विज्ञापन

कोरोना वायरसः पंजाब यूनिवर्सिटी में घुस नहीं पाए दुकानदार, न दवाएं मिली न राशन, खड़ा हुआ संकट

अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Thu, 26 Mar 2020 03:19 PM IST
विज्ञापन
पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़
पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़
ख़बर सुनें
देश संकट की स्थिति से गुजर रहा है और पीयू अथॉरिटी को इसकी चिंता नहीं है। वह अपने ही लोगों का पेट नहीं भर पा रही है। बुधवार को लोगों को न तो राशन मिला और न दवाएं। शुगर के मरीज कई शिक्षक व कर्मचारियों के घरों में दवाएं खत्म हो गई। अब उन्हें चिंता सता रही है कि कैसे वे जीवन काटें। लगातार उनकी दिक्कतें बढ़ रही हैं।
विज्ञापन

पीयू अथॉरिटी को इसको लेकर गंभीर होना चाहिए था लेकिन सब मौन हैं। जो नंबर सामान पहुंचाने के लिए दिए गए थे वे भी गलत बताए जा रहे हैं। वहीं, पीयू की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि यहां सब चीजों की उपलब्धता है और उन्हें लोगों तक पहुंचाया जा रहा है।
पीयू की अपनी मार्केट है। यहां हर चीज उपलब्ध होती है, लेकिन कर्फ्यू के कारण यह बंद है। इसमें मेडिकल शॉप व राशन के सामान की कई दुकानें हैं, लेकिन उनके पास पीयू की ओर से अभी पास नहीं बनवाए गए। इसके कारण वह बुधवार को नहीं आ पाए। कई लोगों को दवाओं की जरूरत थी, लेकिन वे न मिलने से वे परेशान रहे। राशन भी नहीं पहुंचा।
एक सब्जी विक्रेता पीयू में ही निवास करता है, इसलिए कुछ सब्जियां उन्होंने घर जाकर दी, लेकिन उसके दाम महंगे हो गए और सब्जी भी खत्म हो गई। दूध भी लोगों को नहीं मिला। वे चाय तक घरों में नहीं पी पा रहे हैं। बच्चों के लिए भी दूध की जरूरत है वह भी नहीं मिल रहा है। वेंडर आदि के जो मोबाइल नंबर दिए गए हैं वे मिल नहीं रहे या फिर किसी दूसरे व्यक्ति के पास जाकर मिल रहे हैं। पीयू के शिक्षक व कर्मचारी परेशान हैं।

व्यवस्था की जा रही है। जल्द ही राशन व दवाएं मिलेंगी। कुछ पास भी बनवाएंगे।
- प्रो. शंकर जी झा, डीयूआई पीयू
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us