सराहनीयः परफॉर्मेंस ग्रेडिंग इंडेक्स में चंडीगढ़ के स्कूल रहे पूरे देश में सबसे अच्छे, मिले 896 नंबर

रिशु राज सिंह, चंडीगढ़ Updated Tue, 25 Feb 2020 02:29 PM IST
विज्ञापन
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर
ख़बर सुनें
चंडीगढ़ के स्कूल पूरे देश में सबसे अच्छे हैं। शिक्षा की गुणवत्ता, बुनियादी सुविधाएं, समान शिक्षा और गवर्नेंस प्रोसेस के मामले में चंडीगढ़ ने देश के विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्कूलों को पीछे छोड़ दिया है। हालांकि, शिक्षा तक पहुंच (एक्सेस) के मामले में चंडीगढ़ केरल और हरियाणा से पिछड़ गया है। यह खुलासा केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) की तरफ से जारी किए गए दूसरे परफॉर्मेंस ग्रेडिंग इंडेक्स में हुआ है।
विज्ञापन

मंत्रालय ने 70 बिंदुओं के पैमाने पर आधारित परफार्मेंस ग्रेडिंग इंडेक्स (पीजीआई) रिपोर्ट को 2018 से तैयार करने की शुरुआत की है। मंत्रालय ने इन बिंदुओं के आधार पर सभी राज्यों से ऑनलाइन जानकारी मांगी थी और उनकी सूचना पर 2018-19 की रिपोर्ट तैयार की गई। राज्यों की शिक्षा व्यवस्था के प्रदर्शन को सात ग्रेड में विभाजित किया गया था, जोकि 0 से 1000 वेटेज पर आधारित था। लेवल वन और 2 में कोई राज्य शामिल नहीं हो सका है क्योंकि उनकी परफार्मेंस 1000-901 नंबरों के मानकों को पूरी नहीं करती।
चंडीगढ़, गुजरात व केरल को लेवल थ्री 851-900 का वेटेज और ग्रेड एक प्लस की श्रेणी मिली है। महाराष्ट्र और दिल्ली को लेवल फोर 801-850 का वेटेज और ग्रेड एक की श्रेणी मिली है। हरियाणा व पंजाब को 751-800 वेटेज के साथ ग्रेड दो मिला है। रिपोर्ट में कहा गया है कि शिक्षकों, प्राचार्यों और प्रशासनिक कर्मचारियों की कमी, नियमित पर्यवेक्षण और निरीक्षण की कमी, शिक्षकों के अपर्याप्त प्रशिक्षण, वित्त की समय पर उपलब्धता के मुद्दे शिक्षा प्रणाली को विफल करने वाले कारक हैं।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

नेशनल अचीवमेंट सर्वे में भी टॉप पर रहा था चंडीगढ़

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us