Happy Father's Day 2020: पिता एक शब्द नहीं संसार है..!

Dr.Naaz Parveenडॉ. नाज परवीन Updated Sun, 21 Jun 2020 09:23 AM IST
विज्ञापन
पिता बच्चों को समाज और परंपराओं के कई दायरे में चलना सिखातेे हैंं।
पिता बच्चों को समाज और परंपराओं के कई दायरे में चलना सिखातेे हैंं। - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
स्वयं को हिटलर सा कठोर दिखाने की कोशिश हर भारतीय पिता की पहचान लगती है। जो बाहर से एक दम कठोर लेकिन भीतर से बेहद नरम दिल वाला। बुलंद आवाज के पीछे कंपन होते शब्द बच्चों को डपट देते हैं, ताकि वो जीवन में उन थपेडों को सहन कर सकें, जो समय-समय पर उनको मिलते रहेंगे, पिता के साथ भी और पिता के बाद भी।
विज्ञापन


पिता एक शब्द नहीं संसार है, जो बच्चों को समाज और परंपराओं के कई दायरे में चलना सिखाता है, मजबूत बनाता है, और सबसे खास बात कि कभी इसका श्रेय भी नहीं लेना चाहते। सारे काम करने के बाद श्रेय हमेशा मां को ही देना चाहते हैं।


पिता ऐसी शख्यियत है, जो सारी बुराई अपने सिर लेने को बेताब रहता है-वो हिटलर हैं, अनुशासित हैं, बच्चों को डांट-डपट लगाने की जिम्मेदारी लिए हुए है, सुबह-सवेरे नींद से जगाने की गलती उन्हें ही करनी है।

पढ़ाई-लिखाई पर सवाल उन्हें ही पूछकर डॉन बनना है, बच्चों को अपनी लाइफ में खुद से भी आगे ले जाने की जिम्मेदारी उन्हीं की है, बच्चों की सबसे बड़ी शिकायत पापा हमेशा हमारे पीछे पड़े रहते हैं....जैसी बातें खुद पर ही लेनी है।

बिना किसी डर के, यह सोचे बिना ऐसा करने से उनकी नकारात्मक छवि बच्चों के मन में बन सकती है। बारिकी से देखें तो पिता के इस सख्त रवैये से कितने बच्चे जीवन में सफल हो जाते हैं।

इसका अनुमान लगाना मुश्किल है। बच्चों को भी अपने पिता का यह हिटलर रूप तब समझ आता है, जब वो खुद पिता की जिम्मेदारी उठाते हैं। निसंदेह इस धरती पर मां का आंचल स्वर्ग है, तो पिता स्वर्ग का द्वार।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X