विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

'व्हील चेयर' वाला एक शख्स, जिसने हाइवे किनारे कराई शराबबंदी, दिलचस्प है इनकी कहानी

सिस्टम से लड़ना कोई हरमन सिंह सिद्धू से सीखे। वर्ष 1996 में वह एक हादसे का शिकार हो गए थे और इसके बाद से व्हीलचेयर पर आ गए।

17 फरवरी 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

चंडीगढ़

शनिवार, 22 फरवरी 2020

लुधियाना: पैसों के लिए डाल रहे थे दबाव, युवक ने जहर निगला, अस्पताल में हुई मौत

पॉलिसी के हिसाब में गड़बड़ी का नाम लेकर भाई रणधीर सिंह नगर निवासी कमल छाबड़ा ने साथियों के साथ न्यू शिमलापुरी निवासी गुरदीप सिंह को फिरोज गांधी बाजार से अगवा कर लिया। अगवा करने के बाद आरोपी गुरदीप को डाबा रोड ले गए और मारपीट की। इसे बर्दाश्त न करते हुए गुरदीप ने जहर निगल लिया। 

इससे उसकी तबीयत खराब हो गई। वहीं लोग उसे डीएमसी अस्पताल छोड़कर चले गए। डीएमसी में एक दिन बाद पीड़ित की मौत हो गई। सूचना पर थाना डिवीजन पांच की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने गुरदीप की पत्नी शरणजीत कौर की शिकायत पर कमल और उसके साथियों पर मामला दर्ज कर लिया है।

शरणजीत कौर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसके पति का फिरोज गांधी मार्केट में दफ्तर है। उनके साथ एक बुजुर्ग अंकल रहते हैं। उनकी पॉलिसी का 50 लाख रुपये का कोई हिसाब है। आरोपी उसी हिसाब को लेकर उसके पति गुरदीप पर दबाव डाल रहे थे। 19 फरवरी को गुरदीप अपने दफ्तर में थे। इसी दौरान आरोपी उनके पति को अगवा कर अपने साथ डाबा एरिया ले गए। 

वहां आरोपियों ने उसके साथ मारपीट की और उसको काफी जलील किया। इसके बाद गुरदीप ने जहरीला पदार्थ निगल लिया। गुरदीप ने इसकी जानकारी अपनी पत्नी को दी। जब शरणजीत कौर ने आरोपियों से बात की तो उन्होंने बताया कि वह उसे डीएमसी छोड़कर आ गए हैं। वह अस्पताल पहुंचीं और आरोपियों के बारे में पुलिस को जानकारी दी। पुलिस आरोपियों का पता लगाने में जुटी है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
... और पढ़ें

दक्ष, अरमान व गुरमंत ने टेनिस चैंपियनशिप में जीते खिताब

चंडीगढ़। लड़कों के अंडर-14 वर्ग के फाइनल मैच में दक्ष ने दूसरी वरीयता प्राप्त हार्दिक को 2-0 से हराकर बड़ा उल्टफेर करते हुए रूट्स-आयटा अंडर-12 व 14 नेशनल रैंकिंग टेनिस चैंपियशिप के खिताब पर कब्जा कर लिया। जीरकपुर टेनिस अकादमी में खेले जा रहे मुकाबले में दक्ष ने हार्दिक को एकतरफा मुकाबले में पहले सेट में 6-0 तथा दूसरे सेट में 6-3 से मात दी।
वहीं लड़कियों के इसी आयु वर्ग में गुरमंत कौर ने दूसरी वरीयता प्राप्त सिद्धक कौर को 6-1 व 6-3 से हराकर खिताब जीतने में सफल रही। लड़कों के अंडर-12 वर्ग के फाइनल मैच में टॉप वरीयता प्राप्त अरमान वालिया ने आरूष शर्मा को 6-0, 6-0 से पराजित करके पहला स्थान हासिल किया।
... और पढ़ें

यूनाइटेड क्रिकेट क्लब इलेवन ने रॉयल क्रिकेट क्लब को हराया

चंडीगढ़। यूनाइटेड क्रिकेट क्लब इलेवन ने रॉयल क्रिकेट क्लब को 47 रन से हराकर कारपोरेट क्रिकेट लीग में जीत दर्ज की। एचयूबी मोहाली क्रिकेट मैदान में खेले गए मुकाबले में यूनाइटेड क्रिकेट क्लब इलेवन ने पहले बल्लेबाजी करते हुए राघव शर्मा के 63 रन (3 छक्कों व 5 चौकों की मदद से) व मुनीष के 37 रन व सौरभ के 31 रन की पारी की बदौलत 22 ओवर में 2 विकेट के नुकसान पर 179 रन बनाए।
पराजित टीम की ओर से दिपांशु व विवेक ने 1-1 विकेट झटका। लक्ष्य का पीछा करते हुए रॉयल क्रिकेट क्लब ने 22 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 132 रन बनाए। इसमें अंकुश ने 39 रन व दिपांशु ने 27 रन की पारी खेली लेकिन टीम को जिताने में सफल नहीं हो सके। विजेता टीम की ओर से उज्जवल ने 2 विकेट व अंकुर, राघव तथा मुनीष ने 1-1 विकेट झटका।
... और पढ़ें

गया के महाबोधि मंदिर में बम ब्लास्ट मामले का वांछित गिरफ्तार, शराब ठेके पर कर रहा था काम

गया के महाबोधि मंदिर में बम ब्लास्ट मामले के वांछित दशरथ यादव को आईबी, गुप्तचर विभाग हरियाणा और सीआईए की टीम ने गांव दादू से गिरफ्तार कर लिया है। माओवादी संगठन से जुड़ा यह आरोपी बिहार के गया जिले के बारहपत्ती थाना क्षेत्र में खपिया गांव का रहने वाला है। सुरक्षा एजेंसियों ने उसे शराब ठेके पर काम करते हुए पकड़ा है। अदालत से भगोड़ा घोषित दशरथ पहचान छुपाकर राजू के नाम से नवंबर 2019 से गांव दादू में शराब ठेके पर काम कर रहा था।

गया के महाबोधि मंदिर में जुलाई 2013 में बम ब्लास्ट हुआ था। इस मामले की एनआईए भी जांच कर रही थी। इस मामले में गिरफ्तार आरोपी विनोद मिस्त्री के बैग में मिली पर्ची से दशरथ यादव का मोबाइल नंबर मिला था। उसके बाद एनआईए ने उसे हिरासत में लिया था। यह सरकारी राशन की दुकान भी चलाता था। वह बेल जंप कर गया था। तब अदालत ने उसे पीओ घोषित किया था। 
... और पढ़ें
दशरथ यादव दशरथ यादव

पंजाब रोडवेज की बस खड़े ट्रक से भिड़ी, 22 यात्री हुए घायल, तीन पीजीआई चंडीगढ़ रेफर

जंडली के पास नेशनल हाईवे पर शुक्रवार सुबह दिल्ली की ओर से आ रही पंजाब रोडवेज की बस खड़े ट्रक से भिड़ गई। हादसा सुबह करीब साढ़े 5 बजे हुआ। हादसे में 6 महिलाओं समेत 22 लोग घायल हो गए। घायलों में सबसे ज्यादा हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं। इसमें से तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। जिन्हें सिविल अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया। 

अधिकतर मरीजों को प्राथमिक उपचार देने के बाद छुट्टी दे दी गई। 6 मरीज सिटी सिविल अस्पताल में उपाचाराधीन हैं। हादसे के समय बस में 30 से अधिक सवारियां मौजूद थी। यात्रियों का कहना है कि इस हादसे का कारण बस चालक की लापरवाही है, क्योंकि ट्रक साइड में ही खड़ा था। यात्रियों ने बताया कि बस चालक को झपकी आ गई थी इसी कारण यह हादसा हुआ। लेकिन चालक ने इन आरोपों का खंडन करते हुए बताया कि उसने ट्रक देख लिया था। जैसे ही उसने ट्रक देखा तो ब्रेक लगाई लेकिन नहीं लगी। इसी कारण बस सीधे ट्रक में जा भिड़ी और हादसा हो गया। 

इन तीन मरीजों को किया गया पीजीआई रेफर
हादसे में घायल तीन मरीजों को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया। इसमें ड्राईवर समेत अन्य दो सवारियां है। इसमें से ड्राइवर स्वर्ण सिंह की हालत काफी नाजुक बताई जा रही है। जबकि पुनीत और दालचंद की हालत भी गंभीर बताई जा रही है।

इन्हें भी आईं चोटें
44 वर्षीय अनीता हिमाचल प्रदेश, 16 वर्षीय कार्तिक हिमाचल प्रदेश, 29 वर्षीय निशांत, 31 वर्षीय हरीश खजुरी यमुनानगर, 47 वर्षीय हरि प्रसाद यूपी, 25 वर्षीय कल्पना पश्चिम बंगाल, 35 वर्षीय सनातन पश्चिम बंगाल, 45 वर्षीय रूपलाल, 46 वर्षीय सुधा यूपी , 25 वर्षीय सुशील यूपी, 48 वर्षीय सुरजीत हिमाचल प्रदेश, 45 वर्षीय सुमन दिल्ली, 34 वर्षीय गुरसेवक हिमाचल प्रदेश, 45 वर्षीय सरवन हिमाचल प्रदेश, 62 वर्षीय राकेश कुमार दिल्ली, 27 वर्षीय ओमवीर पंजाब, 21 वर्षीय अमन शर्मा हिमाचल प्रदेश, 20 वर्षीय रवि पंजाब, 50 वर्षीय मुन्नी पंजाब व रानी चोटिल हुए हैं।
... और पढ़ें

प्रेरक: कोच नहीं मिला तो खेत में पिता ने दी बेटी को ट्रेनिंग, राष्ट्रीय स्तर पर जीते दो स्वर्ण पदक

अभी तक आपने कोच को ही प्रशिक्षण देते हुए देखा होगा लेकिन हिसार जिले के गांव खानपुर में पिता अपनी दो बेटियों को खेत में ही एथलेटिक का प्रशिक्षण दे रहे हैं। इतना ही नहीं, पिता के प्रशिक्षण देने के बाद बड़ी बेटी पैरा खिलाड़ी गीता नेशनल स्तर पर दो स्वर्ण पदक भी जीत लाई। पिता जगत सिंह बेटी को डेढ़ साल से एथलेटिक का अभ्यास करवा रहे हैं। हाल ही में गीता ने शॉटपुट और क्लब थ्रो में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा किया है। 

अभ्यास को देख पिता ने खुद सीख लिया प्रैक्टिस करवाना 
जगत सिंह ने बताया कि वर्ष 2018 में बेटी महाबीर स्टेडियम में एथलेटिक कोच पवन लांबा के पास अभ्यास करती थी। इस दौरान वह बेटी को रोजाना अपने साथ लेकर आते थे और बेटी का अभ्यास देखते थे लेकिन उसके कुछ महीने बाद कोच का तबादला हो गया। उसके बाद जब बेटी को अभ्यास करवाने के लिए कोच नहीं मिला तो पिता ने अपने ही खेत में गीता को प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया।

छोटी बेटी को भी इंटरनेशनल मेडलिस्ट बनाना मेरा लक्ष्य 
जगत सिंह की दो बेटियां हैं, जिनमें बड़ी गीता है, जबकि छोटी बेटी किरण है। अब बड़ी बेटी के साथ छोटी बेटी किरण को भी पिता ने प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया है। पिता का कहना है मेरा लक्ष्य छोटी बेटी को भी इंटरनेशनल मेडलिस्ट खिलाड़ी बनाना है। रोजाना वह दोनों बेटियों को दो घंटे तक प्रशिक्षण देते हैं। 
आज बेटियां हर क्षेत्र में पहचान बना रही हैं। बड़ी बेटी ने अपनी प्रतिभा दिखाते हुए नेशनल स्तर पर नाम चमकाया है। अब छोटी बेटी भी एथलेटिक की तैयारी में जुट गई है।  - मूर्ति देवी, गीता की माता
... और पढ़ें

चंडीगढ़ः 39 हजार की नकली करेंसी के गिरफ्तार हुआ युवक, पिस्तौल और हेरोइन भी हुई बरामद

चंडीगढ़ के सेक्टर-31 थाना पुलिस ने गुप्त सूचना पर डीजे बजाने वाले एक शख्स को 39900 रुपये की नकली करेंसी, पिस्टल और 50 ग्राम हेरोइन के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपी से पूछताछ में खुलासा हुआ कि वह नशे को नाइजीरियन से खरीदकर चंडीगढ़ और हरियाणा के शहरों में सप्लाई करता था। आरोपी रामदरबार फेज-1 निवासी सागर (42) है। शुक्रवार आरोपी को जिला अदालत में पेश कर पुलिस ने दो दिन का रिमांड हासिल किया है। आरोपी डीजे बजाने का काम करता है। 

गुरुवार रात सेक्टर-31 थाना प्रभारी राजदीप सिंह की अगुवाई में सब इंस्पेक्टर सरिता राय एरिया के मार्केट में पेट्रोलिंग कर रही थी। इस दौरान उन्हें गुप्त सूचना मिली कि सागर नामक व्यक्ति अपनी सफेद रंग की हरियाणा नंबर एसेंट कार से जा रहा है। सूचना पर सरिता राय ने टीम के साथ सेक्टर-31 स्थित जपनीज गार्डन के पास नाका लगाकर वहां गुजरने वाले वाहनों की चेकिंग शुरू की।

इस दौरान कार (एचआर03जी 1404) को पुलिस ने रोककर चालक से पूछताछ शुरू कर दी। टीम की तलाशी के दौरान कार चालक सागर की जेब से लोडेड पिस्टल, 50 ग्राम हेरोइन, 4 कारतूस और 39 हजार 900 रुपये की नकली करेंसी बरामद हुई। इसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आर्म्स 25/54/59, एनडीपीएस (21) और 489 के तहत मामला दर्ज उसे गिरफ्तार कर लिया। 

15 हजार में खरीदी थी पिस्टल 
पुलिस के अनुसार, आरोपी ने यूपी के देवबन से काला नामक शख्स से 15 हजार रुपये में पिस्टल खरीदी थी। नकली करेंसी को हरियाणा के यमुनानगर निवासी रूबी से लिया था। आरोपी अपने बेटी, पत्नी, मां और भाई के साथ रामदरबार फेज-1 के मकान नंबर 571 में रहता है। आरोपी सागर बारहवीं तक पढ़ा है और वह शादियों व पार्टियों में डीजे बजाने का काम करता है। 

बरामद ज्यादातर नए नोट
आरोपी के कब्जे से बरामद नोट 2000 हजार, 500, 200, 100 और 50 के हैं। 50 रुपये के नोट छोड़ लगभग सभी नोट नए सीरीज वाले हैं। ऐसे में चंडीगढ़ पुलिस नकली नोट को बाजार में लाने वाले गिरोह की भी जांच में जुट गई है। पुलिस का कहना है कि रिमांड के दौरान आरोपी से और भी खुलासे हो सकते हैं।  
... और पढ़ें

पिहोवा में दर्दनाक हादसा, खड़े ट्रक से बाइक टकराई, एक ही गांव के तीन युवकों की मौत

गांव संधौली के नजदीक सड़क के किनारे खड़े ट्रक के पीछे बाइक टकराने से दो नाबालिग सहित तीन युवकों की मौत हो गई। घटना रात साढ़े नौ बजे की बताई जा रही है। तीनों युवक एक ही गांव संधौली के थे। युवकों की पहचान रोहित (25) पुत्र मेहर सिंह, विजय पुत्र शिव कुमार (16) व सूरज पुत्र धर्मपाल (14) के रुप में हुई। उधर, घटना के बाद से गांव में मातम पसरा हुआ है।

जानकारी के अनुसार तीनों युवक एक बाइक पर सवार होकर अपने गांव से पिहोवा शहर की तरफ जा रहे थे। जैसे ही तीनों युवक गांव से निकले सड़क के किनारे खड़े ट्रक से उनकी बाइक टकरा गई, जिससे तीनों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। घटना की सूचना की पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी। 

जांच अधिकारी एएसआई प्रेम सिंह ने बताया कि सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची थी तथा तीनों युवकों के शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी। शुरूआती जांच से पता चला है कि तीनों युवक एक ही बाइक पर सवार होकर पिहोवा के लिये निकले थे और रास्ते में खड़े ट्रक से उनकी बाइक टकरा गई, जिससे तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने तीनों के शव को कुरुक्षेत्र शवगृह में रखवा दिया है। हादसे के बाद से ट्रक चालक मौके से फरार है। फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
... और पढ़ें

194 किलो हेरोइन केस में गिरफ्तार अनवर मसीह को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा

सुल्तानविंड रोड स्थित एक कोठी से 194 किलो हेरोइन और सिंथेटिक ड्रग के उत्पादन में काम आने वाले घातक केमिकलों की बरामदगी के आरोप में गिरफ्तार शिअद नेता व एसएसबी के पूर्व सदस्य अनवर मसीह को ड्यूटी मजिस्ट्रेट गौरव गुप्ता की अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। 

स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने शुक्रवार दोपहर बाद अनवर मसीह को कड़ी सुरक्षा के बीच कचहरी स्थित ड्यूटी मजिस्ट्रेट गौरव गुप्ता की अदालत में पेश किया। एसटीएफ ने बुधवार को अनवर मसीह को दो दिन के रिमांड पर लिया था। शुक्रवार को रिमांड की अवधि समाप्त हो गई।

जिस कोठी में नशे की फैक्ट्री चल रही थी उसका मालिक अनवर मसीह है। अनवर ने जिम का संचालन करने वाले सुखविंदर को यह कोठी किराये पर देने का दावा किया था। दो दिन की पूछताछ के दौरान एसटीएफ के हाथों कौन सी जानकारी लगी इसकी सूचना नहीं है। एसटीएफ को अनवर मसीह व कुछ नेताओं के बीच गठजोड़ के संकेत जरूर मिले हैं। 

उधर, पंजाब विधानसभा में भी आम आदमी पार्टी के नेता हरपाल सिंह चीमा ने अनवर मसीह व बिक्रम मजीठिया के संबंधों की जांच करवाने की मांग की है। इस मामले में अब तक एसटीएफ कांग्रेस पार्षद प्रदीप शर्मा के बेटे साहिल शर्मा को गिरफ्तार करने में नाकाम रही है। साहिल शर्मा की गिरफ्तारी से इस नशा तस्करी में शामिल नेताओं व तस्करों के संबंधों की नई कड़ी सामने आने की संभावना है। मामले में अब तक एक अफगान नागरिक और महिला समेत 13 आरोपियों को अरेस्ट किया जा चुका है।
... और पढ़ें

हरियाणा के इतिहास में पहली बार कोई मुख्यमंत्री पेश करेगा बजट, सभी वर्गों का रखा गया ध्यान: मनोहर लाल

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा के इतिहास में पहली बार बजट से प्रभावित होने वाले वर्गों से सुझाव लिए जा रहे हैं। यह बजट सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखकर तैयार किया जा रहा है। यह हरियाणा के इतिहास का पहला बजट होगा, जिसे कोई मुख्यमंत्री पेश करेगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शुक्रवार को पंचायत भवन परिसर में विकास कार्यों की सौगात देने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि इस वर्ष का बजट अपने आप में ऐतिहासिक होगा। यह बजट सभी वर्गों का साझा बजट होगा। 

इस बजट को तैयार करने में विधायकों, सांसदों, उद्यमियों, व्यापारियों, सामाजिक संगठनों, महिला संगठनों के प्रतिनिधियों, शहरी निकायों व ग्रामीण क्षेत्र के पंचायती राज प्रतिनिधियों से बातचीत की गई और उनके सुझाव लिए गए हैं। इसकी झलक बजट में देखने को मिलेगी। इस अवसर पर सांसद संजय भाटिया, मेयर रेणूबाला गुप्ता, नीलोखेड़ी के विधायक धर्मपाल गोंदर, भाजपा के जिलाध्यक्ष जगमोहन आनंद, प्रदेश महामंत्री एडवोकेट वेदपाल, मुख्यमंत्री के करनाल विधानसभा प्रतिनिधि संजय बठला उपस्थित रहे।

फर्जी व्यक्ति को नहीं बख्शा जाएगा: सीएम
एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरे संज्ञान में आया है कि कुछ लोग फर्जी फर्म बनाकर जीएसटी में धांधली कर रहे हैं। पिछले दिनों करनाल के रामनगर में एक महिला के साथ भी ऐसा धोखाधड़ी का मामला आया था और अब ऐसा ही मामला पानीपत में मिला है। ऐसे फर्जी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा और अनावश्यक किसी व्यक्ति को तंग नहीं होने दिया जाएगा।
... और पढ़ें

गन्ने की बकाया राशि को लेकर रेलवे ट्रैक पर बैठे किसान, चार ट्रेनें रद्द, एक का रूट बदला

किरती किसान यूनियन की ओर से गन्ना बकाया राशि तथा अन्य मांगों के लेकर शुक्रवार को काहनूवान फाटक पर दोपहर करीब डेढ़ बजे किसान ट्रैक पर बैठ गए। किसानोें के धरने से चार गाड़ियां रद्द हो गई और एक का रूट बदला गया। किसानों का धरना देर शाम तक जारी था। डिप्टी कमिश्नर मोहम्मद इश्फाक, एसएसपी स्वर्णदीप सिंह, एडीसी (जनरल) तेजिंदर सिंह संधू, एसपी हरविंदर सिंह संधू किसानों को मनाने में जुटे थे। 

किसानों ने डीसी दफ्तर के समक्ष तीन दिवसीय धरना देने की योजना बनाई थी। बुधवार को पहले दिन तो किसानों का पूरा दिन धरना चला और किसी भी अधिकारी ने आकर उनकी मांगों को सुनना जरूरी नहीं समझा। वही गुरुवार को दूसरे दिन 4:00 बजे डीसी मोहम्मद अशफाक ने किसानों को मीटिंग के लिए बुलाया। दो घंटे चली इस मीटिंग में मांगों को पूरी तरह स्वीकार नहीं किया गया। इससे आक्रोश में आए किसानों ने शुक्रवार को रेल रोकने की चेतावनी दी, जिसे प्रशासन की ओर से हलके में लिया गया। 

किसान शुक्रवार को काहनूवान फाटक पर दोपहर करीब डेढ़ बजे रेलवे ट्रैक पर बैठ गए। धरने की अगुवाई किसान नेता सरवन सिंह पंधेर, बख्शीश सिंह सुलतानी, रणबीर सिंह डुग्गरी व सुच्चा सिंह बलग्गन कर रहे थे। किसान नेताओं ने कहा किसानों का संघर्ष थमने वाला नहीं है। हर बार मांगों को सरकार तक पहुंचाने का आश्वासन तो दिया जाता है।
... और पढ़ें

डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा से पहले व्हाइट हाउस में खालिस्तानी समर्थकों की बैठक

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत की पहली यात्रा से पहले व्हाइट हाउस के अधिकारियों ने खालिस्तानी समर्थक सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) के सदस्यों से मुलाकात की है। एसएफजे ही रेफरेंडम 2020 अभियान चला रही है। केंद्र सरकार ने एसएफजे को आतंकी संगठन घोषित कर इस पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगा रखा है। इस बैठक के बाद भारत सरकार की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है लेकिन कनाडा से लेकर अमेरिका तक में इस पर बहस छिड़ गई है।

केंद्रीय गुप्तचर एजेंसियों के सूत्रों के मुताबिक सिख फॉर जस्टिस’ के एक प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को व्हाइट हाउस के अधिकारियों के साथ मुलाकात की। इसमें खालिस्तान समर्थक अभियान रेफरेंडम 2020 चलाने वाला पन्नू भी शामिल हुआ। बैठक का मकसद क्या था और व्हाइट हाउस में क्या वार्ता हुई, यह साफ नहीं हो पाया लेकिन बैठक के बाद भारत की खुफिया एजेंसियां सतर्क हो गई हैं। ट्रंप की यात्रा से पहले एसएफजे के समर्थकों व कट्टरपंथी नेताओं पर नजर रखी जा रही है। 

इस बैठक ने कनाडा और अमेरिका में एक नई बहस को जन्म दे दिया है। कनाडा के जाने माने राजनीतिक विश्लेषक गुरप्रीत सिंह सहोता का कहना है कि कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो का भारत में विरोध हुआ था कि वह खालिस्तानी समर्थक हैं। अब क्या भारत सरकार ट्रंप की यात्रा के दौरान इस मामले को जोर शोर से उठाएगी कि वे व्हाइट हाउस में ऐसे लोगों को क्यों बुलाते हैं, जिन्हें भारत सरकार ने बैन कर रखा है।  

इस बैठक को रद्द करना ही बेहतर होता 
भारत के एक अधिकारी का कहना है कि अमेरिकी प्रशासन को इतने महत्वपूर्ण समय पर बैठक को रद्द करना चाहिए था। यही दोनों के लिए बेहतर था। यह बैठक भारत विरोधी ताकतों को मजबूत कर सकती है। सिख फॉर जस्टिस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिकी यात्रा के दौरान कई स्थानों पर प्रदर्शन किया था। इसे भारत ने पिछले साल जुलाई में गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम, 1967 के तहत प्रतिबंधित कर दिया गया था। एसएफजे को अमेरिका, कनाडा और यूके में कुछ कट्टरपंथी सिखों की ओर से चलाया जाता है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us