बिहार में हाहाकार: भाजपा ने '4जी' को ठहराया जिम्मेदार, जदयू को है बारिश का इंतजार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना Updated Tue, 18 Jun 2019 02:21 PM IST
विज्ञापन
अजय निषाद-दिनेश चंद्र यादव
अजय निषाद-दिनेश चंद्र यादव - फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
बिहार में 128 बच्चे एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) के कारण असमय काल के गाल में समा चुके हैं। इसे दिमागी बुखार और जापानी बुखार के नाम से भी जाना जाता है। कई बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं जो इस समय जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं। पर्याप्त इलाज और सुविधा न होने के कारण रोजाना कुछ बच्चों की सांसें थम रही हैं। लेकिन बिहार के सांसद-मंत्री इस मुद्दे को लेकर कितने गंभीर हैं इसके कुछ उदाहरण रोज सामने आ रहे हैं। कोई मंत्री प्रेस वार्ता के बीच क्रिकेट का स्कोर जानना चाहते हैं तो कोई सोने में मशगूल दिखे। एक सांसद ने इसके लिए 4जी को जिम्मेदार ठहराया तो एक को बारिश का इंतजार है। 

बुखार के लिए 4जी है जिम्मेदार

मुजफ्फरपुर से भाजपा सांसद अजय निषाद ने बेतुका बयान देते हुए बुखार के लिए 4जी को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा, 'यह मामला मुख्यमंत्री के संज्ञान में है। आज नीतीश कुमार मुजफ्फरपुर गए जिसके लिए उन्हें आभार। इस मामले में ठोस कदम उठाए जाने की जरूरत है कि आने वाले समय में बीमारी पर कैसे काबू पाया जाए। बीमारी की हालत में जो बच्चे अस्पताल आते हैं उनकी और मरने वाले बच्चों की संख्या कैसे कम की जाए।'
विज्ञापन

उन्होंने आगे कहा, 'अभी तक इस बीमारी का पता नहीं चला है। हर कोई अपनी राय दे रहा है। मेरा मानना है कि हमें 4जी पर काम करने की जरूरत है। पहले जी से गांव, दूसरे जी से गर्मी, तीसरे जी से गरीबी और चौथे जी से गंदगी। कहीं न कहीं बीमारी का इससे वास्ता है। इलाज के लिए जो मरीज आते हैं वह गरीब तबके या ज्यादार अनुसूचित जाति के होते हैं। उनकी जीवनशैली निम्न स्तर की है। उसे ऊपर उठाए जाने की जरूरत है।'

जदयू को है बारिश का इंतजार

जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के सांसद दिनेश चंद्र यादव ने कहा, 'मुजफ्फरपुर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। इतने सालों से जब भी गर्मी का मौसम आता है बच्चे बीमार पड़ते हैं और मौत की संख्या बड़ी हो जाती है। ऐसा होता है। सरकार भी तैयारी करती है। जैसे ही बारिश होगी यह रुक जाएगा।

मंत्री के प्रेस वार्ता के बीच क्रिकेट का स्कोर पूछने का सासंद ने किया बचाव

एईएस से पैदा हुए हालात का जायजा लेने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने रविवार को मुजफ्फरपुर का दौरा किया था। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे और राज्य के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे भी थे। जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने मंत्रियों को बताया कि हालात का जायजा लेने के लिए डॉक्टरों और स्वास्थ्य अधिकारियों ने एक स्थिति की समीक्षा बैठक की। इस दौरान बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे की दिलचस्पी क्रिकेट का ताजा स्कोर जानने में थी। एनएनआई ने एक वीडियो जारी किया है जिसमें वो इस अहम बैठक के दौरान क्रिकेट का स्कोर पूछते देखे जा सकते हैं। 
मंत्री के इस व्यवहार की जहां हर कोई आलोचना कर रहा है वहीं जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के सांसद दिनेश चंद्र यादव ने उनका बचाव किया है। सांसद ने कहा, 'भारत-पाकिस्तान मैच के दौरान लोगों के दिलों में राष्ट्रवाद की भावना होती है। वह चाहते हैं कि भारत जीते। उन्होंने बैठक में सबकुछ गंभीरता से किया और बीच में स्कोर पूछा। विपक्ष के आरोप बिलकुल सही नहीं हैं।'
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us