विज्ञापन
विज्ञापन
MyCity App MyCity App
विज्ञापन
नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा
Astrology Services

नवरात्र में कराएं कामाख्या बगलामुखी कवच का पाठ व हवन, पाएं कर्ज मुक्ति एवं शत्रुओं से छुटकारा

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

#LadengeCoronaSe: दसवीं के छात्र ने तैयार की COVID-19 ट्रैकिंग की मोबाइल एप, सीएम ने की लांच

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एक मोबाइल एप (उत्तराखंड कोविड19 ट्रेकिंग सिस्टम) लांच की है। यह एप एक दसवीं कक्षा क...

27 मार्च 2020

विज्ञापन
विज्ञापन

देहरादून

रविवार, 29 मार्च 2020

पारस कंपनी ने घटाए दूध के दाम, उपभोक्ताओं दी राहत

माई सिटी रिपोर्टर देहरादून। कोरना वायरस के इस महामारी में पारस दूध कंपनी ने अपने सभी प्रकार के दूध की वैरायटी के दामों में 4 रुपये तक की कमी की है। यही नहीं दही के 400 ग्राम के पैकेट में एक के साथ एक का आफर भी दिया है। कंपनी के एरिया सेल्स मैनेजर शितिज रस्तोगी ने बताया के यह कोरोना को देखते हुए कंपनी ने फैसला लिया है। जिससे कि उनके उपभोक्ताओं को राहत मिल पाए। ------ दून में 44000लीटर प्रतिदिन की खपत पारस दूध की दून में ही प्रतिदिन44000 लीटर दूध की खपत है । जबकि पूरे गढ़वाल में 51000 लीटर की खपत है। यानी दाम घटने से हजारों लोगों को फायदा होगा। ये हैं दाम दूध पहले अब फूल क्रीम , 58,54 डबल टोंड,46,42 टोंड, 48,44 हेल्थ मिल्क, 54,50 -- इसके अतिरिक्त कंपनी ने 400 ग्राम दही के साथ एक पैकेट फ्री का आफर दिया है। साथ ही 200 ग्राम के पैकेट में अतिरिक्त दही देने का दावा किया है। ... और पढ़ें

व्यापार, सर्राफा मंडल ने बांटी सामग्री:

जोड़,, व्यापार, सर्राफा मंडल ने बांटी सामग्री: दून उद्योग व्यापार मंडल, सर्राफा मंडल, दुख निवारण साहिब नेहरू कॉलोनी की ओर से बड़े स्तर पर लोगों की मदद की गई। खाद्य सामग्री के पैकेट, खाना मुहैया कराया। कुल 1500 लोगों की मदद की। सर्राफा मंडल अध्यक्ष सुनील मेसोन ने कहा कि लोगों को चावल, आटा, चीनी, चाय पत्ती, आलू, प्याज बांटा गया। सुखमनी साहिब सेवा सोसायटी प्रेमनगर ने भी लोगों को खाना बांटा। स्वयंसेवक हरीश कुकरेजा, प्रवीण कुकरेजा ने भी अपने स्तर पर मदद की। लोगों को किया जागरूक:: मनुर्भाव संस्था की ओर से कई मलिन बस्तियों में जरूरतमंद लोगों को राशन सामग्री बांटी। साथ ही उन्हें हाथों को लगातार सेनिटाइज करने व आपस मे दूरी बनाने को जागरूक किया। इस दौरान संस्थापक डॉ. गिरिबाला जुयाल, ग्राम प्रधान मुनीश, बिंदिया, नक्षी, अक्षी बड़थ्वाल, अक्षी, श्वेता, अंकुश भट्ट, सरिता कोटनाला व कई अन्य थे। घर-घर पहुंचाई मदद: उत्कर्ष संस्था की ओर से भी जरूरतमंद लोगों को राशन पहुंचाया गया। संस्था अध्यक्ष शिल्पी शर्मा ने कहा कि लोगों को हर तरह की मदद की जा रही है। साथ ही लोगों को कोरोना महामारी को लेकर जागरूक किया जा रहा है। इस दौरान उपाध्यक्ष अनुशा राव, कोषाध्यक्ष गुलशाना अंसारी शामिल रहे। 225 लोगों को खिलाया खाना: वैष्णो सेवा समिति की ओर से 225 लोगों को भोजन खिलाया गया। अरुण खरबंदा के नेतृत्व में मदद की गई। एक मरीज को रक्तदान भी किया। जौनसार-बावर क्षेत्र के छात्रों की मदद के लिए होटल माधो निवास में निशुल्क खाने की व्यवस्था की गई है। चंद्रमोहन बिजल्वाण ने कहा कि जिन छात्रों को मदद चाहिए वे 8979131111 हेल्पलाइन नम्बर पर मदद मांग सकते हैं। भंडारे में सोशल डिस्टेंसिंग का रखा ध्यान:: जगतबन्धु सेवा ट्रस्ट की ओर से रायपुर रोड स्थित अम्बेडकर कॉलोनी में शनिवार को भव्य भंडारे का अयोजन किया गया, जिसमे सोशल डिस्टेंसिंग का खास ध्यान रखा गया। लोगों को कोरोना वायरस को लेकर भी जागरूक किया। जरूरतमंद लोगों को राशन के पैकेट भी पहुंचाए गए। इस दौरान सुमित कुमार, गणेश चन्द्र,अंकित प्रजापति, सार्थक आदित्य, कार्तिक, आनन्द गुप्ता शामिल रहे। आरिफ खान, धर्मेंद्र ठाकुर, जहांगीर आलम, मो.शाहनजर, अब्दुल सत्तार, सुमित कुमार ने भी हिस्सा लिया। पुलिस, नगर निगम कर्मियों की सेवा की:: विचार एक नई सोच सामाजिक संगठन, चौखंभा मेडिकोज, डीआर फार्मा की ओर से मिलकर अभियान चलाया गया। इसमें पुलिस, अस्पताल, नगर निगम कर्मियों की मदद की गई। उन्हें मास्क व सेनिटाइजर दिए गए। साथ ही फ्रूट जूस पिलाया। संस्था संरक्षक राकेश बिजल्वाण के नेतृत्व में अभियान चलाया। ... और पढ़ें

बेखौफ शिकारियों ने किया दुर्लभ प्रजाति के पैंगोलिन, पार्कोलिन का शिकार, अधपका मांस किया बरामद

कोरोना वायरस के खौफ के बीच बेखौफ शिकारियों द्वारा दुर्लभ प्रजाति के पैंगोलिन व पार्कोलिन जैसे दुर्लभ प्रजाति के वन्यजीवों का शिकार किए जाने का मामला सामने आया है। अधिकारियों को मिली गोपनीय सूचना के आधार पर विभागीय टीम ने राजधानी के मोथरोवाला सपेरा बस्ती में औचक छापा मारकर दोनों वन्यजीवों का पका अधपका मांस बरामद कर लिया। जबकि आरोपी शिकारी दबिश दे रही रेस्क्यू टीम को चकमा देकर फरार हो गया। प्रभागीय वन अधिकारी राजीव धीमान ने बताया कि आरोपी शिकारी के खिलाफ वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है उसकी धरपकड़ के लिए दबिश दी जा रही है। प्रमुख वन संरक्षक जयराज को गोपनीय जानकारी मिली कि शिकारियों ने वन क्षेत्रों में जाकर पैंगोलिन (सल्लू सांप) व पार्कोलिन (साही) जैसे दुर्लभ प्रजाति के वन्यजीवों का शिकार कर लिया है और उसका मांस पका रहें हैं । सटीक जानकारी मिलने के साथ ही प्रमुख वन संरक्षक जयराज ने प्रभागीय वन अधिकारी देहरादून राजीव धीमान को कार्रवाई करने को कहा । आखिरकार आशारोड़ी के वन क्षेत्राधिकारी नत्थी लाल डोभाल की अगुवाई में विभागीय टीम ने मोथरोवाला सपेरा बस्ती में आरोपी शिकारी राकेश नाथ के घर पर औचक छापा मारा। हालांकि छापामार कार्रवाई से पहले आरोपी राकेश नाथ पुत्र किशन नाथ मौके से फरार हो गया जबकि टीम ने पैंगोलिन व पार्कोलिन का मांस बरामद कर लिया। प्रभागीय वन अधिकारी राजीव धीमान ने बताया कि आरोपी के घरसे कछुआ भी बरामद किया गया है। राकेश नाथ के खिलाफ वन्य जीव संरक्षण के अधिनियम की धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया गया है उसकी धरपकड़ के लिए दबिश दी जा रही है जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। ... और पढ़ें

Uttarakhand Lockdown: 31 मार्च को दूसरे जिलों में आवाजाही की छूट, चलेंगी रोडवेज बस और प्राइवेट वाहन

राज्य सरकार लॉकडाउन में 31 मार्च को जनता को बड़ी राहत देने जा रही है। सुबह सात बजे से रात आठ बजे तक एक जिले से दूसरे जिले में जाने की सुविधा दी जाएगी। इस दौरान रोडवेज की बसों के अलावा अन्य निजी दुपहिया और चौपहिया वाहन भी चल सकेंगे।

यह व्यवस्था केवल राज्य के भीतर यातायात के लिए रहेगी। लॉकडाउन के शेष दिनों में सुबह सात से दोपहर एक बजे तक के दौरान ही आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए लोग घरों से निकल पाएंगे।  मुख्यमंत्री की उच्च अधिकारियों के साथ हुई बैठक में लॉकडाउन को लेकर विस्तार से चर्चा हुई।

दिन में आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए तय समय अवधि से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सहित अन्य उच्च अधिकारी संतुष्ट हैं। जिलों से आई रिपोर्टों में राहत अवधि को सोशल डिस्टेंसिंग के मुफीद माना गया है।
... और पढ़ें
त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, मुख्यमंत्री

Coronavirus : उत्तराखंड में सामने आया कोरोना का छठवां केस, 18 मार्च को दुबई से लौटा था युवक

उत्तराखंड में कोरोना वायरस का एक और पॉजिटिव मामला सामने आया है। दुबई से लौटा दून का एक युवक कोरोना वायरस से ग्रसित पाया गया है। मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी की जांच रिपोर्ट में युवक का सैंपल पॉजिटिव मिला है। संक्रमित युवक को दून अस्पताल के आईसोलेशन में भर्ती करने के साथ ही उसके परिवार के चार सदस्यों को भी निगरानी में रखा गया है।



दून निवासी एक युवक दुबई से लौटा था। तेज बुखार आने पर 18 मार्च को उसे श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल की ओपीडी में जांच के लिए लाया गया था। कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षणों के आधार पर युवक का सैंपल 26 मार्च को जांच के लिए मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी भेजा गया था। सैंपल जांच में युवक में कोरोना वायरस होने की पुष्टि हुई है। संक्रमित युवक के परिवार के चार सदस्यों को भी निगरानी के लिए क्वारंटीन किया गया है। हालांकि किसी
भी सदस्य में कोरोना वायरस के संदिग्ध लक्षण नहीं मिले हैं।

इधर प्रदेश में अब तक कोरोना के छह मामले सामने आ चुके हैं। इनमें से एक संक्रमित ट्रेनी आईएफएस के स्वास्थ्य में सुधार होने के बाद उसे घर भेज दिया गया है। जबकि चार संक्रमित मरीजों का दून अस्पताल और एक का कोटद्वार में इलाज चल रहा है।
... और पढ़ें

Uttarakhand Lockdown: अब होम क्वारंटीन लोगों के घर के आगे लगेगा बोर्ड

स्पेन से दुगड्डा लौटे युवक के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद उसके और उसके परिजनों के संपर्क में आए लोगों की सूची प्रशासन ने तैयार कर ली है। इसके तहत दुगड्डा और कोटद्वार के तीन अन्य लोगों को होम क्वारंटीन कर दिया गया है।

अब कोटद्वार में क्वारंटीन लोगों की संख्या बढ़कर 17 हो गई है, जिसमें छह लोग क्वारंटीन सेंटर जबकि 11 लोग होम क्वारंटीन किए गए हैं। इन सभी लोगों की नियमित निगरानी के लिए प्रशासन की ओर से वरिष्ठ अधिकारियों की टीम गठित की गई है। साथ ही होम क्वारंटीन लोगों के घर के आगे सूचना बोर्ड भी लगाया जाएगा।

स्पेन से गत 17 मार्च को दुगड्डा अपने घर लौटे 26 वर्षीय युवक को पीएचसी दुगड्डा में प्रारंभिक जांच करने के बाद गत 19 मार्च को बेस अस्पताल कोटद्वार में भर्ती कराया गया था। 25 मार्च को हल्द्वानी से आई रिपोर्ट में युवक कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। इसके बाद उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करते हुए उसके माता, पिता, बहन, काम वाली बाई, चाचा, ताऊ को कण्वाश्रम स्थित क्वारंटीन सेंटर भेज दिया गया।

युवक के उपचार करने वाले तीन डॉक्टर, चार नर्स और दो सफाई कर्मियों को भी स्वास्थ्य विभाग ने होम क्वारंटीन कर दिया था। इसके बाद प्रशासन ने युवक के संपर्क में आए दुगड्डा और कोटद्वार के 2 अन्य लोगों को चिह्नित करते हुए उन्हें भी होम क्वारंटीन करने के निर्देश दिए। बेस अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. वीसी काला ने बताया कि क्वारंटीन लोगों की निगरानी के लिए बनी टीम को अलर्ट कर दिया गया है।

चमोली में विदेशों से पहुंचे 29 लोग होम क्वारंटीन

चमोली जिले में विदेश से पहुंचे 56 लोगों में से 29 को होम क्वारंटीन किया गया है, जबकि 27 लोगों के होम क्वारंटीन की अवधि 28 दिन होने के कारण उन्हें निगरानी से बाहर कर दिया गया है। जिले में देश के विभिन्न जिलों से लगभग 1800 लोग पहुंचे। सीएमओ डा. केके सिंह ने बताया कि आठ लोगों को स्वास्थ्य विभाग की ओर से कर्णप्रयाग और कालेश्वर में क्वारंटीन किया गया है। जिले में स्थिति पूरी तरह काबू में है।
... और पढ़ें

Uttarakhand Lockdown:  चंडीगढ़ से पैदल भूखे प्यासे लौट रहे मजदूरों पर बदमाशों का कहर

कोरोना वायरस के चलते रोजी रोटी छिनने के बाद चंडीगढ़ से भूखे-प्यासे पैदल गोरखपुर जा रहे चार मजदूरों के साथ सहारनपुर जिले में बदमाशों ने लूटपाट कर दी। हथियार दिखाकर बदमाशों ने उनके पास रखी दो हजार की नकदी लूट ली और फरार हो गए। किसी तरह पीड़ित मजदूर भगवानपुर की काली नदी चौक पर पहुंचे।

यहां उत्तराखंड की ‘मित्र पुलिस’ ने अपने स्लोगन को चरितार्थ करते न केवल मजदूरों को खाना खिलाया बल्कि तेल के टैंकर से निशुल्क गोरखपुर जाने की व्यवस्था भी कर दी। गोरखपुर निवासी रामधन, सुरेश कुमार, जनार्दन लाल और धर्मदास चंडीगढ़ स्थित एक फैक्टरी में मजदूरी करते थे। लॉकडाउन होने के कारण फैक्टरी मालिक ने उनको बाहर निकाल दिया।

रोजी रोटी का संकट खड़ा होने के बाद उन्हें केवल घर दिखाई दे रहा था। उन्होंने बताया कि घर आने के लिए कोई साधन नहीं मिला तो पैदल ही गोरखपुर के लिए निकल पड़े। शनिवार रात जैसे ही उन्होंने सहारनपुर जिले में प्रवेश किया तो रास्ते में दो बदमाशों ने हथियारों के बल पर रोक लिया।

बदमाशों ने उनसे दो हजार की नगदी लूट ली और विरोध करने पर मारपीट कर फरार हो गए। तड़के करीब चार बजे वे भगवानपुर क्षेत्र की काली नदी पुलिस चौकी पर पहुंचे। यहां पुलिस को अपनी आपबीती बताते समय पीड़ित मजदूर रोने लगे और कहा कि भूखे पेट पैदल चला नहीं जा रहा है।

चौकी प्रभारी प्रदीप रावत ने पुलिस कर्मचारियों से खाना तैयार कराया और चारों मजदूरों को खाना खिलाया। इसके बाद एक तेल के टैंकर पर बैठाकर उनको गोरखपुर भेजा दिया। एसआई प्रदीप रावत ने बताया कि रात में चारों मजदूरों को सहारनपुर जिले में लूट लिया गया था। उन्हें पुलिस चौकी पर खाना खिलाकर भेजा गया है।
... और पढ़ें

उत्तराखंड : हिमखंड से चांगथांग में गंगोत्री हाईवे अवरुद्ध, बीआरओ की टीम काटने में जुटी

प्रतीकात्मक तस्वीर

Uttarakhand Lockdown: घर में पिता की मौत, दोनों लड़के दिल्ली में फंसे, सांसद की मदद से पहुंचे घर

घर में पिता की मौत हो गई। लॉकडाउन के कारण दोनों लड़के दिल्ली से घर वापस नहीं लौट पा रहे थे। ऐसे में सांसद अजय टम्टा मददगार बनकर सामने आए। सांसद ने मृतक के दोनों लड़कों और बहू को घर भेजने में मदद की। शनिवार को घर पहुंचकर पुत्रों ने पिता का अंतिम संस्कार किया।

मिली जानकारी के अनुसार जिले के गांसी गांव निवासी मानी राम (70) की शुक्रवार शाम करीब 4 बजे मृत्यु हो गई थी। मृतक के दोनों लड़के प्रताप कुमार और गणेश राम दिल्ली में निजी कंपनी में नौकरी थे। परिजनों ने लड़कों को मानी राम का निधन होने की सूचना दी, लेकिन दोनों पुत्रों और उनके साथ रह रही मृतक की बहू कलावती देवी के सामने घर लौटने की समस्या पैदा हो गई।
... और पढ़ें

Uttarakhand Lockdown: शांतिपूर्वक बीता दिन, नहीं उमड़ी भीड़, लोगों ने किया सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

रुड़की : हाईवोल्टेज के चलते बीएसएनल एक्सचेंज जलकर राख, 50 हजार मोबाइल बने शोपीस

कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई के बीच शुक्रवार देर रात आग लगने से बीएसएनएल का मलकपुर चुंगी स्थित टेलीफोन एक्सचेंज जलकर राख हो गया। इससे शहर से देहात तक बीएसएनएल के 50 हजार मोबाइल, 2500 लैंडलाइन व ब्राडबैंड कनेक्शन ठप हो गए हैं। आग से एक करोड़ रुपये की मशीनें और अन्य सामान जलने की आशंका जताई जा रही है।

उम्मीद है कि मोबाइल सेवा तो जल्द बहाल कर ली जाएगी जबकि लैंडलाइन और ब्राडबैंड सेवा सुचारु होने में 15 से 20 दिन लग सकते हैं। जानकारी के मुताबिक, बीएसएनएल के टेलीफोन एक्सचेंज के अंडरग्राउंड केबल में
तेज वोल्टेज आने से रात करीब आठ बजे भीषण आग लग गई। सूचना मिलते ही बीएसएनएल अधिकारी मौके की ओर दौड़ पड़े।

कुछ देर बाद फायर ब्रिगेड की गाड़ी भी मौके पर पहुंची, लेकिन तब तक पूरा एक्सचेंज जलकर राख चुका था। सारी मशीनें जलने से रात में बीएसएनएल के 50 हजार मोबाइल ठप हो गए। इसके अलावा 1500 लैंडलाइन कनेक्शन और ब्राडबैंड भी ठप हो गए।

आग लगने से शहर के साथ-साथ देहात क्षेत्र के लक्सर, भगवानपुर, झबरेड़ा, नारसन, मंगलौर में भी बीएसएनएल के लैंडलाइन और मोबाइल फोन ठप पड़ गए। बीएसएनएल के मंडल इंजीनियर विवेक कुमार ने बताया कि पूरा एक्सचेंज जलकर राख हो गया है।
... और पढ़ें

Uttarakhand Lockdown: 24 घंटे में पकड़े गए 183 लोग, लॉकडाउन के उल्लंघन पर पुलिस की कार्रवाई जारी

उत्तराखंड में अब तक कोरोना के छह पॉजिटिव केस सामने आए हैं। जिसमें से एक ट्रेनी आईएफएस सही हो गया है। उसे शुक्रवार को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। अब पांच संक्रमित मरीज दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं।

आज दिनभर की अपडेट:

- लॉकडाउन के उल्लंघन को लेकर पुलिस की कार्रवाई जारी है। 24 घन्टे में 183 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव को लागू लॉकडाउन के उल्लघंन के आरोप में 183 लोगों की गिरफ्तारी की गई। प्रदेश में 308 अभियोगों में 1711 लोग पकड़े गए हैं। एमवी एक्ट के तहत अब तक  27,85,520 रूपये का संयोजन शुल्क वसूला गया है। डीजी अपराध अशोक कुमार ने कहा कि लोग लॉकडाउन का पालन करें, पुलिस  को कार्रवाई के लिए मजबूर ना करें।

- शनिवार को देहरादून जिला प्रशासन ने शहर के विभिन्न दुकानों पर छापा मारा और ओवर रेटिंग पकड़ी इस दौरान पांच दुकानों का चालान किया गया। पिछले 22 मार्च से चल रहे लॉकडाउन के चलते जिले में राशन और अन्य खाद्य सामाग्री ज्यादा कीमतों पर बेची जा रही है। दुकानदार बाजार में आवश्यक चीजों की कमी बताकर लोगों से मनमाने दाम वसूल रहे थे। इस प्रकार की शिकायतें लगातार सामने आने लगी थी।

शनिवार को जिलाधिकारी के निर्देश के बाद जिलापूर्ति अधिकारी ने टीमों का गठन कर शहर के विभिन्न क्षेत्रों में दुकानों पर छापा मारा। तपोवन, नालापानी चौक, डीएवी चौक,आढ़त बाजार में छापेमारी के दौरान टीम ने कई खामियां पकड़ी। जिसके बाद जिलापूर्ति विभाग की टीम ने इन दुकानों का ओवर रेंटिग में चालान कर दिया और दुकानदारों को सख्त निर्देश दिए कि अगर ओवररेटिंग की तो उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सख्त कार्रवाई की जाएगी। जिलापूर्ति अधिकारी जसवंत सिंह कंडारी ने कहा कि शहर में ओवररेटिंग के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जाएगी। जो भी  दुकानदार ओवररेटिंग करते हुए पाया गया उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

- ट्रेनी आईएएस अधिकारी जरूरतमंदों की मदद के लिए सड़कों पर उतरे। कोरोना वायरस से निपटने के लिए पूरे देश को लॉकडाउन किया गया है। जिसके बाद दिहाड़ी मजदूरी करने वाले लोगों को खाने-पीने का संकट उत्पन्न हो गया है। जिसे देखते हुए शनिवार को एसडीएम वरुण चौधरी के नेतृत्व में भाजपा और व्यापार मंडल के साथ कई ट्रेनी आईएएस अफसरों ने भी गरीब मजदूरों को राशन बांटा।

ट्रेनी आईएएस नंदिनी, राज, राहुल, मयंक, ललित गोयल, डा. नेहा यादव व आईएसएस ट्रेनिंग की शिक्षक भावना पोरवाल ने कहा कि इस समय देश संकट में है और ऐसे में सभी लोगों की जिम्मेदारी है कि वह सरकार और प्रशासन का सहयोग करें।

- देहरादून के होटल और सेलाकुई में कुछ दिन रहे विदेशी युवक की नोएडा में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम उक्त होटल में रहे लोगों और सेलाकुई में उक्त युवक से मिले लोगों की सूची बना रही है। जिसके बाद इन सभी की जांच होगी और इन्हें क्वारंटीन किया जाएगा।

- उत्तराखंड में कोरोना वायरस से ग्रसित एक और मरीज मिला है। जिसके बाद अब राज्य में कोरोना के छह पॉजिटिव मामले हो गए हैं। जिनमें से एक मरीज सही हो चुका है। जानकारी के मुताबिक उक्त युवक देहरादून का रहने वाला है और 18 मार्च को दुबई से लौटा था। 

- लॉकडाउन के कारण मुर्गी का दाना उपलब्ध ना होने से पोल्ट्री फार्मिंग करने वालों के सामने भारी परेशानी आन पड़ी है। ऊधम सिंह नगर  के शक्तिफार्म के एक किसान ने करीब 8000 मुर्गियों को दाने के अभाव में बाहर खुले में छोड़ दिया।

- दिल्ली से चंपावत आ रही रोडवेज बस में सवार एक नेपाली यात्री की कोरोना वायरस की रिपोर्ट निगेटिव आई है। ये यात्री 23 मार्च को जिले की सीमा जगबुड़ा में दो बसों में 63 अन्य मुसाफिरों के साथ पहुंचा था। तब जगबुड़ा में हुई स्क्रीनिंग में दोनों बसों के एक-एक यात्री को हल्का बुखार पाया गया था। शुरुआती लक्षण के बाद एसीएओ डॉ. एचएस हयांकी ने इस नेपाली की स्लाइड जांच तीन दिन पूर्व हल्द्वानी सुशीला तिवारी अस्पताल भेजी थी। डीएम सुरेंद्र नारायण पांडेय ने बताया कि जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। मगर नेपाली व्यक्ति को अभी भी 14 दिन के क्वारंटीन में टनकपुर में रखा जाएगा। जबकि बकाया 63 यात्रियों को उनके घरों को भेज दिया गया है। जहां उन्हें भी होम क्वारंटीन में रहने की हिदायत दी गई है और इसकी जानकारी उनके क्षेत्रों की आशा व आंगनबाड़ी वर्कर्स को दे दी गई है।

- आज बाजारों में पूरी तहर सन्नाटा दिखाई दिया। लोग घरों से नहीं निकले। दोपहर एक बजे दुकानें बंद करने के आदेश थे, लेकिन उससे पहले ही सड़कें वीरान हो गई।

- पास बनवाने के लिए देहरादून कलेक्ट्रेट में काफी भीड़ पहुंची है। यहां मारामारी का आलम है। यहां लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं। मसूरी झील क्षेत्र में मजदूरी करने वाले पैदल ही बनारस के लिए चल दिए।
 
... और पढ़ें

वन निगम के पास पर्याप्त जलौनी लकड़ी

वन विकास निगम के गोदामों में पर्याप्त जलौनी लकड़ी उपलब्धता के आदेश कोरोना वायरस के मद्देनजर प्रबंध निदेशक ने सभी गोदाम प्रभारियों को जारी किया आदेश बीपीएल परिवारों में किसी व्यक्ति की मौत पर दाह संस्कार के लिए मुफ्त कराई जाएगी लकड़ी माय सिटी रिपोर्टर देहरादून दुनिया के अन्य देशों इटली, अमेरिका, स्पेन, चाइना व ईरान जैसे हालात देश व उत्तराखंड में नहीं है लेकिन भविष्य में कोरोना वायरस के चलते मौतों का आंकड़ा बढ़ता है तो मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी की कमी ना हो इसके लिए वन विकास निगम ने अभी से ही तैयारियां तेज कर दी हैं। प्रबंध निदेशक मोनीष मल्लिक की ओर से सभी अधिकारियों को आदेश जारी किए गए हैं कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में स्थित गोदामों में जलौनी लकड़ी की पर्याप्त व्यवस्था कर ले ताकि भविष्य में किसी भी प्रकार की दिक्कत ना आए । प्रबंधन निदेशक मल्लिक ने बताया कि बीपीएल परिवार में किसी भी व्यक्ति की मौत होने पर उसके अंतिम संस्कार के लिए मुफ्त लकड़ी वन विकास निगम से मुहैया कराई जा रही है बीपीएल परिवार पास स्थित किसी भी गोदाम में जाकर वैध परिचय पत्र दिखाकर मुफ्त में लकड़ी ले सकता है ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer


हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर और व्यक्तिगत अनुभव प्रदान कर सकें और लक्षित विज्ञापन पेश कर सकें। अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।
Agree
Election
  • Downloads

Follow Us