अपने छोटे भाई दीपू (11) को छोटी नाव लेकर आने के लिए कहा था। दीपू नाव लेकर वहां पहुंचा और दोनों भाई नाव से जलाशय पार करने के बाद उससे उतरकर घर की ओर जा रहे थे।

आरोप है कि दूसरी नाव में सवार वन दरोगा मोहन दत्त शर्मा, राजू डोगरा और दो अन्य ने उनके बेटों पर फायरिंग कर दी। इसमें दीपू के कूल्हे के एक हिस्से में गोली लगी और पार कर गई। इससे दीपू लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा। आननफानन में उसे इलाज के लिए गदरपुर अस्पताल ले जाया गया। वहां उसे उसे पहले रुद्रपुर और फिर सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत स्थिर बनी है। 

फायरिंग की सूचना पर एएसपी डॉ. जगदीश चंद्र और गदरपुर थाना प्रभारी एसआई ललित बिष्ट पुलिस चौकी पहुंच गए। थानाध्यक्ष प्रभारी बिष्ट ने बताया कि वन विभाग की ओर से वन रक्षक मो. इमरान ने अज्ञात लोगों के खिलाफ उन पर फायरिंग करने की तहरीर दी है। मौके से बरामद एक तमंचा भी पुलिस को सौंपा है। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धारा 307 आईपीसी और 25 आर्म्स एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है। इधर, गुरमीत सिंह की तहरीर पर वन दरोगा मोहन दत्त शर्मा, राजू डोगरा और दो अन्य के खिलाफ धारा 307 आईपीसी के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

मामला संज्ञान में आया है। यह पता चला है कि लकड़ी तस्करी की सूचना पर गई गश्त कर रही टीम पर तस्करों ने फायरिंग की थी। इसके बाद में वन विभाग की ओर से फायरिंग की गई थी। बच्चा कैसे बीच में आया और उसको किसकी गोली लगी, यह जांच का विषय है।
- यूसी तिवारी, एसडीओ

आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन 

घायल दीपू पर फायरिंग करने वाले वन कर्मियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर ग्रामीणों ने पुलिस चौकी में प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने आरोपी वन कर्मियों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की। ग्रामीणों को कहना था कि वन कर्मियों द्वारा पूर्व में भी कई बार ग्रामीणों पर फायरिंग की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए वन विभाग को भी ठोस प्रयास करने चाहिए। 

सात महीने पहले वनकर्मियों की गोली से जा चुकी ग्रामीण की जान 

जलाशय के रास्ते होने वाली लकड़ी तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए गश्त करने वाले वनकर्मियों की ओर से की गई फायरिंग का यह कोई नया मामला नहीं है। इससे पहले भी कई बार वन कर्मी ग्रामीणों पर फायरिंग कर चुके है। बीते चार मई की रात को वन दरोगा राजेश अपने साथियों के साथ नाव पर गश्त कर रहे थे। एक अन्य नाव पर सवार दो लोगों को लकड़ी तस्कर समझकर फायरिंग की गई। वनकर्मियों की गोली से घायल ककराला निवासी रंजीत उर्फ काका की जलाशय में डूबकर मौत हो गई थी। एक अन्य ग्रामीण गुरमीत ने नाव से कूदकर जान बचाई थी।

सात माह बाद अब एक बार फिर से नाबालिग को तस्कर समझकर वन कर्मियों ने फिर से फायरिंग की। इसमें दीपू गंभीर रूप से घायल हो गया। सवाल खड़ा हो रहा है कि क्या शुक्रवार को हुई घटना में नाबालिग के पास कोई लकड़ी बरामद हुई या इनका कोई पूर्व में आपराधिक रिकॉर्ड था। इस सवाल का वन अधिकारियों के पास कोई जवाब नहीं है। वहीं, वन क्षेत्राधिकारी भूपेंद्र कुमार मेहरा के अनुसार घटना स्थल पर चार गिल्टे खैर और एक तमंचा बरामद हुआ है।

लालपुर में दो पक्षों में विवाद के बाद फायरिंग, एक घायल

वहीं लालपुर में हुए दो पक्षों में विवाद के बाद मारपीट और फायरिंग हो गयी। इसमें एक युवक जख्मी हो गया, उसे उपचार के लिए परिजन सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी ले गए। जानकारी के अनुसार शुक्रवार की रात लालपुर निवासी अरविंद चौहान हीवा गैस एजेंसी के पास अपने साथियों के साथ खड़े थे। वहां पहुंचे कुछ युवकों से उनका विवाद हो गया। इसी बीच दोनों पक्षों में मारपीट हो गई।

बताया जा रहा है कि इस बीच वहां असलहों से फायरिंग हो गयी थी। इससे अरविंद चौहान घायल हो गया। फायरिंग के बाद आरोपित फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जानकारी ली। घायल अरविंद को अस्पताल पहुंचाया। जहां उसकी हालत गंभीर देख डॉक्टर ने उसे हल्द्वानी रेफर कर दिया। लालपुर चौकी प्रभारी ललित रावल ने बताया कि जांच की जा रही है।
... और पढ़ें

खटीमा में चोरी की चार बुलेट व एक अपाची बाइक बरामद, दो गिरफ्तार

खटीमा। बुलेट और बाइक चोर गिरोह का खुलासा करते हुए पुलिस ने गैंग के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है। इनमें एक आरोपी पर उत्तराखंड यूपी के कई थानों में मुकदमे दर्ज हैं। आरोपी न्यूरिया थाने का हिस्ट्रीशीटर भी है। पुलिस ने दोनों की निशानदेही पर चार बुलेट और एक अपाचे बाइक बरामद की। एसएसपी ने टीम को ढाई हजार रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की है।
कोतवाल संजय पाठक ने बताया कि चार दिसंबर को पहेनिया में बाइक चोरी के बाद पुलिस टीम ने बृहस्पतिवार को चेकिंग अभियान चलाया। इसी दौरान यूपी के जिला पीलीभीत थाना न्यूरिया, ग्राम मझोला विजयपुर निवासी विक्रम सिंह उर्फ विक्की और यूपी के जिला लखीमपुर खीरी, थाना नीमगंज, ग्राम उमरपुर खम्बार निवासी अनुराग कुमार दीक्षित को बुलेट के साथ रोका तो उनके पास से पहेनिया से चार दिसंबर को चोरी गई बुलेट बरामद हुई। आरोपी विक्रम से एक 315 बोर तमंचा, एक कारतूस भी मिला। पुलिस पूछताछ में दोनों ने खटीमा क्षेत्र में हुई बाइक चोरी की घटनाओं को कबूला और उनकी निशानदेही पर मझोला क्षेत्र में छिपाकर रखी खटीमा से चुराई तीन बुलेट और झनकईया क्षेत्र से चोरी की गई बाइक बरामद हुई।
आरोपी विक्रम न्यूरिया थाने का हिस्ट्रीशीटर है और खटीमा, न्यूरिया, माधोटांडा, पंतनगर में उसके खिलाफ कई मुकदमे दर्ज हैं। टीम में कोतवाल पाठक के अलावा एसएसआई देवेंद्र गौरव, बाजार चौकी इंचार्ज अनिल चौहान, सत्रहमील चौकी इंचार्ज सुरेंद्र प्रताप सिंह, चकरपुर चौकी इंचार्ज देवेंद्र राजपूत, कांस्टेबल शहनवाज अंसारी, नवीन टम्टा, प्रेम प्रकाश, दीपक विश्वकर्मा, महेंद्र डंगवाल, तपेंद्र जोशी आदि रहे।
नेपाल में बेचने के लिए चोरी करते थे बुलेट
खटीमा। कोतवाल ने बताया कि नेपाल में बुलेट की खासी डिमांड है, जिसकी कीमत भी अच्छी मिलती है। बताया कि अन्य बाइकों को उड़ाने वाले दूसरे गिरोह के बारे में भी कुछ महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे हैं। जांच जारी है।
इनकी थी चुराई गईं बुलेट और बाइक
खटीमा। वाहन चोरों से पहेनिया निवासी आढ़ती नवीन सिंह बोरा की बुुलेट यूके06एपी 5603, वार्ड छह निवासी मो. दानिश की बुलेट यूके 06ए, 9134, पंजाबी कालोनी वार्ड 14 निवासी नवनीत गुप्ता की बुलेट यूके06एपी9701, नई बस्ती बिगराबाग निवासी सुरेंद्र सिंह की बाइक यूके06एजी 9602 और झनकईया के बलदेव सिंह की बाइक यूके06एपी1879 को पुलिस ने बरामद किया।
... और पढ़ें

निर्माण पूरा होने से पहले ही टूट गई जेल को जाने वाली सड़क

सितारगंज। संपूर्णानंद शिविर (खुली जेल) और सेंट्रल जेल को जाने वाली सड़क निर्माण पूरा होने से पहले ही धराशायी हो गई तो वहीं, सिडकुल की सड़कों की भी हालत दयनीय होती जा रही है। सड़क में दो-दो फुट गहरे गड्ढे हो गए हैं। इससे इन रास्तों से गुजरने वाले लोगों को जीना मुहाल हो गया है। वहीं, वाहन भी गड्ढों में फंसकर खराब हो रहे हैं।
संपूर्णानंद शिविर को जाने वाला रास्ता सूखी नदी पार होते हुए शक्तिफार्म को गया है। लोनिवि ने 5.21 करोड़ की लागत से सूखी नदी के दोनों ओर डेढ़-डेढ़ किमी सड़क का निर्माण किया जाना था। विभाग की कार्यदायी संस्था कुमार ट्रेडर्स ने इस सड़क एक अप्रैल 2018 से निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया और बीते 25 जून तक सड़क बना भी दी। सड़क के ऊपर एक लेयर और होनी थी। जून में बरसात शुरू होते ही सड़क फिर टूटने लगी और अब डेढ़ किमी. लंबाई में सड़क कई जगह से परतें उखड़ने से बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई है।
जहां केंद्र और राज्य सरकार यहां सिडकुल में बाहरी उद्योगपतियों को लाने का प्रयास कर रहे हैं तो वहीं सिडकुल में सड़कों की खराब स्थिति से यहां के उद्योगपति परेशान हैं। सिडकुल में विद्युत सब स्टेशन से लेकर बालाजी कंपनी और सिडकुल कार्यालय तक जगह-जगह सड़क खराब हो गई है। कई स्थानों पर तो दो-दो फुट गहरे गड्ढे हो गए हैं या फिर सड़क से उखड़ी बजरी बिखरी पड़ी है। इसके अलावा सिडकुल से चोरगलिया तक सड़क की हालत अत्यंत दयनीय है। अब नंधौर और उकरौली खनन शुरू होने जा रहा है तो ऐसे में खराब सड़क पर हादसों से इनकार नहीं किया जा सकता है।
मिट्टी लदे ओवरलोडेड वाहनों ने तोड़ी सड़क
सितारगंज। सूखी नदी की सफाई के लिए दिए गए पट्टों में खनन होता है। यह खनन नंवबर तक जारी रहा। इस बीच इस मार्ग पर मिट्टी लदे ओवरलोडेड वाहनों ने सड़क की दुर्दशा कर दी। कार्यदायी कंपनी कुमार ट्रेडर्स के डायरेक्टर सचिन गोयल ने लोनिवि को लिखित और मौखिक कई बार शिकायत भी की लेकिन ओवरलोडिंग नहीं रुकी।
सीएम से की सड़क निर्माण की मांग
सितारगंज। सिडकुल इंडस्ट्रीज वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष सुरेश कुमार ने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत से सिडकुल की टूटी सड़कों की मरम्मत कराने और सिडकुल से चोरगलिया तक खराब मार्ग को दुरुस्त कराने की मांग की है। उन्होंने बताया कि वह नैनीताल के डीएम और चीफ इंजीनियर को दो बार सड़क निर्माण के लिए पत्र लिख चुके है। उसके बाद भी सिडकुल से चोरगलिया तक सड़क नहीं बनाई गई। ब्यूरो
सिडकुल में टूटी सड़कें एल्डिको का पार्ट हैं। सिडकुल ने पिछले दिनों कुछ सड़कों की मरम्मत कराई थी। शेष सड़क को एल्डिको से सही किया जाना है। - पीयूष घिल्डियाल, आर्किटेक्ट, सिडकुल सितारगंज।
सड़कों की मरम्मत का प्रस्ताव बन गया है। जहां-जहां सड़क खराब है, उसे चिह्नित कर लिया गया है। मार्च से सड़क की मरम्मत का कार्य भी शुरू करा दिया जाएगा। - संदीप चावला, डीजीएम, एल्डिको सितारगंज।
15 साल में भी नहीं बनी सड़क
सितारगंज। वार्ड-एक के लोगों ने शुक्रवार को दुर्गा दत्त जोशी के नेतृत्व में एसडीएम गौरव सिंघल को ज्ञापन दिया। कहा कि पिछले 15 सालों से वह निवास कर रहे हैं। कई बार सड़क निर्माण की पालिका से मांग की। सड़क का टेंडर भी हुआ लेकिन नहीं बनी। वहां पर ज्योति सामंत, मंजू रावत, निर्मला जोशी, ललिता पांडे, भावना जोशी, सुरेश जोशी, पूरन चंद्र, पंकज जोशी, गीता देवी, दुर्गा देवी आदि थे।
... और पढ़ें

आरक्षण नहीं बदलने से फिर खाली रह सकती हैं सीटें

सितारगंज। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आरक्षण के गलत निर्धारण से खाली रह गई पांच ग्राम पंचायतों और 56 पंचायतों के वार्ड सदस्यों के खाली पदों पर उपचुनाव की तिथि तो घोषित कर दी। लेकिन आरक्षण में अभी भी बदलाव नहीं हुआ। इससे इस बार भी कहीं इन पांच सीटों पर उम्मीदवार न मिलने से यह खाली रह सकती हैं। हालांकि, ब्लॉक प्रशासन ने उपचुनाव की तैयारियां पूरी कर ली हैं।
ब्लॉक क्षेत्र में 74 ग्राम पंचायतें हैं। इनमें 764 वार्ड सदस्यों के भी पद हैं। बीते त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आरक्षण घोषित होने पर क्षेत्र की कुंवरपुर, सिसैया, उकरौली और शक्तिफार्म की सुरेंद्रनगर व बैकुंठपुर सीट गलत आरक्षण निर्धारण की वजह से खाली रह गई थीं। इसके अलावा 56 ग्राम पंचायतों में करीब 211 वार्ड सदस्यों के पद खाली रहे थे। जिला निर्वाचन कार्यालय से अधिसूचना जारी कर दी गई। इसके बाद ब्लॉक प्रशासन ने उपचुनाव की तैयारी भी शुरू कर दी। लेकिन सवाल यह उठता है कि क्या इस बार इन पांचों सीटों पर प्रत्याशी नामांकन कर सकेंगे?
कुंवरपुर, सिसैया, उकरौली ग्राम पंचायत थारु जनजाति वर्ग के आरक्षित की थी, जबकि इन दोनों में एक भी जनजाति का परिवार नहीं रहता है। क्षेत्र के अन्य गांव के प्रत्याशी मैदान में आते भी तो ग्राम पंचायत के ही व्यक्ति को चुनाव लड़ने के अधिकार वाले नियम की वजह से वे बाहर हो गए। इसी तरह शक्तिफार्म की सुरेंद्रनगर व बैकुंठपुर ग्राम पंचायत को अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित कर दिया। यहां भी दोनों सीटों पर एक भी एससी का परिवार न होने से चुनाव नहीं हुआ था। शासन से अब उपचुनाव की अधिसूचना जारी तो कर दी गई। लेकिन सीटों के आरक्षण में कोई फेरबदल नहीं किया गया। इससे इन सीटों के इस बार भी खाली रहने की उम्मीद है।
बसगर सीट पर नहीं होगा चुनाव
सितारगंज। बीडीओ हरीश चंद्र जोशी ने बताया कि शक्तिफार्म के बसगर की क्षेत्र पंचायत सदस्य स्मतिा कौर के निधन से खाली सीट को इस उपचुनाव में शामिल नहीं किया है। निधन के बाद अभी तक उनके परिजनों ने ब्लॉक को बीडीसी स्व. कौर के मृत्यु प्रमाण पत्र उपलब्ध नहीं कराए। इस वजह से यह सीट अभी रिक्त नहीं मानी गई। इस सीट पर फरवरी में चुनाव होने की संभावना है।
... और पढ़ें

अज्ञात वाहन ने बाइक सवार को रौंदा, दो युवकों की मौत, एक गंभीर

बाजपुर। बरहैनी से लौट रहे बाइक सवार तीन युवकों को अज्ञात वाहन ने रौंद दिया। हादसे में दो युवकों की मौत हो गई। जबकि गंभीर रूप से घायल युवक को सीएचसी में भर्ती कराया गया। यहां से डॉक्टरों ने उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया।
शुक्रवार देर शाम बन्नाखेड़ा-बरहैनी मार्ग पर गांव चनकपुर पुल के पास अज्ञात वाहन ने बाइक सवार तीन युवकों को रौंद दिया। हादसे मे गांव खंबारी निवासी चंदन सिंह (20) पुत्र कृपाल सिंह और दीपक सिंह उर्फ टिंकू (21) पुत्र अमर सिंह और प्रेम सिंह (22) पुत्र किशन सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए। खबर मिलते ही आसपास के लोगों की भीड़ लग गई। ग्रामीणों की मदद से घायलों को गंभीर अवस्था में 108 एंबुलेंस से सीएचसी लाया गया। यहां डाक्टरों ने चंदन सिंह और दीपक सिंह को मृत घोषित कर दिया।
प्रेम सिंह की हालत गंभीर होने पर डाक्टरों ने उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया। मृतक दीपक के बड़े भाई देशराज ने बताया कि उसका भाई दीपक हाईस्कूल पास था। वह चार भाई एक बहन हैं। जबकि मृतक चंदन बरहैनी के राजकीय इंटर कालेज में 12वीं का छात्र था। देशराज ने बताया कि मृतक चंदन के एक भाई की सात साल पहले करंट की चपेट में आकर मौत हो चुकी हैं। मृतक चंदन का एक भाई है। गंभीर रूप से घायल प्रेम सिंह तीन भाई और पांच बहनें है।
देशराज के अनुसार मृतक चंदन और दीपक अविवाहित थे। सूचना पर पहुंचे कोतवाल एनबी भट्ट ने मौके पर पहुंचकर जांच की। कोतवाल ने बताया कि अज्ञात वाहन की तलाश की जा रही है। बाइक सवार ने हेलमेट नहीं पहने थे।
खंबारी गांव शोक में डूबा
बाजपुर। बाइक सवार दो युवकों की मौत से गांव खंबारी में शोक है। बताते हैं कि दोनों मृतक और घायल युवक आपस में दोस्त थे। शुक्रवार को प्रेम सिंह अपनी बाइक ठीक कराने बाजपुर शहर आए थे। बाइक ठीक कराकर एक बार घर आए थे। शाम को फिर घर से तीनों साथी बाइक से बरहैनी गए थे लौटते समय हादसा हो गया। मृतक और घायल युवक बुक्सा समुदाय के थे। खंबारी प्रधानपति दिलबाग सिंह ने बताया कि गांव के दो युवकों की मौत से गांव में शोक है।
मृतक दीपक सिंह उर्फ टिंकू का फाइल फोटो
मृतक दीपक सिंह उर्फ टिंकू का फाइल फोटो- फोटो : BAZPUR
... और पढ़ें

आग लगी थी दिल में गुस्से की, तुमने जो दवा दी कमाल है

बाजपुर। महिला पशु चिकित्सक का अपहरण और दुष्कर्म के बाद जलाकर हत्या करने के आरोपियों का हैदराबाद पुलिस के एनकाउंटर करने पर विहिप कार्यकर्ताओं सहित अन्य संगठनों ने हर्ष जताया है।
शुक्रवार को शाम विहिप जिला मंत्री यशपाल राजहंस और महिला संघ की प्रदेश अध्यक्ष अनीता शर्मा के नेतृत्व में कार्यकर्ता और महिलाएं एकत्र होकर शहीद भगत सिंह चौक पर पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने हैदराबाद पुलिस की सराहना करते हुए नारेबाजी की। उन्होंने कहा कि समाज से दुष्कर्म के अपराधियों का सफाया होना जरूरी है।
इसके लिए हैदराबाद पुलिस की ओर से किए गए एनकाउंटर से शुरूआत हो चुकी है। कोतवाल एनबी भट्ट ने कार्यकर्ताओं को विश्वास दिलाया कि कानूनी दायरे में अपराधियों को हर हालत में सजा मिलेगी। वहां मुकेश शर्मा, तेजप्रकाश शर्मा, राजेश पाठक, सचिन गौतम, अरुण, अंकित, शिवा, आशीष, रविकांत, अभिषेक, रचना गुप्ता, आकांक्षा शर्मा, पुष्पा चौधरी, रुकमणि देवी, मुन्नी देवी, पन्ना देवी आदि थे।
विहिप जिला मंत्री यशपाल राजहंस ने बताया कि संगठन की ओर से राजहंस स्पोर्ट्स अकादमी के सक्रिय कार्यकर्ताओं के मोबाइल सोशल मीडिया के माध्यम से प्रचारित किए जा रहे हैैं। प्रति दिन शाम को सात बजे के बाद किसी भी महिला को कोई दिक्कत होती है तो उक्त मोबाइल पर सूचित करने पर सहायता प्रदान की जाएगी।
भाकियू ने हैदराबाद की घटना की निंदा की
काशीपुर/काशीपुर। भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) ने हैदराबाद की घटना की निंदा की है। शुक्रवार को एक होटल में हुई बैठक ब्लॉक अध्यक्ष टीका सिंह सैनी की अध्यक्षता में हुई। वक्ताओं ने कहा कि जब राजनीतिक मामलों में अदालत रात में सुनवाई कर सकती है तो रेप के आरोपियों को भी एक माह में सजा दे सकती है। इधर, किसानों ने गन्ने का एमएसपी 400 रुपये प्रति क्विंटल करने, बकाया भुगतान करने आदि की मांग की। वहां पर बलजिंदर सिंह संधू, बलकार सिंह फौजी, कुलदीप सिंह चीमा आदि थे।
इधर, सितारगंज में महिला पशु चिकित्सक की दुष्कर्म के बाद हत्या करने वाले चार आरोपियों के एनकाउंटर की घटना पर सितारगंज में भी हर्ष जताया गया। शुक्रवार को पूर्व विधायक नारायण पाल ने कोतवाली पहुंचकर प्रभारी निरीक्षक सलाहउद्दीन और एसएसआई बीएस बिष्ट को पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया। पाल ने कहा कि निर्भया कांड के बाद हैदराबाद की घटना ने देशवासियों को झकझोर कर रख दिया। उन्होंने आरोपियों के एनकाउंटर की घटना की सराहना की। वहां सरताज अहमद, सचिन गंगवार, फतेह सिंह, परमजीत सिंह, गंगा सागर, गुरमेल सिंह, श्याम नारायण, हरबंश कंबोज आदि थे।
बाजपुर शहीद भगत सिंह चौक पर हैदराबाद पुलिस की सराहना करते विहिप कार्यकर्ता।
बाजपुर शहीद भगत सिंह चौक पर हैदराबाद पुलिस की सराहना करते विहिप कार्यकर्ता।- फोटो : BAZPUR
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election