पेंशन स्कीम में ज्यादा मिलेगा लाभ, बनेंगे नियम

ब्यूरो/अमर उजाला, दिल्ली Updated Mon, 03 Feb 2014 12:41 PM IST
विज्ञापन
news pension scehme will give more profit, terms will change

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
न्यू पेंशन स्कीम से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने के लिए पेंशन नियामक पीएफआरडीए मौजूदा नियमों में बदलाव कर उसे आकर्षक बनाने की कवायद कर रहा है। इसी के तहत उसने एक अप्रैल 2014 से निवेशकों की पूंजी के निवेश नियमों में बदलाव कर दिया है।
विज्ञापन


पेंशन फंड रेगुलेटरी डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (पीएफआरडीए) द्वारा जारी नए दिशानिर्देश के अनुसार निवेश के नए तरीकों से निवेशकों को पहले से ज्यादा बेहतर रिटर्न मिल सकेगा।


पीएफआरडीए द्वारा जारी सर्कुलर के अनुसार सरकारी क्षेत्र की स्कीम के तहत फंड मैनेजर निवेशक द्वारा जमा की गई कुल राशि का 55 फीसदी सरकारी प्रतिभूतियों में ही निवेश कर सकेंगे।

इसी तरह कुल राशि का 40 फीसदी डेट सिक्योरिटीज में, इक्विटी में अधिकतम 15 फीसदी तक ही निवेश कर सकेंगे। जबकि मनी मार्केट इनस्ट्रूमेंट में निवेश की अधिकतम सीमा पांच फीसदी हो सकेगी। पीएफआरडीए के अनुसार निवेशक का पोर्टफोलिओ में इस तरह वितरित होने से उसे बेहतर रिर्टन मिल सकेगा।

इसी तरह नियामक ने निजी क्षेत्र के निवेशकों की पूंजी निवेश करने के नियमों में बदलाव किया है। जिसके तहत इक्विटी, सरकारी प्रतिभूतियों और सरकारी प्रतिभूतियों के अतिरिक्त प्रतिभूतियों में निवेश कर सकेंगे। इसके लिए नियामक ने प्रमुख रुप से कहा है कि अधिसूचित बैंकों में निवेश के लिए जरूरी होगा कि बैंक की नेटवर्थ कम से कम 500 करोड़ रुपये हो और पिछले तीन साल से लाभ में हो। सात ही उसका शुद्ध एनपीए पांच फीसदी से कम होना भी जरूरी है।

पीएफआरडीए ने पेंशन फंड मैनेजर को कहा है कि नए दिशा निर्देश के अनुसार निवेश की पूंजी डालने में इस बात का ध्यान रखा जाय, कि मौजूदा निवेश में बदलाव होने से मिलने वाले रिटर्न पर निवेशक को कोई नुकसान न हो। नियामक ने इसके अलावा फंड मैनेजर पर एक ही इंडस्ट्री में निवेश, प्रायोजित कंपनी आदि में निवेश को लेकर कुछ सीमाएं भी तय की हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें कारोबार समाचार और बजट 2020 से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। कारोबार जगत की अन्य खबरें जैसे पर्सनल फाइनेंस, लाइव प्रॉपर्टी न्यूज़, लेटेस्ट बैंकिंग बीमा इन हिंदी, ऑनलाइन मार्केट न्यूज़, लेटेस्ट कॉरपोरेट समाचार और बाज़ार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X