जेट एयरवेज के दिवालिया मामले में एनसीएलटी पहुंचे बैंक, सुनवाई आज

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुंबई Updated Wed, 19 Jun 2019 02:39 AM IST
विज्ञापन
Banks give up on Jet Airways revival, take it to NCLT

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
कर्ज संकट में फंसी जेट एयरवेज को उबारने की सभी कोशिशें नाकाम होने पर मंगलवार को बैंकों ने एनसीएलटी में दिवालिया प्रक्रिया शुरू करने की अपील दाखिल की। एनसीएलटी इस पर 19 जून बुधवार को सुनवाई करेगा। 
विज्ञापन

एसबीआई की अगुवाई वाले 26 कर्जदाता बैंकों के समूह ने कंपनी से 8,500 करोड़ का बकाया वसूलने के लिए राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) का रुख किया है। इससे पहले पांच महीने तक बैंकों ने कंपनी को उबारने के लिए रणनीतिक निवेशकों की तलाश की लेकिन कोई भी खरीदार सामने नहीं आया।
कंपनी पर बैंकों के अलावा 10 हजार करोड़ रुपये वेंडर्स व एयरक्राफ्ट किराये पर देने वाली कंपनियों के बाकी हैं, जबकि 3 हजार करोड़ से ज्यादा का कर्मचारियों का वेतन भी बकाया है। कंपनी की भागीदार एतिहाद एयरवेज और ब्रिटिश कारोबारी हिंदुजा बंधुओं ने निवेश में दिलचस्पी दिखाई थी लेकिन बैंकों के लिए उनकी शर्तों को पूरा करना संभव नहीं था।

13 हजार करोड़ का घाटा

जेट एयरवेज को पिछले कुछ साल में करीब 13 हजार करोड़ का घाटा हो चुका है। ऐसे में 36 हजार करोड़ के कुल बकाए से जूझ रही कंपनी से आईबीसी के तहत भी वसूली होना मुश्किल है।
उसके अधिकतर स्लॉट भी दूसरी एयरलाइन के विमानों को दिए जा चुके हैं। कंपनी के बेड़े में सिर्फ 16 विमान बचे हैं। इनमें से कई विमान 13 साल पुराने हैं। इस कारण इन्हें बेचकर भी कर्जदाता 5 से 6 हजार करोड़ रुपये ही जुटा सकेंगे। 

41 फीसदी गिरे शेयर

कंपनी के खिलाफ दिवालिया प्रक्रिया शुरू होने के बाद निवेशकों में भगदड़ मच गई और सोमवार को उसके शेयर 41 फीसदी टूट गए। बीएसई पर 40.78 फीसदी की गिरावट के साथ कंपनी के शेयर 40.25 रुपये के भाव आ गए। इसी तरह एनएसई पर 40.78 फीसदी गिरकर 40.50 के भाव बिके।

बीएसई पर अभी कंपनी के 60 लाख से ज्यादा शेयर हैं, जबकि एनएसई पर इनकी संख्या 4 करोड़ से भी ज्यादा है। कंपनी के शेयरों में गिरावट का यह लगातार 12वां दिन रहा। इस दौरान कंपनी ने 1,253 करोड़ रुपये गंवाए।
 
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X