लोकपथ से कांग्रेस को दूर धकेलता जनपथ ...!

Ajay Khemariyaअजय खेमरिया Updated Wed, 18 Sep 2019 08:18 AM IST
विज्ञापन
जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के निर्णय की कांग्रेस पार्टी ने आधिकारिक रूप से निंदा की।
जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के निर्णय की कांग्रेस पार्टी ने आधिकारिक रूप से निंदा की। - फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
कांग्रेस में कभी ऐसे थिंक टैंक काम किया करते थे जो पढ़ने लिखने वाले नेता हुआ करते थे। ये लोग पार्टी और सरकार को प्रमाणिकता के साथ मुद्दों की समझ विकसित करने के लिये इनपुट उपलब्ध कराते थे। आमतौर पर इस थिंक टैंक की सोच राष्ट्रीय हितों पर आधारित हुआ करती थी।
विज्ञापन

यह तुष्टीकरण की राजनीति से पहले का दौर था। पार्टी में पर्सनेलिटी कल्ट को अधिमान्यता मिलने के बाद भी इस टैंक का प्रभाव कांग्रेस की नीतियों पर साफ नजर आता था। लेकिन आज लगता है जनार्दन द्विवेदी, वीरप्पा मोइली जैसे कांग्रेसी 24 अकबर रोड से खदेड़ दिए गए हैं।
जम्मू कश्मीर पर पार्टी का आधिकारिक पक्ष बहुत ही चौंकाने वाला इसलिये नहीं है क्योंकि वर्तमान पार्टी में खुद के इतिहास को ही समझने औऱ देखने वाला कोई नहीं रह गया। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के निर्णय की कांग्रेस पार्टी ने आधिकारिक रूप से निंदा की।संसद के दोनों सदनों में उसके नेताओं ने मोदी सरकार के निर्णय  खिलाफ भाषण दिए। आज भी 370 के तकनीकी पक्षों पर कांग्रेस के तमाम दिग्गज सरकार के निर्णय को कटघरे में खड़ा करते रहते हैं।
राज्यसभा में उपनेता रहे देश के पूर्व वाणिज्य मंत्री आनंद शर्मा का एक ताजा बयान अखबारों में छपा है जिसमें उन्होंने देश के सर्वोच्च न्यायालय से 370 पर विचाराधीन याचिकाओं के माध्यम से तत्काल हस्तक्षेप की मांग की है। आनंद शर्मा यहीं नही रुके, उन्होंने न्यायालय पर 370 के मामले में संवैधानिक भूमिका के साथ न्याय न कर पाने का जिक्र किया है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us