दक्षिण कोरियाई जासूसी एजेंसी ने कहा- किम जोंग के दिल की सर्जरी के कोई सबूत नहीं

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 06 May 2020 10:10 PM IST
विज्ञापन
किम जोंग उन
किम जोंग उन - फोटो : Social media

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
दक्षिण कोरिया की एक जासूसी एजेंसी ने बुधवार को कहा कि उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन की के दिल की शल्यक्रिया होने के कोई साक्ष्य नहीं हैं। समाचार एजेंसी ‘योनहाप’ ने दक्षिण कोरिया की जासूसी एजेंसी के हवाले से यह जानकारी दी है। किम के करीब तीन हफ्ते तक मीडिया से गायब रहने के चलते उनके स्वास्थ्य को लेकर कई अटकलें लगाई गईं। बीते शनिवार वे सार्वजनिक रूप से दिखाई दिए।
विज्ञापन

उत्तर कोरिया के अंदरूनी सूत्रों के साथ एक सियोल स्थित समाचार आउटलेट एनआईएल एनआईएल ने अप्रैल में किम के दिल की सर्जरी के बाद उबरने की बात कही थी। ‘योनहाप’ के मुताबिक, सियोल की नेशनल इंटेलिजेंस सर्विस (एनआईएस) ने संसदीय खुफिया समिति के सदस्यों के साथ एक बैठक में कहा कि यह रिपोर्ट आधारहीन थी।
समिति के सदस्य किम ब्युंग-की ने कहा कि जब वह सार्वजनिक रूप से बाहर नहीं आ रहे थे तब भी वह सामान्य रूप से अपने काम निपटा रहे थे। हालांकि कानूनविद ने कहा कि किम जोंग उन पिछले साल के औसत 50 बार की तुलना में इस साल सिर्फ 17 बार सार्वजनिक कार्यक्रमों में दिखाई दिए। इसका कारण उत्तर कोरिया में संभावित कोरोना वायरस प्रकोप बताया जा रहा है। यद्यपि उत्तर कोरिया में कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया है।
असामान्य नहीं था किम का गायब होना
कानूनविद ब्युंग-की ने कहा कि इस बात से इनकार नहीं कर सकते कि उत्तर कोरिया में कोरोना वायरस का प्रकोप है। हालांकि कोरियाई अधिकारी इसे नकारते रहे हैं। उत्तर कोरियाई मामलों के जानकार और दक्षिण कोरिया के एकीकरण मंत्री किम येओन-चुल ने कहा है कि किम का सार्वजनिक रूप से गायब होना विशेष रूप से असामान्य नहीं था, क्योंकि देश एक प्रकोप से निपटने के लिए कड़े कदम उठा रहा था।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us