विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर कराएं मुंबई के सिद्धि विनायक में पूजा विघ्नहर्ता हरेंगे सारे विघ्न : 27-फरवरी-2020

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

छत्तीसगढ़

सोमवार, 24 फरवरी 2020

गरीबों के निवाले का चल रहा खेल, 16 हजार बोरी चावल निकला सड़ा

छत्तीसगढ़ के बलरामपुर स्थित प्रेमनगर में गरीबों के निवाले पर डाका डालने का मामला सामने आया है। ऐसा कोई और नहीं बल्कि अफसरों की लापरवाही से हुआ है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत वितरित किया जाने वाला 16 हजार बोरी चावल सड़ निकला। इसी चावल को साफ कर गरीबों को वितरित करने की प्रक्रिया चल रही थी। सूचना पर पहुंची टीम जांच कर रही है।

बता दें कि बलरामपुर के प्रेमनगर में गरीबों के निवाले का खेल चल रहा था। यहां सार्वजनिक वितरण के सड़े चावल को साफ कर तैयार किया जा रहा था। स्थानीय लोगों की नजर इस खेल पर पड़ी तो विभाग को सूचना दी गई। जांच के लिए पहुंची टीम गरीबों के निवाले पर डाके का खेल देखकर सन्न रह गई। 


टीम लापरवाह अफसरों के खिलाफ कार्रवाई में जुटी है। चावल इनता सड़ा निकला कि मिट्टी बन चुका था, फिर भी उसमें से बचे चावल के टुकड़ों को गरीबों तक पहुंचाने का कार्य चल रहा था। जांच में 16 हजार बोरी चावल सड़ा निकला। 

कई बोरियों में भरे चावल में गांठें पड़ चुकी हैं। इस सड़े चावल को गरीबों में बांटने के लिए पहले गोदामों में भेजा गया, उसके बाद राशन दुकानों पर पहुंचाया जाता। एक गोदाम प्रभारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि उसके यहां जो बोरियां आई हैं, उसमें 16 हजार बोरियों में खराब चावल निकला। यह चावल पूरी तरह सड़ा हुआ है।


वहीं एसडीएम बालेश्वर राम का कहना है कि मामला सामने आया है। रायपुर से एक टीम पहुंचकर जांच की है। अभी कुछ लोगों के बयान लिए जाने बाकी हैं। लापरवाही बरतने वालों से पूछताछ के बाद जिला कलेक्टर कार्रवाई का निर्णय करेगा।
... और पढ़ें

धार्मिक नफरत फैलाने वालों को दिल्ली की जनता ने उखाड़ फेंका : दिग्विजय सिंह

दिल्ली विधानसभा चुनाव में भले ही कांग्रेस का खाता न खुल पाया हो, लेकिन भाजपा की सत्ता से दूरी पर पार्टी काफी खुश है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि दिल्ली चुनाव के नतीजे एक ‘अच्छा संकेत’ हैं। बुधवार को दिग्विजय ने कहा कि जिन्होंने ‘धार्मिक घृणा फैलाई’ और नागरिकता संशोधन कानून को भुनाने की कोशिश की जनता ने उनका साथ नहीं दिया और उन्हें उखाड़ फेंका। उन्होंने कहा कि बिहार और पश्चिम बंगाल में भी ऐसे ही नतीजे दोहराए जाएंगे।

छत्तीसगढ़ में एक निजी कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने शाहीन बाग में चल रहे विरोध प्रदर्शन पर केंद्रीय मंत्री अमित शाह द्वारा चुनाव पूर्व दिए गए बयानों पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा, ‘अमित शाह जी लोगों से अपील करते थे कि वोटिंग बटन को इतने जोर से दबाना कि इसका करंट शाहीन बाग में महसूस हो। लेकिन जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती की बेटी ने अच्छा बयान दिया कि मतदाताओं ने ऐसे बटन दबाया कि करंट भाजपा को लग गया।

दिल्ली में कांग्रेस के प्रदर्शन पर उन्होंने कहा कि सभी वोट ‘आप’ की ओर चले गए, क्योंकि लोगों ने उस शख्स और पार्टी का समर्थन किया जिस पर उन्हें यकीन था कि वह भाजपा को हरा पाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस ने 2019 के लोकसभा चुनाव में आप के मुकाबले दिल्ली में अधिक मत हासिल किए। सिंह ने बढ़ती बेरोजगारी और अर्थव्यवस्था की खराब हालत का हवाला देते हुए हाल केंद्रीय बजट को निराशाजनक बताया।
... और पढ़ें

घायल जवानों का कुशलक्षेम पूछने अस्पताल पहुंचे सीआरपीएफ के महानिदेशक 

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में जिले के इरापल्ली गांव में हुए नक्सली हमले में घायल सीआरपीएफ के जवानों से बुधवार को सीआरपीएफ के महानिदेशक एपी माहेश्वरी मिले। रायपुर के नारायण और बालाजी अस्पताल में माहेश्वरी ने घायल जवानों का कुशलक्षेम पूछा।  

बता दें कि 10 फरवरी को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की टीम पर नक्सलियों ने हमला कर दिया था। जवाबी कार्रवाई में सीआरपीएफ के दो कमांडों शहीद हो गए थे। वहीं दो कमांडो घायल हुए थे। सीआरपीएफ के जवानों ने एक नक्सली को मार भी गिराया था। 

मुठभेड़ के बारे में एक अधिकारी ने बताया कि पमेड थाना अंतर्गत इरापल्ली गांव के जंगलों में सुबह करीब साढ़े 10 बजे उस समय मुठभेड़ शुरू हुई, जब सुरक्षाबल नक्सल रोधी अभियान चला रहे थे। यह जगह रायपुर से करीब 400 किलोमीटर दूर है।

उन्होंने कहा, ‘सीआरपीएफ की विशिष्ट इकाई 204वीं कमांडो बटालियन फॉर रेसोल्यूट एक्शन (कोबरा) के चार जवान मुठभेड़ में घायल हो गए। इनमें दो जवान शहीद भी हो गए।’ सीआरपीएफ के दो घायल जवानों में एक उप-कमांडेंट भी शामिल हैं। अधिकारी ने कहा कि मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया और मौके से एक हथियार बरामद हुआ।
 
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: बजट सत्र में सीएए विरोधी प्रस्ताव ला सकती है बघेल सरकार

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर पक्ष और विपक्ष के बीच चल रहा गतिरोध खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा सूचना के मुताबिक केरल, पश्चिम बंगाल, पंजाब, राजस्थान के बाद अब छत्तीसगढ़ सरकार भी विधानसभा में सीएए के खिलाफ विरोध प्रस्ताव लाने की तैयारी में है।

छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार राज्य विधानसभा के बजट सत्र में सीएए) के खिलाफ प्रस्ताव ला सकती है। सत्र की शुरुआत 24 फरवरी यानि आज से होगी।

संसदीय कार्यमंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा कि विधानसभा के बजट सत्र के दौरान सरकार सीएए विरोधी प्रस्ताव पेश कर सकती है। उन्होंने बताया कि 30 जनवरी को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में राज्य सरकार ने सीएए के विरोध में जारी प्रदर्शनों के मद्देनजर केन्द्र से इस कानून को निरस्त करने की अपील करने का फैसला किया था।

इस बीच, विपक्षी दल भाजपा ने रविवार को कहा कि वह बजट सत्र के दौरान चुनाव में किए गए वादों को पूरा करने में राज्य सरकार की विफलता और किसानों से जुड़े मुद्दे उठाएंगे। राज्यपाल अनुसुइया उइके सत्र के पहले दिन सदन को संबोधित करेंगी। बजट सत्र का समापन एक अप्रैल को होगा।

... और पढ़ें
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

छत्तीसगढ़: भिलाई में 10वीं के छात्र ने की खुदकुशी, सुसाइड नोट ने पुलिस को उलझाया

भिलाई में 10वीं के एक छात्र की खुदकुशी और उसके पास से बरामद सुसाइड नोट ने पुलिस को उलझा कर रख दिया है। दरअसल 10वीं बोर्ड की परीक्षा देकर घर लौटे छात्र देव कुमार यादव (15) ने बाथरूम में फांसी लगाकर जान दे दी।

यह घटना शुक्रवार देर शाम को हुई। जामुल थाना प्रभारी लक्ष्मण कुमेठी ने बताया कि घटना के अगले दिन परिजन को उसके बैग से एक नोटबुक मिला, जिसमें किसी शर्त को पूरा करने के सवाल पर उसने खुद को काफी हिम्मत वाला लिखा था। इसी तरह एक पेज पर फंदे पर लटकने के अपने बनाए चित्र के नीचे जन्म तारीख लिखकर दस्तखत कर रखे थे। इस घटनाक्रम से पुलिस भी दुविधा में है।

जांच अधिकारी इस मामले में किसी अन्य के लिप्त होने से इनकार नहीं कर रहे। परिजनों के मुताबिक देव कंप्यूटर की परीक्षा देकर आया था और उसका परीक्षा अच्छा गया था। शाम तक वह परिवार के साथ बैठा रहा। इस बीच बाहर घूमने चला गया। शाम को पढ़ाई की बात कहकर कमरे में गया और रात करीब नौ बजे फांसी लगा ली। नोटबुक के आधार पर पुलिस को पहले ब्लू व्हेल गेम जैसा टास्क लगा, लेकिन घर के किसी मोबाइल या कंप्यूटर में गेम नहीं मिला। ऐसे में पुलिस किसी साथी द्वारा शर्त लगाने का अंदेशा जता रही है। पुलिस का कहना है कि फिलहाल सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए जांच जारी है।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ में अलग-अलग घटनाओं में सात लोगों की मौत, छह लोग घायल

एक अधिकारी ने बताया कि बस्तर के कोडेनार थाना क्षेत्र के अंतर्गत तीर्थम चौक पर एक ट्रैक्टर-ट्रॉली सड़क से फिसलकर पलट गई, जिसमें तीन महिलाएं समेत चार लोगों की मौत हो गई, जबकि छह अन्य लोग घायल हो गए।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह हादसा यहां से करीब 40 किलोमीटर दूर तीर्थम चौक पर उस वक्त हुआ जब पीड़ित कोडेनार गांव से वापस लौट रहे थे । पुलिस ने बताया कि घटना में चालक की भी मौत हो गयी।

मृतकों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और घायलों को एक स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने बताया कि एक अन्य दूसरी घटना में, चंदो-बलरामपुर मार्गपर बुधवार रात को एक ट्रक से एसयूवी के टकराने के बाद तीन युवकों की मौत हो गई और एक घायल हो गया।

ये सभी अमडांड गांव में एक शादी समारोह में शामिल होकर वापस लौट रहे थे।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: सरकारी अनदेखी के कारण पानी में डूबा घर, जल समाधि लेने को मजबूर परिवार

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिला मुख्यालय में एक परिवार प्रशासन की अनदेखी के कारण जल समाधि लेने को मजबूर हो गया है। परिवार के घर के बगल में मौजूद नाले को मिट्टी से पाट देने के कारण पूरा घर धीरे-धीरे डूबने की कगार पर पहुंच गया है। पीड़ित परिवार ने कई बार अधिकारियों से मदद की गुहार लगाई लेकिन प्रशासन से उन्हें कोई मदद नहीं मिली।

जिससे परेशान परिवार अब जल समाधि लेने की बात कर रहा है। जशपुर के जिलाधिकारी कार्यालय से महज 200 मीटर की दूरी पर पुष्पा यादव अपने परिवार के साथ रहती हैं। उनके घर के बगल में एक नाला था लेकिन नाले की जमीन को अपना बताकर एक शख्स ने उसे मिट्टी से पाटकर बंद कर दिया। जिसके बाद से नाले से बहने वाला पानी धीरे-धीरे उनके घर में घुस रहा है।

पिछले तीन महीनों से लगातार उनके घर में पानी घुसने की वजह से उनके घर में घुटने तक पानी भर गया है। सात सदस्यों का यह परिवार एक कमरे में नारकीय जीवन जीने को मजबूर है। पीड़ित परिवार का कहना है कि पानी भरने की वजह से उनके घर के अंदर सांप और बिच्छू आ जाते हैं और मकान गिरने की कगार पर पहुंच गया है। जिसके कारण उनकी जान को भी खतरा है।

परिवार ने नगर पालिका के लेकर सीएमओ सहित जिले के आला अधिकारियों से मिलकर समस्या के समाधान की बात की लेकिन आज तक उन्हें कोई मदद नहीं मिली है। जिससे परिवार अब जल समाधि लेने की बात कह रहा है। पुष्पा यादव का कहना है कि उनके पास कोई और जमीन नहीं है। यदि प्रशासन उनकी मदद नहीं करता है तो उनके पास जल समाधि के अलावा कोई विकल्प नहीं बचेगा।



इसपर जशपुर के जिलाधिकारी ने कहा, 'उन्होंने अपनी शिकायत दी है जिसके बाद हमने जशपुर के एसडीएम को वहां भेजा है। जिस जगह में वह रह रहे हैं वह कुछ निर्माण के कारण से निचली सतह वाला हो गया है। हम विचार कर रहे हैं कि क्या किया जा सकता है। पानी निकालने के लिए एक छोटा सा आउटलेट बनाया जाएगा।'
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: बीजापुर में सात नक्सली गिरफ्तार, आईईडी विस्फोट में शामिल होने का आरोप

जशपुर में एक घर के अंदर पानी घुस गया है
बीजापुर में सीआरपीएफ और जिला बल की संयुक्त टीम को मंगलवार को बड़ी सफलता हाथ लगी। संयुक्त टीम ने बीजापुर जिले से सात नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इनमें से चार नक्सलियों पर पिछले साल नवंबर में आईईडी विस्फोट में शामिल होने के आरोप हैं।

उन्होंने बताया कि सीआरपीएफ और जिला बल की एक टीम ने बसागुडा गांव के पास जंगल से इन नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि उइका शंभू (32), पूनेम बुधू (26), सेमला पोडिया (29) और पूनेम मोटू (22) ने पिछले साल 22 नवंबर को सारकेगुडा और तरेम गांवों के बीच आईईडी लगाकर विस्फोट किया था, जिससे एक जवान घायल हो गया था।

उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए तीन अन्य लोगों में उइका सुकमा (32), ओयम सोमलू (24) और डोडी आयटू (38) शामिल हैं। ये तीनों सुकमा तरेम में एक ग्रामीण की हत्या में संलिप्त थे।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: सुकमा जिले में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में दो कोबरा जवान घायल

छत्तीसगढ़ में सुकमा जिले के किस्ताराम में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ के दौरान दो कमांडो बटालियन फॉर रिजॉल्यूट एक्शन (कोबरा) के जवान घायल हो गए हैं। दोनों जवान 208 बीएन कोबरा के हैं। दोनों को हवाई मार्ग से इलाज के लिए रायपुर लाया गया है। 




पिछेल सप्ताह घायल हुआ सीआरपीएफ जवान शहीद
छत्तीसगढ़ के बीजापुर में पिछले हफ्ते नक्सली मुठभेड़ में घायल हुआ तीसरा सीआरपीएफ जवान अजीत कुमार सिंह शहीद हो गया। रायपुर स्थित नारायणा अस्पताल में उपचार के दौरान मंगलवार को उनकी सांसें थम गईं। जवान अजीत सिंह के छाती, पेट और रीढ़ की हड्डी में काफी गहरी चोट आईं थीं। अस्पताल में भर्ती के समय से ही स्थिति गंभीर बनी हुई थी।

सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के शहीद जवान अजीत कुमार सिंह राजस्थान के अलवर के रहने वाले थे। सोमवार रात ही उनका ऑपरेशन हुआ था, लेकिन अगले ही दिन अचानक तबीयत बिगड़ने से उनकी मौत हो गई। 

बीजापुर के पामेड़ क्षेत्र में 10 फरवरी को नक्सलियों की मौजूद होने की सूचना मिली थी। इस पर तिपापुराम कैंप से सीआरपीएफ जवान सर्चिंग के लिए निकले थे। इस दौरान जंगल में घात लगाए नक्सलियों ने हमला कर दिया। मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया, जबकि दो जवान विकास और पुनानंद शहीद हो गए थे।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: सीआरपीएफ के जवानों ने पांच किलो के आईईडी को किया निष्क्रिय

वृंदा करात ने सीएए पर उठाए सवाल, पूछा- अहमदिया और रोहिंग्या क्यों नहीं शामिल

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ जारी विरोध प्रदर्शनों के बीच माकपा नेता वृंदा करात ने इस कानून को भेदभाव और बांटने वाला करार दिया है। मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए उन्होंने पूछा कि सीएए में रोहिंग्या और अहमदिया मुसलमानों को शामिल क्यों नहीं किया गया, जबकि धार्मिक आधार पर उनका भी उत्पीड़न हो रहा है।

वृंदा ने कहा, अगर सरकार को पड़ोसी देशों में लोगों पर हो रहे अत्याचारों की इतनी ही चिंता है तो रोहिंग्या और अहमदिया को भी नए कानून में जगह देनी चाहिए थी। क्योंकि ये लोग भी अपने देश में अल्पसंख्यक हैं और उन्हें प्रताड़ना झेलनी पड़ रही है। नया नागरिकता कानून बांटने वाला और भेदभावपूर्ण है।

भारत के लिए यह दुखद है कि बाहरी ताकतों के स्थान पर केंद्र सरकार खुद ही संविधान को कमजोर करने और देश को बांटने में लगी है। माकपा नेता ने आरएसएस पर भी हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि 1950 में जब पूरे देश ने बाबा साहब आंबेडकर के नेतृत्व में बने संविधान का स्वागत किया था, तब केवल संघ उसका विरोध कर रहा था।

अपनी सोच पर शर्म करे सरकार: येचुरी 
जम्मू-कश्मीर में सोशल मीडिया यूजर्स पर मुकदमा दर्ज किए जाने के मामले में माकपा ने केंद्र की तीखी आलोचना की। माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने ट्वीट किया, ‘सरकार एक तरफ जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य होने का दावा कर रही है, दूसरी तरफ सोशल मीडिया के इस्तेमाल पर लोगों के खिलाफ पुलिस केस दर्ज कर रही है। जबकि इंटरनेट का इस्तेमाल लोगों का बुनियादी अधिकार है। सरकार को अपनी सोच पर शर्म आनी चाहिए।’
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ : नंदनवन में टूरिस्ट बस पर बाघ का हमला, वीडियो वायरल, दो कर्मचारी बर्खास्त

नंदनवन जंगल सफारी में घूमने के लिए आए पर्यटकों की बस पर एक बाघ के आक्रमण करने का वीडियो वायरल होने के बाद दो कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया गया है। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में बाघ टूरिस्ट बस का पीछा करता दिख रहा है। इन दोनों कर्मचारियों पर आरोप है कि उन्होंने इस घटना में सुरक्षा प्रोटोकॉल की अनदेखी की थी। बस के इंचार्ज फॉरेस्ट गार्ड को भी कारण बताओ नोटिस दिया गया है।

दरअसल शुक्रवार शाम को पर्यटकों का एक समूह जंगल सफारी में घूम रहा था। उन्होंने बस के अंदर बैठकर दो बाघों के बीच की लड़ाई का वीडियो बनाया। इसी दौरान एक बड़े बाघ ने बस की खिड़की पर लगे पर्दे पर झपट्टा मार दिया। इसके बाद वीडियो में घबराये पर्यटकों में से एक ने ड्राइवर से बस को तेज भगाने के लिए कहा। वीडियो में बाघ भी बस के पीछे बहुत दूर तक दौड़ता हुआ दिखाई दे रहा है।

जंगल सफारी की निदेशक एम. मर्सी बेला ने कहा कि वीडियो पर ध्यान देने के बाद हमने बस ड्राइवर ओमप्रकाश भारती और गाइड नवीन पुरैना को बर्खास्त कर दिया है। दोनों ने लापरवाही करते हुए सफारी के स्टेंडर्ड प्रोटोकॉल की अनदेखी की थी। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि यह वीडियो गाइड ने बनाया था। निदेशक का कहना है कि दोनों को जानवरों व पर्यटकों की सुरक्षा की ट्रेनिंग दी गई है। स्टेंडर्ड प्रोटोकॉल के तहत उन्हें बस को भगाने के बाद इंतजार करते हुए परिस्थिति के सामान्य होने का इंतजार करना चाहिए था।
... और पढ़ें

जब तक जातिवाद समाप्त नहीं होगा तब तक देश तरक्की नहीं कर सकता : बघेल

क्रांतिकारी अधिवक्ता संघ, पूर्वांचल दलित अधिकार मंच एवं एनिहिलेशन ऑफ कास्ट सोसाइटी के संयुक्त तत्वावधान में शुक्रवार को एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन विज्ञान परिषद में किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश कुमार बघेल ने कहा कि जब तक जातिवाद समाप्त नहीं होगा तब तक देश तरक्की नहीं कर सकता है। 

विशिष्ट अतिथि पूर्व आईएएस अधिकारी केसी सरोज ने कहा कि देश का संविधान खतरे में है। उसको बचाने के लिए सभी लोग मिलकर प्रयास करें और अपने घर में संविधान को पवित्र पुस्तक की तरह रखें। मुंबई से आए देवेंद्र यादव ने कहा कि निचले तबके को जागरूक होने की जरूरत है। यह तबका जागरूक होगा तो पाखंड और अंधविश्वास दूर होगा।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पी इस्टालिन, एनएनआईटी के प्रो. अजय भारतीय, पंजाब के आरके पाल, मुंबई के शिव शंकर यादव, महाराष्ट्र के राम भरोसे मौर्या, हृदय राम मौर्या, बशारद खान, कमलेश चौधरी, पूनम मौर्या, लाल प्रताप यादव, सुशील कुमार यादव, ओपी लाल, नाथू राम बौद्ध, कमला प्रसाद सिंह, ओमपाल सिंह, आशीष कुमार यादव, विनीता सरोज आदि ने अपनी बात रखी। संचालन इविवि प्रो. विक्रम और धन्यवाद ज्ञापन धीरेंद्र यादव ने किया। 
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us

विज्ञापन