दिल्ली सरकार शपथग्रहण: रामलीला मैदान से केजरीवाल की हुंकार, हम होंगे कामयाब...

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sun, 16 Feb 2020 02:23 PM IST
विज्ञापन
Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal
Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal - फोटो : ANI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

सार

दिल्ली के रामलीला मैदान में रविवार को अरविंद केजरीवाल ने सत्ता की हैट्रिक लगाते हुए तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है। उनके साथ पिछली कैबिनेट में सहयोगी रहे छह मंत्रियों ने भी शपथ ली है। शपथग्रहण के बाद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों को संबोधित किया। संबोधन के दौरान केजरीवाल आत्मविश्वास से लवरेज दिखें। इसका प्रमाण उनके भाषण में साफ दिखा।

विस्तार

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की लगातार दूसरी बार जीत के बाद दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने रविवार को आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल को मुख्यमंत्री और उनके मंत्रिमंडल के छह सदस्यों को मंत्री पद की शपथ दिलायी।
विज्ञापन

दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में आयोजित शपथ ग्रहण समारोह में दोपहर 12 बजकर 15 मिनट पर केजरीवाल ने लगातार तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की। बैजल ने केजरीवाल के बाद पिछली सरकार में उपमुख्यमंत्री रहे मनीष सिसोदिया और अन्य मंत्रियों सत्येन्द्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, इमरान हुसैन एवं राजेन्द्र पाल गौतम को भी एक एक कर शपथ ग्रहण करवायी।शपथ ग्रहण समारोह के औपचारिक समापन के बाद केजरीवाल ने रामलीला मैदान में जुटी भीड़ को संबोधित करते हुये आप की ऐतिहासिक जीत का श्रेय दिल्ली की जनता को दिया।
उन्होंने खुद को ‘दिल्ली का बेटा’ बताते हुये कहा, ‘आपके बेटे ने तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है, यह जीत मेरी नहीं बल्कि प्रत्येक दिल्लीवासी की है।’ उन्होंने कहा, ‘पिछले पांच सालों में हमारी यही कोशिश रही कि दिल्ली का कैसे बेहतर विकास हो। अगले पांच साल भी यही कोशिश रहेगी।’


अपने भाषण के अंत में हम होंगे कामयाब... गीत गाया। इस गीत का हिंदी में भावानुवाद गिरिजा कुमार माथुर ने किया है और यह अंग्रेजी भाषा की कविता 'We Shall overcome' का अनुवाद है।  'We Shall overcome' के शब्द और संगीत को चार कलाकारों ने सजोया है। इनमें जीलफिया हार्ट, फ्रैंक हैमिल्टन, गे कारवां और पीट सीगर के नाम शामिल हैं।

मुफ्त योजना को लेकर विरोधियों पर पलटवार


केजरीवाल ने अपने भाषण के दौरान विरोधियों द्वारा प्रचंड जीत को लेकर किए जा रहे कटाक्ष पर भी पलटवार किया। केजरीवाल सरकार द्वारा दिल्लीवासियों को दी जा रही मुफ्त बिजली-पानी और महिलाओं के लिए फ्री बस सुविधा को लेकर विरोधी तंज कस रहे हैं। विरोधियों का कहना है कि केजरीवाल की वापसी इन्हीं मुफ्त की योजनाओं के दाम पर हुई है। इस पर पलटवार करते हुए केजरीवाल ने कहा कि दुनिया में जितनी भी अनमोल चीजें हैं उसे भगवान ने सबको मुफ्त में दिया है।

उन्होंने कहा कि एक मां जब अपने बच्चे को प्यार करती है तो वो प्यार फ्री होता है। पिता जब बच्चे को आगे बढ़ाने के लिए एक वक्ती की रोटी नहीं खाता तो उस पिता की तपस्या फ्री होती है। उन्होंने श्रवण कुमार का उदाहरण देते हुए कहा कि श्रवण कुमार जब अपने मां-बाप को तीर्थ यात्रा पर लेकर गया था और श्रवण कुमार की मौत हो गई। श्रवण कुमार की सेवा भी फ्री सेवा थी। केजरीवाल अपने दिल्ली वालों को प्यार करता है। दिल्ली वाले अपने केजरीवाल को प्यार करते हैं। ये प्यार भी फ्री प्यार है दोस्तो, इसकी कोई कीमत नहीं है।

दिल्ली को सरकार नहीं दिल्ली की जनता चलाती है

केजरीवाल का यह जवाब विरोधियों पर करारा हमला है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि दिल्ली को दिल्ली की जनता, ऑटोवाले, बस कंडक्टर, ड्राइवर, व्यापारी, सफाई कर्मचारी चलाते हैं। केजरीवाल ने कहा कि आज देशभर के कई राज्य दिल्ली मॉडल को अपना रहे हैं। जब नेता कहते हैं कि स्वास्थ्य, शिक्षा ठीक नहीं हो सकता तो लोग कहते हैं कि दिल्ली को देखो। 
 

सबको साथ लेकर चलने का वादा

केजरीवाल ने कहा कि चुनाव खत्म हो गया, आपने जिसको भी वोट दिया उससे फर्क नहीं पड़ता, अब पूरी दिल्ली के लोग मेरे परिवार का हिस्सा हैं। सबके लिए काम करूंगा। मैंने पांच साल बिना किसी जाति-धर्म के सभी लोगों के लिए काम किया है। किसी भी काम के लिए मेरे पास आ जाना। मैंने हर दल के लिए काम किया है।

प्रधानमंत्री का चाहता हूं आशीर्वाद

केजरीवाल ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आशीर्वाद चाहता हूं। केजरीवाल ने केंद्र सरकार के साथ मिलकर काम करने की पहल करते हुए कहा कि मैं केंद्र के साथ मिलकर दिल्ली को आगे ले जाना चाहता हूं। शपथ ग्रहण समारोह का मैंने प्रधानमंत्री को भी न्योता भेजा था, मगर वह किसी अन्य कार्यक्रम में व्यस्त होने के कारण नहीं आ सके। मैं दिल्ली को आगे बढ़ाने और इसे दुनिया का सबसे अच्छा शहर बनाने के लिए प्रधानमंत्री का भी आशीर्वाद चाहता हूं।

केजरीवाल ने चुनाव के दौरान विभिन्न दलों के नेताओं की कड़वी बातें भुलाने की अपील करते हुए कहा कि मैं सभी के साथ मिल कर काम करना चाहता हूं। अब चुनाव खत्म हो गए हैं। चुनाव में राजनीति होती है और हुई भी। हमारे लिए चुनाव में जिसने जो कुछ भी कहा, उसके लिए हमने उन्हें माफ कर दिया है।


विकास को तरजीह देकर देश की राजनीति को बदलने का काम किया

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली वालों ने विकास को तरजीह देकर देश की राजनीति को बदलने का काम किया है। केजरीवाल ने कहा, ‘मैं दिल्ली को आगे बढ़ाने और इसे दुनिया का सबसे अच्छा शहर बनाने के लिए प्रधानमंत्री का भी आशीर्वाद चाहता हूं।’ केजरीवाल ने खुद को दलगत राजनीति से अलग बताते हुए कहा कि मैं आप का भी मुख्यमंत्री हूं और भाजपा कांग्रेस सहित अन्य दलों के समर्थकों का भी मुख्यमंत्री हूं।


चुनाव में राजनीति होती है और हुई भी

केजरीवाल ने चुनाव के दौरान विभिन्न दलों के नेताओं की कड़वी बातें भुलाने की अपील करते हुए कहा कि मैं सभी के साथ मिल कर काम करना चाहता हूं। अब चुनाव खत्म हो गए हैं। चुनाव में राजनीति होती है और हुई भी। हमारे लिए चुनाव में जिसने जो कुछ भी कहा, उसके लिए हमने उन्हें माफ कर दिया है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us