बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

लुधियानाः कर्फ्यू के बीच दीवार फांदकर फरार हो गए चार कैदी, पुलिस अफसरों के हाथ-पैर फूले

अमर उजाला, लुधियाना Published by: खुशबू गोयल Updated Sat, 28 Mar 2020 05:39 PM IST
विज्ञापन
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
ताजपुर रोड स्थित सेंट्रल जेल में बंद एक कैदी और तीन हवालाती शुक्रवार की देर रात दीवार फांदकर फरार हो गए। चारों बैरकों से बाहर निकल स्टेडियम से हेते हुए सेंट्रल जेल और महिला जेल को जोड़ने वाली दीवार फांदकर कंबल नीचे लटका करीब दस फुट से कूद कर भग गए। जेल के चारों तरफ पहरा है और अंदर सीआरपीएफ के मुलाजिम तैनात हैं।। इससे आशंका जताई जा रही है कि चारों को भगाने में किसी न किसी की मिलीभगत है। चारों आरोपियों के फरार होने का पता उस समय चला जब सुबह बंदियों की गिनती होने लगी।
विज्ञापन


चारों आरोपियों के फरार होने की सूचना मिलते ही जेल सुपरिंटेंडेंट राजीव अरोड़ा और एडीसीपी 4 अजिंदर सिंह पुलिस पार्टी के साथ मौके पर पहुंचे। थाना डिविजन सात पुलिस नेआरोपियों पर मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों की पहचान हवालाती समराला निवासी रवि कुमार (24), फतेहगढ़ स्थित मंडी गोबिंदगढ़ के रहने वाले हवालाती अमन कुमार उर्फ दीपक, संगरूर के बरनाला रोड स्थित बस्ती अजीत नगर निवासी अर्शदीप सिंह उर्फ शीपा और उत्तरप्रदेश के जिला सुल्तानपुर निवासी कैदी सूरज कुमार के रुप में हुई है।


चारों आरोपी जेल में इकट्ठे ही बंद थे और पिछले काफी समय से अकेले में घूमते रहते थे। किसी को यह आभास नहीं था कि चारों मिल कर भागने की प्लानिंग बना रहे है और मौके की तलाश में है। रोजाना कैदियों और हवालातियों की बैरकों में बंदी होती है और गिनती करने के बाद ही अधिकारी वहां से जाते हैं। शुक्रवार की देर रात को गिनती करने के बाद सभी चले गए। देर रात करीब एक बजे के बाद चारों आरोपी किसी तरह बैरक से बाहर निकले और वह स्टेडियम के रास्ते होते हुए महिला जेल की दीवार चढ़े और वहां से बाहर निकल गए।

चारों ने कंबल को ही रस्सी बना लिया। वह कंबल को बाहर की तरफ लटकाने के बाद उसके सहारे बाहर आए और दस फुट कूद कर फरार हो गए। हैरानी की बात यह है कि जिस तरह से कंबल दीवार के साथ लटका हुआ है, उससे आशंका जताई जा रही है कि बाहर से आरोपियों को सपोर्ट मिला था।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

जेल के सुरक्षा कर्मचारियों को नहीं लगी भनक

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us