महाराष्ट्र में कांग्रेस की हार की वो असली वजह जिसे न सोनिया समझना चाहती और न राहुल 

Ajay Khemariyaअजय खेमरिया Updated Fri, 25 Oct 2019 07:01 AM IST
विज्ञापन
सवाल कांग्रेस की हार का फडणवीस की वापसी से भी बडा है क्योंकि महाराष्ट्र साधारण राज्य नही है कांग्रेस नेतृत्व की उर्वरा भूमि रहा है यह राज्य।
सवाल कांग्रेस की हार का फडणवीस की वापसी से भी बडा है क्योंकि महाराष्ट्र साधारण राज्य नही है कांग्रेस नेतृत्व की उर्वरा भूमि रहा है यह राज्य।

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
कांग्रेस महाराष्ट्र में चुनाव हार गई। वह राष्ट्रवादी कांग्रेस से भी पीछे चौथे नम्बर की पार्टी हो गई। असल में यह होना ही था सभी पूर्वानुमान इसकी मुनादी कर रहे थे। यूं तो 2014 से शुरू हुआ कांग्रेस का चुनावी राजनीति में पराजय का सिलसिला अब कतई  आश्चर्य  महसूस नही कराता है लेकिन महाराष्ट्र से लगातार दूसरी हार औऱ चौथा नम्बर विस्मयकारी है। इसके निहितार्थ कांग्रेस आलाकमान के स्तर पर तलाशे जाने ही चाहिये। क्योंकि महाराष्ट्र देश में कांग्रेस राजनीति का सबसे सशक्त शक्ति केंद्र रहा है।
विज्ञापन

अपने ही गढ़ में कांग्रेस के हारने के निहितार्थ
फड़नवीस से पहले सिर्फ एक बार ही यहां शिवसेना बीजेपी की सयुंक्त सरकार गैर कांग्रेस के नाम पर रही है यानी यह राज्य कांग्रेस का गढ़ रहा है। जिन परिस्थितियों में  इस बार एक नई उम्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने यहां गैर बीजेपी दलों को अप्रसांगिक करके रख दिया है वह सियासी जानकारों के लिए शोध का विषय है। इस जीत के लिए देवेंद्र फडणवीस अभिनंदन के अधिकारी हैं। सवाल कांग्रेस की हार का फडणवीस की वापसी से भी बडा है क्योंकि महाराष्ट्र साधारण राज्य नही है कांग्रेस नेतृत्व की उर्वरा भूमि रहा है यह राज्य। इसलिये आज यहां की हार को गहरे विश्लेषण की दरकार है।
महाराष्ट्र में कांग्रेस की हार 2019 की मोदी सुनामी के पूरे पांच महीने बाद हुई। क्या इस अवधि में कांग्रेस ने अपने पुनरुद्धार के लिए मोदी को कोसने के अलावा कुछ  ठोस काम करने  की कोशिशें की है?  इस पर ईमानदारी से आत्ममंथन की आवश्यकता है। संसदीय राजनीति में चुनावी हार जीत सामान्य अंतर्निहित घटनाक्रम होता है लेकिन लगातार यही हालात बने रहे तब इस सबसे बड़ी सियासी पार्टी के लिए उसके अस्तित्व पर सवाल उठना लाजिमी है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us