दवा लेने गए थे बेटा और बहू, वापस लौटे तो इस हाल में मिला पिता, देखकर उड़ गए होश

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पठानकोट (पंजाब) Updated Tue, 20 Aug 2019 07:06 PM IST
विज्ञापन
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
पठानकोट के गांव झेला आमदा शकरगढ़ में सोमवार की सुबह बुजुर्ग गुलजार (80) की रस्सी से गला घोंटकर हत्या कर दी गई। घटना के वक्त बुजुर्ग का बेटा और बहू पड़ोस के गांव में दवा लेने गए थे। थाना तारागढ़ की पुलिस ने अज्ञात हत्यारों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
विज्ञापन

मृतक गुलजार सिंह के बेटे कुलजीत सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि सोमवार की सुबह साढ़े 9 बजे के करीब वह अपनी पत्नी के साथ पड़ोस के गांव सुंदरचक्क में दवा लेने गया था।
पिता घर में अकेले थे। दोपहर सवा एक बजे जब वह वापस आने पर पिता कमरे में नहीं मिले। इस पर उनकी तलाश शुरू की। पिता को ढूंढते हुए जब वह घर के पिछवाड़े पशुओं के कमरे में पहुंचे तो वह अचेत पड़े थे और उनकी पगड़ी पशुओं की खुरली में पड़ी थी। जब उन्हें सीधा कर देखा तो उनके गले पर रस्सी के निशान थे, कानों से खून निकल रहा था और वह दम तोड़ चुके थे, पास ही प्लास्टिक की रस्सी भी मिली। 
इसके बाद वह अपने चचेरे भाई कुलदीप के साथ थाने पहुंचा और पिता की हत्या की जानकारी दी। जांच अधिकारी एसआई रामभजन ने बताया कि लाश का पोस्टमार्टम करवा वारिसों के हवाले कर दी गई है। मामले की जांच की जा रही है। बेटे ने किसी तरह का कोई शक नहीं जताया है। उन्होंने दावा किया कि जल्द ही मामला सुलझा लिया जाएगा।
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us