जेट एयरवेज के इन पायलटों की मुश्किलें बढ़ीं, बिना नोटिस दिए दे सकते हैं इस्तीफा

बिजनेस डेस्क, अमर उजाला Updated Tue, 02 Apr 2019 03:09 PM IST
विज्ञापन
jet airways ask Boeing 737 pilots to take force leave till September

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
जेट एयरवेज की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पहले विदेशी पायलटों को जबरन छुट्टी पर भेजने के बाद कंपनी ने अब बोइंग 737 उड़ा रहे पायलटों को भी सितंबर तक छुट्टी पर रहने का आदेश दिया है। इस दौरान इन पायलटों को किसी तरह का वेतन भी नहीं मिलेगा। 

कंपनी ने लिखा कर्मचारियों को पत्र

कंपनी ने अपने इन सभी पायलट्स को पत्र लिखकर छुट्टी पर जाने के लिए कहा है। इसके साथ ही कंपनी ने कहा है वो इसकी जानकारी अपने फील्ड ऑफिस में भी दे सकते हैं। फिलहाल बोइंग 737 के क्रू रोस्टर में पांच दिन कार्य और तीन दिन का ऑफ देने की प्रक्रिया 11 अप्रैल से शुरू होकर 26 अप्रैल तक लागू रहेगी। 

अभी उड़ रहे हैं केवल 35 विमान

जेट के फिलहाल 35 विमान ही सेवा में हैं। कंपनी को उम्मीद है इस माह के अंत तक 75 विमान उड़ने लगेंगे। विमान नियामक डीजीसीए ने भी जेट एयरवेज का शेड्यूल 25 अप्रैल तक के लिए अनुमोदित कर रखा है। 

जेट के पास हैं 1500 पायलट

फिलहाल जेट एयरवेज के पास 1500 पायलट हैं, जिनमें से 1100 नेशनल एविएटर गिल्ड से जुड़े हैं। पिछले कुछ हफ्ते से जेट एयरवेज के कई पायलट गोएयर, इंडिगो, स्पाइसजेट, विस्तारा और विदेशी एयरलाइन से जुड़े चुके हैं। 

नहीं देना होगा नोटिस पीरियड

अब कंपनी के पायलट बिना कोई नोटिस दिए इस्तीफा दे सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि पायलटों को सैलरी नहीं मिली है। जेट एयरवेज ने जनवरी, फरवरी और मार्च की सैलरी अपने कर्मचारियों को नहीं दी  है। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X