विज्ञापन
विज्ञापन
आज ही जानें कुंडली में मंगल योग, बनवाएं फ्री जन्मकुंडली
astrology

आज ही जानें कुंडली में मंगल योग, बनवाएं फ्री जन्मकुंडली

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

NEET 2020 Result: सामान्य परिवारों के बच्चों ने मचाया धमाल, हालातों से लड़कर अब बनेंगे डॉक्टर

हालात कैसे भी हों, मन में डॉक्टर बनने की ख्वाहिश हुई। इस सपने को पूरा करने के लिए जी जान से जुट गए। शुक्रवार को नीट के नतीजे आए तो यह होनहार भी अगली ज...

17 अक्टूबर 2020

विज्ञापन
Digital Edition

Corona in Uttarakhand: दो महीने बाद एक दिन में मिले सबसे कम 241 संक्रमित, 13 मरीजों की मौत

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों की रफ्तार थमने से थोड़ी राहत मिली है। दो महीने के बाद एक दिन में सबसे कम 241 संक्रमित मिले हैं। वहीं, 376 मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। कुल संक्रमितों की संख्या 58601 हो गई है। 

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, प्रदेश में बीते 24 घंटे में 14035 सैंपल की जांच की गई। इसमें 13794 सैंपल निगेटिव पाए गए। प्रदेश में संक्रमण की रफ्तार थमने से स्वास्थ्य विभाग को थोड़ी राहत मिली है।


19 अगस्त को एक दिन में 264 संक्रमित मामले सामने आए थे। इसके बाद से लगातार संक्रमितों की रफ्तार बढ़ी। दो माह के बाद मंगलवार को सबसे कम 241 संक्रमित मिले हैं। देहरादून जिले में 90, हरिद्वार में 37, नैनीताल में 23, अल्मोड़ा में 20, उत्तरकाशी में 18, पिथौरागढ़ में 15, ऊधमसिंह नगर में आठ, पौड़ी व चमोली में सात-सात, चंपावत व टिहरी में छह-छह, रुद्रप्रयाग में तीन और बागेश्वर जिले में एक कोरोना मरीज मिला। 

यह भी पढ़ें: 
Coronavirus in Uttarakhand : हल्द्वानी एसटीएच में बनेगा 220 बेड का नया कोविड अस्पताल

वहीं, प्रदेश में 13 मरीजों की मौत हुई है। इसमें एम्स ऋषिकेश में छह, हिमालयन हॉस्पिटल में तीन, इन्दिरेश हॉस्पिटल में दो, कैलाश हॉस्पिटल में एक और सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज में एक मरीज ने दम तोड़ा है। मरने वालों की संख्या 946 हो गई है।  
... और पढ़ें

उत्तराखंड से लगी चीन सीमा पर चेतक हेलीकॉप्टर से पहुंचे वायुसेना के अधिकारी, लिया व्यवस्थाओं का जायजा 

उत्तराखंड का चिन्यालीसौड़ हवाई अड्डा भारतीय सेना का अस्थायी कैंप बना हुआ है। मंगलवार को वायुसेना के दो चेतक हेलीकॉप्टर हवाई अड्डे पहुंचे। इनमें आए वायुसेना के अधिकारियों ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

उत्तरकाशी जिले की करीब सवा सौ किमी सीमा चीन के साथ लगती है। यहां बॉर्डर की अग्रिम चौकियों पर आईटीबीपी के हिमवीर और सेना के जवान मुस्तैदी के साथ निगरानी कर रहे हैं। सेना के जवान सीमा से सबसे नजदीकी एयर बेस चिन्यालीसौड़ हवाई अड्डे में तैनात हो गए हैं।


यह भी पढ़ें: 
चीन से तनातनी के बीच चिन्यालीसौड़ एयरपोर्ट को अपना प्रमुख बेस कैंप बनाने में जुटी भारतीय सेना

मंगलवार को वायुसेना के दो चेतक हेलीकॉप्टर प्रयागराज एयरबेस से चिन्यालीसौड़ हवाई अड्डे पर पहुंचे। इनमें आए वायुसेना की छह सदस्यीय टीम ने यहां इमर्जेंसी ऑपरेशन के लिए व्यवस्थाओं का जायजा लिया।
... और पढ़ें

Coronavirus: उत्तराखंड को एक करोड़ से ज्यादा कोरोना वैक्सीन की होगी जरूरत, टास्क फोर्स का गठन

उत्तराखंड की कुल आबादी के हिसाब से उत्तराखंड की एक करोड़ से ज्यादा कोरोना वैक्सीन की मांग रहेगी। पहले चरण में केंद्र से वैक्सीन की उपलब्धता के आधार पर पहली प्राथमिकता कोरोना वारियर्स की रहेगी।

वैक्सीन के वितरण और कोल्ड चेन प्रबंधन के लिए सरकार ने राज्य, जिला और ब्लाक स्तर पर टास्क फोर्स का गठन कर लिया है। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य स्तरीय और जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया गया है। 

यह भी पढ़ें: 
Corona in Uttarakhand: दो महीने बाद एक दिन में मिले सबसे कम 241 संक्रमित, 13 मरीजों की मौत

मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने कोरोना वैक्सीन के वितरण और प्रबंधन के लिए टास्क फोर्स गठित करने के आदेश जारी किए हैं। टास्क फोर्स की निगरानी में टीके के रखरखाव, वितरण व कोल्ड चेन की व्यवस्था की जाएगी। केंद्र की ओर से जारी दिशा-निर्देशों पर स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों को पत्र भेज कर कोविड महामारी से जंग लड़ रहे कोरोना वारियर्स का डाटा मांगा है।

जिसमें प्रत्येक हेल्थ वर्कर, अन्य कोरोना वारियर्स का नाम, आधार नंबर, मोबाइल नंबर पोर्टल पर देना होगा। पहले चरण में कोरोना वारियर्स का डाटा तैयार होने के बाद केंद्र को भेजा जाएगा। अगले साल तक कोरोना का टीका मिलने की उम्मीद है। 
... और पढ़ें

उत्तराखंड: भाजपा से जुड़ी ये तीन महिलाएं बनीं राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष, मिला राज्यमंत्री का दर्जा

प्रदेश सरकार ने भाजपा की तीन नेताओं को राज्य महिला आयोग का उपाध्यक्ष बनाया है। आयोग के उपाध्यक्ष पद पर हाल ही में भाजपा में शामिल हुईं तीन तलाक के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाली सायरा बानो भी शामिल हैं। इनके अलावा रानीखेत से ज्योति शाह और चमोली से पुष्पा पासवान को महिला आयोग का उपाध्यक्ष बनाया गया है। तीनों उपाध्यक्षों को राज्यमंत्री का दर्जा दिया गया है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने नवरात्र के शुभ अवसर पर राज्य की महिलाओं को राज्य महिला आयोग में अलग-अलग दायित्व सौंपे हैं। तीन तलाक के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर आवाज उठाने वाली काशीपुर की महिला सायरा बानो को महिला आयोग में उपाध्यक्ष (प्रथम) बनाया गया है।


सायरा बानो पिछले दिनों ही भाजपा में शामिल हुई थीं। उन्हें सरकार में दायित्व दिए जाने की पहले से ही चर्चा थी। आयोग की दूसरी उपाध्यक्ष बनाई गई ज्योति शाह रानीखेत की रहने वाली हैं और सक्रिय राजनीति से जुड़ी हैं।
... और पढ़ें

बदरीनाथ धाम में बढ़ेंगी यात्री सुविधाएं, पर्यटन सचिव ने किया मंदिर की व्यवस्थाओं का निरीक्षण

सायरा बानो/पुष्पा पासवान/ज्योति शाह
बदरीनाथ धाम महानिर्माण योजना को लेकर स्थानीय लोगों की आपत्तियों व शंकाओं को दूर करने के लिए पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने मंगलवार को तीर्थ पुरोहितों व व्यापारियों के साथ बैठक की। सचिव ने कहा कि मास्टर प्लान से बदरीनाथ धाम में यात्री सुविधाएं बढ़ेंगी और स्थानीय लोगों को भी इसका लाभ मिलेगा। 

पर्यटन सचिव ने कहा कि बदरीनाथ महानिर्माण योजना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में लागू हो रही दूरदर्शी योजना है। महानिर्माण योजना पर 424 करोड़ का बजट प्रस्तावित है, जिससे स्थानीय लोगों को लाभ पहुंचेगा और बदरीनाथ धाम में यात्री सुविधाओं में बढ़ोतरी होगी।


यह भी पढ़ें: 
बदरीनाथ धाम के विकास के लिए 424 करोड़ का मास्टर प्लान तैयार, तीन चरणों में होगा काम

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने बदरीनाथ धाम को अधिक आध्यात्मिक नगरी के रूप में सुविधा संपन्न बनाने के लिए मास्टर प्लान को लागू किए जाने की प्रतिबद्धता जताई है।
... और पढ़ें

Diwali 2020: उल्लुओं के शिकार को लेकर राजाजी टाइगर रिजर्व प्रशासन अलर्ट

वैसे तो दीपावली पर्व में अभी वक्त है लेकिन दीपावली पर्व पर शिकारी राजाजी टाइगर रिजर्व में दाखिल होकर उल्लुओं को पकड़ ना सकें इसके लिए टाइगर रिजर्व प्रशासन अभी से ही अलर्ट हो गया है। राजाजी टाइगर रिजर्व निदेशक डीके सिंह की ओर से सभी वार्डन, वन क्षेत्राधिकारियों को अभी से ही अलर्ट रहने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। 

बता दें,दीपावली पर बड़ी संख्या में शिकारी उल्लुओं को पकड़ने में जुट जाते हैं। ताकि इन उल्लुओं को दीपावली पर तंत्र साधना करने वाले अंधविश्वासियों को ऊंचे दामों में बेचा जा सके।  उल्लुओं को पकड़ने के लिए शिकारियों के गुट वन आरक्षित वन क्षेत्रों के अलावा राजाजी टाइगर रिजर्व में भी हर साल दाखिल होने की कोशिश करते हैं।

ऐसे में अब जबकि दीपावली नजदीक है तो पार्क अधिकारियों को उल्लुओं के शिकार होने का खतरा है। राजाजी टाइगर रिजर्व के निदेशक डीके सिंह का कहना है कि शिकारी पार्क के अंदर दाखिल होकर उल्लुओं को ना पकड़ सकें, इसके लिए अलर्ट जारी कर दिया गया है।

सभी वार्डन व वन क्षेत्राधिकारियों को हिदायत दी गई है कि वे अपने अपने क्षेत्रों में कर्मचारियों की कई टीमें गठित कर दिन रात गश्त कराएं। इसके लिए ड्रोन कैमरे की भी मदद ली जाएगी। उल्लुओं के शिकार के मामले में जो भी शिकारी पकड़े जाएंगे उनके खिलाफ वन्यजीव संरक्षण अधिनियम की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेजा जाएगा।
... और पढ़ें

रुड़की: युवती संग दुष्कर्म कर बनाई अश्लील वीडियो, ब्लैकमेल कर ठगे पांच लाख, तीन बार कराया गर्भपात

रुड़की में एक युवक ने झबरेड़ा क्षेत्र की एक कंपनी में काम करने वाली युवती को नशीला पदार्थ पिलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोप है कि युवक ने युवती की अश्लील वीडियो बना ली और वायरल करने की धमकी देकर उससे पांच लाख रुपये व जेवर ठग लिए। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस के अनुसार, जिला मुजफ्फरनगर के थाना मंडी क्षेत्र के एक गांव और हाल निवासी माहिग्रान, रुड़की निवासी एक युवती झबरेड़ा क्षेत्र स्थित एक कंपनी में काम करती है। कंपनी में सहारनपुर निवासी एक युवक भी काम करता है।


युवती की मुलाकात युवक से हुई और दोनों में दोस्ती हो गई। आरोप है कि कुछ समय पहले युवक उसे रुड़की छोड़ने का बहाना बनाकर अपनी बाइक पर बैठाकर रुड़की टॉकीज के पास एक लॉज में लेकर पहुंचा।

आरोप है कि युवक ने उसे कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ पिला दिया, जिससे वह बेहोश हो गई। आरोप है कि इसके बाद युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया और अश्लील वीडियो बना ली। युवक अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करता रहा।
... और पढ़ें

राज्यसभा चुनाव 2020: अधिसूचना जारी, 27 तक नामांकन, दो नवंबर तक नाम वापसी

उत्तराखंड से राज्यसभा की एक सीट के लिए मंगलवार को निर्वाचन अधिकारी और विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल की ओर से अधिसूचना जारी कर दी गई है।  निर्वाचन अधिकारी ने अधिसूचना जारी करने के साथ ही चुनाव कार्यक्रम भी घोषित कर दिया है।

नामांकन पत्र विधानसभा के प्रभारी सचिव और निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय से ही 11 बजे से लेकर तीन बजे तक मिलेंगे। नामांकन पत्र जमा करने की आखिरी तारीख 27 अक्तूबर है।


28 अक्तूबर को नामांकन पत्रों की जांच होगी और इसके बाद दो नवंबर तक नाम वापसी हो सकेगी। चुनाव नौ नवंबर को होगा। यह सीट कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य राजबब्बर का कार्यकाल पूरा होने के कारण खाली हुई है।

अधिसूचना जारी होने के बाद भी प्रदेश की दोनों की प्रमुख दलों भाजपा और कांग्रेस ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं। संख्या बल के हिसाब से कांग्रेस के मैदान में उतरने की बहुत कम संभावना है। दूसरी ओर, एक से अधिक दावेदार होने के कारण भाजपा को प्रत्याशी चयन के लिए मशक्कत करनी पड़ रही है।
... और पढ़ें

हरिद्वार में कुंभ आयोजन को लेकर न फैलाएं भ्रांति: महंत हरिगिरि

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री महंत स्वामी हरिगिरि ने कहा कि कोई कुंभ को लेकर भ्रांति न फैलाए। ज्योतिषीय गणना के अनुसार इस बार 2022 के स्थान पर हरिद्वार कुंभ 2021 में हो रहा है। 

उन्होंने कहा कि वास्तविकता तो यह है कि हरिद्वार कुंभ का योग देवताओं के गुरु बृहस्पति के कुंभ राशि में संक्रमण करने पर बनता है। प्राचीन ऋषियों ने पूरे ब्रह्मांड को 360 डिग्री का भाग देकर उसके 12 भाग किए और उन्हें 12 राशियों में बांट दिया।

हमारे नौ ग्रह सूर्य आदि इन्हीं राशि चक्रों से गुजरते हुए विभिन्न योग बनाते हैं। महंत स्वामी हरिगिरि ने कहा कि पौराणिक ग्रंथों के अनुसार 12 कुंभ होते हैं, जिनमें चार कुंभ भारत में हरिद्वार, उज्जैन, नासिक और प्रयागराज में लगते हैं।

शेष आठ कुंभ देवलोक में होते हैं। इन चार स्थानों पर बृहस्पति के विभिन्न राशियों में संक्रमण और उसमें उपस्थिति अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि माना जाता है कि बृहस्पति एक राशि में एक वर्ष रहता है और 12 वर्ष में घूमकर पुन: उसी राशि में पहुंचता है, लेकिन वास्तविकता यह है कि बृहस्पति 4332.5 दिनों या 11 वर्ष 11 महीने और 27 दिनों में 12 राशियों की परिक्रमा पूरी करता है।

इस तरह 12 वर्षों में साढ़े 50 दिन कम हो जाते हैं और यह कभी-कभी बढ़ते-बढ़ते सातवें और आठवें कुंभ के बीच एक वर्ष के लगभग हो जाती है, इसलिए हर आठवां कुंभ 11 वर्ष बाद होता है।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X