विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Video ›   Interviews ›   Shakhsiyat: meet renouned peot and shayar waseem barelvi in amar ujala kavya

अमर उजाला काव्य: वसीम बरेलवी से सीखिए शायरी की बारीकियां, आठ साल की उम्र में लग गई थी शायरी की आदत

वीडियो डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 24 Oct 2018 02:13 PM IST

मशहूर शायर प्रो. वसीम बरेलवी आठ साल की उम्र से ही कहने लगे थे ग़ज़लें. आज क्या सोचते हैं वो नई शायरी के बारे में, सुनिए और समझिए वसीम साहब से शायरी की बारीकियाँ... अमर उजाला ‘काव्य’ के ख़ास शो ‘शख़्सियत’ में...

अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Latest

Election
  • Downloads

Follow Us