कोरोना वायरस से भारत की जंग: हेल्पलाइन नंबर पर समोसे और पान ऑर्डर कर रहे हैं लोग, थोड़ी तो शर्म कीजिए

Yogita Yadavयोगिता यादव Updated Fri, 03 Apr 2020 01:09 PM IST
विज्ञापन
यूपी पुलिस जी जान लगा रही है कुछ लोगों को मजाक सूूूझ रहा है।
यूपी पुलिस जी जान लगा रही है कुछ लोगों को मजाक सूूूझ रहा है। - फोटो : PTI
ख़बर सुनें

हेल्पलाइन संकट के समय में लोगों तक मदद पहुंचाने के लिए शुरू की जाती हैं, पर अगर इस पर भी आप पान और बीड़ी मंगवाने जैसे फर्जी कॉल कर रहे हैं, तो इससे साबित होता है कि हम मानसिक रूप से इतने दरिद्र हैं कि टीजिंग और मनोरंजन में फर्क करना भूल गए हैं। 

“जीतेगा भारत हारेगा कोरोना” के जज्बे के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपने ‘कोरोना कमांडो’ राज्य भर में उतार दिए हैं। दरअसल ‘कॉल 112’ पर उत्तर प्रदेश पुलिस के जवानों को ही कोरोना के समय में जरूरतमंदों की मदद के लिए उतार दिया गया है। एक दिनी जनता कर्फ्यू का आह्वान 22 मार्च को किया गया था। पर उससे पहले ही देशभर में सोशल डिस्टेंसिंग की जरूरत और कोरोना के संकट की भयावहता को महसूस किया जाने लगा था।

विज्ञापन

इसी संकट को पहचानते हुए 17 मार्च को कॉल 112 हेल्पलाइन के संदेश लोगों में प्रसारित किए जाने लगे। 24 मार्च के लॉकडाउन के बाद से उत्तर प्रदेश पुलिस के ये कोरोना कमांडो पूरी तरह से फॉर्म में आ गए। जब रात 11 बजे एक मजदूर का फोन आया कि उनके पास खाने को भोजन नहीं है। कोरोना कमांडोज न केवल पका हुआ भोजन बल्कि सप्ताह भर का राशन साथ लेकर वहां पहुंचे।
आप समझ सकते हैं दो दिन से भूखे किसी आदमी के लिए वही भगवान है जो उस तक भोजन पहुंचा दे। एनकाउंटर के कारण बदनाम हो चुकी उत्तर प्रदेश पुलिस का यह मानवीय चेहरा लोगों के पूर्वाग्रह तोड़ रहा है। जिससे वे उम्र भर डरते रहे, अब उन्हें अपनी सी लगने लगी है। 

विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us