चंडीगढ़ः 15 जून से 25% सरकारी शिक्षक आएंगे स्कूल, नियमों का करना होगा सख्ती से पालन

अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Wed, 10 Jun 2020 12:07 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
जिला शिक्षा अधिकारी चंडीगढ़ ने मंगलवार को गवर्नमेंट और गवर्नमेंट ऐडेड स्कूलों के प्रमुखों को पत्र जारी करके 15 जून से 25 प्रतिशत शिक्षकों को स्कूल बुलवाने के निर्देश दिए हैं। डीईओ ने पत्र में जिक्र किया कि शिक्षक स्कूलों में ऑनलाइन टीचिंग, नए दाखिले और सीबीएसई बोर्ड परीक्षा आयोजित करवाने व अन्य शैक्षणिक कामों को पूरा करेंगे।
विज्ञापन

डीईओ ने पत्र में स्कूल प्रमुखों को निर्देश दिए कि वे 25 प्रतिशत शिक्षकों के एक ग्रुप को एक हफ्ते तक और अन्य ग्रुप को दूसरे हफ्ते बुलाएंगे। वहीं जिन शिक्षकों को स्कूल नहीं बुलाया जाएगा, वे घर से काम करेंगे। बता दें कि अभी तक गवर्नमेंट स्कूलों में सिर्फ स्कूल हेड को आने की अनुमति दी गई थी।
वहीं हेड को अगर किसी शैक्षणिक कार्य के लिए जरूरत पड़ती थी तो ही वे दो से तीन शिक्षकों को स्कूल बुलाते थे। शिक्षक 6वीं से लेकर 12वीं तक के स्टूडेंट्स को घर से ही ऑनलाइन पढ़ा रहे हैं। शिक्षकों को स्कूल बुलाने के दौरान मास्क और साफ-सफाई का ध्यान रखने की जिम्मेदारी भी स्कूल प्रमुख को दी गई है।
इन शिक्षकों को मिली छूट
जिन शिक्षकों की उम्र ज्यादा है, किसी बीमारी से ग्रस्त हैं, गर्भवती महिलाएं और कंटेनमेंट जोन में रह रहे शिक्षकों को स्कूल में नहीं बुलाया जाएगा। ये सभी शिक्षक घर से ही काम करेंगे। वहीं अगर विभाग की तरफ से अगर किसी जरूरी काम के लिए इन्हें बुलाया जाता है तो इन्हें उस समय के लिए ही आना होगा।

परिजनों से बातचीत कर स्कूल खोलने को लेकर बनाए प्लान
स्कूल प्रिंसिपल और हेड वरिष्ठ शिक्षकों का एसएमसी मेंबर, एरिया काउंसलर और स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के परिजनों के साथ ग्रुप बनाएंगे। इन सभी की स्कूलों को दोबारा खोलने के लिए राय लेने के बाद उसकी रिपोर्ट तैयार करेंगे। यह सुझाव रिपोर्ट डीईओ ऑफिस में 22 जून तक जमा करवानी होगी।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
  • Downloads

Follow Us