विज्ञापन

लोकसभा चुनाव 2019: 1952 के दौर से वर्तमान की तुलना, नेताओं में व्यक्तिगत निष्ठा पहले

रामचंद्र गुहा Updated Sun, 21 Apr 2019 10:41 AM IST
विज्ञापन
फाइल फोटो
फाइल फोटो
ख़बर सुनें
हाल ही में मैं नई दिल्ली स्थित केंद्रीय अभिलेखागार में था, जहां 1951-52 में हुए पहले आम चुनाव से जुड़ी एक गोपनीय रिपोर्ट मैंने देखी। यह रिपोर्ट कमलनयन बजाज की लिखी हुई थी, जिनके पिता जमनालाल बजाज एक महान देशभक्त, परोपकारी और महात्मा गांधी के निकट सहयोगी थे। खुद कमलनयन एक सफल उद्यमी थे, जिनके कांग्रेस से बेहद आत्मीय संबंध थे। कांग्रेस ने राजस्थान के सीकर से उन्हें लोकसभा का टिकट दिया था। 
विज्ञापन
वह राम राज्य परिषद के प्रत्याशी के हाथों पराजित हुए, और उसके बाद उन्होंने आठ पृष्ठों की एक रिपोर्ट लिखी थी, जो पार्टी के सदस्यों के लिए थी। उस रिपोर्ट का शीर्षक था, 'आम चुनाव के साथ मेरे प्रयोग और राजस्थान से जुड़ी इसकी कुछ अनियमितताएं।' करीब 67 साल पहले लिखी गई वह रिपोर्ट आज भी उतनी ही शिक्षाप्रद है।

कमलनयन बजाज ने रिपोर्ट की शुरुआत ही 'कांग्रेस संगठन में दो समूहों की आपसी प्रतिद्वंद्विता से की, जिनमें एक समूह का नेतृत्व हीरालाल जी और दूसरे समूह का नेतृत्व वर्मा जी और व्यास जी कर रहे थे।' उन्होंने थोड़ी झल्लाहट के साथ लिखा था कि 'कांग्रेस के अंदर के ये दोनों प्रतिद्वंद्वी समूहों के लिए कार्यकर्ताओं की व्यक्तिगत निष्ठा पहले है और संगठन के प्रति निष्ठा उसके बाद।

नतीजतन वास्तविक तौर पर कई कुशल कार्यकर्ता नेपथ्य में धकेल दिए गए और कुछ ऐसे कार्यकर्ताओं को महत्व मिला, जिनका चरित्र संदिग्ध था और जिनका संगठन के प्रति कोई उल्लेखनीय काम भी नहीं था। 

नेताओं की अधिकांश ऊर्जा आपसी कलह और झगड़े में ही खत्म हो जाती थी। ऐसे में, संगठन को इसका नतीजा भुगतना पड़ा और वह सरकार और जनता के बीच पहले जैसा प्रभावी संपर्क नहीं रख सका। यहां तक कि सरकार के कुछ अच्छे और उपयोगी काम भी कुछ हद तक अप्रभावी रह गए, क्योंकि कांग्रेस उन कानूनों के बेहतर प्रभाव के बारे में जनता को बताने में विफल रही।'
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us