#जीएसटीएकवर्षः कांग्रेस ने फिर से अलापा गब्बर सिंह टैक्स का राग, कहा-नहीं बन पाया सिंपल टैक्स

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Sun, 01 Jul 2018 05:45 AM IST
विज्ञापन
congress takes dig on gst anniversary with gabbar singh tax

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) के एक साल पूरे होने कांग्रेस ने एक बार फिर से केंद्र सरकार पर निशाना साधा। पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इसकी तुलना एक बार फिर से गब्बर सिंह टैक्स से की है।  
विज्ञापन

बढ़ गई परेशानियां
सुरजेवाला ने कहा कि जीएसटी के लागू होने के एक साल बाद भी लाखों व्यापारियों, कारोबारियों और दुकानदारों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा है। सुरजेवाला ने कहा कि अभी भी यह सिंपल टैक्स नहीं बन पाया है। 
इस वजह से आ रही हैं दिक्कतें
जीएसटी के बहुत से नियम, रिटर्न और टैक्स स्लैब का सामना करने से व्यापारियों का जीवन मुश्किलों भरा और दुखमय हो गया है। पार्टी के एक अन्य नेता गौरव वल्लभ ने कहा कि 2008 से 2010 के बीच कांग्रेस सरकार ने जो जीएसटी सोचा था वो वास्तविक जीएसटी होता।

अपनी व्यक्तिगत महत्वकांक्षा को पूरा करने के लिए आधी रात को 12 बजे सरकार ने जीएसटी पास तो करवा दिया, लेकिन जनता की परेशानी दूर होने का नाम नहीं ले रही है। अगर चार से छह महीने इससे जुड़े अन्य स्टेक होल्डर्स से विचार विमर्श करके लोगों की परेशानियों को समझते तो इस प्लेटफार्म को और सुदृढ़ कर सकते थे।  

छोटे दुकानदारों को परेशानी
कांग्रेस का कहना है कि छोटे दुकानदार आज तक जीएसटी रिटर्न को ऑनलाइन फाइल नहीं कर पा रहे है। जिस जीएसटी में छह से अधिक दरें हैं वो वन नेशन वन टैक्स कैसे हुआ। आज भी जीएसटी के दायरे में क्या-क्या चीजें नहीं हैं। 60 फीसदी चीजें तो एक्साइज ड्यूटी के अंदर ही हैं। पेट्रोल, बिजली, रियल इस्टेट भी जीएसटी के अंदर नही है। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X